ओशो चिंतन : 'स्व' ही सत्य है

Osho पूजागृहों को उजाड़ने से क्या होगा, जब तक कि यह सर्जक मन जीवित है, जो कि प्रतिक्षण नये पूजागृह बना लेता है?

दैनिक जागरण 2 Jun 2019 7:48 am