धन-धान्य और सुख-समृद्धि के लिए राशि अनुसार करें विश्वकर्मा की पूजा, होगा लाभ

भगवान विश्वकर्मा को सृजन के देवता कहा जाता है। क्योंकि इन्होंने कई पौराणिक नगरियों का निर्माण किया है। जिनमें इन्दपुरी, द्वारिका, हस्तिनापुर, स्वर्गलोग और लंका शामिल है। विश्वकर्मा ने इस सभी नगरों का निर्माण भगवान ब्रह्माजी के आदेशानुसार किया है। विश्वकर्मा की पूजा बहुत ही विधि-विधान से खासकर व्यापारियों द्वारा की जाती है। इसका महत्व व्यापारियों में बहुत अधिक महत्व होता है। विश्वकर्मा जयंती हर साल कन्या संक्रांति के दिन मनाई जाती है। कहा जाता है की इसी दिन भगवान विश्वकर्मा का जन्म हुआ था। वहीं शास्त्रों में माना जाता है कि इस जयंती पर भगवान विश्वकर्मा की पूजा ( Vishwakarma puja 2019 ) करने से कारोबरियों को बहुत लाभ मिलता है और उनके कारोबार में वृद्धि होती है। इसके साथ ही राशि अनुसार विश्वकर्मा पूजा करने से धन-धान्य और सुख-समृद्धि में वृद्धि होती है। राशि अनुसार ऐसे करें विश्वकर्मा पूजा मेष राशि: इस राशि वाले जातक केसरिया रंग के वस्त्र पहनकर करें पूजा। आपके लिए बहुत ही लाभकारी साबित होगा।   वृषभ राशि: विश्वकर्मा पूजा के दिन इस राशि वाले जातक विश्वकर्मा के जप पाठ के बाद श्री कुबेर जी की 11 माला का जप करें।   मिथुन राशि: इस राशि वाले जातक विश्वकर्मा जयंती के दिन भगवान गणपति के शतनाम पाठ के बाद विश्वकर्मा पूजन कराएं।   कर्क राशि: आपकी राशि के लिए आज का दिन बहुत शुभ रहेगा। आप आज भगवान विश्वकर्मा पूजन के बाद गरीबो में सफेद अन्न जरुर वितरण करें। सिंह राशि: विश्कर्मा पूजा के बाद भगवान सूर्य को जल में रोली, लाल फूल व गुड़ मिलाकर जल जरुर चढ़ाए। शुभकारी फल प्राप्त होंगे।   कन्या राशि: विश्वकर्मा पूजा के बाद कोई नया रोजगार शुरु करें। इससे आपकी हर इच्छा पूरी होगी और व्यापार में वृद्धि होगी।   तुला राशि: इस राशि के जातक विश्वकर्मा पूजा का आपको विशेष लाभ मिलेगा।   वृश्चिक राशि: इस राशि के जातक पूजा के समय कलश स्थापना लाल रंग की रंगोली बनाएं और साबुत लाल मसूर गाय को खिलाएं। इससे आपको बहुत अधिक लाभ होगा। व्यापार में वृद्धि होगी।   धनु राशि: इस राशि के जातक भगवान विश्वकर्मा की पूजा का विशेष फल प्राप्त करने के लिए विश्वकर्मा जयंती के दिन श्री गणेश, महादेव व गौरी को वस्त्र अर्पित करें।   मकर राशि: मकर राशि वाले जातक इस समय शुभ फल प्राप्त करने के लिए गायत्री मंत्र के साथ कारखाने व सभी उपकरण की पूजा करें। आपको अत्यधिक लाभ होगा। कुंभ राशि: पारिजात के फूल को भगवान विश्वकर्मा को अवश्य अर्पित करें। इस प्रयोग से सभी नकारात्मक शक्तियां समाप्त हो जाएंगी।   मीन राशि: विश्वकर्मा पूजा साधना-आराधना कर भगवान विश्वकर्मा के साथ-साथ भगवान विष्णु की पूजा भी करें, इससे कार्य में आ रही सभी बाधाएं दूर होंगी व शुभ परिणाम भी मिलेंगे।

पत्रिका 16 Sep 2019 11:53 pm