विचार मंथन : झाडू लगाने से मुझे कोई कष्ट नहीं वरन मेरी मानसिक प्रसन्नता कहीं अधिक बढ़ जाती है- लाल बहादुर शास्त्री

सफाई तो स्वाभाविक धर्म - साफ-सफाई के बारे अपने एक अभिन्न सहयोगी मित्र को लाल बहादुर शास्त्री जी ने यह प्रसंग स्वयं सुनाते हुए कहते हैं कि-

पत्रिका 2 Oct 2019 4:44 pm