विवाद से परे हैईश्वर का अस्तित्व

सफलताओं के साथ-साथ एक उन्मादी अहंकार आता है, जिसमें स्वेच्छाचार की प्रवृत्ति पनपती है और मर्यादाओं की नीति-नियमों की चिंता न करते हुए स्वार्थ-साधना एवं अहमन्यता की पूर्ति के लिए कुछ भी कर गुजरने को उच्छृंखलता अपनाता है, तो उसे आस्तिकता की भावना ही डराती है। वह कहती है- यहां स्वेच्छाचार की किसी को भी […] Divya Himachal: No. 1 in Himachal news - News - Hindi news - Himachal news - latest Himachal news .

दिव्या हिमाचल 19 Oct 2019 12:14 am