कोरोना माता नमो : नम !

हास्य-व्यंग्य एक अष्टमी की रात कोरोना माता ने स्वप्न में एक भक्त को दर्शन दिए और कहा कि अरे वत्स ! जाग. यह वक्त सोने का नही है. अगर तू सोता ही रहा तो “आत्म निर्भर” कैसे बनेगा ? अत: प्रात:काल होते ही सबसे पहले कम से कम पांच भक्तों को वाट्सअप करके मेरा फरमान ... Read more

Continue Reading