SENSEX
NIFTY
GOLD
USD/INR

Weather

31    C

राय और ब्लॉग्स / दिव्या हिमाचल

घर-घर के ‘सौभाग्य’ की खातिर

प्रधानमंत्री मोदी ने देश के बेहद गरीब, उपेक्षित, वंचित, अंधेरों में पाषाणकालीन जिंदगी जीने वाले हिंदोस्तान का ‘सौभाग्य’ लिखने का संकल्प घोषित किया है। आज भी चार करोड़ से ज्यादा घर ऐसे हैं, जिन्होंने बिजली नहीं देखी है। वे आज भी 18वीं सदी में जीने […]

27 Sep 2017 12:05 am
दुष्कर्मियों का बढ़ता दुस्साहस

जग मोहन ठाकन लेखक, वरिष्ठ स्तंभकार हैं अधिकतर लोग पहले ही धारणा बना लेते हैं कि दुष्कर्म का मामला झूठा ही होगा। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर  की यह टिप्पणी कि अधिकतर बलात्कार के केस झूठे ही होते हैं, समाज की प्रतिध्वनि प्रतीत होती […]

27 Sep 2017 12:05 am
हटवास में बंद स्ट्रीट लाइट्स पुनः चालू हों

(मनोज कुमार, हटवास, नगरोटा बगवां ) अपने पत्र के माध्यम से हम नगरोटा बगवां विधानसभा क्षेत्र से विधायक जीएस बाली का ध्यान हटवास गांव की एक समस्या की ओर आकर्षित करना चाहते हैं। आज से करीब दो माह पूर्व आपने 53 मील से लेकर मलां […]

27 Sep 2017 12:05 am
निडर न्याय को सलाम

(मनवीर चंद कटोच, भवारना, पालमपुर ) गुरमीत मामले में न्यायाधीश जगदीप सिंह का ऐतिहासिक फैसला देखकर बेहद प्रसन्नता हुई। इस फैसले से मालूम पड़ता है कि आज भी देश में कई ऐसे निडर व काबिल अधिकारी-कर्मचारी हैं, जो लोकतंत्र की मूल भावना को जीवंत बनाए […]

27 Sep 2017 12:05 am
चुनाव की आंखें

चुनाव आयोग के शिविर में हिमाचल पर दृष्टिपात अब करीब-करीब पूरा हो चुका है। प्रबंधों की बारीकियों और चुनावी तैयारियों का जायजा लेकर आयोग यह सुनिश्चित कर रहा है कि कब घंटी बजा दी जाए। दूसरी ओर नागरिक जागरूकता का नया इतिहास बनाने को आतुर […]

27 Sep 2017 12:05 am
पर्यटन के सहारे आगे बढ़े हिमाचल

बचन सिंह घटवाल लेखक, मस्सल, कांगड़ा से हैं संयुक्त राष्ट्र महासभा हर साल विश्व पर्यटन दिवस की विषय-वस्तु तय करती है। विश्व पर्यटन दिवस को मनाने का मुख्य उद्देश्य पर्यटन और उसके सामाजिक, सांस्कृतिक, राजनीतिक व आर्थिक मूल्यों के प्रति विश्व समुदाय को जागरूक करना […]

27 Sep 2017 12:02 am
शीर्ष पर टीम इंडिया

(स्वास्तिक ठाकुर, पांगी, चंबा ) टीम इंडिया ने जिस तरह आस्ट्रेलिया को पांच मैचों की सीरीज में तीसरा मैच जीतकर 3-0 से सीरीज पर कब्जा जमाया, वह इस बात का संकेत है कि भारतीय क्रिकेट की युवा ब्रिगेड ने अपनी विजयी लय बरकरार रखी है। […]

27 Sep 2017 12:02 am
विरोधाभासों में घिरा रीयल इस्टेट एक्ट

डा. भरत झुनझुनवाला लेखक, आर्थिक विश्लेषक एवं टिप्पणीकार हैं बहरहाल इतना कहा जा सकता है कि रेरा के कारण प्रॉपर्टी बाजार का विस्तार होना जरूरी नहीं है। यह भी संभव है कि बड़े बिल्डरों द्वारा मुनाफाखोरी करने से प्रॉपर्टी बाजार का संकुचन हो जाए। सरकार […]

26 Sep 2017 12:08 am
पर्यटन संभावनाओं से दूर खडे़ प्रयास

डा. प्रदीप कुमार लेखक, केएलबी डीएवी गर्ल्ज कालेज, पालमपुर में प्रिंसीपल हैं तमाम उपाय किए जाने के पश्चात भी हिमाचल प्रदेश में पर्यटकों की संख्या में इतनी अधिक वृद्धि नहीं हुई, जितनी होनी चाहिए। इसका कारण यह है कि पर्यटन उद्योग में यात्रा सेवा तथा […]

26 Sep 2017 12:07 am
26 Sep 2017 12:05 am
एम्स आने तक

जाहिर तौर पर एम्स जैसे संस्थान का शिलान्यास भी इलाज कर सकता है, इसलिए चुनाव की बिसात पर बिछे मुद्दे अब दीवारों पर लिखे जा रहे हैं। देश के प्रधानमंत्री की चुनावी सौगात बिलासपुर में कितना सियासी अमृत पिलाती है, इससे पहले यह गौर करना […]

26 Sep 2017 12:05 am
‘कांग्रेसमुक्त’ भारत संभव है !

नरेंद्र मोदी के देश की सत्ता में आने और भाजपा की कुछ अविश्वसनीय सी चुनावी जीतों के बाद एक राजनीतिक मुहावरा चलन में आया था-कांग्रेसमुक्त भारत। प्रधानमंत्री मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह समेत अधिकतर भगवा नेताओं ने इसे प्रचार का मुद्दा बनाया और राष्ट्रीय […]

26 Sep 2017 12:05 am
गांव-शहर से गायब होती रामलीला मंडलियां

(श्रेया शर्मा, कांगड़ा) भारत देश में हर धार्मिक त्योहार बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है। पुराने लोगों में स्नेह और भाईचारा इस कद्र था कि वे हर सुख-दुख में एक-दूसरे के साथ खड़े रहते थे। आज के दौर में वे गुण कम ही देखने को […]

26 Sep 2017 12:05 am
नारी सम्मान के नवरात्र

(स्वाति (ई-मेल के मार्फत)) संसार के उद्गम का स्रोत आदि शक्ति है। माना जाता है कि इस विस्तृत, अपरिमित और अचंभित करने वाले संसार का निर्माण इसी आदि शक्ति से हुआ है। वैसे भी प्रकृति में सृजन क्षमता स्त्री को ही प्राप्त है। यह प्रकृति […]

26 Sep 2017 12:05 am
महिला आरक्षण बिल पर मोदी से उम्मीदें

कुलदीप नैयर लेखक, वरिष्ठ पत्रकार हैं मोदी ने पहली बार किसी महिला को देश का रक्षा मंत्री बनाया है। यह अब तक का सबसे बड़ा बदलाव है। यहां तक कि काफी शक्तिशाली इंदिरा गांधी ने भी अपने पास केवल विदेश मंत्रालय रखा था। अब रक्षा […]

25 Sep 2017 12:05 am
शब्द वृत्ति

गया हाथ से शोपियां ( डा. सत्येंद्र शर्मा, चिंबलहार, पालमपुर ) बूढ़े की लाठी गई, दुल्हन का सिंदूर, किलकारी भी हो गई, घर से कोसों दूर। अम्मा पत्थर बन गई, गुम-सुम बुआ आज, बहना माथा पीटती, भूत-प्रेत का राज। गुड्डे-गुड्डियां सिसकते, मुनिया हो गई मौन, […]

25 Sep 2017 12:02 am
गऊ पालन को लाभकारी बनाइए

कुलभूषण उपमन्यु लेखक, हिमालय नीति अभियान के अध्यक्ष हैं किसी भी व्यवसाय को समाज आर्थिक लाभ के लिए ही करता है, इसलिए गोपालन को लाभकारी व्यवसाय बनाना होगा। खेती की पद्धति को धीरे-धीरे पशु आधारित बनाना होगा। रासायनिक खेती से दूर हटते हुए जैविक खेती, […]

25 Sep 2017 12:02 am
टेररिस्तान पर ‘सुषमा स्ट्राइक’

आतंकवाद के मुद्दे पर पाकिस्तान कब तक अंतरराष्ट्रीय तमाचे खाता रहेगा? कब तक बेनकाब होकर भी झूठ बोलता रहेगा? बीते साल भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने पाकिस्तान का नाम लिए बिना ही आतंकी देशों को चिह्नित करने का आग्रह किया था, लेकिन इस […]

25 Sep 2017 12:02 am
फिर पाक की फजीहत

(स्वास्तिक ठाकुर, पांगी, चंबा ) इस बात से कौन परिचित नहीं है कि पाकिस्तान ही आतंकवाद की जननी है। पूरी दुनिया पाकिस्तान के इस रूप व चरित्र को समझती है। पाकिस्तान ने इस बार संयुक्त राष्ट्र की आम सभा के मंच से अपनी किरकिरी करवाई […]

25 Sep 2017 12:02 am
उपेक्षित आउटसोर्स कर्मी

(गुरमीत राणा, खुंडियां, कांगड़ा ) वीरभद्र सरकार ने अपने कार्यकाल के दौरान समाज के हर वर्ग को खुश करने की पुरजोर कोशिश की। इस बीच समाज का एक कर्मचारी वर्ग थोड़ा निराश रह गया और वह है आउटसोर्स कर्मचारी। इन कर्मचारियों को कई विभागों में […]

25 Sep 2017 12:02 am
किताबों से रू-ब-रू युग

ऐसी शिकायत में युवा चरित्र की अभिलाषा और मकसद को समझ लें, तो धर्मशाला का जिला पुस्तकालय भी एक संस्थान के मानिंद भविष्य की बुनियाद का पैरोकार नजर आएगा। उपर्युक्त पुस्तकालय को अपना अध्ययन केंद्र मानने वालों के लिए सुविधाओं का अकाल अखरता है, तो […]

25 Sep 2017 12:02 am
अर्जन सिंह को नमन !

(किशन सिंह गतवाल, सतौन, सिरमौर ) 15 अप्रैल, 1919 में फैसलाबाद में जन्मे 98 वर्षीय कर्नल एयर मार्शल अर्जन सिंह ने दिल्ली के एक अस्पताल में अंतिम सांस ली। उनके निधन से भारत मां ने अपने परमवीर व अत्यंत ख्याति प्राप्त सपूत को खो दिया। […]

25 Sep 2017 12:02 am
महाराजा हरि सिंह की घर वापसी

डा. कुलदीप चंद अग्निहोत्री लेखक, वरिष्ठ स्तंभकार हैं अंतिम दिनों में महाराजा हरि सिंह के लिए मुंबई ही रंगून बन गया था। वक्त के सत्ताधीशों ने उन्हें, उनके कू-ए-यार से निष्कासित कर दिया था। बहादुर शाह जफर शायरी से अपने आप को अभिव्यक्त करते थे, […]

23 Sep 2017 12:05 am
सुरक्षा से समझौता न हो

(अमित पडियार (ई-मेल के मार्फत) ) रोहिंग्या शरणार्थियों से सुरक्षा को खतरा होने की बात केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में कही है। इनकी पार्श्वभूमि क्या है, इस विषय में सरकार को मिली जानकारी चौंकाने वाली है। इसके बावजूद रोहिंग्या मुसलमानों को देश में अब […]

23 Sep 2017 12:02 am
पेट्रोल कीमतों ने बिगाड़ी बजट की चाल

विजय शर्मा लेखक, हमीरपुर से हैं तेल की घटी कीमतों का लाभ उपभोक्ताओं को न देकर सरकार उनसे छल कर रही है। अब तो सरकार के मंत्री खम ठोंककर कह रहे हैं कि गरीबों के लिए कल्याणकारी योजनाओं हेतु उनका ऐसा करना अनिवार्य है, लेकिन […]

23 Sep 2017 12:02 am
लेकिन घूंघट खामोश रहा

अमित शाह की कांगड़ा रैली में जोश था-रोष था, टिकटों की बेचैनी, लेकिन घूंघट खामोश था।  यानी अगर इसे भाजपा की हुंकार की तरह देखें तो पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने चुनाव का सबसे बड़ा मुद्दा हिमाचल के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के खिलाफ खड़ा किया। […]

23 Sep 2017 12:02 am
ममता के फरमान का ‘विसर्जन’

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी देश की सबसे घोर सांप्रदायिक नेता हैं। हिंदू होते हुए भी वह हिंदुओं के लिए ‘सौतेली मां’ हैं। कोलकाता उच्च न्यायालय के एक फैसले ने हमारी इस धारणा की पुष्टि की है। अदालत ने मुख्यमंत्री के उस फरमान को […]

23 Sep 2017 12:02 am
सार्थक संवाद

(एनके सोमानी, सूरतगढ़ (ई-पेपर के मार्फत) ) दक्षिण चीन सागर में चीन के साथ सीमा विवाद व कोरिया प्रायद्वीप में तनाव की पृष्ठभूमि के बीच जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे भारत की यात्रा पर आए थे। इस दौरान उन्होंने यहां अहमदाबाद और मुंबई के बीच […]

23 Sep 2017 12:02 am
मुसीबतें झेलता डिजिटलाइजेशन

प्रो. एनके सिंह लेखक, एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया के पूर्व चेयरमैन हैं इस बात से भी इनकार नहीं किया जा सकता कि डिजिटलाइजेशन का आरंभिक प्रस्तुतीकरण बड़े पैमाने पर नागरिकों के लिए असुविधा पैदा कर रहा है। सबसे पहले ब्रॉडबैंड इंटरनेट की उपलब्धता अभी तक […]

22 Sep 2017 12:05 am
‘पप्पू जी’ बोलत अमरीका में

राहुल गांधी भारतीय हैं। भारतीय संसद के लोकसभा सदन में सांसद हैं। उनका संसदीय क्षेत्र अमेठी भी भारत के उत्तर प्रदेश में है। राहुल भारत की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष हैं। यदि वह प्रधानमंत्री बनने के सपने देख रहे हैं, तो वह […]

22 Sep 2017 12:02 am
शारीरिक श्रम से कतराती युवा पीढ़ी

सुरेंद्र मिन्हास लेखक, बिलासपुर से हैं बच्चों में जहां रोग प्रतिरोधक क्षमता कम है, वहीं इनमें शारीरिक कार्य न करने से शरीर में जान भी नहीं है। आवश्यकता इस बात की है कि लोग अपने बच्चों को कृषि, बागबानी और पशुपालन कार्यों में अपने साथ […]

22 Sep 2017 12:02 am
पावन-पवित्र नवरात्र

(रमेश सर्राफ, झुंझुनू ) भारतीय जनजीवन में धर्म की महत्ता अपरंपार है। यह भारत की गंगा-जमुनी तहजीब का ही नतीजा है कि सब धर्मों को मानने वाले लोग अपने-अपने धर्म को मानते हुए इस देश में भाईचारे की भावना के साथ सदियों से एक साथ […]

22 Sep 2017 12:02 am
ट्रंप की दो टूक

(डा. राजन मल्होत्रा, पालमपुर) अमरीका के राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप ने संयुक्त राष्ट्र महासभा को पहली बार संबोधित किया, तो उसमें उन्होंने कई पहलुओं पर अपनी रणनीति जाहिर की। इस दौरान उन्होंने साफ शब्दों में कहा कि उत्तर कोरिया अगर मानता नहीं, तो उसे पूरी तरह […]

22 Sep 2017 12:02 am
भाजपा की जगह और वजह

हक और हुजूम के बीच भाजपा की कांगड़ा रैली में परख उन मुद्दों की, जो हिमाचल को अलग सांचे की सियासत में देखते हैं। चुनावी हुंकारे का सबसे बड़ा प्रदर्शन करके भाजपा अपने संगठन की ताकत का इजहार कर रही है, तो समझना यह होगा […]

22 Sep 2017 12:02 am
बिहार में राजनीतिक कशमकश

पीके खुराना लेखक, वरिष्ठ जनसंपर्क सलाहकार और विचारक हैं भाजपा की रणनीति यह है कि उसे बिहार में भी किसी अन्य सहयोगी दल पर निर्भर न रहना पड़े। केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा भी कोरी हैं और वह शुरू से ही भाजपा के साथ हैं, लेकिन […]

21 Sep 2017 12:08 am
कतार से बेरोजगार का मुकाबला

ये सवा लाख नए मतदाता हिमाचल के भाग्य विधाता भी हैं, क्योंकि युवा अभिलाषा का समुद्र अपने आप में एक विचार की तरह शांत होते हुए भी ज्वार-भाटे का शक्ति स्रोत है। इसलिए भाजपा जैसे-जैसे युवा हुंकारे बढ़ा रही है, कांग्रेसी लक्ष्यों की पड़ताल बढ़ […]

21 Sep 2017 12:05 am
हमदर्दी की सियासत

रोहिंग्या मुसलमान शरणार्थियों के मुद्दे पर भारत में ही भारत-विरोधी गठबंधन उभर आया है। यह गठबंधन राजनीतिक है, जिसमें कांग्रेस, तृणमूल,बसपा और ओवैसी की पार्टी एमआईएम आदि शामिल हैं। बेशक ये देशद्रोही नहीं हैं और न ही राष्ट्रद्रोह का कोई मुकदमा दर्ज है, लेकिन इनकी […]

21 Sep 2017 12:05 am
रोजगार एवं समाज सेवा का साधन एनजीओ

( अनुज कुमार आचार्य  लेखक, बैजनाथ  से हैं ) एनजीओज में काम करने के लिए पहली शर्त तो यही है कि युवा में सेवाभाव होना चाहिए। अगर आप में स्वार्थ रहित सेवाभाव का जज्बा है, तो किसी एनजीओ से जुड़ें। आपको रोजगार के साथ-साथ जीवन […]

21 Sep 2017 12:05 am
डेरे में मौत की मीनारें

( कोमल शर्मा, हमीरपुर ) बाबा राम रहीम की गिरफ्तारी के बाद से ही हिसार का डेरा सच्चा सौदा सुर्खियों में है और अब नया खुलासा हुआ है कि डेरा में 600 लोगों के अस्थि कंकाल मिले हैं। यह तो पाप की पराकाष्ठा हो गई। […]

21 Sep 2017 12:05 am
मृत होती जीवन रेखाएं

( डा. राजन मल्होत्रा, पालमपुर ) मुझे किसी कार्यवश विगत दिनों चंडीगढ़ जाना पड़ा। अपने वाहन में जाने के कारण कांगड़ा-चंडीगढ़ मार्ग पर सड़क की दुर्दशा जो कांगड़ा से देहरा व तत्पश्चात ऊना तक 100 किमी लंबी इस सड़क की देखने को मिली, वह शायद […]

21 Sep 2017 12:05 am
जीएम फसलों का खतरनाक जाल

कुलभूषण उपमन्यु लेखक, हिमालयन नीति अभियान के अध्यक्ष हैं हाइब्रिड तकनीक से अच्छी उपज देने वाले बीज बनाए जा सकते हैं। धान में श्री विधि जैसी तकनीक सरसों में अपना कर बिहार में सरकारी प्रयोग में सरसों की तीन टन प्रति हैक्टेयर पैदावार प्राप्त की […]

20 Sep 2017 12:05 am
शब्दवृत्ति

मौत बांटते स्कूल (डा. सत्येंद्र शर्मा, चिंबलहार, पालमपुर ) गुरु के ही इस ग्राम में, हुआ शिष्य का खून, कहां खप गए कायदे, कहां लुटा कानून। धंसी सुरक्षा भाड़ में, नियम रहे नित निचोड, उग्र प्रदर्शन था हुआ, बेकाबू आक्रोश। रेयान महाराजा बने फल रहा […]

20 Sep 2017 12:02 am
चुनावी एतबार की फिजूलखर्ची

चुनाव के अंधेरे में मंत्रिमंडलीय बैठक की रोशनी उस दीये की तरह है, जो हर सूरत सूरज होने तक जलता है। अंतिम पहर में प्रतीक्षारत चुनावी बिगुल सरीखे फैसलों की धरती का चयन विस्तृत हो सकता है, लिहाजा वीरभद्र सरकार ने अपनी अनुमति-सहमति के अंतिम […]

20 Sep 2017 12:02 am
भारत छोड़ो-पार्ट टू

म्यांमार के रोहिंग्या मुसलमानों का मुद्दा संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद तक पहुंच गया है। सुरक्षा परिषद के सदस्यों की सहानुभूति रोहिंग्या के प्रति लगती है, लिहाजा जारी हिंसा और खून-खराबे को ‘जातीय सफाया’ करार दिया गया है। सुरक्षा परिषद ने एक सुर में ही म्यांमार […]

20 Sep 2017 12:02 am
स्वरोजगार की राह पर चलें हिमाचली युवा

जसवंत सिंह चंदेल लेखक, बिलासपुर से हैं जो युवक दिन-रात मेहनत करते हैं, कामयाब हो जाते हैं, जो नहीं करते, वे मां-बाप पर बोझ बन जाते हैं। मेरा मानना है कि पढ़ा-लिखा युवक अपने आपको असहाय और सरकार पर आश्रित न पाएं। बेकारी और गरीबी […]

20 Sep 2017 12:02 am
विधायकों के अच्छे दिन

(सुरेश कुमार ,योल) हिमाचल की जनता के अच्छे दिन आएं या न आंए, पर हिमाचल के विधायकों के अच्छे दिन जरूर आ गए हैं। उम्मीद यह थी कि मंत्रिमंडल की बैठक में जनता के लिए फैसले होंगे, पर यहां तो विधायकों को लीज पर जमीन […]

20 Sep 2017 12:02 am
ब्लू व्हेल- मौत का कुआं

(प्रियंका शर्मा, हमीरपुर) ब्लू व्हेल की चपेट में आ रहे कितने ही मासूम, उनकी जिंदगी कर दी गई खुशी से महरूम। इसके चक्रव्यूह में जो भी  फंसा, इसके मालिक को न जाने ऐसा करके क्या  मिलता है, उसे तो बस अपना ही स्वार्थ दिखता है। […]

20 Sep 2017 12:02 am
मैदान में खुलती पोल

(शुभम कालरा, नाहन ) अभी कुछ दिनों से प्रदेश में पुलिस कांस्टेबल भर्ती का काफी जोर है। युवा पुलिस में भर्ती होने के लिए दिन-रात मेहनत कर रहे हैं। मैदान में कितने ही युवा ग्राउंड टेस्ट से बाहर हो रहे हैं। युवाओं में स्टेमिना ही […]

20 Sep 2017 12:02 am
बायो फ्यूल की सीमाएं

डा. भरत झुनझुनवाला लेखक, आर्थिक विश्लेषक एवं टिप्पणीकार हैं सारांश यह है कि बीज आधारित बायो फ्यूल, गन्ने से बना इथेनाल, हाइड्रो पावर तथा यूरेनियम-आधारित परमाणु ऊर्जा हमारे लिए उपयुक्त नहीं है। कोयला अल्प समय में उपयोगी हो सकता है। देश की ऊर्जा सुरक्षा के […]

19 Sep 2017 12:05 am
सोशल मीडिया के मकड़जाल में विद्यार्थी

आदित कंसल लेखक, नालागढ़ से हैं विकास और आधुनिकता के नाम पर सोशल मीडिया का जो घेरा बन गया है वह एक चक्रव्यूह जैसा है। आज का विद्यार्थी वर्ग इसमें अभिमन्यु की तरह प्रवेश तो कर गया, परंतु बाहर निकलने का रास्ता उसके पास नहीं […]

19 Sep 2017 12:02 am