दुनिया का वो गांव, जहां रहती है सिर्फ एक महिला

आमतौर पर किसी भी गांव में, चाहे वह कितना भी छोटा हो, कम से कम 100-200 लोग तो रहते ही हैं, लेकिन दुनिया में एक ऐसा भी गांव है, जहां की आबादी सिर्फ एक ही है. जी हां, इस गांव में सिर्फ एक ही महिला रहती है और वो भी काफी बुजुर्ग है. इस महिला की रोचक कहानी जब आप जानेंगे तो हैरान हुए बिना नहीं रह पाएंगे. इस गांव का नाम है मोनोवी, जो अमेरिका के नेब्रास्का राज्य में है. 2010 में हुई जनगणना के अनुसार, यहां सिर्फ एक बुजुर्ग महिला रहती है, जिसका नाम एल्सी आइलर है. इस वक्त उनकी उम्र करीब 86 साल है. वहीं यहां की बारटेंडर से लेकर लाइब्रेरियन और मेयर सबकुछ हैं. साल 2004 से वह अकेली ही इस गांव में रह रही हैं. करीब 54 हेक्टेयर में फैला यह गांव पहले आबाद हुआ करता था. एक रिपोर्ट के अनुसार, साल 1930 तक यहां 123 लोग रहते थे, लेकिन उसके बाद धीरे-धीरे आबादी घटनी शुरू हो गई. 1980 तक इस गांव में सिर्फ 18 लोग ही बचे. उसके बाद साल 2000 आते-आते सिर्फ यहां दो लोग बचे, एल्सी आइलर और उनके पति रूडी आइलर. 2004 में रूडी आइलर की भी मौत हो गई, जिसके बाद एल्सी अकेली ही अब यहां रह गई हैं. बता दें की 86 वर्षीय एल्सी गांव में ही एक बार चलाती हैं, जहां अमेरिका के अन्य राज्यों के अलावा दूसरे देशों से भी लोग आते हैं. गर्मियों के दिनों में इस गांव में लोग आकर ठहरते भी हैं और प्राकृतिक सुंदरता का आनंद लेते हैं. एल्सी ने अपने बार में मदद के लिए किसी को भी नहीं रखा है. जो लोग यहां आते हैं, वहीं उनकी मदद कर दिया करते हैं. इस गांव में एक पोस्ट ऑफिस भी है, जो साल 1902 में बना था, लेकिन घटती आबादी की वजह से 1967 में उसे बंद कर दिया गया. बताया जाता है कि इस गांव को छोड़कर लोगों के जाने के पीछे मुख्य वजह रोजगार थी. नहीं देखा होगा ऐसा मंदिर, निर्माण में छुपा है चौकाने वाला रहस्य इस जगह पर लोगों को अवेयर करने के लिए पुलिस ने पहना 'कोरोना हेलमेट' दिल्ली के मॉल में सैर करते नजर आया जंगल का ये अनोखा जानवर

Continue Reading