SENSEX
NIFTY
GOLD
USD/INR

Weather

25    C

विहिप नेता की हत्या मामले में दो आतंकी गिरफ्तार, सामने आया पाकिस्तान कनेक्शन

डी.जी.पी. गौरव यादव ने बताया कि पुलिस ने दोनों हमलावरों को गिरफ्तार कर लिया, जिनकी पहचान मनदीप कुमार उर्फ मंगी और सुरिंद्र कुमार उर्फ रिक्का के रूप में की गई।

लाइव हिन्दुस्तान 16 Apr 2024 11:45 pm

अमित शाह ने नक्सलवाद के खिलाफ दिए थे सख्त संकेत, डेड लाइन तय, क्या रणनीति?

छत्तीसगढ़ के कांकेर जिले में मंगलवार को सुरक्षा बलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ में 29 नक्सली मार गिराए गए। हाल ही में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने नक्सलवाद के खिलाफ सख्ती के संकेत दिए थे...

लाइव हिन्दुस्तान 16 Apr 2024 11:33 pm

Zee Entertainment का शेयर F&O से हुआ बाहर, NSE ने लगाई रोक

Zee Entertainment Share Price: शेयर बाजार में ऐसे कई स्टॉक्स मौजूद हैं, जो कि काफी सुर्खियों में हैं। इसमें Zee Entertainment भी शामिल है। Zee Entertainment के हाल ही में Sony के साथ विलय नहीं हो पाया था, जिसके बाद से ही कंपनी को लेकर कई तरह की खबरें सामने आ रही हैं। इस बीच अब एक और खबर सामने आई है। दरअसल, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) ने कहा है कि वह मौजूदा कॉन्ट्रैक्ट की एक्सपायरी के बाद Zee Entertainment के लिए नए F&O कॉन्ट्रैक्टजारी करना बंद कर देगा। इसका मतलब हुआ कि NSE नेZee Entertainment के F&O सौदों पर रोक लगा दी है।बाहर हुआ स्टॉकताजा जानकारी देते हुए NSE की ओर से कहा गया है कि ज़ी एंटरटेनमेंट के लिए नए एक्सपायरी महीनों के कॉन्ट्रैक्ट मौजूदा कॉन्ट्रैक्ट महीनों की एक्सपायरी पर जारी नहीं किए जाएंगे। NSE ने कहा कि ज़ी को सेबी सर्कुलर के आधार F&O कॉन्ट्रैक्ट से बाहर रखा गया है।इसके तहत 28 जून 2024 से इसके ट्रेड के लिए कोई कॉन्ट्रैक्टमौजूद नहीं होगा। अप्रैल, मई और जून 2024 में ज़ी के मौजूदा बिना खत्म हुए कॉन्ट्रैक्ट ट्रेड के लिए उपलब्ध होंगे।शेयर में गिरावटवहीं Zee Entertainment Enterprises Limited के स्टॉक में काफी वक्त से काफी उथल-पुथल देखने को मिली है। शेयर में काफी गिरावट भी देखने को मिली है। इस साल शेयर की कीमत में 48% से ज्यादा की गिरावट आई है। इसके साथ ही पिछले 6 महीने में शेयर 42% से ज्यादा गिर चुका है।निगेटिव रिटर्नवहीं पिछले एक साल में शेयर ने अपने निवेशकों को 27% से ज्यादा का निगेटिव रिटर्न दिया है। शेयर का NSE पर 52 वीक हाई 299.70 रुपये है और इसका 52 वीक लो प्राइज 138 रुपये है। वहीं 16 अप्रैल 2024 को शेयर ने एनएसई पर 147.30 रुपये पर क्लोजिंग दी है।डिस्क्लेमर: मनीकंट्रोल.कॉम पर दी गई राय एक्सपर्ट की निजी राय होती है। वेबसाइट या मैनेजमेंट इसके लिए जिम्मेदार नहीं है। यूजर्स को मनीकंट्रोल की सलाह है कि निवेश से जुड़ा कोई भी फैसला लेने से पहले सर्टिफाइड एक्सपर्ट की सलाह लें।

मनी कण्ट्रोल 16 Apr 2024 11:20 pm

अमेरिका और चीन में भी बड़े पैमाने पर छंटनी की तैयारी में Tesla, सेल्स घटने के बाद कंपनी ने किया फैसला

टेस्ला (Tesla) अपने ग्लोबल छंटनी अभियान के तहत अमेरिका और चीन में भी स्टाफ कम कर सकती है। ये दोनों देश इस इलेक्ट्रिक ऑटो कंपनी के दो सबसे बड़े मार्केट हैं। यह छंटनी सेल्स, टेक और इंजीनियरिंग सेगमेंट में हो सकती है। सूत्रों के मुताबिक, कंपनी के CEO एलॉन मस्क ने एक इंटरनल मेमो में बताया था कि कंपनी अपने ग्लोबल वर्कफोर्स के 10 पर्सेंट से भी ज्यादा लोगों की छंटनी कर रही है। कंपनी को सेल्स में गिरावट और कीमतों को लेकर जबरदस्त कॉम्पिटिशन का सामना करना पड़ रहा है, जिससे कंपनी ने यह कदम उठाया है।एक सूत्र ने बताया कि अमेरिका में मौजूद कंपनी के कई सर्विस सेंटरों में बड़े पैमाने पर छंटनी हो रही है। इसमें मुख्य तौर पर सेल्स स्टाफ और टेक्निशियन हैं। एक अन्य लोकेशन में सभी फ्रंट हाउस स्टाफ को हटा दिया गया है। कैलिफोर्निया में मौजूद टेस्ला के एक प्रोग्राम मैनेजर ने लिंक्डइन पर स्प्रेडशीट शेयर करते हुए 140 से भी ज्यादा स्टाफ का जिक्र किया, जो छंटनी का शिकार हुए और नई नौकरी खोज रहे हैं। इनमें से ज्यादा स्टाफ इंजीनियर हैं।दो सूत्रों ने बताया कि टेस्ला की चाइना टीम के सदस्यों को बताया जा रहा है कि अब उनकी जरूरत नहीं रह गई है, जबकि एक अन्य सूत्र का कहना है कि 10 पर्सेंट स्टाफ को अपनी नौकरी गंवानी पड़ रही है। एक और सूत्र ने बताया कि टेस्ला का सबसे बड़ा प्लांट शंघाई में मौजूद है और यहां कंपनी अपने कुल स्टाफ के एक छोटे से हिस्से की छंटनी करेगी, जिसका मतलब कुछ दर्जन स्टाफ हो सकते हैं।टेस्ला के शेयरों में 16 अप्रैल को 4 पर्सेंट की गिरावट थी, जबकि 15 अप्रैल को यह 5.6 पर्सेंट की गिरावट के साथ बंद हुआ था।

मनी कण्ट्रोल 16 Apr 2024 11:10 pm

DA Hike 2024: कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, मई में मिलेगा बढ़े हुए DA का फायदा, खाते में आएगी सैलरी, चेक करें डिटेल

कर्मचारी डीए बढ़ोतरी 2024:हिमाचल प्रदेश और पश्चिम बंगाल के सरकारी कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर है। हिमाचल प्रदेश की सुखविंदर सिंह सुक्खू सरकार द्वारा बजट में की गई घोषणा के अनुसार, राज्य के सरकारी कर्मचारियों को 1 अप्रैल 2024 से बढ़े हुए महंगाई भत्ते का लाभ मिलेगा। बढ़े हुए 4 प्रतिशत डीए का लाभ दिया …

न्यूज़ इंडिया लाइव 16 Apr 2024 11:07 pm

ICICI Bank ने अप्रैल में तीसरी बार FD पर ब्याज किया रिवाइज, जानें कौनसी एफडी पर बढ़ा ब्याज

ICICI FD Rates:देश के दूसरे सबसे बड़े प्राइवेट सेक्टर बैंक ICICI ने बल्क FD पर ब्याज को अप्रैल में तीसरी बार रिवाइज कर दिया है। बैंक ने पहले 1 अप्रैल और फिर 9 अप्रैल 2024 को एफडी की दरें रिवाइज की थी। अब बैंक ने एक बार फिर 15 अप्रैल को बल्क एफडी पर ब्याज दरें रिवाइज कर दी है। बैंक 7 दिन से लेकर 10 साल तक की बल्क एफडी ऑफर कर रहा है। बैंक 4.75 फीसदी से लेकर 7 फीसदी का ब्याज दे रहा है। बैंक बल्क एफडी पर अधिकतम ब्याज 7.25% का दे रहा है। बल्क एफडी में ग्राकर 2 करोड़ रुपये से लेकर 5 करोड़ रुपये निवेश कर सकते हैं।ICICI बैंक की बल्क एफडी पर ब्याज दरें7 दिन से 14 दिन: आम जनता के लिए - 4.75 प्रतिशत; सीनियर सिटीजन के लिए - 4.75 प्रतिशत15 दिन से 29 दिन: आम जनता के लिए - 4.75 प्रतिशत; सीनियर सिटीजन के लिए - 4.75 प्रतिशत30 दिन से 45 दिन: आम जनता के लिए - 5.50 प्रतिशत; सीनियर सिटीजन के लिए - 5.50 प्रतिशत46 दिन से 60 दिन: आम जनता के लिए - 5.75 प्रतिशत; सीनियर सिटीजन के लिए - 5.75 प्रतिशत61 दिन से 90 दिन: आम जनता के लिए - 6 प्रतिशत; सीनियर सिटीजन के लिए - 6 प्रतिशत91 दिन से 120 दिन: आम जनता के लिए - 6.50 प्रतिशत; सीनियर सिटीजन के लिए - 6.50 प्रतिशत121 दिन से 150 दिन: आम जनता के लिए - 6.50 प्रतिशत; सीनियर सिटीजन के लिए - 6.50 प्रतिशत151 दिन से 184 दिन: आम जनता के लिए - 6.50 प्रतिशत; सीनियर सिटीजन के लिए - 6.50 प्रतिशत185 दिन से 210 दिन: आम जनता के लिए - 6.75 प्रतिशत; सीनियर सिटीजन के लिए - 6.75प्रतिशत211 दिन से 270 दिन: आम जनता के लिए - 6.75 प्रतिशत; सीनियर सिटीजन के लिए - 6.75 प्रतिशत271 दिन से 289 दिन: आम जनता के लिए - 6.85 प्रतिशत; सीनियर सिटीजन के लिए - 6.85 प्रतिशत290 दिन से 365 दिन: आम जनता के लिए - 6.85 प्रतिशत; सीनियर सिटीजन के लिए - 6.85 प्रतिशत1 साल से 389 दिन: आम जनता के लिए - 7.25 प्रतिशत; सीनियर सिटीजन के लिए - 7.25 प्रतिशत390 दिन से 15 महीने से कम: आम जनता के लिए - 7.25 प्रतिशत; सीनियर सिटीजन के लिए - 7.25 प्रतिशत15 महीने से 18 महीने से कम: आम जनता के लिए - 7.05 प्रतिशत; सीनियर सिटीजन के लिए - 7.05 प्रतिशत2 साल 1 दिन से 3 साल: सामान्य जनता के लिए - 7 प्रतिशत; सीनियर सिटीजन के लिए - 7 प्रतिशत3 साल 1 दिन से 5 साल: सामान्य जनता के लिए - 7 प्रतिशत; सीनियर सिटीजन के लिए - 7 प्रतिशत5साल 1 दिन से 10 साल: सामान्य जनता के लिए - 7 प्रतिशत; सीनियर सिटीजन के लिए - 7 प्रतिशतदेश के 103 साल पुराने बैंक ने घटाया FD पर ब्याज, एफडी पर दे रहा है 8% का ब्याज

मनी कण्ट्रोल 16 Apr 2024 10:57 pm

राइट्स इश्यू और कन्वर्टिबल वॉरंट्स के जरिये 2,000 करोड़ रुपये जुटाएगी PC Jeweller

ज्वेलरी रिटेलर पीसी ज्वेलर (PC Jeweller) राइट्स इश्यू और कन्वर्टिबल वॉरंट्स के जरिये 2,000 करोड़ रुपये जुटाएगी। कंपनी ने बताया कि उसके बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स ने इक्विटी शेयरों के राइट्स इश्यू और कन्वर्टिबल वॉरंट्स के प्रेफेंरेंशियल इश्यू के जरिये 2,000 करोड़ जुटाने को मंजूरी दे दी है। कंपनी ने स्टॉक एक्सचेंज फाइलिंग में बताया कि योग्य इक्विटी शेयरहोल्डर्स को इक्विटी शेयरों का राइट्स इश्यू ऑफर किया जाएगा और इसका इश्यू साइज 1,500 करोड़ रुपये तक का हो सकता है।बोर्ड ने फंड जुटाने को लेकर एक खास कमेटी बनाई है, जो राइट्स इश्यू से जुड़ी शर्तों को लेकर फैसला करेगी, मसलन इश्यू प्राइस, राइट्स एंटाइटलमेंट रेशियो, पेमेंट सिस्टम और शेड्यूलिंग। राइट्स इश्यू के अलावा, पीसी ज्वेलर की योजना कन्वर्टिबल वॉरंट्स का प्रेंफरेंशियल इश्यू भी जारी करने की है। यह इश्यू 500 करोड़ रुपये का होगा।कंपनी की तरफ से जारी बयान में कहा गया है, ' SEBI नियमों के चैप्टर 5 के प्रावधानों के मुताबिक, 500 करोड़ रुपये के साइज वाले पूरी तरह से कन्वर्बिटल वॉरंट्स का प्रेफरेंशियल इश्यू पेश किया जा सकता है।' प्रेफरेंशियल इश्यू से हासिल रकम का इस्तेमाल मुख्य तौर पर कंपनी की वित्तीय जिम्मेदारियों को पूरा करने में किया जाएगा। हालांकि, इसके लिए लेंडर्स के कंसोर्शियम से मंजूरी लेनी होगी।बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) में 16 अप्रैल को पीसी ज्वेलर का शेयर 5 पर्सेंट की बढ़त के साथ 55.89 रुपये पर बंद हुआ।

मनी कण्ट्रोल 16 Apr 2024 10:47 pm

क्या कर रहे हैं ईरान के कब्जे में 17 भारतीय? जयशंकर के फोन कॉल से बन गई बात

बिजनैसमैन के स्वामित्व वाला और पुर्तगाली झंडे वाले जहाज पर चालक दल के 25 सदस्य सवार थे। इसे कथित तौर पर एक स्विस कंपनी द्वारा संचालन के लिए लीज पर दिया गया था। 17 भारतीयों में चार तमिलनाडु से हैं।

लाइव हिन्दुस्तान 16 Apr 2024 10:34 pm

किसान पिता ने दी सीख आई काम तीसरे प्रयास में UPSC क्लियर कर बेटा बना IAS

UPSC CSE Result 2023 : अपूर्व ने बताया कि पिता ओम नारायण शर्मा किसान रहने के बावजूद हमेशा कुछ बड़ा करने के लिए प्रेरित करते थे. पढ़ाई में कभी किसी चीज की कमी नहीं आने दी. पिता का सपना था कि कुछ बड़ा करें. पिता की मौत के बाद यह जुनून बन गया कि कुछ करना ही है.

न्यूज़18 16 Apr 2024 10:32 pm

धनंजय सिंह के बॉडीगार्ड की गोली मारकर हत्या, चाकुओं से भी गोदा, सुबह ही मायावती ने पत्नी श्रीकला को दिया था टिकट

जौनपुर में धनंजय सिंह के बॉडीगार्ड की गोली मारकर हत्या कर दी गई है। तीन हमलावरों ने गोली मारने के बाद उन्हें चाकुओं से भी गोदा है। मंगलवार की सुबह ही धनंजय सिंह की पत्नी श्रीकला को बसपा ने टिकट दिया।

लाइव हिन्दुस्तान 16 Apr 2024 10:29 pm

भारत ने सिर्फ एक प्रोडक्ट बेचकर कमा लिए 12.1 अरब डॉलर, पूरी दुनिया हुई दीवानी

iPhone Export Data: ट्रेड इंटेलिजेंस प्लेटफॉर्म ट्रेड विजन के मुताबिक, भारत से एप्पल के आईफोन का निर्यात (iPhone Export) 2023-24 में लगभग दोगुना होकर 12.1 अरब अमेरिकी डॉलर हो गया.

न्यूज़18 16 Apr 2024 10:15 pm

ZEE ने मर्जर समझौता लागू करने को लेकर सोनी के खिलाफ NCLT में दायर मामला वापस लिया

ज़ी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज लिमिटेड ने सोनी पिक्चर्स के साथ विलय समझौते को लागू करने की मांग करने वाली याचिका नेशनल कंपनी लॉ ट्राइब्यूनल (NCLT) से वापस ले ली है। ज़ी एंटरटेनमेंट (ZEE Entertainment) ने इस सिलसिले में 24 जनवरी, 2024 को NCLT की मुंबई बेंच के सामने यह याचिका दायर की थी। इसमें यह निर्देश देने की मांग की गई थी कि ज़ी एंटरटेनमेंट और सोनी की कंपनियों कल्वर मैक्स एंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड एवं बांग्ला एंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड के बीच के विलय समझौते पर अमल किया जाए।सोनी ग्रुप ने अपनी भारतीय इकाई का ज़ी एंटरटेनमेंट के साथ विलय करने संबंधी 10 अरब डॉलर का समझौता 22 जनवरी को रद्द कर दिया था। विलय के बाद बनने वाली इकाई के नेतृत्व को लेकर दोनों पक्षों के बीच गतिरोध नहीं सुलझ पाने पर सोनी इससे पीछे हट गई थी। इसके साथ ही सोनी ने विलय समझौते की शर्तों का पालन न किए जाने पर 9 करोड़ डॉलर का हर्जाना मांगा और इस मामले को आर्बिट्रेशन ट्राइब्यूनल में लेकर गई।ज़ी एंटरटेनमेंट की तरफ से जारी बयान में कहा गया कि NCLT से समझौता को लागू करने संबंधी आवेदन वापस लेने का कदम बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स को मिली कानूनी सलाह पर आधारित है। कंपनी ने कहा, 'यह कदम कंपनी को सिंगापुर इंटरनेशनल आर्बिट्रेशन सेंटर और अन्य मंचों पर चल रही मध्यस्थता कार्यवाही में सोनी के खिलाफ अपने सभी दावों को आक्रामक ढंग से आगे बढ़ाने में सक्षम बनाएगा।' ज़ी एंटरटेनमेंट और सोनी पिक्चर्स का विलय सौदा अगर पूरा होता, तो भारत में सबसे बड़ी मीडिया इकाई बनने का मार्ग प्रशस्त हो जाता। हालांकि, नई इकाई के नेतृत्व पर सहमति नहीं बन पाने से यह अंजाम तक नहीं पहुंच पाया।

मनी कण्ट्रोल 16 Apr 2024 10:15 pm

Savings Account Cash Limit: सेविंग अकाउंट में इतना होना चाहिए मिनिमम बैलेंस, नहीं तो लगेगा जुर्माना!

बचत खाता नकद सीमा:बैंक के बचत खाते में एक निश्चित राशि नहीं रखने पर बैंक ग्राहकों से गैर-रखरखाव जुर्माना वसूलते हैं। इसलिए आपको हर महीने अपने बैंक में एक न्यूनतम राशि रखनी चाहिए। लेकिन, बहुत से लोगों को यह नहीं पता होता है कि उनके बैंक खाते में न्यूनतम बैलेंस कितना होना चाहिए। इसके चलते …

न्यूज़ इंडिया लाइव 16 Apr 2024 10:14 pm

Gold Rate: इंदौर में रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा गोल्ड, एक तोला सोना 75000 रुपये के पहुंचा पार

Gold Rate: इजराइल और ईरान के बीच तनाव बढ़ने की आशंका के बीच अंतरराष्ट्रीय बाजारों में मजबूत रुझानों को देखते हुए मंगलवार को लगातार दूसरे दिन लोकल बाजारों में तेजी का सिलसिला जारी रहा। आज दिल्ली के लोकल बाजार में सोने-चांदी का भाव अपने उच्चतम स्तर पर पहुंच गया। एचडीएफसी सिक्योरिटीज के अनुसार मंगलवार को राष्ट्रीय राजधानी में सोने की कीमतें 700 रुपये बढ़कर 73,750 रुपये प्रति 10 ग्राम के उच्चतम स्तर पर पहुंच गईं। सोमवार को यह 73,050 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ था। चांदी की कीमत 800 रुपये उछलकर 86,500 रुपये प्रति किलोग्राम की रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंच गई। वहीं, इंदौर के लोकल सर्राफा बाजार में 24 कैरेट 10 ग्राम सोने का भाव 75,000 रुपये के भाव को पार कर गया।दिल्ली में सोने का भावएचडीएफसी सिक्योरिटीज में कमोडिटी एक्सपर्ट सौमिल गांधी ने कहा कि विदेशी बाजारों से सकारात्मक संकेत लेते हुए दिल्ली के बाजारों में सोने की हाजिर कीमत (24 कैरेट) 73,750 रुपये प्रति 10 ग्राम पर कारोबार कर रही है, जो पिछले बंद भाव से 700 रुपये की तेजी को दिखा रहा है। अंतरराष्ट्रीय बाजार कॉमेक्स में हाजिर सोना 2,370 डॉलर प्रति औंस पर कारोबार कर रहा था, जो पिछले बंद भाव से 15 डॉलर अधिक है। पिछले सप्ताह इजराइल पर ईरान के हमले के बाद पश्चिम एशिया में तनाव बढ़ने की आशंकाओं के बीच सुरक्षित एसेट के तौर पर सोने की मांग लगातार बढ़ रही है। गांधी ने कहा कि निवेशकों का ध्यान संभावित जवाबी हमले की ओर गया, जिससे दोनों देशों के बीच पूर्ण युद्ध शुरू होने का खतरा बढ़ सकता है। इससे सुरक्षित निवेश विकल्प के रूप में सर्राफा की मांग बढ़ी है। चांदी भी बढ़त के साथ 28.40 डॉलर प्रति औंस पर बोली गई। पिछले कारोबार में यह 28.25 डॉलर प्रति औंस पर बंद हुई थी।इंदौर में सोने-चांदी का भावइंदौर के लोकल सर्राफा बाजार में मंगलवार को‌ सोना 1100 रुपये प्रति 10 ग्राम और चांदी के भाव में 850 रुपये प्रति किलोग्राम की बढ़ोतरी हुई।सोना 75100 रुपये प्रति 10 ग्रामचांदी 82,850 रुपये प्रति किलोग्रामचांदी सिक्का 850 रुपये प्रति 10 ग्राम।क्यों रिकॉर्ड स्तर पर है सोना?अलावा निवेशक पिछले सप्ताह उम्मीद से अधिक मुद्रास्फीति के आंकड़ों के बाद मंगलवार को अमेरिकी फेडरल रिजर्व के प्रमुख जेरोम पावेल के भाषण का इंतजार करेंगे, जो मौद्रिक नीति के लिहाज से अधिक जानकारी देगा। इस बीच एमसीएक्स के वायदा कारोबार में सोने का सबसे अधिक कारोबार वाला जून कॉन्ट्रेक्ट 349 रुपये की तेजी के साथ 72,626 रुपये प्रति 10 ग्राम पर कारोबार कर रहा था। दिन में कारोबार के दौरान यह 72,927 रुपये प्रति 10 ग्राम के उच्चतम स्तर पर पहुंच गया। हालांकि, मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज (MCX) पर चांदी का मई कॉन्ट्रेक्ट 314 रुपये की गिरावट के साथ 83,537 रुपये प्रति किलोग्राम पर कारोबार कर रहा था।एलकेपी सिक्योरिटीज के कमोडिटी और करेंसी एक्सपर्ट जतीन त्रिवेदी ने कहा कि एमसीएक्स पर सोने में उछाल आया, जबकि कॉमेक्स पर सोना रातोंरात बढ़त के साथ 2,370 डॉलर प्रति औंस पर पहुंच गया। उन्होंने कहा कि आगे भी सोने के भाव में तेजी बनी रह सकती है।EPFO: अपने डॉरमेट EPF अकाउंट को कैसे करें अनब्लॉक, घर बैठे एक क्लिक पर हो जाएगा एक्टिव

मनी कण्ट्रोल 16 Apr 2024 10:00 pm

MP Loksabha Election: कांग्रेस का कंफर्ट जोन है छिंदवाड़ा, क्या जीत का सिलसिला जारी रख पाएगा कमल नाथ का परिवार?

MP Loksabha Election 2024: काफी ज्यादा उथल-पुथल वाले संसदीय क्षेत्र में, अभी भी कुछ सीटें ऐसी हैं, जो न केवल वफादार हैं, बल्कि उन्होंने लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections 2024) में किसी दूसरी पार्टी को चुनने के बारे में कभी सोचा भी नहीं। ऐसा ही एक संसदीय सीट मध्य प्रदेश की छिंदवाड़ा है, जहां 19 अप्रैल को पहले चरण में मतदान होगा। छिंदवाड़ा लोकसभा सीट (Chhindwara Lok Sabha Seat) पर किसी भी दूसरी सीट की तुलना में सबसे ज्यादा बार कांग्रेस को वोट दिया गया है, यानी 17 में से 17 चुनावों में हर बार यहां कांग्रेस ही जीती।भले ही आम चुनावों में इस सीट से कोई दूसरी पार्टी नहीं जीत पाई, लेकिन BJP के सुंदर लाल पटवा, 1997 का उपचुनाव जीतने में कामयाब रहे। पटवा मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री भी रहे थे। सीट के मतदान पैटर्न से यह कहना मुश्किल हो जाता है कि ये कांग्रेस के प्रति वफादार थी या कमल नाथ के प्रति, खासकर 1980 के बाद। लेकिन, एक विश्लेषण से पता चलता है कि 17 में से 11 बार यहां से कमल नाथ या उनके परिवार का ही कोई जीता है।छिंदवाड़ा से नौ बार जीते कमलनाथ2019 में, उनके बेटे नकुल नाथ इस सीट से चुने गए और 1996 में, उनकी पत्नी अलका इस सीट से चुनी गईं। कमल नाथ खुद इस सीट से नौ बार - 1980, 1984, 1989, 1991, 1998, 1999, 2004, 2009 और 2014 जीत चुके हैं। वो एक ही सीट से लगातार पांच बार (1998-2014) चुने गए कुछ नेताओं में शुमार हैं।अपने पहले कार्यकाल में भी, 1980 से 1991 तक, वह लगातार चार बार चुने गए। इसके अलावा, वह सबसे ज्यादा बार चुने जाने वाले उम्मीदवारों की लिस्ट में भी शामिल होने से केवल एक जीत दूर हैं। नाथ CPI के इंद्रजीत गुप्ता और पूर्व प्रधान मंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के 10 बार की जीत के रिकॉर्ड से पीछे एक कदम दूर हैं।2014 और 2019 में BJP की लहर होने के बावजूद, संसदीय क्षेत्र ने अपने नेता और उनके परिवार के प्रति अपनी वफादारी जारी रखी। News18 की तरफ से विश्लेषण किए गए आंकड़ों से पता चलता है कि, 2019 के चुनावों में, कांग्रेस को इस सीट पर अब तक के सबसे ज्यादा वोट मिले।वोट शेयर और अंतर में भी कमल नाथ का रिकॉर्डजब जीत के अंतर और वोट शेयर की बात आती है, तो इस सीट पर कमल नाथ का रिकॉर्ड है। सबसे ज्यादा वोट मार्जिन 1999 के चुनावों में हासिल हुआ, जब उन्होंने 1.88 लाख से ज्यादा वोटों के अंतर से जीत हासिल की। इसके अलावा, 1984 के चुनाव में कांग्रेस और कमल नाथ ने 67.17 प्रतिशत के सबसे ज्यादा वोट शेयर के साथ ये सीट जीती थी। उनके बाद, गार्गी शंकर मिश्रा ने छिंदवाड़ा सीट से सबसे लंबे समय तक सेवा की और 1967 और 1977 के बीच तीन बार चुने गए। आंकड़े बताते हैं कि 1962 के चुनाव में कांग्रेस ने इस सीट पर सबसे कम 81,726 वोट हासिल किए थे।लेकिन, जब सबसे कम अंतर से सीट जीतने की बात आती है, तो कांग्रेस ने 1977 के आपातकाल के बाद के चुनाव में सबसे मुश्किल लड़ाई देखी। मिश्रा केवल 7,000 वोटों के अंतर से जीते थे। 1957 के चुनाव में पार्टी को इस सीट पर अपना अब तक का सबसे कम 26.9 प्रतिशत वोट शेयर प्राप्त हुआ।1991 के बाद कांग्रेस Vs बीजेपीइसके अलावा, 1991 के बाद इस सीट पर BJP और कांग्रेस के बीच लड़ाई देखी गई और भगवा पार्टी दूसरे नंबर पर रही। 1984 में भी बीजेपी दूसरे नंबर पर रही, लेकिन कांग्रेस को सबसे कड़ी चुनौती तब मिली, जब अलका उम्मीदवार थीं, जो इस सीट से एकमात्र महिला सांसद थीं। उस साल बीजेपी के चौधरी चंद्रभान सिंह कुबेर सिंह को 2.60 लाख वोट मिले, अलका के 2.81 लाख वोटों से केवल 21,000 कम।कमल नाथ ने 1996 और 2019 का चुनाव क्यों छोड़ दिया?छिंदवाड़ा के इतिहास में 1996 अलग था। इस सीट पर एक महिला रेस में थी, वो भी सिर्फ थोड़े समय के लिए और सिर्फ एक डमी उम्मीदवार के तौर पर। 65 करोड़ रुपए के जैन हवाला मामले में चार्जशीट दाखिल होने के कारण कमल नाथ को टिकट नहीं दिया गया।अपनी चार्जशीट में, CBI ने आरोप लगाया कि जैन बंधुओं ने नवंबर 1989 और अप्रैल 1991 के बीच कमल नाथ को 22 लाख रुपए की रिश्वत दी थी, जब वह सांसद थे। लेकिन, सीट बचाने के लिए और कमलनाथ के बागी हो जाने के कारण उनकी पत्नी अलका को मौका मिला। वह अच्छी तरह से कामयाब रहीं, लेकिन अगले साल मामले से बरी होने के बाद ही उन्होंने कमल नाथ के लिए सीट खाली कर दी।1997 में इस सीट पर उपचुनाव हुआ, लेकिन जनता ने कमल नाथ को स्वीकार नहीं किया। बीजपेी ने जीत हासिल की, क्योंकि सुंदर लाल पटवा ने 37,600 से कुछ ज्यादा वोटों के अंतर से सीट जीती। अगले साल, 1998 के लोकसभा चुनाव में, नाथ ने पटवा को 1.53 लाख वोटों के अंतर से हराया।अगले पांच लोकसभा चुनावों में उन्होंने बिना किसी असफलता के इस सीट से जीत हासिल की। 2014 के चुनावों में, छिंदवाड़ा राज्य में कांग्रेस की जीती दो सीटों में से एक थी। दूसरी सीट गुना है, जहां से ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया जीते हैं।2019 के चुनावों से थोड़ा पहले, दिसंबर 2018 में, उन्होंने मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में कार्यभार संभाला था। यही वो समय था, जब नकुल तस्वीर में आए और उस साल राज्य से अकेले कांग्रेस सांसद थे।2024 की लड़ाईएक बार फिर कांग्रेस ने 2024 के चुनाव के लिए नकुल को टिकट दिया है। इस बार उनका मुकाबला विवेक बंटी साहू से है, जो दो बार विधानसभा चुनाव में नाथ से हार चुके हैं। 2019 के उपचुनाव में उन्होंने साहू को लगभग 26,000 वोटों से और 2023 में लगभग 36,600 वोटों से हराया।छिंदवाड़ा लोकसभा क्षेत्र की सभी सात विधानसभा सीटों पर कांग्रेस का कब्जा है। यह सीट बीजेपी और कांग्रेस दोनों के लिए महत्वपूर्ण है और दोनों को भरोसा है कि वे जीतेंगे।जबकि कांग्रेस के लिए यह सीट इसलिए महत्वपूर्ण है, क्योंकि इसके पास न केवल 17 लोकसभा चुनावों की विरासत है, बल्कि यह अकेली सीट है, जिस पर पार्टी का मध्य प्रदेश में नियंत्रण है। हालांकि, BJP उस सीट को जीतने में कोई कसर नहीं छोड़ेगी, जिसे वो कभी हासिल नहीं कर पाई है।

मनी कण्ट्रोल 16 Apr 2024 9:54 pm

Tata Power Dividend 2024: नतीजों के बाद डिविडेंड का ऐलान करेगी Tata Power

Tata Power Dividend 2024: कंपनियों के तिमाही नतीजों का सीजन शुरू हो गया है। कई लिस्टेड कंपनियां जनवरी-मार्च 2024 तिमाही के लिए नतीजों का ऐलान कर चुकी हैं। TCS के बाद टाटा ग्रुप की एक और कंपनी टाटा पावर (Tata Power) जल्द ही अपनी चौथी तिमाही के नतीजों का ऐलान करने वाली है। चौथी तिमाही के नतीजों को मंजूरी देने के लिए कंपनी के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स की बैठक अगले महीने होगी।कब जारी होंगे चौथी तिमाही के नतीजेटाटा पावर ने एक्सचेंज फाइलिंग में बताया कि कंपनी के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स की बैठक 8 मई 2024 को होगी जिसमें कंपनी के वित्तीय नतीजों (स्टैंडअलोन और कंसॉलिडेटेड) पर विचार कर इसे मंजूरी दी जाएगी। टाटा ग्रुप की कंपनी आम तौर पर शेयर बाजार बंद होने के बाद अपने तिमाही नतीजों का ऐलान करती है।टाटा पावर का डिविडेंड 2024तिमाही नतीजों के अलावा, टाटा ग्रुप की यह कंपनी अपने शेयरहोल्डर्स के लिए डिविडेंड का भी ऐलान करेगी। कंपनी ने जून 2023 में 2 रुपये के डिविडेंड का ऐलान किया था। इससे पहले यानी 2022 में 1.75 रुपये के डिविडेंड का ऐलान किया गया था। साल 2021 में 1.55 रुपये डिविडेंड घोषित किया गया था। पावर सेक्टर की इस कंपनी ने जून 2020 में 1.55 रुपये के डिविडेंड की घोषणा की थी। जून 2019 में कंपनी का डिवि़डेंड 1.3 रुपये था।शेयरों का ट्रेंडटाटा पावर, बीएसई 100 सूचकांक का हिस्सा है और मौजूदा मार्केट प्राइस के हिसाब से इसका मार्केट कैपिटल 1,37,878.90 करोड़ रुपये है। BSE एनालिटिक्स के मुताबिक, पिछले हफ्ते कंपनी के शेयरों में 3.65 पर्सेंट की बढ़ोतरी रही, जबकि पिछले एक महीने में कंपनी का शेयर 13.36 पर्सेंट चढ़ा है।पिछले तीन महीने और छह महीने में कंपनी का रिटर्न क्रमशः 20.30% और 69.85% रहा है। पिछले एक साल में कंपनी के शेयरों में 119.93 पर्सेंट की तेजी रही है, जबकि पिछले तीन साल में इसमें 358.80 पर्सेंट की बढ़ोतरी देखने को मिली है। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) में 16 अप्रैल को टाटा पावर का शेयर 0.28 पर्सेंट की बढ़त के साथ 430.40 रुपये पर बंद हुआ।

मनी कण्ट्रोल 16 Apr 2024 9:53 pm

Ramdevbaba Solvent IPO : दूसरे दिन तक 10 गुना भरा इश्यू, जानिए अलग-अलग कैटेगरी का अपडेट

Ramdevbaba Solvent IPO : रामदेवबाबा सॉल्वेंट के आईपीओ को सब्सक्रिप्शन के दूसरे दिन भी निवेशकों का मजबूत रिस्पॉन्स मिला है। यह इश्यू आज 16 अप्रैल को 10.06 गुना सब्सक्राइब हो गया है। इसे कुल 3.97 करोड़ शेयरों के लिए बोलियां मिल गई है, जबकि ऑफर पर 39.52 लाख शेयर हैं। निवेशकों के पास इस आईपीओ में 18 अप्रैल तक निवेश का मौका रहेगा। कंपनी का इरादा इश्यू के जरिए 50.27 करोड़ रुपये जुटाने का है। कंपनी ने इश्यू के लिए 80-85 रुपये प्रति शेयर का प्राइस बैंड रखा है।Ramdevbaba Solvent IPO : सब्सक्रिप्शन से जुड़ी डिटेलरामदेवबाबा सॉल्वेंट के आईपीओ में सबसे ज्यादा निवेश नॉन इंस्टीट्यूशनल बायर्स ने किया है। वहीं, रिटेल निवेशकों के हिस्से को भी अच्छा-खासा रिस्पॉन्स मिला है। नॉन इंस्टीट्यूशनल बायर्स का हिस्सा 14.69 गुना सब्सक्राइब हो गया है। वहीं, रिटेल निवेशकों का हिस्सा 13.74 गुना भरा है। क्वालिफाइड इंस्टीट्यूशनल बायर्स का हिस्सा 0.02 गुना भरा है।Ramdevbaba Solvent IPO से जुड़ी डिटेलरामदेवबाबा सॉल्वेंट के आईपीओ के तहत 59.13 लाख फ्रेश इक्विटी शेयर जारी किए गए हैं। वहीं, इसमें ऑफर फॉर सेल (OFS) कंपोनेंट नहीं है। फंड का इस्तेमाल सामान्य कॉर्पोरेट उद्देश्यों के लिए, वर्किंग कैपिटल जरूरतों के लिए, एक नई मैन्युफैक्चरिंग फैसिलिटी के निर्माण और कुछ कर्ज के पूर्ण या आंशिक भुगतान के लिए किया जाएगा। इश्यू के बुक रनिंग लीड मैनेजर चॉइस कैपिटल एडवाइजर्स प्राइवेट लिमिटेड हैं। आईपीओ के लिए रजिस्ट्रार बिगशेयर सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड है।आईपीओ के लिए 1600 शेयरों का लॉट साइज तय किया गया है। इसमें रिटेल निवेशकों को कम से कम 136,000 रुपये का निवेश करना होगा। सफल निवेशकों को शेयरों का अलॉटमेंट 19 अप्रैल को होने की उम्मीद है। वहीं, कंपनी के शेयरों के लिए लिस्टिंग की संभावित तारीख 23 अप्रैल है।Ramdevbaba Solvent के बारे मेंरामदेवबाबा सॉल्वेंट लिमिटेड की स्थापना साल 2008 में हुई है। कंपनी फिजिकली रिफाइंड चावल की भूसी के तेल का उत्पादन और डिस्ट्रीब्यूशन करती है। कंपनी मदर डेयरी फ्रूट एंड वेजिटेबल प्राइवेट लिमिटेड, मैरिको लिमिटेड और एम्पायर स्पाइसेस एंड फूड्स लिमिटेड जैसी FMCG कंपनियों को चावल की भूसी के तेल के निर्माण, वितरण, विपणन और बिक्री में लगी हुई है। कंपनी अपने ब्रांड तुलसी और सेहत के तहत 38 डिस्ट्रीब्यूटर्स के माध्यम से चावल की भूसी के तेल का निर्माण, विपणन और बिक्री भी करती है।

मनी कण्ट्रोल 16 Apr 2024 9:26 pm

Loksabha Election: नागपुर के लिए नितिन गडकरी ने जारी किया अपना खुद का घोषणापत्र, 'वचननामा' में एक लाख नौकरियां देने का वादा

Loksabha Election 2024: केंद्रीय मंत्री और नागपुर लोकसभा सीट (Nagpur Loksabha Seat) से BJP के उम्मीदवार नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने मंगलवार को अपना खुद का 'घोषणापत्र' (Manifesto) जारी किया और एक बार फिर से चुने जाने पर अगले पांच साल में अपने संसदीय क्षेत्र में एक लाख नौकरियां पैदा करने का वादा किया। गडकरी ने नागपुर को विकास और स्वच्छता के मामले में महाराष्ट्र के शीर्ष पांच शहरों में शामिल करने का भी वादा किया है।गडकरी ने 'वचननामा' या चुनावी घोषणापत्र में चुने जाने पर अगले पांच सालों के लिए नागपुर के लिए अपनी योजनाओं का भी जिक्र किया। लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections 2024) के पहले चरण के तहत नागपुर में 19 अप्रैल को मतदान होगा।अपने 10 सालों का लेखा-जोखा दियाभारतीय जनता पार्टी (BJP) के वरिष्ठ नेता नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने मतदान से तीन दिन पहले घोषणापत्र ('वचननामा') जारी करने के बाद एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए यह जानकारी दी और पिछले 10 सालों में एक सांसद के रूप में उनकी ओर से किए गए कामों का लेखा-जोखा भी दिया।गडकरी ने इस बात पर जोर दिया कि सांसद के रूप में अपने तीसरे कार्यकाल में वह नागपुर को 'सुंदर और स्वच्छ' बनाने और विकास और स्वच्छता के मामले में इसे देश के टॉप पांच शहरों में लाने की दिशा में काम करेंगे।झुग्गियों में रहने वालों को अपना हर देने का वादाBJP के पूर्व अध्यक्ष ने कहा कि राज्य और केंद्र सरकारों की मदद से वह अनधिकृत झुग्गियों के निवासियों को नियमितीकरण पर मालिकाना हक देने की दिशा में मदद करेंगे और उन्हें नए घरों के निर्माण में मदद करेंगे।केंद्रीय मंत्री ने कहा कि उन्होंने पहले ही शहर की एक झुग्गी बस्ती में काम शुरू कर दिया है और 500 से 600 घरों को मालिकाना हक दे दिया है।गडकरी ने कहा कि शहर के अलग-अलग हिस्सों में 100 पार्क बनाए जाएंगे और इनमें मौजूदा गार्डन भी शामिल होंगे, जिनका नवीनीकरण किया जाएगा।एक लाख नई नौकरियों का वादागडकरी ने आश्वासन दिया कि 2029 तक नागपुर में एक लाख नई नौकरियां और विदर्भ क्षेत्र में पांच लाख रोजगार के अवसर पैदा किए जाएंगे। उन्होंने वादा किया कि महाराष्ट्र की दूसरी राजधानी माने जाने वाले नागपुर को 2070 तक पानी की कमी का सामना नहीं करना पड़ेगा।गडकरी ने कहा कि शहर में घरों में 25 लाख संतरे के पौधे लगाए जाएंगे, जो लोकप्रिय फल के लिए प्रसिद्ध है। केंद्रीय मंत्री ने अपना पहला लोकसभा चुनाव 2014 में नागपुर से लड़ा और यहां से सात बार के कांग्रेस सांसद विलास मुत्तेमवार को 2,84,000 वोटों के अंतर से हराकर विजयी हुए थे।गडकरी ने 2019 में कांग्रेस उम्मीदवार नाना पटोले को 2,16,000 वोटों के अंतर से हराकर सीट बरकरार रखी थी। इस बार गडकरी का सामना कांग्रेस उम्मीदवार विकास ठाकरे से होगा।

मनी कण्ट्रोल 16 Apr 2024 9:13 pm

JNK India IPO : 23 अप्रैल को खुलेगा इश्यू, यहां जानिए कंपनी से जुड़ी तमाम डिटेल

JNK India IPO : जेएनके इंडिया का आईपीओ 23 अप्रैल को सब्सक्रिप्शन के लिए खुलने वाला है। निवेशकों के पास इसमें 25 अप्रैल तक निवेश का मौका रहेगा। एंकर निवेशकों के लिए यह इश्यू 22 अप्रैल को एक दिन के लिए खुलेगा। इस आईपीओ के तहत 300 करोड़ रुपये के फ्रेश इक्विटी शेयर जारी किए जाएंगे। इसके अलावा, मौजूदा शेयरधारकों और प्रमोटरों द्वारा 84.2 लाख शेयरों की बिक्री ऑफर फॉर सेल (OFS) के तहत की जाएगी।JNK India IPO से जुड़ी डिटेलOFS के हिस्से के रूप में गौतम रामपेली 11.2 लाख शेयरों की बिक्री करेंगे। इसके अलावा, जेएनके ग्लोबल द्वारा 24.3 लाख शेयर, मैस्कॉट कैपिटल एंड मार्केटिंग द्वारा 44 लाख शेयर और मिलिंद जोशी द्वारा 4.68 लाख शेयरों की बिक्री की जाएगी। नए इश्यू से प्राप्त फंड का इस्तेमाल वर्किंग कैपिटल जरूरतों की फंडिंग के लिए किया जाएगा। IIFL सिक्योरिटीज और ICICI सिक्योरिटीज इस इश्यू के प्रमुख मैनेजर हैं।JNK India : कैसा है कंपनी का फाइनेंशियलJNK India तेल रिफाइनरियों और पेट्रोकेमिकल प्लांट्स जैसे प्रोसेस इंडस्ट्रीज के लिए हीटिंग इक्विपमेंट बनाती है। कंपनी डिजाइन से लेकर इंस्टॉलेशन तक सब कुछ संभालती है और घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय दोनों बाजारों में सर्विस प्रोवाइड करती है। भारत में इसकी कंपटीटर थर्मैक्स लिमिटेड हैं। कंपनी ने फ्लेयर्स, इंसीनरेटर सिस्टम में भी विस्तार किया है और ग्रीन हाइड्रोजन के साथ रिन्यूएबल सेक्टर में कदम रख रही है।JNK India का फाइनेंशियलJNK India ने FY23 में एक साल पहले के 296.40 करोड़ रुपये के मुकाबले 407.32 करोड़ रुपये का रेवेन्यू दर्ज किया है। इसके ऑयल और गैस सेगमेंट ने रेवेन्यू में 77 फीसदी का योगदान दिया। वित्तीय वर्ष के लिए नेट प्रॉफिट पिछले वर्ष के 35.98 करोड़ रुपये के मुकाबले 46.36 करोड़ रुपये रहा। 2023 को समाप्त नौ महीने तक कंपनी का कुल कर्ज 56.73 करोड़ रुपये था।JNK India के पास 845.03 करोड़ रुपये का ऑर्डर बुक31 दिसंबर 2023 तक कंपनी की ऑर्डर बुक कुल 845.03 करोड़ रुपये थी, जिसमें 86.29 फीसदी भारत से और 13.71 फीसदी विदेशों से था। यह मजबूत ऑर्डर बुक समान अवधि के लिए इसके एनुअल रेवेन्यू के 2.50 गुना के बराबर है।

मनी कण्ट्रोल 16 Apr 2024 9:10 pm

Zee Entertainment ने Sony के खिलाफ दायर अर्जी एनसीएलटी से वापस ली

नयी दिल्ली । जी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज लिमिटेड ने सोनी पिक्चर्स के साथ विलय समझौते को मूर्त रूप देने की मांग करने वाली याचिका राष्ट्रीय कंपनी विधि न्यायाधिकरण (एनसीएलटी) से वापस ले ली है। जी एंटरटेनमेंट ने 24 जनवरी, 2024 को एनसीएलटी की मुंबई पीठ के समक्ष यह याचिका दायर की थी। इसमें यह निर्देश देने की मांग की गई थी कि ज़ी एंटरटेनमेंट और सोनी समूह की कंपनियों कल्वर मैक्स एंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड एवं बांग्ला एंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड के बीच के विलय समझौते पर अमल किया जाए। सोनी समूह ने अपनी भारतीय इकाई का ज़ी एंटरटेनमेंट के साथ विलय करने संबंधी 10 अरब डॉलर का समझौता 22 जनवरी को रद्द कर दिया था। विलय के बाद बनने वाली इकाई के नेतृत्व को लेकर दोनों पक्षों के बीच गतिरोध नहीं सुलझ पाने पर सोनी इससे पीछे हट गई थी। इसके साथ ही सोनी ने विलय समझौते की शर्तों का पालन न किए जाने पर नौ करोड़ डॉलर का हर्जाना मांगा और इस मामले को मध्यस्थता न्यायाधिकरण में लेकर गई। जी एंटरटेनमेंट ने मंगलवार को जारी बयान में कहा कि एनसीएलटी से समझौता क्रियान्वयन आवेदन वापस लेने का कदम निदेशक मंडल को मिली कानूनी सलाह पर आधारित है। कंपनी ने कहा, ‘‘यह कदम कंपनी को सिंगापुर अंतरराष्ट्रीय मध्यस्थता केंद्र (एसआईएसी) और अन्य मंचों पर चल रही मध्यस्थता कार्यवाही में सोनी के खिलाफ अपने सभी दावों को आक्रामक ढंग से आगे बढ़ाने में सक्षम बनाएगा।’’ जी एंटरटेनमेंट और सोनी पिक्चर्स का विलय सौदा अगर पूरा हुआ रहता तो भारत में सबसे बड़ी मीडिया इकाई बनने का मार्ग प्रशस्त होता। लेकिन नई इकाई के नेतृत्व पर सहमति नहीं बन पाने से यह अंजाम तक नहीं पहुंच पाया।

प्रभासाक्षी 16 Apr 2024 9:08 pm

Indian Economy : हमारे सामने फीकी पड़ेगी चीन की चमक, IMF ने कहा - सबसे तेज रहेगी भारतीय अर्थव्यवस्था की रफ्तार

इंटरनेशनल मॉनिटरी फंड (IMF) ने 2024 के लिए भारत की ग्रोथ के अनुमान को बढ़ाकर 6.8 फीसदी कर दिया है। IMF का कहना है कि भारत में घरेलू डिमांड लगातार मजबूत बनी हुई है। साथ ही नौजवान आबादी भी बढ़ रही है जो काम करके उत्पादन बढ़ाएंगे। IMF का यह भी कहना है कि भारत जीडीपी ग्रोथ के मामले में चीन से काफी आगे रहेगा।

जागरण 16 Apr 2024 8:54 pm

इंग्लैंड से पढ़ाई, बैंक में नौकरी और जमुई से लड़ रहे लोकसभा चुनाव, कौन हैं चिराग पासवान की जीजा अरुण कुमार भारती

Bihar Loksabha Election 2024: लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections 2024) के पहले चरण में बिहार में चार सीटों पर मतदान होना है, जिसमें 19 अप्रैल को वोट डाले जाएंगे। इन चार में से एक जमुई लोकसभा सीट भी है, जो सुर्खियों में छाई हुई है। यहां से NDA की तरफ से LJP(R) के टिकट पर अरुण कुमार भारती (Arun Kumar Bharti) चुनाव मैदान में है। जबकि विपक्ष के I.N.D.I.A. से RJD के टिकट पर अर्चना भारती अपनी किस्मत आजमा रही है। इस सीट पर सबसे ज्यादा चर्चा अरुण कुमार भारती को लेकर है।क्योंकि उन पर लगातार यह आरोप लगता रहा है कि वो बाहरी हैं और उनकी पहचान बस चिराग पासवान (Chirag Paswan) के परिवार का सदस्य होना है। अरुण कुमार भारती की अपनी कोई पहचान नहीं है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि अरुण कुमार भारती कौन हैं और उनकी अपनी पहचान क्या है? चलिए हम बताते हैंइंग्लैंड से की है मैनेजमेंट की पढ़ाईLocal 18 को दिए अपने खास इंटरव्यू में चिराग पासवान के जीजा अरुण कुमार भारती ने बताया कि लोग अक्सर यह पूछते हैं कि अरुण कुमार भारती कौन है? उन्होंने कहा कि अरुण कुमार एक भाई है, अपने पत्नी का पति है, दो बच्चों का पिता है। इसके साथ ही अरुण कुमार भारती ने जितने भी लोगों के साथ काम किया है वो उनके सहकर्मी है, सहयोगी हैं।अरुण कुमार भारती ने बताया कि उन्होंने बिरला पब्लिक स्कूल से इंटरमीडिएट की पढ़ाई की है। दिल्ली यूनिवर्सिटी के श्री राम कॉलेज आफ कामर्स से ग्रेजुएशन किया है। जबकि यूनाइटेड किंगडम (इंग्लैंड) की यूनिवर्सिटी आफ स्ट्रैटक्लैड (University of Strathclyde) से MBA की पढ़ाई की है।अरुण कुमार भारती राजनीति में आने से पहले बैंक में नौकरी भी कर चुके हैं, जबकि इसके बाद उन्होंने अपना बिजनेस भी शुरू किया था। बिजनेस शुरू करने के बाद जब चिराग पासवान के जीवन में उथल-पुथल मची, तब अरुण कुमार भारती भी उन लोगों में से थे, जो उनके साथ खड़े रहे। अरुण कुमार भारती चिराग के मुश्किल वक्त के सहयोगी रहे।चिराग के जीजा होने का नहीं मिला कोई फायदाअरुण कुमार भारती ने बताया कि जिस वक्त चिराग पासवान के ऊपर मुश्किल आन पड़ी थी, उस वक्त मैंने उनका साथ दिया, लेकिन मैं हमेशा परदे के पीछे रहा। मेरा यह मानना है कि जब आप कोई काम करते हैं, तब आपको परदे के पीछे ही रहना चाहिए फिर परिणाम आने के बाद, तो आपकी अपनी पहचान सामने आ ही जाती है।अरुण का कहना है, लोग अक्सर मुझ पर बाहरी होने का आरोप लगाते हैं, लेकिन मैं उनसे यह पूछना चाहूंगा कि जिन्होंने बिहारी शब्द को ऐसा बना दिया था कि लोग खुद को बिहारी बताने में गौरव महसूस नहीं करते थे। वो लोग आज मुझ पर बाहरी होने का आरोप लगा रहे हैं।रोहिणी आचार्य को टिकट मिलने पर उठाए सवालइस दौरान उन्होंने सारण से रोहिणी आचार्य को टिकट दिए जाने पर भी सवाल खड़े करते हुए कहा कि कुछ लोगों को विदेश से आने के 15 दिनों के बाद उम्मीदवारी मिल जाती है और कुछ लोग जो परदे के पीछे रहकर काम करते हैं, उन्हें बाहरी कहा जाता है।भारती ने कहा कि जब उनका चयन हो रहा था, तब उन्हें परिवार का सदस्य होने का कोई भी लाभ नहीं मिला। उन्होंने बताया कि चुनाव लड़ने की इच्छा जताई थी, तब चिराग पासवान ने कहा था की पूरी प्रक्रिया के तहत अगर टिकट फाइनल होता है, तभी चुनाव लड़ सकते हैं।इसके बाद उन्हें पूरी प्रक्रिया से गुजरना पड़ा और अपने आप को साबित करना पड़ा था, जिसके बाद उनका नाम प्रत्याशी के तौर पर चुना गया था।गौरतलब है कि अरुण कुमार भारती चिराग पासवान के बहनोई हैं और जमुई सीट से उम्मीदवार है। चिराग पासवान के सीट छोड़ने के बाद से ही ये सीट सुर्खियों में बनी हुई है और इसके बाद अरुण कुमार भारती को यहां से उम्मीदवारी मिली।रिपोर्ट: गुलशन कश्यप

मनी कण्ट्रोल 16 Apr 2024 8:54 pm

Paytm ने Payment Services यूनिट में निवेश का प्रस्ताव खारिज होने से इनकार किया

Paytm Payment Services: पेटीएम पेमेंट सर्विसेज ने अपने लाइसेंस एप्लिकेशन को टाले जाने और संभावित पेनाल्टी की अटकलों के बीच स्पष्टीकरण जारी किया है। कंपनी ने 16 अप्रैल को एक ब्लॉग पोस्ट में कहा कि उसे इस सिलसिले में कोई सूचना नहीं मिली है।पेटीएम के प्रवक्ता ने बताया, 'मौजूदा एप्लिकेशन प्रोसेस के अनुरोध के बारे में हम बताना चाहते हैं कि इसमें नामंजूरी या जुर्माने का कोई संकेत नहीं है। सरकार के नजरिये के अनुरूप, घरेलू इकाई के रूप में पेटीएम का समर्थन करना भारतीय कंपनियों के सशक्तिरण के लिए अहम है, ताकि वे ग्लोबल स्तर पर प्रतिस्पर्धा कर सकें और तकनीकी विकास को बढ़ावा दे सकें।'पेटीएम पेमेंट सर्विसेज का यह बयान उस रिपोर्ट के बाद आया है, जिसमें सरकारी अधिकारियों के हवाले से कहा गया था कि सरकार ने पेटीएम पेमेंट सर्विसेज में पेटीएम के 50 करोड़ रुपये निवेश की मंजूरी को टाल दिया है। रिपोर्ट में कहा गया था कि पैरेंट कंपनी में चाइनीज शेयरहोल्डिंग की चिंताओं को ध्यान में रखते हुए ऐसा किया गया है। पेटीएम (वन97 कम्युनिकेशंस) पैरेंट कंपनी है, जबकि पेटीएम पेमेंट सर्विसेज (Paytm Payment Services) उसकी इकाई।गृह मंत्रालय ने जनवरी में ही निवेश को मंजूरी दे दी थी, लेकिन एक रिपोर्ट में अधिकारियों और दस्तावेजों के हवाले से बताया गया है कि विदेश मंत्रालय ने 'राजनीतिक आधार' का हवाला देते हुए इसे खारिज कर दिया था। पेटीएम ने इस रिपोर्ट पर अपनी प्रतिक्रिया में 16 अप्रैल को कहा, ' OCL के सभी बोर्ड मेंबर और KMPs (की मैनेजेरियल पर्सनल) भारतीय मूल के हैं। जैसा कि स्पष्ट किया गया है कि PPSL का गठन, ऑनलाइन पेमेंट्स बिजनेस का ट्रांसफर और 50 करोड़ रुपये का निवेश रिजर्व बैंक के नियमों का पालन सुनिश्चित करने के लिए किया गया।'पेटीएम की पैरेंट कंपनी वन97 कम्युनिकेशंस (One 97 Communications) रिजर्व बैंक की निगरानी में है। बैंकिंग रेगुलेटर ने जनवरी में अपने पेमेंट्स बैंक को बंद करने का निर्देश दिया था। रिपोर्ट में लाइसेंस ऐप्लिकेशन को टाले जाने की यही वजह बताई गई है।

मनी कण्ट्रोल 16 Apr 2024 8:52 pm

Petrol-Diesel Sales: अप्रैल के पहले पखवाड़े में पेट्रोल की बिक्री बढ़ी, डीजल की मांग घटी

डीजल भारत में सबसे अधिक खपत वाला ईंधन है जो सभी पेट्रोलियम उत्पादों की खपत का लगभग 40 प्रतिशत है। देश में डीजल बिक्री में परिवहन क्षेत्र की हिस्सेदारी 70 प्रतिशत है। इस दौरान विमानों में इस्तेमाल होने वाले ईंधन की बिक्री सालाना आधार पर 10.4 प्रतिशत बढ़कर 335700 टन हो गई। पेट्रोल और डीजल की तरह एटीएफ की मांग भी अब कोरोना पूर्व स्तर से अधिक हो चुकी है।

जागरण 16 Apr 2024 8:51 pm

सटीक इनपुट, तगड़ा कोऑर्डिनेशन; 29 नक्सलियों को ढेर करने में कैसे मिली कामयाबी?

Chhattisgarh 29 Maoists killed in Kanker: छत्तीसगढ़ के कांकेर में सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में कम से कम 29 नक्सली मारे गए हैं। सुरक्षा बलों ने कैसे चलाया ऑपरेशन जानने के लिए पढ़ें यह रिपोर्ट...

लाइव हिन्दुस्तान 16 Apr 2024 8:49 pm

GDP Data: सरपट दौड़ रही भारत की इकोनॉमी, IMF ने बढ़ाया ग्रोथ रेट का अनुमान; चीन को लगी म‍िर्ची

IMF: आईएमएफ की तरफ से चीन का इकोनॉम‍िक ग्रोथ रेट 4.6 प्रतिशत रहने का अनुमान जताया गया है. आईएमएफ ने वर्ल्‍ड इकोनॉम‍िक आउटलुक के हाल‍िया संस्करण में कहा, भारत में ग्रोथ रेट साल 2024 में 6.8 प्रतिशत और 2025 में 6.5 प्रतिशत रहने का अनुमान जताया है.

ज़ी न्यूज़ 16 Apr 2024 8:48 pm

गजब की सरकारी योजना... 2 साल में महिलाओं को मिलेगा इतना पैसा!

यह सरकारी योजना शानदार ब्‍याज ऑफर करती है. खास बात ये है कि इस योजना के तहत कम से कम इन्‍वेस्‍टमेंट करके महिलाएं अच्‍छा रिटर्न बना सकती हैं. साथ ही इसपर टीडीएस कटौती भी लागू नहीं होती है.

आज तक 16 Apr 2024 8:35 pm

Delhi : करोल बाग, नजफगढ़ के होटलों ने मतदाताओं को 20 प्रतिशत छूट की घोषणा की

नयी दिल्ली । लोकसभा चुनाव में मतदान का प्रतिशत बढ़ाने के लिए दिल्ली के करोल बाग और नजफगढ़ क्षेत्र के होटलों ने 20 प्रतिशत छूट देने की घोषणा की है। अधिकारियों ने मंगलवार को बताया कि यह छूट पात्र मतदाताओं को दी जाएगी। दिल्ली में लोकसभा चुनाव 25 मई को होने हैं। करोल बाग क्षेत्र के उपायुक्त अभिषेक मिश्रा ने कहा, ‘‘यह पहल लोकतंत्र को मजबूत करने और नागरिकों की जिम्मेदारी को बढ़ावा देने में मतदाताओं की महत्वपूर्ण भूमिका को रेखांकित करती है।’’ इस योजना के तहत मतदाताओं को छूट का लाभ लेने के लिए अपनी उंगली पर स्याही का निशान दिखाकर मतदान करने का प्रमाण देना होगा। उन्होंने यह भी कहा कि दिल्ली नगर निगम (एमसीडी) का सार्वजनिक स्वास्थ्य विभाग भी इसी तरह की आकर्षक पेशकश की संभावना तलाशने के लिए करोल बाग क्षेत्र में व्यापारियों से संपर्क कर रहा है। नजफगढ़ क्षेत्र के उपायुक्त बादल कुमार ने भी महिपालपुर के होटल एवं गेस्ट हाउस संघ से मतदाताओं को छूट देने के लिए कहा है। उन्होंने कहा कि पात्र मतदाता वोट डालने के 24 घंटे के भीतर बुकिंग करके छूट का लाभ ले सकते हैं।

प्रभासाक्षी 16 Apr 2024 8:29 pm

शेयर बाजार में हाहाकार से तीन दिन में 7.93 लाख करोड़ घटी निवेशकों की संपत्ति

देश का शेयर व मुद्रा बाजार वैश्विक तनाव के फैलने की अनिश्चतता में है। मंगलवार को मुंबई शेयर बाजार का सूचकांक सेंसेक्ट में 0.62 फीसद और निफ्टी में 0.56 फीसद की गिरावट दर्ज की गई है। सेंसेक्स कुल 456 अंकों की गिरावट के साथ 72944 अंकों पर और निफ्टी 125 अंकों की गिरावट के साथ 22148 अंकों के स्तर पर बंद हुआ है।

जागरण 16 Apr 2024 8:24 pm

Loksabha Chunav 2024: चुनाव में जीत के लिए ये अनुष्ठान आएगा काम, चुनावी मैदान के शत्रु होंगे परास्त!

Loksabha Chunav 2024: देशभर में लोकसभा चुनाव (Loksabha Election 2024) का माहौल अपने चरम पर है। ऐसे में आपको हर तरफ से नेताओं के आरोप-प्रत्यारोप और पार्टियों के लोकलुभावन वादों की खबरें आ रही हैं। जाहिर चुनाव जीतने के लिए प्रत्याशी साम, दाम, दंड, भेद की नीति अपना रहे हैं। सनातन धर्म मे मंत्र, जप और तप का विशेष महत्व है। हिंदी पंचाग में इसके लिए कुछ तिथियों को बेहद खास माना जाता है। ऐसे में चुनावी साल वाले इस सीजन में चुनावी शत्रुओं को परास्त करने के लिए भी कई प्रयोग और अनुष्ठान राजसत्ता से जुड़े लोग करते है।लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections 2024) की सरगर्मी की शुरुआत के साथ इसका प्रयोग भी शुरू हो गया है। वैसे तो कई लोग इसमें विश्वास रखते, तो कई ऐसे भी हैं, जो ये सब नहीं मानते हैं। इसलिए हम ये फैसला आपके ऊपर ही छोड़ते हैं। आइए जानते हैं काशी के ज्योतिषाचार्य से उन अनुष्ठानों के बारे में, जिससे चुनावी मैदान में शत्रुओं का पराजय होता है।पंडित संजय उपाध्याय ने बताया कि बगलामुखी पूजा से सभी तरह के भय और शत्रुओं पर विजय पाई जा सकती है। राजनीति के क्षेत्र में भी तमाम बाधाओं को दूर करने के लिए लोग इसका प्रयोग करते है। यह अनुष्ठान गुप्त तरीके से देश के कुछ प्रमुख शक्तिपीठों में किया जाता है, तो इसका फल मिलता है.मिलता है विशेष लाभसंजय उपाध्याय के मुताबिक, बगलामुखी देवी की साधना, आराधना और मंत्र जाप से राजनीति के क्षेत्र में विशेष लाभ मिलता है। शास्त्रों के अनुसार, माता बगलामुखी चित शक्ति की देवी है। इनके पूजा से किसी भी क्षेत्र में शत्रुओं को परास्त किया जा सकता है।गुप्त तरीके से करनी चाहिए साधनामाता बगलामुखी किसी भी क्रिया को विपरीत कर शत्रुओं को पराजित करती हैं। इसलिए अगर विद्वान ब्राह्मणों की तरफ से गुप्त तरीके से योग वैदिक पद्धति से इनका अनुष्ठान कराया जाए, तो इसका फल निश्चित तौर पर मिलता है।इन जगहों पर होता है देवी का अनुष्ठानइस अनुष्ठान के लिए मध्यप्रदेश के आगर जिले के नलखेड़ा में स्थित माता बगलामुखी देवी का मंदिर सबसे उपयुक्त है। इसके अलावा काशी में भी चौक क्षेत्र की गलियों में देवी का प्राचीन मंदिर है। मध्यप्रदेश और काशी के अलावा मिर्जापुर के विंध्यवासिनी मंदिर, असम के गुवाहाटी में स्थित कामख्या देवी, मुंडेश्वरी देवी सहित कई शक्तिपीठ है, जहां इन अनुष्ठानों के करने का फल प्राप्त होता है।

मनी कण्ट्रोल 16 Apr 2024 8:18 pm

क्‍या है Form 16, इनकम टैक्‍स रिटर्न भरने के लिए इतना जरूरी क्‍यों?

ITR Filing : इनकम टैक्‍स रिटर्न भरने का टाइम शुरू हो चुका है और हर कोई फॉर्म 16 का इंतजार कर रहा है. ऐसे में सवाल उठता है कि आखिर फॉर्म 16 इतना जरूरी क्‍यों होता है. क्‍या इसके बिना आप इनकम टैक्‍स रिटर्न फाइल नहीं कर सकते हैं.

न्यूज़18 16 Apr 2024 8:12 pm

2023 में दुनिया का 10वां सबसे बिजी एयरपोर्ट रहा दिल्ली का IGI, देखिए लिस्ट

टॉप-10 सबसे व्यस्त एयरपोर्ट्स में 5 अमेरिका में हैं. दिल्ली एयरपोर्ट ने 2023 में 7.22 करोड़ से अधिक यात्रियों को संभाला.

न्यूज़18 16 Apr 2024 7:57 pm

इस छोटी कंपनी को सरकार से मिला ₹233 करोड़ का ऑर्डर, शेयर खरीदने की लूट, 20% का लगा अपर सर्किट

Small Cap Stock: स्मॉलकैप स्टॉक डायनाकन्स सिस्टम्स के शेयर (Dynacons Systems Share) आज मंगलवार को फोकस में थे। कंपनी के शेयरों में आज 20% का अपर सर्किट लग गया और यह 1133.40 रुपये के 52 वीक हाई पर पहुंच गया।

लाइव हिन्दुस्तान 16 Apr 2024 7:50 pm

Vodafone Idea के FPO में पैसा लगाएं या नहीं? पहले जान लें एक्सपर्ट्स की राय

Vodafone Idea FPO: इन दिनों शेयर बाजार में सबसे ज्यादा चर्चा Vodafone Idea की हो रही है। दरअसल, Vodafone Idea जल्द ही अपना FPO लेकर आ रहा है। इस FPO के जरिए कंपनी की ओर से 18 हजार करोड़ रुपये का फंड जुटाया जाएगा। इतना बड़ा FPO होने के कारण लोगों की नजरें इस पर बनी हुई है। इसके साथ ही निवेशकअभी भी असमंजस में बने हुए हैं कि उन्हें इस FPO में इंवेस्टमेंट करनी चाहिए या नहीं? ऐसे में एक्सपर्ट्स ने इस पर अपनी राय दी है। आइए जानते हैं इसके बारे में...FPOवोडाफोन आइडिया का 18000 करोड़ का फॉलो-ऑन पब्लिक ऑफर 18 अप्रैल को 10 रुपये प्रति शेयर की न्यूनतम कीमत पर खुलेगा, जिसकी अधिकतम सीमा 11 रुपये होगी। कंपनी ने एक एक्सचेंज फाइलिंग में कहा कि ऑफर 22 अप्रैल को बंद हो जाएगा। कंपनी ने एफपीओ के लिए जेफ़रीज़, एसबीआई कैप्स और एक्सिस कैपिटल को लीड मैनेजर्स के रूप में लिस्ट किया है। वहीं एक्सपर्ट्स का कहना है किफंडिंग से वोडाफोन आइडिया काइंफ्रास्ट्रक्चरमजबूत हो सकता है, लेकिन कंपनी को वित्तीय मोर्चे पर चुनौतियों का सामना करना पड़ेगा। साथ ही एक्सपर्ट्स का कहना है कि लोन देने वालों के लिए ये FPO फायदेमंद साबित हो सकता है लेकिन शेयरहोल्डर्स के लिए ये फायदेमंद नहीं होगा।कोटककोटक इंस्टीट्यूशनल इक्विटीज कंपनी के इस FPO पर पॉजिटिव बना हुआ है। इसका कहना है कि इस FPO से कंपनी अपने प्रतिस्पर्धियों को कड़ी टक्कर देने की स्थिति में आ सकती है। साथ ही बैंक लोन कम होगा, जिससे कंपनी फ्रेश लोन लेने जाए तो उसको दिक्कत का सामना नहीं करना पड़ेगा। हालांकि कोटक इस बात से थोड़ा चिंतित है कि इससे टेलीकॉम सेक्टर में कंपनी की बाजार हिस्सेदारी बढ़ाने में मदद मिलेगी या नहीं।कोटक को उम्मीद है कि वोडाफोन आइडिया समय के साथ भारत सरकार के बकाया के एक बड़े हिस्से को इक्विटी में बदल देगी, जिससे संभावित रूप से VI के गैर-भारत सरकार के निवेशकों के लिए बड़ी इक्विटी कमजोर पड़ सकती है।स्वास्तिक इंवेस्टमार्टवहीं स्वास्तिक इंवेस्टमार्ट की वेल्थ हेड शिवानी न्याति का कहना है कि 15-17% की छूट के बावजूद VI के निकट अवधि के पुनरुद्धार का रास्ता साफ नहीं है और ये काफी अनसर्टेन लगता है। फंडिंग हासिल करने से कंपनी का इंफ्रास्ट्रक्चर ठीक हो सकता है लेकिन फाइनेंशियली कंपनी को दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। 2026 में संभावित वित्तीय संकट मंडराने लगेगा जब 4 बिलियन डॉलर तक का महत्वपूर्ण स्पेक्ट्रम और AGR बकाया देय हो जाएगा।डिस्क्लेमर: मनीकंट्रोल.कॉम पर दी गई राय एक्सपर्ट की निजी राय होती है। वेबसाइट या मैनेजमेंट इसके लिए जिम्मेदार नहीं है। यूजर्स को मनीकंट्रोल की सलाह है कि निवेश से जुड़ा कोई भी फैसला लेने से पहले सर्टिफाइड एक्सपर्ट की सलाह लें।

मनी कण्ट्रोल 16 Apr 2024 7:44 pm

'तीसरी बड़ी अर्थव्यवस्था बन भी गया भारत, तो भी बनी रहेगी ये समस्या'

आरबीआई के पूर्व गवर्नर डी. सुब्बाराव ने कहा है कि भारत तीसरी बड़ी अर्थव्यवस्था बन सकता है लेकिन यह उत्सव मनाने वाली बात नहीं है. उन्होंने कहा कि एक बड़ी समस्या तब भी बनी रह सकती है.

न्यूज़18 16 Apr 2024 7:43 pm

IMF ने बढ़ाया भारत की GDP ग्रोथ का अनुमान, FY25 में विकास दर 6.8% रहने की उम्मीद

इंटरनेशनल मॉनेटरी फंड (IMF) ने भारत के लिए FY25 की जीडीपी ग्रोथ रेट अनुमान में बढ़ोतरी की है। IMF ने इसे 30 बेसिस प्वाइंट बढ़ाकर 6.8 फीसदी कर दिया है। IMF ने इसके पहले FY25 में देश की अर्थव्यवस्था 6.5 फीसदी की दर से बढ़ने की उम्मीद जताई थी। IMF ने आज 16 अप्रैल को घरेलू मांग की स्थिति और बढ़ती कामकाजी उम्र की आबादी का हवाला देते हुए भारत के लिए विकास दर अनुमान में बढ़ोतरी की है। इसके साथ, भारत दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था बना हुआ है, जो इसी अवधि के दौरान चीन के 4.6% के विकास अनुमान से आगे है।2026 में GDP ग्रोथ रेट6.5 फीसदीरहने की उम्मीदआईएमएफ का मानना है कि वित्त वर्ष 2026 में भारत की जीडीपी वृद्धि दर 6.5 फीसदी रहेगी। ग्लोबल फाइनेंशियल एजेंसी का अनुमान है कि FY25 में भारत की खुदरा मुद्रास्फीति 4.6% और FY26 में 4.2% रहेगी। आईएमएफ द्वारा जारी वर्ल्ड इकोनॉमिक आउटलुक के लेटेस्ट एडिशन में कहा गया, भारत में विकास दर 2024 में 6.8% और 2025 में 6.5% रहने का अनुमान है, यह घरेलू मांग में लगातार मजबूती और कामकाजी उम्र की बढ़ती आबादी को दर्शाती है।इसके साथ ही, उभरते और विकासशील एशिया में ग्रोथ 2023 में अनुमानित 5.6 फीसदी से घटकर 2024 में 5.2 फीसदी और 2025 में 4.9 फीसदी होने की उम्मीद है। IMF ने कहा, चीन में विकास दर 2023 में 5.2 फीसदी से धीमी होकर 2024 में 4.6% और 2025 में 4.1% होने का अनुमान है।”आईएमएफ ने 16 अप्रैल को कहा कि ग्लोबल इकोनॉमी धीमी लेकिन स्थिर वृद्धि के एक और वर्ष के लिए तैयार है। आईएमएफ ने 2024 और 2025 के लिए ग्लोबल रियल जीडीपी ग्रोथ 3.2 फीसदी होने का अनुमान लगाया है - जो 2023 के समान दर है।IMF के चीफ इकोनॉमिस्ट ने क्या कहा?आईएमएफ के चीफ इकोनॉमिस्ट पियरे-ओलिवियर गौरींचस ने कहा, हमने पाया है कि ग्लोबल इकोनॉमी काफी लचीली बनी हुई है। उन्होंने कहा कि कई देशों ने मंदी की निराशाजनक भविष्यवाणियों को खारिज कर दिया है क्योंकि केंद्रीय बैंकों ने मुद्रास्फीति से लड़ने के लिए ब्याज दरों में बढ़ोतरी की है। आईएमएफ ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि कई देशों में कोविड-19 महामारी और जीवन-यापन की लागत संबंधी संकटों का असर कम दिखाई दे रहा है। इसके साथ ही उत्पादन भविष्यवाणी की तुलना में महामारी के पहले के लेवल पर तेजी से लौट रहा है।

मनी कण्ट्रोल 16 Apr 2024 7:42 pm

Seema-Sachin Love Story: सीमा हैदर की बढ़ सकती हैं मुश्किलें, पाकिस्तानी पति की याचिका पर कोर्ट ने किया तलब

Seema Haider-Sachin Love Story: अपने प्रेमी के साथ रहने के लिए बच्चों के साथ नेपाल के रास्ते अवैध रूप से भारत आने वाली पाकिस्तानी महिला सीमा हैदर (Seema Haider) और उसके भारतीय पति सचिन मीणा (Sachin Meena) की मुश्किलें एक बार फिर बढ़ सकती हैं। सीमा हैदर को नोएडा की एक फैमिली कोर्ट ने तलब किया है। उन्हें 27 मई को अदालत में पेश होने के लिए कहा गया है। दरअसल, सीमा के पाकिस्तान पति गुलाम हैदर के वकील ने सूरजपुर कोर्ट में सीमा, सचिन और सचिन के पिता नेत्रपाल के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने की अर्जी दायर की है।अदालत ने जेवर पुलिस को नोटिस जारी करते हुए 18 अप्रैल तक जवाब दाखिल करने का आदेश दिया है। गुलाम हैदर के वकील ने 20 के करीब धाराओं में मुकदमा दर्ज करने की अपील की है। खास बात यह है कि सीमा और सचिन की शादी को गुलाम हैदर ने एक छलावा बताया है। सीमा की पहली शादी गुलाम हैदर से हुई थी।फिर वह मई 2023 में अपने 4 नाबालिग बच्चों के साथ सचिन के साथ रहने के लिए भारत के ग्रेटर नोएडा आई थी। कपल ने दावा किया था कि उनकी मुलाकात मोबाइल गेम PUBG खेलते समय हुई थी। बाद में उन्होंने पिछली मुलाकात के दौरान नेपाल की राजधानी काठमांडू में शादी करने का दावा किया था। उन्होंने पिछले महीने अपनी पहली शादी की सालगिरह भी मनाई।पहले 3 करोड़ का भेज चुका है नोटिसइससे पहले, पाकिस्तानी पति गुलाम हैदर के वकील ने सीमा और सचिन को 3 करोड़ रुपये का नोटिस भेजा था। इसके अलावा सीमा और सचिन के वकील डॉ. एपी सिंह को भी 5 करोड़ रुपये का नोटिस भेजा था। सीमा हैदर के पाकिस्तानी पति की ओर से वकील ने तीनों को करोड़ों के नोटिस भेजकर एक महीने के अंदर माफी मांगने की मांग की है। जुर्माना जमा नहीं करने पर कानूनी कार्रवाई शुरू करने की भी चेतावनी दी है।ये भी पढ़ें- 'मोदी क्या खुद आंबेडकर भी नहीं बदल सकते भारत का संविधान', पीएम ने कांग्रेस पर लगाया झूठ फैलाने का आरोपआईएएनएस के मुताबिक, सीमा के पाकिस्तानी पति गुलाम हैदर ने हरियाणा के पानीपत के सीनियर वकील मोमिन मलिक को नियुक्त किया है। कराची में रहने वाले सीमा के पाकिस्तानी पति गुलाम हैदर ने सचिन के साथ सीमा की शादी की वैधता को चुनौती देते हुए पिछले महीने फैमिली कोर्ट में याचिका दायर की थी। गुलाम हैदर सऊदी अरब में काम कर रहे थे, जब उनकी पत्नी सीमा दुबई और नेपाल के रास्ते भारत आईं।

मनी कण्ट्रोल 16 Apr 2024 7:39 pm

यूपी में फिर भाजपा की बल्ले-बल्ले, बसपा का सूपड़ा साफ; सर्वे में अखिलेश यादव के लिए खुशखबरी

INDIA को 12 सीटें मिल रही हैं। पिछली बार 5 सीटें जीतने वाली समाजवादी पार्टी (सपा) अपनी सीटों की संख्या दोगुनी से ज्यादा कर सकती है। यानी अखिलेश यादव के नेतृत्व वाली सपा इस बार 11 सीटें जीत सकती हैं।

लाइव हिन्दुस्तान 16 Apr 2024 7:36 pm

सरपट दौड़ रहा भारत और दुनिया आई 'घुटनों' पर, IMF भी हुआ हमारा मुरीद

Indian GDP: दुनिया भर में भारतीय अर्थव्यवस्था का डंका बज रहा है. आईएमएफ ने कैलेंडर ईयर 2024 के लिए भारत के विकास दर अनुमान को बढ़ाकर 6.8 फीसदी कर दिया है.

न्यूज़18 16 Apr 2024 7:27 pm

गेहूं समेत अन्य फसलों पर नहीं दिख रहा है बारिश का प्रभाव, कटाई जोरशोर से जारी : Agriculture Ministry

नयी दिल्ली । गेहूं और अन्य मुख्य रबी फसलों पर हाल की बारिश के प्रभाव की फिलहाल कोई रिपोर्ट नहीं है, और कटाई पूरे जोरशोर से जारी है। कृषि मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों ने मंगलवार को यह जानकारी दी। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने भविष्यवाणी की है कि ताजा पश्चिमी विक्षोभ के कारण कई राज्यों में बारिश और ओलावृष्टि जारी रहेगी। आईएमडी के अनुसार, 18-21 अप्रैल के दौरान एक ताजा पश्चिमी विक्षोभ द्वारा उत्तर पश्चिम भारत को प्रभावित करने की संभावना है और पूर्वी बिहार, पूर्वोत्तर असम, रायलसीमा और दक्षिण तमिलनाडु पर बने एक चक्रवाती परिसंचरण के कारण अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश, आंधी के साथ बिजली गिरने का भी खतरा है। कृषि आयुक्त पी के सिंह ने पीटीआई-को बताया, ‘‘फिलहाल, बारिश के कारण गेहूं और अन्य फसलों को नुकसान की कोई रिपोर्ट नहीं है। वास्तव में इस बारिश से चावल जैसी जायद (ग्रीष्मकालीन) फसलों को मदद मिलेगी।’’ गेहूं की फसल पर ताजा पश्चिमी विक्षोभ के संभावित प्रभाव पर आईसीएआर-भारतीय गेहूं और जौ अनुसंधान संस्थान (आईसीएआर-आईआईडब्ल्यूबीआर) के निदेशक ज्ञानेंद्र सिंह ने कहा, ‘‘आने वाले दिनों में इन राज्यों में संभावित बारिश या तूफान से फसल पर कोई असर नहीं पड़ेगा। इस समय चिंता करने की कोई ज़रूरत नहीं है।’’ उन्होंने कहा कि पंजाब और हरियाणा में गेहूं की कटाई अभी शुरू हुई है। सिंह ने कहा, ‘‘एक सप्ताह के भीतर, इन दोनों राज्यों में लगभग 95 प्रतिशत गेहूं की फसल काट ली जाएगी। कटाई तेजी से की जाती है क्योंकि किसान कंबाइन हार्वेस्टिंग मशीनों का उपयोग करते हैं। इस तरह हम काफी बेहतर स्थिति में हैं।’’ आईसीएआर-आईआईडब्ल्यूबीआर के निदेशक ने आगे कहा कि उत्पादकता का स्तर काफी अच्छा है, जिससे फसल वर्ष 2023-24 (जुलाई-जून) में 11.4 करोड़ टन का रिकॉर्ड गेहूं उत्पादन हुआ है। देर से बोई गई गेहूं की फसल, जो इस साल कुल तीन करोड़ 41.5 लाख हेक्टेयर रकबे के 15 प्रतिशत भाग में बोई गई है, एक सप्ताह के समय में कटाई के लिए तैयार हो जाएगी। उन्होंने कहा कि यह फसल अच्छी तरह से परिपक्व हो गई है।

प्रभासाक्षी 16 Apr 2024 7:22 pm

Vodafone Idea FPO: देश के सबसे बड़े FPO का क्या है अदाणी एंटरप्राइजेज से कनेक्शन

वोडाफोन आइडिया का FPO 18 अप्रैल को खुल रहा है। यह FPO यानि फॉलो ऑन ऑफर 18,000 करोड़ रुपए का है। इसके मायने हैं कि अगर यह इश्यू कामयाब होता है तो यह देश का सबसे बड़ा FPO होगा। इससे पहले जुलाई 2020 में Yes Bank का 15,000 करोड़ रुपए का FPO आया था जो अब तक देश का सबसे बड़ा FPO था। हालांकि एक इश्यू Yes Bank और वोडाफोन आइडिया, दोनों से बड़ा था लेकिन पूरा भरने के बाद भी कैंसल हो गया। इससे पहले कि हम इन दोनों इश्यू के बारे में बताएं आप हमें कॉमेंट बॉक्स में बताइए कि क्या आप इस FPO में पैसा लगाएंगे।सबसे पहले बात कर लेते हैं कि अदाणी एंटरप्राइजेज की। क्योंकि इसने भी फरवरी 2023 में 20,000 करोड़ रुपए का FPO जारी किया था। तब ये इश्यू पूरी तरह सब्सक्राइब भी हो गया था लेकि बाद में इसे कैंसल कर दिया।तो उसके बाद अब Vodafone Idea अपना 15,000 करोड़ FPO लेकर आ रही है। अगर अदाणी एंटरप्राइजेज का इश्यू रद्द नहीं होता तो Vodafone Idea का IPO पहला नहीं बल्कि दूसरा सबसे बड़ा इश्यू होता। अब Vodafone Idea के FPO के बारे में जान लेते हैं क्योंकि अगर आपने इसमें निवेश करना चाहते हैं तो उससे पहले इसकी डिटेल जानना भी जरूरी है। खासतौर पर ऐसे समय में जब शेयर बाजार में लगातार गिरावट बनी हुई है।सबसे पहले Vodafone Idea के FPO से जुड़े जोखिमों की बात कर लेते हैं क्योंकि बाकी चीजों के बारे में आपको कुछ ना कुछ तो जरूर पता होगा। 31 दिसंबर 2023 तक के डेटा के मुताबिक, कंपनी को वेंडर्स और खासतौर पर टावर वेंडर्स और इक्विपमेंट सप्लायर्स का बड़ा बकाया चुकाना है। अगर कंपनी ये बकाया नहीं चुका पाती है तो उसकी मुश्किल बढ़ सकती है। वहीं हाल की तिमाहियों कंपनी को लगातार घाटा उठाना पड़ा है। ऐसे में इस बात की उम्मीद कम है कि कंपनी को आने वाले समय में तगड़ा मुनाफा हो सकता है। इन सबके साथ कंपनी पर बहुत ज्यादा कर्ज है जो आने वाले दिनों में इसकी चुनौतियां बढ़ा सकती हैं।जोखिम के बाद अब हम Vodafone Idea के FPO से जुड़ी दूसरी जानकारियों के बारे में बात कर लेते हैं।वोडाफोन आइडिया का FPO आगामी 18 अप्रैल को खुलेगा और 22 अप्रैल 2024 को बंद होगा।FPO के लिए 10 से 11 रुपये प्रति शेयर का प्राइस बैंड तय किया गया है।यह FPO पूरी तरह से फ्रेश इश्यू है। यानी इस FPO के जरिए जुटाई गई सारी रकम कंपनी के खाते में जाएगी। FPO का करीब 50 प्रतिशत क्वालिफाइड इंस्टीट्यूशनल बायर्स (QIB) के लिए, 15 प्रतिशत हिस्सा नॉन-इंस्टीट्यूशनल इनवेस्टर्स (NII) के लिए और बाकी 35 प्रतिशत हिस्सा रिटेल निवेशकों के लिए रिजर्व है।अगर हम Vodafone Idea के लॉट साइज की बात करें तो एक लॉट में 1,298 शेयर होंगे। 11 रुपए के अपर प्राइस बैंड के हिसाब से देखें तो एक लॉट यानी 1,298 शेयरों के लिए कम से कम 14,278 रुपए चुकाना होगा।वोडाफोन आइडिया, देश की तीसरी सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी है। देश में कस्टमर्स की संख्या के आधार पर देखें तो यह दुनिया की छठी सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी है। यह 2G, 3G और 4G टेक्नोलॉजी पर वॉयस, डेटा, एंटरप्राइज और SMS सहित दूसरी वैल्यू-एडेड सेवाएं मुहैया कराती है।वोडाफोन आइडिया को वित्त वर्ष 2024 के पहले 9 महीनों (अप्रैल-दिसंबर 2023) के दौरान 23,564 करोड़ रुपये का घाटा हुआ। वहीं कंपनी का रेवेन्यू बढ़कर 32,045 करोड़ रुपये रहा। कंपनी का प्रति यूजर्स औसत रेवेन्यू बढ़कर 145 रुपये हो गया। दिसंबर 2023 के अंत तक कंपनी पर 2.15 लाख करोड़ रुपये का कर्ज था। साल 2024 में कंपनी पर 5,385.4 करोड़ रुपये के कर्ज के चुकाने की जिम्मेदारी है।वोडाफोन आइडिया के FPO के बुक-रनिंग लीड मैनेजर की जिम्मेदारी जेफरीज, एक्सिस कैपिटल और SBI कैपिटल मार्केट है। अब देखना है कि ये मैनेजर कंपनी के FPO को कितना कामयाब बना पाते हैं। इस FPO के तहत शेयरों का आवंटन 23 अप्रैल को होगा। जिन लोगों को वोडाफोन आइडिया का इश्यू अलॉट होगा उनके डीमैट खाते में 24 अप्रैल तक शेयर क्रेडिट हो जाएंगे।इन सबके साथ एक अहम बात ये है कि..क्या आप जानते हैं कंपनी FPO से जुटाए फंड का इस्तेमाल कहां करेगी।इस मामले में वोडाफोन आइडिया ने बताया कि वह FPO के जरिए जुटाई गई रकम में से 12,750 करोड़ रुपये का नई 4G साइट्स लगाने, मौजूदा 4G साइट्स की कैपेसिटी बढ़ाने और नई 5G साइट्स लगाने में करेगी। वहीं 2,175.31 करोड़ रुपये का इस्तेमाल टेलीकॉम डिपार्टमेंट और GST डिपार्टमेंट को स्पेक्ट्रम का भुगतान करने में किया जाएगा। बाकी रकम का इस्तेमाल कंपनी दूसरे सामान्य कॉरपोरेट उद्देश्यों के लिए करेगी।Vodafone Idea के लिए अच्छी खबरइन सब बातों के अलावा वोडाफोन आइडिया के लिए एक अच्छी खबर भी है जिसका जिक्र करना बहुत जरूरी है। खबर है कि कंपनी के FPO को सरकार का समर्थन मिला है। CNBC-TV18 से एक्सक्लूसिव बात करते हुए वित्त सचिव टीवी सोमनाथन ने कहा कि बाजार में कई ऑपरेटरों के साथ कंपटीशन बनाए रखना सरकार की पॉलिसी का प्रमुख लक्ष्य है। अगर आपको याद हो तो .. वोडाफोन आइडिया में भारत सरकार की सबसे बड़ी हिस्सेदारी है। BSE पर मार्च तिमाही के शेयरहोल्डिंग पैटर्न के मुताबिक वोडाफोन आइडिया में सरकार की 32.19 फीसदी हिस्सेदारी है।वित्त सचिव सोमनाथन ने कहा कि सरकार वोडाफोन आइडिया की कैपिटल इनवेस्टमेंट प्लांस को देखकर खुश है। वित्त सचिव ने कहा, भारत की इकोनॉमिक ग्रोथ के लिए एक मजबूत टेलीकॉम सेक्टर की जरूरत है। हमें कंपटीशन बनाए रखने और कंज्यूमर्स की सुरक्षा के लिए कई ऑपरेटरों की जरूरत है। सचिव ने सेक्टर में कंपटीशन को बनाए रखने के सरकार के उद्देश्य पर भी बात की। उन्होंने कहा, प्रतिस्पर्धा को बनाए रखना सरकार का एक प्रमुख नीतिगत लक्ष्य है और यह सितंबर 2021 के टेलीकॉम पैकेज और BSNL में लार्ज कैप इनवेस्टमेंट से दिखता है।Vodafone IDEA के शेयर 16 अप्रैल को कारोबार के अंत में 1.90 फीसदी गिरकर 12.90 रुपए पर बंद हुए हैं। 17 अप्रैल को रामनवमी पर मार्केट बंद हैं और अब 18 अप्रैल को बाजार खुलेगा।

मनी कण्ट्रोल 16 Apr 2024 7:21 pm

Commodity market : पाम ऑयल के भाव 19 महीनों की ऊंचाई के करीब, क्या अभी और तेजी है बाकी!

Palm Oil price : इंटरनेशनल मार्केट में पाम ऑयल के दाम चढ़ रहे हैं। सिर्फ 2024 की शुरुआत से ही देखें तो कीमतों में 18 फीसी की तेजी आ चुकी है। वहीं देश में सोया और सनफ्लावर ऑयल का इंपोर्ट बढ़ा है। क्या हैं पाम की कीमतों में तेजी कारण, क्या पाम में अभी और तेजी बाकी है या फिर कीमतों में गिरावट आएगी और क्यों बढ़ रहा सोया और सनफ्लावर ऑयल का इंपोर्ट और क्या देश में खाने के तेल के दाम बढ़ने वाले हैं? इन सब पर बात करने के लिए आज सीएनबीसी-आवाज़ के साथ जुड़े Asia Palm Oil Alliance के चेयरमैन अतुल चतुर्वेदी, सिमे डार्बी ऑयल्स के सीईओ संदीप भान, अदाणी विल्मर के इंडिपेंडेंट डायरेक्टर दोराब मिस्त्री और IVPA के प्रसिडेंट सुधाकर देसाई।पॉम के भाव 19 महीनों की ऊंचाई के करीबसबसे पहले देख लेते हैं कैसी है पाम की चाल। पाम के भाव 19 महीनों की ऊंचाई के करीब कायम हैं। मलेशिया में 4279 रिंग्गित के ऊपर कारोबार हो रहा है। 1 अप्रैल को इसके दाम 4423 रिंग्गित तक पहुंच गए थे। इसके दाम 2024 के निचले स्तरों से 18 फीसदी चढ़ चुके हैं।कुछ सालों में तिलहन और दलहन में हो जाएंगे आत्मनिर्भरइस बीच फूड सेक्रेटरी संजीव चोपड़ा ने आवाज़ के साथ हुई बातचीत में कहा है कि इंटरनेशनल मार्केट में खाने के तेल के दाम चढ़े हैं। कीमतों में तेजी का असर सप्लाई पर नहीं पड़ा है। मलेशिया और इंडोनेशिया लेबर संकट से जूझ रहे हैं। सनफ्लावर ऑयल का फ्रेट कॉस्ट बढ़ गया है। रेड-सी संकट के कारण फ्रेट कॉस्ट बढ़ा है। फ्रेट कॉस्ट बढ़ने के बाद भी रिटेल दाम नहीं बढ़े हैं। ब्राजील में सोयाबीन की कोई कमी नहीं है। अर्जेंटीना में भी सोयाबीन का उत्पादन बढ़ा है। हम अगले कुछ सालों में तिलहन और दलहन में आत्मनिर्भर हो जाएंगे।4500 रिंग्गित तक पहुंच सकते हैं पाम ऑयल के दामसिमे डार्बी ऑयल्स के CEO संदीप भान का कहना है कि पाम ऑयल के फंडामेंटल्स में कोई बदलाव नहीं हुआ है। मलेशिया में CPO का अप्रैल स्टॉक काफी कम है। मलेशिया में 7.80 लाख टन का CPO स्टॉक है। भारत को एक्सपोर्ट के बाद 2.50 लाख टन CPO बचा है। बाजार में CPO की सप्लाई काफी कम है। अप्रैल, मई से पहले हालात सुधरने की उम्मीद कम है। भारत में सनफ्लावर, सोया ऑयल का इंपोर्ट बढ़ा है। पाम की मांग सनफ्लावर, सोया ऑयल की तरफ चली गई है। भारत में पाम की कोर मांग में कोई बदलाव नहीं आया है। पाम ऑयल की कोर मांग 5-6 लाख टन के बीच कायम है। स्पॉट बाजार में पाम ऑयल के दाम 4500 रिंग्गित के पास हैं। पाम ऑयल के लिए मई का महीना महत्वपूर्ण होगा। पाम की कीमतों में आगे तेजी की उम्मीद कायम है। पाम ऑयल के दाम 4500 रिंग्गित तक पहुंच सकते हैं।5-6 फीसदी बढ़ सकते हैं, सोया, सनफ्वालर ऑयल के दामIVPA के प्रेसिडेंट सुधाकर देसाई का कहना है कि 2-3 महीनों में खाने के तेल के दाम नहीं बढ़े हैं। इंटरनेशनल मार्केट में पाम ऑयल के दाम बढ़े हैं। स्पॉट बाजार में पाम ऑयल के दाम 1025 डॉलर पर हैं। स्पॉट बाजार में सोया ऑयल के दाम 972 डॉलर के आसपास हैं। स्पॉट बाजार में सनफ्लावर ऑयल के दाम 975 डॉलर पर हैं। मार्च में पाम ऑयल के दाम 4500 रिंग्गित तक पहुंचे थे। मलेशिया में 4100 रिंग्गित तक दाम गिर चुके हैं। पाम ऑयल का मई वायदा में भाव 995 डॉलर पर है। पाम की कीमतों में गिरावट की जरूरत है। भारत में सोया, सनफ्लावर ऑयल का इंपोर्ट बढ़ा है। पाम ऑयल का उत्पादन बढ़ने की उम्मीद है। अगले एक महीने तक दाम ऊपर रह सकते हैं। पाम ऑयल 4000 रिंग्गित के नीचे फिसल सकता है। अगले 6 महीने सॉफ्ट ऑयल की मांग बढ़ेगी। भारत में सोया, सनफ्लावर ऑयल की मांग बढ़ेगी। भारत में पाम ऑयल की मांग में गिरावट आएगी। कीमतों में रिबैलेंसिंग की काफी जरूरत है। सोया, सनफ्वालर ऑयल के दाम 5-6 फीसदी बढ़ सकते हैं। मई के बाद पाम ऑयल का उत्पादन बढ़ने की उम्मीद है। उत्पादन बढ़ने पर पाम की कीमतों में गिरावट आएगी। पाम की कीमतों में 50-60 डॉलर के गिरावट की जरूरत है।Commodity: पिछले सीजन के मुकाबले 18.3% ज्यादा गेहूं की होगी खरीद, चीनी की सप्लाई में कोई बाधा नहीं-फूड सेक्रेटरीदेश में खाने के तेल के दाम 5-10 फीसदी तक बढ़ सकते हैंअदाणी विल्मर के इंडिपेंडेंट डायरेक्टर दोराब मिस्त्री का कहना है कि। खाने के तेल के बाजार में तेजी जारी है। पाम ऑयल के दाम 4500 रिंग्गित के पार जा सकते हैं। पाम की कीमतों में तेजी मौसम पर निर्भर है। अमेरिका, कनाडा के मौसम पर नजर रखनी होगी। अमेरिका, कनाडा में सोयाबीन, सरसों की बुआई जारी है। अगले 3-4 महीनों में बुआई, फसल पर स्थिति साफ होगी। सोया, सरसों की बुआई और फसल पर पाम के दाम निर्भर करेंगे। बुआई और फसल घटने पर पाम के दाम चढ़ सकते हैं । भारत में भी खाने के तेल के दाम बढ़ सकते हैं। देश में खाने के तेल के दाम 5-10 फीसदी तक बढ़ सकते हैं। 2-3 सालों में पाम की उत्पादन लागत काफी बढ़ गई है। 1 टन पाम ऑयल बनने की लागत 2500-2800 रिंग्गित के बीच है। फर्टिलाइजर की कीमतों में भी इजाफा हुआ है। लागत के मुकाबले पाम के दाम उतने नहीं बढ़े हैं। अभी पाम ऑयल में 15-17 फीसदी की तेजी आई है। आने वाले समय में पाम ऑयल के दाम और बढ़ सकते हैं। युद्ध के कारण महंगाई आती है, दाम बढ़ जाते हैं।

मनी कण्ट्रोल 16 Apr 2024 7:21 pm

Loksabha Elections 2024: रणदीप सुरजेवाला के चुनाव प्रचार पर 48 घंटे का बैन, हेमा मालिनी पर बयान के बाद चुनाव आयोग ने की कार्रवाई

चुनाव आयोग ने हेमा मालिनी पर अनुचित टिप्पणी को लेकर कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला के खिलाफ कार्रवाई की है। आयोग ने 16 अप्रैल को शाम 6 बजे से अगले 48 घंटे तक सुरजेवाला के रैली और जनसभा करने पर पाबंदी लगा दी है। इस दौरान वह सार्वजनिक बैठकें, रोड शो, इंटरव्यू और मीडिया में सार्वजनिक बयान नहीं दे सकेंगे। कांग्रेस महासचिव और राज्यसभा सांसद रणदीप सुरजेवाला ने हरियाणा के कैथल (कुरुक्षेत्र लोकसभा क्षेत्र) में इंडिया गठबंधन के उम्मीदवार सुशील गुप्ता के समर्थन में एक जनसभा को संबोधित करते हुए बीजेपी की नेता और मथुरा सांसद हेमा मालिनी पर अभद्र टिप्पणी की थी।उन्होंने कहा था, 'हमें लोग विधायक, सांसद क्यों बनाते हैं? हम हेमा मालिनी तो हैं नहीं कि चाटने के लिए बनाते हैं।' बयान पर विवाद बढ़ने के बाद सुरजेवाला ने सफाई दी थी और कहा था कि उनका इरादा हेमा मालिनी का अपमान करना या उन्हें आहत करना नहीं था। चुनाव आयोग ने बीते 9 अप्रैल को कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला को हेमा मालिनी के खिलाफ अशोभनीय टिप्पणी के लिए कारण बताओ नोटिस जारी किया था।आयोग ने सुरजेवाला को जारी किया था नोटिसआयोग ने कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे से अपने नेताओं द्वारा सार्वजनिक सभाओं में महिलाओं का सम्मान और प्रतिष्ठा को बनाए रखने की सलाह का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करने के लिए उठाए गए कदमों पर भी प्रतिक्रिया मांगी थी। चुनाव आयोग ने सुरजेवाला को 11 अप्रैल तक नोटिस का जवाब देने को कहा था। वहीं खड़गे को 12 अप्रैल तक का समय दिया था। आयोग के नोटिस पर रणदीप सुरजेवाला ने कहा था कि बिना तारीख वाला वीडियो छेड़छाड़ करके सोशल सोशल मीडिया पर पोस्ट किया गया था। मेरा इरादा अभिनेत्री को अपमानित करने या ठेस पहुंचाने का नहीं था।कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला की टिप्पणी पर प्रतिक्रिया देते हुए हेमा मालिनी ने कहा था, 'उन्हें जो भी टिप्पणी करनी है, करने दीजिए. जनता मेरे साथ है। उनके द्वारा टिप्पणी करने से क्या होगा? मुझे इससे फर्क नहीं पड़ता. विपक्ष का काम ही बयानबाजी करना है। वे मेरे लिए अच्छी बातें नहीं करेंगे।' हेमा मालिनी मथुरा संसदीय सीट से बीजेपी की सांसद हैं और पार्टी ने इस बार भी उन्हें यहां से अपना उम्मीदवार बनाया है।

मनी कण्ट्रोल 16 Apr 2024 7:14 pm

रिकॉर्ड पर रिकॉर्ड बना रहा गोल्ड, आज फिर 700 रुपये उठा, चांदी ने भी दिखाया दम

गोल्ड की कीमतों में लगातार बढ़त बनी हुई है. तनावपूर्ण वैश्विक परिस्तिथितियों में निवेशक बचाव के लिए जो विकल्प ढूंढ रहे हैं वह उन्हें सोने में मिलता दिख रहा है.

न्यूज़18 16 Apr 2024 7:13 pm

India से iPhone का निर्यात 2023-24 में दोगुना होकर 12.1 अरब डॉलर पर : Trade Vision

नयी दिल्ली । भारत से एप्पल के आईफोन का निर्यात 2023-24 में लगभग दोगुना होकर 12.1 अरब अमेरिकी डॉलर हो गया। व्यापार आसूचना मंच ‘ट्रेड विजन’ ने मंगलवार को यह जानकारी देते हुए कहा कि इससे पिछले वित्त वर्ष में यह आंकड़ा 6.27 अरब अमेरिकी डॉलर था। वित्त वर्ष 2023-24 में भारत से स्मार्टफोन का कुल निर्यात बढ़कर 16.5 अरब डॉलर हो गया, जो इससे पिछले वित्त वर्ष में 12 अरब अमेरिकी डॉलर था। ट्रेड विजन ने कहा कि यह वृद्धि एप्पल की उपस्थिति बढ़ने, भारतीय विनिर्माण पारिस्थितिकी तंत्र के विकास और नवाचार को बढ़ावा देने के व्यापक प्रभावों को दर्शाती है। भारत से एप्पल के आईफोन का निर्यात वित्त वर्ष 2022-23 में 6.27 अरब डॉलर से बढ़कर 2023-24 में 12.1 अरब डॉलर हो गया, जो लगभग 100 प्रतिशत की भारी वृद्धि दर्शाता है। ट्रेड विजन एलएलसी ने कहा कि इन आंकड़ों से पता चलता है कि भारत अब एप्पल की वैश्विक आपूर्ति श्रृंखला में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। ट्रेड विजन एलएलसी की उपाध्यक्ष मोनिका ओबेरॉय (बिक्री एवं विपणन) ने कहा, ‘‘भारत सरकार की उत्पादन से जुड़ी प्रोत्साहन (पीएलआई) योजना जैसी पहल ने एप्पल जैसी कंपनियों को स्थानीय विनिर्माण में निवेश करने के लिए प्रोत्साहित किया है।’’ अमेरिकी बाजार में भारत में बने आईफोन की उपस्थिति लगातार बढ़ रही है।

प्रभासाक्षी 16 Apr 2024 7:13 pm

ईरान-इजराइल तनाव बढऩे के बीच सोने की कीमतों में आई तेजी

ईरान-इजराइल तनाव बढऩे के बीच सोने की कीमतों में आई तेजी इंदौर. ईरान और इजराइल के बीच बढ़ते तनाव की पृष्टभूमि में सोने की कीमतों और तेजी आ गई है। सोने के साथ चांदी के भाव भी बढ़े है। व्यापारियों का कहना है कि मुख्य रूप से ईरान-इजऱाइल संघर्ष की पृष्ठभूमि में सोने की कीमत नई ऊंचाई को पार कर रही है। लोगों ने सोने में निवेश तेज कर दिया है। इंदौर सराफा बाजार में सोना बिल पर 700 रुपए तेज होकर 75100 रुपए दस ग्राम पर पहुंचा वहीं चांदी 500 रुपए बढक़र 84900 रुपए किलो रही। कॉमेक्स पर सोना 2373.80 डॉलर प्रति औंस रहा। चांदी 28.24 डॉलर प्रति औंस पर रही। इंदौर सराफा बाजार सोना कैडबरी नकदी में (99.50) 74900 रुपए प्रति दस ग्राम। 22 कैरेट 68800 रुपए प्रति दस ग्राम। चांदी (एसए) चौरसा नकदी में 82500 व टंच 82600 रुपए प्रति किलो रही। आरटीजीएस में सोना कैडबरी 75100 रुपए प्रति दस ग्राम। चांदी (एसए) चौरसा 84900 रुपए किलो रही। चांदी सिक्का 900 रुपए प्रति नग रहा। -- आलू-प्याज और लहसुन की आवक कम इंदौर. देवी अहिल्याबाई होलकर फल एवं सब्जी थोक मंडी में आलू-प्याज और लहसुन की आवक कमजोर रहने से भाव मजबूत बने रहे। मंडी में प्याज की 13 हजार, आलू की 15 हजार व लहसुन की 8 हजार बोरी आवक हुई। आलू बेस्ट 2000 से 2200, एवरेज 1800 से 1900, प्याज महाराष्ट्र 1600 से 1800, लोकल 1400 से 1600, एवरेज 800 से 1100, लहसुन ऊंची 15000 से 17000, बोल्ड 12000 से 12500, मीडियम 11000 व बारिक 9000 रुपए क्विंटल बिका। ----------- देश में 7 लाख बोरी सरसों की आवक इंदौर. देश की मंडियों में 7 लाख बोरी सरसों की आवक हुई। राजस्थान में 4 लाख, मध्यप्रदेश में 75 हजार, यूपी में 75 हजार, पंजाब-हरियाणा में 50 हजार, गुजरात में 25 हजार व अन्य राज्यों में 75 हजार बोरी सरसों आई। देश में सोयाबीन की 2.50 लाख बोरी आवक बताई गई। मध्यप्रदेश में 1.10 लाख, महाराष्ट्र में 1.15 लाख, राजस्थान में 13 हजार व अन्य राज्यों में 12 हजार सोयाबीन की आवक रही। लूज तेल (प्रति दस किलो) : इंदौर मंूगफली तेल 1500 से 1520, मुंबई मूंगफली तेल 1510, इंदौर सोयाबीन रिफाइंड 960 से 965, इंदौर सोयाबीन साल्वेंट 905 से 910, मुंबई सोया रिफाइंड 955 से 960, मुंबई पाम तेल 960, इंदौर पाम 1030, राजकोट तेलिया 2320, गुजरात लूज 1460, कपास्या तेल इंदौर 940 रुपए। तिलहन : सरसों निमाड़ी (बारीक) 5700 से 5750, एवरेज 5300 से 5500, रायड़ा 4600 से 4700, सोयाबीन 4700 रुपए क्विंटल। सोयाबीन डीओसी स्पॉट 41000 रुपए टन। प्लांटों के सोयाबीन भाव : बैतूल 4840, लक्ष्मी 4840, प्रेस्टीज 4825, रुचि 4750, सांवरिया 4925, खंडवा 4800, धानुका 4845, एमएस नीमच 4850, एमएस पचोर 4800 व एवी 4750 रुपए। कपास्या खली ( 60 किलो भरती) बिना टेक्स भाव - इंदौर 1850, देवास 1850, उज्जैन 1850, खंडवा 1825, बुरहानपुर 1825, अकोला 2875 रुपए। ---- आपूर्ति में कमी से चना बढक़र 6350 रुपए बिका इंदौर. नवरात्र के चलते मंडियों में दलहनों की आवक कम हो रही है खासकर चने काफी कम मात्रा में आ रहा है। स्टॉकिस्टों की मांग बनी रहने से चना 6300 से 6350 रुपए क्विंटल बिका। सुपर चना 6400 रुपए भी बोला गया। व्यापारियों का कहना है कि सरकारी स्टॉक कम होने के साथ चने का उत्पादन भी कम आंका जा रहा है, जिससे इसमें आगे मंदी के आसार नहीं है। मुंबई पोट पर आयातित चना तंजानिया 5925, काबुली सूडान 6600, मसूर कनाड़ा 6250, तुवर लेमन नई 10825, गजरी 10200, तुवर सूडान 11400, तुवर सफेद 10400, तुवर तंजानिया 10700 व उड़द एफएक्यू 9400 रुपए। दलहन: चना कांटा 6300 से 6350, विशाल नया 6150, डंकी 5500 से 5800, मसूर 6000 से 6075, तुवर महाराष्ट्र 11200 से 11400, कर्नाटक 11300 से 11500, निमाड़ी 9800 से 11000, मूंग 9000 से 9200, बारिश का मूंग 9200 से 10000, एवरेज 7000 से 8000, उड़द बेस्ट 8800 से 9200, मीडियम 7000 से 8000, हल्का 3000 से 5000 रुपए क्विंटल। दालें: चना दाल 8000 से 8100, मीडियम 8200 से 8300, बोल्ड 8400 से 8500, मसूर दाल मीडियम 7300 से 7400, बोल्ड 7500 से 7600, तुवर दाल सवा नंबर 14200 से 14300, फूल 15000 से 15100, बेस्ट तुवर दाल 16000 से 16100, ब्रांडेड तुवर दाल 17100, मूंग दाल मीडियम 10550 से 10650, बोल्ड 10750 से 10850, मूंग मोगर 11450 से 11550, बोल्ड 11650 से 11750, उड़द दाल मीडियम 11300 से 11400, बोल्ड 11500 से 11600, उड़द मोगर 11800 से 12000, बोल्ड 12100 से 12200 रुपए। काबली चना कंटेनर भाव काबली चना (40-42) 12300, (42-44) 12000, (44-46) 11700, (58-60) 10000 रुपए। =========== इंदौर चावल भाव इंदौर. दयालदास अजीत कुमार छावनी के अनुसार बासमती (921) 11500 से 12500, तिबार 10000 से 11000 , दुबार 8500 से 9500, मिनी दुबार 7500 से 8500, बासमती सेला 7000 से 9500, मोगरा 4500 से 7000, दुबराज 4500 से 5000, कालीमूंछ डिनरकिंग 8500, राजभोग 7500, परमल 3200 से 3400, हंसा सेला 3400 से 3600, हंसा सफेद 2800 से 3000, पोहा 4550 से 4800 रुपए। मिलों की भाव वृद्धि व लोकल मांग से शकर के दाम बढ़े इंदौर. शकर मिलों की ऊंचे भाव पर बिकवाली किए जाने के साथ घरेलू बाजार मांग बढऩे से शकर के भाव में तेजी आई है। उधर केन्द्र सरकार ने 2023-24 के वर्तमान मार्केटिंग सीजन (अक्टूबर-सितम्बर) के दौरान देश से शकर के निर्यात की अनुमति देने की संभावना से इंकार कर दिया है जबकि उद्योग लगातार इसकी मांग करता आ रहा है। जीरे में मांग कम होने से भाव में गिरावट आई है। शकर 3870 से 3950, सुपर 3975, गुड़ भेली 3700, कटोरा 3900, लड्डू 4100, ग्लास 4600 से 4900, ऑर्गेनिक 6500, सिंघाड़ा बड़ा 105 से 110, छोटा 90, रायलरतन साबूदाना लूज में 6700, 1 किलो पैकिग में 7200, सच्चामोती लूज में 6500, 1 किलो पैंकिंग में 7100, आधा किलो पैंकिंग में 7160, सच्चासाबु एगमार्क (आध किलो पैकिंग) 7640, साबूदाना चक्र एगमार्क (500 ग्राम) 7320, शिव ज्योति (1 किलो) 7240, साबूदाना गोपाल लूज (25 किलो) में 6820 रुपए (भाव प्रति क्विंटल में)। खोपरा गोला कट्टे में 114 व बाक्स में 120 से 138, खोपरा बूरा 2450 से 4500 रुपए। मसाले : कालीमिर्च 545 से 550 मिनिमटर 575 से 580, मटरदाना 588 से 610, हल्दी निजामाबाद 225 से 250, हल्दी सांगली 290 से 300, जीरा 315 से 340, मीडियम 347 से 360, बेस्ट 390, सौंफ मोटी 130 से 140, बेस्ट 180 से 220, एक्सट्रा बेस्ट 280 से 325, बारीक 270 से 310, लौंग चालू 870 से 880, बेस्ट 900 से 915, दालचीनी 235 से 240, बेस्ट 250, जायफल 540 से 580, बेस्ट 600 से 640, जावत्री 1850, बेस्ट 1950, बड़ी इलायची 1375 से 1425, बेस्ट 1475 से 1675, पत्थरफूल 350 से 370, बेस्ट 415 से 475, बाद्यान फूल 540 से 560, बेस्ट 625 से 650, शाहजीरा खर 355 से 375, ग्रीन 640 से 655, तेजपान 95 से 105, तरबूज मगज 700 से 730, नागकेसर 925 से 1055, सौंठ 375 से 425, खसखस चालू 550 से 750, बेस्ट 1125 से 1350, धोली मूसली 2050 से 2250, हींग 751- 3450, पाउच में 10 ग्राम 3530, 121- 50 ग्राम 3250, पाउच में 10 ग्राम 3330, 111-50 ग्राम 3050, पाउच में 10 ग्राम 3130, पावडर 875 से 925, हरी इलायची 1850 से 1925, मीडियम 1950 से 2050, बेस्ट 2150 से 2250, एक्सट्रा बेस्ट 2450 से 2650, पानबार 2150 रुपए। सूखे मेवे : काजू डब्ल्यू 240 नंबर 750 से 760, काजू डब्ल्यू 320 नंबर 675 से 685, काजू एस डब्ल्यू 300- 665 से 675, काजू जेएच 600 से 615, टुकड़ी 525 से 560, बादाम इंडिपेंडेट 550 से 575, कैलिफोर्निया 655 से 675, ऑस्ट्रेलिया 660, मोटा दाना 700, टांच 525 से 550, खारक 115 से 135, मीडियम 145 से 175, बेस्ट 225 से 300, किशमिश कंधारी 375 से 450, बेस्ट 500 से 600, इंडियन 145 से 155, बेस्ट 170 से 215, चारोली 2250 से 2350, बेस्ट 2450, मुनक्का 375 से 450, बेस्ट 525 से 855, अंजीर 725 से 850, बेस्ट 1125 से 1400, मखाना 640 से 725 बेस्ट 925 से 1200, पिस्ता कंधारी 3050 से 3150, पिशोरी 3350, नमकीन पिस्ता 950 से 1250, अखरोट 450 से 475, बेस्ट 600 से 650, अखरोट गिरी 625 से 1100, जर्दालू 250 से 350, बेस्ट 450 से 600 रुपए। पूजन सामग्री : नारियल 120 भरती 2000 से 2050, 160 भरती 2000 से 2050, 200 भरती 2100 से 2150, 250 भरती 2150 से 2200, देशी कपूर 810 से 815, पूजा बादाम 85 से 90, बेस्ट 155 से 175, पूजा सुपारी 480, अरीठा 125 से 130 रुपए। केसर 195 से 200, बेस्ट 225 से 228 रुपए प्रति ग्राम, सिंदूर (25 किलो) 7500 रुपए। आटा-मैदा : आटा चक्की 1460, रवा कट्टे में 1570, मैदा 1470, चना बेसन 4100 रुपए प्रति 50 किलो बोरी। --------- इंदौर मावा 340 रुपए किलो। उज्जैन मावा 280 रुपए किलो। डेयरी भाव- थोक में पनीर 360, रिटेल में 380 से 400, थोक में दही 100, रिटेल में 120, थोक में मक्खन 580, रिटेल में 600, थोक में घी 600, रिटेल में 640 रुपए। --------- मक्का के भाव में सुधार इंदौर. छावनी अनाज मंडी मेें मक्का के भाव में सुधार देखा गया। गेहंू की 7000 बोरी आवक हुई। मिल क्वालिटी 2400 से 2475, लोकवन गेहंू 2950 से 3000, मालवराज 2450 से 2500, पूर्णा 2850 से 2900 रुपए क्विंटल। मक्का 2225 से 2275 रुपए क्विंटल बिकी। संघवी देवास 2490, संघवी निमरानी 2520 व मालनपुर 2430 रुपए क्विंटल। --

पत्रिका 16 Apr 2024 7:05 pm

आज फिर गिरावट के साथ बंद हुए सेंसेक्स और निफ्टी, जानें गिरावट की वजहें

स्टॉक मार्केट क्लोजिंग:सेंसेक्स और निफ्टी 50 लगातार तीसरे दिन गिरावट के साथ बंद हुए। सेंसेक्स 456.10 अंक और निफ्टी 124.60 अंक नीचे बंद हुआ। वैश्विक चुनौतियों के बीच इंफोसिस, टेक महिंद्रा, विप्रो, एचसीएल टेक और टीसीएस सहित आईटी शेयरों में भारी बिकवाली देखी गई। बाजार की चौड़ाई सकारात्मक बीएसई पर कारोबार किए गए कुल 3933 …

न्यूज़ इंडिया लाइव 16 Apr 2024 7:02 pm

सोने की कीमतें आज: चांदी की चमक बढ़ी, अहमदाबाद में सोना रु. 500 की रिकॉर्ड ऊंचाई पर

अहमदाबाद में सोने की कीमतें:ईरान-इजरायल युद्ध की बिगड़ती स्थिति के बाद कीमती धातु की तेजी बढ़ गई है। अहमदाबाद में सोना आज रु. 500 रुपये बढ़ाये गये. 75,500 प्रति 10 ग्राम, जबकि हाजिर चांदी फिर से बढ़कर रु. बढ़ाकर 1000 रु. 84000 प्रति किलोग्राम अब तक के उच्चतम स्तर पर पहुंच गया है. मध्य-पूर्व देशों …

न्यूज़ इंडिया लाइव 16 Apr 2024 7:02 pm

NBCC India Share : 52-वीक हाई से 28% लुढ़का शेयर, क्या मौजूदा लेवल पर किया जा सकता है निवेश?

NBCC India Share :पब्लिक सेक्टर की नवरत्न कंपनी एनबीसीसी इंडिया के शेयरों में इसके 52-वीक हाई से 28 फीसदी की गिरावट आ चुकी है। स्टॉक ने इस साल 5 फरवरी को 176.50 रुपये के भाव को छू लिया था। हालांकि, आज 16 अप्रैल को यह शेयर 0.40 फीसदी की गिरावट के साथ 125.55 रुपये के भाव पर बंद हुआ है। इस गिरावट के साथ कंपनी का मार्केट कैप 22,599 करोड़ रुपये पर आ गया है। स्टॉक का 52-वीक हाई 176.50 रुपये और 52-वीक लो 37.51 रुपये है। ऐसे में अब सवाल यह है कि क्या मौजूदा लेवल पर स्टॉक में एंट्री की जा सकती है? आइए जानते हैं, एक्सपर्ट्स की क्या है राय।NBCC India परक्या है एक्सपर्ट्स की रायटेक्निकल की बात करें तो एनबीसीसी स्टॉक का रिलेटिव स्ट्रेंथ इंडेक्स (RSI) 58.1 पर है, जिसका मतलब है कि यह न तो ओवरबॉट और न ही ओवरसोल्ड जोन में कारोबार कर रहा है। एनबीसीसी के शेयर 20 दिन, 50 दिन, 100 दिन, 150 दिन, 200 दिन से अधिक लेकिन 5 दिन और 10 दिन के मूविंग औसत से नीचे ट्रेड कर रहे हैं।प्रभुदास लीलाधर के टेक्निकल रिसर्च के वाइस प्रेसिडेंट वैशाली पारेख ने कहा, कंसोलिडेशन के बाद स्टॉक को मजबूती मिली है। आरएसआई बढ़ रहा है और पहले ही रुझान में बदलाव का संकेत दे चुका है और आगे भी पॉजिटिव ट्रेंड जारी रहने की संभावना है। हम सुझाव देते हैं कि स्टॉक को 124 रुपये के स्टॉप लॉस के साथ 159 रुपये के टारगेट पर खरीदा जाए।'टिप्स2ट्रेड्स के अभिजीत ने कहा, डेली चार्ट पर एनबीसीसी स्टॉक की कीमत 133.6 रुपये पर मजबूत रेजिस्टेंस के साथ थोड़ी बियरिश है। 122 रुपये के सपोर्ट के नीचे डेली क्लोज होने से निकट अवधि में 105 रुपये का टारगेट मिल सकता है।कैसा है NBCC India का फाइनेंशियलएनबीसीसी का मौजूदा वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में कंसोलिडेटेट नेट प्रॉफिट 60.2 फीसदी बढ़कर 110.7 करोड़ रुपये हो गया। एक साल पहले की समान अवधि में कंपनी ने 69.1 करोड़ रुपये का प्रॉफिट दर्ज किया था। वित्तीय वर्ष 2023-24 की दिसंबर तिमाही के दौरान रेवेन्यू 13% बढ़कर 2,412.6 करोड़ रुपये हो गया, जो पिछले वर्ष की इसी अवधि में 2135 करोड़ रुपये था। Q3 में EBITDA मार्जिन 4.9 फीसदी पर आ गया, जबकि एक साल पहले की अवधि में यह 4.5 फीसदी था।कैसा रहा है NBCC India केशेयरों का प्रदर्शनपिछले एक महीने में एनबीसीसी के शेयरों मे करीब 13 फीसदी की तेजी आई है। पिछले 6 महीने में स्टॉक ने 94 परसेंट का तगड़ा रिटर्न दिया है। इस साल अब तक कंपनी के शेयर 53 फीसदी भाग चुके हैं। पिछले एक साल में इसके निवेशकों को 223 फीसदी का मुनाफा हुआ है। पिछले 4 सालों में इसके निवेशकों को 584 फीसदी का रिटर्न मिला है।

मनी कण्ट्रोल 16 Apr 2024 7:01 pm

देश के 103 साल पुराने बैंक ने घटाया FD पर ब्याज, एफडी पर दे रहा है 8% का ब्याज

FD Rates:तमिलनाड मर्केंटाइल बैंक (Tamilnad Mercantile Bank) देश के सबसे पुराने बैंकों में से एक है। ये प्राइवेट सेक्टर बैंक 103 साल पुराना है और जिसकी पूरे भारत में 500 से ज्यादा ब्रांच है। ये बैंक 1921 में स्थापित हुआ था। तमिलनाड मर्केंटाइल बैंक के 12 लोकल ऑफिस हैं। बैंक ने हाल में 2 करोड़ रुपये से कम की एफडी पर ब्याज दरों में कटौती की है। बैंक ने अपनी 400 दिनों की एफडी पर ब्याज 0.50 फीसदी घटा दिया है। बैंक की आधिकारिक वेबसाइट के मुताबिक ये नई दरें 10 अप्रैल 2024 को लागू हो गई हैं। तमिलनाड मर्केंटाइल बैंक के Fixed Deposit पर ग्राहकों को अधिकतम 7.50% और वरिष्ठ नागरिकों को 8.00% ब्याज ऑफर कर रहा है।तमिलनाड मर्केंटाइल बैंक की FD पर ब्याज दरें7 दिन से 14 दिन: आम जनता के लिए - 5.25 प्रतिशत; सीनियर सिटीजन के लिए – 5.25 प्रतिशत15 दिन से 29 दिन: आम जनता के लिए - 5.25 प्रतिशत; सीनियर सिटीजन के लिए - 5.25 प्रतिशत30 दिन से 45 दिन: आम जनता के लिए – 5.25 प्रतिशत; सीनियर सिटीजन के लिए - 5.25 प्रतिशत46 दिन से 60 दिन: आम जनता के लिए - 5.25 प्रतिशत; सीनियर सिटीजन के लिए - 5.25 प्रतिशत61 दिन से 90 दिन: आम जनता के लिए – 5.25 प्रतिशत; सीनियर सिटीजन के लिए - 5.25 प्रतिशत91 दिन से 120 दिन: आम जनता के लिए – 5.75 प्रतिशत; सीनियर सिटीजन के लिए - 5.75 प्रतिशत121 दिन से 179 दिन: आम जनता के लिए - 6 प्रतिशत; सीनियर सिटीजन के लिए - 6 प्रतिशत180 दिन से 270 दिन: आम जनता के लिए - 6 प्रतिशत; सीनियर सिटीजन के लिए - 6 प्रतिशत270 दिन से 365 दिन: आम जनता के लिए - 6 प्रतिशत; सीनियर सिटीजन के लिए - 6.00 प्रतिशत400 दिन : आम जनता के लिए - 7.50 प्रतिशत; सीनियर सिटीजन के लिए – 8.00 प्रतिशत1 साल : आम जनता के लिए – 7.25 प्रतिशत; सीनियर सिटीजन के लिए - 7.75 प्रतिशत1 साल से अधिक 20 महीना 20 दिन तक: आम जनता के लिए - 7.00 प्रतिशत; सीनियर सिटीजन के लिए - 7.50 प्रतिशत20 महीने से अधिक लेकिन 2 साल से कम: आम जनता के लिए - 7.00 प्रतिशत; सीनियर सिटीजन के लिए - 7.50 प्रतिशत2 साल से अधिक लेकिन 3 साल से कम: सामान्य जनता के लिए – 6.75 प्रतिशत; सीनियर सिटीजन के लिए - 7.50 प्रतिशत3 साल से 10 साल: आम जनता के लिए - 6.50 प्रतिशत; सीनियर सिटीजन के लिए - 7.00 प्रतिशत।Form 16: क्या होता है फॉर्म 16, इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने के लिए क्यों है जरूरी, जानें कैसे करें ऑनलाइन डाउनलोड

मनी कण्ट्रोल 16 Apr 2024 6:55 pm

स्कूल में नहीं पढ़ सकते नमाज, धार्मिक अधिकार से ऊपर स्कूली नियम; कोर्ट ने ठुकराई मुस्लिम छात्रा की फरियाद

मुस्लिमा छात्रा ने आरोप लगाया था कि स्कूल के प्रतिबंध उसके धार्मिक स्वतंत्रता के अधिकारों का उल्लंघन हैं और यह एक प्रकार का भेदभाव है जो धार्मिक अल्पसंख्यकों को समाज से अलग-थलग महसूस कराता है।

लाइव हिन्दुस्तान 16 Apr 2024 6:48 pm

चांदी की कीमतें 1.25 लाख रुपये तक जा सकती हैं, क्या आपको निवेश करना चाहिए?

चांदी (Silver Rates) की कीमतों ने हाल में ऊंचाई का नया रिकॉर्ड बनाया है। सिल्वर का प्राइस 86,000 रुपये प्रति किलोग्राम पहुंच गया। अब इसके 1-1.25 लाख रुपये तक पहुंच जाने की उम्मीद जताई जा रही है। सिल्वर में तेजी का अनुमान लगाने वाले बुल्स के पास अपनी दलील है। 2022 में चांदी का भाव 13-14 डॉलर प्रति औंस तक गिर गया था। इसके लिए करीब 25-27 डॉलर पर रेसिस्टेंस था। लेकिन, हाल में इसने 30 डॉलर के लेवल को तोड़ दिया है। बुल्स का कहना है कि अब यह ऊंचाई के नए रिकॉर्ड बनाने की तरफ बढ़ रही है।चांदी का इस्तेमाल कई चीजों के उत्पादन में होता हैसोने का इस्तेमाल लंबे समय से हेजिंग के लिए होता है। इसका स्टॉक मार्केट से भी संबंध है। गोल्ड की कीमतें उसकी डिमांड और सप्लाई और जियोपॉलिटिकल स्थितियों पर निर्भर करती हैं। एक बार चढ़ने के बाद गोल्ड की कीमतें लंबे समय तक सीमित दायरे में बनी रहती है। लेकिन, चांदी की कीमतों के चढ़ने और उतरने की दूसरी वजहें हैं। हालांकि, आर्थिक अनिश्चितता के दौरान चांदी का इस्तेमाल भी सोने की तरह हेजिंग के लिए होता है। लेकिन, ज्यादातर समय यह एक प्रमुख मेटल की तरह होती है, जिसकी कीमतें इसकी इंडस्ट्रियल डिमांड पर निर्भर करती है।चांदी की कीमतों में तेजी जारी रहने के आसारइस बार सोने और चांदी में एक साथ तेजी दिख रही है। हालांकि, चांदी में तेजी की शुरुआत थोड़ी देर से हुई। लेकिन, अभी ऐसी कई वजहें हैं जिससे चांदी की कीमतों को सपोर्ट मिल सकता है। इसमें सबसे पहले जियोपॉलिटिकल टेंशन है। इसके अलावा इंडस्ट्रियल सेक्टर से चांदी की अच्छी मांग है। चांदी और सोने की कीमतों के लंबे अवधि के ट्रेंड को देखने पर भी संकेत मिलता है कि चांदी के लिए आने वाले दिन अच्छे रहेंगे।क्या आपको चांदी में निवेश करना चाहिए?इनवेस्टमेंट पोर्टफोलियो के डायवर्सिफिकेशन के लिए सोने में निवेश जरूरी है। चांदी भी सोने का विकल्प है। पोर्टफोलियो का 5-15 फीसदी हिस्सा बहुमूल्य धातुओं (सोना और चांदी) में होना चाहिए। कई लोग डायवर्सिफिकेशन के लिए सिर्फ सोने में निवेश करते हैं।अगर कोई निवेशक सोने और चांदी दोनों में निवेश करना चाहता है तो उसे एक निश्चित अनुपात में दोनों में निवेश करना होगा। इसका मतलब है कि अगर आप 10 फीसदी निवेश बहुमूल्य धातु (सोने या चांदी) में करना चाहते हैं तो आपको 6-7 फीसदी सोने में और 3-4 फीसदी सिल्वर में करना ठीक रहेगा। आपके पास सिल्वर ईटीएफ में निवेश करने का विकल्प है।

मनी कण्ट्रोल 16 Apr 2024 6:45 pm

एक ही जगह निवेश कर दिए 53 लाख करोड़, कहां दिख रहा लोगों को इतना ज्‍यादा रिटर्न

Best Investment : निवेश के बाजार में तमाम विकल्‍प मौजूद हैं और इसमें से म्‍यूचुअल फंड का विकल्‍प तेजी से पसंदीदा बनता जा रहा है. निवेशकों ने इस विकल्‍प में अब तक कुल 53 लाख करोड़ का दांवा लगा दिया है. निवेशकों की संख्‍या भी 17 करोड़ के पार पहुंच गई है, जिसमें 25 फीसदी से ज्‍यादा निवेशक तो पिछले साल ही जुड़े हैं.

न्यूज़18 16 Apr 2024 6:41 pm

KKR vs RR Live Score IPL 2024: कुछ ही देर में होगा कोलकाता वर्सेस राजस्थान मैच का टॉस, ईडन गार्डन्स में किसका चलेगा सिक्का?

KKR vs RR Live Score IPL 2024 Updates: आज का आईपीएल मैच कोलकाता नाइट राइडर्स और राजस्थान रॉयल्स के बीच ईडन गार्डन्स स्टेडियम में खेला जाएगा। दोनों टीम पॉइंट्स टेबल में फिलहाल शीर्ष दो में हैं।

लाइव हिन्दुस्तान 16 Apr 2024 6:40 pm

Chhattisgarh Encounter: कांकेर में सुरक्षा बलों को बड़ी कामयाबी, मुठभेड़ में 18 नक्सली ढेर

Chhattisgarh Encounter: छत्तीसगढ़ के कांकेर जिले में मंगलवार को चल रही मुठभेड़ में कम से कम 18 माओवादी मारे गए हैं और तीन सुरक्षाकर्मी घायल हो गए हैं। कांकेर SP IK एलेसेला के मुताबिक मुठभेड़ छोटेबेठिया थाने के आसपास के जंगली इलाके में हो रही है। ऑपरेशन एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा, छोटेबेठिया पुलिस स्टेशन के अधिकार क्षेत्र में बिनागुंडा और कोरोनार गांवों के बीच हापाटोला जंगल में दोपहर 2 बजे के आसपास गोलीबारी हुई। ये फायरिंग तब हुई, जब सीमा सुरक्षा बल (BSF) और राज्य के जिला रिजर्व गार्ड (DRG) की एक टीम नक्सल विरोधी अभियान चला रही थी।केंद्रीय पुलिस बल ने एक बयान में कहा, इंटेलिजेंस इनपुट पर कार्रवाई करते हुए, BSF ने जिला रिजर्व गार्ड (DRG) के साथ मिलकर कांकेर के छोटेबेटिया पुलिस स्टेशन के अधिकार क्षेत्र के तहत बीनागुंडा क्षेत्र में एक संयुक्त अभियान शुरू किया।ऑपरेशन के दौरान, BSF टीम पर CPI माओवादी विद्रोहियों की ओर से भारी गोलीबारी हुई। BSF के जवानों ने हमलावरों के खिलाफ तुरंत जवाबी कार्रवाई की, जिसके बाद दोनों ओर से भीषण गोलीबारी हुई।BSF ने कहा कि मुठभेड़ साइट से 18 माओवादियों के शव बरामद किए गए हैं। साथ ही ऑपरेशन स्थल से सात AK सीरीज राइफलें और तीन लाइट मशीन गन (LMG) जब्त कीगई हैं।कांकेर के SP कल्याण एलेसेला ने कहा कि गोलीबारी में दो सुरक्षाकर्मी घायल हो गए हैं। पैर में गोली लगने से घायल BSF का एक जवान खतरे से बाहर है।ऑपरेशन अभी भी जारी है।ये घटना ऐसे समय में हुई है, जब कुछ दिनों बाद ही छत्तीसगढ़ समेत पूरे देश में लोकसभा चुनाव के लिए मतदान शुरू होने वाला है। केवल बस्तर लोकसभा क्षेत्र में 19 अप्रैल को पहले चरण के मतदान में मतदान होगा, जबकि कांकेर, जहां आज मुठभेड़ हुई, 26 अप्रैल को दूसरे चरण में राजनांदगांव और महासमुंद के साथ मतदान होगा।

मनी कण्ट्रोल 16 Apr 2024 6:30 pm

Loksabha Elections 2024: मुरादाबाद में समाजवादी पार्टी का उम्मीदवार बदलने से दिलचस्प हुआ मुकाबला

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद लोकसभा क्षेत्र में समाजवादी पार्टी की रुचि वीरा और भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के कुंअर सर्वेश कुमार सिंह के बीच मुकाबला है। बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) इस सीट पर दोनों उम्मीदवारों का खेल बिगाड़ने का काम कर सकती है। मुरादाबाद में लोकसभा चुनाव के लिए वोटिंग पहले चरण के तहत 19 अप्रैल को होगी, जबकि वोटों की गिनती 4 जून को होगी।मुरादाबाद लोकसभा सीट से बीजेपी को अब तक सिर्फ एक बार 2014 में सफलता मिली है। बीजेपी की पुरानी इकाई भारतीय जनसंघ ने 1971 में यहां से जीत हासिल की थी। हालांकि, इस बार समाजवादी पार्टी का यह गढ़ आंतरिक कलह के कारण मुश्किल चुनौतियों से गुजर रहा है। समाजवादी पार्टी के मौजूदा सांसद डॉ. एस. टी. हसन 14 अप्रैल को आयोजित अखिलेश यादव की रैली में नहीं पहुंचे। हालांकि, खराब समौम के कारण यादव भी इस रैली में नहीं पहुंच पाए।हसन ने न्यूज18 (News18) से बातचीत में कहा, ' अगर अखिलेश ने मुझे बुलााय होता, तो मैं जरूर आता। मैं आजम खान के जेल से बाहर निकलने का इंतजार कर रहा हूं। इसके बाद मैं उनसे पूछूंगा कि उन्होंने मेरा टिकट क्यों कटवा दिया।' एस. टी. हसन मुरादाबाद में अस्पताल चलाते हैं। हसन के क्लीनिक के बगल में रहने वाले यहां के एक स्थानीय मुसलमान ने बताया, ' उन्हें अपमानित किया गया। पहले उन्हें टिकट दिया गया और उन्होंने नॉमिनेशन भरा। नॉमिनेशन के आखिरी दिन रुचि वीरा को पार्टी का आधिकारिक उम्मीदवार घोषित किया गया। अगर हसन को पहले उम्मीदवार नहीं बनाया जाता है, तो यह बेहतर होता।'कई स्थानीय लोगों का कहना था कि हसन अगर उम्मीदवार होते, तो समाजवादी पार्टी को यहां से बड़ी जीत मिलती। हालांकि, लोग अब विपक्षी उम्मीदवार के लिए वोट करेंगे। बहरहाल, समाजवादी पार्टी की नई उम्मीदवार और बिजनौर की पूर्व विधायक रुचि वीरा का कहना था कि उन्होंने हसन से फोन पर बात की है और वह उनसे मिलना भी चाहती थीं, लेकिन हसन साहब ने मिलने से इनकार कर दिया। वीरा ने न्यूज18 को बताया, 'हसन साहब मेरे बड़े भाई की तरह हैं। मुझे उम्मीद है कि वह मुझे समर्थन करेंगे।' दूसरी तरफ, बीजेपी ने यहां चुनाव प्रचार में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को उतार दिया है।बीजेपी कैंप में खुशी का माहौल71 साल के कुंवर सर्वेश कुमार सिंह ने 2014 के लोकसभा चुनावों में मुरादाबाद से ऐतिहासिक जीत हासिल की थी और एक बार फिर से यहां चुनावी मैदान में हैं। सिंह कई बार विधायक भी रह चुके हैं और उनके बेटे सुशांत सिंह ने यहां चुनाव प्रचार की जिम्मेदारी संभाल रखी है। उन्होंने बताया, 'समाजवादी पार्टी ने यह स्वीकार किया है कि उसके सांसद ने पिछले 5 साल में कोई काम नहीं किया और इसलिए पार्टी ने एस. टी. हसन का टिकट काट दिया। 2019 में हम समाजवादी पार्टी-बहुजन समाज पार्टी गठबंधन की वजह से हार गए थे।'

मनी कण्ट्रोल 16 Apr 2024 6:24 pm

एलन मस्क ने दिया बड़ा झटका, नए यूजर्स को एक्स पर पोस्ट डालने के लगेंगे पैसे

X Update: सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्‍स को लेकर एलन मस्क ने बड़ा ऐलान किया है. नए फैसले के मुताबिक, अब नए यूजर्स को पोस्ट करने के पैसे देने होंगे.

न्यूज़18 16 Apr 2024 6:24 pm

Cummins India Share Price: प्रॉफिट में हैं, Exit करें या होल्ड ?

Cummins India Share में जानें निवेश को लेकर क्या है Experts की राय. जानें किन levels पर करनी चाहिए आपको खरीदारी और क्या है Target Price और जानिए किस Strategy के साथ इस Stock में पैसा कमाया जा सकता है. देखें वीडियो.

मनी कण्ट्रोल 16 Apr 2024 6:23 pm

Meson Valves Shares: सिंगापुर की कंपनी से मिले 2 ऑर्डर, एक झटके में 5% बढ़ गया शेयर

Meson Valves Shares: मेसन वॉल्व्स इंडिया के शेयर मंगलवार 16 अप्रैल को 5% बढकर बंद हुए। कंपनी के शेयरों में यह तेजी ऐसे दिन आई, जब बाजार में मोटे तौर पर बिकवाली का माहौल था। कंपनी ने एक दिन पहले शेयर बाजारों को भेजी सूचना में बताया था कि उसे सिंगापुर मुख्यालय वाली KW इंजीनियरिंग सॉल्यूशंस पीटीएस लिमिटेड (KW Engineering Solutions Pts Ltd) से 8,46,810 डॉलर या करीब 7.03 करोड़ रुपये के 2 एक्सपोर्ट ऑर्डर मिले हैं। इसी के बाद इसके शेयरों में यह तेजी आई है। मेसन वॉल्व्स ने बताया कि उसे ये दोनों ऑर्डर 16 हफ्ते के अंदर पूरे करने हैं।कंपनी के पास नॉन-फेरस मैटेरियल में रिमोट से चलने वाले ट्रिपल ऑफसेट बटरफ्लाई वॉल्व जैसे महंगे टेक प्रोडक्ट्स के कारोबार का काफी अनुभव है। कंपनी ने बताया कि उसके इसी अनुभव को देखते हुए KW इंजीनियरिंग ने उसे यह ऑर्डर दिया है। बता दें कि मेसन वॉल्व्स बीएसई के SME प्लेटफॉर्म पर सूचीबद्ध एक स्मॉलकैप कंपनी है, जिसका मार्केट कैप करीब 720 करोड़ रुपये है। मेसन वॉल्व्स के शेयर फिलहाल 154 के पीई (PE) पर कारोबार कर रहे हैं।कंपनी ने बताया कि वित्त वर्ष 2024 की पहली छमाही में उसका शुद्ध मुनाफा 2.66 करोड़ रुपये रहा था। वहीं इसका रेवेन्यू 20 करोड़ रुपये रहा था। मेसन वॉल्व्स के शेयर इस साल अबतक करीब 23.25 फीसदी बढ़ चुके हैं। वहीं सितंबर 2023 में लिस्टिंग के बाद से अबतक यह करीब 237 फीसदी चढ़ चुका है।इस बीच BSE का SME IPO इंडेक्स मंगलवार को 1.94 फीसदी या करीब 1,172 अंक बढ़कर 61,706.02 पर बंद हुआ। जबकि दूसरी ओर सेंसेक्स सेंसेक्स 456.10 अंक या 0.62% की गिरावट के साथ 72,943.68 अंक पर बंद हुआ। हालांकि स्मॉलकैप शेयरों में आज खरीदारी रही और बीएसई का स्मॉलकैप इंडेक्स 0.57 फीसदी की बढ़त के साथ बंद हुआ।मेसन वॉल्व्स, फेरस और नॉन-फेरस मैटेरियल में विभिन्न तरह के वॉल्व को बनाने और बेचने के कारोबार में है। कंपनी के शेयर 21 सितंबर 2023 को 90 फीसदी प्रीमियम के साथ स्टॉक एक्सचेंज पर सूचीबद्ध हुए थे। इसका IPO प्राइस 102 रुपये था, जबकि इसके शेयर 193.8 रुपये के भाव पर लिस्ट लिस्ट हुए। मंगलवार 16 अप्रैल को इसके शेयर 5 फीसदी की तेजी के साथ 721.50 रुपये के भाव पर बंद हुए, जो इसके IPO प्राइस से करीब 600% अधिक है।यह भी पढ़ें-Jio Financial के शेयर 5% तक उछले, ब्लैकरॉक के साथ मिलकर नया बिजनेस लॉन्च करेगी कंपनी

मनी कण्ट्रोल 16 Apr 2024 6:21 pm

मौसम विभाग का अलर्ट- बारिश के साथ पड़ेंगे ओले, जानें किसानों के लिए क्यों नहीं है डरने की बात

इस वक्त गेहूं और दूसरी रबी फसल की कटाई का काम जोरों पर है। लेकिन पिछले दिनों देश के कई हिस्सों में तेज बारिश हुई। मौसम विभाग का अनुमान है कि अगले कुछ दिनों में देश के कई हिस्सों में बारिश आंधी के साथ ओले पड़ेंगे। आइए जानते हैं कि मौसम में इस बदलाव का खेती पर क्या असर पड़ सकता है।

जागरण 16 Apr 2024 6:15 pm

ईरान और इजराइल लड़ाई बढ़ाने के पक्ष में नहीं, इजराइल ने 18000 भारतीयों की सुरक्षा की गारंटी दी

इजराइल और ईरान (Israel Iran Conflict) के बीच तनाव से इंडिया चिंतित है। इसकी कई वजहें हैं। दोनों देशों में बड़ी संख्या में भारतीय रहते हैं। दोनों ही देशों से इंडिया के अच्छे संबंध हैं। दोनों देशों के बीच युद्ध शुरू होने का असर इनफ्लेशन पर पड़ेगा। खासकर क्रूड ऑयल की कीमतों में उछाल आ सकता है। हालात के बारे में दोनों देशों के रुख को समझने के लिए सीएनएन-न्यूज18 के अभिषेक झा ने इंडिया में ईरान और इजराइल के एंबेसडर्स से बातचीत की। दोनों देशों ने अपने-अपने देशों में भारतीयों की सुरक्षा को लेकर आश्वस्त किया। आइए दोनों एंबेसडर्स ने क्या-क्या मुख्य बातें कहीं, यह जानते हैं।ईरान का मकसद पूरा हुआईरान के एंबेसडर इराज इलाही ने कहा कि हमारे हमले का मकसद पूरा हो गया है। हम यह दिखाना चाहते थे कि इजराइल को चोट पहुंचाई जा सकती है। हम अपने मकसद में कामयाब रहे। उन्होंने कहा कि ईरान इस तनाव को बढ़ाना नहीं चाहता है। हालांकि, इस मामले में इजराइल के एंबेसडर नाओर गिलोन का रुख आक्रामक था। उन्होंने कहा कि ईरान के हमले का जवाब इजराइल देगा। लेकिन, दोनों का यह कहना था कि यह तनाव अपने चरम पर पहुंचने के बाद अब घट रहा है। बीच-बीच में दोनों पक्षों के बीच झड़प हो सकती है। लेकिन दोनों देशों के बीच बड़े युद्ध की संभावना नहीं है।इजराइल ने दी 18000 भारतीयों की सुरक्षा की गारंटीदोनों ही देशों में बड़ी संख्या में भारतीय रहते हैं। दोनों देशों के साथ इंडिया के संबंध भी अच्छे हैं। ईरान में 10,000 से ज्यादा भारतीय रहते हैं। इनमें कई तरह के प्रोफेशनल्स और स्टूडेंट्स शामिल हैं। इजराइल में करीब 18,000 भारतीय रहते हैं। इजराइल के एंबेसडर गिलोन ने कहा कि उनके देश में कोई भारतीय उतना ही सुरक्षित है जितना एक इजराइली। उधर, इलाही ने भारतीयों को ईरान आने के लिए प्रेरित किया।ईरान ने इजराइल पर लगाया फलस्तीन पर कब्जा करने का आरोपईरान के राजदूत इलाही ने कहा कि इजराइल ने फलस्तीन के इलाकों पर कब्जा किया है। वह निर्दोष लोगों की हत्या कर रहा है। वह फलस्तीन लोगों के घरों को तोड़ रहा है। फलस्तीनी इजराइल की ज्यादाती का विरोध कर रहे हैं। उन्होंने यह साफ किया कि ईरान फलस्तीन की मदद करता है। उन्होंने कहा कि हम इसलिए सपोर्ट करते हैं क्योंकि उन लोगों ने अपना सबकुछ खो दिया है। उन्होंने कहा कि ईरान का मानना है कि बगैर अमेरिका और पश्चिमी देशों की मदद के इजराइल कुछ भी नहीं कर सकता।इजराइल ने जवाबी हमला करने की धमकी दीउधर इजराइल के राजदूत ने कहा कि हम परोक्ष रूप से ईरान के खिलाफ लड़ाई लड़ते आ रहे हैं। पिछले कई सालों से ईरान हूती विद्रोहियों और हिजबुल्ला जैसे संगठनों की मदद करता आ रहा है। उन्होंने कहा कि ईरान और उसके सहयोगियों ने इजरायल पर 350 से ज्यादा मिसाइल और ड्रोन से हमले किए हैंष। हम यह बताना चाहते हैं कि उन्हें इसकी कीमत चुकानी पड़ेगी।

मनी कण्ट्रोल 16 Apr 2024 6:13 pm

Commodity: पिछले सीजन के मुकाबले 18.3% ज्यादा गेहूं की होगी खरीद, चीनी की सप्लाई में कोई बाधा नहीं-फूड सेक्रेटरी

Commodity market:फूड सेक्रेटरी संजीव चोपड़ा ने CNBC आवाज़ से एक्सक्लूसिव बातचीत की है। अभिमन्यु शर्मा के साथ एक्सक्लूसिव बातचीत में उन्होंने कहा कि सरकार का गेहूं खरीद का लक्ष्य पूरा होगा। गर्मी और बारिश का गेहूं की फसल पर कोई असर नहीं होगा। वहीं तिलहन और दलहन में देश अगले कुछ सालों में आत्मनिर्भर बन जाएगा। इस सीजन में सरकार 310 लाख मीट्रिक टन गेहूं खरीदेगी। पिछले सीजन के मुकाबले 18.3 फीसदी ज्यादा गेहूं की खरीद की जाएगी। पिछले सीजन में 262 लाख मीट्रिक टन गेहूं की खरीदारी हुई थी। PM गरीब कल्याण अन्न योजना में अनाज पर समीक्षा होगी। अच्छी पैदावार होने पर गेहूं-चावल पर समीक्षा होगी। गेहूं-चावल की अच्छी पैदावार से कीमतों पर असर पडे़गा।गेहूं के भाव 1 साल में 5% बढे़ हैं, वहीं, इसकी MSP में हुई 7% की बढ़ोतरीइस बातचीत में उन्होंने आगे कहा कि उत्तर प्रदेश, बिहार में गेहूं की अच्छी पैदावार हुई है। हीटवेव के कारण फसलों पर बुरा असर नहीं पड़ा है। बेमौसम बारिश से भी फसलों को नुकसान नहीं हुआ है। गेहूं-चावल के एक्सपोर्ट पर फिलहाल कोई फैसला नहीं लिया गया है। OMSS के जरिए 101.5 लाख मीट्रिक टन गेहूं की बिक्री हुई हुई है। बाजार में गेहूं के भाव MSP के आसपास बने हुए हैं। गेहूं के भाव 1 साल में 5 फीसदी बढे़ हैं। वहीं, MSP में 7 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। भारत आटा, चावल से कीमतें कंट्रोल करने में मदद मिली है। ONDC और ई कॉमर्स पर भारत आटा, चावल छाए हुए हैं। भारत आटा, चावल में QR कोड की सुविधा है। QR कोड के जरिए खरीदारी की जानकारी मिलेगी। QR कोड के जरिए फीडबैक की भी सुविधा है।इस सीजन चीनी का एक्सपोर्ट हो सकेगा या नहीं? जानिए सरकार का क्या है कहनाचीनी की सप्लाई में कोई बाधा नहीं हैचीनी पर बात करते हुए फूड सेक्रेटरी संजीव चोपड़ा ने कहा कि साल भर में चीनी के भाव 5 फीसदी बढ़े हैं। चीनी की सप्लाई में कोई बाधा नहीं है। गन्ना किसानों को निर्धारित समय पर पेमेंट मिल रहा है। एथेनॉल उत्पादन के लिए कुल 25 LMT गन्ने का डायवर्जेंस किया गया है।

मनी कण्ट्रोल 16 Apr 2024 6:06 pm

BPCL ने नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के साथ किया एग्रीमेंट, जेट फ्यूल पाइपलाइन बिछाएगी कंपनी

BPCL Share Price : पब्लिक सेक्टर की कंपनी भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड (BPCL) ने जेट फ्यूल सप्लाई के लिए नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के साथ एग्रीमेंट किया है। इस एग्रीमेंट के तहत कंपनी अपने पियाला टर्मिनल से जेवर हवाई अड्डे के टैंक फार्म तक 35 किलोमीटर लंबी ATF पाइपलाइन बिछाएगी। BPCL ने आज 16 अप्रैल को यह जानकारी दी। नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट ने बयान में कहा कि एयरपोर्ट और BPCL ने कार्बन उत्सर्जन में कमी लाने और एयरपोर्ट की एटीएफ डिमांड को कुशलतापूर्वक पूरा करने के लिए 20 फरवरी को एक समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं। BPCL के शेयरों में आज 0.46 फीसदी की तेजी आई है। यह स्टॉक BSE पर 592.65 रुपये के भाव पर बंद हुआ है।नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट ने क्या कहा?बीपीसीएल का पियाला टर्मिनल हरियाणा के फरीदाबाद में स्थित है। नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट ने कहा कि एटीएफ पाइपलाइन 34 किलोमीटर तक फैली होगी और एयरपोर्ट परिसर के भीतर 1.2 किमी लंबी होगी। इसमें कहा गया है, यह पाइपलाइन कॉमन/कॉन्ट्रैक्ट आधार पर संचालित होगी। इससे एयरपोर्ट तक निर्बाध फ्यूल ट्रांसपोर्टेशन सुनिश्चित होगा।इसमें कहा गया है, नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर्यावरण प्रबंधन को लेकर प्रतिबद्ध है और यह कदम उसी का हिस्सा है। यह पाइपलाइन फ्यूल प्राप्ति को आसान बनाएगी। इससे टैंकरों की आवाजाही बंद होगी और कार्बन उत्सर्जन में कमी आएगी।BPCL के डायरेक्टर का बयानBPCL के डायरेक्टर (मार्केटिंग) सुखमल जैन ने कहा कि कंपनी भारत में एयरपोर्ट और इससे जुड़े इन्फ्रॉस्ट्रक्चर पर एटीएफ फैसिटिली स्थापित करने में आगे रही है। उन्होंने कहा कि बीपीसीएल सड़क के जरिये के फ्यूल ट्रांसपोर्टेशन को कम कर कार्बन उत्सर्जन में कमी लाने को लेकर प्रतिबद्ध है।एयरपोर्ट की चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर किरण जैन ने कहा, हमें विश्वास है कि यह कदम कार्बन उत्सर्जन को कम करेगा और हमारी दक्षता को बढ़ावा देगा और अधिक टिकाऊ भविष्य में योगदान देगा, जो समय की मांग है।

मनी कण्ट्रोल 16 Apr 2024 6:00 pm

18 अप्रैल को आ रहा वोडाफोन-आइडिया का एफपीओ, जानें प्राइस बैंड के साथ अन्य जानकारी

18 अप्रैल को आ रहा वोडाफोन-आइडिया का एफपीओ, जानें प्राइस बैंड के साथ अन्य जानकारी

समाचार नामा 16 Apr 2024 6:00 pm

जोमैटो पहुंचाएगा 50 लोगों का खाना, खास तरह की गाड़ियों में होगी फूड डिलीवरी

Zomato Delivery : ऑनलाइन फूड डिलीवरी कंपनी जोमैटो ने अब पार्टियों और आयोजनों के लिए भी खाना पहुंचाने का काम शुरू किया है. कंपनी ने मंगलवार को बताया कि 50 लोगों तक का भोजन कहीं भी डिलीवर किया जा सकेगा. इसके लिए खास तरह की गाड़ी का इस्‍तेमाल होगा, ताकि भोजन डिलीवरी होने तक गर्म रखा जा सके.

न्यूज़18 16 Apr 2024 5:54 pm

₹220 रुपये तक जाएगा ₹140 का रेलवे शेयर, एक्सपर्ट ने कहा- इस बात का रखें ध्यान

आईआरएफसी के स्टॉक अभी 140 रुपये के करीब ट्रेड कर रहे हैं. बाजार जानकारों का मानना है कि इसमें अभी और तेजी आएगी. हालांकि, टेक्निकल एनालिस्ट मानस जयसवाल ने इस पर एक कंडीशन लगा दी है.

न्यूज़18 16 Apr 2024 5:52 pm

Ram Navami 2024: मोहम्मद अब्दुल ने पेश की हिंदू-मुस्लिम एकता की अनूठी मिसाल, 40 वर्षों से बना रहे हैं महावीरी झंडा

Ram Navami 2024: झारखंड के बोकारो से सांप्रदायिक सद्भाव की एक दिल छू जाने वाली कहानी सामने आई है। यह कहानी हिंदू धर्म के पवित्र त्योहार रामनवमी के दौरान की है। एक तरफ जहां देश में हिंदू मुस्लिम में विवाद देखने को मिलता वहीं इस रामनवमी इन दोनों समुदाय में भाईचारा का अद्भुत रूप देखने को मिला है। बता दें कि देशभर में रामनवमी 17 अप्रैल को मनाई जाएगी। राम नवमी, भगवान विष्णु के अवतार भगवान श्री राम के जन्म के शुभ उत्सव के रूप में मनाया जाता है। 9 दिनों तक नवरात्र पर शक्ति की उपासना की जाती है। फिर नवरात्र के नौवें दिन धूमधाम के साथ मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु राम का जन्मोत्सव मनाया जाता है।दरअसल, बोकारो के बेरमो प्रखंड के जरीडीह बाजार में गंगा-जमुना तहजीब मिसाल देखने को मिल रही है। यहां रामनवमी के अवसर पर मुस्लिम समुदाय के कारीगर मोहम्मद अब्दुल अजीज बीते 40 वर्षों से हिंदू समुदाय के लिए महावीरी झंडा बना रहे हैं। उनके इस काम में उनके बेटे मोहम्मद नौशाद भी उनका साथ दे रहे हैं।अजीज ने हमारे सहयोगी 'लोकल 18' से खास बातचीत में बताया कि यह काम उनके पिताजी स्वर्गीय शमसुद्दीन ने यह काम 70 साल पहले शुरू की थी। वह खुद अपने हाथों से महावीरी झंडा बनाते थे। उनके पिता शमसुद्दीन के गुजरने के बाद उन्होंने इस काम को जारी रखा और अब वह खुशी से इस काम को कर रहे हैं।महावीरी झंडे की है अधिक मांगमोहम्मद अब्दुल ने बताया कि उनके यहां सबसे अधिक ऑर्डर मीडियम साइज के 1215 महावीरी झंडे कि मांग आ रही है। उनके द्वारा तैयार झंडे गोमिया, ‌कसमार और फुसरो के बाजारों में बकती है। वहीं उनके यहां ग्राहक 20 रुपये से लेकर 2,000 रुपये तक के झंडे कि खरीदारी कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि अपने साइज के आवश्यकता अनुसार झंडे का ऑर्डर भी दे सकते हैं। फिलहाल प्रतिदिन 200 पीस झंडे की बिक्री हो रही है।ये भी पढ़ें- Ram Navami 2024: अयोध्या में रामलला के दर्शन के लिए पहुंचेंगे 25 लाख श्रद्धालु, VIP पास रद्द, जानें दर्शन का आसान तरीकाअजीज के बेटे नौशाद ने 'लोकल 18' को बताया कि यह काम करके उन्हें बहुत खुशी होती है। क्योंकि उन्हें इसे धार्मिक सेवा करने का मौका मिलता है। उन्होंने कहा कि उनका मानना है कि ईश्वर एक है। इसलिए सभी को भाईचारा और मोहब्बत के साथ रहना चाहिए और आपसी नफरत को दूर करना चाहिए। बता दें कि रामनवमी भगवान विष्णु के सातवें अवतार भगवान श्री राम की जयंती के तौर पर मनाया जाता है।(रिपोर्ट- कैलाश कुमार)

मनी कण्ट्रोल 16 Apr 2024 5:52 pm

Airplane का सफर कर सकते हैं सिर्फ 150 रुपये में, सस्ते में करें फ्लाइट से यात्रा

हवाई जहाज से उड़ान भरना कई लोगों का सपना ही है। कई लोग हैं जो कई कारणों से हवाई यात्रा नहीं कर सके है, जिसमें महंगा किराया अधिक होना काफी अहम होता है। कई बार कंपनियां अलग अलग ऑफर लाती है जिससे यात्रियों को लाभ होता है। सरकार भी समय समय पर हवाई किराए को सस्ता करने पर जोर देती रही है। हालांकि इसके अलावा भी यात्री शिकायत करते हैं कि एयरलाइन कंपनियां त्योहार, वीकेंड या छुट्टियों के मौकों पर किराए में बढ़ोतरी कर देती है। अब एक ऐसे हवाई रूट की बात करते हैं, जिसके जरिए यात्री सिर्प 150 रुपये की कीमत पर ही हवाई यात्रा का लाभ उठा सकते है। सिर्फ 150 रुपये में ही हवाई यात्रा का मजा उठाया जा सकता है। ये हवाई यात्रा असम में लीलाबाड़ी से तेजपुर तक का है। इन दोनों ही शहरों के बीच या सफर वैसे सिर्फ 50 मिनट का है। कई रूट पर 1000 रुपये से कम है किराया असम में लीलाबाड़ी से तेजपुर तक की यात्रा का सफर महज 150 रुपये का है। मगर सिर्फ एक यही हवाई सफर ऐसा नहीं है जिसमें यात्रियों को सस्ता किराया देना पड़ रहा है। मात्र 1000 रुपये से कम में देश में कई हवाई यात्रा की जाती है। हवाई संपर्क योजना के तहत सभी रूट पर हवाई यात्रा चलती है। योजना के तहत एयरलाइन को प्रोत्साहन भी मिलते है। इस मामले पर ट्रेवल पोर्टल इक्सिगो की मानें तो देश में लगभग 22 ऐसे हवाई रूट हैं जिनपर यात्रियों को 1000 रुपये से भी कम किराया देना पड़ता है। असम से उड़ान भरने वाली 150 रुपये में उड़ानों का संचालन अलायंस एयर करती है। 150 रुपये से 199 रुपये के बीच है किराया ये ऐसे मार्ग हैं जिन्हें रीजनल कनेक्टिविटी स्कीम कहा जाता है, जिसके तहत आमतौर पर रूट पर किराया 150 रुपये से 199 रुपये प्रति व्यक्ति तक है। ये किराया आमतौर पर पूर्वोत्तर क्षेत्र में हैं। वहीं दक्षिण के क्षेत्र में बेंगलुरु-सलेम और कोचीन-सलेम मार्ग है, जहां टिकट की कीमतें सस्ती है। इसके अलावा गुवाहाटी-शिलॉन्ग से संचालित होने वाली फ्लाइट का किराया 400 रुपये तक है। वहीं 500 रुपये किराया इम्फाल-आइजोल, दीमापुर-शिलॉन्ग और शिलॉन्ग-लीलाबाड़ी की उड़ानों के बीच देखने को मिलता है। बेंगलुरु-सलेम उड़ान के मामले में किराया 525 रुपये, गुवाहाटी-पासीघाट के लिए 999 रुपये है और लीलाबाड़ी-गुवाहाटी मार्ग के लिए यह 954 रुपये है।

प्रभासाक्षी 16 Apr 2024 5:52 pm

राम नवमी के दिन इन राज्यों में बंद रहेंगे बैंक, चेक करें लिस्ट

Ram Navami 2024 Bank Holiday: देशभर में राम नवमी को भगवान राम के जन्मोत्सव के तौर पर मनाया जाता है. राम नवमी के अवसर पर 17 अप्रैल को देश के अधिकांश राज्यों में बैंक बंद रहेंगे. चेक करें लिस्ट.

न्यूज़18 16 Apr 2024 5:35 pm

Simpolo Group का मेगा प्लान, 1000 करोड़ रुपये का होगा इंवेस्टमेंट, गुजरात-आंध्र में लगेंगे प्लांट

Simpolo: सिरेमिक प्रोडक्शन कंपनी सिंपोलो आने वाले 2-3 सालों में 1000 करोड़ का इंवेस्टमेंट करके अपनी प्रोडक्शन कैपेसिटी को तीन गुना बढ़ाने की प्लानिंग कर रहा है। इसके लिए सिंपोलो ने दो नए मैन्युफैक्चरिंग प्लांट स्टैबलिश करने की प्लानिंग की है। ये दो नए प्लांट गुजरात और आंध्रप्रदेश में खुलेंगे।गुजरातसिंपोलो का पहला प्लांटमालिया, मोरबी, गुजरात में होगा। यह 86 एकड़ में फैला हुआ रहेगा, जिसमें 650 करोड़ का इंवेस्टमेंट होगा। ये प्लांट फाइनेंशियल ईयर 2026 में शुरू होगा। इस प्लांट के ऑपरेट होने से 400 नई नौकरियां निकाली जाएंगी, जिससे लोगों को रोजगार मिलेगा। इस प्लांट के तहत इनोवेशन और विशिष्टता के साथ सिरेमिक इंडस्ट्री में सिंपोलो आगे बढ़ने के लिए तैयार है।आंध्र प्रदेशदूसरा प्लांटनायडूपेटा, तिरुपति, आंध्र प्रदेश में होगा। आंध्र प्रदेश के तिरुपति में नायडूपेटा प्लांट 83 एकड़ में फैला हुआ है, जिसमें 350 करोड़ का इंवेस्टमेंट होगा। ये प्लांट फाइनेंशियल ईयर 2025 में शुरू होगा। इस प्लांट के तहत सालाना 13.2 मिलियन स्कावर मीटर प्रोडक्शन करने का टारगेट रहेगा। इस प्लांट के ऑपरेट होने से 300 नई नौकरियों के साथ रोजगार के कई अवसर पैदा होंगे।सिरेमिक इंडस्ट्री को स्ट्रॉन्ग बनाने में मददसिंपोलो ग्रुप के सीएमडी, जितेंद्र अघारा का इस मामले में कहना है कि मालिया और नायडूपेटा प्लांट्स की स्थापना के साथ, 1000 करोड़ रुपये का इंवेस्टमेंट सिंपोलो ग्रुप की शानदार 30 साल की जर्नी का एक महत्वपूर्ण पल है। इस इंवेस्टमेंट से इंडिया में सिरेमिक इंडस्ट्री को स्ट्रॉन्ग बनाने में मदद मिलेगी। इनोवेशन, क्वालिटी और कस्टमर सेटिफेक्शन पर हमें विश्वास है। ये इंवेस्टमेंट देश के लिए एक बेंचमार्क का काम करेगा। इतना ही नहीं, हमें देश में टाइल इंडस्ट्री और रियल एस्टेट डेवलपमेंट में भी शानदार फ्यूचर दिख रहा है।बता दें सिंपोलो ग्रुप की सहायक कंपनी नेक्सियन पहले से ही मोरबी में एक फैसिलिटी ऑपरेट करती है, जो सालाना 6.6 मिलियन वर्ग मीटर का प्रोडक्शन करती है।

मनी कण्ट्रोल 16 Apr 2024 5:33 pm

नोएडा एयरपोर्ट को लेकर आया बड़ा अपडेट, BPCL बिछाएगी फ्यूल की पाइपलाइन

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट की तरफ से कहा गया क‍ि एयर पोर्ट और भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन ल‍िम‍िटेड ने कार्बन उत्सर्जन में कमी लाने और एयरपोर्ट की एटीएफ मांग को कुशलतापूर्वक पूरा करने के लिए 20 फरवरी को एक करार पर साइन किये हैं.

ज़ी न्यूज़ 16 Apr 2024 5:32 pm

वर्ष 2028 तक बेरोजगारी दर में 0.97 प्रतिशत की कमी संभवः ORF Report

नयी दिल्ली । देश में बेरोजगारी दर में वर्ष 2028 तक 0.97 प्रतिशत अंक की कमी आ सकती है। एक रिपोर्ट में मंगलवार को कहा गया है कि देश की अर्थव्यवस्था के पांच लाख करोड़ डॉलर तक पहुंचने से रोजगार के अवसर बढ़ेंगे, जिससे बेरोजगारी दर घटेगी। शोध संस्थान ‘ऑब्जर्वर रिसर्च फाउंडेशन (ओआरएफ)’ की भारत रोजगार परिदृश्य 2030 रिपोर्ट के मुताबिक, श्रमबल में बिना रोजगार वाले लोगों का प्रतिशत यानी बेरोजगारी दर वर्ष 2024 के 4.47 प्रतिशत से घटकर 2028 में 3.68 प्रतिशत रह जाने का अनुमान है। रिपोर्ट कहती है, ‘‘भारत का रोजगार बाजार व्यापक बदलाव का अनुभव कर रहा है। कोविड-19 महामारी के बाद भारत दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ती हुई प्रमुख अर्थव्यवस्था बन गया है।’’ रिपोर्ट के मुताबिक, ‘‘भारत 7.8 प्रतिशत की सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) की वृद्धि दर के साथ 2026-27 तक पांच लाख करोड़ डॉलर की अर्थव्यवस्था बनने का लक्ष्य हासिल कर सकता है। मजबूत निजी खपत और सार्वजनिक निवेश से इस वृद्धि को समर्थन मिलेगा।’’ भारत के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) का आकार वर्ष 2024 में चार लाख करोड़ डॉलर से थोड़ा कम होने का अनुमान है। ओआरएफ ने एक बयान में कहा, ‘‘भारत के पांच लाख करोड़ डॉलर के लक्ष्य के करीब पहुंचने के साथ कुल रोजगार 22 प्रतिशत बढ़ सकता है, जबकि बेरोजगारी दर 2028 तक 0.97 प्रतिशत कम हो सकती है।’’ रिपोर्ट में सेवा क्षेत्र में विशेष रूप से अधिक अवसर वाले दस उप-क्षेत्रों पर प्रकाश डाला गया है। इनमें डिजिटल सेवाएं, वित्तीय सेवाएं और स्वास्थ्य, आतिथ्य, उपभोक्ता खुदरा, ई-कॉमर्स और नवीकरणीय ऊर्जा से संबंधित सेवाएं शामिल हैं। ओआरएफ के निदेशक और रिपोर्ट के सह-लेखक नीलांजन घोष ने कहा, ‘‘अगली पीढ़ी के रोजगार में सुधार के लिए उद्यमिता को बढ़ावा देना महत्वपूर्ण होगा। उद्यमियों का एक नया वर्ग रोजगार सृजन को प्रोत्साहित कर सकता है।

प्रभासाक्षी 16 Apr 2024 5:30 pm

क्रूड में तेजी, पेट्रोल की बिक्री बढ़ी-डीजल की मांग घटी, तेल की कीमत में आएगी तेजी?

इंटरनेशनल मार्केट में क्रूड ऑयल की कीमत में तेजी देखी जा रही है. दूसरी तरफ देश में पेट्रोल की खपत अप्रैल के शुरुआती 15 द‍िनों में सात प्रतिशत बढ़ गई, जबकि डीजल की बिक्री में 9.5 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई है.

ज़ी न्यूज़ 16 Apr 2024 5:29 pm

Market outlook : बाजार में लगातार तीसरे दिन रही गिरावट, जानिए 18 अप्रैल को कैसी रह सकती है इसकी चाल

Stock market : कमजोर ग्लोबल संकेतों के चलते आज लगातार दूसरे दिन बाजार में गिरावट रही। सेंसेक्स-निफ्टी करीब 0.5 फीसदी गिरकर बंद हुए हैं। आज सबसे ज्यादा गिरावट रियल्टी, इंफ्रा इंडेक्स में रही वहीं IT, बैंकिंग, मेटल शेयर दबाब पर बंद हुए। मिडकैप इंडेक्स की फ्लैट क्लोजिंग हुई है। स्मॉलकैप इंडेक्स बढ़त पर बंद हुआ है। हालांकि PSE, फार्मा और FMCG इंडेक्स बढ़त पर बंद हुए हैं। डॉलर के मुकाबले रुपया भी आज रिकॉर्ड निचले स्तर पर बंद हुआ है। रुपया 9 पैसे कमजोर होकर 83.54 के स्तर पर बंद हुआ है।कारोबार के अंत में सेंसेक्स 456 अंक गिरकर 72,944 पर बंद हुआ है। वहीं, निफ्टी 125 अंक गिरकर 22,148 के स्तर पर बंद हुआ है। बैंक निफ्टी आज 288 अंक गिरकर 47,485 पर बंद हुआ है। मिडकैप इंडेक्स 44 अंक गिरकर 49,237 के स्तर पर बंद हुआ है। आज सेंसेक्स के 30 में से 22 शेयरों में बिकवाली रही। वहीं, निफ्टी के 50 में से 35 शेयरों में बिकवाली रही। बैंक निफ्टी के 12 में से 10 शेयरों में बिकवाली देखने को मिली।कल 17 अप्रैल को रामनवमी के की छुट्टी के चलते मार्केट बंद है।18 अप्रैल को कैसी रह सकती है बाजार की चालएलकेपी सिक्योरिटीज के वरिष्ठ तकनीकी विश्लेषक रूपक डे का कहना है कि निफ्टी 21,930 के मजबूत सपोर्ट के साथ 22,400 तक बढ़ता दिख सकता है। तकनीकी रूप से देखें तो रुझान कमजोर हो गया है क्योंकि इंडेक्स 21 ईएमए से नीचे गिर गया है। हालांकि, तेज गिरावट के बाद, निफ्टी को 21,930-22,030 बैंड के भीतर शॉर्ट टर्म सपोर्ट मिल सकता है। अगर यह सपोर्ट कायम नहीं रह पाता तो बाजार में घबराहट बढ़ सकती है। ऊपर की तरफ निफ्टी के लिए 22,400 के स्तर पर शॉर्ट टर्म रजिस्टेंस दिख रहा है।एलकेपी सिक्योरिटीज के वरिष्ठ तकनीकी और डेरिवेटिव विश्लेषक कुणाल शाह का कहना है कि बैंक निफ्टी के 47,300 से नीचे टूटने से आगे बिकवाली बढ़ सकती है। बैंक निफ्टी इंडेक्स में वोलेटाइल शुरुआत के बाद कारोबारी सत्र के अंतिम भाग में रिकवरी देखने को मिली और ये अपने 20-डे मूविंग एवरेज (20DMA) से ऊपर बंद होने में कामयाब रहा, जो 47,500 पर स्थित है। अगर इंडेक्स 47,500-47,400 के रेंज से ऊपर बना रहता है, तो इसमें 48,000 के स्तर की ओर पुल बैक देखने को मिल सकता है। हालांकि, क्लोजिंग बेसिस पर 47,300 से नीचे का ब्रेक आगे बिकवाली का दबाव बढ़ा सकता है जिसके चलते बैंक निफ्टी 46,500 के स्तर तक नीचे जा सकता है।विश्लेषकों की निवेशकों को सलाह है कि वे सावधानी बरतें और प्रतीक्षा करें और देखें कि घटनाक्रम कैसे आगे बढ़ता है। आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज के विश्लेषकों का कहना है कि आगे मौजूदा गिरावट 21900 के अगले बड़े सपोर्ट की तरफ बढ़ सकती जो कि पिछले एक महीने की रैली के रिट्रेसमेंट का एक हिस्सा है। इसके बाद नतीजों के मौसम में तेजी आने के चलते स्टॉक विशिष्ट कार्रवाई के बीच बेस बनता दिखेगा। इस बीच अगर कोई तेजी आती है तो निफ्टी को 22,800 पर रजिस्टेंस का सामना करना पड़ेगा।जियोजित फाइनेंशियल सर्विसेज के वीके विजयकुमार का कहना है कि बढ़ती बांड यील्ड अमेरिकी फेडरल रिजर्व को इस साल दरों में कटौती करने से रोक सकती है।MTNL के प्रॉपर्टी बेचने के प्रयासों को लगा झटका, DDA ने मांगा प्रॉफिट का 50% हिस्साच्वाइस ब्रोकिंग के रिसर्च एनालिस्ट मंदार भोजने का कहना है कि इजरायल-ईरान संकट ने निवेशकों की भावनाओं पर असर डाला है, जिससे जोखिम लेने की क्षमता कम हो गई है। निवेशक घरेलू स्तर पर मार्च तिमाही के नतीजों पर भी करीब से नजर रख रहे हैं।डिस्क्लेमर: मनीकंट्रोल.कॉम पर दिए गए विचार एक्सपर्ट के अपने निजी विचार होते हैं। वेबसाइट या मैनेजमेंट इसके लिए उत्तरदाई नहीं है। यूजर्स को मनी कंट्रोल की सलाह है कि कोई भी निवेश निर्णय लेने से पहले सर्टिफाइड एक्सपर्ट की सलाह लें।

मनी कण्ट्रोल 16 Apr 2024 5:25 pm

'मोदी की नहीं महाराष्ट्र में केवल ठाकरे की गारंटी चलती है' शिवसेना UBT नेता आदित्य ठाकरे ने बताया कैसी है उनकी चुनावी तैयारी

Loksabha Chunav 2024: युवा सेना प्रमुख और शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे) नेता आदित्य ठाकरे (Aditya Thackeray) ने कहा कि उनकी पार्टी आगामी लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections 2024) में नए नाम या चिन्ह को लेकर चिंतित नहीं है, क्योंकि जनता उनका समर्थन करती है। महाराष्ट्र के सीएम एकनाथ शिंदे (Eknath Shinde) के नेतृत्व वाले गुट और शिवसेना (UBT) में पार्टी के विभाजन के बाद ये उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) की शिवसेना का पहला चुनाव है।News18 का साथ खास बातचीत में आदित्य ने चुनाव के लिए अपने पिता के नजरिए और एजेंडे को साझा करते हुए कहा, “महाराष्ट्र में, केवल ‘ठाकरे गारंटी’ काम करती है। लोग उद्धव ठाकरे पर भरोसा करते हैं, क्योंकि उन्होंने हमारा काम देखा है।”यह पूछे जाने पर कि चुनाव चिन्ह और पार्टी के असली नाम के बिना, सेना (यूबीटी) गुट के लिए लोगों तक पहुंचना कितना मुश्किल होगा? ठाकरे ने कहा, “मुझसे इस बारे में कई बार पूछा गया है… कई 'गद्दार' नेता हमारी पार्टी छोड़ चुके हैं, लेकिन हम इसके बारे में नहीं सोचते, लेकिन हम इस बारे में नहीं सोचते। हम जानते हैं कि हमें जनता का समर्थन हासिल है।उन्होंने कहा, उनका प्यार और आशीर्वाद हमेशा हमारे साथ है। लोग उद्धव बालासाहेब ठाकरे पर भरोसा करते हैं, क्योंकि उन्होंने बहुत कम समय में हमारा काम देखा है, जो हमें 2019 के राज्य विधानसभा चुनावों के बाद मिला।इलेक्टोरल बॉन्ड से ध्यान भटकाने के लिए केजरीवाल की गिरफ्तारीइलेक्टोरल बॉन्ड के मुद्दे पर आदित्य ठाकरे ने भारतीय जनता पार्टी (BJP) पर कटाक्ष किया। उन्होंने कहा, “मीडिया में इस पर कितनी चर्चाएं हुई हैं? इस मुद्दे से ध्यान भटकाने के लिए आम आदमी पार्टी (AAP) नेता अरविंद केजरीवाल को गिरफ्तार किया गया।जब उनसे उनकी पार्टी को मिले बॉन्ड के बारे में पूछा गया, तो आदित्य ने कहा, हमारे खाते खुले हैं। हमने बॉन्ड स्वीकार कर लिए हैं, लेकिन बीजेपी को कितने बांड मिले हैं, यह देखिए। बदले में, उन्होंने उन कंपनियों को कॉन्ट्रैक्ट दिया, जो उन्हें बॉन्ड के जरिए पैसा देती थीं।नेताओं को लुभाने का नया तरीका ED, CBI और ITठाकरे ने प्रवर्तन निदेशालय (ED), केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) और आयकर (IT) विभाग के समन को नेताओं को लुभाने का नया तरीका करार दिया।उन्होंने कहा, “यह 2022 में शिवसेना के साथ हुआ और बाद में 2023 में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के साथ हुआ। उन्होंने नेताओं पर एजेंसियों का दबाव डालकर दो पार्टियों को तोड़ दिया। BJP दूसरे दलों के नेताओं को अपने साथ शामिल होने के लिए मजबूर कर रही है और वॉशिंग मशीन बनकर बाद में उन्हें क्लीन चिट दे रही है।आदित्य ने आगे कहा, संजय राउत, अनिल देशमुख, अरविंद केजरीवाल और हेमंत सोरेन जैसे बहादुर नेता अभी भी लड़ रहे हैं। लोकसभा चुनाव के लिए मुंबई से शिव सेना यूबीटी के उम्मीदवारों में से एक अमोल कीर्तिकर का उदाहरण लें। वो ED और आर्थिक अपराध शाखा (EOW) (कथित खिचड़ी घोटाले में) का सामना कर रहे हैं, लेकिन उन्हें एक उम्मीदवार के रूप में नागरिकों का भी सामना करना पड़ रहा है, क्योंकि उन्होंने कुछ भी गलत नहीं किया है। हमारी पार्टी के पदाधिकारी सूरज चव्हाण को सलाखों के पीछे डाल दिया गया। अमोल को पूछताछ का सामना करना पड़ रहा है, लेकिन इस मामले में मुख्य व्यक्ति संजय म्हशेलकर थे, जो शिंदे सेना के साथ हैं। उन्हें किसी ने नहीं छुआ है। ED, IT और CBI बीजेपी के नेतृत्व वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) के तीन गठबंधन सहयोगी हैं।'पुत्र मोह' पर तंजहाल ही में बीजेपी नेता अमित शाह ने महाराष्ट्र में चुनाव प्रचार के दौरान बयान दिया था कि शिवसेना और NCP में फूट के पीछे बीजेपी का हाथ नहीं है। उन्होंने कहा कि यह उद्धव का पुत्र मोह और शरद पवार का पुत्र मोह था, जिसके कारण पार्टियां विभाजित हो गईं।ठाकरे ने जवाब दिया, “BJP की 'फूट डालो और राज करो' नीति मेरी पार्टी में विभाजन के लिए जिम्मेदार है। हमने देखा है कि कैसे उन्होंने जनता दल यूनाइटेड (JDU) नेता नीतीश कुमार और राष्ट्रीय जनता दल (RJD) नेता तेजस्वी यादव की जमी-जमाई सरकार को तोड़ दिया। महाराष्ट्र में राजनीति इतनी नीचे कभी नहीं गई। उन्होंने हाल ही में पवार परिवार और उनकी पार्टी को भी तोड़ दिया। यह नई भाजपा है, यह अटल बिहारी बाजपेयी की बीजेपी नहीं है, जिनके साथ हमारे हमेशा अच्छे संबंध और मित्रता रही है। यह बीजेपी उन सभी नेताओं को दूसरे दलों से ले रही है, जिनके खिलाफ तत्कालीन शिवसेना और बीजेपी ने लड़ाई लड़ी थी। यह उनकी पार्टी के कार्यकर्ताओं की अनदेखी कर रही है और उन पर नए नेताओं को थोप रही है।”'ठाकरे गारंटी' पर बोले आदित्ययह पूछे जाने पर कि सेना UBT BJP के घोषणापत्र में 'मोदी की गारंटी' का मुकाबला कैसे कर रही है? ठाकरे ने कहा, किसी को देश में सर्वे करना चाहिए और देखना चाहिए कि नोटबंदी के बाद क्या हुआ। GST के पैसे का क्या हो रहा है? महाराष्ट्र में सिर्फ 'ठाकरे गारंटी' चलती है। लोग उद्धव ठाकरे पर भरोसा करते हैं, क्योंकि उन्होंने हमारा काम देखा है।उन्होंने आगे कहा, हमने किसानों का कर्ज माफ करके उनकी मदद की है और तटीय सड़क और MTHL समुद्री पुल जैसी बड़े इंफ्रा प्रोजेक्ट की मदद से शहरों का विकास किया है। ये सब उद्धव बाला साहेब ठाकरे की गारंटी के उदाहरण हैं। उत्तर प्रदेश (UP) और गुजरात के उलट, महाराष्ट्र में लोगों को Covid-19 के समय में बेड मिल रहे थे।MVA में मनमुटाव?जब उनसे लोकसभा चुनाव से पहले MVA गठबंधन के बीच मतभेद और जनता पर इसके असर के बारे में पूछा गया, तो उन्होंने कहा, “किसी भी गठबंधन में मनमुटाव होता है। सीटों पर सौदेबाजी होनी चाहिए, क्योंकि इससे पता चलता है कि किस पार्टी ने किस तरह की तैयारी की है। हमारे गठबंधन ने 90% उम्मीदवारों की घोषणा कर दी थी। 'गद्दार गैंग' अभी भी कई सीटों पर उम्मीदवार उतारने के लिए संघर्ष कर रहा है। वे इतने डरे हुए हैं कि पिछले 2.5 साल में उन्होंने स्थानीय निकाय चुनाव भी नहीं कराए। दो साल से ज्यादा समय तक राज्य में दो लोकसभा उपचुनाव नहीं हुए।

मनी कण्ट्रोल 16 Apr 2024 5:25 pm

April के पहले पखवाड़े में पेट्रोल की बिक्री बढ़ी, डीजल की मांग घटी

नयी दिल्ली । देश में पेट्रोल की खपत अप्रैल के पहले पखवाड़े में सात प्रतिशत बढ़ गई जबकि डीजल की बिक्री में 9.5 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई। सार्वजनिक क्षेत्र की पेट्रोलियम विपणन कंपनियों के आंकड़ों से यह जानकारी सामने आई है। भीषण गर्मी के मौसम की शुरुआत से पहले पेट्रोल और डीजल बिक्री के संबंध में परस्पर विरोधी आंकड़े सामने आए हैं। तीनों सार्वजनिक क्षेत्र की पेट्रोलियम कंपनियों का ईंधन बाजार के 90 प्रतिशत हिस्से पर नियंत्रण है। आंकड़ों से पता चलता है कि एक से 15 अप्रैल के दौरान पेट्रोल की बिक्री बढ़कर 12.2 लाख टन हो गई, जबकि पिछले साल की समान अवधि में यह 11.4 लाख टन थी। वहीं इस अवधि में डीजल की मांग 9.5 प्रतिशत घटकर 31.4 लाख टन रह गई। पेट्रोल की कीमतों में आंशिक कटौती की वजह से निजी वाहनों का इस्तेमाल बढ़ने के कारण बिक्री बढ़ गई। लेकिन फसल कटाई के मौसम के साथ गर्मी बढ़ने पर कारों में एयर कंडीशनिंग की मांग बढ़ने पर आगे चलकर डीजल की मांग बढ़ने का अनुमान है। पिछले महीने पेट्रोल और डीजल की कीमतों में दो-दो रुपये प्रति लीटर की कटौती की गई थी। इससे पहले दो साल तक ईंधन कीमतों में कोई बदलाव नहीं हुआ था। डीजल भारत में सबसे अधिक खपत वाला ईंधन है, जो सभी पेट्रोलियम उत्पादों की खपत का लगभग 40 प्रतिशत है। देश में कुल डीजल बिक्री में परिवहन क्षेत्र की हिस्सेदारी 70 प्रतिशत है। यह हार्वेस्टर और ट्रैक्टर सहित कृषि क्षेत्रों में उपयोग किया जाने वाला प्रमुख ईंधन है। पेट्रोल की खपत में लगातार साल-दर-साल वृद्धि देखी जा रही है जबकि डीजल की खपत में उतार-चढ़ाव देखा जा रहा है। आलोच्य अवधि में विमानों में इस्तेमाल होने वाले ईंधन (एटीएफ) की बिक्री सालाना आधार पर 10.4 प्रतिशत बढ़कर 3,35,700 टन हो गई। पेट्रोल और डीजल की तरह, एटीएफ की मांग भी अब पूर्व-कोविड स्तर से अधिक हो चुकी है। अप्रैल के पहले पखवाड़े में रसोई गैस एलपीजी की बिक्री सालाना आधार पर 8.8 प्रतिशत बढ़कर 12 लाख टन हो गई। हालांकि, मासिक आधार पर एलपीजी की मांग 11.6 प्रतिशत घटी है।

प्रभासाक्षी 16 Apr 2024 5:23 pm

पश्चिम एशिया संकट से शेयर बाजार में संकट, सेंसेक्स 456 अंक और लुढ़का

Share bazaar News: स्थानीय शेयर बाजारों (stock markets) में मंगलवार को लगातार तीसरे दिन गिरावट रही और बीएसई सेंसेक्स (Sensex) 456 अंक लुढ़क गया। वैश्विक बाजारों में कमजोर रुख और पश्चिम एशिया में तनाव बढ़ने की आशंका के बीच मुख्य रूप से सूचना ...

वेब दुनिया 16 Apr 2024 5:22 pm

फ्लोरिडा में घर की छत पर गिरी 700 ग्राम की वस्तु, NASA ने बताया- अंतरिक्ष मलबा

Space Debris : फ्लोरिडा में एलेजांद्रो ओटेरो के घर की छत पर 8 मार्च को एक अनजान वस्तु टकराई। NASA ने स्वीकार किया है कि यह 700 ग्राम का एक मेटल ऑब्जेक्ट है, जिसे मार्च 2021 में इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन द्वारा अंतरिक्ष में छोड़ दिया गया था। अंतरिक्ष में मलबे को डिस्पोज करना आम बात है और माना जाता है कि जब यह पृथ्वी के वायुमंडल में प्रवेश करेगा तो यह जल जाएगा, लेकिन इस बार ऐसा नहीं हुआ। आज के समय में दुनिया भर के वैज्ञानिकों के लिए अंतरिक्ष में मलबा एक बड़ी चुनौती बनी हुई है।ओटेरो के घर की छत पर टकराने वाला यह मेटल ऑब्जेक्ट एक फ्लैट वुडन स्ट्रक्चर है, जिसका इस्तेमाल 2021 में स्टेशन से फेंके गए डिस्पोजल पैलेट पर पुरानी बैटरियों को रखने के लिए किया गया था। नासा के अनुसार 10 सेंटीमीटर से बड़ी 25000 से अधिक वस्तुएं पृथ्वी की कक्षा में तैर रही हैं और ये कबाड़ लगभग 7 से 8 किलोमीटर प्रति सेकंड की जबरदस्त स्पीड से ट्रैवल कर रहे हैं। इनमें से कुछ ऑब्जेक्ट की स्पीड बुलेट के मुकाबले दस गुना अधिक है। अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी ने कहा कि पिछले 50 सालों में हर दिन औसतन मलबे का एक टुकड़ा पृथ्वी पर वापस गिरता है।2 अप्रैल को 1500 किलोग्राम से अधिक वजनी कक्षीय मलबे का एक ज्वलंत टुकड़ा जिसे चीन द्वारा लॉन्च किए गए Shenzou 15 मिशन द्वारा अंतरिक्ष में छोड़ा गया था, दक्षिणी कैलिफोर्निया पर गिर गया। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) के PSLV सैटेलाइट का एक अंतरिक्ष मलबा 2023 में ऑस्ट्रेलिया के एक समुद्र तट पर गिरा था।ज्यादातर अंतरिक्ष मलबा समुद्र में गिरता है, जो पृथ्वी की सतह के 70 फीसदी से अधिक हिस्से को कवर करता है। वहीं, अगर अंतरिक्ष कबाड़ का एक बड़ा टुकड़ा तेज गति से किसी जहाज से टकराता है तो इससे बहुत नुकसान हो सकता है। यहां तक कि समुद्र में गिरने वाला मलबा भी समुद्री जीवों को नुकसान पहुंचा सकता है और इसके इकोसिस्टम को प्रदूषित कर सकता है।अंतरिक्ष मलबे के जनरेशन और मैनेजमेंट पर अंकुश लगाने के लिए अंतरराष्ट्रीय कानून हैं। आउटर स्पेस ट्रीटी के अनुच्छेद 7 में कहा गया है कि स्पेस ऑब्जेक्ट को लॉन्च करने वाला देश अपने पीछे छोड़े गए मलबे के कारण होने वाले किसी भी नुकसान के लिए भुगतान करने के लिए जिम्मेदार होगा।हालांकि, स्पेस इंडस्ट्री में प्राइवेट प्लेयर्स की बढ़ती भूमिका के साथ मलबे और इससे उभरने वाले जोखिम बढ़ रहे हैं। स्पेस में बेकार कबाड़ छोड़ने पर पहला जुर्माना अक्टूबर 2023 में ही लगाया गया था। अमेरिका स्थित डिश नेटवर्क ने मानदंडों का उल्लंघन करने के लिए 150,000 डॉलर का भुगतान किया था।

मनी कण्ट्रोल 16 Apr 2024 5:12 pm

लखनऊ के लाल ने कर दिया कमाल, आदित्य कुमार ने किया IAS टॉप, IIT कानपुर से किया बीटेक

Aditya Srivastava UPSC 2023 Topper: संघ लोक सेवा आयोग (Union Public Service Commission -UPSC) ने आज (16 अप्रैल 2024) सिविल सेवा मुख्य परीक्षा 2023 के नतीजों का ऐलान कर दिया है। इसमें लखनऊ के रहने वाले आदित्य श्रीवास्तव (Aditya Srivastava) ने टॉप किया है। तीसरे प्रयास में उन्होंने सिविल सेवा की परीक्षा में टॉप किया है। इसके पहले उनका IPS के लिए चयन हुआ था और वो बतौर IPS अंडर ट्रेनिंग पश्चिम बंगाल में काम कर रहे हैं। आयोग ने इस साल कुल 1016 लोगों का चयन किया है। उनमें 347 जनरल कैटेगरी से हैं। UPSC के मुताबिक अलग-अलग चरणों में आयोजित किए गए इंटरव्यू में कुल 2,800 से ज्यादा लोग इंटरव्यू में शामिल हुए थे।आदित्य श्रीवास्तव का जन्म उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में हुआ। वे यहीं पले पढ़ें और शुरुआती पढ़ाई सीएमएस अलीगंज से की। 12वीं पास करने के बाद आदित्य ने IIT कानपुर से बीटेक किया। उन्होंने साल 2019 में इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग (Electrical Engineering) से ग्रेजुएशन किया। इसके बाद प्राइवेट कंपनी में नौकरी करने लगे।IPS से IAS बने आदित्य श्रीवास्तवमीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, उन्होंने बिना कोचिंग के सफलता हासिल की है। उन्होंने टेस्ट सीरीज और मॉक इंटरव्यू से तैयारी की है। उन्होंने वैकल्पिक विषय के रूप में इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग को चुना है। उन्होंने पिछले साल के पेपरों का स्टडी किया और उसके अनुसार प्रीलिम्स और मेन्स दोनों परीक्षाओं की तैयारी की। एक इंटरव्यू में उन्होंने बताया कि उन्हें अपने जीवन में कई बार असफलताओं का सामना करना पड़ा। उन्होंने बताया कि मैंने कुछ ऐसी गलतियां भी की, जब पहली बार UPSC की प्रीलिम्स (Prelims) परीक्षा भी नहीं पास कर पाए। इसके बाद दूसरे प्रयास में वो IPS बने। फिर तीसरे प्रयास में उन्होंने सिविल सेवा की परीक्षा में टॉप किया।बीटेक के बाद प्राइवेट कंपनी में किया कामअपनी स्नातक की पढ़ाई पूरी करने के बाद आदित्य बेंगलुरु में Goldman Sachs कंपनी के साथ कामकाज शुरू कर दिया। करीब 15 महीने तक काम करने के बाद उन्होंने जॉब छोड़ने का फैसला किया और सिविल सेवा की परीक्षा में जुट गए। सिविल सेवा की तैयारी में जुटे छात्रों को सलाह दी है कि हर बार अपनी बातों को मानना ही बेहतर नहीं है। सीनियर्स और एक्सपर्ट्स की भी सलाह लेनी चाहिए। कड़ी मेहनत के बजाय स्मार्ट तरीके से काम करना चाहिए।UPSC CSE Result 2023: जारी हो गए UPSC के नतीजे, जानिए कैसे चेक करें अपना रिजल्ट, आदित्य श्रीवास्तव ने किया टॉप

मनी कण्ट्रोल 16 Apr 2024 5:10 pm

व‍ित्‍त मंत्री का भरोसा, आने वाले सालों में तेजी से बढ़ने वाली इकोनॉमी बनी रहेगा भारत

व‍ित्‍त मंत्री ने कहा, आपने देखा होगा वित्त वर्ष 2023-24 की तीनों तिमाही में हर तिमाही में वृद्धि दर 8 प्रतिशत या ज्‍यादा रही है. तीसरी तिमाही में वृद्धि दर 8.4 प्रतिशत रही.

ज़ी न्यूज़ 16 Apr 2024 5:08 pm

BharatPe| एक साल के लंबे इंतजार के बाद इन्हें मिली भारतपे के CEO की जिम्मेदारी

भारतपे बीते एक वर्ष से लगातार बिना सीईओ के ही काम कर रहा है। अब कंपनी को बड़ी राहत मिली है क्योंकि भारतपे को एक साल और तीन महीने के लंबे इंतजार के बाद नया सीईओ मिल गया है। कंपनी ने नलिन नेगी को भारतपे का नया सीईओ नियुक्त किया है। इससे पहले समीर सुहैल जनवरी 2023 में इस्तीफा दे चुके थे, जिसके बाद से ये पद लगातार खाली पड़ा हुआ था। गौरतलब है कि नलिन नेगी ने भारतपे को साल 2022 में ज्वाइन किया था। नलिन नेगी अब भारतपे के साथ हैं, और समीर सुहैल द्वारा इस्तीफा देने के बाद से ही वो लगातार कंपनी के अंतरिम सीईओ और सीएफओ की जिम्मेदारी निभा रहे थे। कंपनी ने आधिकारिक तौर पर अब उनके नाम की घोषणा की है। अश्नीर ग्रोवर और सुहैल ने छोड़ी थी कंपनी भारतपे फिनटेक कंपनी है, जिसके लिए वर्ष 2023 काफी खराब रहा था। भारतपे को सबसे पहले अश्नीर ग्रोवर ने छोड़ा था। इसके बाद कंपनी के शेयर्स पर भी गंभीर असर हुआ था। अश्नीर ग्रोवर का भारतपे छोड़ने पर कानूनी लड़ाई छिड़ी थी। इस घटना के बाद ही समीर सुहैल भी कंपनी छोड़ने पर मजबूर हुए थे। भारतपे में ये दौर काफी मुश्किलों भरा था। वहीं अब समीर सुहैल के जाने के बाद नलिन नेगी ने काम संभाला था। उन्होंने इस दौरान कंपनी में शानदार प्रदर्शन किया है, जिसके बाद स्थायी तौर पर उन्हें जिम्मेदारी दी गई है।

प्रभासाक्षी 16 Apr 2024 5:07 pm

शेयर बाजार में लगातार तीसरे दिन गिरावट, सेंसेक्स 456 और निफ्टी 124 अंक लुढ़का

मुंबई। स्थानीय शेयर बाजारों में मंगलवार को लगातार तीसरे दिन गिरावट रही और बीएसई सेंसेक्स 456 अंक लुढ़क गया। वैश्विक बाजारों में कमजोर रुख और पश्चिम एशिया में तनाव बढ़ने की आशंका के बीच मुख्य रूप से सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) शेयरों में बिकवाली से बाजार नीचे आया। विदेशी संस्थागत निवेशकों की पूंजी निकासी से भी निवेशकों की धारणा प्रभावित हुई। तीस शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स 456.10 अंक यानी 0.62 प्रतिशत की गिरावट के साथ 72,943.68 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान एक समय यह 714.75 अंक तक लुढ़क गया था। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 124.60 अंक यानी 0.56 प्रतिशत की गिरावट के साथ 22,147.90 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स के शेयरों में इन्फोसिस, इंडसइंड बैंक, बजाज फिनसर्व, विप्रो, एचसीएल टेक्नोलॉजीज, बजाज फाइनेंस, टेक महिंद्रा, टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज और लार्सन एंड टुब्रो प्रमुख रूप से नुकसान में रहे। दूसरी तरफ लाभ में रहने वाले शेयरों में टाइटन, हिंदुस्तान यूनिलीवर, एचडीएफसी बैंक, मारुति, आईटीसी, पावरग्रिड और रिलायंस इंडस्ट्रीज शामिल हैं। एशिया के अन्य बाजारों में दक्षिण कोरिया का कॉस्पी, जापान का निक्की, चीन का शंघाई कम्पोजिट और हांगकांग का हैंगसेंग नुकसान में रहे। यूरोप के प्रमुख बाजारों में शुरुआती कारोबार में गिरावट का रुख रहा। अमेरिकी बाजार वॉल स्ट्रीट में सोमवार को गिरावट रही थी। इजराइल के सैन्य प्रमुख ने सोमवार को कहा कि उनका देश ईरान के हमले का जवाब देगा। हालांकि, उन्होंने इस बारे में विस्तार से कुछ नहीं बताया कि यह हमला कब और कैसे किया जाएगा। इस बीच, विश्व नेताओं ने इजारायल से पश्चिम एशिया में जवाबी कार्रवाई से बचने का आग्रह किया है। इसे भी पढ़ें: आगामी वर्षों में सबसे तेज वृद्धि वाली अर्थव्यवस्था बना रहेगा भारत : Sitharaman वैश्विक तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.26 प्रतिशत की गिरावट के साथ 89.87 डॉलर प्रति बैरल रहा। शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार, विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) ने सोमवार को 3,268 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर बेचे। बीएसई सेंसेक्स ने सोमवार को 845.12 अंक का गोता लगाया था, जबकि एनएसई निफ्टी 246.90 अंक के नुकसान में रहा था।

प्रभासाक्षी 16 Apr 2024 4:59 pm

अब पार्टी और इवेंट के लिए भी फूड ऑर्डर की डिलीवरी करने की तैयारी में Zomato

जोमैटो अब बड़े ऑर्डर की डिलीवरी की सुविधा खुद से उपलब्ध कराने की तैयारी में है। यह डिलीवरी 50 लोगों के ग्रुप, इवेंट और पार्टियों के लिए हो सकेगी। कंपनी के CEO ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म X पर यह जानकारी दी। जोमैटो (Zomato) के फाउंडर और CEO दीपेंदर गोयल ने X (ट्विटर) पर कहा, 'इस तरह के बड़े ऑर्डर पहले रेगुलर फ्लीट डिलीवरी पार्टनर्स करते थे। हालांकि, ग्राहकों के पास इसका अनुभव अच्छा नहीं था। यह नया सिस्टम उन ग्राहकों की दिक्कतों को दूर करेगा, जो जोमैटो पर बड़ा ऑर्डर देते हैं।'गोयल का कहना था, ' इस सिस्टम में अभी काम चल रहा है और हम इसमें कुछ और फीचर्स जोड़ने की प्रक्रिया में हैं, मसलन कूलिंग कंपार्टमेंट्स और हॉट बॉक्स, ताकि कस्टमर्स की जरूरत और पसंद के हिसाब से चीजें उन तक पहुंच सकें।' कंपनी का यह फैसला ऐसे वक्त में आया है, जब उसके शेयरों की कीमत तेजी से बढ़ रही है। कंपनी के कोर बिजनेस का प्रॉफिट बढ़ रहा है और इसकी कोर बिजनेस इकाई की ग्रोथ भी तेज है।दिसंबर तिमाही में जोमैटो के फूड डिलीवरी बिजनेस के एडजस्टेड रेवेन्यू में सालाना आधार पर 30 पर्सेंट की बढ़ोतरी हुई और यह 2,205 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। इसी अवधि में ब्लिनकिट का रेवेन्यू दोगुना बढ़कर 644 करोड़ रुपये हो गया। संबंधित अवधि में कंपनी का कंसॉलिडेटेड नेट प्रॉफिट 138 करोड़ रुपये रहा, जबकि एक साल पहले इसी अवधि में कंपनी का नेट लॉस 347 करोड़ रुपये रहा। इस दौरान उसका रेवेन्यू 1,948 करोड़ रुपये से बढ़कर 3,288 करोड़ रुपये हो गया।कंपनी का स्टॉक 115 गुना फॉरवर्ड अर्निंग पर शेयर कर रहा है, जो इसकी ग्लोबल सकमक्ष कंपनियों मसलन उबर, डिलीरू आदि से ज्यादा है। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) में कंपनी का शेयर 0.98 पर्सेंट की गिरावट के साथ 186.45 रुपये पर बंद हुआ।

मनी कण्ट्रोल 16 Apr 2024 4:58 pm

बाजार गिर कर बंद होने से पहले दिग्गज एक्सपर्ट्स ने इन 4 स्टॉक्स में कराई ट्रेडिंग, क्या इनमें से कोई है आपके पास

बाजार में आज लगातार तीसरे दिन की कमजोरी के बीच PSE, फार्मा, FMCG इंडेक्स बढ़त पर बंद हुए। रियल्टी, इंफ्रा इंडेक्स गिरावट पर बंद हुए। IT, बैंकिंग, मेटल शेयरों पर दबाव देखने को मिला। जबकि स्मॉलकैप इंडेक्स बढ़त पर बंद हुए। वहीं मिडकैप इंडेक्स की फ्लैट क्लोजिंग देखने को मिली। सेंसेक्स के 30 में से 22 शेयरों में बिकवाली देखने को मिली। निफ्टी के 50 में से 35 शेयरों में बिकवाली नजर आई। बैंक निफ्टी के 12 में से 10 शेयरों में बिकवाली देखने को मिली। वहीं बाजार गिरकर बंद होने से पहले शॉर्ट टर्म में कमाई के लिए दिग्गज एक्सपर्ट्स ने बर्जर पेंट्स, डालमिया भारत, एमफैसिस और स्ट्राइड्स फार्मा के शेयर में दांव लगाने की राय दी। जानते हैं किसने कितना दिया टारगेट प्राइस-manasjaiswal.com के मानस जायसवाल का सस्ता ऑप्शनः Berger Paintsmanasjaiswal.com के मानस जायसवाल ने कहा कि बर्जर पेंट्स के स्टॉक में अप्रैल की एक्सपायरी वाली पुट खरीदने पर कमाई होगी। उन्होंने कहा कि इसकी 530 के स्ट्राइक वाली कॉल 8.70 रुपये के आस-पास खरीदें। इसमें कुछ दिनों में 15 रुपये तक के लक्ष्य देखने को मिलेंगे। हालांकि उन्होंने ये भी कहा कि इसमें 3 रुपये के स्तर पर स्टॉपलॉस लगाना चाहिए।Sharekhan के जतिन गेडिया का एफएंडओ सुपरस्टार शेयरः Dalmia Bharat FutureSharekhan के जतिन गेडिया ने बाजार बंद होने से पहले एफएंडओ सेगमेंट से डालमिया भारत के स्टॉक में खरीदारी करने की राय दी। उन्होंने कहा कि इस स्टॉक में 2080 रुपये के टारगेट देखने को मिल सकते हैं। उन्होंने कहा कि इसमें 1920 रुपये के लेवल पर स्टॉपलॉस के साथ 1960 रुपये के लेवल पर खरीदारी करनी चाहिए।Dealing Room Check: डीलर्स ने आज दो स्टॉक में कराई बंपर बाईंग, जानें कितना चढ़ सकते हैं दोनों शेयरKotak Securities के श्रीकांत चौहान का चार्ट का चमत्कार शेयरः MphasisKotak Securities के श्रीकांत चौहान ने आज के लिए चार्ट का चमत्कार दिखाने वाले शेयर के रूप में एमफैसिस पर दांव लगाया। उन्होंने कहा कि इसमें 2306 रुपये के स्तर पर बिकवाली कर सकते हैं। इसमें 2350 रुपये के स्तर पर स्टॉपलॉस लगाएं। ये स्टॉक 2200 रुपये के लेवल तक जा सकता है।Marketsmithindia के मयुरेश जोशी का मिडकैप फंडा स्टॉकः Strides PharmaMarketsmithindia के मयुरेश जोशी ने मिडकैप फंडा स्टॉक बताते हुए कहा कि आज स्ट्राइड्स फार्मा के स्टॉक में खरीदारी करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि इसमें 842 रुपये के स्तर पर खरीदारी करें। इसमें लंबी अवधि तक बने रहने पर अच्छा रिटर्न देखने को मिल सकता है।(डिस्क्लेमरः Moneycontrol.com पर दिए जाने वाले विचार और निवेश सलाह निवेश विशेषज्ञों के अपने निजी विचार और राय होते हैं। Moneycontrol यूजर्स को सलाह देता है कि वह कोई निवेश निर्णय लेने के पहले सर्टिफाइड एक्सपर्ट से सलाह लें।)

मनी कण्ट्रोल 16 Apr 2024 4:58 pm

बुजुर्गों की बैंक एफडी से सरकार की बंपर कमाई, 27,000 करोड़ की आय

सरकार ने पिछले वित्त वर्ष में फिक्स डिपॉजिट पर कमाए गए ब्याज पर वरिष्ठ नागरिकों से 27,000 करोड़ रुपये से ज्यादा टैक्स हासिल किया है.

न्यूज़18 16 Apr 2024 4:55 pm

आगामी वर्षों में सबसे तेज वृद्धि वाली अर्थव्यवस्था बना रहेगा भारत : Sitharaman

जयपुर। केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मंगलवार को कहा कि बीते तीन वित्त वर्षों में भारतीय अर्थव्यवस्था ने दुनिया में सबसे तेज वृद्धि दर्ज की है और आगामी वर्षों में यह रुख जारी रह सकता है। उन्होंने साथ ही कहा कि आने वाले 25 साल भारत के लिए महत्वपूर्ण हैं। वह यहां जयपुर के एक दिवसीय दौरे पर आईं थीं। सीतारमण ने औद्योगिक एवं व्यावसायिक संवाद को संबोधित करते हुए कहा, अगले 25 साल भारत के लिए बेहद महत्वपूर्ण होंगे। आपने देखा वित्त वर्ष 2023-24 की तीनों तिमाही में ...प्रत्येक तिमाही में वृद्धि दर आठ प्रतिशत या अधिक रही है। तीसरी तिमाही में वृद्धि दर 8.4 प्रतिशत रही। चौथी तिमाही में भी इसी स्तर की वृद्धि दर की हम अपेक्षा कर रहे हैं। इसे भी पढ़ें: 'X’ के नए उपयोगकर्ताओं को Like, Post करने के लिए देना होगा मामूली शुल्क उन्होंने कहा, इस तरह 2023-24 में औसत वृद्धि दर उस स्तर की ही है। टिकाऊ आर्थिक वृद्धि है। हम अपने ऊपर आत्मविश्वास बनाए रखते हुए आगे बढ़ सकते हैं कि जैसे पूरी दुनिया में पिछले तीन साल से लगातार हम सबसे तेज वृद्धि दर वाली अर्थव्यवस्था रहे हैं, वैसे ही आने वाले सालों में भी रह सकते हैं। उन्होंने कहा कि आर्थिक नीति, व्यापक आर्थिक स्थिरता, स्थिर सरकार, स्थिर कर नीति व सरकार के टेंडर तथा खरीदारी आदि पारदर्शी तरीके से होने की वजह से आज भारत की अर्थव्यवस्था की विदेश में बहुत साख है और निवेशक यहां आ रहे हैं।

प्रभासाक्षी 16 Apr 2024 4:51 pm

लिस्टिंग के बाद से 240% चढ़ गया यह शेयर, एक्सपर्ट ने कहा- ₹250 तक जाएगा भाव, निवेशक मालामाल

Multibagger stock: इलेक्ट्रॉनिक्स मार्ट इंडिया के शेयर (Electronics Mart India Ltd) की कीमत लिस्टिंग 17 अक्टूबर, 2022 के बाद से 240% चढ़ गई है।

लाइव हिन्दुस्तान 16 Apr 2024 4:49 pm

विदेश जा रहे हैं? अब BookMyForex App पर आसानी से फॉरेक्स कार्ड रिलोड कर सकते हैं

विदेश जाने वाले लोगों को फॉरेक्स कार्ड (Forex Card) को रिलोड करने के लिए बहुत लंबे प्रोसिजर से गुजरना पड़ता था। पहले उन्हें मैनुअल फॉर्म भरना पड़ता था। फिर ईमेल पर ट्रैवल डॉक्युमेंट भेजना पड़ता था। अब यह प्रॉब्लम दूर हो गई है। BookMyForex ने इंस्टैंट फॉरेक्स कार्ड रिलोड्स शुरू किया है। बुकमायफॉरेक्स-यस बैंक ट्रू जीरो मार्कअप फॉरेक्स कार्ड से रियल टाइम में यह काम पूरा किया जा सकता है। आइए जानते हैं इसका इस्तेमाल कैसे करना होगा, इसके फायदे होंगे और यह कितना आसान है।सिर्फ एक क्लिक से कार्ड हो जाएगा रिलोडअब बुकमायफॉरेक्स ऐप पर सिंपल क्लिक से यह काम हो जाएगा। फॉरेक्स कार्ड रिलोड करने के लिए आपको पेपरवर्क नहीं करना होगा। साथ ही इसमें देर भी नहीं होगी। आपको नए फीचर का इस्तेमाल करने के लिए अपने ऐप को अपडेट करना पड़ सकता है। बुकमायफॉरेक्स ऐप का नया वर्जन प्ले स्टोर और ऐप स्टोर पर उपलब्ध है। बुकमायफॉरेक्स डॉट कॉम के सीईओ और फाउंडर सुदर्शन मोटवानी ने कहा कि विदेश यात्रा पर जाने के दौरान कैश खत्म हो जाने पर बहुत दबाव दबाव बन जाता है। क्रेडिट कार्ड पर निर्भर रहने से कई बार समस्या बढ जाती है। आपको ज्यादा कनवर्ज चार्ज, अतिरिक्त फीस आदि चुकानी पड़ती है।बैंक अकाउंट ओपन करने की जरूरत नहींमोटवानी ने कहा है कि रियल टाइम में डिजिटर रिलोड्स की सुविधा शुरू हो जाने पर विदेश जाने वाले लोगों को अपने पैसे पर पूरा एक्सेस मिल जाता है। बुकमायफॉरेक्स को खरीदने के लिए किसी तरह का बैंक अकाउंट ओपन करने की जरूरत नहीं है। इसकी डिलीवरी आपके घर पर उसी दिन कर दी जाती है।फॉरेक्स कार्ड का बैलेंस चेक करने में आसानीबुकमायशोफॉरेक्स ऐप पर इंस्टैंट रिलोड के अलावा ट्रू जीरो मार्कअप फॉरेक्स एप पर आप अपने फॉरेक्स कार्ड के बैलेंस को चेक कर सकते हैं। आपको स्पेंडिंग कार्ड लिमिट के एलर्ट भी आएंगे। यूजर्स के पास खर्च नहीं किए गए बैलेंस को अपने बैलेंस में ऐड करने का भी विकल्प है। फॉरेक्स कार्ड एक मल्टी करेंसी कार्ड है। इस तरह यूजर्स जरूरत के हिसाब से अपने बैलेंस को किसी करेंसी में बदल सकते हैं या यूजर्स डिस्पोजेबल वर्चुअल कार्ड्स क्रिएट कर सकते हैं। उसके बाद सुरक्षित डिस्पोजेबल वर्चुअल कार्ड बनाया जा सकता है। कई विदेशी फॉरेन वेबसाइट्स बगैर ओटीपी कार्ड पेमेंट की सुविधा देते हैं। वर्चुअल कार्ड्स से सेफ्टी का लेयर बढ़ जाता है।

मनी कण्ट्रोल 16 Apr 2024 4:48 pm

'पूरे देश से पुकार आ रही...' क्या कांग्रेस पर टिकट के लिए दबाव बना रहे रॉबर्ट वाड्रा? बांके बिहारी के किए दर्शन

Lok Sabha Elections 2024: कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के पति और कारोबारी रॉबर्ट वाड्रा (Robert Vadra) क्या पार्टी पर टिकट के लिए दबाव बना रहे हैं? दरअसल, रॉबर्ट वाड्रा ने एक बार फिर कहा है कि अमेठी के लोग चाहते हैं कि वह उनका प्रतिनिधित्व करें। उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव में उम्मीदवार बनने का फैसला सही समय पर लिया जाएगा। रॉबर्ट वाड्रा ने उत्तर प्रदेश के पवित्र शहर वृन्दावन का दौरा किया और भगवान बांके बिहारी के 'दर्शन' किए। इस दौरान उन्होंने ठाकुरजी की शृंगार आरती भी देखी। कहा कि अयोध्या हो या मथुरा, वे हर जगह को एक ही नजर से देखते हैं।बता दें कि कांग्रेस ने अभी तक नेहरू-गांधी परिवार के दो गढ़ों अमेठी या रायबरेली से अपने उम्मीदवारों की घोषणा नहीं की है। प्रियंका गांधी के भाई राहुल गांधी के दोबारा अमेठी से चुनाव लड़ने की अटकलें लगाई जा रही हैं। राहुल गांधी 2019 का लोकसभा चुनाव केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी से हार गए थे, जिन्हें बीजेपी ने फिर से निर्वाचन क्षेत्र से मैदान में उतारा है।राजनीति में आने के दिए संकेतपत्रकारों से बात करते हुए रॉबर्ट वाड्रा ने राजनीति में भी आने के संकेत दिए। उन्होंने कहा कि देश में बदलाव का माहौल है। उनका पूरा परिवार इस पर लगन से काम कर रहा है। उन्होंने कहा कि चाहे वह राजनीति में सक्रिय रूप से शामिल रहें या नहीं, वह देश और इसके लोगों के लिए कड़ी मेहनत करना जारी रखेंगे। वाड्रा ने कहा, हम देश में एक धर्मनिरपेक्ष सरकार बनाने के लिए प्रयास करना जारी रखेंगे।अमेठी से उम्मीदवार बनने के सवाल पर वाड्रा ने कहा, पूरे देश से पुकार आ रही है कि आप सक्रिय राजनीति में आईए। अगर कांग्रेस को लगेगा कि मैं कुछ फर्क ला सकता हूं या जिस भी क्षेत्र में प्रगति ला सकता हूं तो मैं वहां आऊंगा। ये जरूरी नहीं है कि केवल अमेठी से, लोग हरियाणा से भी मुझे बोल रहे हैं कि मैं उन्हें चुनूं।उन्होंने भारतीय जनता पार्टी पर भेदभाव की राजनीति करने का आरोप लगाते हुए कहा कि कांग्रेस को सनातन विरोधी कहना बीजेपी का प्रचार का अपना तरीका है। उन्होंने दावा किया कि उनका पूरा परिवार भेदभाव से दूर धर्मनिरपेक्ष है।ये भी पढ़ें- 'मोदी क्या खुद आंबेडकर भी नहीं बदल सकते भारत का संविधान', पीएम ने कांग्रेस पर लगाया झूठ फैलाने का आरोपकांग्रेस एंव I.N.D.I.A. गठबंधन को जिताने के लिए राहुल एवं प्रियंका गांधी का जिक्र किए जाने पर उन्होंने कहा, वे दोनों भी काफी मेहनत कर रहे हैं। वे लोगों की मदद के लिए तत्पर हैं। हमारी भी बांके बिहारी से प्रार्थना है कि देश में सुख और शांति बनी रहे। राहुल एवं प्रियंका के लिए भी कामना की है कि वे अवश्य सफल हों।

मनी कण्ट्रोल 16 Apr 2024 4:47 pm

सलमान खान की 6 सबसे कीमती चीजें, लिस्‍ट में एक से बढ़कर एक लग्‍जरी आईटम

Salman Khan Expensive Product : बॉलीवुड के दबंग खान को अक्‍सर हम गैलेक्‍सी अपार्टमेंट की बॉलकनी में देखते आए हैं. लेकिन, सलमान की पहचान सिर्फ यही एक लग्‍जरी अपार्टमेंट नहीं है, बल्कि उनके पास सैकड़ों करोड़ रुपये की कीमती चीजें और प्रॉपर्टी हैं.

न्यूज़18 16 Apr 2024 4:46 pm