पन्ना टाइगर रिजर्व में युवा बाघ का शिकार, फंदे पर लटका मिला शव

पन्ना. पन्ना टाइगर रिजर्व में फिर एक युवा बाघ का शिकार हो गया। बुधवार की सुबह बाघ का शव पन्ना व सतना की डॉग स्क्वॉड और एसटीएफ टीम को देवेंद्रनगर रेंज की तिलगवां बीट में क्लच वायर के सहारे फंदे पर लटका मिला है। यह देखने में तीन से चार दिन पुराना लग रहा है। बाघ के शव का जमीन से लगा हिस्सा सड़ चुका था और उसमें कीड़े पड़ चुके थे। शिकार की सूचना मिलते ही विभागीय अफसरों में हड़कंम्प मच गया। सुबह अधिकारी मौके पर पहुंचे और क्लच वायर से मृत बाघ को अलग किया गया। डिप्टी डायरेक्टर पन्ना टाइगर रिजर्व रिपुदमन सिंह, एनटीसीए के प्रतिनिधि इंद्रभान सिंह की मौजूदगी में वाइल्ड लाइफ चिकित्सक डॉ. संजीव गुप्ता ने मृत बाघ का पोस्टमार्टम कर अंतिम संस्कार कराया है। सीसीएफ छतरपुर संजीव झा ने बताया कि मृत बाघ की उम्र करीब दो साल रही होगी। प्रथम द़ृष्ट्या मामला शिकार का लगाता है। जांच के लिए एसटीएफ को बुलाया है। इस तरह लटका बाघ वन अमले व स्थानीय लोगों ने बताया कि फसल सुरक्षा के लिए किसान खेत में फंदा लगा देते हैं। आशंका है कि बाघ उसी फंदे में जाकर फंस गया होगा। जहां शव मिला है वहां लगे पेड़े में बाघ के चढऩे के निशान भी मिले हैं। पेड़ पर चढऩे के दौरान बाघ गिर गया होगा और उसके गले में फंसी क्लच वायर पेड़ में फंस गई होगी। इससे बाघ की मौत हो गई। जांच के दौरान लकड़ी का एक टुकड़ा भी मिला है, जो तार में फंसा था। बाघ संरक्षण की दिशा में काम कर रही संस्था दि लास्ट वाइल्डनेस फाउंडेशन के फील्ड को-ऑर्डिनेटर इंद्रभान सिंह बुंदेला बताते हैं कि दो साल पूर्व भी इसी तरह से सलेहा क्षेत्र में तेंदुए की मौत हुई थी। उसका शिकार भी फसल सुरक्षा के लिए इंसान व वन्य प्राणियों के बीच द्वंद्व का परिणाम है। इसे रोकने के लिए वन क्षेत्रों में फसल सुरक्षा दीवार बनाने की जरूरत है। टाइगर रिजर्व के डाटा से मैच करेंगे मृत बाघ की पहचान अभी तक नहीं हो पाई है। उसके फोटो लिए गए हैं, जिसका मिलान पन्ना टाइगर रिजर्व के डाटाबेस में किया जाएगा। सीसीएफ झा ने लोगों से सहयोग मांगा है। कहा कि यदि किसी के पास बाघ के शिकार मामले की जानकारी है तो वह दे सकते हैं। हम उनका नाम गुप्त रखेंगे। जून महीने में एक ही दिन मिले थे बाघ व शावक के शव टाइगर रिजर्व में बाघ के शिकार का यह पहला मामला नहीं है। इसी साल 9 जून की सुबह पन्ना टाइगर रिजर्व के नर बाघ पी-111 व शाम को बाघिन पी-234 के करीब 9 माह के शावक का शव मिला था। बाघ की उम्र 13 वर्ष रही होगी। डीलडौल व साइज के लिहाजा से यह पन्ना टाइगर रिजर्व का सबसे बड़ा बाघ था। इसकी एक झलक पाने पर्यटक बेताब रहते थे। वंशवृद्धि में इसने अहम भूमिका निभाई थी। यही वजह है कि इसका जन्मदिन केक काटकर मनाया जाता था। पन्ना में बाघ के शिकार के मामले गंभीर हैं। बड़ी मेहनत से यहां बाघों का संसार बसाया गया है। लापरवाही किसी कीमत में सहन नहीं की जाएगी। मैंने पन्ना कलेक्टर संजय मिश्रा व एसपी धर्मराज मीणा से बात कर मामले की अलग से जांच करने व दोषियों को पकडऩे के लिए कहा है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से भी बात करूंगा। विष्णु दत्त शर्मा, सांसद खजुराहो टाइगर का शिकार गंभीर मामला है। बाघ संरक्षण के लिए सरकार हर साल लाखों का बजट देती है। ऐसे में बाघ का शिकार हो जाना निंदनीय है। उच्चस्तरीय जांच कराते हुए बाघों की सुरक्षा पुख्ता की जाएगी। बृजेन्द्र प्रताप सिंह, खनिज मंत्री

पत्रिका 8 Dec 2022 12:07 am

राजस्थान पर्यटन निगम-9 होटलों का होगा कायाकल्प,निजी होटलों को देंगे टक्कर

जयपुर. राजस्थान पर्यटन निगम के अधीन हैरिटेज व अन्य होटलों को निजी पांच सितारा होटलों की बराबरी में लाने की तैयारियां की जा रही है। ताकि मेहमानों को ‘लग्जरी स्टे’ का एहसास हो सके। इसके लिए निगम प्रबंधन ने चार हैरिटेज व 5 अन्य होटलों को चिन्हित किया है। इनकी साज-सज्जा तीन और पांच सितारा होटलाें की तरह की जाएगी। इस पर 10 करोड रुपए का खर्च किया जाएगा। हैरिटेज होटलों में अलवर के सिलीसेढ़, रणथंभौर में झूमर बावड़ी, पुष्कर में पुष्कर सरोवर और नाथद्वारा में गोकुल होटल का चयन किया है। इसके अलावा जयपुर में गणगौर, अजमेर की खादिम, अलवर की सरिस्का, भरतपुर के फोरेस्ट लॉज, उदयपुर में कजरी और अलवर की सरिस्का होटल को शामिल किया है। एक होटल की साज सज्जा पर एक से सवा करोड़ रुपए खर्च होंगे। कमरों को राजस्थान शैली की तर्ज पर सजाया जाएगा। साथ ही वर्षों पुराने एयर कंडीशन बदले जाएंगे और पुराने टीवी की जगह एलईडी टीवी लगेंगे। मेहमान देहरी पर आकर लौट जाते हैं पर्यटन निगम की होटलों की आय बढ़ाने के लिए शीर्ष स्तर पर कई बार बैठकें हुई। इनमें एक ही बात बार बार सामने आई कि मेहमान इन होटलों की देहरी पर आते जरूर हैं लेकिन होटलों की दशा देखकर लौट जाते हैं। उतने ही किराए में निजी तीन सितारा होटल में लग्जरी कमरा बुक करवा लेते हैं। ऐसे हालात में निगम के होटलों में मेहमान सिर्फ सरकार के अधिकारी ही रह गए हैं। आरटीडीसी के अफसरों का कहना है कि निजी होटलों को टक्कर देने के लिए होटलों की दशा सुधारनी ही हेागी। क्योंकि आरटीडीसी के होटलों की वर्तमान दशा किसी से भी छुपी हुई नहीं है।

पत्रिका 8 Dec 2022 12:02 am

बुलट वाले ने पकड़ी सिपाही की कॉलर

खंडवा. एक बुलट वाला सरेराह बावर्दी पुलिसकर्मी की कॉलर पकड़ कर धमकी दे गया। उसने मारपीट की और वहां मौजूद अफसरों को भी देख लेने की बात कही। रसूख दिखाते हुए उसने वह सब किया जो एक पुलिस कर्मी के साथ सरेराह होना शोभा नहीं देता। इतना सबकुछ तब हुआ जब सिपाही से लेकर दो दो सूबेदार तक मौजूद थे। वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देश पर यातायात पुलिस बुधवार की दोपहर एक बजे दोपहिया वाहनों को जांच रही थी। निर्देश थे कि बिना नंबर के वाहनों पर कार्रवाई करना है। बस स्टैंड पर जब यातायात पुलिस के सिपाही ने गलत दिशा से आ रही बिना नंबर की बुलट को रोकने के लिए हाथ दिया तो उसका चालक रफ्तार बढ़ाने लगा। आगे निकलने के बाद वह लौटा और सिपाही को रौब दिखाते हुए कॉलर पकड़ लिया। सिपाही ने मोबाइल से वीडियो बनाने की कोशिश की तो उसका फोन तोड़ दिया। यह सब वहां मौजूद अफसरों के सामने हुआ। बुलट को जब्त कर पुलिस उसके चालक अमूल जायसवाल को थाने लेकर गई। लेकिन आरोपी को रोक नहीं सकी। वह अकड़ दिखाते हुए वहां से चलता बना। सिपाही ने लिखाई एफआइआर यातायात के आरक्षक 668 कुणाल ज्ञानी के साथ घटनाक्रम हुआ है। उसने कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराते हुए शासकीय कार्य में बाधा, अभद्र व्यवहार करने की लिखित शिकायत दी। जिस पर आरोपी अमूल जायसवाल के खिलाफ आइपीसी की धारा 294, 332, 353, 427 का केस दर्ज कर लिया गया। आरक्षक ने बताया कि सूबेदार देवेन्द्र परिहार, सूबेदार नितिन निंगवाल समेत अन्य अमले के साथ वह वाहन चेकिंग ड्यूटी कर रहा था। मेरी गाड़ी कैसे रोकी सिपाही का कहना है कि बुलट को रोकने पर उसके चालक ने अभद्र व्यवहार करते हुए गाली दी। बोला, तूने मेरी गाड़ी कैसे रोकी। हाथापाई करते हुए कॉलर पकड़ा और मोबाइल छीनकर फेंक दिया। इसके बाद सबको देख लेने की धमकी दी। इतना सब होने के बाद भी पुलिस आरोपी को मौके पर ही गिरफ्तार नहीं कर पाई। वर्जन... आरक्षक की शिकायत पर कायमी कर ली गई है। जल्द ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। - विवेक सिंह, एसपी, खंडवा

पत्रिका 8 Dec 2022 12:02 am

तृणमूल नेता पर फायरिंग,पलंग के नीचे छिपकर बचाई जान

दक्षिण 24 परगना जिले के भांगड़ में तृणमूल कांग्रेस नेता फजल करीम के घर मंगलवार की रात अंधांधुंध फायरिंग की गई। हमलावरों के 12 राउंड फायरिंग के बाद भी तृणमूल नेता बाल बाल बच गए। हमले का आरोप तृणमूल कांग्रेस के ब्लॉक अध्यक्ष कैजर अहमद पर लगा है। उन्होंने हमले की घटना से किसी प्रकार से जुडे होने से इंकार किया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। मिली जानकारी के मुताबिक भांगड़ के बराली गांव में मंगलवार की रात हमलावरों ने करीम के घर को घेर लिया। फायरिंग शुरू कर दी। गोलीबारी व बमबाजी की आवाज सुनकर करीम अपने पलंग के नीचे जा छिपे। घटना की जानकारी भांगड़ थाने को मिली। रात में ही पुलिस बल गांव पहुंचा। इलाके की नाकेबंदी कर हमलावरों की तलाश शुरू की गई। घटनास्थल से कारतूस के खोल बरामद किए गए हैं। बम पड़े होने की सूचना बम निरोधक दस्ते को दी गई। गुटबाजी का परिणाम पीडि़त फजल करीम के मुताबिक उन्होंने कुछ समय पहले कैजर अहमद के भ्रष्टाचार के बारे में मुंह खोला था। तब से वे उसके निशाने पर हैं। उन्होंने राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और पार्टी महासचिव अभिषेक बनर्जी से गुहार लगाई है।

पत्रिका 7 Dec 2022 11:55 pm

MP Highcourt: उमा भारती के भतीजे विधायक राहुल का चुनाव शून्य घोषित

चुनाव में निकटतम प्रत्याशी रहीं चंदा देवी गौर की चुनाव याचिका पर यह फैसला आया। जस्टिस नन्दिता दुबे की एकलपीठ ने कहा कि निर्वाचन अधिकारी ने प्रक्रिया के विपरीत जाकर लोधी का नामांकन पत्र मंजूर किया। इसलिए यह प्रक्रिया शून्य है। कोर्ट ने इस अनियमितता के लिए रिटर्निंग ऑफिसर रहीं वंदना राजपूत पर कठोर कार्रवाई करने के निर्देश दिये। कोर्ट ने कहा कि भविष्य में राजपूत को इस प्रकार की कोई जिम्मेदारी न सौंपी जाए। दो बार जमा किए थे नामांकन पत्र- टीकमगढ़ जिले की खरगापुर विधानसभा क्रमांक 47 से कांग्रेस प्रत्याशी चंदा देवी गौर की ओर से 2018 के चुनाव के बाद यह चुनाव याचिका दायर की गई थी। इसमें कहा गया कि चुनाव में भाजपा प्रत्याशी राहुल सिंह लोधी ने दो बार नामांकन पत्र दायर किए थे। पहले नामांकन में भाजपा प्रत्याशी ने कहा कि उनकी आरएस कंस्ट्रक्शन कंपनी में भागीदारी ं है, जिसका मप्र राज्य ग्रामीण सड़क अधिकरण से अनुबंध है। दूसरे नामांकन पत्र में उन्होंने लिखा कि उनकी और उनके परिवार की किसी भी कंपनी में भागीदारी नहीं है। याचिका में कहा गया कि आरएस कंस्ट्रक्शन कंपनी ब्लैक लिस्टेड हो चुकी है, यह जानकारी छिपाने के लिए दूसरे नामांकन में भागीदारी नहीं होने की जानकारी दी। राजनीतिक दबाव में तीन दिन पहले स्क्रूटिनी- याचिकाकर्ता के अधिवक्ता राजमणि मिश्रा ने कोर्ट को बताया कि विधायक लोधी को रिटर्निंग ऑफिसर वंदना राजपूत ने राजनीतिक दबाव के चलते 8 नवम्बर 2018 को ही पत्र लिख दिया था कि वे पार्टनरशिप निरस्त होने के दस्तावेज पेश करें। इस पर आनन-फानन में पार्टनरशिप कैंसिल कर तीसरे दिन ही उक्त दस्तावेज पेश कर दिया गया। इसे रिटर्निंग अधिकारी ने मंजूर भी कर लिया। अधिवक्ता मिश्रा ने तर्क दिया कि स्क्रूटिनी 11 नवम्बर 2018 को होनी थी, लेकिन तीन दिन पहले ही रिटर्निंग ऑफिसर ने स्क्रूटिनी कर लोधी को फॉर्म में कमी की सूचना दे दी थी। यह संवैधानिक प्रक्रिया का सीधा उल्लंघन है। लोधी पर 10 हजार की लगी थी कॉस्ट अधिवक्ता ने कोर्ट को बताया कि इसके पूर्व 2013 के विधानसभा चुनाव में खरगापुर विधानसभा सीट से याचिकाकर्ता विजयी हुई थी। इसके खिलाफ अनावेदक ने हाईकोर्ट में चुनाव याचिका दायर की थी। हाईकोर्ट ने चुनाव याचिका खारिज करते हुए राहुल सिंह लोधी पर 10 हजार रुपए की कॉस्ट लगाई थी। अनावेदक ने अभी तक हाईकोर्ट में कॉस्ट जमा नहीं कराई है। अनावेदक ने नामांकन पत्र में भी कॉस्ट लगाए जाने की जानकारी भी नहीं दी थी। अंतिम सुनवाई के बाद कोर्ट ने उक्त आरोपों को सही पाते हुए खरगापुर विधानसभा के 2018 में हुए चुनाव निरस्त कर दिया। गौरतलब है कि राहुल सिंह लोधी प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती के भतीजे(भाई के बेटे)हैं।

पत्रिका 7 Dec 2022 11:47 pm

नवनिर्मित सडक़ में जगह-जगह गड्ढे रखरखाव नहीं होने से बढ़ी मुश्किल

नरसिंहपुर. नगर पालिका नरसिंहपुर से जरजोला ग्राम पंचायत को जोडऩे वाली 3.51 किलोमीटर प्रधानमंत्री ग्राम सडक़ जगह-जगह खस्ताहाल हो चुकी है। सडक़ की परतें कई स्थानों पर उधड़ चुकी हंै। सडक़ की बेस में डाली गई बोल्डर भी गायब हो हैं। यहीं नहीं सडक़ों को जोडऩे के स्थान फिनिशिंग वर्क भी पूरा नहीं किया गया है। वाहनों के निकलने के उपरांत धूल के गुबार उठ रहे हंै। इससे दर्जनों गांव के लिए आवाजाही करने वाले ग्रामीणों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। सबसे अधिक परेशानी रात के समय होती है, जब कभी-कभी बाइक सवार चालक अनियंत्रित होकर दुर्घटना के भी शिकार हो जाते हैं। सम्बंधित विभाग के अधिकारी और सडक़ के रख-रखाव के लिए ठेकेदार कोई पहल नहीं कर रहा है। लेकिन पिछले सालभर के दौरान प्रावधानों के तहत विभाग की ओर से रख-रखाव के लिए जिम्मेदार ठेकेदार ने कोई मेंटनेंस वर्क नहीं कराया है। 5 साल के ग्रांट परफॉमेंस पर सडक़ शासकीय प्रावधानों के अनुसार सडक़ बनाने वाली कंपनी को ही अब पांच वर्षीय मेंटनेंस वर्क दिए जाते हैं। जिसमें लागत की एक अमानत राशि भी विभाग मेंटनेंस के नाम पर अपने पास रखता है। नरसिंहपुर से जरजोला तक बनाए गए 3.51 किलोमीटर मार्ग की जिम्मेदारी विभाग ने मेसर्स. मदनलाल एंड पार्टनर्स राजनंदगांव छत्तीसगढ़ को सौंपी थी। जिसमें कंपनी को कार्य प्रारंभ की तिथि 1 फरवरी 2021 नियत करते हुए रख-रखाव कार्य में दायित्व की अंतिम तिथि 31 जनवरी 2026 तय की गई है। जिसमें लगभग दो साल के दौरान सडक़ मरम्मत जैसा कोई कार्य नहीं देखा गया है। सडक़ पर उधड़ी परत और धूल के गुबार उसके हालात को बयां कर रहे हैं। विभाग की दलील, सडक़ की हालत ठीक पीएमजीएसवाई के जीएम की दलील है कि सडक़ बेहतर स्थिति में हैं। सडक़ पर कहीं कोई दरार या गड्ढा नहीं बना है। लेकिन पत्रिका की पड़ताल में साढ़े तीन किलोमीटर के दायरे में कई स्थानों पर गड़्ढे और उधड़ी परत सामने आई है। यहीं नहीं विभाग ने सडक़ निर्माण और मेंटनेंस के लिए लगाए सूचना पटल पर लागत सहित अन्य जानकारियां प्रदर्शित नहीं की है। जबकि निर्देश है कि निर्माण कार्य से सम्बंधित सभी सूचनाएं सार्वजनिक चस्पा रहेगी। जबकि यह मार्ग नगर पालिका क्षेत्र से सटा हुआ क्षेत्र है। जिससे रोजाना भारी वाहनों के साथ सैकड़ों की तादाद में शहरी व ग्रामीणों की आवाजाही होती है। लेकिन अधिकारी अब तक अंजान बने हुए हैं। सडक़ तो बेहतर स्थिति में है, खराब होने की सूचना नहीं मिली है, अगर ऐसी बात है तो मैं निरीक्षण करवाकर आगे की कार्रवाई करवाता हूं। वीपी टेंटवाल, जीएम पीआइयू नरसिंहपुर

पत्रिका 7 Dec 2022 11:42 pm

चेन्नई के 1000 मगरमच्छों का नया आशियाना बनेगा जामनगर

भावना सोनी जामनगर. देश के प्रसिद्ध मगरमच्छ प्रजनन केंद्रों में से 1,931 किलोमीटर दूर तमिलनाडु के चेन्नई स्थित प्राणी संग्रहालय में से 1000 मगरमच्छों को जामनगर के प्राणी संग्रहालय भेजने की प्रक्रिया जोरों पर है। जामनगर के प्राणी संग्रहालय के मालिक अरबपति मुकेश अंबानी हैं। इन मगरमच्छों को जामनगर में अंबानी के प्राणी संग्राहलय में रहने के लिए बेहतर जगह और पालन-पोषण मिलने की उम्मीद है। 8.5 एकड़ में फैला है मद्रास क्रोकोडाइल बैंक ट्रस्ट, लकड़ी के बने खास बॉक्सों में भेजे जाएंगे मगरमच्छ प्रजनन केंद्र के अधिकारियों ने कहा कि मगरमच्छों को तापमान नियंत्रित वाहन में लकड़ी के बक्सों में जामनगर भेजा जाएगा। प्रजनन केंद्र के एक अधिकारी के अनुसार मगरमच्छ को सप्ताह में केवल एक बार भोजन देने की आवश्यकता होती है, इसलिए उन्हें यात्रा से पहले खिलाया जाता है। 3 साल पुराना प्राणी संग्रहालय (चिडिय़ाघर) गुजरात के जामनगर शहर में 425 एकड़ में फैला हुआ है। पुनर्वास और संरक्षण : 425 एकड़ में फैला है जामनगर में बना प्राणी संग्रहालय, 300 मगरमच्छ चेन्नई से भेजे जा चुके हैं जामनगर जामनगर स्थित प्राणी संग्रहालय के अधिकारी के अनुसार यहां आने वाले मगरमच्छों के पास रहने के लिए पर्याप्त जगह होगी। भोजन और देखभाल की कोई कमी नहीं होगी। अब ये 1000 मगरमच्छ चेन्नई में 8.5 एकड़ के केंद्र से कई गुना बड़े क्षेत्र में रहेंगे। पशु चिकित्सक, क्यूरेटर, गुजरात में ग्रीन्स जूलॉजिकल रेस्क्यू एंड रिहैबिलिटेशन सेंटर के जीवविज्ञानी, प्राणी विज्ञानी इस चिडिय़ाघर को खास बनाते हैं। यह न केवल भारत बल्कि दुनिया भर से बचाव और मदद की जरूरत वाले जानवरों के कल्याण के लिए काम करता है। उन जानवरों का कल्याण, बचाव और पुनर्वास और संरक्षण उद्देश्यों के लिए खोला गया। मगरमच्छों को बेहतर माहौल उपलब्ध कराने को लिया फैसला पिछले साल भारत के प्राणी संग्रहालय के निदेशक ने देश के दक्षिणी राज्य तमिलनाडु में चेन्नई स्थित मद्रास क्रोकोडाइल बैंक ट्रस्ट से 1,000 मगरमच्छों को गुजरात में जामनगर स्थित ग्रीन्स जूलॉजिकल रेस्क्यू एंड रिहैबिलिटेशन सेंटर में स्थानांतरित करने की मंजूरी दी थी। इसके तहत अब तक करीब 300 मगरमच्छ चेन्नई से भेजे जा चुके हैं। चेन्नई में मद्रास क्रोकोडाइल बैंक ट्रस्ट का क्रोकोडाइल सेंटर 8.5 एकड़ में फैला हुआ है। एक रिपोर्ट के मुताबिक केंद्र के अधिकारियों का कहना है कि मगरमच्छों को चेन्नई से गुजरात इसलिए भेजा जा रहा है क्योंकि चेन्नई में मगरमच्छों की आबादी बढ़ गई है। अंदरुनी लड़ाई बढ़ती जा रही थी और बड़ी संख्या को नियंत्रित करना भी थोड़ा मुश्किल हो गया था, जिसके चलते यह फैसला लिया गया है। चेन्नई शहर में केंद्र के क्यूरेटर ने कहा कि यहां भीड़भाड़ के कारण हर साल सैकड़ों मगरमच्छ के अंडे नष्ट हो जाते हैं। मगरमच्छों को रहने के लिए बेहतर जगह बेहतर उपलब्ध कराने के लिए गुजरात के जामनगर भेजने का फैसला गया था। वर्षों से वहां से मगरमच्छों को भारत भर के संरक्षित क्षेत्रों और चिडिय़ाघरों में भेजा जा रहा है।

पत्रिका 7 Dec 2022 11:41 pm

सियासी मिथक : गिर सोमनाथ, जूनागढ़ जिले से मंत्री बनने वाले दुबारा नहीं जीतते चुनाव

भास्कर वैद्य प्रभास पाटण. सौराष्ट्र के गिर सोमनाथ व जूनागढ़ जिले से सरकार में मंत्री या संसदीय सचिव बनने वाले विधायक या सांसद दुबारा चुनाव नहीं जीतते। यह बात भाजपा व कांग्रेस के विधायकों व सांसदों पर समान रूप से लागू होती रही है। 1990 में जूनागढ़ जिले की विसावदर सीट से जनता दल के कुरजी भेसाणिया विधायक चुने गए। वे संसदीय सचिव बने लेकिन 1995 में भाजपा के केशुभाई पटेल से चुनाव हार गए। 2012 मेे विसावदर सीट से कृषि राज्यमंत्री कनु भालाला चुनाव लड़े लेकिन, केशुभाई पटेल से चुनाव हार गए। 1995 में जूनागढ़ जिले की मांगरोल सीट से कांग्रेस की चंद्रिकाबेन चुडासमा विधायक बनीं। उन्हें राज्यमंत्री बनाया गया। वे 1998, 2007 व 2012 में चुनाव हार गईं। हालांकि वे 2002 में विधायक चुनी गई थीं। 2002 में जूनागढ़ जिले की माणावदर सीट से भाजपा के रतिलाल सुरेजा विधायक चुने गए। वे सिंचाई राज्यमंत्री बने। उसके बाद 2007 व 2012 में कांग्रेस के जवाहर चावड़ा से चुनाव हारे। चावड़ा अब भाजपा में हैं। 2007 में जूनागढ़ जिले की मालिया सीट से भाजपा के एल.टी. राजानी विधायक चुने गए। उन्हें संसदीय सचिव बनाया गया। उसके बाद के चुनाव में मालिया सीट रद्द कर दी गई इस कारण इस सीट से वे दुबारा चुनाव नहीं लड़ सके। 6 बार विधायक रहे केशुभाई दो बार सीएम बने, दोनों बार देना पड़ा इस्तीफा 1995 में विसावदर से विधायक चुने गए केशुभाई पटेल गुजरात में भाजपा सरकार के गठन के साथ ही मुख्यमंत्री बने। 1995 में शंकरसिंह वाघेला ने बगावत की और केशुभाई पटेल को इस्तीफा देना पड़ा और सुरेश मेहता मुख्यमंत्री बने। 1998 में विसावदर से भाजपा के केशुभाई पटेल विधायक चुने गए। वे दुबारा मुख्यमंत्री बने लेकिन, 2001 में उन्होंने इस्तीफा दे दिया। इस तरह सीएम के रूप में वे 5 साल का कार्यकाल पूरा नहीं कर सके। हालांकि अलग-अलग विधानसभा सीटों से केशुभाई पटेल 6 बार विधायक चुने गए थे। उन्होंने 2012 में भाजपा छोड़ी और गुजरात परिवर्तन पार्टी (जीपीपी) का गठन किया। 2012 में वे विसावदर सीट से फिर चुनाव जीते लेकिन स्वास्थ्य कारणों से उन्होंने 2014 में इस्तीफा दे दिया। इसके बाद गुजरात परिवर्तन पार्टी का भाजपा में विलय किया गया। भावना भी हारी लोकसभा का चुनाव भाजपा की भावना चीखलिया जूनागढ़ लोकसभा सीट से लगातार चार बार सांसद चुनी गईं। वे 1991, 1996, 1998 व 1999 में इस सीट से जीतीं। वे 2003-04 में प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार में संसदीय कार्य, पर्यटन व संस्कृति राज्यमंत्री रहीं। 2004 में वे लोकसभा का चुनाव हार गईं। चुडास्मा दुबारा विधायक नहीं, दो बार बने सांसद 2012 में जूनागढ़ जिले की मांगरोल सीट से राजेश चुडास्मा भाजपा के विधायक चुने गए। अगले विधानसभा चुनावों में वे विधायक नहीं बन सके। हालांकि 2014 व 2019 के लोकसभा चुनाव में जीत दर्ज की। शामलदास गांधी हारे चुनाव 1952 में पहली बार सौराष्ट्र विधानसभा की 60 सीटों के लिए चुनाव हुआ था। इनमें से 15 सीटें सोरठ क्षेत्र में थीं। जूनागढ़ को आजादी दिलाने की लड़ाई में आरजी हुकूमत के प्रमुख और प्रजा पक्ष के शामलदास गांधी जूनागढ़ शहर से विधानसभा का चुनाव लड़े हालांकि वे चितरंजन राजा से 211 वोट से चुनाव हार गए।

पत्रिका 7 Dec 2022 11:40 pm

बाजार में मूंग नहीं अब दाल बेच कर मुनाफा कमाएंगे किसान

दिलीप दवे बाड़मेर . थार की दाल अब बाजार में अपनी पहचान बनाएगी। जिले के 25 गांवों में किसानों के ग्रुप बना कर इनको कृषि विज्ञान केन्द्र गुड़ामालानी के मार्फत प्रशिक्षण दिया जाएगा। प्रशिक्षण के बाद किसान अपने गांवों में प्रोसेसिंग इकाई लगा कर दलहनी अनाज से दालें बना बाजार में बेच सकेंगे। इससे न केवल बाड़मेर की दाल को पहचान मिलेगा वरन किसानों को भी सीधे दाल बेचने से मुनाफा होगा। केवीके गुड़ामलानी में दाल मील स्थापित की गई है जहां किसानों को प्रशिक्षण दिया जाएगा। जिले के गुड़ामालानी, धोरीमन्ना, कल्याणपुर व सिणधरी क्षेत्र के किसान अपने खेत में उगाए गए दलहनी अनाजों से दाल तैयार कर सकेंगे। इससे उपभोक्ताओं को भी शुद्ध दालों का स्वाद चखने को मिलेगा। किसानों की आय बढ़ाने के लिए केवीके गुडा़मलानी ने उन्हें दाल तैयार कराने वाली मशीनें उपलब्ध कराने की पहल की है। प्रशिक्षण में यह मिलेगी जानकारी: मशीन के जरिए दाल कैसे बनाई जाएगी। इसमें क्या-क्या सावधानियां जरूरी है प्रशिक्षण में इस पर फोकस रहेगा। गौरतलब है कि अभी जिले में किसान मूंग, मोठ आदि को सीधे बाजार में छोटे व्यापारियों को बेच रहे हैं। इस पर अनाज का भाव मिल रहा है जबकि दाल का भाव ज्यादा होता है। अब मशीन के जरिए दालें बनाकर बेचने से सीधा मुनाफा किसानों को होगा। लगेगी प्रदर्शनी, मिलेगा प्रशिक्षण: दलहनी फसल की प्रदर्शनी केवीके गुड़ामालानी में लगेगी। ये मशीन इन सदस्यों के लिए लघु उद्योग के रूप में साबित होगी।ग्रुप से अंडरटेकिंग ली जाएगी। प्रत्येक महीने सदस्यों से रिपोर्ट जाएगी। वहीं, ग्रुप के सदस्य जब प्रोसेसिंग इकाई लगाएंगे तो उनको अनुदान पर मशीन उपलब्ध करवाई जाएगी। इन गांवों के किसानों को मिलेगा फायदा गुड़ामलानी क्षेत्र के भाखरपुरा रतनपुरा, आलपुरा, मोखावा, आडेल डाबर, रामजी गोल, सारण की ढाणी, भेड़ना बायतु के कवास, भाड़खा, बाटाडू, कानोड़, सेड़वा के राणासर कल्ला, भूनिया, बिसासर, जानपालिया, दीपला, सारला और धोरीमन्ना के लोहारवा, भालीखाल आदि आसपास के किसानों को दाल मील का फायदा मिलेगा। बालोतरा के जसोल, असाडा, रामसीन, बिधूजा, माजीवाला, आसोतरा, जेरला, जगसा, भूठीवाड़ा कल्याणपुर के अरावा, निबखेरा, सरवरी, पटाऊ के गांवों में किसानों के ग्रुप बनाए जाएंग जिनको प्रशिक्षण मिलेगा। गांवों में स्थापित होंगी इकाइयां हमने जिले के 25 गांवों का चयन किया है, जहां के किसानों का ग्रुप बना कर उनको अनाज से दाल बनाने का प्रशिक्षण दिया जाएगा। इसके बाद किसानों की रुचि पर मशीनें उपलबध करवाई जाएगी जो अनुदान पर मिलेगी। किसान गांव में ही दलहनी अनाज से दालें बना कर बाजार में बेच सकेंगे। इ ससे उनको सीधा मुनाफा होगा। - डॉ. प्रदीप पगारिया, कृषि विशेषज्ञ

पत्रिका 7 Dec 2022 11:39 pm

Study : लिवर, आंत तथा दूसरे अंगों के आसपास के मोटापे से कोरोना का खतरा और भी ज्यादा

वॉशिंगटन. त्वचा के नीचे के मोटापे के मुकाबले लिवर, आंत और शरीर के दूसरे अंगों के आसपास के मोटापे से कोरोना का खतरा ज्यादा रहता है। वैज्ञानिकों के नए शोध में यह जानकारी सामने आई है। अंगों के आसपास के मोटापे से हृदय संबंधी बीमारियों, डायबिटीज और हाई ब्लड प्रेशर का भी खतरा रहता है। स्टेट यूनिवर्सिटी ऑफ कैंपिनास (State University of Campinas) और साउ पाउलो यूनिवर्सिटी (University of Sao Paulo) के शोधकर्ताओं का कहना है कि अंगों के आसपास का मोटापा भारी मात्रा में साइटोकिन बनाता है। इससे प्रतिरक्षा तंत्र (इम्यून सिस्टम) (Immune system) कमजोर होता है। कई कोरोना रोगी पहले खुद को बेहतर महसूस करते हैं, लेकिन बाद में उनका इम्यून सिस्टम कमजोर होने लगता है। उनका शरीर वायरस के मुताबिक ही रिएक्ट करता है। इसे साइटोकिन स्टॉर्म कहा जाता है। साइटोकिन स्टॉर्म को रोका जाना कोरोना मरीज के लिए प्रभावशाली है। घातक स्तर पर इंग्लैंड में जब कोरोना के केस बढ़ने के बाद मरीजों के लिए वेंटिलेटर्स की जरूरत पड़ रही थी, तब ब्रिटेन के जन स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट में भी कहा गया था कि जो लोग मोटापे से ग्रसित हैं, उनमें कोरोना के लक्षण अन्य मरीजों के मुकाबले घातक स्तर पर देखे गए। ऐसे लोगों को संक्रमण के बाद जान का खतरा अन्य लोगों के मुकाबले ज्यादा दर्ज किया गया। वजन पर नियंत्रण रखने के फायदे शोधकर्ताओं का कहना है कि मोटापा और बढ़ा हुआ वजन कोरोना संक्रमण पर जानलेवा साबित हो सकता है। वजन को नियंत्रित रखना सेहत के लिए कई तरह से लाभकारी है। यह कोविड-19 के संक्रमण के दौरान घातक खतरों से भी बचाता है।

पत्रिका 7 Dec 2022 11:38 pm

सर्दी के मौसम में आंवले की खेती दिला रही सेहत और मुनाफे का विटामिन सी

नरसिंहपुर- सर्दी के मौसम में जब सेहत का ख्याल रखने और इम्युनिटी पॉवर बढ़ाने के लिए विटामिन सी सभी के लिए जरूरी हो गया है। ऐसे में आंवले की बढ़ती मांग जिले के युवा और प्रयोगधर्मी किसान मधुर माहेश्वरी के लिए भी मुनाफे का विटामिन सी दे रही है। गाडरवारा तहसील के अंतर्गत आने वाले जंगल से घिरे मोहपानी गांव में मधुर की करीब 15 एकड़ में आंवले की फ सल है। जिससे प्रत्येक सीजन करीब ४० टन आंवला निकल रहा है और एक माह से मांग बढ़ी है। गाडरवारा निवासी मधुर बताते हैं कि मोहपानी में उनकी 15 एकड़ जमीन है। जहां पर वर्ष 2009 में उनके पिता नवनीन माहेश्वरी ने एनएच 7,एनएच, मोदक, प्रतापगढ़ी, देशी, चकला किस्म के आंवले के करीब 850 पौधे लगाए थे। पांच साल में उनके ७९० पेड़ तैयार हो गए और फ ल देने लगे। खेत से आंवले की तुड़ाई कराकर वह नागपुर, इंदौर, जबलपुर, बालाघाट जैसे शहरों की विभिन्न कंपनियों में सप्लाई करते है। फु टकर बाजार में भी उनके आंवले की पूछपरख अच्छी है और व्यापारी खेत से ही ले जाते हैं। मधुर बताते है कि पिछले सालों की अपेक्षा आंवला के दामों में सुधार हुआ है वर्तमान में आंवला ३० रूपए किलो की दर से बिक रहा है। कैंडी-मुरब्बा के लिए 3 किस्मों की मांग आंवले की कैंडी और मुरब्बा बनाने में एन 7, मोदक और चकला किस्म के आंवले की मांग मधुर अधिक बताते हैं। वे कहते हैं कि इन किस्मों का आंवला आकार में बड़ा होता है। इसलिए इसकी मांग अधिक आती है। आंवले को तोडऩे के बाद 3 दिन में कंपनी.व्यापारी तक पहुंचाना होता है। पूरी फ सल से एक सीजन में करीब ४० टन आंवला निकल आता है। वहीं अन्य किस्मों का आंवला च्यवनप्राश, दवा, पाउडर आदि बनाने में लगता है। जिससे इसकी खपत भी आसानी से हो जाती है। पथरीली जमीन में हो सकती है आंवले की खेती मधुर कहते हैं कि आंवले की खेती के लिए जरूरी नहीं है खेत में काली या बहुत उपजाऊ मिटटी ही हो,बल्कि उनक ा खेत जंगल से लगा है और पूरा इलाका पथरीला है तो पानी की दिक्कत भी रहती है। आंवले की फ सल के लिए पानी कम ही लगता है। फ ल आते हैं तो उन्हें बंदर अथवा अन्य पशु-पक्षी भी नुकसान नहीं पहुंचाते। यही सब सोचकर पिता ने अलग-अलग नर्सरियों से पौधे लगाकर यह फ सल तैयार की। अब चूंकि खेती वह संभाल रहे हैं तो आंवले की सप्लाई बाहर भी होने लगी हैं। वर्जन जिले में कुछ जगहों पर किसान आंवले की खेती की ओर आकर्षित हो रहे है,वर्तमान में गाडरवारा के मोहपानी के अलावा,नरसिंहपुर के गोरखपुर और जिले के अन्य जगहों पर भी कुछ किसानों ने आधा से एक एकड़ तक खेत में आंवले का प्लांटेशन किया है। डा आशुतोष शर्मा कृषि वैज्ञानिक केवीके नरसिंहपुर

पत्रिका 7 Dec 2022 11:37 pm

131 देशों में एक साल के दौरान सत्ता के खिलाफ मुखर हुईं 'आवाजें'

जोहान्सबर्ग. ईरान में सामाजिक और राजनीतिक परिवर्तन की मांग से लेकर अन्य देशों में ईंधन व खाद्य-पदार्थों की बढ़ती कीमतों सहित कई मुद्दों पर दुनियाभर के लोग अपनी राय देने, असंतोष जताने और न्याय की मांग के साथ सड़कों पर उतर रहे हैं। ऑनलाइन शोध मंच 'सिविकस मॉनिटर' (CIVICUS Monitor) के अनुसार एक साल (अक्टूबर, 2021 से सितंबर, 2022 के दौरान) में कम से कम 131 देशों में विरोध प्रदर्शन हुए। इनमें से अधिकांश प्रदर्शन शांतिपूर्ण थे। वहीं 92 देशों में आंदोलनकारियों को हिरासत में लिया गया। सत्ता को चुनौती देने के लिए सर्वाधिक प्रदर्शन यूरोप और मध्य एशियाई देशों में हुए। रिपोर्ट से पता चलता है कि इस अवधि में जितने भी देशों में जनाक्रोश बढ़ा, उनमें से 75 फीसदी में विरोध करने के अधिकारों का हनन किया गया। प्रदर्शनों को दबाने या बाधित करने के लिए वैश्विक स्तर पर सरकारें सबसे पहले आंदोलनकारियों को गिरफ्तार करती हैं। इसके बाद डरा-धमकाकर और प्रतिबंध लगाकर विरोध प्रदर्शन को कुचलने का प्रयास किया जाता है। महिलाओं, अश्वेतों, प्रवासियों और अन्य बहिष्कृत समूहों को अक्सर भेदभावपूर्ण व अन्यायपूर्ण व्यवहार के कारण कठोर दमन का सामना करना पड़ता है। नकेल कसने के लिए अत्यधिक बल प्रयोग वैश्विक देशों में विरोध प्रदर्शनों पर नकेल कसने के लिए अक्सर अत्यधिक बल प्रयोग भी किया जाता है। एक साल में 57 से अधिक देशों की सरकारों ने यह हथकंडा अपनाया, जबकि अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार कानून स्थापित करता है कि अत्यधिक बल का प्रयोग तभी किया जाए, जब हालात बेकाबू हो जाएं। चिंताजनक है कि कम से कम 24 देशों में शांतिपूर्वक विरोध करते हुए प्रदर्शनकारियों की जान चली गई। इनमें से ज्यादातर मौतें अमरीकी और अफ्रीकी क्षेत्र में हुईं। ऑनलाइन पहुंच को नियंत्रित करती हैं सरकारें वैश्विक सरकारों ने कोरोना महामारी का उपयोग विरोध के अधिकार सहित मौलिक स्वतंत्रता को और प्रतिबंधित करने के बहाने के रूप में किया है। आलोचनात्मक आवाजों को दबाने के लिए वैश्विक सरकारें ऑनलाइन पहुंच को नियंत्रित कर रही हैं। विभिन्न देशों में विरोध की योजना बनाते समय आयोजकों को डराने-धमकाने, उत्पीड़न और निगरानी का सामना करना पड़ता है और कभी-कभी प्रदर्शन से ठीक पहले उन्हें नजरबंद कर लिया जाता है। आंदोलन से पहले लगे ऐसे प्रतिबंध, भय और हिंसा का माहौल बनाकर लोगों को शांतिपूर्ण विरोध करने के अपने अधिकार का प्रयोग करने से हतोत्साहित करते हैं।

पत्रिका 7 Dec 2022 11:34 pm

महानदी पुल के स्लैब में दरार, बरही-मैहर मार्ग से आवागमन पर लगा प्रतिबंध

कटनी. बरही-मैहर मार्ग स्थित महानदी पुल के 900 मीटर के स्लैब में दरार आने से वाहनों के आवागमन पर कलेक्टर अवि प्रसाद ने प्रतिबंध लगा दिया है। समस्या अधिक होने के कारण अब पूरी तरह से हर प्रकार के वाहनों के आवागमन पर रोक लग गई है, जिससे अब लोगों को बड़ी मुश्किलों का सामना करना पड़ेगा। कार्यपालन यंत्री की अनुशंसा के आधार पर कलेक्टर अवि प्रसाद ने ऐहतियातन आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत आकस्मिक दुर्घटना की संभावना के मद्देनजर आगामी आदेश तक बरही-मैहर रोड में महानदी पर बने पुल से सभी प्रकार के वाहनों के आवागमन व परिवहन पर पूर्णत: प्रतिबंध लगा दिया है। आदेश का उल्लंघन करने पर आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 के तहत कार्रवाई की जाएगी। कलेक्टर अवि प्रसाद ने यह आदेश कार्यपालन यंत्री बाण सागर पक्का बांध संभाग क्रमांक तीन शहडोल से प्राप्त अनुशंसा के बाद जारी किया है। पुल का निरीक्षण ईजीआईएस कंपनी के कंसल्टेंट इंजीनियर द्वारा 4 दिसम्बर को किया गया। निरीक्षण के दौरान पुल में ऊपर (केआरईबी) में जिन स्थानों पर पहली बार रिहेविलिटेशन मरम्मत का कार्य कराया गया था। उन स्थानों के दायें और बायें ओर स्पष्ट रूप से क्रेक देखे गए। इसके अलावा एक्सपांसन ज्वाइंट भी क्षतिग्रस्त पाया गया। पूरे पुल का पैदल चलकर दोनों तरफ दांयी एवं बांयी रेलिंग का भी स्लैब सहित निरीक्षण किया गया। इसके बाद बरही-मैहर मार्ग पर बने पुल का नाव से पुल के नीचे जाकर भी निरीक्षण किया गया। रिबांउड हैमर से, यूपीवी की मदद से पुल के दो पियरों की जांच की गई, जो सुरक्षित स्तर के पाए गए। तत्पश्चात पुल के बैलेंस वैंटीलीवर स्लैब के निचले भाग में माइनर क्रैक भी तीन स्थानों पर मिले हैं। इन सब को ध्यान में रखते हुए बाण सागर पक्का बांध संभाग क्रमांक 3 बाण सागर शहडोल के कार्यपालन यंत्री ने पुल के निचले भाग में कै्रक होने की वजह से सुरक्षा एवं सावधानी के बतौर पुल पर वाहनों के आवागमन रोकने की अनुशंसा की थी। पुल का निरीक्षण एसडीएम महेश मंडलोई, तहसीलदार जितेंद्र पटेल ने भी किया है।

पत्रिका 7 Dec 2022 11:29 pm

अमरीका को आंख दिखाने के बाद अब चीन के लिए रेड कारपेट बिछा रहा सऊदी अरब

तेल उत्पादन बढ़ाने की मांग पर अमरीकी राष्ट्रपति जो बाइडेन को झटका देने के दो महीने बाद अमरीका का मित्र देश सऊदी अरब अब चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग के लिए रेड कारपेट बिछा रहा है। चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग 7 से 10 दिसंबर की बहुप्रतीक्षित सऊदी अरब की यात्रा पर हैं। चीनी विदेश मंत्रालय प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने कहा है कि यहाँ जिनपिंग चीन-अरब राज्य शिखर सम्मेलन के उद्घाटन समारोह के साथ छह अरब देशों की गल्फ कॉपरेशन काउंसिल के साथ भी बैठक में भी भाग लेंगे। जिनपिंग का सऊदी अरब का ये दौरा ऐसे समय में हो रहा है जब सऊदी अरब और अमरीका के रिश्तों के बीच खटास बढ़ती जा रही है और प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान के नेतृत्व में सऊदी अरब अब रूस और चीन के नजदीक जाता दिख रहा है। अपनी रक्षा जरूरतों के लिए पूरी तरह से अमरीका पर निर्भर रहे सऊदी अरब की विदेश में इस बदलाव को बेहद जानकार बेहद अहम मान रहे हैं। 30 अरब डॉलर के समझौते सऊदी अरब ने कहा है कि जिनपिंग की यात्रा के दौरान देनों देशों में लगभग 30 अरब डॉलर के व्यापार समझौते होंगे। दोनों देशों की प्राथमिकताओं में ऊर्जा और बुनियादी ढांचा सौदे बताए जा रहे हैं। इस शिखर सम्मेलन के दौरान शी और प्रिंस मोहम्मद दोनों को बीजिंग के साथ खाड़ी के गहरे होते संबंधों को प्रदर्शित करने का मौका मिलेगा। साथ ही यह भी रेखांकित होगा कि अमरीका-सऊदी संबंध कितनी दूर तक बिगड़ चुके हैं। सऊदी अरब के नियोम मेगाप्रोजेक्ट के सलाहकार बोर्ड के सदस्य अली शिहाबी के अनुसार जिनपिंग की यह यात्रा पिछले कुछ वर्षों के दौरान दोनों देशों के संबंधों में गहरी मजबूती का चरमोत्कर्ष है। शिहाबी यह कहने से भी नहीं रुके कि, अमरीका इस बारे में चिंतित है लेकिन इसके लिए हम पहले से ही मजबूत रिश्ते को धीमा नहीं कर सकते। अमरीका के बजाए अब चीन है सबसे बड़ा तेल खरीदार यूएस-सऊदी संबंधों में निचला स्तर अक्टूबर में दिखा था जब अमरीकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने रियाध पर तेल उत्पादन में कटौती पर रूस के साथ सहयोग करने का आरोप लगाया और इसके परिणाम दिखने की धमकी दी थी। बता दें, 2012 में यूएस-सऊदी व्यापार 76 अरब डॉलर से घटकर पिछले साल 29 अरब डॉलर हो गया और अब चीन ही सऊदी अरब के कच्चे तेल का सबसे बड़ा खरीदार है और चीन के तेल आयात में सऊदी अरब की हिस्सेदारी 17 प्रतिशत तक पहुंच चुकी है। दरअसल, अमरीका अब मध्य पूर्व से तेल का अधिक आयात नहीं करता है और काफी कुछ अपनी ही शेल इंडस्ट्री के कच्चे तेल से अपनी ईंधन जरूरतों को पूरा करता है। जबकि चीन कोविड प्रतिबंधों को ढील दे रहा है तो खाड़ी के क्षेत्रीय तेल निर्यातक चीन की योजनाओं के बारे में जानने के लिए उत्सुक होंगे। चीन और अरब देशों के बीच मुक्त व्यापार समझौता पिछले महीने संयुक्त अरब अमीरात में चीन के राजदूत झांग यिमिंग ने कहा था कि चीन और छह देशों की खाड़ी सहयोग परिषद के बीच एक मुक्त व्यापार समझौते पर वार्ता एक 'अंतिम चरण' में प्रवेश कर रही है। जानकारों का कहना है कि अरब देश अब अमरीका को एक विश्वसनीय साझेदार देश के रूप में नहीं देखते और वे नए बहुध्रुवीय दुनिया में नए विकल्पों की तलाश कर रहे हैं। अमरीका भी कर रहा समीक्षा तेल उत्पादन में कटौती के मुद्दे पर अमरीकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने सऊदी अरब के साथ साथ रिश्तों की समीक्षा करने की बात कही थी। ऐसे में माना जा रहा है कि अमरीका अब अरब क्षेत्र से अपनी सेनाएं घटा सकता है। यदि ऐसा होता है तो सऊदी अरब के सामने ईरान की सेना और यमन के विद्रोहियों के हमले का डर होगा, जिनसे अमरीका सुरक्षा देने का दावा करता रहा है। साथ ही सऊदी अरब अपने हथियारों की आपूर्ति के लिए भी अमरीका पर निर्भर रहा है। लेकिन पिछले दिनों अमरीका कांग्रेस से रुकावट के कारण अमरीका अब सऊदी अरब को हथियार भी निर्यात नहीं कर रहा है। इस कारण सऊदी अरब को अब एक नया हथियार आपूर्तिकर्ता देश भी चाहिए है, जिसकी कमी चीन पूरी कर सकता है। खशोगी हत्याकांड में सऊदी प्रिंस को राहत अमरीकी कोर्ट ने पत्रकार जमाल खशोगी हत्याकांड में सऊदी अरब के क्रॉउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान को बड़ी राहत दी है। फेडरल कोर्ट ने उनके खिलाफ मामले को खारिज कर दिया है। खाशोगी की मंगेतर की ओर से दायर इस मामले में अमरीकी सरकार ने कोर्ट में दलील दी कि सलमान पर मुकदमा नहीं चलाया जा सकता है। अमरीकी सरकार के इस कदम को सऊदी अरब के संबंध सुधारने की कवायद के तौर पर देखा जा रहा है। बाइडन काल में बिगड़े रिश्ते बता दें, अमरीकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने राष्ट्रपति बनने के बाद सबसे पहली यात्रा सऊदी अरब की ही की थी। जबकि जो बाइडेन तो क्राउन प्रिंस को खाशोगी मर्डर मामले में हत्या के दोषी की तरह देखते आए हैं।

पत्रिका 7 Dec 2022 11:29 pm

बिना केवाईसी भारत बिल पेमेंट सिस्टम से घर बैठे जमा कर सकते हैं स्कूल फीस

भारतीय रिजर्व बैंक ने आम लोगों की सहूलियत के लिए भारत बिल पेमेंट सिस्टम (बीबीपीएस) का दायरा बढ़ा दिया है। इसके माध्यम से घर बैठे बच्चे की स्कूल फीस जमा की जा सकती है। दोबारा केवाइसी अपडेट कराने के लिए बैंक शाखा जाने की जरूरत नहीं होगी। केवाइसी की औपचारिकता ऑनलाइन पूरी जा सकती है। अभी तक बीबीपीएस से मर्चेंट रिकरिंग बिल भुगतान की ही सुविधा है। मौद्रिक नीति समिति की बैठक के बाद रिजर्व बैंक गवर्नर शक्तिकांत दास ने यह घोषणा की। उन्होंने कहा कि अब रिकरिंग और नॉन रिकरिंग दोनों तरह के बिल बीबीपीएस से चुकाए जा सकते हैं। पेशेवर सेवाओं की फीस, एजुकेशन फीस, टैक्स भुगतान, किराए का भुगतान या कलेक्शन जैसे काम इसके जरिए किए जा सकेंगे। यूटिलिटी और मर्चेंट को भी इसके जरिये सिंगल पेमेंट किया जा सकेगा। बीबीपीएस का संचालन नेशनल पेमेंट कारपोरेशन करती है। ग्राहकों को सुरक्षित व पारदर्शी सेवा मुहैया कराना इसका मकसद है। रोक सकेंगे यूपीआई का फंड आरबीआइ ने ग्राहकों को यूपीआइ फंड ब्लॉक (रोकने) की सुविधा भी दी है। मतलब यह कि मर्चेंट को किए जाने वाले पेमेंट को ग्राहक जरूरत पडऩे पर रोक सकते हैं। काम निपटाने के बाद मर्चेंट भुगतान कर सकते हैं। ऑनलाइन केवाईसी आरबीआइ गवर्नर ने कहा कि ग्राहकों को दोबारा केवाइसी कराने के लिए बैंक शाखा जाने की जरूरत नहीं होगी। यदि एड्रेस नहीं बदलवाना है तो बैंक इसे ऑनलाइन स्वीकार कर लेंगे। केंद्रीय बैंक की गाइडलाइन के मुताबिक, बैंकों को खाताधारकों की केवाइसी समय-समय पर अपडेट करनी होती है। खाता खुलवाते समय ग्राहक जो केवाइसी कराता है, उसे बाद में अपडेट करना पड़ता है। यदि कोई बैंक ग्राहक को ब्रांच आने के लिए दबाव डालता है तो उसके खिलाफ शिकायत कर सकते हैं।

पत्रिका 7 Dec 2022 11:23 pm

विधानसभा सत्र में 7 घंटे 18 मिनट चली कार्यवाही, 6 विधेयक पास

उत्तर प्रदेश विधानसभा का सत्र सम्पन्न हो गया है। तीन दिवसीय सत्र दो ही दिन चल सका। पहले दिन सरकार ने पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव को श्रद्धांजलि दी गई। इसके बाद सरकार ने अनुपूरक बजट पेश किया। विधानसभा में 33 हजार 769 करोड़ रुपए का अनुपूरक बजट पेश किया किया। सदन दो दिन ही चल सका। दो दिनों में सदन की कार्यवाही सात घंटे 48 मिनट ही चली। पहले दिन बजट पेश करते हुए सुरेश कुमार खन्ना ने बताया कि अनुपूरक बजट में 14,000 करोड़ की नई मांगें शामिल की गईं। इसमें सबसे ज्यादा 8000 करोड़ रुपए औद्योगिक विकास प्राधिकरणों को निजी इंडस्ट्रियल पार्क में विकसित करने के लिए दिए गए हैं। सपा विधायक हुए निलंबित यूपी सरकार ने तीन दिन का शीतकालीन सत्र बुलाया था। सोमवार को शुरू हुआ सत्र दूसरे दिन मंगलवार को ही अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया। हालांकि सदन को बुधवार तक चलना था। शीतकालीन सत्र के दूसरे दिन कार्यवाही के दौरान 6 विधेयक पास हुए। इसी दिन सपा सदस्यों ने हंगामा भी किया। दूसरे दिन सपा विधायक अतुल प्रधान को निलंबित कर दिया गया। सदन के अध्यक्ष सतीश महाना के आदेश पर प्रधान पर कार्रवाई हुई। विधायक अतुल प्रधान ने हंगामे को सोशल मीडिया वेबसाइट फेसबुक पर लाइव कर दिया था। दूसरे दिन ही सदन को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया। सरकार ने पास किए विधेयक अग्निशमन तथा आपदा सेवा 2022 बिल को मंजूरी मिली। माध्यमिक शिक्षा में इंटरमीडिएट शिक्षा (द्वितीय संशोधन) विधेयक 2012, उत्तर प्रदेश क्षेत्र एवं जिला पंचायत सदस्य विधेयक 2016 को भी मंजूरी दी गई। उत्तर प्रदेश लोक तथा निजी संपत्ति क्षति वसूली (संशोधन) विधेयक 2022, नैमिषारण्य धाम एवं तीर्थ परिषद 2022 का संशोधन, उत्तर प्रदेश निरसन विधेयक 2022 पास किए गए। विधानसभा सत्र दो दिन में केवल सात घंटे 48 मिनट ही चला। इस अवधि में 15 मिनट के लिए दो बार सदन स्थगित भी हुआ। इस हिसाब से सदन की कार्यवाही सात घंटे 18 मिनट ही चली। कार्यवाही के दौरान सदस्यों ने 1185 सवाल पूछे। सत्र में 204 सवालों के जवाब दिए गए। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने दो दिन में ही सत्र स्थगित होने के चलते यूपी सरकार पर निशाना साधा है। अखिलेश ने कहा कि बीजेपी सरकार अपनी कमियां और भ्रष्टाचार पर बात ही नहीं करना चाहती। अखिलेश ने ट्वीट कर अपनी नाराजगी जताई।

पत्रिका 7 Dec 2022 11:21 pm

राजस्थान कांग्रेस के रण में सुखजिंदर सिंह रंधावा का प्रवेश, कहा- मैं आ गया हूं अब सब ठीक होगा , पार्टी स्टैंड को लेकर भी दिया बड़ा बयान

आपसी कलह के चलते अजय माकन के पद छोडऩे के बाद राज्य में कांग्रेस के नए प्रभारी बने हैं सुखजिंदर सिंह रंधावा। राज्य में कांग्रेस आलाकमान की आंख, नाक, कान माने जाने वाले नवनियुक्त प्रभारी रंधावा मंगलवार को जयपुर पहुंचे। देर रात जयपुर से सीधे कोटा के लिए रवाना हुए जहां वे भारत जोड़ो यात्रा में शामिल होंगे। रंधावा ने जयपुर से कोटा जाते समय रास्ते में राजस्थान पत्रिका से विशेष बातचीत की। प्रस्तुत हैं बातचीत के प्रमुख अंश- सवाल - आप राजस्थान में पार्टी के प्रभारी बने हैं, इसकी टाइमिंग देखकर आपको नहीं लगता कि यह कांटों का ताज है? जवाब- ये कांटों का ताज नहीं है। एक हाइप क्रिएट की जा रही है। बीजेपी वाले ही इसे हवा दे रहे हैं। कांग्रेस ऐसी पार्टी है जिसमें एक साथ बैठकर हल निकाल सकते हैं। हल वहां नहीं निकाला जा सकता है जहां निजी स्वार्थ हो। ये कांटों का ताज जिसे आप कह रहे हैं वह पूरे हिंदुस्तान में मॉडल होगा। सवाल - 25 सितम्बर को विधायक दल की बैठक के बहिष्कार की घटना को आप किस रूप में देखते हैं? जवाब - कई बार ऐसी बात हो सकती है , हो जाती है , जाने अनजाने में हो जाती है। पर उसे कंट्रोल किया जा सकता है। इसलिए ही मुझे प्रभारी बनाया है। सबको साथ बैठाकर हल निकाल लेंगे। सवाल - पंजाब में अकाली दल हो या अमरिंदर सिंह सरकार, आपने कई मौकों पर खुलकर विरोध किया? राजनीति में आप सदैव स्टेण्ड के लिए जाने जाते हैं, क्या राजस्थान में यह स्टेण्ड लिया जाएगा? जवाब बिना स्टेण्ड के न पार्टी चल सकती है न घर चल सकता है। मेरा स्टेण्ड ऐसा होगा कि जो परिवार को भी अच्छा लगेगा और पार्टी को भी। स्टेण्ड ऐसा होगा कि उससे अनुशासन हो। सबको कहूंगा कि एक नम्बर पर देश है फिर पार्टी है, मुझे विश्वास है जो भी कार्यकर्ता हैं वो डिसिप्लेन में रहकर कांग्रेस को आगे लेकर चलेंगे। सवाल- क्या इस लड़ाई के चलते आप 2023 में पार्टी की नैया पार करा पाएंगे? जवाब - हम इस सब पर पार पा लेंगे। यहां अशोक गहलोत और सचिन पायलट हैं। दोनों से मेरा प्रेम है, एक का मैं छोटा भाई हूं दूसरा मेरा छोटा भाई है। सब साथ बैठेंगे और 2023 में फिर से सरकार बनाएंगे। राजनीति विरासत में मिली, बेबाकी के लिए जाने जाते हैं सुखजिंदर सिंह रंधावा पंजाब में सबसे प्रमुख कांगे्रस नेताओं में माने जाते हैं। कैप्टन अमरिंदर सिंह के मुख्यमंत्री काल में तीन बार विधायक रहे रंधावा ने मंत्री रहते हुए उनके खिलाफ मोर्चा खोला था। फिलहाल वे विधायक हैं। रंधावा के पिता संतोख सिंह दो बार पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष रह चुके हैं। उन्होंने अपने पिता के सानिध्य में पंजाब सहित देश की राजनीति को करीब से देखा है और पंजाब में आतंकवाद के दौर में भी इनका परिवार राजनीति में सक्रिय था। रंधावा अपनी बेबाकी के लिए जाने जाते हैं। अकालीदल के खिलाफ रंधावा सदा मुखर रहे हैं। उन्होंने पत्रिका से कहा कि कांग्रेस मेरे डीएनए में है। दादाजी 1921 में पार्टी से जुड़े थे, पिताजी दो बार पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष रहे। उन्होंने कहा कि मैं जन्म से ही कांग्रेसी हूं और मेरे डीएनए में कांग्रेस है। राजस्थान में सब ठीक कर दूंगा।

पत्रिका 7 Dec 2022 11:19 pm

कोविड पॉजिटिव पाए गए दो जनों को मय ब्याज के दे 50-50 हजार की बीमा राशि

मेड़ता सिटी (नागौर) एक निजी कंपनी की ओर से कोरोना संक्रमित होने पर जारी की गई बीमा पॉलिसी को खारिज करने पर नागौर निवासी प्रार्थी की ओर से दायर याचिका पर स्थायी लोक अदालत ने फैसला देते हुए कम्पनी को बीमा राशि मय ब्याज के देने के आदेश दिए हैं। प्रार्थियां के एडवोकेट रमेशचंद परिहार ने बताया कि कोरोना काल के समय चोला मंडलम एम.एस जनरल इंश्योरेंस कंपनी की बैंक ऑफ बड़ौदा के मार्फत से कवर पॉलिसी थी कि अगर कोरोना हुआ तो 50 हजार रुपए की राशि मिलेगी। पॉलिसी लेने वाली नागौर निवासी सलमा पत्नी शौकत खान और आदिल पुत्र शौकत खान कोविड पॉजिटिव पाए गए। लेकिन कंपनी ने यह क्लेम खारिज कर दिया। इस पर सलमा ने स्थायी लोक अदालत में याचिका दायर की। स्थायी लोक अदालत मेड़ता के पूर्णकालिक अध्यक्ष सतीश कुमार व्यास ने चोला मंडलम एम.एस जनरल इंश्योरेंस कंपनी को प्रार्थिया सलमा खान पत्नी शौकत खान की ओर से दायर याचिका पर धारा अंतर्गत 22-बी विधिक सेवा प्राधिकरण अधिनियम 1987 के अंतर्गत आदेश देते हुए इंश्योरेंस कंपनी को प्रार्थिया और उसके पुत्र के कोरोना संक्रमित होने पर पॉलिसी पर 50 हजार रुपए की बीमा राशि व 6 प्रतिशत वार्षिक ब्याज देय करने के आदेश जारी किए। अदालत ने आदेश दिए कि कम्पनी की पॉलिसी कोविड पॉजिटिव आने पर क्लेम देने की है तो प्रार्थी पॉजिटिव आए हैं, जिन्हें बीमा क्लेम के 50 हजार रुपए मय 6 प्रतिशत ब्याज के देने होंग। यह था मामला दरअसल, प्रार्थी की ओर से बैंक ऑफ बडौदा के जरिए चोला मण्डलम एम. एस. इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड चैन्नई द्वारा जारी बीमा पॉलिसी अनुसार कोविड 19 की स्थिति में पॉजिटिव आने पर 50 हजार की क्लम राशि के लिए चिकित्सालय में मरीज के भर्ती होने की शर्त नहीं थी। नागौर निवासी सलमा 7 दिसंबर 2020 को आरटीपीसीआर टेस्ट में कोविड पॉजिटिव आई। इसी प्रकार पॉलिसी धारक आदिल खान भी 17 नवंबर को पॉजिटिव आया। जिस पर चोला मंडलम इंश्योरेंस कंपनी को ईमेल कर समय पर दोनों के बीमा क्लेम को लेकर दस्तावेज बैंक ऑफ बड़ौदा से भिजवाए गए, लेकिन चोलामंडलम कंपनी ने भुगतान से इनकार करके सूचना समय पर नहीं भिजवाने एवं अधूरी जानकारी देने के आक्षेप लगाते हुए क्लेम खारिज कर दिए थे।

पत्रिका 7 Dec 2022 11:19 pm

Blackview BV5200 PRO: वबाल मचाने आया ये धांसू Smartphone, DSLR Camera भी पड़ा फीका, कीमत इतनी कम, जानिए फीचर्स

Blackview नाम की मोबाइल कंपनी ने नेक्स्ट जनरेशन रग्ड स्मार्टफोन (Rugged Smartphone) लॉन्च किया है

डेली हरयाणा न्यूज़ 7 Dec 2022 11:00 pm

एसीसीयू के दो आरक्षक हटाए गए, तीन एएसआइ समेत 27 पुलिसकर्मियों का तबादला

पुलिस अधीक्षक पास्र्ल माथुर ने एंटी क्राइम एंड साइबर यूनिट के दो आरक्षकों का तबादला कर दिया है। इसके साथ ही बुधवार को जारी दो अलग-अलग आदेश में तीन एएसआइ समेत 27 पुलिस कर्मियों का तबादला किया गया है।

जागरण 7 Dec 2022 10:52 pm

शिक्षक को कमाई का झांसा देकर 21 लाख की धोखाधड़ी करने वाले राजस्थान से गिरफ्तार

एंटी क्राइम एंड साइबर यूनिट की टीम ने केंद्रीय स्कूल के शिक्षक से 21 लाख की धोखाधड़ी के मामले में चार आरोपित को राजस्थान से गिरफ्तार किया है। वहीं, मामले में दो आरोपित फरार हैं। उनकी तलाश की जा रही है।

जागरण 7 Dec 2022 10:48 pm

अलीगढ़ में जिंदगी की जंग लड़ रहे 800 मासूमों को करना होगा इंतजार, 2027 में ही होगा मुफ्त इलाज

अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के जवाहर लाल नेहरू मेडिकल कॉलेज में 800 बच्चों को अभी भी इलाज का इंतजार है। संसाधनों और सुविधाओं के अभाव में इन्हें मौका नहीं मिल रहा है। रोगियों की लंबी लाइन के चलते उन्हें 5 साल बाद यानी 2027 तक इलाज मिलना ही संभव होगा। मासूमों में दिल के मरीज भी शामिल इन मरीजों में 18 साल की उम्र वाले दिल के रोगी बच्चे भी शामिल हैं। देश भर में बच्चों के इलाज पर करोड़ों रुपए खर्च होता हैं फिर बहुत बच्चे इलाज से वंचित हैं। मेडिकल कॉलेज के आंकड़ों के अनुसार दिल रोगियों की संख्या बढ़ रही है। कॉलेज के पीडियाट्रिक कार्डियक सर्जरी डिपार्टमेंट प्रमुख आजम हसीन ने बताया कि 1000 में 10 बच्चों में दिल की बीमारी जन्मजात है। इस गंभीर हालात पर स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य मिशन की शुरुआत की गई थी। इसमें चार बीमारियों को शामिल किया गया। इन बीमारियों में जन्म के समय किसी तरह का विकार, बच्चों में बीमारियां, विकलांगता, कमजोरी आदि शामिल हैं। पश्चिमी यूपी में केवल एक सेंटर पश्चिमी यूपी के एएमयू मेडिकल कॉलेज में केवल एक सेंटर है जहां ऐसे बच्चों का मुफ्त इलाज किया जाता है। हालांकि गंभीर बीमारियों से ग्रस्त बच्चों की संख्या इतनी अधिक हो गई कि करीब 800 बच्चे वेटिंग में है। इन्हें एक साल से 5 साल तक इंतजार करने को कहा गया है। 15 करोड़ में खुली स्पेशल यूनिट अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के जेएन मेडिकल कॉलेज में 15 करोड़ की लागत से स्पेशल यूनिट खोला गया है। इसे साल 2018 में खोला गया था। इन यूनिट में प्रदेश के अलावा देश भर से बच्चों को मुफ्त इलाज के लिए भेजा जाता है। इन बीमारियों का होता है इलाज इस स्पेशल यूनिट में दिल में छेद, खून की नसे सिकुड़ना, रूकावट आना, वाल्व खराब जैसी बीमारियों का इलाज किया जाता है। पिछले चार 4 सालों में 1000 बच्चों का इलाज यहां हो चुका है।

पत्रिका 7 Dec 2022 10:47 pm

Gujarat election 2022: सभी निगाहें गुजरात पर, विधानसभा चुनाव के नतीजे कल

Gujarat election 2022 All eyes on Gujarat assembly election results गुजरात विधानसभा चुनाव के लिए मतगणना गुरुवार को होगी। वोटों की गिनती सुबह 8 बजे शुरू होगी। राज्य में इस बार दो चरण में एक और 5 दिसम्बर को मतदान हुुआ था। राज्य में कुल 182 विधानसभा सीटों के लिए वोटों की गिनती राज्य के ३३ केन्द्रों पर आरंभ होगी। गुजरात के लिए इस बार का चुनावी रण इसलिए अहम है क्योंकि गुजरात में हर बार परंपरागत रूप से दो प्रतिद्वंद्वी-भाजपा व कांग्रेस- के बीच सीधी टक्कर होती है लेकिन इस बार आम आदमी पार्टी के मैदान में उतरने से यह मुकाबला त्रिकोणीय हो गया है। चुनाव परिणाम से यह पता चलेगा कि भाजपा लगातार सातवीं बार गुजरात की सत्ता पर काबिज होती है या नहीं। भाजपा यहां पर 1995 से कोई विधानसभा चुनाव नहीं हारी है। इस तरह भाजपा एक और जीत के सात लगातार सातवीं बार गुजरात की सत्ता पर काबिज होना चाहेगी। उधर करीब तीन दशकों से सत्ता से बाहर कांग्रेस भी अपनी वापसी चाहेगी। पहली बार चुनावी जंग में आम आदमी पार्टी किस कदर प्रदर्शन करती है यह भी देखना अहम होगा। मतगणना से पूर्व तीनों दलों ने अपनी-अपनी जीत के दावे किए। इस बार भाजपा ने जहां सबसे ज्यादा 182 वहीं कांग्रेस ने 179 और आम आदमी पार्टी ने 181 उम्मीदवार उतारे। 60 से ज्यादा राजनीतिक दलों के 1621 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला होगा।

पत्रिका 7 Dec 2022 10:44 pm

राशन दुकान के संचालक हड़ताल पर, हितग्राहियों को नहीं मिला राशन

बालोद. जिलेभर के राशन दुकान संचालक संघ ने छह सूत्रीय मांगों को लेकर नया बस स्टैंड में तीन दिवसीय धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया। इस कारण सभी राशन दुकानें बंद रही और हितग्राहियों को राशन नहीं मिला। राशन दुकान संचालकों के मुताबिक छत्तीसगढ़ शासकीय उचित मूल्य की दुकान संचालक विक्रेताओं को कई कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। विक्रेताओं और हितग्राहियों के बीच सर्वर एवं कांटा कनेक्टिविटी के कारण विवाद की स्थिति है। स्टॉक को किश्तों में समायोजन की व्यवस्था कराई जाए राशन दुकान संचालक दिनेश कुमार, मानसिंह, भोलेश्वर प्रसाद, विजय कुमार ठाकुर, लोकेंद्र साहू, सीता सिन्हा, नीतू साहू, माधुरी बघेल ने बताया कि नवम्बर में बिना पूर्व सूचना और भौतिक सत्यापन के बिना छत्तीसगढ़ की सभी शासकीय उचित मूल्य की दुकानों में खाद्यान्न कटौती की गई। 2016-17 में वितरण व्यवस्था में पारदर्शिता लाने टेबलेट से वितरण व्यवस्था लागू की गई व बिना ट्रेनिंग दिए वितरण व्यवस्था को लागू किया गया। टेबलेट से वितरण व्यवस्था में तकनीकी समस्यों का सामना करते हुए सर्वर की समस्या होने पर ऑफलाइन वितरण कराया गया, क्योंकि नेट के अभाव में अपलोड नहीं हुआ। फरवरी 2022 के पूर्व शेष रकम को शून्य किया जाए। जबसे इपॉस चालू हुआ है, स्टॉक को किश्तों में समायोजन की व्यवस्था कराई जाए। हमेशा बनी रहती है सर्वर की समस्या राशन दुकान संचालकों ने बताया कि सर्वर पूरी तरह ठीक नहीं हो जाता, तब तक काटा कनेक्टिविटी बंद हो। शासन के इलेक्ट्रॉनिक काटा का इपॉस से कनेक्टिविटी करने से हितग्राहियों विक्रेताओं के बीच विवाद की स्थिति निर्मित हो रही है। प्रदेश के कुछ जिलों में लगातार समस्या आ रही है। एक राशनकार्ड में 4 बार एंट्री तौल करने पर 15 से 20 मिनट का समय लग रहा है। कहीं सर्वर खराब हो गया तो 30 से 40 मिनट का समय लग जाता है। वर्तमान में 2 माह से सर्वर की समस्या है। वितरण व्यवस्था चरमरा गई है। इसलिए काटा कनेक्टिविटी को बंद किया जाए। एक बार खाद्यान्न सामग्रियों की इपॉस में पुष्टि की व्यवस्था किए जाए। मानदेय व्यवस्था करें लागू शासन विक्रेताओं से जिस तरह काम करा रहा है, उसी तरह कर्मचारी मानकर उन्हें मानदेय दिया जाए। इससे आर्थिक स्थिति में सुधार होगा। अन्य राज्यों की तरह छत्तीसगढ़ में विक्रेताओं को सम्मानजनक मानदेय (30 हजार) दिया जाए। अन्य राज्यों की तरह कमीशन की राशि में वृद्धि करते हुए 300 रुपए प्रति क्विंटल की वृद्धि की जाए। मार्जिन कमीशन की राशि वित्तीय पोषण की राशि और वर्ष 2018, 2019, 2020 की बारदाना की राशि अप्राप्त है, जिसे जल्द प्रदान किया जाए। कमीशन की राशि सीधे विक्रेता संचालक के खाते में डालें महेंद्र कुमार, पुराणिक देशमुख, बालमुकुंद साहू, श्रवण कुमार, गजानंद जोशी, राजू वर्मा, ओंकार प्रसाद ठाकुर ने बताया कि शासकीय उचित मूल्य दुकान संचालक विक्रेताओं के बैंक खाते में सभी प्रकार की कमीशन की राशि को सीधा खाते में प्रदाय किया जाए। खाद्य नागरिक अपूर्ति निगम या अनुसंस्था विभाग के माध्यम से देने पर 4-से 6 माह का समय लग जाता है। आज तक प्रदेश में पूरी राशि नहीं मिल पाई है। नागरिक अपूर्ति निगम ने शासकीय उचित मूल्य की दुकानों में खाद्यान्न भंडारण किया जाता है। जिसमें 3 प्रतिशत अतिरिक्त सूखत के रूप में प्रति क्विंटल के हिसाब से भंडारण किया जाए, जिससे शार्टेज में कमी को पूरा किया जा सके।

पत्रिका 7 Dec 2022 10:43 pm

Gujarat Election 2022 : सभी सीटों की सही भविष्यवाणी पर 5.51 लाख का इनाम: रावल

अहमदाबाद. गुजरात प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता हेमांग रावल ने कहा कि गुजरात विधानसभा चुनाव को लेकर दिखाए जा रहे ओपिनियन और एग्जिट पोल के परिणाम सही नहीं हैं। पिछले चुनाव में भी इसी तरह की भविष्यवाणी की गई लेकिन एक भी आंकलन सही नहीं था। यदि इस बार कोई भविष्यवक्ता सभी 182 सीटों के परिणाम का आंकलन सही आएगा तो उसे 5.51 लाख का पुरुस्कार दिया जाएगा। उनका इस चुनौती देने का उद्देश्य फर्जी एग्जिट पोल को जनता के सामने लाना है। गुजरात राज्य विधानसभा चुनाव 2022 के सटीक परिणाम की भविष्यवाणी करने वाले व्यक्ति, पार्टी या पदाधिकारी को यह इनाम दिया जाएगा। इनाम उसी को दिया जाएगा जिसकी भविष्यवाणी बिल्कुल सही होगी। गौरतलब है कि चुनाव को लेकर विविध जगहों पर ओपिनियन पोल और एक्जिट पोल की भरमार है। इनके परिणामों पर गौर करें तो एक दूसरे से मेल भी नहीं खा रहे हैं। दूसरी ओर इनके परिणामों में भाजपा को जिताया जा रहा है। ऐसे में कांग्रेस के प्रवक्ता ने चुनौती दी है कि इन आंकलनों में से बिल्कुल सही आकलन किसी का आएगा तो उसे 5.51 लाख रुपए का इनाम दिया जाएगा। कांग्रेस के प्रवक्ता का दावा है कि अब तक कभी भी इस तरह के आंकलन के परिणाम सटीक नहीं आए हैं।

पत्रिका 7 Dec 2022 10:43 pm

गुरुग्राम में 14 साल के लड़के ने दो नाबालिग बहनों का यौन शोषण किया

गुरुग्राम, सात दिसंबर (भाषा) गुरुग्राम पुलिस ने दो नाबालिग बहनों द्वारा 14 साल के लड़के पर यौन शोषण का आरोप लगाने के बाद मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस ने बताया कि पीड़ित लड़कियां और लड़का एक ही जगह ट्यूशन जाते थे। लड़कियों की मां ने पुलिस को दी शिकायत में कहा, ‘‘दो दिन पहले मेरी बेटी ने ट्यूशन जाते वक्त अपनी एक परिचित को बताया कि भैया (आरोपी) ने उसे गलत तरीके से छूआ। जब मुझे इसके बारे में पता चला तो मैंने अपनी दोनों बेटियों से पूछा तो उन्होंने यही बात दोहरायी। मेरी दूसरी बेटी ने भी मुझे बताया

नव भारत टाइम्स 7 Dec 2022 10:41 pm

पटना उच्च न्यायालय में ‘आरक्षण’ पर तंज कसा गया, नेताओं ने जतायी आपत्ति

पटना, सात दिसंबर (भाषा) बिहार में राजनीतिक दलों ने हाल में पटना उच्च न्यायालय के भीतर ‘‘आरक्षण’’ से नौकरी हासिल करने को लेकर एक सरकारी कर्मचारी के कथित अपमान की बुधवार को कड़ी आलोचना की। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा), राष्ट्रीय जनता दल (राजद) और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व वाले जनता दल (यूनाइटेड) जैसे दलों ने फिलहाल निलंबित चल रहे जिला भूमि अधिग्रहण अधिकारी से जिस तरीके से बर्ताव किया गया, उस पर एक सुर में नाखुशी जतायी। यह मामला तब सामने आया जब गत 23 नवंबर को अदालत की सुनवाई की वीडियो फुटेज सोशल मीडिया पर काफी प्रसारित हुई। ‘पीटीआई-भाषा’

नव भारत टाइम्स 7 Dec 2022 10:41 pm

'रविवार की बजाय शुक्रवार को स्कूलों में छुट्टी' BJP सांसद ने उठाया सीमांचल का मुद्दा, कहा- कोई संविधान से ऊपर कैसे?

भारतीय जनता पार्टी के सांसद और बिहार बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल ने बुधवार को लोकसभा में बिहार सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि बिहार में कानून नाम की कोई चीज नहीं है। जायसवाल ने नीलम देवी हत्याकांड से लेकर सीमांचल के स्कूलों में शुक्रवार को होने वाली छुट्टी का मुद्दा उठाया।

नव भारत टाइम्स 7 Dec 2022 10:38 pm

गुरुग्राम में 12 वर्षीय लड़की से बलात्कार के आरोप में एक व्यक्ति गिरफ्तार

गुरुग्राम, सात दिसंबर (भाषा) गुरुग्राम में नाबालिग लड़की से बलात्कार के आरोप में 28 वर्षीय व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने बुधवार को यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि आरोपी पश्चिम बंगाल का मूल निवासी है और मजदूरी करता है। पुलिस ने कहा कि वारदात मंगलवार को हुई जब 12 वर्षीय पीड़िता अपनी झुग्गी में अकेली थी। मां जब घर लौटी तो बेटी ने बताया कि पड़ोसी ने कथित तौर पर उससे बलात्कार किया है। पुलिस ने कहा कि पीड़िता की मां की तरफ से शिकायत मिलने के बाद प्राथमिकी दर्ज की गई। सेक्टर

नव भारत टाइम्स 7 Dec 2022 10:36 pm

Rajasthan: कोटा में राहुल गांधी के स्वागत में लगाए गए पायलट की फोटो वाले होर्डिंग्स और पोस्टर हटाए गए

राहुल ने कोटा के केबलनगर में नुक्कड़ सभा को संबोधित करते हुए कहा कि संसद में विपक्ष को बोलने नहीं दिया जाता है। संसद की टीवी को कोटा से आने वाले लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला का चेहरा अच्छा लगता है।

जागरण 7 Dec 2022 10:35 pm

कलेक्टर ने धान खरीदी केन्द्रों का किया आकस्मिक निरीक्षण, दस्तावेजों का किया अवलोकन

बालाघाट. कलेक्टर डॉ. गिरीश कुमार मिश्रा ने बुधवार को वेयर हाउस गोंगलई, ग्राम खुरसोड़ी, चिखला, सालेटेका और पिपरझरी के धान खरीदी केन्द्रों का आकस्मिक निरीक्षण किया। इस दौरान कलेक्टर ने केन्द्र प्रभारी से बारदाने की उपलब्धता, तौलकांटों की स्थिति, किसानों के पंजीयन, स्लाट बुकिंग और धान की तौल के बाद निकलने वाली ऑनलाइन पर्ची की जानकारी ली। केन्द्र पर बनाए गए रजिस्टरों की जांच भी की। उन्होंने खरीदी केन्द्रों पर तौल कांटों की संख्या बढ़ाने के निर्देश दिए। धान की तौल करते समय निर्धारित मात्रा में ही धान तौला जाए। सभी केन्द्रों पर सर्वेयर को नियमित रूप से उपस्थित रहने के निर्देश दिए। उन्होंने सभी खरीदी केन्द्रों पर ब्लॉक स्तर के नोडल अधिकारी एवं कलेक्टर का मोबाईल नंबर लिखवाने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने खरीदी केन्द्रों पर धान लेकर आए किसानों से चर्चा की। उनसे पूछा कि उन्हें किसी तरह की समस्या तो नहीं आ रही है। किसानों ने बताया कि उन्हें धान विक्रय करने में कोई समस्या नहीं आ रही है। केन्द्र पर बारदाने और अन्य व्यवस्थाएं ठीक है। निरीक्षण के दौरान पटवारी दिनेश सोनवाने उपस्थित नहीं पाए गए। इस दौरान केन्द्रों पर खरीदी गई धान का तेजी से उठाव करने और गोदामों में पहुंचाने के निर्देश दिए। इस दौरान जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक के प्रभारी सीईओ पी जोशी, उपायुक्त सहकारिता अंजली धुर्वे भी उपस्थित थी। 3.75 लाख क्विंटल धान की हुई खरीदी जिले में समर्थन मूल्य पर धान विक्रय के लिए 25 हजार 978 किसानों ने स्लाट बुक कराया है। अब तक जिले में 8548 किसानों से 3 लाख 75 हजार क्विंटल धान की खरीदी की जा चुकी है। इसमें से 55 हजार क्विंटल धान का परिवहन कर गोदामों में पहुंचाया जा चुका है।

पत्रिका 7 Dec 2022 10:33 pm

ग्रामीण की हत्या कर शव को फेंका नहर के समीप

बालाघाट. ग्रामीण थाना नवेगांव अंतर्गत ग्राम विश्राम पुर में मंगलवार की रात्रि अज्ञात लोगों ने एक व्यक्ति की हत्या कर दी। उसके शव को समीपस्थ नहर के किनारे फेंक कर फरार हो गए। बुधवार की सुबह नहर किनारे शव मिलने से सनसनी फैल गई। ग्रामीणों ने घटना की सूचना ग्रामीण थाने नवेगांव पुलिस को दी। सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने पंचनामा कार्रवाई की। मर्ग कायम कर मामले को जांच में लिया है। परिजनों से मिली जानकारी के अनुसार विश्रामपुर निवासी रेखलाल पिता सुकलाल (54) मंगलवार-बुधवार की मध्य रात्रि करीब दो बजे अपने घर से शौच के लिए निकला था, जो रात्रि में घर नहीं लौटा। बुधवार की सुबह परिजनों ने उसकी खोजबीन की। इस दौरान ग्राम के पास से गुजरने वाली आमगांव माइनर नहर पर उसका शव दिखा। मृतक के सिर पर धारदार हथियार से मारने के निशान मिले है। इसकी सूचना परिजनों ने पुलिस को दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर पंचनामा कार्रवाई की। वहीं प्रकरण को जांच में लिया है। पुलिस इस मामले में सभी पहलुओं को ध्यान में रखकर जांच कर रही है। दुर्घटना में युवक की मौत बालाघाट. बैहर थाना क्षेत्र के वार्ड क्रमांक 11 निवासी जावेद पिता सफीक खान (30) की ट्रक की ठोकर से घायल होने पर मौत हो गई। सूचना के आधार पर पुलिस ने पंचनामा कार्रवाई कर शव का पीएम कराकर परिजनों को सौंप दिया। मर्ग कायम कर मामले को जांच में लिया है। वहीं अज्ञात ट्रक चालक के खिलाफ धारा 304 ए ताहि सहित अन्य धाराओं के तहत अपराध दर्ज कर प्रकरण को जांच में लिया है।

पत्रिका 7 Dec 2022 10:32 pm

हरियाणा कांग्रेस ने ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के लिए नेताओं को दी जिम्मेदारियां

चंडीगढ़, सात दिसंबर (भाषा) हरियाणा कांग्रेस ने ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के लिए बुधवार को 14 अलग समितियां बनायी और पार्टी नेताओं को जिम्मेदारियां भी सौंपी।कांग्रेस की हरियाणा इकाई ने पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की अगुवाई वाली यात्रा की तैयारियों के लिए बुधवार को एक बैठक की।बैठक में हरियाणा कांग्रेस के नव नियुक्त प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल, पूर्व मुख्यमंत्री और विपक्ष के नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा, पार्टी की प्रदेश इकाई के अध्यक्ष चौधरी उदय भान, राज्यसभा सदस्य दीपेंद्र सिंह हुड्डा शामिल हुए।गोहिल ने नेताओं तथा कार्यकर्ताओं से भारत जोड़ो यात्रा को सफल बनाने का आह्वान किया।भान ने कहा कि उन्होंने

नव भारत टाइम्स 7 Dec 2022 10:31 pm

राजस्थान : करंट की चपेट में आने से दो लोगों की मौत

जयपुर, सात दिसंबर (भाषा) राजस्थान के राजसमंद के रेलमगरा थाना क्षेत्र में बुधवार को गिलूंड गांव में दो व्यक्तियों की करंट लगने से मौत हो गई। पुलिस ने बताया कि लाईन में आई खराबी को ठीक किया जा रहा था कि अचानक उसमें बिजली प्रवाहित हो गई। करंट की चपेट में आने से शैतान (21) और पूना (22) की मौत हो गई। उन्होंने बताया कि परिजन और ग्रामीण मुआवजे की मांग को लेकर प्रशासन के साथ बातचीत कर रहे हैं। दोनों शवों का पोस्टमार्टम बृहस्पतिवार को करवाया जायेगा।

नव भारत टाइम्स 7 Dec 2022 10:31 pm

कौन है 44 साल की 'गंदी बात' फेम Flora Saini? जिनके बॉयफ्रेंड ने मार-मार के जबड़ा तोड़ दिया! रो देंगे एक्ट्रेस का दर्दनाक किस्सा सुनकर

कौन है 44 साल की 'गंदी बात' फेम Flora Saini? जिनके बॉयफ्रेंड ने मार-मार के जबड़ा तोड़ दिया! रो देंगे एक्ट्रेस का दर्दनाक किस्सा सुनकर

डेली हरयाणा न्यूज़ 7 Dec 2022 10:30 pm

बाघ की दहाड़ से ग्रामीणों की नींद हो रही खराब

बालाघाट. बाघ की दहाड़ ने ग्रामीणों की नींद खराब कर रखी है। गांव में सन्नाटा पसरा रहता है। खौफजदा ग्रामीण अपने ही घरों में कैद होकर रह रहे हैं। कृषि सहित अन्य सभी कार्य भी काफी प्रभावित हो रहे हैं। आलम यह है कि ग्रामीण अब न तो रात में चैन से सो पा रहे हैं और न ही दिन में लगन से कोई कार्य पूरा कर रहे हैं। बाघ के हमले का डर हर समय ग्रामीणों के मन मस्तिष्क में कौंधते रहता है। इधर, बाघ का मूवमेंट जानने के लिए वन विभाग ने लालबर्रा से लेकर वारासिवनी वन परिक्षेत्र के अलग-अलग स्थानों पर कैमरे भी लगाएं हैं। लेकिन अभी तक कैमरे में बाघ की तस्वीर कैद नहीं हुई है। मामला वारासिवनी वन परिक्षेत्र के अंतर्गत आने वाले आधा दर्जन से अधिक ग्रामों का है। जानकारी के अनुसार वारासिवनी वन परिक्षेत्र के अंतर्गत आने वाले ग्रामों में बाघ का मूवमेंट बना हुआ है। रात्रि के समय बाघ गांवों में प्रवेश कर रहा है। पालतु मवेशियों को अपना शिकार बना रहा है। बाघ की दहाड़ और पालतु मवेशियों की चिल्लाने की आवाज सुनकर ग्रामीण और भी खौफजदा हो जाते हैं। बाघ के मूवमेंट की यह समस्या पिछले करीब एक माह से बनी हुई है। वारासिवनी वन परिक्षेत्र के अंतर्गत ग्राम सिर्रा, नगरझर, नांदगांव, बोटेझरी, सिरपुर, शेरपार, अंसेरा, बासी, झालीवाड़ा सहित अन्य गांवों में काफी दिनों से बाघ की दहशत बनी हुई है। बाघ के गांव में प्रवेश करने और पालतु मवेशियों का शिकार करने से ग्रामीण खौफ में हैं। हाल ही में नांदगांव में बाघ के हमले से एक महिला की मौत हो चुकी हैं। वहीं झालीवाड़ा, बोटेझरी, सिलेझरी में बाघ ने गांव में घुसकर पालतु मवेशियों का शिकार कर चुका है। कैमरों में भी नजर नहीं आ रहा है बाघ वन विभाग ने बाघ का मूवमेंट जानने के लिए अलग-अलग स्थानों पर कैमरे लगाए हैं। लेकिन इन कैमरों में बाघ की तस्वीर कैद नहीं हो पा रही है। विभाग से मिली जानकारी के अनुसार लालबर्रा और वारासिवनी वनपरिक्षेत्र के अंतर्गत आठ अलग-अलग स्थानों पर कैमरे लगाए गए हैं। ग्रामीणों से सतर्क रहने की अपील वन विभाग बाघ के मूवमेंट होने के बाद से लगातार जंगल और गांव में गश्त कर रहा है। मुनादी कराकर ग्रामीणों को सतर्क रहने की अपील कर रहा है। इतना ही नहीं गांव में आग जलाकर रखने, आवश्यक होने पर ही समूह बनाकर बाहर निकलने, हाथों में सुरक्षा के साधन रखने की सलाह भी दे रहा है। पीडि़त परिवार से विधायक ने की मुलाकात बालाघाट.वारासिवनी क्षेत्र के नादंगाव-सिरपुर मार्ग पर बाघ के हमले से मृत महिला लक्ष्मी विष्णु उइके (25) के परिजनों से विधायक प्रदीप जायसवाल ने मुलाकात की। परिजनों को सांत्वना देकर हरसंभव मदद का आश्वासन दिया। इस दौरान सरपंच विजय सहारे, हीरासिंह उइके, वीरेन्द्र ठाकरे, रमेश उइके सहित अन्य ग्रामीणों ने विधायक को बताया कि बाघ का आतंक बना हुआ है। आसपास के टोलों मेें बाघ के देखे जाने से किसानों ने रात्रि में कृषि कार्य बंद कर दिया है। शाम होते ही गांवों में सन्नाटा पसर जाता है। ग्रामीणों ने पिंजरा लगाकर बाघ को पकडऩे की मांग की। इस मामले में विधायक जायसवाल ने वन विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों से चर्चा कर समस्या का समाधान किए जाने का आश्वासन दिया।

पत्रिका 7 Dec 2022 10:30 pm

बालाघाट से चोरी किया ट्रक, रायपुर में कबाड़ी को बेचा

बालाघाट. कोतवाली क्षेत्र के बायपास रोड से ट्रक की चोरी की, उसे रायपुर ले जाकर कबाड़ी को बेच दिया। चोरी करने के लिए आरोपी कार से बालाघाट पहुंचे थे। यह खुलासा कोतवाली पुलिस ने बुधवार को ट्रक चोरी के मामले में किया है। इस मामले में कोतवाली पुलिस ने दो चोर और दो कबाड़ी को गिरफ्तार किया है। जबकि चोरों का एक साथी फरार है। पुलिस ने आरोपियों की निशानदेही पर ट्रक का स्क्रेप कीमत करीबन ढाई लाख रुपए, पचास हजार रुपए नकदी और करीब पांच लाख रुपए मूल्य की कार को जब्त किया है। इस मामले में पुलिस ने प्रताप सिंह पिता दारा सिंह (50) निवासी दुग्धा कोलवासरी जिला बोकारों झारखंड, नसीम खान उर्फ सोनी उर्फ स्टील बॉडी पिता मोबिन खान (32) निवासी मस्जिद के पीछे मोहदापारा रायपुर (छग), शंकर उर्फ भीम सिंह पिता बृजवासी सिंह (40) निवासी सेक्टर 8 स्ट्रीट 36 भिलाई (छग) और मोहम्मद उस्मान पिता मोहम्मद असरफ (36) निवासी फाफरहीड रायपुर (छग) को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने बताया कि वार्ड क्रमांक 31 सरेखा बायपास निवासी शब्बीर ने कोतवाली में शिकायत की थी कि ट्रक बॉडी मेकर के बाजू से दस चका ट्रक को अज्ञात चोरों ने चुरा लिया है। शिकायत के आधार पर अज्ञात चोरों के खिलाफ धारा 379 भादवि के तहत अपराध दर्ज कर मामले को विवेचना में लिया गया था। प्रकरण की जांच के लिए विशेष पुलिस टीम का गठन किया गया। जांच के दौरान सामने आया कि ट्रक चोरी करने के लिए चोर कार से बालाघाट पहुंचे थे। जो ट्रक की चोरी करके छग की ओर गए थे। इस आधार पर टीम ने छग रायपुर जाने वाले सभी संभावित मार्गों पर जांच की। जांच में खुलासा हुआ कि प्रताप सिंह, भीम सिंह और उसका एक साथी कार से बालाघाट आए थे। ट्रक की चोरी करके बालाघाट-बैहर के रास्ते रायपुर पहुंचे थे। जहां रायपुर के कबाड़ी सोनू उर्फ नसीम खान निवासी मोहदापारा रायपुर व उस्मान निवासी फाफाडीह को ट्रक बेचा था। आरोपियो से चोरी गए ट्रक का स्क्रेप, एक कार जब्त की गई है। इस मामले में आरोपियों के खिलाफ धारा 411, 413, 414, 120बी भादवि बढ़ाई गई है। इसा कार्रवाई में सीएसपी अंजुल अयंक मिश्रा, उनि राधेश्याम दांगी, उनि विकास सिंह, उनि प्रदीप सराफ, उनि जिनेन्द्र सिंह जादौन, उनि अमित गौतम, सोमेन्द्र डहरवाल, प्रआर राहुल गौतम, अंकुर गौतम, आरक्षक शेख शहजाद, प्रदीप पणे, बलराम यादव, शैलेष गौतम, गजेन्द्र माटे, पदम सिंह उइके सहित अन्य का सहयोग रहा है।

पत्रिका 7 Dec 2022 10:28 pm

मातृ शक्तियों ने किया सार्वजनिक सुहागले पूजन

मंडला. हनुमान घाट मंदिर परिसर में महिष्मति गौ सेवा रक्तदान संगठन की महिला टीम द्वारा सुहागले व्रत का कार्यक्रम रखा गया। कार्यक्रम की अगुवाई महिला मोर्चा की जिला अध्यक्ष संजूलता सिंगौर के मार्गदर्शन में हुई। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में लक्ष्मी अग्रवाल अन्य ने संगठन की खुलकर तारीफ की। आज के कार्यक्रम में सभी मातृ शक्तियों ने व्रत रखा। संजूलता सिंगौर, रश्मि पाठक, दुर्गेश अग्रवाल, लक्ष्मी गुप्ता, सरस्वती सिंगौर, प्रतिभा सिंगोर, शिखा सोनी, अनंता कोरी, साधना सिंह, विमला तेकाम, अनुपमा वर्मा, रिंकी दोहरा, संगीता जयसवाल, मीना राजपूत, प्रतिभा साहू, शिल्पा चोरनेले, रुपाली पटेल, राजकली द्विवेदी, शोभना गुप्ता, सोना चौरसिया, ने अपना योगदान दिया। सभी ने कार्यक्रम में अपनी सहभागिता दर्ज करवाई। भगवत गीता जयंती पर पूजनपाठ नैनपुर . ग्राम मक्के में आदित्य वाहिनी समिति के द्वारा भगवत गीता जयंती के पावन अवसर पर महावीर चौक स्थित हनुमान मंदिर मक्के में हनुमान चालीसा का पाठ व हवन कार्यक्रम रखा गया। जहा आरती पूजन कर हवन के बाद प्रसाद भंडार कराया गया। पंडित नीलू महाराज के द्वारा अनुष्ठान सम्पन्न कराया गया। इस दौरान पराग शर्मा, अमर लाल साहू, रामेश्वर साहू, मूलचंद रजक, बसंत रजक, बनवारी लाल, श्याम लाल, चरण सिंह, बेनीराम, विजय, संतकुमार, टीकाराम, नर्मदा जितेन्द्र, पप्पू साहू एवं अन्य ग्रामवासी उपस्थित रहे।

पत्रिका 7 Dec 2022 10:27 pm

राजस्थान : युवक ने सौतेले भाई की हत्या की

जयपुर, सात दिसंबर (भाषा) राजस्थान के हनुमानगढ़ जिले के खुइयां थाना क्षेत्र में एक युवक ने अपने सौतेले भाई पर लाठी से कथित रूप से वार किया जिससे उसकी मौत हो गई। पुलिस ने बुधवार को बताया कि आरोपी कालूराम (42) को हत्या के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया है। थानाधिकारी ओमप्रकाश ने बताया कि कल रात पांडू सर गांव में कालूराम (42) ने नशे में अपने सौतेले भाई सुरेश (33) की लाठी से वार कर हत्या कर दी। उन्होंने बताया कि बुधवार को पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया। अधिकारी ने बताया कि आरोपी के खिलाफ

नव भारत टाइम्स 7 Dec 2022 10:26 pm

Gujarat Election 2022 : कांग्रेस की महत्वपूर्ण बैठक मतगणना के बाद नव निर्वाचित विधायकों को ले जाया जा सकता है राजस्थान

अहमदाबाद. Congress कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं की बुधवार को हुई बैठक में कई मुददों पर चर्चा की गई। अहमदाबाद के पालडी स्थित प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में हुई बैठक में निर्णय लिया गया है कि गुरुवार को मतगणना के बाद पार्टी के नवनिर्वाचित विधायकों newly elected MLA को राजस्थान में शिफ्ट किया जाएगा, ताकि विधायक जोड़तोड़ की राजनीति का शिकार न हो पाएं। इसके लिए भरतसिंह सोलंकी एवं अर्जुन मोढ़वाडिय़ा जैसे वरिष्ठ नेताओं को जिम्मेदारी भी सौंपी जा चुकी है। गुजरात प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी डॉ. रघु शर्मा, पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष जगदीश ठाकोर, पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भरतसिंह सोलंकी, अर्जुन मोढवाडिय़ा की उपस्थिति में हुई इस बैठक में नेताओं ने इस बार गुजरात में कांग्रेस की सरकार बनने की संभावना जताई। संभावना यह भी जताई गई कि वर्ष 2017 में हुए चुनाव की तुलना में कांग्रेस की स्थिति काफी बेहतर होगी। बैठक में निर्णय लिया गया है कि मतगणना के बाद यदि जादुई आंकड़ा आया तो अपने पार्टी के नवनिर्वाचित विधायकों को कांग्रेस शासित राज्य राजस्थान में शिफ्ट किया जाएगा, ताकि वे जोड़-तोड़ की नीति का शिकार न हो सकें। साथ ही निर्दलीय नवनिर्वाचित विधायकों को आकर्षित करने के जतन किया जाएगा। इसके अलावा आम आदमी पार्टी (आप) और बीटीपी जैसे दलों से संभावित गठबंधन को लेकर भी बैठक में चर्चा की गई।

पत्रिका 7 Dec 2022 10:22 pm

हेल्थ डिपार्टमेंट में भर्ती का महाघोटाला, महाराष्ट्र के कई इलाकों में फर्जी अपॉइंटमेंट लेटर देकर ठगी

नांदेड़ सहित महाराष्ट्र के कई इलाकों से हेल्थ डिपार्टमेंट में भर्ती का महाघोटाला सामने आया है। फर्जी अपॉइनमेंट लेटर देकर कई लोगों के साथ ठगी हुई है। नांदेड़ के एक युवक को यह समझ आते ही इस पूरे स्कैम का भंडाफोड़ हुआ। बताया जा रहा है कि इस तरह फर्जी अपॉइनमेंट लेटर देकर कई लोगों के साथ फ्रॉड हुआ है जो अब बात खुलने के बाद पता लग रही है। हेल्थ डिपार्टमेंट में हेल्थ वर्कर का फर्जी अपॉइनमेंट लेटर देकर लोगों को ठगा गया है। नांदेड़ जिले के किनवट पुलिस थाने में केस दर्ज कर लिया गया है। पांच साल पहले महाराष्ट्र पब्लिस सर्विस कमीशन (MPSC) से जुड़े घोटाले का भंडाफोड़ नांदेड़ में ही हुआ था। इसके बाद अब हेल्थ डिपार्टमेंट का फेक नौकरी भर्ती घोटाला सामने आया है। नांदेड़ के किनवट तालुके में सचिन जाधव नाम के युवक को ठगा गया है। इस युवक की उम्र लगभग 34 साल है। सचिन जाधव के ठगे जाने के बाद ही इस घटना का खुलासा हुआ हैं। यह भी पढ़े: मुंबई: अपने ही घर से लाखों रुपए चुराने के लिए मजबूर हुई व्यापारी की बेटी, हैरान कर देने वाला है मामला बता दें कि सचिन जाधव के पिता की पहचान के एक शख्स आनंदराव सोनकांबले ने अमरावती हेल्थ डिपार्टमेंट में हेल्थ वर्कर और क्लर्क की वैकेंसी होने की बात कह कर वहां अप्रोच से नौकरी लगाने का वादा करते हुए सात लाख रुपए की डिमांड की थी। इसके बाद दो भाग में पेमेंट किया गया। पहला पेमेंट 30 जुलाई 2020 में किया गया और दूसरा पेमेंट इस साल 16 अगस्त को किया गया। हफ्ते भर बाद यानी 20 अगस्त को सचिन जाधव को फोन कर यह बताया गया कि उसके रिक्रूटमेंट से जुड़ा ऑर्डर आ गया है। इसके बाद सचिन जाधव को फर्जी अपॉइनमेंट लेटर दे दिया गया। पुलिस को मुख्य सूत्रधार की खोज: इसके बाद सचिन जाधव को बताया गया कि उसे यवतमाल जिले के दारव्हा इलाके के उप जिला हॉस्पिटल में ट्रेनिंग के लिए भेजा जाएगा। लेकिन जब आरटीआई के जरिए इसकी जानकारी हासिल की गई तो पता चला कि इस तरह की नौकरी भर्ती की कोई प्रोसेस अमरावती हेल्थ डिपार्टमेंट में शुरू नहीं की गई है। इसके बाद नांदेड़ जिले के 7 से 8 और पूरे महाराष्ट्र के करीब 50 से 60 बेरोजगारों को ठगे जाने की बात सामने आई है। इस घोटाले का खुलासा होने के बाद पुलिस इसकी जांच कर रही है। पुलिस पहले ये पता लगा रही हैं कि कितने युवकों को ठगा गया है और इस पूरे रैकेट का सूत्रधार कौन है?

पत्रिका 7 Dec 2022 10:19 pm

स्टाफ की कमी ने कायाकल्प योजना को धकेला हाशिए पर

मंडला . 3 दिसंबर को जिला अस्पताल के औचक निरीक्षण पर पहुंचे प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कलेक्टर हर्षिका सिंह को जो आवश्यक निर्देश दिए उनमें शामिल विभिन्न सुविधाओं में कायाकल्प योजना सबसे प्राथमिक स्तर पर रही। सीएम ने कायाकल्प योजना का लाभ दिलाने की बात को दोहराया लेकिन आईएसओ प्रमाणित जिला अस्पताल में प्रदेश शासन की कायाकल्प योजना हाशिए पर है। गौरतलब है कि कायाकल्प योजना के अंतर्गत जिला चिकित्सालय में अत्याधुनिक जांच एवं उपचार की सुविधाएं उपलब्ध कराई गई है। पैथोलॉजी लैब को उपलब्ध कराए गए अत्याधुनिक उपकरण के जरिए 132 बायोकेमेस्ट्री टेस्ट निशुल्क उपलब्ध कराए जाने हैं। इस योजना के जरिए स्वास्थ्य सेवाओं की बेहतरी और उपचार के सभी उच्च प्रबंधन किए जाने की बात कही गई है। जिला अस्पताल ही नहीं, जिले के सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में भी कायाकल्प अभियान के जरिए मरीजों को शासन की योजनाओं का संपूर्ण लाभ दिया जाना है। लेकिन जिला अस्पताल में यह योजना धराशाई हो रही है क्योंकि अस्पताल में नर्सिंग स्टाफ एवं चिकित्सक ही नहीं है। ऐसे में यदि उपकरण उपलब्ध है भी, तो उनका लाभ मरीजों को नहीं मिल पा रहा है। गंभीर हालत में पहुंचने वाले मरीजों को सीधे जबलपुर स्थित मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया जाता है क्योंकि जिला अस्पताल में एक भी उच्च कोटि का विशेषज्ञ उपलब्ध नहीं है। 39 में 31 रिक्त सिविल सर्जन कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार, जिला अस्पताल में प्रथम श्रेणी के 39 चिकित्सकों को उपस्थित होना आवश्यक है लेकिन यहां सिर्फ आठ ही प्रथम श्रेणी चिकित्सक उपलब्ध है। शेष 31 चिकित्सकों के पद रिक्त हैं। आंकड़ों से अंदाजा लगाया जा सकता है कि जिला अस्पताल आने वाले मरीजों को किस स्तर का इलाज मिल रहा है। पर्याप्त मेडिकल ऑफिसर भी नहीं सिविल सर्जन कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार जिला अस्पताल में मेडिकल ऑफिसर के लिए 23 पद स्वीकृत किए गए हैं जिसमें से मात्र 10 पदों पर चिकित्सक उपलब्ध है शेष 13 पद खाली है यानी जिला अस्पताल की ओपीडी के अधिकांश चेंबर खाली ही पड़े रहते हैं। आदिवासी बाहुल्य इलाका होने के कारण क्षेत्र में आयुर्वेद पद्धति से इलाज की बहुत मांग है। इसके लिए एक आयुष चिकित्सक का होना जरूरी है लेकिन जिला अस्पताल में एक भी आयुष चिकित्सक उपलब्ध नहीं है। यहां भी बदहाली किसी भी अस्पताल में पहुंचने वाले मरीजों के देखभाल एवं मॉनिटरिंग की जिम्मेदारी तृतीय एवं चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारियों पर होती है लेकिन जिला अस्पताल में इस श्रेणी के कर्मचारी भी पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध नहीं है। आंकड़े बता रहे हैं कि अस्पताल में तृतीय श्रेणी कर्मचारियों की 55 सीटें रिक्त हैं, जबकि चतुर्थ श्रेणी के 52 सीटों को भरा जाना बाकी है। ऐसे में कायाकल्प योजना का लाभ मरीजों को कैसे मिलेगा❓ इस प्रश्न के उत्तर में अस्पताल प्रबंधन मौन है। चमकने लगे अस्पताल के फर्श प्रदेश के मुखिया के औचक निरीक्षण का जिला अस्पताल में कुछ और फर्क पड़ा हो या ना पड़ा हो लेकिन जिला अस्पताल भवन से उड़ने वाली सड़ांध, बदबू और गंदगी से मरीजों एवं स्टाफ को निजात मिल गई है। निजी अस्पताल की तरह जिला अस्पताल के सभी वार्डों में हर तरह के डस्टबिन उपलब्ध करा दिए गए हैं। शौचालयों में भरपूर मात्रा में कीटनाशकों का छिड़काव किया जा रहा है। कपड़े से साफ कर अस्पताल के फर्श चमकाए जा रहे हैं। वार्डों में व्हीलचेयर उपलब्ध है और गलियारों में भी डस्टबिन उपलब्ध कराए गए हैं। सूत्रों ने बताया कि शीघ्र ही उच्च स्तरीय अधिकारियों की टीम जिला अस्पताल का दौरा करने वाली है। उसी की तैयारी में अस्पताल प्रबंधन जुड़ा हुआ है।

पत्रिका 7 Dec 2022 10:13 pm

राज्यपाल मिश्र ने सरिस्का में की सफारी, दिखी बाघिन एसटी-2, ये बताई कमियां

जयपुर। राज्यपाल कलराज मिश्र (Governor Kalraj Mishra) बुधवार को निजी कार्यक्रम में शामिल होने के लिए अलवर के सरिस्का पैलेस आए। इस दौरान राज्यपाल ने सरिस्का टाइगर रिजर्व (Sariska Tiger Reserve) में सफारी का आनंद लिया। सरिस्का प्रशासन की ओर से एनक्लोजर में बाघिन एसटी-2 (Tigress ST-2) दिखाई गई। बाघिन को देखकर राज्यपाल खुश नजर आए। राज्यपाल मिश्र का अलवर जिला कलक्टर जितेन्द्र सोनी, पुलिस अधीक्षक तेजस्वनी गौतम, सरिस्का के क्षेत्र निदेशक आरएन मीणा सहित अन्य अधिकारियों ने स्वागत किया। इस मौके पर उन्हें गार्ड आफ आनर भी दिया गया। सरिस्का में सफारी के बाद राज्यपाल मिश्र ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि सरिस्का को अभी और विकसित करने की आवश्यकता है। पर्यटकों के लिए यहां अच्छे होटलों की कमी है। अभी सरिस्का में जो होटल है, वे सरिस्का से दूर हैं। इसके अलावा सरिस्का में प्रवेश के लिए अभी दो गेट हैं, ये कम हैं। इनकी संख्या तीन होनी चाहिए। जिससे लोग अपनी सुविधा के अनुसार आ जा सके। सरिस्का में विकास की अपार संभावनाएं हैं। यहां का जंगल खूबसूरत व घना है। ऐसे में सरकार को इस पर ध्यान देने की आवश्यकता है। इन्होंने भी की राज्यपाल से मुलाकात सरिस्का पैलेस में निजी कार्यक्रम में शामिल होने आए राज्यपाल कलराज मिश्र से उद्योग मंत्री शकुंतला रावत, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री टीकाराम जूली, पूर्व केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह सहित अन्य नेताओं ने भी मुलाकात की।

पत्रिका 7 Dec 2022 10:12 pm

वडोदरा जिले के सींधरोट गांव से और 121 करोड़ की मेफेड्रोन जब्त

वडोदरा. गुजरात आतंक निरोधक दस्ता (एटीएस), ATS को और एक बड़ी सफलता हाथ लगी है। वडोदरा Vododara जिले के सींधरोट Sindhrot गांव के एक घर में दबिश देकर 121 करोड़ रुपए की मेफेड्रोन (एमडी) mephedrone (MD ) ड्ग्र्स जब्त की गई है। इससे पहले गत 29 नवम्बर को भी इस गांव से बड़ी मात्रा में मेफेड्रोन बरामद की गई और पांच आरोपियों को गिरफ्तार भी किया गया। सींधरोट गांव में ड्रग्स बरामद मामले में गिरफ्तार आरोपियों से पूछताछ के आधार पर एटीएस ने स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एओजी) के साथ मंगलवार को छापेमारी की। उस दौरान अलग अलग जगहों से प्लास्टिक की थैलियों में शंकास्पद ड्रग्स मिलने पर जांच की गई। एफएसएल ने मेफेड्रोन के रूप में इसकी पुष्टि कीथी। इसका वजन 24 किलो 280 ग्राम और अनुमानित कीमत 121.40 करोड़ रुपए बताई गई है। पुलिस के अनुसार इस मेफेड्रोन का निर्माण पूर्व में पकड़े गए आरोपियों ने सींधरोट गांव के निकट फैक्ट्री में ही किया था। इस फैक्ट्री में बनाई गई 607 करोड़ कीमत की मेफेड्रोन को कब्जे में ले लिया गया है। इस आरोप में सौमिल पाठक, भरत चावड़ा और शैलेष कटारिया से पूछताछ किए जाने पर मेफेड्रोन बनाने में उपयोग की 100 किलो कच्ची सामग्री वडोदरा के सयाजीगंज क्षेत्र से जब्त की है। मेफेड्रोन बनाने के लिए उपयोग में की जाने वाली मशीन और अन्य साधन भी जब्त किए गए हैं। यह था मामला गुजरात एटीएस की टीम ने पूर्व सूचना के आधार पर गत 29 नवम्बर की रात को सींधरोट गांव के आसपास सर्च ऑपरेशन किया था। उस दौरान अलग-अलग जगहों से पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। इन आरोपियों को साथ रखकर सींधरोट गांव के निकट एक फैक्ट्री में छापा मारा गया। जहां से 63 किलो से अधिक मेफेड्रोन का संग्रह जब्त किया गया। इसके अलावा 80 किलो मेफेड्रोन बनाने के लिए तैयार घोल भी बरामद किया गया था। इस जत्थे की कुल कीमत 477 करोड रुपए ़ से अधिक बताई गई थी। इसके बाद गत 3 दिसम्बर को भरत चावड़ा नामक आरोपी की ओर से दो थैलियों में छिपाई गई लगभग पौने दो किलो मेफेड्रोन ड्रग्स को जब्त किया गया, जिसकी कीमत 8.85 करोड़ रुपए आंकी गईं। इस आरोप में लिप्त आरोपियों से पूछताछ किए जाने पर शैलेष कटारिया ने अपने घर पर और ड्रग्स होने की बात कही थी। जिसके आधार पर मंगलवार को छापा मारा गया।

पत्रिका 7 Dec 2022 10:11 pm

BREAKING NEWS : भाजपा विधायक का निर्वाचन शून्य, हाईकोर्ट का फैसला

जबलपुर. टीकमगढ़ जिले की खरगापुर विधानसभा सीट से भाजपा विधायक राहुल सिंह लोधी का निर्वाचन शून्य घोषित कर दिया गया है। मध्यप्रदेश हाईकोर्ट ने राहुल लोधी का निर्वाचन शून्य करने का फैसला सुनाते हुए ये भी कहा है कि भविष्य में राहुल सिंह को इस प्रकार की कोई जिम्मेदारी न सौंपी जाए। बता दें कि राहुल सिंह लोधी मध्यप्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा की कद्दावर नेता उमा भारती के भतीजे हैं। उनके खिलाफ पूर्व विधायक चंदा गौर की याचिका ने हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी जिसमें नामांकन के दौरान जानकारी छिपाने का आरोप लगाया गया था। भाजपा विधायक राहुल सिंह का निर्वाचन शून्य मप्र हाईकोर्ट टीकमगढ़ जिले की खरगापुर सीट से भाजपा विधायक राहुल सिंह लोधी का 2018 में हुआ निर्वाचन शून्य घोषित कर दिया। हारी हुई प्रत्याशी चंदा देवी गौर की चुनाव याचिका पर यह फैसला आया है। चंदा देवी ने नामांकन पत्र में राहुल सिंह के द्वारा जानकारी छिपाने का आरोप लगाया था। कोर्ट ने उनकी याचिका पर सुनवाई करते हुए कहा कि निर्वाचन अधिकारी ने प्रक्रिया के विपरीत जाकर लोधी का नामांकन पत्र मंजूर किया। इसलिए यह प्रक्रिया शून्य है। कोर्ट ने इस अनियमितता के लिए तत्कालीन रिटर्निंग ऑफिसर पर भी कार्रवाई करने के निर्देश दिये हैं। कोर्ट ने कहा कि भविष्य में राजपूत को इस प्रकार की कोई जिम्मेदारी न सौंपी जाए। यह भी पढ़ें- बाघ की मौत पर सख्त CM शिवराज, सीएम हाउस में बुलाई आपात बैठक हारी हुई प्रत्याशी ने दाखिल की थी याचिका याचिकाकर्ता चंदा गौर ने अपनी याचिका में बताया था कि साल 2018 के विधानसभा चुनाव के दौरान भाजपा प्रत्याशी (मौजूदा विधायक) राहुल सिंह लोधी ने दो बार नामांकन पत्र दाखिल किया था। पहले नामांकन में उन्होंने बताया था कि वो आरएस कंस्ट्रक्शन कंपनी में भागीदार हैं जिसका मप्र राज्य ग्रामीण सड़क अधिकरण से अनुबंध है। लेकिन दूसरे नामांकन पत्र में उन्होंने लिखा कि उनकी और उनके परिवार की किसी भी कंपनी में भागीदारी नहीं है। लेकिन उस याचिका में ये नहीं बताया कि आरएस कंस्ट्रक्शन कंपनी ब्लैक लिस्टेड हो चुकी है। हाईकोर्ट के फैसले की बड़ी बातें - खरगापुर विधायक राहुल लोधी का निर्वाचन शून्य - राहुल सिंह को विधायक पद के सभी वेतन लाभों से किया वंचित - हाईकोर्ट ने राहुल सिंह को करप्ट प्रैक्टिस का दोषी पाया - राहुल सिंह ने नामांकन पत्र में छिपाई थी जानकारी- हाईकोर्ट - तत्कालीन रिटर्निंग अधिकारी पर भी कार्रवाई के निर्देश यह भी पढ़ें- पहली बार तलाक के तीन साल बाद पति-पत्नी ने फिर थामा एक दूजे का हाथ, जानिए पूरा मामला तलवार से केक काटते वीडियो आया था सामने निर्वाचन शून्य घोषित होने से ठीक पहले खरगापुर विधायक राहुल सिंह एक वीडियो वायरल होने के बाद सुर्खियों में थे। वीडियो में विधायक राहुल सिंह तलवार से लाइन में रखे एक दो नहीं बल्कि 41 केक काटते नजर आ रहे थे। वीडियो एक दिन पहले मंगलवार का था जब राहुल सिंह का 41वां जन्मदिन था और इस उपलब्ध में खरगापुर में सात दिवसीय रासलीला का आयोजन कराया गया था। मंगलवार रात को रासलीला के समापन पर विधायक के समर्थक उनके जन्मदिन पर केक लेकर पहुंचे। इस दौरान विधायक के समर्थकों ने सभी केक मंच पर कतार में सजा दिए थे जिन्हें राहुल सिंह ने अपने आठ साल के बेटे के साथ मंच पर ही तलवार से काटा था। इसका वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुआ था। यह भी पढ़ें- CM शिवराज की बड़ी घोषणा : अब सरपंचों को मिलेगा 4250 रुपये मानदेय

पत्रिका 7 Dec 2022 10:09 pm

किसके सिर पर Kurhani Vidhan Sabha के जीत का सेहरा सजेगा ? सभी दल कर रहे जीत का दावा

0:00 intro0:10 किसके सिर पर Kurhani Vidhan Sabha के जीत का सेहरा सजेगा ? सभी दल कर रहे जीत का दावाbihar news live |latest News | hindi News | Latest Hindi News|| Hindi Samachar | news in hindi | news18 | n18oc_Biharबिहार और झारखंड के ताज़ा ख़बरों के लिए देखते रहिए News18 Bihar/Jharkhand

न्यूज़18 7 Dec 2022 10:09 pm

राम मंदिर की तर्ज पर बने अयोध्या का रेलवे स्टेशन

राम मंदिर मॉडल के तर्ज पर बन रहे अयोध्या मॉडल रेलवे स्टेशन के की लागत में वृद्धि कर दी गई है अब अयोध्या रेलवे स्टेशन निर्माण का बजट 240 करोड़ कर दिया गया है जबकि इसके पहले 131 करोड़ की लागत से स्टेशन के स्ट्रक्चर निर्माण का कार्य पूरा हो चुका है। वह इसके अलावा दूसरी फेस के कार्य के लिए भी 350 करोड़ रुपए का बजट रेलवे बोर्ड से स्वीकृति के लिए भेज गया है। आधुनिक सुविधाओं से लैस होगा रेलवे स्टेशन अयोध्या में बने मंदिर मॉडल रेलवे स्टेशन को आधुनिक व्यवस्थाओं के साथ धार्मिकता का भी ध्यान रखा गया है। और राम मंदिर के तर्ज पर रेलवे स्टेशन पर भी बंसी पहाड़पुर के पत्थरों को लगाया गया है। जो कि यह स्टेशन अगले 100 वर्ष तक सुरक्षित रहेगा। साथ ही स्टेशन के अंदर विशेष सुविधा युक्त बनाया गया है। जिसमे दो फुट प्लाजा, चार एक्सीलेटर, 6 लिफ्ट लगाए गए हैं। इसके साथ यात्रियों के लिए एसी व नानएसी वेटिंग रूम साथ महिलाओं व पुरुषों के लिए शौचालय, गर्भवती व दूध पिलाने वाली महिलाओं के लिए अलग व्यवस्था दिया गया है। इसके साथ ही मेडिकल, डिजिटल क्लॉक रूम, शीशी टीवी व फायर अरेजमेंट की भी व्यवस्था बनाई गई है। सैकड़ों वर्ष सुरक्षित होगा रेलवे स्टेशन मॉडल रेलवे स्टेशन का निर्माण कर रही राइट्स के अधिकारी अनिल कुमार जौहरी ने बताया कि इस पूरे मंदिर के स्ट्रक्चर को आगे 100 वर्ष तक सुरक्षित रखे जाने का ध्यान रखते हुए कंक्रीट का स्ट्रक्चर तैयार किया गया है। इसके बाहर लगाए गए पत्थर बंसी पहाड़पुर के है। जो राम मंदिर भी लगाए जा रहे हैं। इस स्टेशन के ऊपर से 2 शिखर, 4 पिरामिड, बीच मे मुकुट, धनुष जो मंदिर का एक स्वरूप प्रदान करता है। वह नजर आएगा। वही कहा कि बिल्डिंग का कार्य पूरा हो चुका है। बाकी प्लेटफार्म व उस पर फुट ओवरब्रिज बनाये जाने का कार्य किया जाना है इसके साथी रेलवे किक प्लेटफार्म की संख्या भी बढ़ाई जा रही है रेलवे स्टेशन के पीछे दक्षिण दिशा की ओर 100 मीटर भूमि के अधिग्रहण करने की कार्रवाई भी प्रदेश सरकार से स्वीकृति के बाद शुरू होने जा रही है जिसके बाद आगे का कार्य शुरू किया जाएगा। रेलवे स्टेशन की व्यवस्थाओं के लिए सरकार ने दिए करोड़ों अयोध्या के सांसद लल्लू सिंह ने बताया कि रेलवे स्टेशन निर्माण के पहले फेज के कार्य लागत में वृद्धि कर 240 करोड़ कर दिया गया है अभी आगे और भी बजट मिलने वाला है। अयोध्या का रेलवे स्टेशन देश का सबसे सुंदर रेलवे स्टेशन बनेगा यह विश्वास है। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की द्वारा और उनके मार्गदर्शन में पूरी अयोध्या सुंदर बन रही है। वही बताया कि अयोध्या किस रेलवे स्टेशन पर 2 और प्लेटफार्म बनाए जाने है। जिससे आने वाले श्रद्धालुओं को किसी भी प्रकार से दिक्कत या कमी महसूस ना हो और अयोध्या किस रेलवे स्टेशन पर पहुंचते ही उन्हें स्वरूप दिया जा रहा है।

पत्रिका 7 Dec 2022 10:09 pm

Khandwa Video: बीच चौराहे पर युवक ने कॉन्स्टेबल को जड़ा थप्पड़, मोबाइल भी तोड़ा, चकमा देकर ट्रैफिक थाने से हुआ फरार

बुधवार को खंडवा में एक बुलेट सवार युवक ने चेकिंग के लिए रोके जाने पर ट्रैफिक कॉन्स्टेबल को ही थप्पड़ मार दिया। युवक ने बीच सड़क पर कॉन्स्टेबल की कॉलर पकड़ी और उसका मोबाइल भी तोड़ दिया। इतना ही नहीं, वह पुलिस को चकमा देकर थाने से भी फरार हो गया। कॉन्स्टेबल का कसूर सिर्फ इतना था कि उसने बिना नंबर प्लेट के बुलेट को रोकने की कोशिश की थी।

नव भारत टाइम्स 7 Dec 2022 10:08 pm

आबकारी राज्यमंत्री बोले- पंचकोसी मार्ग पर नहीं बंद होंगी शराब की दुकानें

उत्तर प्रदेश सरकार ने वाराणसी में पंचकोसी मार्ग पर शराब की दुकानों पर जवाब दिया है। सरकार के पास शराब की दुकानों को तत्काल बंद करने की कोई योजना नहीं है। यूपी सरकार में आबकारी राज्य मंत्री नितिन अग्रवाल ने मंगलवार को कहा, सरकार जरूरत के हिसाब से धार्मिक स्थलों के पास की दुकानें बंद करेगी। विधान परिषद में वाराणसी के पंचकोसी मार्ग की शराब की दुकानों को लेकर सवाल पूछा गया था। सपा सदस्य आशुतोष सिन्हा ने सरकार से दुकाने बंद करने की योजना को लेकर सवाल पूछा था। जवाब में नितिन अग्रवाल ने कहा कि सरकार शराब बंद करने के पक्ष में नहीं है। बंद करने से 93 करोड़ रुपए का नुकसान उन्होंने आगे कहा कि शराब से सरकार को राजस्व प्राप्त होता है। दुकानें बंद करने से बड़े पैमाने पर नुकसान होगा। ऐसा करना राज्य के हित में नहीं है। उन्होंने बताया कि पंचकोसी मार्ग पर शराब की 54 देशी शराब, अंग्रेजी शराब और मॉडल शॉप हैं। इनसे सरकार को 2022-2023 में करीब 93 करोड़ रुपए मिला था।

पत्रिका 7 Dec 2022 10:07 pm

रेलवे जीएम का 9 को दौरा : बिना सूचना आधे घंटे बंद रहा पाररास रेलवे फाटक, दोनों तरह लगा लंबा जाम, तहसीलदार भी फंसे

बालोद. जिला मुख्यालय के बालोद - पाररास रेलवे फाटक को बिना किसी सूचना के आधे घंटे तक बंद करने से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। आगामी 9 दिसंबर को रेलवे बिलासपुर जोन के जनरल मैनेजर बालोद जिले के दौरे पर रहेंगे। जीएम का दौरा संभावित है। इसकी पुष्टि गुरुवार को होगी। यहां वे मरोदा से अंतागढ़ तक रेल लाइन का निरीक्षण भी कर सकते हैं। इसकी तैयारी में वर्तमान में पूरा रेलवे विभाग लगा हुआ है। बुधवार को दोपहर दो बजे बालोद रेलवे स्टेशन के पास रेलवे ट्रैक में गिट्टी डालने का काम किया गया। इसके कारण रेलवे फाटक को लगभग आधे घंटे बंद कर दिया गया। कई लोग पटरी पार कर आना जाना करते रहे। कुछ लोगों ने दूसरे रास्ते से आना-जाना किया। इस जाम में तहसीलदार भी फंसे रहे। फाटक के दोनों ओर वाहनों की लंबी कतार लग गई। वहीं रेलवे जीएम से ओवरब्रिज निर्माण के बारे में जानकारी भी ले सकते हैं। सोमवार को भी 13 घंटे बंद रहा रेलवे फाटक रेलवे के जीएम को रेलवे ट्रैक व रेलवे स्टेशन में कोई कमी नजर न आए, इसलिए सुधार कार्य किया जा रहा है। यह कार्य आम जनता को बिना सूचना दिए कराया जा रहा है। रेलवे विभाग को रेलवे फाटक अपनी मर्जी से बंद कर देता है। उन्हें जनता की परेशानी से कोई मतलब नहीं है। रविवार को लेवल क्रॉसिंग मरम्मत को लेकर बालोद - राजनादगांव मुख्य मार्ग पर स्थित पाररास रेलवे फाटक को रविवार रात 11 से सोमवार दोपहर 12 बजे तक बंद कर दिया गया था। वहीं बुधवार को भी रेलवे ने फाटक बंद कर दिया था। बायपास व अंडरब्रिज का लिया सहारा रेलवे फाटक बंद रखने से लोग बायपास मार्ग व अंडरब्रिज होते हुए बालोद पहुंचे। यह मार्ग काफी व्यस्त है। फिर भी रेलवे विभाग ने बिना सूचना दिए लंबे समय तक फाटक बंद कर दिया। लोग बोले-पहले सूचना देनी थी राहगीर राजेंद्र, टेकेंद्र, संजय ने बताया कि सोमवार को इसी मार्ग से सुबह 11 बजे आया था, तब भी फाटक बंद था। दो दिन बाद भी बंद मिला। रेलवे विभाग अपना काम करे, लेकिन बिना सूचना दिए फाटक बंद करना गलत है। एक दिन पहले लोगों को सूचना जरूर दें। ओवरब्रिज की घोषणा, आगे क्या होगा अता-पता नहीं इस तरह की घटनाओं से पता चलता है। आखिर पाररास फाटक पर ओवरब्रिज कितना जरूरी है। हालांकि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपने बजट में पाररास ओवरब्रिज बनाने की घोषणआ की है। इसके तहत जमीन की जांच भी पूरी कर ली गई है। जांच में क्या मिला, इसकी जानकारी नहीं मिली है। रेलवे विभाग ने भी 874 मीटर लंबा व 13 मीटर चौड़ा ओवरब्रिज बनाने रेलवे को प्रस्ताव भेजा हैं। यह ब्रिज राज्य सरकार व रेल मंत्रालय मिलकर बनाएंगे। रेल मंत्रालय से हरी झंडी मिलने का इंतजार हैं। लोगों की मांग हर हाल में बनाए ओवरब्रिज शहर के रविंद्र, प्रशांत, नरेंद्र, अजय, दानी साहू ने कहा कि इस तरह की समस्या वर्षों से हैं। ओवरब्रिज की मांग वर्षों से की जा रही है। लोगों की परेशानियों को देखते हुए हर हाल में ओवरब्रिज बनाया जाए।

पत्रिका 7 Dec 2022 10:06 pm

ट्रेनों में बढ़े कोच, बदले मार्ग से चलेगी बाड़मेर-जम्मूतवी

बाड़मेर. रेलवे से सर्दी के मौसम में बढ़े यात्री भार को देखते हुए बाड़मेर से संचालित दो ट्रेनों में डिब्बों की अस्थायी कोच की बढ़ोतरी की है। इससे यात्रियों को काफी सुविधा मिली है। लम्बी दूरी में चल रही ट्रेनों में कोच की बढ़ोतरी की गई है। यात्रियों को राहत मिल रही जानकारी अनुसार गाडी संख्या 14662/14661, जम्मूतवी-बाड़मेर-जम्मूतवी रेलसेवा में जम्मूतवी से 2 से &0 दिसम्बर तक एवं बाड़मेर से 5 दिसम्बर से 2 जनवरी तक एक थर्ड एसी श्रेणी डिब्बे की अस्थायी बढोतरी की है। इस बढ़ोतरी 2 व 5 दिसम्बर से यात्रियों को राहत मिल रही है। इसी तरह गाडी संख्या 090&7/090&8, बान्द्रा टर्मिनस-बाड़मेर-बान्द्रा टर्मिनस स्पेशल रेलसेवा में बान्द्रा टर्मिनस से दिनांक 2 से &0 दिसम्बर तक तथा बाड़मेर से & से &1 दिसम्बर तक एक द्वितीय शयनयान श्रेणी कोच बढ़ाया अस्थायी रूप से बढ़ा है। दोनों ट्रेनों में कोच बढऩे से यात्रियों को आने-जाने में सुविधा मिली है। बदले मार्ग से चलेगी ट्रेन इंटरलॉकिंग कार्य के चलते बाड़मेर-जम्मूतवी रेल 19 दिसम्बर से बदले मार्ग पर संचालित होगी। निर्धारित रूट में शामिल रेवाड़ी-पटेल नगर- दिल्ली सराय की बजाय अलवर-मथुरा-पलवल-निजामुद्दीन-गाजियाबाद होकर संचालित होगी। सर्दी की छुट्टियों के कारण ट्रेनों में बुकिंग बढ़ी शिक्षण संस्थानों में अद्र्धवार्षिक परीक्षाएं खत्म होने के साथ ही सर्दी की छुट्टियां शुरू हो जाएगी। इसके कारण अभी से ट्रेनों में नो-रूप की स्थिति को देखते हुए लोग बुकिंग करवा रहे है। शीतकालीन अवकाश व क्रिसमस पर्व को देखते हुए लम्बी दूरी की ट्रेनों में भारी भीड़ रहेगी। ऐसे में कोच की बढ़ोतरी से यात्रियों को राहत मिलेगी। लम्बी दूरी की ट्रेनों में कोच बढऩे से अब यात्रियों को बर्थ मिलने लगी है। एसी और शयनयान में यात्रा आरामदायक हो गई है।

पत्रिका 7 Dec 2022 10:06 pm

राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा व सभा के प्रसार-प्रचार में नहीं छोडऩा चाहते कोई कसर

तिजारा (भिवाड़ी). अलवर जिले के मालाखेड़ा में राहुल गांधी की आने वाली भारत जोड़ो यात्रा व जनसभा के प्रचार-प्रसार को लेकर स्थानीय कांग्रेस कार्यकर्ता व पदाधिकारी कोई कसर नहीं छोडऩा चाहते। इस प्रयास में क्षेत्र में निकाली जा रही भारत जोड़ो यात्रा में पीसीसी सदस्य भी शामिल हो रहे हैं। वरिष्ठ कांग्रेस कार्यकर्ता समसुद्दीन के नेतृत्व में चौथे दिन बुधवार को तिजारा विधानसभा के बालियावास, शेखपुर, रंभाना, पांवटी, जगमलहेड़ी, मसीत, खिदरपुर सहित दर्जनों गांवों में यात्रा पहुंची। इस दौरान कांग्रेस पीसीसी सदस्य शिवचरण सैनी भी यात्रा में साथ रहे। समसुद्दीन एवं पीसीसी सदस्य सैनी ने ग्रामीणों को कांग्रेस की रीति-नीति से अवगत कराया। साथ ही आपसी भाईचारे का संदेश दिया। उन्होंने गांवों में लोगों को राहुल गांधी की जारी भारत जोड़ो यात्रा से जुडऩे के लिए प्रेरित किया। साथ ही देश में बढ़ती महंगाई, बेरोजगारी, किसानों की समस्याएं सहित विश्व स्तरीय मुद्दों से भी अवगत कराया। केन्द्र सरकार पर महंगाई व बेरोजगारी को बढऩे से रोकने में विफलता के आरोप भी लगाए। इस मौके पर पूर्व सरपंच नसरू, सुबी सहित कई कार्यकर्ता मौजूद रहे।

पत्रिका 7 Dec 2022 10:01 pm

Government Scheme: गजब की सरकारी स्कीम, बेटी के जन्म पर माता-पिता को मिलेंगे 50 हजार रुपये, जानिये कहाँ करना होगा आवेदन

Government Yojana: सरकार बेटी के जन्म पर पैरेंट्स को 50 हजार रुपये देती है. साथ ही इस योजना के तहत दुर्घटना बीमा भी दिया जाता है.

डेली हरयाणा न्यूज़ 7 Dec 2022 10:00 pm

Self Defense: बालिकाएं बोली, हम भी किसी से कम नहीं

जोधपुर। आधुनिक समय में महिलाओं-युवतियों की सुरक्षा एक ज्वंलत मुद्दा है। शहर में महिलाओं की सुरक्षा का कार्य कर रही युवाओं की एक टीम रक्षक फाउण्डेशन ने एक नई मुहिम शुरू की है। जिसमें संस्था विद्यालयों में विद्यार्थियों को सेल्फ डिफेंस के गुर सिखा रही है। - अब तक का सबसे बड़ा कैंप चौपासनी स्थित सेंट्रल अकादमी स्कूल में फाउंडेशन ने अपना अब तक का सबसे बड़ा कैंप आयोजित किया, जिसमें 400 विद्यार्थियों को शामिल किया। रक्षक के सचिव करुणेश भंडारी ने बच्चों को रक्षक के बारे में जानकारी दी। रक्षक के मॉनिल जोशी ने बच्चों को कानूनी जानकारी दी। अंशिका धूत ने बच्चों को गुड टच व बैड टच की जानकारी दी। कैंप में बच्चों को साइबर क्राइम से बचने के गोल्डन रूल बताए गए। साथ ही, बच्चों को पंच, किक, ब्लॉक, व अन्य तकनीकों से खुद को बचाने के तरीके सिखाए गए। --- 5 हजार को ट्रेनिंग रक्षक अध्यक्ष राहुल धूत ने बताया कि देश की हर महिला के लिए आत्मारक्षा के गुर सीखना आवश्यक है। लिहाजा संस्था ने ऑनलाइन सेल्फ डिफेन्स ट्रेनिंग भी शुरू की है। इसमें आत्मारक्षा के गुर सम्बन्धित वीडियो से महिलाओ को ट्रेनिंग दी जाएगी। संस्था की ओर से नियमित रूप से इन वीडियो के माध्यम से महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के प्रयास किए जाएंगे। संस्था अब तक करीब 5 हजार बालिकाओं को आत्मरक्षा के गुर सिखा चुकी है और करीब तीन हजार लड़कियों को कानूनी जानकारी दी है। -------

पत्रिका 7 Dec 2022 9:59 pm

लेट आए तो अब कटेगा वेतन

छिन्दवाडा/लिंगा. प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र लिंगा में चिकित्सक और स्वास्थ्यकर्मी समय पर नहीं आते। ओपीडी के समय सुबह 9 से 2 तथा शाम 5 से 6 बजे तक है। लिंगा में स्टाफ देर से आता है और समय से पहले ताला लगाकर चले जाता है। मरीजों को समय पर इलाज नहीं मिल रहा है। मरीजों की शिकायतों पर उपसरपंच पंकज वांधे अस्पताल पहुंचे। निरीक्षण के दौरान अस्पताल में सफाईकर्मी साफ-सफाई करते मिले। सुबह 10 बजे तक कोई भी चिकित्सक नहीं पहुंचा था। मरीजों ने बताया उन्हें घंटो इंतजार करना पड़ता है। चिकित्सकों का जब मन होता है अस्पताल आते हैं। शाम की ओपीडी भी बंद रहती है। मरीजों को बिना इलाज कराए ही लौटना पड़ता है। उपसरपंच वांधे ने मोहखेड बीएमओ डॉ. रवि सरकार को अस्पताल में व्याप्त अव्यवस्थाओं से अवगत कराया। बीएमओ डॉ. रवि सरकार ने बताया शिकायत मिली है। समय पर नहीं आने वाले चिकित्सकों को नोटिस दिया गया है। भविष्य में लापरवाही बरतने पर वेतन काटने की हिदायत दी गई है। इधर आस्था ग्रुप की महिलाओं ने देवर्धा के आंगनबाडी केंद्र में बच्चों को स्वेटर, चटाई, बिस्किट वितरित किए। ग्रुप के सदस्यों ने कहा कि शिक्षा के क्षेत्र मे वंचित बच्चों की मदद करते हंै। आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं और ग्रामीणों ने सराहना की। इस दौरान सीमा गुगलानी, दीपा तनेजा, सतनाम सलूजा, रानी पुरी जनपद सदस्य विपिन कराडे, विनोद जूनघरे, शुभम साबले, प्रतीक चौरे सहित ग्रामीण मौजूद रहे।डॉ. भीमराव अम्बेडकर के परिनिर्माण दिवस पर अस्पताल व छात्रावास में फल बांटे गए। नपा अध्यक्ष किरण खातरकर, उपाध्यक्ष सुरेश कश्यप,सभापति विशाल सूर्यवंशी,सोहन चौहान, श्रद्धा राठौर, राठौर, वंदना मनोज दवण्डे, भाजपा नेता योगश साहू,मोहन पाल, यशंवत पवार, संदीप मिश्रा, दीनू साहू, अनिल मालवीय, सोनू नागले, सौरभ चौकीकर एवं बिट्टू चौकीकर आदि ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र दमुआ एवं नेता जी छात्रावास में फल और बिस्किट का वितरण किया ।

पत्रिका 7 Dec 2022 9:57 pm

JKP SI Recruitment Scam: सीबीआइ ने पूर्व मुख्य सचिव, तीन जेकेएएस अधिकारियों के खिलाफ जुटाए सुबूत

जम्मू-कश्मीर पुलिस में सब इंस्पेक्टर की 1200 रिक्तियों के लिए करीब 97 हजार इच्छुक अभ्यथियों ने 27 मार्च 2022 को लिखित परीक्षा में भाग लिया था। परीक्षा परिणाम चार जून 2022 को घोषित हुआ। चयन सूची में करीब एक दर्जन ऐसे लोग थे जो एक ही कोचिंग संस्थान के थे।

जागरण 7 Dec 2022 9:55 pm

Chatra: खरवार समाज ने मंत्री Satyanand Bhogta का किया बहिष्कार, सामाजिक कार्यों में नहीं होंगे शामिल

0:00 intro0:10 Chatra: खरवार समाज ने मंत्री Satyanand Bhogta का किया बहिष्कार, सामाजिक कार्यों में नहीं होंगे शामिलbihar news live |latest News | hindi News | Latest Hindi News|| Hindi Samachar | news in hindi | news18 | n18oc_Jharkhandबिहार और झारखंड के ताज़ा ख़बरों के लिए देखते रहिए News18 Bihar/Jharkhand

न्यूज़18 7 Dec 2022 9:55 pm

mega food park: विभाग ने भेजा ले आउट प्लान, अब तक नही बनी डीपीआर

जोधपुर। राज्य सरकार की ओर से जिले के मथानिया गांव में करीब 100 करोड़ की लागत से बनने वाला मेगा फूड पार्क बनने से पहले ही उदासीनता का शिकार हो रहा है। दरअसल, पार्क के लिए कृषि उपज मंडी समिति की ओर से करीब 300 बीघा में विकसित होने वाले प्रस्तावित फूड पार्क का ले आउट प्लान बनाकर कृषि विपणन निदेशायल को भेज दिया है, जिसकी डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट (डीपीआर) निदेशालय से अभी तक तैयार नहीं की गई है। निदेशालय व सरकार स्तर पर प्रस्तावित फूड पार्क की डीपीआर व नक्शा निर्धारित करने पर ही धरातल पर इसका काम शुरू होने की उम्मीद जगेगी। ----- 6 मेगा फूड पार्क हो जाएंगे प्रदेश में जोधपुर में प्रस्तावित मेगा फूड पार्क होने से राजस्थान में कुल 6 मेगा फूड पार्क हो जाएंगे। जोधुपर के अलावा अजमेर, अलवर, कोटा व श्रीगंगानगर में फूड पार्क है। कृषि उपज मंडी समिति प्रशासन ने मथानिया के खसरा संख्या 717/73 की भूमि में से 300 बीघा भूमि को फूड पार्क के लिए चिन्हित कर राजस्थान अक्षय ऊर्जा निगम से डीएलसी दर 69255 रुपए प्रति बीघा के अनुसार 20776500 रुपए में जमीन खरीदी है। -- युवाओं को मिलेंगे रोजगार के अवसर कृषि क्षेत्र में काम करने वाले हजारों युवाओं को रोजगार के अवसर मिलेंगे। इस पार्क के बनने से कृषि आधारित उद्योगों को बढ़ावा मिलेगा। मेगा फूड पार्क में उच्च गुणवत्तायुक्त फ्रेश व वेल्यू एडेड प्रोडेक्ट तैयार किए जाएंगे। ------------ प्रस्तावित मेगा फूड पार्क का ले आउट प्लान बनाकर भेज दिया है। निदेशालय व सरकार स्तर पर इसकी डीपीआर तैयार करने का कार्य चल रहा है। जिनके निर्णय के बाद ही फूड पार्क का कार्य गति पकड़ेगा। सुरेन्द्रसिंह, सचिव विजयाराजे सिंधिया कृषि उपज मंड़ी समिति ---------------

पत्रिका 7 Dec 2022 9:53 pm

1300 विद्यार्थियों वाले स्कूल भवन को तत्काल तोडऩे का दबाव

सिवनी. स्कूल शिक्षा विभाग की सीएम राइज स्कूल योजना पर सिवनी जिले में किसी न किसी कारण से ब्रेक लग रहा है। सिवनी विकासखण्ड के कंडीपार में 10 एकड़ पर भवन बनना है, लेकिन अब तक राशि जारी नहीं हुई है। इससे जमीनी स्तर पर कोई शुरुआत नहीं हो पाई है। उधर केवलारी विकासखण्ड मुख्यालय में सीएम राइज स्कूल के लिए चयनित उत्कृष्ट विद्यालय के करीब सात एकड़ में फैले पुराने भवन को तोड़कर नया भवन बनाया जाना है। इसके लिए 33.16 करोड़ की राशि स्वीकृत हो चुकी है। शासन ने टेंडर निकाल नागपुर की एक निर्माण एजेंसी को काम दे दिया है। ड्रांइग तैयार है और निर्माण एजेंसी पुराने भवन को तत्काल तोडऩे के लिए लगातार स्कूल प्रबंधन पर दबाव बना रही है, ताकि नए काम को शुरु किया जा सके, लेकिन समस्या इस बात की है कि वर्तमान में यहां 1300 छात्र-छात्राएं पढ़ रहे हैं। इनकी कक्षाएं संचालित करने के लिए दूसरा भवन नहीं मिल पा रहा है। डेढ़ साल में बनाना है नया सीएम राइज भवन सीएम राइज स्कूल केवलारी के पुराने भवन को तोडऩे और उस पर नए निर्माण की शुरुआत के लिए निर्माण एजेंसी के बढ़ते दवाब के बीच स्कूल शिक्षा विभाग के अधिकारी और प्राचार्य ने पूरे केवलारी क्षेत्र में भवन की तलाश की, लेकिन 1300 विद्यार्थियों को बिठाकर पढ़ाने के लिए उपयुक्त भवन नहीं मिल पाया है। ऐसे में प्राचार्य ने निर्माण एजेंसी के सामने यह प्रस्ताव रखा कि पूरे कक्षों को न तोड़कर पहले आधा निर्माण कार्य कर लिया जाए और फिर आधा निर्माण हो, इससे स्कूल भी संचालित होता रहेगा, लेकिन ठेकेदार इस पर सहमत नहीं हैं। उन्होंने कहा कि पूरा निर्माण कार्य एक साथ शुरु होगा और इस काम को पूरा करने के लिए शासन से डेढ़ साल की समय अवधि मिली है। इस अवधि में काम समाप्त करना है। डीपीआई से हो रही सारी प्रक्रिया सीएम राइज स्कूल के लिए भूमि का चयन करने से लेकर बनाए जाने वाले भवन की ड्रांइग-डिजाइन, राशि की स्वीकृति जैसी सारी प्रक्रिया लोक शिक्षण संचालनालय भोपाल से तय हो रही है। ऐसे में सीएम राइज स्कूल केवलारी के के प्राचार्य और नागरिकों की बात न तो ठेकेदार सुन रहे हैं और न ही जिले में बैठे अधिकारी। पिछले दिनों भोपाल से बीडीएस (भवन विकास कार्पोरेशन) के इंजीनियर आए थे, जिन्हें भी स्थितियों से अवगत कराया गया है। अब इस मामले में स्कूल प्रबंधन कलेक्टर, एसडीएम से भी चर्चा करने की तैयारी में है। परीक्षा केन्द्र बनाया, कैसे तोड़ सकते हैं भवन सीएम राइज स्कूलों को बोर्ड परीक्षा केन्द्र नहीं बनाए जाने के निर्देश पूर्व में स्कूल शिक्षा विभाग ने जारी किए थे, लेकिन केवलारी विकासखण्ड में परीक्षार्थियों की संख्या के हिसाब से व्यवस्था न बन पाने के कारण इसे भी परीक्षा केन्द्र बनाया गया है। ऐसे में यदि इस भवन को तोड़ दिया जाता है, तो परीक्षाएं आयोजित कराने में समस्या होगी। इसके अलावा जिन भवनों को तोड़ा जाना है उसकी निकलने वाली खिड़की, दरवाजे और दूसरी सामग्री की बिक्री के लिए अब तक जिला स्तर से नीलामी का कोई निर्देश प्राप्त नहीं हुआ है। सीएम राइज स्कूल केवलारी के प्राचार्य एलआर बछलिया का कहना है कि सीएम राइज स्कूल के लिए 33.16 करोड़ स्वीकृत हुए है। तत्काल पुराने भवन को तोडऩे से 1300 विद्यार्थियों के लिए समस्या होगी। क्षेत्र में कोई भवन नहीं मिल पाया है। इस मामले को लेकर एसडीएम केवलारी से चर्चा करेंगे। पहले स्कूल संचालित करने की व्यवस्था हो, तब स्कूल तोड़ा जाए, तो बेहतर है।

पत्रिका 7 Dec 2022 9:53 pm

प्रवासी भारतीय सम्मेलन में आने वाले अतिथियों के लिए 3डी लेजर सुरक्षा देगा काउंटर टेररिस्ट ग्रुप

इंदौर. अगामी 8 जनवरी से होने वाला प्रवासी भारतीय में राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री के साथ ही कई देशों के प्रमुख व राजनयिक आएंगे। उनकी सुरक्षा पुलिस के साथ ही एटीएस के काउंटर टेररिस्ट ग्रुप (सीटीजी) के हाथ में रहेगा। आधुनिक उपकरणों से लैस ग्रुप की टीम सुरक्षा के लिए लेजर सुरक्षा का इस्तेमाल करेगी। टीम ने सभी आयोजन स्थलों की मॉक ड्रिल करते हुए उनका सर्वे भी किया। वीवीआइपी के शहर में जुटने को देखते हुए सुरक्षा पर विशेष नजर रखी जा रही है। प्रवासी भारतीय सम्मेलन की सुरक्षा में करीब 8 हजार पुलिसकर्मी, सुरक्षा बल की कंपनियां तैनात रहेंगी। हाल ही में एनएसजी की तर्ज पर प्रदेश में एटीएस द्वारा तैयार काउंटर टेररिस्ट ग्रुप के कमांंडों के कंधों पर भी सभी लोगों की सुरक्षा रहेगी। आयोजन स्थल का अंदरुनी हिस्सा ग्रुप के कमांंडों के हाथों में होगा। किसी भी तरह की संदिग्ध गतिविधि होने पर आधुनिक हथियारों से लैस ग्रुप कमांडों तुरंत हरकत मेें आएंगे। मंगलवार को इंटेलीजेंस डीसीपी रजत सकलेचा, एसीपी आनंद सोनी के साथ कमांंडों ने प्रमुख आयोजन स्थलों पर मॉक ड्रिल किया। सभी स्थानों पर होटल कर्मचारियों के साथ मॉक ड्रिल कर पूरा प्लान टीम ने तैयार किया। एक करोड़ के लेजर उपकरण की होगी तैनाती डीसीपी सकलेचा के मुताबिक, 5 जनवरी से ही ग्रुप के कमांडो मुख्य आयोजन स्थल ब्रिलियंट कन्वेंशन सेंटर पर तैनात होकर सुरक्षा घेरा बना देंगे। ग्रुप की टीम के पास आधुनिक उपकरण हैं, इसमें (लिडार) लेसर अवरक्त रेडार मुख्य हैं। यह सुदूर संवेदन प्रौद्योगिकी है, जो दूरी के मापन के लिए लक्ष्य पर लेजर प्रकाश भेजता है और परावर्तित प्रकाश का विश्लेषण करता है। करीब एक करोड़ मूल्य का यह उपकरण पूरी बिल्डिंग का 3डी स्ट्रक्चर बनाती है और सॉफ्टवेयर के आधार पर बिल्डिंग के सभी प्रवेश, निर्गम, दीवार के पीछे का हिस्सा, जमीन के अंदर का हिस्सा स्कैन कर लेती है। यहां कोई संदिग्ध वस्तु है तो उसे उपकरण तुरंत स्कैन कर कमांंडों को अलर्ट देगा। यह उपकरण ब्रिलियंट कनवेंशन सेंटर में तैनात रहेगा।

पत्रिका 7 Dec 2022 9:52 pm

Kanpur: MLA इरफान सोलंकी 20 दिसम्बर तक न्यायिक हिरासत में रहेंगे, फर्जी आधार कार्ड पर की थी यात्रा

Kanpur फर्जी यात्रा मामले में सपा विधायक इरफान सोलंकी और नूरी शौकत के भाई अशरफ की न्यायिक हिरासत की अवधि 20 दिसंबर तक बढ़ा दी गई है। अभियोजन के तर्कों से संतुष्ट होने के बाद न्यायालय ने न्यायिक हिरासत की अवधि बढ़ाई है।

जागरण 7 Dec 2022 9:50 pm

कलेक्टर से एक दिव्यांग की गुहार- घर मिल जाए तो मेहरबानी होगी साहब...

इंदौर. जनसुनवाई में दिव्यांग महिला की समस्या का निराकरण सपना पूरा होने के तौर पर हुआ। उसके मकान का सपना कलेक्टर डॉ. टी इलैयाराजा ने पूरा किया। मंगलवार को नंदबाग कॉलोनी निवासी कुसुम ने जनसुनवाई में कलेक्टर के समक्ष परेशानी में बताया कि पति पप्पु सूर्यवंशी का 10 साल पहले निधन हो गया। वे स्वयं दिव्यांग होने से चलने में असमर्थ है। दो बच्चे हैंं, कमाई का कोई स्थायी साधन भी नहीं है। जैसे-तैसे छोटा काम करके अपने व बच्चों का गुजारा कर रही हूं। दो हजार रुपए मकान के किराये में चले जाते हैं। साहब घर मिल जाए तो मेहरबानी होगी। इस पर संवेदनशीलता दिखाते हुए कलेक्टर ने मौके से ही आईडीए के सम्पदा अधिकारी को आवासीय इकाई में फ्लेट देने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने फ्लैट के लिए प्रारंभिक राशि जमा करने के लिए 5 हजार रुपए भी रेडक्रॉस सोसाइटी से स्वीकृत किए। यहीं नहीं महिला को स्कीम नंबर 134 स्टार चौराहा के पास आइडीए की आवासीय इकाई में फ्लेट डी 125 आंवटित कर कब्जा भी सौंप दिया। इस पर कुसुम ने कहा कि कलेक्टर के प्रयास से जीवन की एक नई शुरूआत होगी। अनेक लोगों की समस्याओं का निराकरण किया जनसुनवाई में मुकेश अम्बोदिया ने बताया कि वे दो साल से और उनकी पत्नी भारती पांच साल से कैंसर से पीडि़त है। उनके दो बच्चे है। बिमारी के चलते आर्थिक स्थिति खराब है। कमाई का जरिया नहीं होने से बच्चों की फीस भी नहीं भर पा रहे हैं। ऐसे में बच्चों की उच्च शिक्षा तक की पढ़ाई शासन की मदद से पूरी हो। इस पर कलेक्टर ने संबंधित विभाग को निर्देश दिए। श्रीराम गृह निर्माण पीडि़त संघ ने आवेदन देकर संस्था के पीडि़त भूखंड धारकों को भूखंड दिलाने की मांग की। रंगवासा आरआइ पर कार्रवाई की मांग जनसुनवाई में नकुल प्रवीण कुमार सैनी निवासी रंगवासा ने बताया कि एसडीएम राउ ने 25 अगस्त के आदेश में जमीन के विवाद में एक दल बनाकर 10 दिन में प्रतिवेदन प्रस्तुत करने का आदेश दिया था। जिसकी रिपोर्ट दल के एसएलआर ने एसडीएम को 10 नवंबर को सौंंपी थी, लेकिन रंगवासा आरआइ पठान ब्राहम्मणे ने प्रतिवेदन को आगे नहीं बढ़ाया। इस कारण से जमीन का सीमांकन 3 महीने से नहीं हो पा रहा हैं। जबकि एडीएम व एसडीएम का आदेश तक हो चुका हैं। ऐसे में रंगवासा आरआइ पर कार्रवाई की जाए।

पत्रिका 7 Dec 2022 9:44 pm

गांव-गांव पहुंच रही जन आक्रोश यात्रा

भिवाड़ी. भाजपा की जन आक्रोश यात्रा बुधवार को चौथे दिन सलारपुर से रवाना हुई। जिसका गांवों में लोगों ने स्वागत किया। साथ ही समस्याएं भी बताई। साथ रैली भी निकाली। टपूकड़ा में जन आक्रोश रथ यात्रा के दौरान सहप्रभारी ओबीसी मोर्चा राजस्थान प्रो. पंकज चौधरी, ओबीसी प्रदेश उपाध्यक्ष हीरालाल रावत भी बाजार में पत्रक वितरण में साथ रहे। यात्रा के विधानसभा संयोजक हर्ष यादव ने बताया कि महेशरा, खुशखेड़ा, राबाडक़ा, कारौली, कमालपुर, लाड़मका, टपूकड़ा, नाखनौल, खोरीकलां, खोरीखुर्द, ग्वालदा में यात्रा पहुंची और रात्रि विश्राम मसीत में किया। इस दौरान जगह-जगह लोगों ने यात्रा का स्वागत किया। अपनी समस्याओं से अवगत कराया। विधानसभा संयोजक ने राज्य सरकार की जनविरोधी नीतियों से लोगों को अवगत कराया। चौपालों पर लोगों की समस्याएं सुनी। गहलोत सरकार हर मोर्चे पर विफल! कोटकासिम. किशनगढ़ बास से रवाना हुई भाजपा की जन आक्रोश यात्रा गांव-गांव, ढाणी-ढाणी में पहुंचने पर लोगों में खासा उत्साह देखा जा रहा है। यात्रा को आमजन का तगड़ा समर्थन मिल रहा है। भाजपा मंडल अध्यक्ष रामनिवास ने बताया कि बुधवार को यात्रा कान्हडक़ा, आनाक, सिलपटा, मकड़ावा, मतलवास, जमालपुर, माजरी, बूढ़ीबावल, नसोपुर, मोधुपुर, भामुवास, भौंकर, गिरवास, मीरपुर, कतोपुर, टेऊवास, चांवड़ी, जौडिय़ा, डूंगरहेड़ा, लाडपुर, गंगापुरी, डींगली आदि गांवों में पहुंची। इस दौरान जन आक्रोश यात्रा का पुष्प वर्षा एवं ढोल-नंगाड़ों के साथ स्वागत किया गया। यात्रा के दौरान हुई सभाओं में पूर्व विधायक रामहेतसिंह यादव ने गहलोत सरकार को हर मोर्चे पर विफल बताया। साथ ही सरकार को किसान विरोधी बताते हुए कहा कि किसानों का कर्जा अब तक माफ नहीं हुआ। युवाओं को रोजगार भत्ता नहीं मिल रहा। आए दिन भ्रष्टाचार के मामले सामने आ रहे है। सरकार ने 4 वर्ष में कोई वादे पूरे नहीं किए। महिलाओं की अनदेखी, भ्रष्टाचार को बढ़ावा तिजारा. भाजपा की जन आक्रोश यात्रा बुधवार को ग्वालदा से रवाना होकर निंबाहेड़ा धोली पहाड़ी, बूबकाहेड़ा, मिरचूनी, मुसहरी पहुंची। यात्रा के दौरान हुई बैठकों व कार्यक्रमों की अध्यक्षता कुलदीप यादव ने की। महिलाओं पर अत्याचार, कार्यालयों में भ्रष्टाचार, क्षेत्र में चोरी, लूटपाट की घटनाओं पर चिंता जताई गई। महिलाओं की अनदेखी का आरोप लगाया। साथ ही आगामी दिनों में विधायक का घेराव करने व आंदोलन शुरू करने की चेतावनी दी। जिलाध्यक्ष अल्पसंख्यक मोर्चा शेरउद्दीन ने अल्पसंख्यकों की अनदेखी करने व छात्रवृत्ति, भर्तियों में पद आरक्षित करने का मुद्दा उठाते हुए सरकार को अल्पसंख्यक समाज के प्रति उदासीन बताया। यात्रा में तिजारा पंचायत समिति प्रधान जयप्रकाश यादव आदि उपस्थित रहे।

पत्रिका 7 Dec 2022 9:44 pm

आउटसोर्सिंग में रोजगार देने की मांग को लेकर जमसं ने किया प्रदर्शन

अलकडीहा। जनता मजदूर संघ ने बेलगड़िया में बुधवार को प्रदर्शन किया। प्रदर्शन का नेतृत्व कर रहे जनता मजदूर संघ असंगठित मजदूर के अध्यक्ष शंभूनाथ राम ने...

लाइव हिन्दुस्तान 7 Dec 2022 9:41 pm

शहीद शक्ति मेला का हुआ समापन

सिजुआ। टाटा सिजुआ में शहीद शक्तिनाथ महतो के 45 वां शहादत दिवस‌ पर आयोजित नौ दिवसीय शक्ति मेले का समापन हो...

लाइव हिन्दुस्तान 7 Dec 2022 9:41 pm

न्यूनतम अंकुश बढ़ाता है अनुशासन: स्मिता चक्रवर्ती

देश की जेलों को खुली जेलों में बदलने की वकालत करने वाली कोलकाता निवासी शोधकर्ता स्मिता चक्रवर्ती का मानना है कि ऊंची दीवारें, कंटीले तार की बाड़ या हथियारबंद पहरेदार नहीं होने के बाद भी मौलिक मानवीय सुविधाओं से युक्त खुली जेलों में बंद कैदी वहां से फरार नहीं होते। इसका कारण बताते हुए वे कहती हैं कि न्यूनतम अंकुश अक्सर अनुशासन को बढ़ावा देता है। कैदियों में आत्मसम्मान की भावना उत्पन्न करता है। लगभग एक दशक से भी अधिक समय से देश की संस्कृति को बदलने का काम कर रहीं प्रेसिडेंसी विश्वविद्यालय की पूर्व छात्रा स्मिता की संस्था प्रिजऩ ऐड एक्शन रिसर्चज् (पीएएआर) देश भर की जेलों पर शोध कर रही है। उनके शोध पर उच्चतम न्यायालय भी गौर कर चुका है। वर्ष 2017 में जयपुर की सांगानेर खुली जेल के फायदों पर उन्होंने रिपोर्ट तैयार की थी। जिसके अध्ययन के बाद सुप्रीम कोर्ट ने सांगानेर खुली जेल का मॉडल देश भर में खोलने की व्यवहार्यता का पता लगाने को कहा है। देश भर में 150 खुली जेलें, बंगाल में चार स्मिता के मुताबिक देश भर में इस समय 150 खुली जेलें हैं, जबकि बंगाल में खुली जेलों की संख्या चार है। मुर्शिदाबाद, रायगंज, मेदिनीपुर और दुर्गापुर में चार खुली जेलें हैं। मुर्शिदाबाद की लालगोला जेल सबसे पुरानी है और यह कैदियों को अपने परिवार के साथ समय बिताने की अनुमति देती है। बिहार में तो बैठने की भी जगह नहीं स्मिता की संस्था की ओर से बिहार की जेलों का भी शोध किया गया। जिसमें उन्होंने पाया कि बिहार की कई जेलों में कैदियों के बैठने की जगह भी नहीं है। बकौल स्मिता वहां के कैदियों से बात करने पर उन्हें अहसास हुआ कि बंद जेलों में गिने-चुने लोग ही आदतन अपराधी होते हैं। ऐसे कई लोग हैं जिन्होंने गलती से अपराध किया है। कुछ कैदी ऐसे भी थे जो कानूनी सहायता का खर्च वहन करने में सक्षम नहीं होने के कारण वर्षों से जेल में बंद हैं।

पत्रिका 7 Dec 2022 9:39 pm

Gujarat election: राज्य के 37 केन्द्रों पर आज मतगणना होगा शुरू : भारती

गांधीनगर. गुजरात विधानसभा चुनाव की मतगणना गुरुवार सुबह 8 बजे राज्य के 37 मतदान केन्द्रों पर प्रारंभ होगी। मतगणना प्रक्रिया के लिए 182 काउंटिंग ऑब्जर्वर, 182 चुनाव अधिकारी और 494 सहायक चुनाव अधिकारी ड्यूटी करेंगे। इसके अलावा 78 सहायक चुनाव अधिकारी होंगे। वहीं 71 अतिरिक्त चुनाव अधिकारियों को इलेक्ट्रॉनिकली ट्रांसमिटेड पोस्टल बैलेट सिस्टम की जिम्मेदारी सौंपी गई है। मुख्य निर्वाचन अधिकारी पी. भारती ने यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि अहमदाबाद में तीन मतगणना केन्द्र, सूरत में तीन मतगणना केन्द्र और आणंद में दो मतगणना केन्द्र हैं। इसके अलावा सभी जिलों में एक-एक मतगणना केन्द्र पर एक साथ मतगणना प्रारंभ होगी। राज्य के सभी मतगणना केन्द्रों पर आवश्यक तैयारियां पूर्ण कर ली गई हैं। पी. भारती ने कहा कि सभी काउंटिंग स्टाफ की नियुक्ति की गई है। सेकण्ड रेण्डमाइजेशन भी पूर्ण हो चुका है। वहीं मतगणना से पहले थर्ड रेण्डमाइजेशन प्रक्रिया की जाएगी। मतदान केन्द्र के प्रत्येक टेबल पर एक माइक्रो ऑब्जर्वर, काउंटिंग सुपरवाइजर और काउंटिंग असिस्टन्ट को ड्यूटी सौंपी गई है। इसके अलावा काउंटिंग हॉल में दो माइक्रो ऑब्जर्वर तैनात रखे जाएंगे। मतगणना की समग्र प्रक्रिया की विडियोग्राफी की जाएगी। मतगणना केन्द्र पर भारतीय चुनाव आयोग की ओर से मान्यता प्राप्त अधिकारी, निरीक्षक, कर्मचारी-अधिकारी, प्रत्याशी, काउंटिंग एजेन्ट्स एवं प्रत्येक प्रत्याशियों के काउंटिंग एजेन्ट भी प्रवेश कर सकेंगे। रिटर्निंग ऑफिसर , सहायक रिटर्निंग ऑफिसर, उम्मीदवार काउंटिंग एजेन्ट्स औ भारतीय चुनाव आयोग की ओर से नियुक्त ऑब्जर्वर की मौजूदगी में स्ट्रांगरूम से ईवीएम बाहर निकालकर काउंटिंग हॉल में रखी जाएगी। सुबह 8 बजे सबसे पहले पोस्टल बैलेट की गणना की जाएगी। सुबह 8.30 बजे पोस्टल बैलेट के साथ-साथ ईवीएम की गणना भी प्रारंभ की जाएगी। सभी काउंटिंग सेन्टर पर त्रिस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था सुुनिश्चित की गई है। मुख्य निर्वाचन अधिकारी पी. भारती ने मतगणना की तैयारियों की समीक्षा को अंतिम देते कहा कि राज्य के 33 जिलों में 37 मतगणना केन्द्रों पर सभी आवश्यक तैयारियां पूर्ण कर ली गई हैं। मतगणना केन्द्र के कैम्पस के बाहर स्थानीय पुलिस को पहरा होगा। मतगणना लोकेशन पर एसआरपीएफ और मतगणना केन्द्र के दरवाजे के बाहर सीआरपीएफ की सुरक्षा व्यवस्था होगी। ड्यूटी पर अधिकारियों और विशेष मंजूरी प्राप्त राजनीतिक प्रतिनिधियों के अलावा किसी व्यक्ति या वाहन को परिसर में प्रवेश नहीं दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि राज्य के सभी काउंटिंग सेन्टर को कम्प्यूटर, इन्टरनेट, टेलीफोन और फैक्स जैसी अत्याधुनिक संचार सुविधा से सुसज्जित किया जाएगा। मोबाइल, टेलीफोन, आईपेड या लेपटोप जैसे अत्याधुनिक उपकरण मतगणना केन्द्र में नहीं ले जा सकेंगे। आयोग के ऑब्जर्वर, रिटर्निंग ऑफिसर, असिस्टन्ट रिटर्निंग ऑफिसर और काउंटिंग सुपरवाइजर के लिए प्रतिबंध लागू नहीं होंगे। मीडिया सेन्टर के अलावा मतगणना केन्द्र के परिसर में कहीं भी मोबाइल फोन कर उपयोग नहीं हो सकेगा।

पत्रिका 7 Dec 2022 9:37 pm

GUJARAT ELECTION 2022 : बैलेट पेपर की गिनती के साथ शुरू होगी मतगणना

गुजरात विधानसभा Gujarat election 2022 की 182 सीटों के लिए 8 दिसंबर को मतगणना होने वाली है। सूरत जिले की 16 सीटों की मतगणना के लिए चुनाव आयोग ने सूरत शहर में तैयारी पूरी कर ली है। दोनों कॉलेजों में सबसे पहले बैलेट पेपर की गिनती के साथ मतगणना शुरू होगी। हर विधानसभा सीट के लिए 10 से 14 टेबल पर मतगणना होगी। प्रशासन ने एक माइक्रो ऑब्जर्वर, एक मतगणना सहायक व एक सुपरवाइजर को नियुक्त किया गया है, जो मतगणना कार्य में शामिल होंगे। सभी 16 सीटों पर मतगणना के लिए 2217 अधिकारी-कर्मचारी नियुक्त किए गए हैं। - एसवीएनआईटी में मतगणना : GUJARAT ELECTION 2022 एसवीएनआईटी कॉलेज में छह सीटों के लिए मतों की गिनती की जाएगी। लिंबायत सीट के 23 राउंड के लिए 135, वराछा सीट के 17 राउंड के लिए 50, मजूरा सीट के 19 राउंड के लिए 80, करंज सीट के 18 राउंड के लिए 30, सूरत पूर्व सीट के 18 राउंड के लिए 60 और सूरत उत्तर सीट के 17 राउंड के लिए 50 कर्मचारियों को नियुक्त किया है। - गांधी कॉलेज में मतगणना : GUJARAT ELECTION 2022 गांधी कॉलेज में होने वाली 10 सीटों की मतगणना में चौर्यासी सीट के 38 राउंड के लिए 80, मांगरोल सीट के 21 राउंड के लिए 70, मांडवी सीट के 22 राउंड के लिए 285, कतारगाम सीट के 21 राउंड के लिए 85, सूरत पश्चिम सीट के 19 राउंड के लिए 187, उधना सीट के 18 राउंड के लिए 300, बारडोली सीट के 21 राउंड के लिए 200, महुवा सीट के 20 राउंड के लिए 80, कामरेज सीट के 38 राउंड के लिए 150 और ओलपाड सीट के 32 राउंड के लिए 250 अधिकारियों व कर्मचारियों को नियुक्त किया गया हैं।

पत्रिका 7 Dec 2022 9:36 pm

मुंबई: अपने ही घर से लाखों रुपए चुराने के लिए मजबूर हुई व्यापारी की बेटी, हैरान कर देने वाला है मामला

देश की आर्थिक राजधानी मुंबई से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है, जहां एक लड़के ने नाबालिग लड़की को धमकी देकर उसे उसके ही घर में चोरी करने के लिए मजबूर किया है। आरोपी लड़के ने नाबालिग लड़की से करीब 5 लाख रुपए और कीमती गहने तक हड़प लिए हैं। घटना मुंबई के नागपाड़ा पुलिस थाना क्षेत्र की है। इस मामले में पुलिस ने आरोपी लड़के के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। नागपाड़ा पुलिस के मुताबिक, आरोपी लड़के ने 12 साल की नाबालिग की अश्लील तस्वीरें खींच लीं और उसको धमकी देना शुरू कर दिया। इस डर की वजह से पीड़ित नाबालिग ने अपने घर से कीमती सोने और हीरे के गहने समेत पांच लाख रुपए चुराकर आरोपी लड़के को दे दिए। इस मामले पर पुलिस ने जानकारी देते हुए बताया कि लड़की आरोपी से साल 2019 में संपर्क में आई थी। वह आरोपी से अपने स्कूल के बाहर मिलती थी। आरोपी लड़के ने पीड़ित लड़की को अपना नाम अमन बताया था। यह भी पढ़े: महाराष्ट्र-कर्नाटक सीमा विवाद को लेकर पीएम मोदी और शिंदे सरकार पर भड़के राज ठाकरे बता दें कि इस मामले में पुलिस ने आगे बताया कि लड़की एक इग्लिश मीडियम स्कूल में पढ़ती है और आरोपी लड़के से वह अपने स्कूल के बाहर मिली थी। आरोपी लड़के ने उससे दोस्ती की और उसे नागपाड़ा के एक कमरे में ले गया, जहां आरोपी ने उसकी कुछ अश्लील तस्वीरें खींच ली। इसके बाद आरोपी उसकी अश्लील तस्वीरें दिखाकर उसे ब्लैकमेल करने लगा। जिसकी वजह से नाबालिक लड़की ने शुरू में अपने घर से तीन लाख रुपए चुराए और बाद में दो लाख रुपए गायब करके आरोपी को दे दिया। नाबालिग लड़की ने अपने घर से हीरे की अंगूठी, हीरे की चूड़ियां, गले का हार, गले का हीरे का सेट, सोने की चेन और सोने का लॉकेट समेत अन्य गहने भी चुराने शुरू कर दिया और आरोपी को देते गई। ऐसे हुआ घटना का खुलासा: मुंबई पुलिस ने कहा कि घर से ज्वेलरी और नकद गायब होने के बाद परिवार को थोड़ा शक हुआ कि कुछ गड़बड़ है। इसके बाद परिवार ने पुलिस को चोरी की सूचना दी और जांच शुरू हुई। पुलिस अधिकारियों ने 12 साल की नाबालिक बच्ची से पूछताछ भी की, लेकिन कोई बड़ी कामयाबी हाथ नहीं आई। हालांकि, जब पुलिस अधिकारियों ने उसे भरोसा दिलाया, तो उसने कबूल किया कि, उसने घर से कैश और ज्वेलरी चुराए थे। इसके बाद नाबालिक बच्ची ने अपनी पूरी कहानी सुनाई, जिसमें उसने बताया कि कैसे आरोपी उसे ब्लैकमेल कर रहा था और उसने उसे एक बार कमरे में बंद कर दिया था। अगर वह और पैसे नहीं ला पाई तो उसकी अश्लील तस्वीरें और वीडियो को सोशल मीडिया पर वायरल कर देता। इस मामले पर वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक महेश कुमार ठाकुर ने बताया कि नाबालिग लड़की के खुलासे के आधार पर, पुलिस ने आरोपी के खिलाफ जबरन वसूली, किडनैपिंग और पोस्को एक्ट, 2012 के तहत केस दर्ज कर लिया है और आरोपी की तलाश की जा रही है।

पत्रिका 7 Dec 2022 9:34 pm

कांग्रेस की पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष भी आ सकती है जिले के दौरे पर

सवाईमाधोपुर. एक ओर तो कांग्रेस की ओर से भारत जोड़ो यात्रा का आयोजन किया जा रहा है और कांग्रेस के राहुल गांधी की यात्रा को सफल बनाने के लिए कांग्रेसियों की ओर से एडी चोटी का जोर लाया जा रहा है। वहीं राहुल गांधी की मां और कांग्रेस की पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष के भी सवाईमाधोपुर आने की अटकले लगाई जा रही है। हालांकि जिला प्रशासन की ओर से इस संबंध में अब तक पुष्टि नहीं की गई है लेकिन सूत्रोंं की माने तो सोनिया गांधी के सवाईमाधोपुर आने का कार्यक्रम तय हो चुका है और इस संबंध में जिला प्रशासन और वन विभाग को भी सूचित किया जा चुका है। हालांकि अब तक प्रशासन व वन विभाग की ओर से इस संबंध में पुष्टि नहीं की गई है। रणथम्भौर में मनाएंगी 76 वां जन्मदिन सूत्रोंं से मिली जानकारी के अनुसार सोनिया गांधी का जनमदिन 9दिसम्बर को है ऐसे में इस बार उनकी योजना परिवार के साथ जन्मदिन को रणथम्भौर में मनाने की है। सूत्रों की माने तो सोनिया के साथ प्रियंका गांधी भी आ रही है। 9 दिसम्बर को जा सकती है भ्रमण पर वन विभाग से मिली जानकारी के अनुसार सोनिया गांधी और प्रियंका गांधी 9 दिसम्बर को प्रियंका गांधी वाड्रा व अन्य परिजनों के साथ रणथम्भौर भ्रमण पर जा सकती है। हालांकि अब तक यह महज एक प्रस्तावित कार्यक्रम है और अभी कुछ भी फाइनल नहीं है। लेकिन इसके बाद भी वन विभाग और जिला प्रशासन की ओर से सोनिया गांधी के रणथम्भौर भ्रमण और जिले के दौरे की युद्ध स्तर पर तैयारी की जा रही है।

पत्रिका 7 Dec 2022 9:33 pm

गुजरात एटीएस ने ने जब्त की 121 करोड़ की एमडी ड्रग्स

गुजरात आतंक निरोधक दस्ता (एटीएस) को और एक बड़ी सफलता हाथ लगी है। वडोदरा जिले के सिंधरोट गांव के एक घर में दबिश देकर 121 करोड़ रुपए की मेफेड्रोन (एमडी) ड्रग्स जब्त की गई है। इससे पहले गत 29 नवम्बर को भी इस गांव से बड़ी मात्रा में एमडी ड्रग्स बरामद की गई थी और पांच आरोपियों को गिरफ्तार भी किया गया था। सिंधरोट गांव में ड्रग्स बरामद मामले में गिरफ्तार आरोपियों से पूछताछ के आधार पर एटीएस ने स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी) के साथ मंगलवार देर रात को छापेमारी की। इस दौरान अलग -अलग जगहों से प्लास्टिक की थैलियों में शंकास्पद ड्रग्स मिलने पर जांच की गई। एफएसएल ने मेफेड्रोन ड्रग्स के रूप में इसकी पुष्टि की। इसका वजन 24 किलो 280 ग्राम और अनुमानित कीमत 121.40 करोड़ रुपए बताई गई है। पुलिस के अनुसार यह मेफेड्रोन ड्रग्स पूर्व में पकड़े गए आरोपियों ने सिंधरोट गांव के निकट फैक्ट्री में ही तैयार किया था। इस फैक्ट्री में बनाई गई 607 करोड़ कीमत की मेफेड्रोन को कब्जे में ले लिया गया है। इस आरोप में सौमिल पाठक, भरत चावड़ा और शैलेष कटारिया से पूछताछ किए जाने पर मेफेड्रोन ड्रग्स बनाने में उपयोग की 100 किलो कच्ची सामग्री वडोदरा के सयाजीगंज क्षेत्र से जब्त की है। एमडी ड्रग्स बनाने के लिए उपयोग में की जाने वाली मशीन और अन्य साधन भी जब्त किए गए हैं। यह था मामला गुजरात एटीएस की टीम ने सूचना के आधार पर गत 29 नवम्बर की रात को सींधरोट गांव के आसपास सर्च ऑपरेशन किया था। उस दौरान अलग-अलग जगहों से पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। इन आरोपियों को साथ रखकर सिंधरोट गांव के निकट एक फैक्ट्री में छापा मारा गया। जहां से 63 किलो से अधिक एमडी ड्रग्स का संग्रह जब्त किया गया। इसके अलावा 80 किलो एमडी ड्रग्स बनाने के लिए तैयार घोल भी बरामद किया गया था। इस जत्थे की कुल कीमत 477 करोड रुपए ़ से अधिक बताई गई थी। इसके बाद गत 3 दिसम्बर को भरत चावड़ा नामक आरोपी की ओर से दो थैलियों में छिपाई गई लगभग पौने दो किलो मेफेड्रोन ड्रग्स को जब्त किया गया, जिसकी कीमत 8.85 करोड़ रुपए आंकी गईं। इस आरोप में लिप्त आरोपियों से पूछताछ किए जाने पर शैलेष कटारिया ने अपने घर पर और ड्रग्स होने की बात कही थी और इस आधार पर छापा मारा गया।

पत्रिका 7 Dec 2022 9:32 pm

भागा रामपुर में सिलाई प्रशिक्षण केंद्र का उद्घाटन

अलकडीहा। भागा रामपुर में बुधवार को स्वावलंबी स्वरोजगार सोसाइटी मुकुंदा की ओर से हरि बोल मंदिर में महिलाओं के लिए सिलाई प्रशिक्षण केंद्र खोला...

लाइव हिन्दुस्तान 7 Dec 2022 9:31 pm