SENSEX
NIFTY
GOLD
USD/INR

Weather

33    C

गुणवत्तापूर्ण शिक्षा दिलाने सरकार कर रही प्रयास

रायसेन. स्वास्थ्य मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने जिला मुख्यालय पर तीन करोड़ 85 लाख की लागत से बने सौ सीटर बालक छात्रावास और तीन करोड़ 86 लाख रुपए से बने सौ सीटर बालिका छात्रावास भवन का लोकार्पण किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा मिले और पढ़ाई में उन्हें किसी प्रकार की असुविधा न हो इसके लिए सरकार हर संभव प्रयास कर रही है। प्रदेश में सीएम राइज स्कूल खोले जा रहे हैं। प्रत्येक सीएम राईज स्कूल की लागत 25 से 30 करोड़ रुपए है। इन स्कूलों में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के लिए सभी प्रकार की सुविधा, व्यवस्था उपलब्ध रहेंगी। पहले चरण में सांची विधानसभा क्षेत्र में तीन सीएम राइज स्कूल स्वीकृत किए गए है। इनमें गैरतगंज, रायसेन और सांची में एक-एक खोले जा रहे है। कार्यक्रम को जनपद अध्यक्ष एस मुनियन एवं भाजपा जिलाध्यक्ष जयप्रकाश किरार ने भी संबोधित किया। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने कृषि फार्म परिसर में बने 77.96 लाख रुपए की लागत से नवनिर्मित भवन उपसंचालक सह परियोजना संचालक आत्मा किसान कल्याण और कृषि विकास कार्यालय का लोकार्पण भी किया। इस अवसर पर कलेक्टर अरविंद कुमार दुबे, एसपी विकास कुमार शाहवाल, ब्रजेश चतुर्वेदी, वर्षा लोधी, जमना सेन सहित जनप्रतिनिधि और संबंधित अधिकरी उपस्थित थे। लोकार्पण के समय दिखी भवन में दरारें शासकीय कन्या हायर सेकंडरी स्कूल परिसर में बने छात्रावास भवन के कक्षों की दीवारों में कई जगह छोटी-बड़ी दरारें देखने को मिल रही है। उक्त भवन को पीआईयू ने बनाया है। जब लोकार्पण के समय भवन की हालत ठीक नहीं है, तो आगे स्थिति कैसी होगी। इसका अंदाजा लगाया जा सकता है। शासकीय कन्या हायर सेकंडरी स्कूल परिसर में आयोजित छात्रावास लोकार्पण समारोह में समापन के बाद सरकारी मंच से ही संचालन कर रहे एक शिक्षक ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण करने वालों की जानकारी दी, तो तत्काल कलेक्टर अरविंद कुमार दुबे और एसपी विकास शाहवाल मंच से नीचे उतर आए। इस दौरान उन्होंने डीईओ एमएल राठौरिया को जमकर फटकार लगाई। कलेक्टर बोले यह शासकीय कार्यक्रम है या पार्टी का, शासकीय आयोजन में यह सब नहीं होना चाहिए।

पत्रिका 18 May 2022 12:18 am

Mansoon Update: बरस रही आग को बुझाएगी झमाझम बारिश, इन शहरों में आंधी-पानी का अलर्ट जारी

देश में जहां अधिकतम तापमान 50 डिग्री तो वहीं, उत्तर प्रदेश में अधिकतम तापमान 49 डिग्री सेल्सियल तक पहुंच गया है। गर्मी की कहर से इंसान से लेकर जीव-जंतु सभी परेशान है। गर्मी का सितम कम होने का नाम नहीं ले रहा। तेज धूप व सुबह से बह रही गर्म हवा से ऐसा लग रहा था कि एक बार फिर पारा तेजी से चढ़ेगा। लेकिन पछुवा के साथ उत्तर दिशा की मिली जुली हवा के चलते अधिकतम तापमान 45 डिग्री सेल्सियस पर ठिठक गया। पिछले कई दिन से बुंदेलखंड का इलाका भीषण गर्मी की चपेट में है। वहीं बहु प्रतीक्षित मानसून ने देश में अंडमान निकोबार द्वीप समूह में सक्रियता के साथ अपनी दस्तक दे दी है। इस लिहाज से देश में मानसून ने इस बार करीब सप्ताह भर पहले ही दस्तक दे दी है। मौसम विभाग के वैज्ञानिकों ने मानसून के साथ ही प्रदेश में तेज आंधी के साथ बारिश की संभावनाएं जताई है। मौसम विज्ञान विभाग के प्रभारी डा. दिनेश साहा के अनुसार सुबह से मौसम में जो तल्खी दिखी उससे तो लगा कि दिन का तापमान काफी बढ़ेगा लेकिन पछुवा के साथ उत्तर की हवा चलने से पारा 45 डिग्री सेल्सियस पर रुक गया। वहीं झांसी, आगरा, कानपुर सूरज की तेज तपन में तप रहे हैं। हवा की गति एक से 14 किमी. प्रति घंटा रिकार्ड़ की गई है। वातावरण में नमी 15 से 25 प्रतिशत तक रही है। यह भी पढ़े - सातवीं के छात्रों ने चिट्ठी में लिखा अपना दुःख, प्रिंसिपल से कहा लड़कियां class में करती हैं ऐसी हरकतें कहां-कहां पहुंचा मानसून सोमवार को मानसून की अक्षीय रेखा अंडमान निकोबार द्वीप समूह से होकर गुजरती नजर आई। अंडमान निकोबार द्वीप समूह में मानसूनी बादलों ने आखिरकार दस्तक दी तो उत्तर भारत के लोगों ने खूब राहत की सांस ली है। दरसल नई दिल्ली तक में तापमान 50 डिग्री तक सोमवार को जा पहुंचा था। ऐसे में मानसून और देर होता तो दुश्वारी बढ़ना तय था। सोमवार को आखिरकार मानसून ने दस्तक दे दी है। माना जा रहा है कि अब जल्द ही समुद्र तटीय इलाकों तक इसका असर पहुंच जाएगा। इसके बाद यह मैदानी इलाकों में जून में सक्रिय हो जाएगा। इसको लेकर अभी से अलर्ट जारी हो गया है। यह भी पढ़े - रोटियों के ही नहीं ब्रेड और बिस्कुट की भी देनी होगी अधिक कीमत, गेंहू की इतनी बढ़ी कीमतें सबसे अधिक तप रहे ये शहर उत्तर भारत भीषण गर्मी में तप रहा है। राजस्थान के धौलपुर में अधिकतम तापमान 46.1 डिग्री और यूपी के बांदा में अधिकतम तापमान 49 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। देश में गरमी किस कदर पड़ रही है, इसका अंदाज इसी से लगाया जा सकता है कि कम से कम 16 शहरों में 44 डिग्री सेल्सियस से अधिक तापमान दर्ज किया गया है। सबसे अधिक धौलपुर (46.1 डिग्री), इसके बाद झांसी (45.6 डिग्री), नौगोंग (45.5 डिग्री), बठिंडा (45.1 डिग्री) और वाराणसी, पटियाला और सीधी (प्रत्येक में 45 डिग्री) का स्थान रहा। कौन से राज्यों में कब रहेगा मानसून अपने देश में 16 मई को मॉनसून ने अंडमान-निकोबार द्वीप समूह पर दस्तक दी है। अगले कुछ दिनों में आगे बढ़ते हुए 26 मई को यह बंगाल की खाड़ी के बड़े क्षेत्र को कवर कर लेगा। 1 जून को केरल मॉनसून पहुंचने का टाइम है लेकिन मौसम विभाग ने अनुमान जताया है कि पांच दिन पहले ही मॉनसून यहां पहुंच जाएगा। इसके बाद अगर मॉनसून समय पर रहा तो 10 जून तक महाराष्ट्र और 15 जून तक छत्तीसगढ़, बिहार, झारखंड को भिगो देगा। पूर्वी यूपी में 20 जून और पश्चिमी यूपी में 25 जून तक मॉनसून पहुंचेगा। 30 जून तक राजस्थान, पंजाब, हरियाणा के क्षेत्र में मॉनसून का असर दिखेगा। 5 जुलाई को राजस्थान के पश्चिमी हिस्से में बारिश हो सकती है। यह भी पढ़े - अगर आप भी खातें हैं गोलगप्पे तो पहले पढ़ लीजिए ये खबर, जान के लिए भी हो सकता है खतरा

पत्रिका 18 May 2022 12:16 am

Gujarat News : गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रेकॉर्ड्स में शामिल होगा वचनामृत

वडोदरा. वडोदरा के कारेलीबाग स्थित स्वामीनारायण मंदिर के 18वें पाटोत्सव के उपलक्ष में बड़े आकार का वचनामृत श्रद्धालुओं के दर्शन के लिए रखा गया है। इस वचनामृत ने गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रेकॉर्ड्स का भी ध्यान खींचा है। इस कारण इसे आगामी दिनों में इस रेकॉर्डस में शामिल किया जाएगा। इस विशाल वचनामृत को सौराष्ट्र के कुंडलधाम में रखा जाएगा। वडोदरा के कारेलीबाग स्वामीनारायण मंदिर में घनश्याम महाराज का 18वें पाटोत्सव के निमित्त सप्तदिनात्मक सत्संग ज्ञानयज्ञ आरंभ किया गया है। इसमें विशाल आकार का वचनामृत श्रद्धालुओं के आकर्षण का केन्द्र बना हुआ है। इस संबंध में अलौकिक स्वामी ने बताया कि भगवान स्वामीनारायण के दिए उपदेशों के सागर यानी वचनामृत का 200 वर्ष पूरा होने वाला है। स्वामी ज्ञानजीवनदास की आज्ञा से इसे विशाल आकार में निर्मित किया गया है। आगामी सप्ताह इसे गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रेकार्डस में शामिल किया जाएगा। पीएम मोदी 19 को वर्चुअली हिस्सा लेंगे : इससे पूर्व राज्य के राज्यपाल आचार्य देवव्रत शाम के सत्र में मौजूद रहे। मंगलवार सुबह कारेलीबाग मंदिरस्थ घनश्याम महाराज का दिव्य अभिषेक और अन्नकूट दर्शन का लाभ मिला। इस कार्यक्रम में 20 मई को शाम 5 बजे केन्द्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह उपस्थित रहेंगे। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 19 को सुबह 10 बजे वर्चुअली मौजूद रहेंगे। इस अवसर पर मुख्यमंत्री भूपेन्द्र पटेल और भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सी आर पाटिल मौजूद रहेंगे। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद भी वीडियो के जरिए शुभकामना प्रदान करेंगे। वचनामृत की विशेषता आकार 10 गुणा 7 स्टैंड समेत 1500 किलो वजन 854 पन्ना हिन्दू संस्कृति के सबसे बड़े स्मृति ग्रंथ के रूप में गिनीज बुक में स्थान प्राप्त होगा लंबे समय तक टिके रहने के लिए विशेष प्रकार के कागज का इस्तेमाल सौराष्ट्र के कुंडलधाम में रखा जाएगा

पत्रिका 18 May 2022 12:14 am

लखनऊ मेट्रो का सुपर सेवर कार्ड लॉन्च,1400 रुपये में 30 दिनों तक अनलिमिटेड यात्रा की सुविधा

उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र ने आज लखनऊ मेट्रो के ‘‘सुपर सेवर कार्ड’’ का शुभारम्भ किया। बैंगनी रंग के इस नये सुपर सेवर कार्ड से सिर्फ 1400 रुपये में 30 दिनों तक लखनऊ मेट्रो में यात्री असीमित यात्रा का फायदा उठा सकते हैं। यह सुपर सेवर कार्ड नियमित यात्रियों के लिए काफी किफायती है। सुपर सेवर कार्ड के शुभारंभ पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए मुख्य सचिव ने कहा कि यात्री सुविधा की दृष्टि से लखनऊ मेट्रो का यह एक और अच्छा कदम है। सुपर सेवर कार्ड से लोगों का मेट्रो मंे सफर अब और भी किफायती हो जायेगा। उन्होंने कहा कि आज देश के साथ पूरी दुनिया ग्लोबल वाॅर्मिंग, प्रदूषण एवं यातायात की समस्या से जूझ रही है, जिससे परिवहन की लागत पर भी असर पड़ता है। इस सुपर सेवर कार्ड से यात्रा की लागत जहां कम होगी, वहीं वातावरण पर सकारात्मक असर भी होगा। उत्तर प्रदेश मेट्रो रेल कॉरपोरेशन के प्रबंध निदेशक कुमार केशव ने कहा कि यूपीएमआरसी का हमेशा अपने यात्रियों को सुविधाजनक और सुगम यात्रा सुविधा मुहैया कराना लक्ष्य रहता है। इसी कोशिश के तहत यह कार्ड एक बार रिचार्ज करने पर यात्रियों को लखनऊ मेट्रो की 30 दिनों तक असीमित यात्रा करने का अवसर प्रदान करता है जो अपने आप में लखनऊ के लोगों के लिए एक सौगात है। इस कार्ड को लॉन्च करने के पीछे का उद्देश्य लोगों को इस ग्रीन मोबिलिटी सिस्टम का उपयोग करने के लिए प्रोत्साहित करना है जो विश्व स्तरीय होने के साथ-साथ सुरक्षित और आरामदायक भी है। लखनऊ मेट्रो के सुपर सेवर कार्ड की विशेषताएं हैं कि, 1400 रुपये में 30 दिनों तक अनलिमिटेड यात्रा की सुविधा है। इस कार्ड की कीमत 1500 रुपये है, जिसमें 100 रूपये सुरक्षा राशि रिफंडेबल है। सुपर सेवर कार्ड मेट्रो स्टेशनों के टिकट काउंटर पर बिक्री के लिए उपलब्ध है। इस कार्ड को किसी भी मेट्रो स्टेशन के टिकट काउंटर या टिकट वेंडिंग मशीन से रिचार्ज कराने की सुविधा है। कार्ड खरीदने के लिए सिर्फ नाम और मोबाइल नंबर की आवश्यकता है। कार्ड से कॉन्टैक्टलेस ट्रेवल की सुविधा है तथा बार-बार लाइन में लगकर टोकन खरीदने की आवश्यकता नहीं है।

पत्रिका 18 May 2022 12:13 am

सहपाठी ने किया था बलात्कार, बालिका बनी थी मां, आरोपी को 20 साल की कैद

जयपुर। उदयपुर शहर के एक थाना क्षेत्र में स्कूल में पढऩे वाली छठी कक्षा की छात्रा के साथ उसी विद्यालय के किशोर ने बलात्कार (Rape news udaipur) किया था। किशोरी के गर्भ ठहर गया, जिससे वह मां बनी। केस में आरोपी को 20 साल के कठोर कारावास की सजा सुनाई गई है। घटना के समय आरोपी किशोरावस्था में था, लेकिन फैसला आया तब तक वह 21 साल का हो गया। ऐसे में उसे सजा सेंट्रल जेल में काटनी होगी। सुनवाई के दौरान अभियोजन पक्ष की ओर से विशिष्ठ लोक अभियोजक चेतनपुरी गोस्वामी ने 14 गवाह व 26 दस्तावेज पेश किए, जिससे आरोपी किशोर पर अपराध साबित हो गया। विशिष्ठ न्यायालय लैंगिक अपराधों से बालकों का संरक्षण अधिनियम 2012 और बालक अधिकार संरक्षण आयोग अधिनियम 2005 क्रम-1 के पीठासीन अधिकारी भूपेन्द्र कुमार सनाढ्य की ओर से फैसला दिया गया। कोर्ट ने कहा कि आरोपी को सजा भुगतने के लिए जेल भेजने के अलावा कोई विकल्प नहीं है। आरोपी को धारा 376 में दोषी करार देते हुए 20 साल के कठोर कारावास व दस हजार रुपए जुर्माने की सजा सुनाई। पीडि़ता को प्रतिकर फैसले में पीडि़ता को बतौर क्षतिपूर्ति प्रतिकर राशि 5 लाख रुपए के दिलाने के आदेश दिए गए। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण को निर्णय की प्रति मिलने के एक माह के दरमियान पीडि़ता को यह राशि दी जाएगी। बिस्कुट लेने दुकान गई नौ साल की बालिका से 65 साल के दुकानदार ने किया बलात्कार मांडलगढ़/भीलवाडा. थाना क्षेत्र के एक गांव में सोमवार शाम को दुकान पर बिस्कुट लेने गई नौ साल की बालिका के साथ शर्मसार कर देने वाली घटना हुई। पैसठ साल के दुकानदार ने बालिका को दुकान में ले जाकर बलात्कार किया। वारदात का पता चलने पर रात में परिजन मांडलगढ़ थाने पहुंचे। पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए पॉक्सो एक्ट में मामला दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। मांडलगढ़ पुलिस उप अधीक्षक ज्ञानेन्द्रसिंह ने बताया कि सोमवार शाम को करीब छह बजे नौ साल बालिका अपनी छोटी बहन को साथ लेकर दुकान पर बिस्कुट लेने गई थी। वहां दुकान पर 65 वर्षीय दुकानदार छोटूलाल शर्मा बैठा था। शर्मा ने नौ साल की बालिका को दुकान में खींच लिया जबकि उसकी छोटी बहन सड़क पर खड़ी रही। दुकान के अंदर ले जाकर छोटूलाल ने उसके साथ बलात्कार किया। घर नहीं पहुंचने पर तलाशते मां पहुंची काफी देर तक दोनों बेटियों के घर नहीं लौटी तो चिंतित मां उन्हें तलाशने निकली।पर मां को चिंता हुई। रास्ते में छोटी बेटी रोते हुई मिली। मां ने बड़ी बेटी के बारे में पूछा तो उसने दुकान के अंदर जाने की बात कही। मां दुकान पर पहुंची। दुकान के अंदर बड़ी बेटी रो रही थी। उसे घर लाकर बातचीत की तो उसने बलात्कार की बात कही। यह सुनकर मां दंग रह गई। वह बेटी को मांडलगढ़ अस्पताल लेकर आई। यहां प्राथमिक उपचार हुआ। सूचना पर मिलने पर थानाप्रभारी सुरेश चौधरी भी अस्पताल पहुंचे। पुलिस ने वारदात की जानकारी के लेने के बाद पीडि़ता का मेडिकल करवाया। परिजनों की रिपोर्ट पर पॉक्सो एक्ट में मामला दर्ज किया। इस बीच राज खुलने पर आरोपी दुकानदार घर से भाग गया। पुलिस ने टीम बनाकर उसकी तलाश में दबिश दी। देर रात छोटूलाल को गिरफ्तार कर लिया गया। उसे मंगलवार को पॉक्सो अदालत में पेश किया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया।

पत्रिका 18 May 2022 12:09 am

सास को रास नहीं आता, बहू-बेटे का प्रेम, वही कराती है विवाद

रायसेन. शादी के डेढ़ साल भी भी नहीं हुए और पति-पत्नी में तकरार हो गई, पत्नी ने ससुराल वालों के खिलाफ थाने में शिकायत कर दी। मामला परिवार परामर्श केंद्र में आने पर पत्नी ने बताया बाकी सब तो ठीक है, लेकिन सास को पति-पत्नी के बीच प्यार रास नहीं आता और वही पति के कान भरके उनके बीच विवाद करती है। दस महिने से मायके में रह रही विदिशा निवासी पत्नी ने अपनी ससुराल वालों के खिलाफ आवेदन देकर शिकायत की थी कि ससुराल में उसके साथ मारपीट होती है और उसे प्रताडि़त किया जाता है। प्रकरण की सुनवाई में सामने आया कि दरअसल विवाद पति पत्नी के बीच नहीं है। महिला अपनी सास से परेशान होकर 10 महीने से मायके में रह रही है। पत्नी ने बताया कि पति तो ठीक है, लेकिन उसकी सास के कहने पर चलता है और सास ने इतना प्रतिबंध लगा रखा है कि वह पति से बात करने पर भी आपत्ति करती है। सास को पसंद नहीं कि बहू बेटे में प्रेम हो, यदि वह मायके में हो तो पति फोन पर बात करे तब भी सास को आपत्ति होती है। पूरी काउंसलिंग के बाद जो बात सामने आई उसके अनुसार सास और बहू के बीच जनरेशन गैप के कारण विवाद है। पति पत्नी दोनों साथ रहना चाहते है। दोनों पक्षों को समझाइश दी गई कि वह अपने आप मे बदलाव लाए। उन्हें 7 दिन का समय दिया गया है, अगली काउंसलिंग के बाद दोनों का पक्ष जानकर उन्हें साथ भेजा जाएगा। एक अन्य प्रकरण में एक साल पहले शादी हुए जोड़े में दरार पड़ गई। पत्नी ने बताया कि वह पति के साथ रहना चाहती है, लेकिन वर्तमान में जहां वह रहते है, वहां ऐसा माहौल नहीं कि वह रह पाए। सास और परिवार के दूसरे लोग काफी प्रताडि़त करते है, लेकिन पति भी उसे इतना चाहता है कि उसके मायके जाने से दुखी होकर उसने सुसाइड की कोशिश की। हालांकि पत्नी भी उसके साथ रहना चाहती है, लेकिन कहीं दूसरी जगह। पति ने बताया कि वह 7 दिन में व्यवस्था करेगा। दोनों को अगले मंगलवार की तारीख दी गई है। पांच प्रकरण पंजीबद्ध किए गए मंगलवार को बैठक में 14 प्रकरण रखे गए थे।, जिसमें से 8 प्रकरण में पक्षकार अनुपस्थित रहे। 5 प्रकरण पंजीबद्ध किए गए। परामर्श केंद्र की बैठक में एसडीओपी अदिति भावसार, अध्यक्ष कैलाश श्रीवास्तव, सलाहकार अशोक गुप्ता, चेतन राय, अनीता राजपूत, एएसआई अनिल वर्मा, आरक्षक लोकेंद्र मोर्य उपस्थित रहे।

पत्रिका 18 May 2022 12:06 am

कल से जिले में होगा कुछ ऐसा कि लोगों की हो जाएगी पौ बारह

नीमच. मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना स्वरोजगार स्थापित करने हेतु शासन की सर्वोच्च प्राथमिकता एवं महत्वाकांक्षी योजना है। इसके अंतर्गत 18 से 40 वर्ष के आयु वर्ग के इच्छुक बेरोजगार युवक, युवतियों को स्वयं का स्वरोजगार स्थापित करने हेतु रिटेल ट्रेड एवं सेवा क्षेत्र की परियोजना हेतु ऋण उपलब्ध कराया जाएगा। नगर परिषद में अलग अलग दिन लगेंगे शिविर बेरोजगारों को स्वरोजगार स्थापित करने हेतु एक लाख रुपए से लेकर 25 लाख रुपए तथा विनिर्माण श्रेणी की इकाई स्थापना हेतु राशि एक लाख रुपए से 50 लाख रुपए तक का ऋण उपलब्ध कराया जा रहा है। योजनांतर्गत 3 प्रतिशत प्रतिवर्ष ब्याज अनुदान 7 वर्ष के लिए तथा प्रचलित दर से ग्यारंटी शुल्क भी शासन द्वारा देय है। ऐसे बेरोजगार युवक, युवतियां जो कि न्यूनतम 1२वीं कक्षा उत्तीर्ण है। स्वयं का व्यापार, व्यवसाय, उद्योग, सेवा क्षेत्र की इकाई प्रारंभ करना चाहते हैं, योजना का लाभ लेकर ऋण प्राप्त कर सकते हैं। प्रदेश के सूक्ष्म लघु मध्यम उद्यम तथा विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री ओमप्रकाश सखलेचा के निर्देशानुसार जावद विधानसभा क्षेत्र के सभी नगरीय निकायों में 19 से 26 मई तक मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना के तहत शिविरों का आयोजन किया जा रहा है। महाप्रबंधक उद्योग अमरसिह मौरे ने बताया कि मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना के तहत नगर परिषद कार्यालय सिंगोली में 19 मई को सुबह 10.30 बजे से शिविर का आयोजन किया जा रहा है। नगर परिषद नयागांव में 20 मई को रतनगढ़ में 23 मई को, अठाना में 24 मई को सरवानिया महाराज में 25 मई को एवं नगर परिषद कार्यालय जावद में 26 मई को सुबह 10.30 बजे से शिविरों का आयोजन किया जा रहा है। इस शिविर में ऋण प्राप्त करने की प्रक्रिया, आवेदन प्रक्रिया आदि की जानकारी प्रदान की जाएगी। इच्छुक युवक, युवतियां शिविर में उपस्थित होकर इन शिविरों का लाभ उठा सकते हैं। योजना के तहत आवेदकों को पेनकार्ड, आधार कार्ड, मोबाइल नंबर, 10वीं एवं 12वीं की उत्तीर्ण की अंकसूची, कोटेशन, जाति प्रमाण पत्र, आय एवं मूलनिवासी प्रमाण पत्र के साथ शिविर में उपस्थित होना है।

पत्रिका 18 May 2022 12:04 am

अगर आपके पास आए कोई फर्जी कॉल तो रहें अलर्ट, जानिए क्यों...

अशोकनगर. बैंक अधिकारी बनकर धोखाधड़ी करने के मामले जिले में रुकते नजर नहीं आ रहे हैं। जहां फिर से ठग ने एक सेवा निवृत्त कर्मचारी को निशाना बनाया, बीमा पॉलिसी का डर दिखाकर दो बार में उससे 96 हजार रुपए फोन पे करा लिए। इस धोखाधड़ी की शिकायत सेवानिवृत्त कर्मचारी ने पुलिस थाने में की है। मामला शहर का है, हिरिया के टपरा क्षेत्र में रहने वाले पीएचई के सेवानिवृत्त हैंडपंप तकनीशियन हनुमंतङ्क्षसह ओझा ने थाने में शिकायत कर कहा कि 8 अप्रेल को उसके मोबाइल पर फोन आया और कहा कि आपकी एसबीआई बीमा पॉलिसी लेप्स होने वाली है, तुरंत ही 32 हजार 500 रुपए फोन पे से जमा कराना होंगे। इससे हनुमंतङ्क्षसह ने यह राशि फोन पे कर दी। इसके बाद 27 अप्रेल को फिर से फोन आया कि बीमा पॉलिसी लेप्स होने वाली है, 63 हजार 500 रुपए फोन पे से जमा कराना होंगे, इससे उसने फिर से यह राशि फोन पे कर दी। बैंक जाने पर पता चले कि फर्जी थे फोन कॉल हनुमंतङ्क्षसह का कहना है कि जब दो बार फिर से फोन आया और बीमा पॉलिसी लेप्स होन की बात कही गई, तो उसने बैंक जाकर बात की और कहा कि दो बार राशि जमा करा चुका है, लेकिन बार-बार बैंक से फोन आ रहे हैं। इससे बैंक ने बताया कि वह फोन पे से राशि जमा कराने नहीं कहते, वह फोन कॉल फर्जी थे। इससे हनुमंतङ्क्षसह ने थाने में शिकायत कर धोखाधड़ी करने वालों पर कार्रवाई करने की मांग की है। इधर, पति के चरित्र पर करती थी संदेह और खा लिया जहर, मौत अशोकनगर. पत्नी को पति के चरित्र पर शंका थी और इसी शंका के चलते उसका पति से विवाद हुआ। बाद में पत्नी ने जहर खा लिया। जिसे परिजनों ने इलाज के लिए भर्ती कराया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। मृतका के भाई ने मारपीट का आरोप लगाया है। मामला क्षेत्र के खजूरिया गांव का है। जहां रहने वाली 23 वर्षीय गीता पत्नी जितेंद्र केवट को जहर खाने से परिजनों ने सुबह साढ़े नौ बजे जिला अस्पताल में भर्ती कराया। जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। परिजनों का कहना है कि गीताबाई अपने पति जितेंद्र केवट के चरित्र पर शंका करती थी। मृतका के भाई सुनील का कहना है कि जितेंद्र ने किसी से रुपए उधार लिए थे, उधारी के पैसे चुकाने विवाद हुआ तो उसने पत्नी गीता से पैसे मांगे। इससे गीता ने कहा कि उस महिला से तुम्हारे संबंध है, इसी बात पर पति ने मारपीट कर दी। सुनील ने बताया कि जब मारपीट की जानकारी मिली तो वह पहुंचा और पति-पत्नी में सुलह भी हो गई, लेकिन सुबह उसने कीटनाशक पी लिया।

पत्रिका 18 May 2022 12:01 am

IPL 2022 MI vs SRH : सनराइजर्स हैदराबाद की शानदार जीत, रोमांचक मुकाबले में मुंबई को 3 रनों से हराया

IPL 2022 MI vs SRH : इंडियन प्रीमियर लीग 2022 का 65 वां मुकाबला सनराइजर्स हैदराबाद (SRH) और मुंबई इंडियंस (MI) के बीच मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेला गया। इस रोमांचक मुकाबले में सनराइजर्स हैदराबाद ने मुंबई इंडियंस को 3 विकेट से हरा दिया है। हैदराबाद की जीत के साथ उसके प्लेऑफ में पहुंचने की उम्मीद अभी बरकरार है। इस मैच में मुंबई ने टॉस जीतकर गेंदबाजी करने का फैसला किया और हैदराबाद में पहले बल्लेबाजी करते हुए 6 विकेट के नुकसान पर 193 रन बनाए। जवाब में लक्ष्य का पीछा करने उतरी मुंबई निर्धारित 20 ओवरों में 7 विकेट के नुकसान पर 190 रन ही बना पाई। ये भी जरूर पढ़ें - T20 वर्ल्ड कप से पहले बांग्लादेश खेलेगी टी-ट्वेंटी ट्राई सीरीज, देखें कौन-कौन टीमें हैं शामिल राहुल त्रिपाठी ने खेली शानदार पारी- टॉस हार कर पहले बल्लेबाजी करने उतरी हैदराबाद की शुरूआत सही नहीं रही, 9 रन बनाकर अभिषेक शर्मा आउट हो गए। लेकिन इसके बाद दूसरे विकेट के लिए प्रियम गर्ग और राहुल त्रिपाठी ने 78 रनों की साझेदारी कर मैच में हैदराबाद की बढ़त बना दी। राहुल त्रिपाठी ने 44 गेंदों में नौ चौकों और तीन सिक्स की मदद से 76 रनों की शानदार पारी खेली। इसके अलावा प्रियम गर्ग ने 42 और निकोलस पूरन ने भी 38 रनों का योगदान दिया। जवाब में लक्ष्य का पीछा करने उतरी मुंबई की शुरुआत शानदार रही पहले विकेट के लिए ईशान किशन और रोहित शर्मा ने 95 रन जोड़कर टीम को मजबूत शुरुआत दी। दोनों ही ओपनर अर्धशतक बनाने से चूके रोहित शर्मा ने 48 और इशान किशन ने 43 रनों की पारी खेली। रोमांचक मैच में जीत न दिला सके टिम डेविड- मुंबई को मैच जीतने के लिए आखिरी 3 ओवर में 45 रनों की आवश्यकता थी। हैदराबाद की तरफ से 18 वां ओवर करने आए नटराजन के इस ओवर में 4 सिक्स जड़कर टिम डेविड ने मुंबई की मैच में बढ़त बना दी। एक समय लग रहा था कि मुंबई मैच को आसानी से जीत जाएगी, लेकिन इसी ओवर में स्ट्राइक अपने पास रखने के चक्कर में आखिरी बॉल पर टिम डेविड रन आउट हो गए और मैच मुंबई के हाथ से फिसल गया। हैदराबाद की उम्मीदें अभी भी कायम- मुंबई के खिलाफ इस जीत के साथ हैदराबाद की प्लेऑफ में पहुंचने की उम्मीद है अभी भी जीवित हैं। इस जीत के साथ हैदराबाद के 13 मैचों में 12 अंक हो गए हैं वही उसे अपना आखिरी मुकाबला बड़े अंतर से जीतना होगा। जिससे वह 14 अंको तक पहुंचने में सफल हो और रन रेट में सुधार हो। वहीं मुंबई इस हार के साथ पॉइंट्स टेबल में दसवें नंबर पर मौजूद है मुंबई के 13 मैचों में कुल 6 अंक हैं। ये भी जरूर पढ़ें - क्रिकेट इतिहास के TOP 5 बल्लेबाज, जिन्होंने वनडे में लगाए हैं सबसे ज्यादा अर्धशतक, लिस्ट 2 भारतीय दिग्गज भी शामिल

पत्रिका 18 May 2022 12:00 am

गलत संगत ने छोटी उम्र में बालक को बना दिया बड़ा अपराधी

सिंगरौली. हर्रई पश्चिम में बच्चे की हत्या के मामले में कोतवाली पुलिस ने एक बाल अपचारी को गिरफ्तार किया है। गलत संगत की वजह से बाल अपचारी ने बच्चे के सिर पर पत्थर से प्रहार कर उसकी हत्या कर दी। बाल अपचारी के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर पुलिस ने उसे सुधार गृह भेजा है। हत्या का खुलासा करते हुए कोतवाल अरुण पाण्डेय ने बताया है कि गिरफ्तार अपचारी बालक ने स्वीकार किया है कि वह गांव में आयोजित वैवाहिक कार्यक्रम से पड़ोस के बच्चे बहलाकर सुनसान स्थान पर खेत मे ले गया। जहां उसने पहले अप्राकृतिक दुष्कर्म किया। इसके बाद पीडि़त बच्चे ने जब उसके साथ हुए वारदात को परिजनों को बताने की धमकी दी तो दुष्कर्म करने वाले बालक ने उसके सिर पर पत्थर से हमला कर मौत की घाट उतार दिया। बाल अपचारी ने स्वीकार किया कि उसके कृत्य की का पर्दाफाश न हो। इसे छिपाने के लिए पीडि़त बालक की हत्या की। हत्या के बाद पत्थर से उसके चेहरे को भी कुचलने की कोशिश की। ताकि आसानी से मृतक की पहचान न हो सके। हत्या की वारदात के बाद पुलिस ने जब जांच शुरू की और पोस्टमार्टम रिपोर्ट आई तो शक के आधार पर बाल अपचारी को हिरासत में लिया। पुलिस की पूछताछ में बाल अपचारी ने बच्चे की हत्या करने का जुर्म कबूल किया। यह है पूरा मामला दो दिन पहले शुक्रवार की सुबह साढ़े 6 बजे ग्राम हर्रई पश्चिम में तीरथ शाह के खेत में अंधी हत्या कर एक 10 वर्ष के बालक का शव फेंका गया था। मौके पर एसपी व कोतवाली पुलिस ने पहुंचकर मुआयना करते हुए जांच शुरू कर दी। पतासाजी करते हुए पुलिस ने 36 घंटे के दौरान मुख्य आरोपी अपचारी बालक को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने बारीकी से किया था मुआयना बच्चे की हत्या के बाद कोतवाली पुलिस टीम ने मौके पर एफएसएल टीम के डॉक्टर, फिंगर प्रीन्ट के एक्सपर्ट और रीवा से डॉग स्क्वायड बुलाकर घटना स्थल का बारीकी से निरीक्षण कराया था। पतासाजी के लिए सीएसपी के मार्गदर्शन में कोतवाल, टीआई नवानगर रावेंद्र द्विवेदी व विंध्यनगर यूपी सिंह की टीम जुट गई। रविवार को नाबालिक आरोपी को गिरफ्तार कर उसे सुधार गृह भेज दिया गया।

पत्रिका 17 May 2022 11:59 pm

INS Surat - Udaygiri : भिलाई के स्पेशल स्टील से बने हैं देश को मिले दो जंगी जहाज

आत्मनिर्भर भारत मिशन के तहत स्वदेशी तकनीक से बनाए दो युद्धपोत 'सूरत' व 'उदयगिरि' राष्ट्र को समर्पित करने के साथ ही समुद्र में भारत की युद्ध क्षमता और बढ़ गई है। स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड (सेल) ने भारत के स्वदेशी नौसेना युद्धपोतों आईएनएस उदयगिरि और आईएनएस सूरत के लिए 4300 टन विशेष स्टील की आपूर्ति की है। सेल द्वारा आपूर्ति किए जाने वाले स्टील में डीएमआर 249ए ग्रेड प्लेट्स और एचआर शीट्स शामिल हैं। स्टील की पूरी मात्रा सेल के छत्तीसगढ़ के भिलाई स्थित बीएसपी, बोकारो और राउरकेला स्टील प्लांट्स से सप्लाई की गई है। 1) यह भी पढ़ें : डेंगू से बचना है तो हर सप्ताह कूलर का पानी करें पूरा खाली बता दें कि मोदी सरकार में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को मुंबई के मझगांव डॉक में दोनों युद्धपोतों को देश को समर्पित किया। दोनों ही युद्धपोतों की डिजाइन नौसेना के नेवल डिजाइन निदेशालय ने तैयार की है। आईएनएस उदयगिरि: आंध्रप्रदेश की एक पर्वतमाला के नाम पर 'उदयगिरि' प्रोजेक्ट 17ए फ्रिगेट का तीसरा जहाज है। यह लिएंडर क्लास एएसडब्ल्यू फ्रिगेट का नया अवतार है। बेहतर स्टील्थ फीचर्स, उन्नत हथियार, सेंसर, प्लेटफॉर्म मैनेजमेंट सिस्टम हैं। 2) यह भी पढ़ें : रूरल इंडस्ट्रियल पार्क में तब्दील हुआ 'वृंदावन' आईएनएस सूरत: यह प्रोजेक्ट 15बी डिस्ट्रॉयर का चौथा जहाज है। इसे ब्लॉक निर्माण पद्धति का उपयोग करके बनाया गया है। यह प्रोजेक्ट 17ए फ्रिगेट के तहत बनाया युद्धपोत है। उन्नत हथियारों, सेंसर और प्लेटफॉर्म मैनेजमेंट सिस्टम से लैस है। बता दें कि सेल ने इससे पहले भी आईएनएस विक्रांत, आईएनएस कमोर्टा सहित भारत की विभिन्न रक्षा परियोजनाओं के लिए विशेष गुणवत्ता वाले स्टील की आपूर्ति की है। 3) यह भी पढ़ें : कृषि में गोमूत्र के उपयोग को लेकर छत्तीसगढ़ में हो रही पहल

पत्रिका 17 May 2022 11:57 pm

Allegation : इस सीएम ने अपनी ही सरकार के विभाग पर लगाया बड़ा आरोप

मिदनापुर में यह बड़ी घोषणा भी मुख्य सचिव को दिया जरूरी निर्देश कोलकाता. जंगलमहल दौरे के पहले दिन मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मंगलवार को बड़ा आरोप लगाया तथा बड़ी घोषणा की। उन्होंने अपनी ही सरकार के लोक निर्माण विभाग (पीडब्ल्यूडी) पर काम नहीं करने और परियोजना का बजट बढ़ाने का आरोप लगाया। उन्होंने मिदनापुर में साइकिल बनाने का कारखाना स्थापित करने की घोषणा की। उन्होंने मुख्य सचिव एचके द्विवेदी को मनरेगा परियोजना के तहत काम करने वालों को पैसे देने के लिए संकट प्रबंधन कोष बनाने का निर्देश दिया और स्वास्थ्य साथी कार्डधारियों के इलाज नहीं करने वाले प्राइवेट अस्पतालों के लाइसेंस रद्द करने की फिर चेतावनी दी। -- बड़ी संख्या में लोगों को रोजगार मिदनापुर में प्रशासनिक बैठक के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि मिदनापुर में साइकिल कारखाना लगाया जाएगा। इसके लिए विद्यासागर औद्योगिक पार्क में जगह दी जा रही है। इसमें बड़ी संख्या में लोगों को रोजगार मिलेगा। उन्होंने कहा कि सबूज साथी योजना के तहत राज्य सरकार प्रत्येक वर्ष 10 हजार छात्र-छात्राओं को साइकिल देती है। इसके लिए हमें बाहर से साइकिल और इसके कल-पूर्जे मंगवाने पड़ते है। मुख्यमंत्री ने 66 परियोजनाओं का शिलान्यास और 123 परियोजनाओं का आभाषीय उद्घघाटन किया। ---- पीडब्ल्यूडी पर गुस्सा जाहिर पीडब्ल्यूडी पर गुस्सा जाहिर करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि सब काम पीडब्ल्यूडी से कराने की जरूरत नहीं है। ये विभाग कोई काम नहीं करता और हर परियोजना बजट तीन गुना से अधिक बढ़ा देता है। पीडब्ल्यूडी पहले अगर किसी एक योजना के लिए पांच रुपए का बजट बनाता है तो बाद में उसे बढ़ाकर 15 रुपए कर देता है। -- संकट प्रबंधन कोष बनाने का निर्देश केन्द्र पर कटाक्ष करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि चार महीने से मनरेगा योजना के कर्मियों को पैसे नहीं मिले हैं, क्योंकि केंद्र पैसे नहीं दे रहा है। इससे गरीब लोग परेशानी में हैं। ममता ने मुख्य सचिव को संकट प्रबंधन कोष और इसके लिए एक कमेटी बनाने को कहा है, जिससे 100 दिन गारंटी योजना के तहत काम करने वालों के पैसे मिलने में कोई परेशानी नहीं हो।

पत्रिका 17 May 2022 11:56 pm

अभिषेक व उनकी पत्नी को सुप्रीम राहत

कोलकाता. सुप्रीम कोर्ट ने डायमंड हार्बर के सांसद और ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी और उनकी पत्नी रुजिरा को राहत देते हुए प्रवर्तन निदेशालय को आदेश दिया कि दोनों से कोयला घोटाले से संबंधित मनी लांड्रिग के मामले की पूछताछ दिल्ली की जगह कोलकाता में की जाए। इसके साथ ही राज्य सरकार को आदेश दिया कि वह ईडी अधिकारियों को पूरी सुरक्षा प्रदान करे, जांच एजेंसी के काम में राज्य मशीनरी किसी तरह की रुकावट नहीं डाले। दखल देने का प्रयास नहीं करे। इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली की एक अदालत की ओर से रुजिरा बनर्जी के खिलाफ जारी किए गए गैर जमानती वारंट पर भी रोक लगा दी है। ----- पूछताछ से 24 घंटे पहले समन न्यायाधीश यूयू ललित के नेतृत्व वाली तीन सदस्यीय पीठ ने आदेश दिया कि ईडी को अभिषेक बनर्जी व रुजिरा को पूछताछ के लिए 24 घंटे पहले समन देना होगा। --- उल्लंघन हो सुप्रीम कोर्ट आए ईडी पीठ ने कहा कि अगर प्रवर्तन निदेशालय की जांच में राज्य सरकार किसी भी तरह की रुकावट डालती है तो जांच एजेंसी को सुप्रीम कोर्ट की अवकाश पीठ से संपर्क करने की स्वतंत्रता दी है। इसके साथ ही राज्य सरकार की मशीनरी को ईडी की जांच टीम के किसी सदस्य के खिलाफ किसी भी दंडात्मक कार्रवाई से पहले सुप्रीम कोर्ट की अनुमति लेनी होगी। ------ राज्य ने दिया पूर्ण सहायता का बयान इस मामले में राज्य सरकार ने ईडी की जांच टीम को पूर्ण सहायता का वायदा किया है। अदालत में राज्य सरकार ने कहा कि जांच टीम को पूछताछ के लिए ईडी की टीम को पूर्ण सहायता दी जाएगी। राज्य ने कहा कि ईडी टीम के काम में बाधा डालने की आशंका पूरी तरह से गलत है।

पत्रिका 17 May 2022 11:55 pm

सरिस्का की शान बाघ: मरे या हो लापता जांच अधिकारियों का नहीं वास्ता

अलवर. सरिस्का की शान है बाघ, लेकिन वह मरे या लापता हो, जांच का जिम्मा उठा रहे अधिकारियों को उनसे कोई वास्ता नहीं। यही कारण है कि जयपुर से 150 किलोमीटर दूर सरिस्का बाघ परियोजना में बाघों की जांच करने अधिकारी नहीं आते। बाघों के दो मामलों में राज्य सरकार ने एसीएस एवं वन विभाग के उच्च अधिकारियों को जांच का जिम्मा सौंपा, लेकिन एक में भी अधिकारी जांच के लिए जयपुर से उठकर सरिस्का नहीं आए।सरिस्का बाघ परियोजना में रणथंभौर से लाए बाघ एसटी- 16 की ट्रंक्यूलाइज के दौरान हीट स्ट्रोक से मौत हो गई थी। मामले की जांच राज्य सरकार ने तत्कालीन अतिरिक्त मुख्य सचिव स्तर के अधिकारी को सौँपी। बाघ एसटी- 16 की मौत का मामला प्रदेश ही नहीं देश भर में खूब चर्चित हुआ, लेकिन जांच के लिए नियुक्त एसीएस स्तर के अधिकारी एक बार भी बाघ की मौत का मौका मुआवना तथा गवाहों के बयान लेने सरिस्का नहीं आए। कुछ महीनों बाद वरिष्ठ आइएएस अधिकारी ने जयपुर में बैठकर ही बाघ एसटी-16 की मौत की जांच पूरी कर रिपोर्ट राज्य सरकार को सौंप दी। इतना ही नहीं राज्य सरकार ने वरिष्ठ आइएएस अधिकारी की जांच रिपोर्ट प्राप्त कर बाघ के मौत के मामले में इतिश्री कर ली। अब बाघ एसटी-13 के गुम होने की करनी है जांच सरिस्का में करीब चार महीने पहले बाघ एसटी-13 लापता हो गया था। सरिस्का प्रशासन ने तीन महीने बाघ की सभी एंगलों से खूब तलाश की, लेकिन बाघ का पता नहीं चल सका। राष्ट्रीय बाघ संरक्षण प्राधिकरण एनटीसीए के प्रोटोकॉल के अनुसार 90 दिन बाद बाघ को लापता मान लिया गया। बाद में राज्य सरकार ने बाघ एसटी-13 के गुम होने के मामले की जांच के लिए तीन सदस्यीय कमेटी का गठन किया। यह कमेटी भी अभी तक बाघ एसटी-13 के लापता होने के कारणों की जांच के लिए सरिस्का नहीं पहुंची है। बाघ एसटी- 13 के लापता होने की तथ्यात्मक रिपोर्ट देनी है कमेटी को सरिस्का बाघ परियोजना में बाघ एसटी-13 के लापता होने के मामले की तथ्यात्मक रिपोर्ट तैयार करने के लिए राज्य सरकार ने तीन सदस्यीय कमेटी का गठन किया है। इस कमेटी में राज्य के पर्यावरण सचिव पीके उपाध्याय, प्रधान मुख्य वन संरक्षक वन सुरक्षा उदयशंकर तथा सीसीएफ वाइल्ड लाइफ पी काथिरवैल को शामिल किया गया है। इस कमेटी को सरिस्का में बाघ एसटी-13 के लापता होने के मामले के तथ्यों की जानकारी कर रिपोर्ट एक माह में राज्य सरकार को देनी है। जबकि इस उच्च स्तरीय कमेटी को गठित हुए करीब 20 दिन का समय बीत चुका है। सरिस्का प्रशासन की रिपोर्ट से चला लेते हैं काम बाघ की मौत या लापता होने के मामले में सरिस्का प्रशासन को विभाग के उच्च अधिकारियों को तथ्यात्मक रिपोर्ट भेजनी होती है। सरिस्का प्रशासन की ओर भेजी गई रिपोर्ट के आधार पर जयपुर में वरिष्ठ अधिकारी रिपोर्ट तैयार कर सरकार को सौंप अपना काम पूरा कर लेते हैं।

पत्रिका 17 May 2022 11:54 pm

कर्नाटक को हराकर ओडिशा की टीम ने जीता खिताब

भोपाल. मेजर ध्यानचंद हॉकी स्टेडियम में आयोजित 12वीं हॉकी इंडिया सीनियर महिला हॉकी चैंपियनिशप हॉकी एसोसिएशन ऑफ ओडिशा की टीम ने जीती। उसने फाइनल में हॉकी कनार्टक को 2-0 से पराजित किया। पहले और दूसरे हॉफ में दोनों टीमें गोल नहीं कर सकी। तीसरे हाफ में ओडिशा के लिए पूनम बारला ने 34वें और अंतिम हाफ में अशीम कंचन बारला ने 59वें मिनट में गोल दागे। दोनों टीमों की शुरुआत अच्छी रही और गोल करने के कई मौके बनाए। दोनों का डिफेंस भी बेहतरीन था, जिसकी वजह से हाफटाइम तक स्कोर गोलरहित बराबरी रहा। पूनम ने तीसरे क्वार्टर में पहला गोल कर ओडिशा को 1-0 की बढ़त दिलाई। इसके बाद अशीम ने दूसरा गोल किया।पुरस्कार वितरण विशेष अतिथि हॉकी इंडिया के अध्यक्ष ज्ञानेद्रो निगमबोम्ब, मप्र क्रिकेट एसोसिएशन के चेयरमैन अभिलाष खांडेकर और मुख्य अतिथि डीजी लोकायुक्त राजीव टंडन ने संचालक खेल एवं युवा कल्याण रवि कुमार गुप्ता की उपस्थिति में किया। वहीं तीसरे स्थान के मुकाबले में झारखंड ने हरियाणा को 3-2 से हराया। दीप्ति टोप्पो, अलबेला रानी टोप्पो और बेटन डुंगडुंग ने झारखंड के किए गोल किए। हरियाणा की अमनदीप कौर और भारती सरोहा ने गोल दागे। राष्ट्रीय केनो स्प्रिंट: पहले दिन मप्र टीम ने जीते छह पदक भोपाल. छोटा तालाब में देश भर के खिलाडि़यों के बीच लहरों को चीरकर पदक जीतने की होड़ शुरू हो गई है।यहां आयोजित 32वीं राष्ट्रीय केनो स्प्रिंट सब जूनियर प्रतियोगिता के पहले दिन मप्र ने छह पदक जीते हैं। इसमें तीन स्वर्ण, दो रजत व एक कांस्य शामिल हैं। 500 मीटर बालक वर्ग में मप्र ने एक स्वर्ण, एक रजत व एक कांस्य पदक जीता। वहीं बालिका वर्ग में मप्र ने दो स्वर्ण व एक रजत पदक प्राप्त किया है। इस प्रतियोगिता में 1150 खिलाड़ी भाग ले रहे हैं। अनुशासनहीनता के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही करेंगे: बीडीसीए अध्यक्ष भोपाल. भोपाल संभाग क्रिकेट संघ के अध्यक्ष ध्रुव नारायण सिंह ने कहा कि भोपाल संभाग क्रिकेट संघ की टीमों के हर वर्ग के खिलाडिय़ों में बढ़ रही अनुशासन की कमी पर विशेष ध्यान दिया जाएगा। अधिकतर खिलाडिय़ों में अनुशासन की बहुत कमी देखने को मिली, जो एक चिंता का विषय है।इसके लिए अकादमी को लेटर जारी किए जा रहे हैं कि जिसमें सभी खिलाडिय़ों को अनुशासन में रहने की सलाह दी जाए।

पत्रिका 17 May 2022 11:49 pm

सड़क सुरक्षा पर सीएम योगी की बड़ी बैठक, सर्किल, तहसील स्तर के अधिकारी भी होंगे शामिल

सड़क दुर्घटनाओं को सुरक्षा के रोकने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार (18 मई) को बड़ी बैठक करने जा रहे हैं । जल्द शुरू होने जा रहे प्रदेशव्यापी वृहद अभियान की कार्ययोजना पर विमर्श के लिए हो रही । इस बैठक में दर्जन भर विभागों के वरिष्ठ अधिकारियों और जिला प्रशासन के अधिकारियों के साथ-साथ सर्किल स्तर तक के पुलिस अधिकारियों, डिप्टी कलेक्टरों, नगर आयुक्तों, नगर पालिकाओं के अधिशासी अधिकारियों की भी वर्चुअल उपस्थिति होगी । बैठक में सड़क दुर्घटनाओं को रोकने के लिए अन्तर्विभागीय समन्वय के साथ वृहद अभियान पर चर्चा होगी । इसे भी पढ़े: योगी सरकार की पहल : यूपी में फूड फॉरेस्ट से सुधरेगी किसानों और पर्यावरण की सेहत,जानिए कैसे बीते दिनों सीएम योगी ने कहा था कि सड़क सुरक्षा के विभिन्न घटकों जैसे रोड इंजीनियरिंग, प्रवर्तन कार्य, ट्रामा केयर और जनजागरूकता के सम्बंध में विशेष प्रयास की जरूरत है । उन्होंने कहा था को ट्रैफिक नियमों के पालन का संस्कार बच्चों को शुरुआत से ही दी जानी चाहिए । ऐसे में यातायात नियमों के संबंध में प्रधानाचार्यों,प्राचार्यों,विश्वविद्यालय के प्रतिनिधियों का प्रशिक्षण कराया जाए । यही नहीं, अभिभावकों के साथ भी विद्यालयों में बैठक होने चाहिए । इसे भी पढ़े: यूपी के 25 जनपदों में आपदा मित्र एवं आपदा सखी योजना को दिया जाएगा विस्तार इसे भी पढ़े: यूपी में वकील ने महिला पुलिसकर्मी को एसिड अटैक की दी धमकी इसे भी पढ़े: प्रदेश में ट्रैक, टेस्ट, ट्रीट और टीकाकरण की नीति के सफल: मुख्यमंत्री इसे भी पढ़े:निर्यात में यूपी ने दर्ज कराई उपलब्धि, 30 प्रतिशत की हुई वृद्धि

पत्रिका 17 May 2022 11:47 pm

Sirohi : नाबालिग बहला-फुसला कर भगा ले गया युवक, बंधक बनाकर किया देहशोषण

आबूरोड. सदर पुलिस ने थाना क्षेत्र की एक नाबालिग किशोरी के साथ छह-सात माह पूर्व एक आरोपी के बहला फुसलाकर भगाकर ले जाने व पंद्रह दिन तक बंधक बनाकर देह शोषण करने का मामला दर्ज किया है। पुलिस के अनुसार पीडि़ता की मां ने सोमवार को रिपोर्ट दर्ज करवाई कि करीब छह-सात माह पूर्व वेलांगरी फली मुदरला निवासी पर्वत पुत्र शंकर ने उसकी नाबालिग पुत्री के साथ बलात्कार करने की नियत से मोटरसाइकिल पर बहला फुसला कर भगा ले गया। करीब पंद्रह दिन तक बंधक उसके साथ बलात्कार कर उसका देहशोषण किया। पुलिस ने पोक्सो के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। दो बाइकों की टक्कर में तीन घायल आबूरोड. माउंट रोड पर तलहटी के पास दो बाइकों की टक्कर में तीन जने घायल हो गए। सदर पुलिस ने एक बाइक चालक के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस के अनुसार माउंट आबू के आदर्श कॉलोनी निवासी कैलाश पुत्र हीरालाल राणा ने रिपोर्ट दर्ज करवाई कि गत 2 मई को माउंट आबू तलहटी मार्ग पर वह अपने पिता हीरालाल राणा व लक्ष्मी देवी के साथ बाइक पर जा रहा था। तभी एक बाइक ने उसे टक्कर मार दी। जिससे तीनों को चोटें आई। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। यार्ड रिमॉडलिंग कार्य के कारण रेल यातायात रहेगा प्रभावित आबूरोड. रेलवे की ओर से उत्तर पूर्व रेलवे के लखनऊ मंडल के गोंडा स्टेशन पर यार्ड रिमॉडलिंग कार्य के कारण नॉन इंटरलॉकिंग ब्लॉक लिया जा रहा है। इसके चलते आबूरोड स्टेशन से गुजरने वाली रेलसेवाएं प्रभावित रहेगी। वरिष्ठ मंडल जन सम्पर्क निरीक्षक अशोक चौहान के अनुसार मुजफ्फरपुर-अहमदाबाद रेलसेवा 02 जून को, अहमदाबाद-मुजफ्फरपुर रेलसेवा 4 जून को रद्द रहेगी। वहीं 21 मई, 26 मई, 28 मई, 2 जून व 4 जून को अहमदाबाद से प्रस्थान करने वाली अहमदाबाद-गोरखपुर रेलसेवा परिवर्तित मार्ग होकर वाया ऐशबाग होकर गोमती नगर (लखनऊ) स्टेशन तक संचालित होगी। वहीं 23 मई, 28 मई, 30 मई, 4 जून, 6 जून को गोरखपुर-अहमदाबाद रेलसेवा गोरखपुर के स्थान पर गोमतीनगर (लखनऊ) स्टेशन से प्रस्थान करेगी। साथ ही परिवर्तित मार्ग वाया ऐशबाग होकर संचालित होगी।

पत्रिका 17 May 2022 11:47 pm

blood of relationships in bhilwara अपनों की जान लेने तक में नहीं चूक रहे

blood of relationships in bhilwara तिलकनगर में ज्योति व्यास की हत्या ने दरकते रिश्तों की पोल खोल दी। लालच, बदला और शक ने रिश्तों में खटास पैदा की। इसका नतीजा यह निकला अपनों को ही मौत के घाट उतार दिया गया।पिछले छह साल में जिले में बाइस रिश्तेदारों की हत्या की गई। किसी में कारण रंजिश रही तो किसी में शक। जमीन, पैसा और लालच भी प्रमुख वजहों में शामिल है। कई मामलों में अदालत सजा सुना चुकी है।blood of relationships in bhilwara गुस्सा हावी हो रहावर्तमान आर्थिक युग में रिश्ते बिगड़ने के पीछे बड़ा कारण टूटता विश्वास है। अपनों पर ही विश्वास नहीं कर पाते से भाई-भाई का दुश्मन हो रहा। बहन-भाई और माता-पिता के साथ पति-पत्नी में विवाद बढ़ रहा। कुछ सालों में जिले में हुई घटनाओं में यही कारण अपने ही खून के हाथों से लाल होते नजर आए। अधिकतर हत्या में कोई खास कारण नहीं है। सभी हत्याएं मामूली विवाद और नशापान के कारण घटी है। नशा और आवेश भी रिश्तों को तोड़ने की बड़ी वजह बन रहा है। नशे के बाद आदि में अपने पर नियंत्रण नहीं रख पाता है। आवेश में आकर हत्या संगीन अपराध कर देता है। इसकी पश्चात उसे सलाखों के पीछे पहुंचने के बाद होता है। सोशल मीडिया ने बढ़ाई आक्रामकताआपस में विश्वास और प्रेम की कमी रिश्तों की डोर तोड़ रही है। परिवार, देश और समाज को एक बनाने के लिए सबसे बड़ी जरूरत विश्वास होती है। यहीं कायम नहीं रहे तो रिश्ते टूटते है। भले संगीन घटनाओं पर जाकर क्यों ना थमे। सोशल मीडिया भी आक्रामकता बढ़ा रहा है। लगातार सोशल मीडिया पर रहने से बच्चे हो या बड़े, अग्रेसिव हो जाते हैं। शिक्षा केवल कमाने तक सीमित कर रही है। पैसा कमाने के लिए जब घर से बाहर निकलते हैं तो कई बार असफलता भी मिलती है। असफलता को कैसे फेस क्या जाए, यह बात ना शिक्षा सीखाती है और ना ही परिवार। अब बुजुर्ग तक साथ नहीं रहते। ऐसे में व्यवहारिक शिक्षा ना होना भी इसका भी कारण है। .....केस-01 वर्ष-2021 में हमीरगढ़ क्षेत्र के कीरों की झोपडि़या में भतीजे देवीलाल कीर ने अपने काका नारू कीर और काकी कंकू कीर की धारदार हथियार से वार कर जान ले ली। आरोपी अपने पिता की संदिग्ध मौत का कारण काका और काकी को मानता था। दोनों को शंका के आधार पर मौत के घाट उतार दिया। केस-02 भीलवाड़ा गायत्रीनगर में पति से मनमुटाव के चलते बड़ी बहन के घर रह रही चंदा की उसके पति गाजूना (करेड़ा) कन्हैयालाल उर्फ किशनलाल बलाई ने चाकू से वार कर हत्या कर दी। बचाने आई मंजू भी घायल हुई। पांच साल पुराने मामले में हाल ही में किशनलाल को कोर्ट ने उम्रकैद की सजा सुनाई। - सुमन त्रिवेदी, पूर्व अध्यक्ष, बाल कल्याण समिति, सदस्य, स्थाई लोक अदालत

पत्रिका 17 May 2022 11:17 pm

Durg जिला में 1692 लोगों का किए बीपी स्क्रीनिंग

भिलाई. विश्व उच्च रक्तचाप दिवस पर जिला में कुल 1692 लोगों की ब्लड प्रेशर स्क्रीनिंग की गई। इस दौरान लोगों को तनाव मुक्त रहने के लिए जागरूक भी किया गया। दुर्ग अस्पताल में ही हर माह बीपी के करीब 400 से अधिक नए मरीज आ रहे हैं। इससे साफ है कि मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। 20 फीसदी मिले बीपी से प्रभावित जिला अस्पताल, दुर्ग में 111 लोगों का बीपी जांच किया गया। जिसमें से करीब 20 फीसदी लोगों में बीपी की शिकायत मिली। सिविल सर्जन डॉक्टर योगेश कुमार शर्मा ने मौके पर पहुंचकर व्यवस्था का जायजा लिया। सिविल हॉस्पिटल, सुपेला में 72 लोगों का बीपी जांच किए। यहां प्रभारी डॉक्टर पीयाम सिंह ने लोगों को बीपी से बचाव का तरीका बताया। भिलाई-3 पीएचसी में भी बीपी जांच किया गया। इस दौरान ब्लॉक ऑफिसर डॉक्टर आशीष शर्मा व स्वास्थ्य सुपरवाइजर सैयद असलम ने लोगों को जागरूक किया। चिकित्सक ने लोगों से खानपास में खास ध्यान देने कहा है। पांच साल से अस्पतालों में खोल रहे हैं ओआरएस सेंटर सिविल हॉस्पिटल, सुपेला में नया ओआरएस सेंटर शुरू किया गया है। शास्त्री अस्पताल के प्रभारी डॉक्टर पीयाम सिंह ने इस सेंटर का लोकार्पण किया। इस दौरान उन्होंने इसके उपयोग को लेकर मौजूद मरीजों व लोगों को विधि भी बताई। अतुल शुक्ला ने बताया कि ओआरएस सेंटर वे पिछले पांच साल से अलग-अलग अस्पतालों में खोल रहे हैं। जिला के पीएचसी, सीएचसी वगैरह में हर साल शुरू करते हैं। जिसमें एक ओआरएस मिला हुआ पानी होता है। एक बिना ओआरएस का पानी। जिससे जरूरत के मुताबिक लोग ओआरएस घोल सकते हैं। गिलास, चम्मच व ओआरएस भी यहां रखा गया है।

पत्रिका 17 May 2022 11:16 pm

आ​खिर क्याें हाइपर टेंशन का ​शिकार हो रहे युवा, जानिए क्यों कहते हैं इसे साइलेंट किलर

उज्जैन. किडनी फेल होने के कारण शहर के करीब 35 वर्षीय एक युवक को सोमवार को अस्पताल में भर्ती किया गया है। युवक बीपी-हायपर टेंशन से पीडि़त था लेकिन उसे इस साइलेंट कीलर का पता चलता, इससे पहले यह घातक बीमारी अपना काम कर चुकी थी। सिर्फ एक ही मामला ऐसा नहीं है, हाइपर टेंशन बड़ों के साथ रोज कई युवाओं को अपना शिकार बना रही है जिसके अलग-अलग परिणाम सामने आ रहे हैं। मंगलवार को विश्व हायपर टेंशन दिवस है। इस दिन को मनाने का उद्देश्य से लोगों को में इसके प्रति जागरुकता फैलाना है लेकिन चिंता की बात है कि अभी भी कई लोग इसको लेकर गंभीर नही है। स्थिति यह है कि हाइपर टेंशन की जो समस्या पहले अमूमन 45 वर्ष की उम्र से अधिक के लोगों में पाई जाती थी, वह अब 25-30 साल के युवाओं में मिलने लगी है। युवाओं में बढ़ रही इस बीमारी का प्रमुख कारण अव्यवस्थित जीवनशैली है। विशेषज्ञ इस स्थिति को काफी गंभीर मान रहे हैं। वल्र्ड हायपर टेंशन डे के अवसर पर पत्रिका ने वरिष्ठ हृदय रोग विशेषज्ञ प्रो. डॉ. विजय गर्ग से चर्चा की और जाने इसके कारण, लक्षण व बचाव के तरीके। हर पाचवां व्यक्ति शिकार, इसमें 25 फीसदी युवा डॉ. विजय गर्ग ने बताया कि हायपर टेंशन हृदय को नुकसान पहुंचाने वाला शरीर में छीपा ऐसा छुरा होता है जिसकी जानकारी 80 फीसदी मरीजों को नहीं होती है। विशेषकर अधिकंाश पीडि़त युवाओं को तब पता चलता है जब हृदयघात, ब्रेन स्ट्रोक या अन्य कोई घातक परिणाम सामने आ जाते हैं। डॉ. गर्ग ने बताया कि हर पांचवा व्यक्ति रक्तचाप-हायपर टेंशन से पीडि़त है और इन मरीजों में से 25 फीसदी युवा हैं। इस बीमारी से पीडि़त युवाओं की संख्या तेजी से बढ़ रही है। इसका मुख्य कारण खराब जीवनशैली है। युवा किसी भी स्थिति में खुश रहना नहीं चाहते, जिसके कारण तनाव बढ़ता है। इस पर भी अनियमित खानपान, अव्यवस्थित दिनचर्या, शराब-सीगरेट का सेवन आदि इस खतरे को और बढ़ा देते हैं। इसलिए स्वास्थ्य की नियमित जांच करवाएं। बीपी की समस्या के कारण सिर्फ हृदय ही नहीं ब्रेन, कीडनी आदि आर्गेन भी डेमेज हो सकते हैं। इसलिए यदि किसी को बीपी की समस्या है तो वह बीपी के साथ शुगर, कीडनी आदि की भी समय-समय पर जांच जरूर करवाएं। क्या है हाइपर टेंशन हाइपरटेंशन यानी हाई ब्लड प्रेशर (उच्च रक्तचाप)। यह एक खतरनाक बीमारी है। दरअसल, यह एक ऐसी स्थिति है, जिसमें धमनियों में रक्त का दबाव काफी बढ़ जाता है और इसके कारण रक्त की धमनियों में रक्त का प्रवाह बनाए रखने के लिए हृदय को सामान्य से अधिक काम करने की जरूरत पड़ती है। विशेषज्ञ कहते हैं कि हार्ट अटैक यानी दिल का दौरा पडऩे की बड़ी वजह हाइपरटेंशन ही होती है। इसके अलावा इससे मस्तिष्क, किडनी और अन्य बीमारियों का खतरा भी बढ़ सकता है। विश्व स्वास्थ्य संगठन का कहना है कि यह दुनियाभर में समय से पहले मौत का एक प्रमुख कारण है। यह है लक्षण, नजर अंदाज न करें - सिर दर्द - सिर चकराना - थकान और सुस्ती लगना - दिल की धड़कन बढ़ जाना - सीने में दर्द - सांस तेज चलना या सांस लेने में तकलीफ - धुंधला दिखना यह है प्रमुख कारण - तनाव। - व्यायाम नहीं करना। - अनियंत्रित खानपान। - तेलीय पदार्थ का अधिक सेवन। - खाने में नमक का अधिक उपयोग। - मोटापा - नींद की कमी। साइलेंट कीलर से ऐसे बचे - नियमित व्यायाम करें। - दिनचर्या को व्यवस्थित बनाएं। - पौष्टीक भोजन लें। - खुश रहे, चिंता-तनाव से दूर रहें। - फल, सब्जियां और अंकुरित अनाज लें। - पर्याप्त निंद लें। - शराब और धूम्रपान छोड़ें - प्रत्येक 5 वर्ष में स्वास्थ्य परीक्षण करवाएं। 30 वर्ष की उम्र के बाद हर साल जांच करवाएं। - बीपी की सस्या होने पर बीपी के साथ, शुगर, कीडनी आदि की भी जांच करवाएं।

पत्रिका 17 May 2022 11:14 pm

दंगे फैला सकते हैं आरआरएस प्रमुख मोहन भागवत : ममता बनर्जी

कोलकाता . मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने RRS chief Mohan Bhagwat पर दंगा फैलाने की आशंका जाहिर करते हुए पुलिस को सतर्क रहने को कहा है। उन्होंने पुलिस को आरएसएस प्रमुख के साथ अतिथि की तरह व्यवहार करने का भी निर्देश दिया। उल्लेखनीय है कि संघ प्रमुख 17 से 20 मई तक पश्चिम मिदनापुर जिले के केसियारी थाना इलाके में रहेंगे। पुलिस कड़ी नजर रखें पश्चिम मिदनापुर में मंगलवार को प्रशासनिक बैठक के दौरान मुख्यमंत्री ने आरएसएस के खिलाफ कड़ा रूख अखतियार करते हुए पुलिस को इलाके में RRS chief Mohan Bhagwat की गतिविधियों पर पैनी नजर रखने का निर्देश दिया है। उन्होंने केसियारी थाना प्रभारी को खड़ा कराकर कहा कि आरएसएस प्रमुख तीन दिन इस इलाके में आ रहे हैं। वे क्या करने आ रहे हैं, इस पर पुलिस को कड़ी नजर रखनी होगी। उसे यह सुनिश्चित करना होगा कि भागवत कहीं दंगा नहीं फैला सकें। लगे हाथ मुख्यमंत्री ने पुलिस से यह भी कहा कि भागवत के आने पर उनके साथ अतिथि की तरह व्यवहार करना होगा। ट्रेनों की सुरक्षा पर फोकस करें ममता ने क्षेत्र के सभी थानेदारों से उनके इलाके की समस्याओं के बारे में जानकारी ली और उन्हें सतर्क रहने का निर्देश दिया। इस दौरान उन्होंने पुलिस को ट्रेनों की सुरक्षा और माओवादियों की गतिविधियों पर कड़ी नजर रखने का भी निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि माओवादी गोली मार कर भाग जाते हैं और आरपीएफ कुछ नहीं करता है। इसलिए पुलिस को ट्रेनों की सुरक्षा पर भी विशेष नजर रखनी होगी। --------------------------------------- पीडब्ल्यूडी कोई काम नहीं करता केवल बजट बढाता है : ममता मिदनापुर में साइकिल कारखाना लगेगा - सीएस संकट प्रबंधन कोष बनाएं कोलकाता । जंगलमहल दौरे के पहले दिन मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मंगलवार को मिदनापुर में साइकिल बनाने का कारखाना स्थापित करने की घोषणा की। उन्होंने अपनी ही सरकार के लोक निर्माण विभाग (पीडब्ल्यूडी) पर काम नहीं करने और परियोजना का बजट बढाने बनाने का आरोप लगाया। उन्होंने मुख्य सचिव एचके द्विवेदी को मनरेगा परियोजना के तहत काम करने वालों को पैसे देने के लिए संकट प्रबंधन कोष बनाने का निर्देश दिया और स्वास्थ्य साथी कार्डधारियों के इलाज नहीं करने वाले प्राइवेट अस्पतालों के लाइसेंस रद्द करने की फिर चेतावनी दी। बड़ी संख्या में लोगों को रोजगार मिदनापुर में प्रशासनिक बैठक के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि मिदनापुर में साइकिल कारखाना लगाया जाएगा। इसके लिए विद्यासागर औद्योगिक पार्क में जगह दी जा रही है। इसमें बड़ी संख्या में लोगों को रोजगार मिलेगा। उन्होंने कहा कि सबूज साथी योजना के तहत राज्य सरकार प्रत्येक वर्ष 10 हजार छात्र-छात्राओं को साइकिल देती है। इसके लिए हमे बाहर से साइकिल और इसके कल-पूर्जे मंगवाने पड़ते हैं। मुख्यमंत्री ने 66 परियोजनाओं का शिलान्यास और 123 परियोजनाओं का आभाषीय उदघाटन किया। ---- पीडब्ल्यूडी पर गुस्सा जाहिर पीडब्ल्यूडी पर गुस्सा जाहिर करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि सब काम पीडब्ल्यूडी से कराने की जरूरत नहीं है। ये विभाग कोई काम नहीं करता और हर परियोजना बजट तीन गुना से अधिक बढ़ा देता है। पीडब्ल्यूडी पहले अगर किसी एक योजना के लिए पांच रुपए का बजट बनाता है तो बाद में उसे बढ़ाकर 15 रुपए कर देता है। ---- - संकट प्रबंधन कोष बनाने का निर्देश केन्द्र पर कटाक्ष करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि चार महीने से मनरेगा योजना के कर्मियों को पैसे नहीं मिले हैं, क्योंकि केंद्र पैसे नहीं दे रहा है। इससे गरीब लोग परेशानी में हैं। ममता ने मुख्य सचिव को संकट प्रबंधन कोष और इसके लिए एक कमेटी बनाने को कहा है, जिससे 100 दिन गारंटी योजना के तहत काम करने वालों के पैसे मिलने में कोई परेशानी नहीं हो। --- तलाशी अभियान चलाया जाए ममता बनर्जी ने कहा कि पुलिस को बिहार और झारखंड की सीमा से सटे इलाकों में हथियारों की तस्करी रोकने के लिए तलाशी अभियान चलाना होगा। इन इलाकों में 2000 रुपए में बंदूक मिल जाती है। पुलिस को यह ध्यान रखना होगा कि ट्रेन में हथियारों की तस्करी नही हो पाए नहीं।

पत्रिका 17 May 2022 11:13 pm

शख्स ने पूछा 'क्या 10 हजार रुपये में बना सकते हैं कार' Anand Mahindra ने दिया दिल जीतने वाला जवाब

महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन और देश के प्रमुख उद्योपति आनंद महिंद्रा (Anand Mahindra) सोशल नेटवर्किंग साइट Twitter पर ख़ासे एक्टिव रहते हैं। आनंद आए दिन अपने रोचक पोस्ट से लोगों का दिल जीतते हैं। कभी वो किसी के हुनर की तारीफ करते नज़र आते हैं तो कभी रोचक और फनी पोस्ट से लोगों को हंसाते हैं। आज भी आनंद महिंद्रा ने कुछ ऐसा ही किया, जब एक शख्स ने उनसे ट्वीटर पर पूछ लिया कि, क्या वो 10 हजार रुपये में कार बना सकते हैं। इस सवाल के जवाब में आनंद महिंद्रा ने जो ट्वीट किया वो तेजी से वायरल हो रहा है। दरअसल, यह सब तब शुरू हुआ जब राज श्रीवास्तव नाम के एक ट्विटर यूजर ने महिंद्रा को 10 हजार रुपये से कम कीमत में कार बनाने के लिए कहा। हालांकि यह निस्संदेह स्पष्ट है कि यह एक अनुचित अनुरोध था, लेकिन आनंद महिंद्रा ने अपने ही अंदाज में इस सवाल का जवाब दिया। उन्होनें महिंद्रा थार (Mahindra Thar) के स्केल मॉडल (शोपीस वाली कार) की तस्वीर को साझा करते हुए जवाब दिया कि, हमने और भी बेहतर किया है, इसे हमने 1.5 रुपये से भी कम में बनाया है, ” बता दें कि, महिंद्रा थार के खिलौना मॉडल की तस्वीर जो कि आनंद महिंद्रा के ट्वीट के साथ संलग्न थी वो ऑनलाइन बेची जाती है। क्या आपको भी आनंद महिंद्रा का ये जवाब पसंद आया? यदि ऐसा है तो आप अकेले नहीं है जनाब। आनंद महिंद्रा के इस चुटीले जवाब ने हजारों लोगों को गुदगुदाया है। ख़बर लिखे जाने तक आनंद के इस ट्वीट को तकरीबन 1500 से ज्यादा लाइक्स मिल चुके थें और सैकड़ों लोगों ने इस रीट्वीट भी किया है। आनंद महिंद्रा के इस जवाब को लोग खूब पसंद कर रहे हैं, और लोगों ने इस पर कई तरह की प्रतिक्रियाएं भी दी है। आनंद ट्वीटर पर आए दिन इस तरह के अपने हाजिर जवाब पोस्ट के चलते सुर्खियों में रहते हैं। कुछ दिनों पहले आनंद महिंद्रा एक जुगाड़ जीप का वीडियो साझा करते उसे बनाने वाले शख्स की तारीफ की थी। उन्होनें कबाड़ से बनी इस जुगाड़ जीप के बदले उक्त शख्स को नई महिंद्रा बोलेरो गिफ्ट कर अपने वादे को भी पूरा किया था।

पत्रिका 17 May 2022 11:11 pm

एक बार फिर बंद हुई Hyundai की यह मशहूर फैमिली कार, इस बार वजह कर देगी हैरान

Hyundai Santro discontinued: हुंडई मोटर (Hyundai Motor) ने अपनी सबसे ज्यादा पॉपुलर हैचबैक कार Santro को एक बार फिर बंद करने का फैंसला ले लिया है। यह दूसरी बार है जब कंपनी ने यह फैंसला लिया है और इस बार यह कदम इस कार की गिरती बिक्री के कारण उठाया गया है। देश गाड़ियों की कीमतों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है और Santro भी आम फैमिली से दूर होती जा रही है। अब जिस कीमत कीमत सेंट्रो मिल रही थी उस कीमत में ग्राहकों के पास कई अच्छे ऑप्शन आने लगे। और यही कारण था कि बिक्री में हर महीने गिरावट के चलते Santro को मजबूरन बंद करने का निर्णय लेना पड़ा। बिक्री में लगातार गिरावट बनी सबसे बड़ी वजह पिछले छह महीनों में कार की सिर्फ हर महीने 1500-2000 यूनिट की ही बिक्री हो रही थी जिसके बाद अब कार कंपनी ने इसे बंद करने का फैसला लिया। दिलचस्प बात यह है कि यह हैचबैक एक समय में हुंडई की सबसे ज्यादा बिकने वाली कारों में से एक थी और इसकी कुल बिक्री का लगभग 76 प्रतिशत हिस्सा था। Hyundai Santro की कीमत 4.89 लाख रुपये से लेकर 6.41 लाख रुपये तक है, अभी भी यह कार कंपनी की वेबसाइट पर देखी जा सकती है। लेकिन जल्द ही इसे वेबसाइट से हटा दिया जाएगा इंजन Hyundai Santro में 1.1 लीटर का 4-सिलिंडर पेट्रोल इंजन दिया गया है, जो 69 PS की पावर और 99 Nm टॉर्क जनरेट करता है। इसे अलावा यह कार फैक्ट्री फिटेज CNG किट में भी उतारी गई थी। CNG मोड पर यह कार 59PS की पावर और 99Nm का टॉर्क जनरेट करता है। कार में 5-स्पीड मैन्युअल गियरबॉक्स स्टैंडर्ड दिया गया है। जबकि इसके Magna और Sportz वेरियंट में 5-स्पीड AMT गियरबॉक्स का ऑप्शन भी मिलेगा। CNG वेरियंट में सिर्फ मैन्युअल गियरबॉक्स है। कंपनी का कहना है कि यह इंजन BS-VI मानक वाला है। पेट्रोल इंजन पर यह 20.3 kmpl का माइलेज देगी और CNG पर यह कार 30.5 किमी प्रति किलोग्राम का माइलेज देगी। नई कार की अधिकतम स्पीड 150 किलोमीटर प्रतिघंटा है।

पत्रिका 17 May 2022 11:10 pm

900 छक्के, IPL 2022 में रचा गया इतिहास, बल्लेबाजों ने 15वें सीजन में बनाया ऐतिहासिक रिकॉर्ड

IPL 2022 अब अंतिम चरण में पहुंच चुका है। प्लेऑप में पहुंचने के लिए टीमें जोर लगा रही है। प्लेऑफ में टीमों के पहुंचने का समीकरण भी अब काफी रोमांचक हो गया है। खैर इस बार एक खास रिकॉर्ड भी बन गया है। मुंबई और हैदराबाद के बीच इस सीजन का 65वां मुकाबला खेला गया। इस मुकाबले में हैदराबाद की पारी के दौरान 900वां सिक्स लगा। IPL के इतिहास में किसी एक सीजन में आजतक 900 सिक्स नहीं लगे। पहली बार ये कारनामा हुआ है। IPL में सबसे ज्यादा सिक्स कब लगे? इस साल अभी तक 900 सिक्स लग चुके हैं। लीग में अभी भी कई मुकाबले होंगे। शायद ये आंकड़ा हजार तक जा सकता है। अगर ऐसा होगा तो फिर इतिहास बन जाएगा। खैर साल 2018 के IPL में कुल 872 सिक्स लगे थे। साल 2019 के सीजन में 784 सिक्स लगे थे। साल 2020 के सीजन में 734 सिक्स लगे थे। साल 2012 में 734 सिक्स लगे थे। वैसे इस बार IPL में दस टीमें खेल रही है तो मुकाबले भी ज्यादा है, इस वजह से भी सिक्स ज्यादा लगेंगे। ये भी पढ़ें- 5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़े जोश बटलर नंबर-1 पर कायम राजस्थान टीम के ओपनर बल्लेबाज जोश बटलर अभी तक 13 मुकाबलों में 37 सिक्स जड़ चुके हैं। नंबर-1 की पोजिशन पर वो बने हुए है। दूसरे नंबर पर आंद्रे रसेल हैं। जिन्होंने 13 मुकाबलों में 32 छक्के उड़ाए हैं। तीसरे नंबर पर लियाम लिविंग्स्टोन हैं। उन्होंने भी 13 मुकाबलों में 29 सिक्स लगाए हैं। चौथे नंबर पर कोलकाता के नीतिश राणा है। वो 22 सिक्स लगा चुके हैं। पांचवें नंबर पर केएल राहुल हैं। राहुल ने 21 सिक्स अभी तक लगाए है। ये अंकतालिका अभी आगे-पीछे हो सकती है। इस बार सभी टीमों में पावर हिटर्स की संख्या काफी ज्यादा है। ऐसे में जितने ज्यादा छक्के लग रहे हैं दर्शकों को उतना ही मजा आ रहा है। ये भी पढ़ें- वर्ल्ड क्रिकेट को टेस्ट मैच में 199 और 99 पर आउट होने वाला पहला बल्लेबाज मिला,KL Rahul के क्लब में एंट्री

पत्रिका 17 May 2022 11:08 pm

दैवीय प्रकोप की आशंका... विवाह समारोह के दौरान मद्रास हाईकोट के जस्टिस ने उठाया ये कदम

चेन्नई. मद्रास हाईकोर्ट के इतिहास में पहली बार जस्टिस ने किसी मामले की सुनवाई 'ह्वॉट्सऐप' के जरिए की। दरअसल जस्टिस जीआर स्वामीनाथन रविवार को एक विवाह समारोह में शामिल होने के लिए नागरकोइल गए थे। उन्होंने वहीं से इस मामले की सुनवाई की, जिसमें श्री अभीष्ट वरदराजा स्वामी मंदिर के वंशानुगत न्यासी पीआर श्रीनिवासन ने दलील दी थी कि यदि सोमवार को उनके गांव में प्रस्तावित रथ महोत्सव आयोजित नहीं किया गया तो गांव को 'दैवीय प्रकोप' का सामना करना पड़ेगा। हाईकोर्ट ने अपने आदेश के शुरुआती वाक्य में कहा रिट याचिकाकर्ता की इस उत्कट प्रार्थना की वजह से मुझे नागरकोइल से आपात सुनवाई करनी पड़ी है और 'ह्वॉट्सऐप' के माध्यम से मामले की सुनवाई की जा रही है। इस सत्र में जस्टिस नागरकोइल से मामले की सुनवाई कर रहे थे, याचिकाकर्ता के वकील वी राघवाचारी एक स्थान पर थे और महाधिवक्ता आर षणमुगसुंदरम शहर में दूसरी जगह से इसमें भाग ले रहे थे। यह विषय धर्मपुरी जिले के एक मंदिर से जुड़ा हुआ है। मंदिर महोत्सवों में नियम व शर्तों का पालन हो जस्टिस ने मंदिर के अधिकारियों को निर्देश दिया कि मंदिर के महोत्सवों के आयोजन के दौरान सरकार की ओर से निर्धारित नियम और शर्तों का कड़ाई से पालन किया जाए। साथ ही कहा कि सरकारी विद्युत वितरक कंपनी तांजेडको रथयात्रा शुरू होने से लेकर इसके डेस्टिनेशन पर पहुंचने तक कुछ घंटे के लिए क्षेत्र की बिजली सप्लाई काट देगी। दरअसल तंजावुर के पास पिछले महीने एक मंदिर की रथयात्रा के दौरान हाईटेंशन बिजली के तार के संपर्क में आने से 11 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई थी और 17 अन्य घायल हो गए थे। सरकार की चिंता आम जनता की सुरक्षा जस्टिस ने कहा हिंदू धार्मिक और परमार्थ विभाग से अटैच इंस्पेक्टर को मंदिर प्रशासन व न्यासी को रथयात्रा रोकने का आदेश जारी करने का अधिकार नहीं है। उन्होंने इस आदेश को खारिज कर दिया। इस मामले में महाधिवक्ता ने न्यायाधीश से कहा सरकार को महोत्सव के आयोजन से कोई दिक्कत नहीं है। सरकार की एकमात्र चिंता आम जनता की सुरक्षा की है। उन्होंने कहा सुरक्षा मानकों का पालन नहीं होने की वजह से तंजावुर जिले में हाल ही ऐसी ही एक रथयात्रा में बड़ा हादसा हो गया था। रदरजा पेरुमल मंदिर में श्रृद्धालुओं के दर्शन के लिए व्यवस्था तय की मद्रास उच्च न्यायालय ने मंगलवार को कहा कि कांचीपुरम के वरदरजा पेरुमल मंदिर में पहली दो से तीन कतारों में तेनकलाई पंथ के श्रद्धालुओं को लगने की अनुमति होनी चाहिए और उनके पीछे वडकलाई पंथ और अन्य श्रद्धालुओं को शेष बची जगह में बैठने की अनुमति दी जाए। न्यायमूर्ति एस एम सुब्रमण्यम ने 14 मई की आधी रात को मंदिर के सहायक आयुक्त-अधिशासी न्यासी द्वारा जारी एक नोटिस को चुनौती देने वाली एस नारायणन नामक व्यक्ति की रिट याचिका पर आदेश पारित करते हुए यह निर्देश दिया। नोटिस में तेनकलाई पंथ के लोगों को ही प्रबंधम (तमिल गीतों का संग्रह) गाने की और मंदिर में चल रहे ब्रह्मोत्सवम की रस्मों में शामिल होने की अनुमति दी गई थी। तेनकलाई और वडकलाई वैष्णव पंथ हैं। न्यायाधीश ने कहा तथ्यों और परिस्थितियों पर विचार करते हुए इस अदालत की राय है कि श्रद्धालुओं, अनुयायियों के धार्मिक अधिकारों का संरक्षण करना होगा।

पत्रिका 17 May 2022 11:08 pm

वन्यजीव गणना : झुंझुनूं में 9 पैंथर दिखे

#Panther in jhunjhunu वन्यजीव गणना : उदयपुरवाटी में पांच, खेतड़ी में चार पैंथर दिखे झुंझुनूं@पत्रिका. वैशाख पूर्णिमा पर वन्यजीव गणना सोमवार सुबह 8 बजे शुरू होकर 24 घंटे बाद मंगलवार सुबह 8 बजे समाप्त हो गई। जिले की पांच फाेरेस्ट रेंज खेतड़ी, उदयपुरवाटी, नवलगढ़, चिड़ावा व झुंझुनूं में 70 पॉइंट्स पर 150 वनकर्मियों व 18 ट्रैप कैमरों के जरिए वन्यजीवों की गिनती की। खेतड़ी व उदयपुरवाटी वन क्षेत्रों में लगाए गए ट्रैप कैमरों में पैंथर की साइटिंग भी हुई। कन्जर्वेशन रिजर्व बीड़ झुंझुनूं की वन्यजीव गणना-2022 में पहली बार काले हिरणों का नाम भी शामिल हुआ है। खेतड़ी रेंज में 4 पैंथरखेतड़ी. क्षेत्रीय वन अधिकारी विजय कुमार फगेडि़या तथा वनपाल शाहरुख खान ने बताया कि खेतड़ी फोरेस्ट रेंज में खेतड़ी-बांशियाल क्षेत्र के उसरिया के नीमला जोहड़ में लगाए गए ट्रैप कैमरे में पैंथर की तस्वीरें कैद हुई। वन्यजीव गणना में क्षेत्र में पैंथर 4, सियार 910, जरख 42, जंगली बिल्ली 97, मरु बिल्ली 11, बिल्ली 67, लोमड़ी 249, मरु लोमड़ी 5, भेडिय़ा 2, बिज्जू 68, नीलगाय 1945, चिंकारा 239, जंगली ***** 38, सेही 133, मोर 2113, साण्डा 13, काला तीतर 912 सहित 6851 वन्यजीव गिने गए। मनसा के पहाड़ों से लुप्त हुआ सांडा उदयपुरवाटी पचलंगी . क्षेत्रीय वन अधिकारी उदयपुरवाटी इन्द्रपुरा रणवीर सिंह शेखावत ने बताया कि उदयपुरवाटी रेंज में वन्यजीवों का कुनबा बढ़ा है। उपखंड के वन क्षेत्र में हुई वन्यजीव गणना में मादाओं की संख्या में इजाफा हुआ। मनसा माता, पौंख, खोह, कोट बांध और भोजगढ में रात्रि में पेंथर देखे गए। गणना में पैंथर 5, गीदड़ 60 नर व 141 मादा, जरख नर 10 व मादा 20, भेडि़या 8 नर व 15 मादा, सांभर 4 नर व 10 मादा तथा 150 मोर 283 मोरनियां देखी गई। झुंझुनूं का जिला पक्षी घोषित होने के बाद काले तीतर की संख्या में हर साल इजाफा हो रहा है। सबसे ज्यादा 20 जरख मनसा की पहाडि़यों में दिखे। काला तीतर सबसे अधिक 42 कोट बांध व सबसे कम कृष्ण गोशाला मणकसास व मंडावरा खोह सड़क मार्ग खेली में 2-2 दिखे। बिज्जू 42, सांभर 14, नील गाय 378, गीदड़ 201 व जरख 25 दिखे। मनसा की पहाडि़यों दिखने वाला साण्डा पिछले वर्षों से नहीं दिख रहा है।

पत्रिका 17 May 2022 11:06 pm

अनुराधा सीड्स पर एफआइआर के लिए घमासान

खरगोन/ भीकनगांव. जिले में मिर्च के बीज का अवैध तरीके से करोबार कर रही महाराष्ट्र की बीज कंपनी अनुराधा सीड्स कार्रवाई के लिए किसानों ने अपना विरोध बढ़ा दिया है। बिना बिल और लाइसेंस के बीज बेच रही कंपनी के खिलाफ किसानों ने मंगलवार को हंगामेदार प्रदर्शन किया। भाकिसं के बैनर तले जिला और तहसील के पदाधिकारियों ने भीकनगांव में उद्यानिकी विभाग कार्यालय का घेराव किया। धरना दिया, सुबह साढ़े 11 बजे धरना शुरू हुआ। जिसकी जानकारी मिलते ही विभाग से उप संचालक मोहन मुजाल्दा व एसडीओपी भीकनगांव पहुंचे। किसानों से अलग-अलग दौर की चर्चा हुई, लेकिन किसान कंपनी पर एफआइआर से कम में मानने का तैयार नहीं हुए। ऐसे चल रही बचाव की कोशिश इधर विभाग कंपनी पर कार्रवाई को लेकर उद्यानिकी विभाग बार-बार अपना स्टैंड बदल रहा है। विभाग ने 13 मई पहला और फिर 17 मई को दूसरा आवेदन दिया, इसके बीच 16 मई को कंपनी पर 500 रुपए का जुर्माना लगाकार लीपापोती की कोशिश हुई, लेकिन किसानों को जब जानकारी मिली तो वे और उग्र हो गए। एक दिन पूर्व अधिकारियों ने कंपनी के दस्तावेज को वैध करार दिया था, अब किसानों का विरोध बढ़ता देख उन्होंने एफआइआर के लिए पत्र दिया है। धरना स्थल पर किसान संघ के प्रदेश, जिला और तहसील स्तर के पदाधिकारी शामिल हुए। संघ जिलाध्यक्ष पाटीदार ने बताया कि कंपनी अमानक बीज बेचकर किसानों को ठग रही है। ऐसा लगता है कि अधिकारी कंपनी का पक्ष लेकर बचाने में लगे हंै, इसमें अधिकारियों की भी मिलीभगत हो सकती है। अब किसान चुप बैठने वालों में से नहीं है। इस बात को लेकर उग्र आंदोलन करेंगे। पिछले साल से चल रहा कारोबार किसान संघ से जुड़े सूत्रों के मुताबिक अनुराधा सीड्स कंपनी का संचालन बुलढाणा महाराष्ट्र से होता है। कंपनी के पास महाराष्ट्र में कारोबार का लाइसेंस है, भारत सरकार द्वारा जारी ऑफिस मेमोरेंडम एवं प्लॉट ब्रीडर की अनुमति है। इसी आधार पर कंपनी ने पिछले साल भी निमाड़ क्षेत्र में किसानों को ट्रायल प्लॉट के नाम पर बीज बेचा और जब उत्पादन ठीक हुआ, तो कंपनी ने मप्र में बिना लाइसेंस के निमाड़ में बीज बेचना शुरू कर दिया। यह कारोबार बिना लाइसेंस हो रहा था। जिसका भांडाफोड़ किसानों की सजगता से हुआ। पैसे देकर चुप कराने का काम संघ के संभागीय अध्यक्ष श्याम पंवार ने बताया कि कंपनी के कर्मचारियों द्वारा किसानों को लालच देकर 100-100 ग्राम बीज के बदले एक-एक हजार रुपए लिए। अब रुपए वापस देकर किसानों को चुप कराने की कोशिश हो रही है। इस दौरान प्रदेश उपाध्यक्ष दिनेश पाटीदार, मंत्री मुकेश पटेल, तहसील अध्यक्ष नितेशसिंह सहित श्यामलाल शोभाराम, राजू बाबुलाल, जयनाराण पटेल सभी चिरागपुरा, रामदास नारायण, राधेश्याम सखराम, किरसिंह जोगीलाल, शांतिलाल ओंकार, नारायण धन्नालाल आदि मौजूद थे। विभाग की ओर से लिखित आवेदन प्राप्त हुआ है। कार्रवाई के लिए वरिष्ठ अधिकारियों से मार्गदर्शन मांगा है। पीडि़त किसानों के बयान और जरूरी दस्तावेज मांगे है। जिसके आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। मनोहरसिंह गवली, एसडीओपी

पत्रिका 17 May 2022 11:06 pm

केंट्रा के केबिन में डेढ़ घंटे फंसा रहा चालक, क्रेन की सहायता से निकाला

बहरोड़. दिल्ली-जयपुर नेशनल हाइवे पर सोमवार सुबह सडक़ हादसे में केन्ट्रा चालक केबिन में फंस गया। करीब डेढ़ घंटे की मशक्कत से क्रेन की सहायता से उसे बाहर निकाला गया और निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहीं हादसे के बाद ट्रक चालक ट्रक लेकर मौके से फरार हो गया। जानकारी के अनुसार क्षेत्र के ग्राम शेरपुर के पास सोमवार सुबह दिल्ली से जयपुर की तरफ जा रही केमिकल की केन्ट्रा हाइवे पर सडक़ किनारे खड़े ट्रक से ओवरटेक करते हुए टकरा गया। टक्कर इतनी भयंकर थी कि केन्ट्रा का आगे का केबिन पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया और आवाज सुनकर आसपास के लोग मौके पर पहुंचे और चालक को निकालने का प्रयास किया, लेकिन वे असफल रहे। हादसे की सूचना मिलते ही थाना पुलिस मौके पर पहुंची और करीब डेढ़ घटे की मशक्कत से लोगों व क्रेन की सहायता से केन्ट्रा चालक को बाहर निकाला और निजी अस्पताल में भर्ती कराया। जहां चालक की हालत गम्भीर होने पर चिकित्सकों ने उसे वेंटिलेटर पर लिया। पुलिस ने बताया कि ग्राम शेरपुर के पास सडक़ दुर्घटना की सूचना मिली, जहां मौके पर पहुंच कर देखा तो उत्तर प्रदेश के खंडाला निवासी खालिद पुत्र वासीर का आधा शरीर केन्ट्रा के केबिन में फंसा हुआ था। जिसको बड़ी मुश्किल से लोगों की सहायता से बाहर निकाला। चालक का निजी अस्पताल में उपचार जारी है। पति के खिलाफ धोखाधड़ी करने का मामला दर्ज खैरथल. अपने पति को पाने की चाह में बैठी एक युवती को सोमवार को उस समय बड़ा झटका लगा •ाब तय शुदा कार्यक्रम के तहत सोमवार को सम्पन्न होने वाली शादी में दूल्हे पक्ष की ओर बारात लाने से मना कर दिया। मामला खैरथल के समीपवृति मुंडावर तहसील के मातौर गांव का है। जहां एक बेटी की 16 मई को शादी की सभी तैयारियां चल रही थी, बस इंतजार था बारात आने का, लेकिन वर पक्ष की ओर से आई एक खबर से दुल्हन समेत परिजनों के चेहरे की हवाइयां उड़ गई। बताया जाता है कि कल टीका लग्न लेकर गए लोगों को भी वापस भेज दिया गया। शादी के एक दिन पूर्व रविवार को ही दुल्हन अपने हाथों में लगी मेहंदी के साथ खैरथल थाने में उपस्थित होकर होने वाले पति के खिलाफ धोखाधड़ी करने की रिपोर्ट दर्ज करवाई। पुलिस ने बताया कि युवती कंचन पुत्री रमेश चंद जाटव ने रिपोर्ट में बताया कि उसकी शादी ओढ़ी बावल हरियाणा के कुलदीप के साथ तय हुई थी, लेकिन अब जानकारी में आया है की कुलदीप की शादी अन्य किसी स्थान से होने वाली है, इस प्रकार उसके साथ धोखा किया गया है। कंचन ने कुलदीप की होने वाली दूसरी शादी को रोकने की मांग की है।

पत्रिका 17 May 2022 11:05 pm

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने किया सुपोषित मां अभियान के दूसरे चरण का आगाज

कोटा. सुपोषित मां अभियान हमारी भावी पीढ़ी को सुरक्षित रखने का अभियान है। ये वो देश हैं जहां मां की पूजा की जाती है, लेकिन यह तभी सार्थक होगा जब हम मां को कुपोषण से बचाएंगे और उन्हें स्वस्थ रखने में कामयाब होंगे। इसके लिए जनअभियान बनाकर कार्य किया जाएगा। जब तक मां और बच्चा दोनों सुपोषित नहीं हो जाता तब तक हम इस अभियान को चलाएंगे। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने मंगलवार को यूआईटी ऑडिटोरियम सभागार में सुपोषित मां अभियान के दूसरे चरण के शुभारंभ के अवसर पर यह बात कही। लोकसभा अध्यक्ष गर्भवती महिलाओं को पोषण किट वितरित कर अभियान का आगाज किया। बिरला ने कहा कि महिलाओं में पोषण की कमी को दूर करने के लक्ष्य के साथ वर्ष 2020 में 1000 गर्भवती महिलाओं को चिन्हित कर सुपोषित मां अभियान प्रारंभ किया गया। जिसके नतीजे उत्साहजनक रहे। उसी प्रयास को आगे बढ़ाते हुए अभियान के दूसरे चरण शुरू किया। इस बार 3000 महिलाओं को 9 माह तक पोषण किट दी जाएगी और प्रतिमाह उनके स्वास्थ्य जांच होगी। हर जनप्रतिनिधि ले यह संकल्प लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने अपने आह्वान को दोहराते हुए कहा कि यह अभियान केवल एक या दो जगह तक सीमित नहीं रहना चाहिए। हर क्षेत्र में सांसद, विधायक व सामाजिक संस्थाएं इस दिशा में पहल करें और एक महिला के स्वास्थ्य की जिम्मेदारी ले। सामूहिक कोशिशों से ही महिला स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता उत्पन्न कर हम भावी पीढ़ियों का स्वास्थ्य भी सुरक्षित कर सकते हैं। गांव-ढाणियों तक पहुंचाएंगे लाभ बिरला ने कहा कि अगर मां का स्वास्थ्य अच्छा नहीं रहेगा तो उसका विपरीत असर शिशु पर पड़ेगा। ग्रामीण क्षेत्र में अभी भी जागरूकता की कमी है, इसलिए हम अभियान को शहरों तक सीमित नहीं रखेंगे। गांव ढाणियों तक जाकर महिलाओं को सुपोषित करेंगे। इसके लिए पंचायत स्तर पर स्वास्थ्य शिविर लगाकर महिलाओं को चिन्हित करेंगे। 28 राज्यों में किया काम, यह अनूठी पहल हंस फाउंडेशन की संरक्षक माता मंगला ने कहा कि वे 28 राज्यों में समाज सेवा के काम कर रहे हैं, लेकिन सुपोषित मां अभियान के रूप में लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला की यह पहल अनूठी है। यही वजह है कि हंस फाउंडेशन भी इस पुण्य कार्य में भागीदार बना है। मां स्वस्थ होंगी तो परिवार स्वस्थ होंगे। लोक सभा अध्यक्ष ने शक्ति स्वरूपा मां की चिंता की क्योंकि वे मानव सेवा को अपना धर्म मानते हैं। उन्होंने कहा कि यह ऐसा पूण्य कार्य है जिसे हर व्यक्ति, समाज और संस्था को करना चाहिए। उन्होंने अभियान की सफलता के लिए अपनी शुभकामनाएं भी दी। मां अपनी फिक्र नहीं करती, आपने की विधायक चंद्रकांता मेघवाल ने अपने संबोधन में कहा कि कुपोषण के विरूद्ध सरकारें कई योजना चला रही है, लेकिन कई परिवारों को योजनाओं का लाभ नहीं मिल पाता है। सुपोषित मां अभियान के माध्यम से लोक सभा अध्यक्ष ओम बिरला ने ऐसे ही वंचित परिवारों को संभालने का काम किया है। मेघवाल ने कहा कि कभी धन के अभाव तो कभी अपनी व्यस्तताओं के कारण माताएं अपने स्वास्थ्य की देखभाल नहीं कर पाती, आपने ऐसी माताओं का दर्द समझा। हमारे लिए गर्व का विषय है कि आपके रूप में हमें एक ऐसे जनप्रतिनिधि मिले हैं, जो अपने लोगों के लिए इस समर्पण भाव से काम करते हैं। महिला स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता बढ़ी विधायक संदीप शर्मा ने कहा कि सुपोषित मां अभियान के पहले चरण के नतीजे सुखद रहे। आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग को योजना का लाभ मिला है। इस अभियान के माध्यम से समाज में महिला स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता बढ़ी है। लोकसभा अध्यक्ष द्वारा शुरू किए गए ऐसे अनेकों प्रकल्प है, जिन्होंने सामान्य मानवीय के जीवन में व्यापक बदलाव लाने का काम किया है। आने वाले कल को बचाने की सोच है यह अभियान विधायक कल्पना देवी ने कहा कि हमारे शहर में एक दौर ऐसा आया जब हमने एक साथ कई मासूमों को खो दिया। गर्भवती महिलाओं में पोषण की कमी इसका बड़ा कारण था। केवल हमारे लोक सभा अध्यक्ष ही थे जिन्होंने मां के इस दुख दर्द को समझा और जनअभियान बनाकर उसे सफल भी बनाया। यही वजह है कि अब और बड़ स्तर पर अभियान के दूसरे चरण की शुरुआत हुई है। विधायक ने कहा कि सुपोषित मां अभियान केवन अभियान नहीं होकर आने वाले कल को बचाने की एक सोच है, हम सभी को इससे प्रेरणा लेनी चाहिए।

पत्रिका 17 May 2022 11:02 pm

SC Collegium: जस्टिस छाया को गुवाहाटी हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश पद पर पदोन्नति की सिफारिश

SC collegium recommends Justice R M Chhaya for elevation as CJ of Guwahati High Court सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम ने गुजरात हाईकोर्ट के वरिष्ठतम न्यायाधीश जस्टिस आर एम छाया को गुवाहाटी हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश के रूप में पदोन्नति की सिफारिश की है। जस्टिस छाया के अलावा उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, राजस्थान और तेलंगाना हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश की नियुक्ति का प्रस्ताव सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम ने पारित किया है। वर्ष 1961 में वेरावल में जन्मे जस्टिस छाया को वर्ष 2011 में गुजरात हाईकोर्ट का जज नियुक्त किया गया। एम एस यूनिवर्सिटी से स्नातक की पढ़ाई करने के बाद अहमदाबाद के एल ए शाह कॉलेज से उन्होंने एलएलबी किया। इसके बाद वर्ष 1984 में उन्होंने वकालत की प्रैक्टिस आरंभ की। वे गुजरात हाईकोर्ट में सहायक लोक अभियोजक व अतिरिक्त लोक अभियोजक के रूप में सेवा दे चुके हैं। कुछ ही दिनों पहले गुजरात हाईकोर्ट के जज जस्टिस जे बी पारडीवाला को पदोन्नति देते हुए सुप्रीम कोर्ट में जज के रूप में नियुक्ति की गई। वडनगर की ऐतिहासिक विरासत बनेगा दुनिया का श्रेष्ठ पर्यटन स्थल राज्य के युवा सेवा व संस्कृति मंत्री हर्ष संघवी ने बताया कि वडनगर को ऐतिहासिक विरासत को दुुनिया का श्रेष्ठ पर्यटन स्थल बनाया जाएगा। इसी उद्देश्य के साथ देश और दुनिया में पहली बार किसी एक शहर की ऐतिहासिक विरासत को उजागर करने को लेकर पहली बार अंतरराष्ट्रीय कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया जा रहा है। भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) व गुजरात सरकार के संयुक्त तत्वावधान में बुधवार से गांधीनगर के महात्मा मंदिर में तीन दिनों का अंतरराष्ट्रीय कॉन्फ्रेंस आरंभ हो रहा है। इस कॉन्फ्रेंस का उद्घाटन मुख्यमंत्री भूपेन्द्र पटेल करेंगे। इस अवसर पर केन्द्रीय संस्कृति राज्य मंत्री मिनाक्षी लेखी उपस्थित रहेंगे। इस कॉन्फ्रेंस में आस्ट्रेलिया, इंग्लैण्ड, फ्रांस, जापान, ग्रीस व श्रीलंका व भारत के प्रतिनिधि शामिल होंगे।

पत्रिका 17 May 2022 11:02 pm

Constable Paper Leak: दो बजे मिलने वाला कोड 12 बजे ही मिला, जिससे खुला डिजिटल लॉक

जयपुर। पेपर लीक करने वाले गिरोह ने कांस्टेबल भर्ती परीक्षा के सिस्टम पर में सेंध लगा दी थी। परीक्षा केन्द्र पर पहुंचने वाले पेपर वाले बॉक्स की चाबी वहां एक अन्य बॉक्स में थी, जिस पर डिजिटल लॉक था। डिजिटल लॉक खोलने के लिए कोड दो बजे दिया जाता था, लेकिन झोटवाड़ा की दिवाकर स्कूल में गिरोह ने यह लॉक करीब बारह बजे ही खोल लिया। एसओजी ने इस मामले में हिरासत में चल रहे स्कूल मालिक पति-पत्नी सहित आठ जनों को गिरफ्तार कर लिया है। सिस्टम में और कौन इस गिरोह से मिला हुआ था, इसका खुलासा फरार आरोपी मोहन की गिरफ्तारी पर होगा। मात्र दो दिन पहले स्कूल पंहुचे मोहन को परीक्षा प्रक्रिया की पहले से ही जानकारी थी। कांस्टेबल भर्ती केन्द्रों पर दूसरी पारी की परीक्षा का पेपर सुबह ग्यारह बजे पहुंचा था। हर सेंटर की तरह दिवाकर स्कूल में भी पेपर के तीन बॉक्स पहुंचे थे। इन पर ताला लगा था तथा तीनों की चाबी चौथे बक्से में थी, जिस पर डिजिटल लॉक लगा था। यह लॉक नम्बरिंग कोड से खुलता है। सभी सेंटर पर कोड पहुंचने का समय दोपहर दो बजे था, लेकिन दिवाकर स्कूल में गिरोह ने करीब 12 बजे इसे खोल लिया। उसी समय पेपर के मोबाइल से फोटो खींच कर बाजार में पेपर बेच दिया गया। ये हुए गिरफ्तार परीक्षा केन्द्र अधीक्षक शालू शर्मा व उसका पति सहायक केन्द्र अधीक्षक मुकेश कुमार शर्मा निवासी प्रताप नगर चौराहा मुरलीपुरा, सत्यनारायण कुमावत निवासी गोविंदगढ़, राकेश निवासी सोनीपत, कमल कुमार वर्मा नाड़ी का फाटक मुरलीपुरा, रोशन कुमावत निवासी मुरलीपुरा, विक्रम सिंह निवासी भोडसी, गुरुग्राम और रतन लाल निवासी बाल्टी फैक्ट्री आगरा रोड।

पत्रिका 17 May 2022 11:01 pm

Girnar Rope-way: संगीत सुनते हुए गिरनार रोप-वे का लुत्फ उठा सकेंगे पर्यटक

Girnar Rope-way जूनागढ़ का गिरनार रोपवे प्रोजेक्ट पर्यटकों को खूब पसंद आ रहा है। बड़ी संख्या में पर्यटक इस रोप वे का लाभ ले रहे हैं। अक्टूबर 2020 में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की ओर से उद्घाटन किए जाने के बाद से अब तक इस रोप-वे में 11 लाख लोग सवारी कर चुके हैं। इसके चलते डेढ़ वर्ष में 56 करोड़ रुपए की आय हुई है। अब इस रोप-वे में एक नई सुविधा जुडऩे जा रही है। पर्यटकों के लिए अब रोप-वे केबिन को शीघ्र ही संगीतमय बनाया जाएगा। 2320 मीटर लंबे व 898.4 मीटर ऊंचे रोपवे में अब तक दैनिक औसत 551 ट्रिप संचालित की जा रही है। इस वर्ष पिछले तीन महीनों में पर्यटकों की संख्या तथा आय में भी उल्लेखनीय वृद्धि दर्ज की गई है। गत फऱवरी महीने में कुल 59,188 पर्यटकों ने इस रोपवे सेवा का लाभ लिया। यह संख्या मार्च में बढ़ कर 77,796 हो गई। फऱवरी में जहां 3.1 करोड़ रुपए आय हुई वहीं मार्च में 4.03 करोड़ की आय हुई। इस तरह एक माह में आय में एक करोड़ की वृद्धि देखी गई। 130 करोड़ रुपए की लागत से निर्मित रोपवे की सुविधा से पर्यटक गिरनार पर्वत की 10,000 सीढिय़ां चढ़े बिना मिनटों में माताजी के मंदिर पहुंच पा रहे हैं। राज्य सरकार गुजरात के पर्यटन क्षेत्र को विश्व स्तर पर पहुँचाने के लिए लगातार प्रयासरत है। इसके लिए सरकार ने हेरिटेज टूरिज़्म पॉलिसी से लेकर मेडिकल टूरिज़्म जैसे आधुनिक विषयों के साथ नीति घोषित की है। पर्यटकों की सुविधा के साथ-साथ इस क्षेत्र में रोजग़ार के अवसरों के निर्माण के लिए सरकार काम कर रही है। गुजरात के पर्यटन को वैश्विक स्तर की प्रतिष्ठा दिलाने के लिए सरकार कार्यरत है। सुविधा के लिए निरंतर प्रयासरत गिरनार गुजरात का आध्यात्मिक गौरव है और देश-विदेश से यहां पर्यटक आते हैं। सरकार उनकी सुविधा के लिए निरंतर प्रयासरत है। रोपवे प्रोजेक्ट के कारण पर्यटकों, विशेषकर श्रद्धालुओं के लिए मां अम्बे के दर्शन करना अत्यंत सुलभ हो गया है। पर्यटकों की संख्या भी बढ़ रही है। स्थानीय लोगों को रोजग़ार भी मिल रहा है वहीं आय में भी एक माह में लगभग एक करोड़ रुपए की वृद्धि हुई है। आलोक कुमार पांडे, प्रबंध निदेशक, गुजरात पर्यटन निगम लिमिटेड

पत्रिका 17 May 2022 11:00 pm

गुजरात में सात वर्ष में 327000 विद्यार्थीयों का निजी से सरकारी स्कूलों में प्रवेश

अहमदाबाद. Gujarat गुजरात में पिछले सात वर्षों में 3.27 लाख विद्यार्थी private schools निजी स्कूल छोडकऱ Govt. primery school सरकारी प्राथमिक स्कूलों में पहुंचे हैं। अकेले अहमदाबाद शहर में इस तरह के विद्यार्थियों की संख्या 40 हजार बताई गई है। सरकारी स्कूलों में पढ़ाई की अच्छी सुविधाओं के कारण यह बदलाव माना जा रहा है। Ahmedabad Municipal School Board अहमदाबाद मनपा स्कूल बोर्ड के शासनाधिकारी एल.डी. देसाई के अनुसार शिक्षा के प्रति सरकारी की बेहतर नीतियों के कारण Guardian अभिभावक सरकारी स्कूलों में बच्चों का प्रवेश दिलाने के लिए विचार करने लगे हैं। अब सरकारी स्कूलों में ढांचागत सुविधाओं के अलावा प्रशिक्षित शिक्षक, नीतिगत योजनाएं हैं। इनमें बच्चों को मिलने वाले लाभों के संबंध में अभिभावकों को जागरूक किया जा रहा है। इन कदमों के कारण अहमदाबाद मनपा संचालित स्कूलों में बच्चों की संख्या बढ़ रही है। उन्होंने कहा कि नए शैक्षणिक सत्र के लिए शिक्षकों को बच्चों के प्रवेश के लिए जिम्मेदारी सौंपी गई है। ये शिक्षक शहर के विविध भागों में जाकर सरकारी स्कूलों में प्रवेश लेने के फायदे बताएंगे। नगर शिक्षा समिति के चेयरमैन डॉ. सुजय मेहता के अनुसार private schools निजी स्कूलों की तरह सरकारी स्कूलों में भी खेलकूद के मैदान, हाईटेक टीचिंग क्लास, स्वच्छता का माहौल और अनुभवी शिक्षक हैं। इन सभी कारणों से अभिभावकों का रुझान सरकारी स्कूलों की ओर बढऩे लगा है। यही कारण है कि सात वर्षों में 40 हजार विद्यार्थियों ने निजी स्कूलों से जाकर सरकारी प्राथमिक स्कूलों में प्रवेश लिया है। गुजरातभर में इस तरह के विद्यार्थियों की संख्या 3.27 लाख के आसपास है।

पत्रिका 17 May 2022 10:59 pm

बड़वानी जिले में 24 लाख हेक्टेयर में होगी खरीफ बोवनी, तय किया रकबा

बड़वानी. मौसम विभाग ने इस बार इस बार भी मानसून के सामान्य रहने की भविष्यवाणी के बीच जिले में किसान खरीफ सीजन की बोवनी की तैयारियों में जुट गए है। पश्चिमी विक्षोभ से बादलों की मौजूदगी के बीच खेतों में बैल जोड़ी, तो कहीं ट्रैक्टर के माध्यम से हल-बख्कर चलाकर बोवनी के लिए खेत तैयार हो रहे है। इस बार कृषि विभाग ने जिले में खरीफ का रकबा दो लाख 38 हजार से अधिक रकबा तय किया है। बता दें कि देश में मई माह के अंत तक मानसून की दस्तक की आशंका है। बंगाल की खाड़ी में मानसून पहुंचने के साथ जून के प्रथम सप्ताह में जिले-प्रदेश में प्री मानसून की उम्मीद है। बरहाल वर्तमान में किसान रबी सीजन की फसलों की कटाई अंतिम दौर में कर रहे हैं। कई जगहों पर खेत साफ हो चुके हैं। बता दें कि इस समय जिले में इंदिरा सागर की नहरों में पानी बंद हैं। ऐसे में किसानों आसमानी बारिश पर ही निर्भर है। कृषि विभाग के अनुसार इस बार जिले में खरीफ सीजन में दो लाख 38 हजार 830 हेक्टेयर में विभिन्न फसलों बोवनी होगी। इसमें मुख्य रुप से 78 हजार 835 हेक्टेयर में कपास, 66 हजार 815 हेक्टेयर में मक्का और सोयाबीन की बोवनी 30 हजार 565 हेक्टेयर में होगी। प्रस्तावित बोवनी कृषि विभाग के अनुसार खरीफ सीजन 2022 में धान 385 हेक्टेयर, मक्का 66815 हेक्टेयर, ज्वार 18225 हेक्टेयर, बाजारा 6875 हेक्टेयर, उड़द 5415 हेक्टेयर, मूंग 5120 हेक्टेयर, अरहर 4715 हेक्टेयर, अन्य दलहन 1450 हेक्टेयर, तिल 35 हेक्टेयर, मूंगफली 9150 हेक्टेयर, सोयाबीन 30 हजार 565 हेक्टेयर, अन्य तिलहन 795 हेक्टेयर में बोवनी होगी। अंजड़. तहसील की मुख्य फसल कपास है और यहां का किसान मानसून के पूर्व ही मई माह में अपने खेतों में कपास के बीज बो देते है। इसे स्थानीय भाषा में गर्मी का कपास कहा जाता है। इस फसल की सिंचाई मानसून के आने तक टपक सिंचाई पद्धति से की जाती है। इस साल अंजड़- ठीकरी क्षेत्र की बात करें तो दोनों तहसीलों में करीब 24 हजार हेक्टेयर कपास की बुवाई होने के अनुमान है। वहीं हजारों हेक्टेयर में कपास की बोवनी की शुरुआत किसानों द्वारा अक्षय तृतीया से शुरू हो चुकी है जो कि कपास की कुल फसल का 45 से 55 फीसद है। अंजड़ व ठीकरी तहसील क्षेत्र में जिले का अधिकांश नर्मदा पट्टी का क्षेत्र इन्हीं दो तहसीलों में है। जिसमें प्रमुख रूप से कपास, गन्ना, केला की फसल बोई जाती है, इसके अलावा सजवाय (अंजड़) का रणजीत तालाब और सेंगवाल (ठीकरी) का तालाब दोनों एक बड़े हिस्से के खेतों की प्यास बुझाने का काम करते है, जो कि इंदिरा सागर नहरों के पानी के कारण भरे हुए है। बीते वर्ष जहां अंजड़ क्षेत्र में 10863 हेक्टेयर व ठीकरी क्षेत्र में 8662 हेक्टेयर में कपास लगाया गया था जो इस साल कपास के भाव अधिक मिलने से किसानों की पहली पसंद कपास ओर सोयाबीन बना हुआ है। अंजड और ठीकरी तहसील मिलाकर ठीकरी विकासखंड में कुल 24 हजार हेक्टेयर से अधिक क्षेत्रफल में इस साल कपास की फसल का अनुमान है। इसमें से करीब 3 हजार हैक्टेयर में मानसून के पूर्व ही कपास की फसल के बीज खेती की जमीन में बोवनी शुरू हो चुकी है। आखा तीज के बाद क्षेत्र में किसान खेतों में कपास के बीज का रोपण करना शुरू कर दिया है।

पत्रिका 17 May 2022 10:59 pm

बजरी के अवैध परिवहन में लगे दो ट्रैक्टर जब्त, दोनों के चालकों को गिरफ्तार कर जेल भेजा

मंडार (सिरोही)। मंडार पुलिस ने बजरी के अवैध खनन व परिवहन के खिलाफ बड़ी कार्रवाई करते हुए सोमवार देर रात को बजरी परिवहन करते दो ट्रैक्टरों को जब्त कर लिया। साथ ही दोनों ट्रैक्टरों के चालकों के खिलाफ बजरी के अवैध खनन व चोरी का मामला दर्ज कर दोनों को गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार दोनों चालकों को मंगलवार को न्यायालय में पेश किया गया, जहां से दोनों को जेल भेज दिया गया। थाना प्रभारी अशोकसिंह चारण ने बताया कि सोमवार देर रात को हैड कांस्टेबल सोनाराम ने मय जाब्ता अवैध बजरी खनन के खिलाफ कार्रवाई की। जिसके तहत जुआदरा नदी के पास से बजरी के अवैध खनन व परिवहन में लगे ट्रैक्टर को बजरी लदी ट्रॉली के साथ जब्त कर लिया। साथ ही पड़ोसी राज्य गुजरात के बनासकांठा जिलान्तर्गत पाथावाड़ा-खिम्मत निवासी परबत ठाकोर पुत्र मफाजी ठाकोर को गिरफ्तार कर लिया। उधर, एएसआई मोहनलाल विश्नोई ने भी सोमवार देर रात को मंडार में रीको-जुआदरा मार्ग पर ट्रैक्टर मय बजरी लदी ट्रॉली के जब्त कर रीको कॉलोनी निवासी गोविन्दराम पुत्र नारायणराम गरासिया को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने दोनों के खिलाफ बजरी का अवैध खनन करने तथा बजरी की चोरी कर अवैध रूप से उसका परिवहन करने का मामला दर्ज कर दोनों चालकों को गिरफ्तार कर लिया। बाद में दोनों को न्यायालय में पेश किया गया, जहां से दोनों को जेल भेज दिया गया। अनादरा में एसएचओ ने दो ट्रैक्टरों को बजरी लदी ट्रॉलियों समेत किया जब्त खनन विभाग के फोरमैन कैलाश मीना ने बताया कि अनादरा में थाना प्रभारी गीता सिंह ने बजरी के अवैध खनन व परिवहन में लिप्त दो ट्रैक्टरों को बजरी लदी ट्रॉलियों समेत जब्त कर चालकों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। खान विभाग के भू-वैज्ञानिक भाखरराम ने अनादरा में पत्थर परिवहन में लगे ट्रैक्टर को जब्त कर पुलिस को सौंपा है। बजरी चोरी का मामला दर्ज होने पर मचा हडक़म्प दरअसल बजरी के अवैध खनन व परिवहन को लेकर तो पुलिस कई बार कार्रवाई कर चुकी है, पर इस बार पहली बार बजरी के अवैध खनन के साथ बजरी की चोरी कर परिवहन कर ले जाने का मामला बनाया गया है, जिससे बजरी माफिया व बजरी का परिवहन करने वाले ट्रैक्टर चालकों में हडक़म्प मच गया। जब खनन विभाग के अधिकारी थाने पहुंचे तो कई ट्रैक्टर संचालक थाने के इर्द-गिर्द घूमते दिखाई दिए। खनन विभाग प्रति ट्रैक्टर एक लाख छब्बीस हजार आठ सौ रुपए की राशि का जुर्माना वसूलने की कार्रवाई करेगा। वर्तमान में सरकार ने बजरी के अवैध खनन के खिलाफ संयुक्त कार्रवाई के लिए खनन, पुलिस, परिवहन, राजस्व व वन विभाग को आदेश दिए हुए हैं। पुलिस ने बताया कि अभियान को और तेज किया जाएगा।

पत्रिका 17 May 2022 10:56 pm

दंपती ने निगला जहर, पत्नी की मौत-पति गंभीर

ूमतहजीनर जलना लनास

जागरण 17 May 2022 9:54 pm

नपा का अतिक्रमण हटाओ दस्ता चौक बाजार पहुंचा

-चिन्हित स्थान तक ही दुकान लगाएं उल्लंघन करने वालों पर कानूनी कार्रवाई होगी-दार्जिलिंग को स्वच्छ

जागरण 17 May 2022 9:54 pm

डुमरी में ब्राह्मण समाज के लिए खुलेगा संस्कृत विद्यालय

ब्राह्मण समाज के लिए संस्कृत विद्यालय खुलेगा

जागरण 17 May 2022 9:52 pm

एक जून तक केदारनाथ धाम की बुकिग फुल

ार धाम यात्रा पर जाने वाले श्रद्धालुओं के लिए दर्शन की तिथि दिन बीतने के साथ बढ़ती ही जा रही है।

जागरण 17 May 2022 9:50 pm

भाजपा राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक की तैयारी तेज, नड्डा 19 मई को शाम चार बजे जयपुर पहुंचेंगे

21 मई तक चलने वाली बैठक में केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और सड़क परिवहन मंत्री नीतिन गड़करी मौजूद रहेंगे। नड्डा 19 मई को शाम सात बजे जनसंघ के संस्थापक सुंदर सिंह भंडारी की जीवनी का विमोचन करेंगे। नड्डा समाज के विभिन्न प्रतिनिधियों को संबोधित करेंगे।

जागरण 17 May 2022 9:49 pm

योगी सरकार ने किसानों को दिया बड़ा तोहफा, 15 जिलों में विकसित होंगे ईको फ्रेंडली फूड फारेस्ट

Eco friendly food forest योगी सरकार ने प्रदेश के किसानों को बड़ा तोहफा दिया है। यूपी के 15 जिलों में ईको फ्रेंडली फूड फारेस्ट विकसित किये जाएंगे। फूड फारेस्ट में संबंधित क्षेत्र के कृषि जलवायु क्षेत्र के अनुसार पौधों का चयन किया जाएगा।

जागरण 17 May 2022 9:48 pm

Jharkhand ANM Exam: एएनएम परीक्षा के लिए प्रवेश पत्र जारी करने का आदेश... 20 से 28 मई तक होनी है परीक्षा

Jharkhand ANM Exam 2022 झारखंड नर्सेज रजिस्ट्रेशन काउंसिल ने 19 कालेजों के विद्यार्थियों का प्रवेश पत्र रद कर दिया था। झारखंड हाई कोर्ट में मामला पहुंचा। सुनवाई हुई। अब कोर्ट ने प्रवेश पत्र जारी करने का आदेश दिया है। यह परीक्षा 20 से 28 मई तक होनी है।

जागरण 17 May 2022 9:48 pm

हल्के पर नहीं जाते पटवारी, शहरों में बनाया कार्यालय

इच्छावर (नवदुनिया न्यू) क्षेत्र में इन दिनों पटवारियों के खिलाफ ग्रामीण लोगों एवं शहरों कि आम जनता और हितग्राहियों में आक्रोश दिन ब दिन बढ़ता ही जा रहा है। जिसका कारण है पटवारियों का अपने हल्के में अनुपस्थित रहना अर्थात पटवारी अपने कार्यक्षेत्र मुख्यालय पर नहीं जाकर तहसील मुख्यालय पर ग्रामीणों को बुला रहे हैं। ऐसा ही कुछ नजारा मंगलवार को

जागरण 17 May 2022 9:48 pm

परीक्षकों ने काला बिल्ला लगाकर जताया विरोध

इंटरमीडिएट वार्षिक परीक्षा 2022 की उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन

जागरण 17 May 2022 9:48 pm

शहरी क्षेत्र के चार हजार 376 हितग्राहियों के आवास अधूरे, नगरोदय कार्यक्रम में सिर्फ 199 के खातों में डाली राशि

सीहोर, नवदुनिया प्रतिनिधि। प्रदेश के साथ ही जिले के सभी नगरीय निकायों में अधोसंरचना विकास कार्यों को गति देते हुए विभिन्ना हितग्राही मूलक योजनाओं का लाभ आम नागरिकों तक पहुंचाने के उद्देश्य से मिशन नगरोदय कार्यक्रम जिला मुख्यालय सहित सभी नगरीय निकायो में आयोजित किया गया। नगर में कार्यक्रम टाउन हाल में आयोजित किया गया। इस कार्यक्रम क

जागरण 17 May 2022 9:48 pm

मेरठ शादी में बीस लाख रुपये न लाने पर विवाहिता का जबरन गर्भपात कराया

मेरठ के कंकरखेड़ा थाने में मंगलवार को विवाहिता की तहरीर पुलिस ने दहेज में बीस लाख रुपये न लाने चुनरी गले में बांधकर हत्या करने का प्रयास और जबरन गर्भपात कराने के आरोप में केस दर्ज किया है।

जागरण 17 May 2022 9:47 pm

स्लीमनाबाद में घर से ढाई लाख नकद और जेवर चोरी

कटनी के स्लीमनाबाद थाना क्षेत्र में चोरों ने एक घर का ताला तोड़कर लाखों रुपए के आभूषण और ढाई लाख रुपए की चोरी की वारदात को अंजाम दिया गया है। पुलिस ने चोरी की शिकायत पर चोरों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस ने बताया कि स्लीमनाबाद निवासी जीवन सिंह जोगी के घर पर अज्ञात चोरों ने चोरी की वारदात

जागरण 17 May 2022 9:46 pm

Patrika Opinion: अमरीका में नस्लभेद की चिंताजनक तस्वीर

अमरीका में नस्लभेद की भयावह तस्वीर फिर सामने आई है जब सैन्य वर्दी पहने एक श्वेत किशोर ने न्यूयॉर्क के बफेलो सुपर मार्केट में अंधाधुंध गोलियां बरसा दीं जिसमें दस जने मारे गए। मरने वालों में अधिकांश अश्वेत हैं। इस घटनाक्रम को अंजाम देने वाले किशोर ने इस दौरान न केवल नस्लीय अपशब्दों का इस्तेमाल किया बल्कि हमले को सोशल मीडिया पर ऑनलाइन स्ट्रीम भी किया। ऐसा लगने लगा है कि नस्लभेद अमरीका में रोजमर्रा की जिंदगी का हिस्सा बन कर रह गया है। खास तौर से पिछले एक दशक के दौरान नस्लभेद की हिंसक घटनाएं यह भी बताती हैं कि अमरीका में उग्र श्वेत राष्ट्रवाद का प्रसार खूब हो रहा है। भले ही नस्लभेद अमरीका में हर बार चुनावी मुद्दा बनता आया हो लेकिन इसे रोकने के प्रयास तेज हुए हों, ऐसा नहीं लगता। इसकी सबसे बड़ी वजह अश्वेतों को लेकर अमरीकियों में उस अज्ञात किस्म का भय ही माना जाना चाहिए जिसमें वहां की श्वेत आबादी अपनी हर समस्या के लिए अश्वेतों को जिम्मेदार मानने लगी है। यही वजह है कि राष्ट्रपति चुनाव के दौरान मूल अमरीकियों को अपने खेमे में बनाए रखने का जतन सब अपने तरीके से करते हैं। ऐसे जतन में बड़ा मुद्दा आर्थिक असमानता का और इसकी वजह अश्वेत आबादी को मानना भी रहता है। वस्तुत: खुद अमरीका ने ही ऐसी रक्तरंजित करतूतों को प्रोत्साहित किया है। वहां के हुक्मरान भी ऐसी घटनाओं को सिरफिरे की करतूत मानकर समस्या पर पर्दा डालने में जुट जाते हैं। राष्ट्रपति जो बाइडन ने हमले की निंदा करने के बाद अब बफेलो सुपर मार्केट जाने का कार्यक्रम भी तय किया है। इस प्रकरण को लेकर वहां का कानून अपना काम कर रहा है। लेकिन सीधे तौर पर यह आतंकी कार्रवाई ही है जो नस्लभेद का चरम दर्शाती है। अमरीका की केन्द्रीय जांच एजेंसी फेडरल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन (एफबीआइ) की एक रिपोर्ट में यह चिंताजनक तस्वीर सामने आई है जिसमें कहा गया है कि वर्ष 2020 में अमरीका में अश्वेतों और एशियाई लोगों के खिलाफ घृणा अपराध की संख्या में 40 से 70 प्रतिशत की वृद्धि हुई। हैरत की बात यह भी है कि भारत समेत दुनिया के तमाम दूसरे देशों में इस तरह की छोटी-बड़ी घटनाओं पर अमरीका खुद मानवाधिकारों की दुहाई देने व नसीहत देने में जुट जाता है। दूसरे देशों के लोकतंत्र और मानव अधिकारों की समीक्षा करने से पहले अमरीका को अपने घर में झांकना चाहिए। जरूरत इस बात की भी है कि न केवल अमरीका बल्कि दुनिया के तमाम दूसरे देश साझा प्रयास कर नस्लभेद से मुकाबले की रणनीति बनाएं।

पत्रिका 17 May 2022 9:46 pm

देवरी में सड़क दुर्घटना, बाइक सवार घायल

सड़क दुर्घटना में घायल

जागरण 17 May 2022 9:45 pm

संगीत प्रेमी गुरुचरण पांडेय का निधन

संगीत प्रेमी गुरुचरण पांडेय का निधन

जागरण 17 May 2022 9:45 pm

चुराए गए आधा दर्जन मोबाइल के साथ दो युवक गिरफ्तार

शहर की सड़कों व चौक चौराहों से गजरते लोगों के हाथों पर झपट्टा

जागरण 17 May 2022 9:45 pm

अब चालान नहीं जमा करवाया तो खैर नहीं! आपके घर के दरवाजे पर दस्तक देगी पुलिस और...

Uttarakhand Online Vehicle Challan: देहरादून में ऑनलाइन चालान होने के बाद जमा नहीं करने वालों को लेकर ट्रैफिक पुलिस सख्ती बरतेगी. अब चालान जमा नहीं करने वालों के घर दून पुलिस पहुंच जाएगी और वसूली करेगी. ऐसा इसलिए किया जा रहा है कि 1 जनवरी से 31 अप्रैल तक करीब साढ़े 12 हजार ऑनलाइन चालान करीब 9 हजार चालानों का लोगों ने भुगतान ही नहीं किया है.

न्यूज़18 17 May 2022 9:45 pm

स्थानीय निर्वाचन की तैयारी को लेकर बैठक का हुआ आयोजन

नगरीय निकाय व पंचायत निर्वाचन की पूर्व तैयारी को लेकर कलेक्ट्रेट सभागार में जिला निर्वाचन अधिकारी व कलेक्टर प्रियंक मिश्रा व पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार जैन ने राजस्व, पुलिस विभाग के अधिकारियों की बैठक ली। बैठक में विभिन्नाा विषयों को लेकर चर्चा करते हुए अधिकारियों ने आवश्यक निर्देश प्रदान किए।बैठक में कलेक्टर श्री

जागरण 17 May 2022 9:45 pm

पटवारी, गिरदावर और तहसीलदार कान खोलकर सुनले बदमाशी करोगे तो सस्पेंड करके यही टांग कर जाएंगे

राजगढ़। इन दिनों जिले के प्रभारी मंत्री मोहन यादव लगातार विकास कार्यों का लोकार्पण कर रहे हैं। यदि पिछले 3 दिन की बात करें तो 200 से ज्यादा कार्यों का भूमिपूजन और लोकार्पण प्रभारी मंत्री के माध्यम से किया जा चुका है। जिसमें खिलचीपुर जीरापुर राजगढ़ नरसिंहगढ़ और ब्यावरा जैसे ब्लॉक के कार्य शामिल हैं। इसी कड़ी में वह जन समस्या निवारण शिविर में राजगढ़ भी पहुंच रहे हैं, जहां बड़ी संख्या में लोग भी अपनी समस्या बताने उनके सामने जा रहे हैं। राजस्व से जुड़ी हुई समस्याओं का तुरंत निराकरण किया जाए। इसको लेकर मंत्री मोहन यादव ने कहा कि कोई भी आवेदक परेशान ना हो उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि गिरदावर, पटवारी, तहसीलदार सुन ले। यदि किसी ने भी बदमाशी की तो यही सस्पेंड करते हुए टांग कर जाएंगे। उन्होंने कहा किसी भी योजना के लिए गरीब परेशान ना हो। लोगों की समस्याओं का निराकरण करें किसी तरह की बदमाशी ना की जाए, यदि कोई ऐसा करता है तो यह बहुत गलत बात है। क्योंकि सरकार लगातार विभिन्न योजनाओं का लाभ देने के लिए लगातार नई नई योजनाएं चला रही है। इस दौरान सांसद रोडमल नागर, भाजपा जिला अध्यक्ष दिलबर यादव, पूर्व विधायक अमर सिंह यादव सहित कलेक्टर हर्ष दीक्षित, एसपी प्रदीप शर्मा, सीईओ जिला पंचायत प्रीति यादव, एसडीएम जूही गर्ग व कई नेता मौजूद थे। राष्ट्र गान के साथ हुआ झंडा वंदन राजगढ़ की खिलचीपुर नाके पर 100 फीट ऊंचा तिरंगा फहराया गया। इस दौरान प्रभारी मंत्री सहित स्थानीय नेता यहां पर मौजूद थे। राष्ट्रगान के साथ यह झंडा वंदन किया गया है। बता दें कि यह झंडा रात के समय भी पहरा रहेगा। यहां नगरपालिका के माध्यम से पर्याप्त रोशनी की गई है। लोगों ने मांग की है कि इस पार्क का नाम तिरंगा पार्क रखा जाए।

पत्रिका 17 May 2022 9:44 pm

हजारे ने लोकायुक्त कानून जल्द से जल्द लागू करने की मांग की

पुणे, 17 मई (भाषा) सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे ने मंगलवार को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को पत्र लिखकर लोकायुक्त कानून को जल्द से जल्द लागू करने की मांग की।हजारे ने पत्र में कहा कि मुख्य सचिव को कानून के लिए गठित संयुक्त मसौदा समिति की शेष दो बैठकें बुलाने का निर्देश दिया जाना चाहिए। उन्होंने कहा, ‘‘अब तक मुख्य सचिव की अध्यक्षता में संयुक्त मसौदा समिति की छह बैठकें हो चुकी हैं। मैं आपसे मुख्य सचिव को संयुक्त मसौदा समिति की शेष दो बैठकों को जल्द बुलाने का निर्देश देने का अनुरोध करता हूं।’’ हजारे ने पत्र में कहा, ‘‘मैं

नव भारत टाइम्स 17 May 2022 9:43 pm

मानसून आने से पहले नहीं हो रही नालों की सफाई

शहर में मानसून आने को है। इससे पहले नालों की सफाई नहीं करवाई जा रही है। इससे पहली ही बारिश में शहर की व्यवस्थाएं बिगड़ सकती हैं। कुछ दिनों बाद जिले में मानसून आने की तैयारी है। लेकिन इसके पूर्व शहर के कई स्थानों पर नालों की सफाई नहीं करवाई जा रही है। इससे आने वाले समय में सड़कों पर पानी पानी हा

जागरण 17 May 2022 9:43 pm

मरने से पहले बेटे से कहा, बेटा अब पापा नहीं आएगा लौटकर, पढ़ें खबर

बीना. ग्राम पालीखेड़ा में लेनदेन को लेकर एक व्यक्ति ने फंदा लगाकर जान दे दी। मरने से पहले उसने एक वीडियो बनाया, जिमसें वह अपने फूफा व गांव के अन्य व्यक्तियों को रुपए देने की बात कर रहा है। भानगढ़ पुलिस मामले की जांच कर रही है। थानाप्रभारी लखन डाबर ने बताया कि दिनेश पिता नारायणसिंह यादव ने खेत में मंगलवार को फंदा लगाकर जान दे दी। फंदा लगने के पहले उसने एक वीडियो बनाया, जिसमें वह कह रहा है कि गांव के मौहर सिंह यादव, जयहिंद व गौरी को पांच लाख रुपए दिए, जिन्हें उसने अपनी डेढ़ एकड़ पैतृक जमीन जनवरी में बेची थी, जिसे वापस लेने के लिए यह रुपए दिए थे, लेकिन वह जमीन की रजिस्ट्री नहीं कर रहा है। साथ ही फूफा नारायण सिंह यादव के पास ट्रैक्टर गिरवी रखा था और 2.40 रुपए वापस दे दिए, लेकिन वह ट्रैक्टर के दस्तावेज वापस नहीं कर रहे हंै। वीडियों में उसने गांव के राजेश, वीरमसिंह को चार लाख रुपए देने की बात कही है। वीडियो में वह दु:खी होकर बेटे से अपनी मां और बहन का ख्याल रखने की बात कह रहा था। इसके बाद उसने खेत में ही फंदा लगाकर जान दे दी। घटना की जानकारी लगते ही एसडीओपी प्रशांत सिंह सुमन भी अस्पताल पहुंचे और मामले की जानकारी ली। मृतक का पीएम कराके शव परिजनों के सुपुर्द किया गया। मामले की जांच भानगढ़ पुलिस कर रही है। भाई ने सीएम, गृहमंत्री को ट्वीट कर की कार्रवाई की मांग मृतक के भाई ने सीएम शिवराज सिंह चौहान, गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा, सागर कमिश्नर, सागर कलेक्टर को ट्वीट किया और आरोपियों के खिलाफ वीडियो को संज्ञान में लेकर कड़ी कार्रवाई की मांग की है।

पत्रिका 17 May 2022 9:43 pm

उल्टी-दस्त के मरीज बढ़े, फर्श पर हो रहा इलाज

जिला अस्पातल में इन दिनों अव्यवस्थाएं चरम पर हैं। वहीं मरीज फर्श पर हैं। भले ही बिल्डिंग बड़ी गई हो लेकिन अभी जिला अस्पताल में पर्याप्त इंतजाम न होने से मरीजों को फर्श पर ही लेटना पड़ रहा है। जिला अस्पताल की अव्यवस्थाएं अपनी चरम सीमा पर है। लेकिन जिला अस्पताल की अव्यवस्थाएं आए दिन सुर्खियां बनी रहती है। लेकिन जिला अस्पताल क

जागरण 17 May 2022 9:42 pm

स्कूल के सामने अनुमति के विपरीत तन रहा शॉपिंग काम्पलेक्स, कलेक्टर ऑफिस के सामने बन गई इमारत

कटनी. नगर निगम में कर्मचारियों से लेकर अफसरों की मनमानी को रोकने वाला कोई नहीं है। नगर निगम के अफसरों की कारगुजारी से नगर निगम को करोड़ों रुपये के राजस्व की चपत तो लग ही रही है साथ ही अवैध व मनमाने निर्माण से शहर की जनता भी त्रस्त है। नगर निगम के एकाध, 50-100 नहीं बल्कि एक हजार से अधिक अवैध निर्माण के मामले हैं, जिनपर नगर निगम के भवन अनुज्ञा शाखा के कार्यपालन यंत्री, नोडल अधिकारी, अतिक्रमण अधिकारी, आयुक्त सहित अन्य जिम्मेदार अनजान बने हैं। हैरानी की बात तो यह है कि नगर निगम ने अवैध निर्माण की सूचना पर नोटिस की कार्रवाई की। हाल में गुरुनानक वार्ड में पुत्री शाला के सामने अनुमति के विपरीत शॉपिंग काम्पलैक्स का निर्माण हुआ है। 10 फीट सामने पार्किंग आदि के लिए जगह छोडऩी थी, जो नहीं छोड़ी गई। इस पर नगर निगम ने नोटिस जारी किया है। यह नोटिस प्रकाश भाटीजा, हितेश चांदवानी, विष्णु वाधवानी, गौरव भाटीजा को जारी किया गया है। बताया जा रहा है कि अलग-अलग मानचित्र पर एक ही काम्पलैक्स तैयार हो रहा है। अब देखने वाली बात होगी कि नगर निगम नोटिस के बाद कार्रवाई की हिम्मत जुटा पाता है कि नहीं। यहां तो बिना अनुमति निर्माण कलेक्टर ऑफिस के ठीक सामने नगर निगम द्वारा जहां पर शॉपिंग काम्पलैक्स का निर्माण कराया जाना है, वहां पर जगदीश पटेल के द्वारा बिना अनुमति के तीन मंजिला इमारत बना ली गई है। इस पर भी नगर निगम द्वारा नोटिस जारी कि गया है। इस अवैध निर्माण को हटाने के लिए जारी नोटिस के बाद मामले को दबाने की कवायद भी खूब चल रही है। 2017 से लेकर 2019 तक 922 नोटिस मामलों में मिशन चौक से लेकर चांडक चौक के अतिक्रमण के नोटिस को छोड़ दिया जाए तो किसी में भी कोई प्रभावी कार्रवाई नहीं हुई। यहां भी नहीं हुई कार्रवाई रघुनाथ गंज वार्ड में ज्वाला चक्की के समीप गीता देवी चमडिय़ां के द्वारा अनुमति के विपरीत निर्माण किया गया है। कई माह तक शिकायत होती रही, लेकिन नगर निगम के अधिकारी कार्रवाई का साहस नहीं जुटा पाए। शिकायत के बाद 10 जनवरी को नगर निगम के कार्यपालन यंत्री राकेश शर्मा द्वारा 14 जनवरी को गीता देवी चमडिय़ा द्वारा किए गए अनुमति के विपरीत निर्माण को हटाने नोटिस जारी किया गया, कार्रवाई के लिए कोतवाली थाना प्रभारी को पत्र लिखकर बल मुहैया कराने मांग की गई, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। थोक के भाव जारी हुए नोटिस आपको जानकार ताज्जबु हो कि हाल के 4 सालों में अनुमति के विपरीत निर्माण, अवैध निर्माण में 934 लोगों को नोटिस जारी किए गए हैं, लेकिन आधा सैकड़ा लोगों पर भी कार्रवाई नहीं की गई। सिर्फ नोटिस देकर खेल किया गया है। वहीं अब कम्पाउंडिंग के नाम पर खूब मनमानी चल रही है। शहर के 45 वार्ड में अनुमति के विपरीत कई निर्माण चल रहे हैं, जिससे देखने वाला कोई नहीं है। इसकी मुख्य वजह है कि किसी भी अधिकारी-कर्मचारी की तवाबदेही तय नहीं हो रही है। ऐसे हो रही मनमानी - पुराने पशु चिकित्सालय के पास नियमों को ताक में रखकर तन गई बिल्डिंग। - सुभाष चौक में बिना अनुमति के तैयार हुआ बेसमेंट। - वेंकटेश मंदिर के पास कई बिना अनुमति के हुए निर्माण। - दुगाड़ी नाला के समीप भी बिना अनुमति के हुए निर्माण। बरगवां में अनुमति के व बिना अनुमति के निर्माण पर नहीं हुई कार्रवाई। - गल्र्स कॉलेज के सामने घरेलू मानचित्र पर बनीं दुकानें। - नगर निगम के अफसरों की सांठगांठ से चल रहा बड़ा खेल। - सेल्फी प्वाइंट के सामने भी बगैर अनुमति के निर्माण। इंजीनियर, अधिकारी व आयुक्त पर सवाल अवैध निर्माण कर सरकार को राजस्व की क्षति पहुंचाने व मानकों को ताक में रखकर भवन बनाने वालों पर कृपा बनाए रखना अपने आप में एक बड़ा सवाल है। सूत्रों की मानें तो नगर निगम के अफसर अवैध निर्माण स्थल पर दबाव बनाने भी पहुंचे, बकायदा कार्रवाई करने का नोटिस दिया और फिर मामले को रफादफा कर दिया। इस मनमानी पर नगरीय प्रशासन विभाग सहित जिम्मेदार बेखबर हैं। ऐसे में अधिकारियों की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े होना लाजमी हैं। इनका कहना है अवैध निर्माण व अनुमति के विपरीत निर्माण पर नोटिस जारी किए गए हैं। शीघ्र ही मनमानी करने वालों के खिलाफ ठोस कार्रवाई की जाएगी। नियमों को ताक में रखकर इस तरह का दुस्साहस बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। वार्ड के इंजीनियर्स, टाइमकीपर भी कार्रवाई सुनिश्चित करेंगे। सत्येंद्र सिंह धाकरे, आयुक्त नगर निगम।

पत्रिका 17 May 2022 9:42 pm

युवाओं को आगे बढ़ने का मौका देती है भाजपा

सिवनी जिले के छोटे से गांव का युवक आज भारतीय जनता युवा मोर्चा का प्रदेश अध्यक्ष बनकर नेतृत्व कर रहा है। भोपाल, इंदौर, जबलपुर जैसे शहरों को पछाड़कर आज सिवनी जिले का नेतृत्व करके आगे निकला है। इससे यह समझा जा सकता है कि भारतीय जनता पार्टी ही एक ऐसी पार्टी है जो युवाओं को मौका देती है। यह बात भाजपा युव

जागरण 17 May 2022 9:41 pm

नेक पहल : डॉक्टर ने आदिवासी युवती की शादी कराकर बेटी की तरह किया विदा,जानिए क्या था रिश्ता

पन्ना. पन्ना जिले के सुदूर ग्राम महुआडांणा निवासी एक आदिवासी युवती डॉक्टर के बच्चे की देखभाल करती थी। इसलिए डॉक्टर ने भी उसके विवाह का पूरा खर्च उठाते हुए उसे अपनी बिटिया की तरह ही विदा किया। डॉक्टर और उसके इंजीनियर भाई ने इस बेटी के विवाह का पूरा खर्च वहन कर समाज के लिए प्रेरक उदाहरण प्रस्तुत किया। बेटी की तरह किया विदा अमानगंज क्षेत्र के ग्राम महुआडांणा निवासी गुठालु आदिवासी और अम्मी आदिवासी की दस संतानों में से आठवीं रश्मि हैं। रश्मि को सीता नाम से भी बुलाते हैं। सीता हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ. शैलेन्द्र भदौरिया के दिल्ली स्थित निवास में उनके बच्चे की देखभाल करती थी। सीता के माता-पिता ने जब उसे विवाह के चिंता की बात डॉक्टर भदौरिया को बताई तो उन्होंने अपने घर से ही सीता को बेटी की तरह बिदा करने का आग्रह उसके माता-पिता से किया। सीता के माता-पिता बेहद गरीब परिवार से थे, इसलिए वे डॉक्टर दंपत्ति के आग्रह को सहर्ष स्वीकार कर लिया। यह भी पढ़ें- पहले लगाई शराब पीने की लत, अब पत्नी टल्ली रहने लगी तो हो गया परेशान बेटी के लिए तलाशा वर डॉ. भदोरिया का ननिहाल गुलगंज में है। इसपर उनके मामा कृष्ण प्रताप ने लड़की के लिए वर को ढूंढ़ना शुरू किया। वर की तलाश छतरपुर मुख्यालय से 40 किमी दूर गुलगंज के पास पिपरिया गांव के मोहन सिंह राजगौढ़ के बेटे के रूप में होने के बाद विवाह की तैयारियां शुरू हुई। डॉ. के बड़े भाई इंजीनियर योगेन्द्र भदोरिया और पिता भी विवाह में सहयोग करने तैयार हो गया। डॉक्टर शैलेन्द्र भदौरिया के बड़े भाई योगेंद ने लग्न लेकर जाना तय किया। डॉक्टर भदोरिया और उनके पिता ने हनुमानजी के स्थान चोपरिया स्थित सिद्ध स्थान पर टीका बेला चड़ाव कार्यक्रम कराया। विदाई में बिटिया को रोजमर्रा की जरूरतों का सामान भी भदौरिया परिवर द्वारा प्रदान किया गया। शादी सम्पन्न करवाने में गुलगंज के सेंगर परिवार और चोपरिया के पंडित परिवार का विशेष सहयोग भी रहा। यह भी पढ़ें- गर्भवती पत्नी चीखती रही और आंखों के सामने डूब गया पति, 1 साल पहले की थी लव मैरिज

पत्रिका 17 May 2022 9:40 pm

एडीसी फरीदाबाद ने लिया मोरनी के गांव भोज कुदाना को गोद

इलाके की दुर्गम पंचायत भोज कुदाना के गांवों में विकास की अब रफ्तार तेज होगी।

जागरण 17 May 2022 9:40 pm

महिला ने की खुदकुशी, मृतका के भाई ने जीजा पर लगाए हत्या करने के आरोप

बंडोल थाना क्षेत्र अंतर्गत गांव समनापुर रैय्यत में 50 वर्षीय ललिता बाई द्वारा फांसी लगाकर खुदकुशी करने का मामला सामने आया है। इस मामले में जहां मृतक महिला के भाई ने जीजा पर हत्या करने का संदेह जताया है, वहीं बंडोल पुलिस का कहना है कि कुछ दिन पहले से मृतिका महिला का पति से विवाद चल रहा था। फिलहाल पुलिस ने मर्ग

जागरण 17 May 2022 9:39 pm

रूपेटा जोड़ के पास अहमदाबाद से भोपाल जा रही यात्री बस पलटी, चार घायल

आष्टा। मंगलवार सुबह अहमदाबाद से भोपाल जा रही है प्राइवेट यात्री बस ड्राइवर की लापरवाही के कारण पलटी खा गई। जिसमें चार लोग घायल हो गए। घायलों को तत्काल सिविल अस्पताल लाया गया। उपचार के बाद घायलों में से एक बड़ोदा, तीन भोपाल चले गए। घायलों में किसी की भी स्थिति गंभीर नहीं है, सभी को मामूली चोट आइ थी। प्राथमिक उपचार के बाद सभी को छ

जागरण 17 May 2022 9:39 pm

पानीपत में फर्जी मार्कशीट बनाने वाले गिरोह का भंडाफोड़, इंस्टीट्यूट संचालक गिरफ्तार

पानीपत में फर्जी मार्कशीट बनाने वाले गिरोह का भंडाफोड़ हुआ है। पुलिस ने इंस्टीट्यूट संचालक को गिरफ्तार किया है। शातिर बदमाश युवकों को जाल में फंसा उन्हें फर्जी मार्कशीट थमाता था और बदले में लाखों रुपये ऐंठता था।

जागरण 17 May 2022 9:38 pm

इस साल की अंतिम सोमवती अमावस्या 30 मई को पीपल पूजा

सीकर. इस साल 30 मई सोमवार को पडऩे वाली सोमवती अमावस्या वर्ष 2022 की अंतिम सोमवती अमावस्या होगी। इस दिन सुहागिन महिलाएं पति की लंबी उम्र के लिए व्रत रखती हैं और पीपल के पेड़ की परिक्रमा करती हैं। शास्त्रों में इसे अश्वत्थ प्रदक्षिणा व्रत की भी संज्ञा दी गई है। 30 मई को ही वट अमावस्या यानी बरगद अमावस्या भी है। आखिरी सोमवती अमावस्या के दिन सुकर्मा व धृति योग का शुभ संयोग बन रहा है। खास बात यह है कि इस दिन वट सावित्री व्रत भी रखा जाएगा। सुकर्मा योग इस साल 2022 में पहली सोमवती अमावस्या 31 जनवरी को थी और दूसरी सोमवती अमावस्या 30 मई को पड़ रही है। इसके बाद इस साल कोई भी सोमवती अमावस्या नहीं आएगी। ज्योतिष शास्त्र में सुकर्मा योग को शुभ योगों में गिना जाता है। मान्यता है कि इस योग में किए गए कार्यों में सफलता जरूर मिलती है। यह योग भी 30 मई को हो रहा है। सोमवती अमावस्या के दिन धृति योग किसी भवन एवं स्थान का शिलान्यास, भूमि पूजन या नींव पत्थर रखने के लिए उत्तम माना गया है। सोमवती अमावस्या तिथि प्रारम्भ - 29 मई रविवार, दोपहर 2.54 से समाप्त - 30 मई ,2022, सोमवार शाम 4.59 पर ज्येष्ठ का पावन मास शुरू जल दान के लिए विशेष महत्व रखने वाला ज्येष्ठ का महीना मंगलवार से शुरू हो गया है। पंडित दिनेश मिश्रा ने बताया कि जल दान के लिए ज्येष्ठ का महीना विशेष माना जाता है। ज्येष्ठ के महीने में गर्मी अधिक रहती है लिहाजा लोग अपने पूर्वजों की याद में प्याऊ लगाते हैं। ठंडे जल की मशीन लगवाते हैं। ठंडे जल से भरा कलश दान करते हैं। ज्येष्ठ के महीने में पानी पिलाने का बहुत महत्व है शास्त्रों में भी प्यासे को पानी पिलाने का विशेष महत्व बताया गया हैं।इसके अलावा लोग ज्येष्ठ के महीने में भीषण गर्मी में अपने छत की मुंडेर पर बाग बगीचों में पक्षियों के लिए पानी और दाना रखते हैं यह ज्येष्ठ का महीना प्राकृतिक संरक्षण से भी जुड़ा हुआ है कारण हमारे जो भी देवता गण है उनका कोई न कोई पक्षी अथवा पशु से संबंध है। पशुऔर पक्षी को ज्यादा प्यास लगती हैं उनको पानी पीने के लिए घर के बाहर छत के ऊपर पानी और दाना अवश्य रखना चाहिए इसके अलावा सभी के लिए जल दान करने का विशेष महत्व है। पंडित दिनेश मिश्रा ने बताया कि ज्येष्ठ के महीने में गंगा दशहरा, निर्जलाएकादशी जैसे बड़े पर्व भी आते हैं । गंगा दशहरा हमें जल दान का महत्व बताता है तो निर्जला एकादशी हमें पानी के संरक्षण का महत्व बताती हैं कि दिनभर निर्जल रहकर दूसरे को पानी पिलाकर पुण्य कैसे कमाया जाता है। ज्येष्ठ के महीने में जल संरक्षण का महत्व भी है और जल दान का महत्व भी है। संकट मोचन हनुमान की पूजा मंगलवार के दिन की जाती है. ज्येष्ठ मास में पडऩे वाले मंगलवार को बड़ा मंगल कहा जाता है. इस दिन लोग भंडारा करते हैं। अत्यधिक गर्मी के कारण लोग प्याऊ लगवाते हैं. जगह-जगह चौराहे पर पंडाल लगाकर लोग पानी पिलाते हैं, भंडारा करते हैं. बड़े मंगल को बुढ़वा मंगल के नाम से भी जाना जाता है. ऐसी मान्यता है कि इस दिन संकट मोचन हनुमान जी ने भीम का घमंड तोड़ा था, क्योंकि भीम को अपने बल का घमंड हो गया था. दूसरी मान्यता के अनुसार इसी दिन हनुमान जी ने विप्र रूप में वन में विचरण करते हुए प्रभु श्रीराम से भेंट की थी। ज्येष्ठ मास में बड़ा मंगल इस बार ज्येष्ठ मास की शुरुआत बड़े मंगल से हो रही है और इसका समापन भी मंगलवार को ही हो रहा है. इसमें पांच मंगलवार मिलेंगे. ये पांच मंगलवार हैं- 17 मई को, 24 मई को, 31 मई को, 7 जून को और 14 जून को है।

पत्रिका 17 May 2022 9:37 pm

बिकरू के पंचायत भवन में अब भी है विकास दुबे का कब्जा, प्रशासन नहीं हटा सका दो सौ बोरी अनाज

Bikru News बिकरू के पंचायत भवन में विकास दुबे का आज भी कब्जा है। भवन में लगभग दो सौ बोरे अनाज को कब्जे में लेने की याद प्रशासन को अब तक नहीं आई है। अब ग्राम प्रधान ने डीएम से पंचायत भवन को खाली करवाने को कहा है।

जागरण 17 May 2022 9:37 pm

गुना मुठभेड़ मामला: शाढ़ौरा के छोटू खान का एनकाउंटर, पिता ने किया शव लेने से इंकार, जनाजे में भी शामिल नहीं हुए कस्बे के लोग

अशोकनगर/शाढ़ौरा. काली हिरणों का शिकार और तीन पुलिस जवानों की हत्या मामले में शाढ़ौरा का जहीर पटेल भी शामिल था, जिसकी पुलिस एनकाउंटर में मौत हो गई। जब पुलिस शव लेकर शाढ़ौरा आई तो पिता ने शव लेने से मना कर दिया और कहा कि जब तक बड़ा बेटा नहीं आएगा, तब तक वह शव नहीं लेगा। बाद में पुलिस की समझाइश पर उसने शव लिया। वहीं उसके जनाजे में भी कस्बे में लोग शामिल नहीं हुए। शाढ़ौरा निवासी 30 वर्षीय जहीर पटेल उर्फ छोटू खान आरोपी नौशाद व शहजाद का जीजा है, जो उस समय बिदौरिया गांव में ही था, साथ ही वारदात में भी शामिल बताया जा रहा है। मंगलवार सुबह जहीर पटेल की एनकाउंटर में मौत हो गई। लोगों को सूचना मिली तो उसके मोहल्ले के आसपास के दुकानदार दुकानें बंद करके चले गए। जहां जहीर पटेल के पिता जलील पटेल ने शव लेने से इंकार कर दिया, कहा कि उसका बड़ा बेटा जमील पटेल दो दिन से गायब है और जब तक वह नहीं आएगा तब तक शव नहीं लेंगे। बाद में देहात थाना प्रभारी रोहित दुबे और सुरेशचंद्र नागर ने उसे समझाया, तब शव लिया। जनाजे में भी शामिल नहीं हुए लोग- पुलिस एंबुलेंस से ही शव को कब्रिस्तान ले गई, जिसमें परिजन सहित करीब 20-25 लोग ही जहीर पटेल के जनाजे में शामिल हुए। वहीं कस्बे के अन्य लोग जनाजे में शामिल नहीं हुए और दूरी बनाते नजर आए। जलील पटेल का कहना है कि उसका बेटा जहीर पटेल बिदोरिया गांव में ही था और घटना के समय वह डीजे पर सुसराल में डांस कर रहा था।

पत्रिका 17 May 2022 9:36 pm

डॉक्टर की गलती नहीं, लौटाओ मूल दस्तावेज

हाईकोर्ट ने दिए निर्देश, एमजी मेडिकल कॉलेज इंदौर का मामला जबलपुर। मेडिकल पीजी परीक्षा उत्तीर्ण होने के बाद भी निर्धारित समय में डॉक्टर को ग्रामीण क्षेत्र में सेवा करने के लिए नियुक्ति नहीं दी गई। इस पर मप्र हाईकोर्ट ने माना कि डॉक्टर की गलती नहीं थी। जस्टिस सुजय पॉल व जस्टिस डीडी बंसल की बेंच ने एमजी मेडिकल कॉलेज इंदौर को निर्देश दिए कि 45 दिन के अंदर याचिकाकर्ता डॉक्टर को उसके मूल दस्तावेज वापस लौटाए जाएं। इस मत के साथ कोर्ट ने एक याचिका का निराकरण किया। डॉ अर्चना गोविंदराव भांगे की ओर से याचिका दायर की गई। अधिवक्ता ब्रह्मानन्द पांडे ने कोर्ट को बताया कि याचिकाकर्ता ने 2015 में एमजी मेडिकल कॉलेज इंदौर में मेडिकल पीजी कोर्स के लिए प्रवेश लिया। नियमानुसार उनसे प्रवेश के समय बांड भराया गया कि उन्हें पीजी कोर्स पास करने के बाद एक साल प्रदेश के ग्रामीण इलाकों में सेवाएं देनी होंगी। याचिकाकर्ता का रिजल्ट 17 सितंबर 2018 को आया। इसमें उसे पूरक मिली, लेकिन सरकार ने ग्रामीण क्षेत्र में सेवा के लिए उसका नियुक्ति पत्र जारी कर दिया याचिकाकर्ता ने 31 दिसम्बर 2018 को पूरक की परीक्षा पास की। लेकिन कई अभ्यावेदन देने के बावजूद अबकी बार उसका नियुक्ति पत्र जारी नहीं किया गया। इसी दौरान पुणे में उन्हें रेजिडेंट डॉक्टर की नौकरी मिल गई। इसके लिए उन्हें मूल दस्तावेजों की आवश्यकता है, जो एमजी मेडिकल कॉलेज में जमा हैं। तर्क दिया गया कि पीजी परीक्षा पास होने के तीन माह के अंदर ग्रामीण क्षेत्र में नौकरी न दिए जाने पर बांड स्वयमेव समाप्त हो गया। कोर्ट के नोटिस पर सरकार की ओर से बताया गया कि एमजी मेडिकल कॉलेज के डीन ने याचिकाकर्ता के सफलतापूर्वक पीजी उत्तीर्ण करने की सूचना नहीं दी, इसलिए नियुक्ति पत्र जारी नहीं किया गया। सुनवाई के बाद कोर्ट ने याचिका मंजूर करते हुए याचिकाकर्ता को उसके मूल दस्तावेज वापस लौटाने के निर्देश दिए।

पत्रिका 17 May 2022 9:35 pm

व्यापारियों की हड़ताल, 350 ट्रालियों की नीलामी जिनमें 50 फीसदी गेहूं,कीमत भी 200 रुपए तक रही कम

अशोकनगर. गेहूं के निर्यात पर प्रतिबंध लगने से व्यापारियों ने हड़ताल कर दी है, हालांकि दो दिन से अनाज लेकर रुके किसानों के अनाज की मंडी ने नीलामी कराई। लेकिन गेहूं की कीमत आम दिनों की तुलना में 200 रुपए तक कम रही, इससे कई किसान तो अपना अनाज लेकर वापस चले गए। तो वहीं बड़ी संख्या में आए किसानों को मंडी में प्रवेश नहीं करने दिया गया। मंडी में करीब 350 किसान अपने अनाज के साथ दो दिन से रुके हुए थे, व्यापारियों ने हड़ताल कर दी तो एसडीएम डॉ.नेहा जैन ने रात में अधिकारियों के साथ बैठक की और मंडी में रुके हुए किसानों के अनाज की खरीद करने के लिए उन्हें तैयार किया। इससे मंगलवार को उन किसानों का ही अनाज खरीदा गया। वहीं सुबह से बड़ी संख्या में किसान ट्रैक्टर-ट्राली लेकर मंडी पहुंचे तो मंडी प्रबंधन ने गेट बंद कर दिए और उन्हें प्रवेश नहीं करना दिया। इससे मंडी गेट पर अनाज से भरे ट्रैक्टर-ट्रालियों की भीड़ लग गई और किसानों ने मंडी कार्यालय पहुंचकर नाराजगी जताई व हंगामा किया। साथ ही काफी देर तक किसानों ने मंडी कर्मचारियों से चिल्लाचौंहट की और मंडी में प्रवेश न देने पर नाराजगी जताई। किसानों के समर्थन में पहुंचे कांग्रेस नेता, जताई नाराजगी- ग्रेन मर्चेंट एसोसिएशन अध्यक्ष अशोक जैन के पुत्र व कांग्रेस शहर अध्यक्ष रितेश जैन भी कृषि मंडी पहुंचे और मंडी गेट पर खड़े किसानों का समर्थन किया। किसानों ने कहा कि जब अन्य किसानों की फसलों की नीलामी बोली लग रही है तो फिर मंगलवार को आए किसानों के अनाज को भी नीलामी में शामिल करें। लेकिन मंडी प्रबंधन ने शाम तक उन्हें प्रवेश नहीं करने दिया। शाम को उन किसानों को मंडी में प्रवेश दिया गया। व्यापारियों की हड़ताल, आज नहीं होगी मंडी में नीलामी- गेहूं निर्यात पर प्रतिबंध लगाने के विरोध में व्यापारियों की दो दिवसीय हड़ताल है और इससे आज मंडी में अनाज की नीलामी बोली नहीं लगेगी। व्यापारियों का कहना है कि दो दिन की हड़ताल के बाद अनाज दलहन-तिलहन महासंघ समिति जो भी निर्णय लेगी, उस हिसाब से आगामी रूपरेखा तैयार होगी। हालांकि कृषि मंडी का कहना है कि जो भी किसान आज मंडी में अनाज लेकर पहुंच गए हैं, उनके अनाज की नीलामी बोली कल होगी और बुधवार को व्यापारियों की हड़ताल की वजह से नीलामी नहीं होगी। स्पीक आउट- मेरी मिनी सुजाता गेहूं की एक ट्राली 2700 रुपए क्विंटल व दूसरी 2780 रुपए क्विंटल बिकी। जबकि कुछ दिन पहले यह तीन हजार रुपए तक बिक रहा था। कीमत 200 से ढ़ाई सौ रुपए तक कम रहीं। ओमप्रकाश रघुवंशी, किसान पचलाना हर क्वालिटी के गेहूं पर 200 से 250 रुपए रेट कम रही। जो गेहूं दो हजार से 2700 रुपए तक बिक रहा था और शरबती व मिनी सुजाता गेहूं 2800 से तीन हजार रुपए तक था, लेकिन मंगलवार को सभी के रेट कम रहे। इससे कई किसान अपना गेहूं वापस ले गए। वीरेंद्र रघुवंशी, किसान नेता वर्जन- 350 ट्राली दो दिन से रुकी थीं जिनकी नीलामी कराई, जिनमें पौंने दो सौ ट्राली गेहूं की थी। मंगलवार को आए किसानों को प्रवेश नहीं दिया गया, क्योंकि व्यापारियों से दो दिन से रुके किसानों का अनाज खरीदने की ही सहमति बनी थी। 18 मई को व्यापारियों की हड़ताल की वजह से खरीद नहीं होगी। भागीरथ अहिरवार, सचिव कृषि मंडी अशोकनगर

पत्रिका 17 May 2022 9:35 pm

समस्‍तीपुर में छेड़खानी से आजिज छात्रा ने चलती ट्रेन से लगाई छलांग, मुजफ्फरपुर से जा रही थी बरौनी

समस्‍तीपुर में एक हैरान करने वाली घटना सामने आयी है। बेगूसराय की एक छात्रा जो क‍ि मुजफ्फरपुर में रहकर पढ़ाई करती है। घर जाने के क्रम में चलती ट्रेन में उसके साथ छेड़छाड़ हुई। फ‍िर छात्रा ने ट्रेन से छलांग लगा दी। स्थानीय लोगों ने इलाज के लिए कराया भर्ती।

जागरण 17 May 2022 9:33 pm

गावां के 232 बूथों पर मतदान कल, प्रशासन मुस्तैद

गावां के 232 बूथों पर मतदान कल प्रशासन मुस्तैद

जागरण 17 May 2022 9:33 pm

राष्ट्रीय राज्यमार्ग पर ग्रीन हाइवे पॉलिसी का उल्लंघन, जन हित याचिका के बाद सौंपी रिपोर्ट में हुआ खुलासा

ईसागढ़. .ग्वालियर से गुना तक एनएचएआई ने बनाए गए फोरलेन हाइवे पर ग्रीन हाइवे पॉलिसी का जमकर उल्लंघन किया है। पॉलिसी के तहत हाइवे के किनारे फलदार और बीच में खाली पड़ी जगह में बोगनवेलिया रोपे जाना चाहिए थे। लेकिन कुछ स्थानों को छोड़कर समूचे हाइवे पर ऐसा कुछ नहीं किया। इस बात का खुलासा उस समय हुआ जब अशोकनगर निवासी और ग्वालियर खंडपीठ में कार्यरत एक वकील ने इस संबंध में उच्च न्यायालय में जन हित याचिका दायर की। जन हित याचिका की सुनवाई करते हुए खंडपीठ ने एक तीन सदस्यीय कमेटी का गठन किया। कमेटी की जांच में भी हाइवे निर्माण के दौरान ग्रीन हाइवे पॉलिसी का उल्लंघन किया जाना पाया। इसकी रिपोर्ट भी खंडपीठ को सौंप दी गई है। कमेटी ने कोर्ट में सौंपी रिपोर्ट में वीडियो फुटेज और फोटो ग्राफ भी दिए हैं। कभी एनएच-3 आगरा- मुम्बई राष्ट्रीय राज्य मार्ग के रूप में पहचानी जाने वाली टू लेन की सड़क का लगभग पांच साल पहले कायाकल्प किया गया है। भारतीय राष्ट्रीय राज्यमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) ने ग्वालियर से रूठियाई तक लगभग 230 किमी की फोर लेन सड़क का निर्माण कराया है। नियमानुसार इस तरह के हाइवे के निर्माण में निर्माण एजेंसी को गाइड लाइन का पालन करना चाहिए। लेकिन इस सड़क पर ग्रीन हाइवे पॉलिसी का जमकर उल्लंघन हो रहा है। एडव्होकेट विभोर साहू की मानें तो ग्रीन हाइवे पॉलिसी के तहत सड़क किनारे हर दस मीटर पर फलदार और छायादार पौधे लगाए जाना चाहिए। जबकि सड़क के बीच में छोड़ी गई खाली जगह में बोगलवेलिया रोपी जाना चाहिए थी। जानकारों की मानें तो सड़क किनारे बोगनवेलिया होने से विपरीत दिशा से आ रहे वाहनों की हेडलाइट वाहन चालकों की आंखें तक नहीं पहुंच पाती। इस कारण दुर्घटना होने की आशंका 80 फीसदी से भी ज्यादा कम हो जाती है। इतना महत्वपूर्ण कार्य होने के बाद भी निर्माण एजेंसी ने इस काम को पूरा किए जाने में कोई रूचि नहीं दिखाई। जबकि ग्वालियर से रूठियाई के बीच लगभग आधा दर्जन स्थानों पर भारी भरकम टोल वसूला जा रहा है। कमेटी बोली कुछ स्थानों पर ही हुआ है काम- फोरलेन हाइवे निर्माण के दौरान ग्रीन हाइवे पॉलिसी का पालन नहीं किए जाने पर अशोकनगर निवासी और वर्तमान में ग्वालियर खंडपीठ में कार्यरत वकील विभोर साहू ने इस संबंध में एक जन हित याचिका उच्च न्यायालय में लगाई थी। बीती 29 सितंबर 2021 को याचिका की सुनवाई के बाद हाइकोर्ट ने तीस सदस्यीय कमेटी का गठन किया। कमेटी में हाइकोर्ट के ओएसडी न्यायाधीश हितेन्द्र द्विवेदी, एडव्होकेट अमित लाहोटी और चेतन कानूनगो को शामिल किया गया। कमेटी के पदाधिकारियों ने बीती 10 जनवरी से 25 अप्रैल तक लगभग 230 किमी हाइवे का निरीक्षण किया। निरीक्षण की वीडियो और फोटोग्राफी भी कराई गई। हाइवे के निरीक्षण के दौरान सामने आया कि कुछ स्थानों को छोड़कर ज्यादातर स्थानों पर ग्रीन हाइवे पॉलिसी का पालन नहीं किया गया। इस संबंध में कमेटी ने अपनी रिपोर्ट भी उच्च न्यायालय को सौंप दी है। अब पूरा मामला हाइकोर्ट के पाले में है। क्या है ग्रीन हाइवे पॉलिसी- हाइवे के निर्माण में ग्रीन हाइवे पॉलिसी 2015 का पालन किया जाना सुनिश्चित किया जाता है। एडवोकेट विभोर साहू ने बताया कि ग्रीन हाइवे पॉलिसी के तहत सड़क किनारे हर दस मीटर के अंतराल में कम से कम 6 फि ट उंचे फ लदार और छायादार पेड़ लगाए जाने चाहिए। जबकि, विपरीत दिशा से आ रहे वाहन चालकों को हेडलाइट रिपलेक्शन से बचाने के लिए सड़क के बीचों बीच छोडे गए स्थान पर बोगनवेलिया के पौधे लगाए जाना चाहिए। लेकिन ग्वालियर से रूठियाई तक बनाए गए फोरलेन हाइवे के ज्यादातर स्थानों पर इस नियम का पालन नहीं किया गया। पढे

पत्रिका 17 May 2022 9:33 pm

धोखाधड़ी के मुकदमे में गैंगस्टर यशपाल तोमर की जमानत खारिज, रोशनाबाद जेल में बंद है माफिया

यशपाल तोमर को धोखाधड़ी के मुकदमे में जमानत नहीं मिल सकी है। उत्तराखंड के हरिद्वार जनपद की रोशनाबाद जेल में बंद है माफिया यशपाल तोमर। हाल ही पुलिस ने यशपाल की नोएडा स्थित करोड़ों की जमीन को जब्त किया है।

जागरण 17 May 2022 9:33 pm

Ayodhya: गर्मी बढ़ी तो फूल-बंगला में विराजे रामलला, आराध्य को शीतलता देने के लिए लगा 10 क्विंटल फूल

ज्येष्ठ मास की शुरुआत के साथ गर्मी चरम की ओर उन्मुख हुई तो आराध्य को शीतलता प्रदान करने का यत्न सामने आया। वृंदावन के संत जगद्गुरु पीपाद्वाराचार्य बलराम देवाचार्य की ओर से ज्येष्ठ के प्रथम मंगलवार की पुण्य बेला में रामजन्मभूमि कनकभवन एवं हनुमानगढ़ी में फूल-बंगला सज्जित कराया गया।

जागरण 17 May 2022 9:32 pm

Video: पूर्णिमा की चांदनी में दो साल बाद हुई वन्यजीवों की गणना, नजर आए गोडावण

जैसलमेर/लाठी. सीमांत जैसलमेर जिले के राष्ट्रीय मरु उद्यान क्षेत्र के साथ वन्य क्षेत्रों में बुद्ध पूर्णिमा की धवल चांदनी के मौके पर वन्यजीवों की गणना का आयोजन किया गया। साल 2020 के दो साल बाद इस बार की गणना के दौरान वन विभाग के कार्मिकों को सुदासरी तथा खेतोलाई आदि क्षेत्र में राज्य पक्षी गोडावण भी विचरण करते दिखाई दिए। जिलेभर में दो दिन तक चली इस वन्यजीव गणना का पूरा आंकड़ा अब सभी जगहों से रिपोर्ट आने के बाद एकत्रित किया जाएगा। गत साल 2021 में बारिश आ जाने के कारण वन्यजीवों की गणना बुद्ध पूर्णिमा के मौके पर नहीं हो पाई थी क्योंकि विभाग की तरफ से वन्यजीवों की गणना वन क्षेत्रों में बने प्राकृतिक और कृत्रिम जलस्रोतों पर की जाती है। जब वन्यजीव वहां पानी पीने के लिए पहुंचते हैं। राष्ट्रीय मरु उद्यान जैसलमेर के उप वन संरक्षक कपिल चंद्रवाल ने बताया कि इस गणना में गोडावण के साथ ही जंगली बिल्ली, चिंकारा, लोमड़ी आदि वन्यजीव नजर आए। उन्होंने बताया कि गर्मी के मौसम में बनाए गए जल होदियों में विभाग की तरफ से पानी की नियमित व्यवस्था करवाई जाती है। पांच जलस्रोतों पर की गणना लाठी वनविभाग क्षेत्र में बुद्ध पूर्णिमा पर चांद की धवल रोशनी में सोमवार रात वन्यजीवों की चहलकदमी दिखी और इस आधार पर उनकी गणना की गई। वन विभाग की तरफ से चिन्हित पांच प्राकृतिक और कृत्रिम वाटर हॉल पर पहुंचकर वन्यजीवों ने अपने हलक तर किए। पूरे नजारे के साक्षी वने वन अधिकारी और वन्य प्रेमियों ने पेड़ों पर बने मकान पर बैठकर रात में इनकी गिनती की। गणना के लिए सोमवार की सुबह आठ बजे से ही विभाग की तरफ से आवंटित वाटर हॉल के पास पेड़ों पर बैठकर 11 गणनाकर्ताओं ने रातभर वन्यजीवों की पहचान कर गिनती की। बुद्ध पूर्णिमा की सुबह 8 बजे से वन्यजीवों की गणना शुरू हो गई। इस दौरान शाम को चंद्रोदय के साथ शाकाहारी और रात करीब 10 बजे के बाद मांसाहारी जानवरों ने जल हॉल पर पहुंचकर प्यास बुझाई। क्षेत्रीय वन अधिकारी जगदीश विश्नोई के नेतृत्व में गणना की गई। रात गहराने के साथ बढ़ी वन्यजीवों की संख्या लाठी क्षेत्र के वनपाल कानसिंह मेड़तिया ने बताया कि बुद्ध पूर्णिमा के दौरान वाटर हॉल पर जैसे-जैसे रात गहराती गई उसी अनुपात में वन्यजीव वहां पहुंचते रहे। इस दौरान हरिण, नीलगाय, गोडावण, जंगली सूअर, गिद्ध, जंगली बिल्ली, खरगोश, मोर, बाज, तीतर, बटेर सहित कई शाकाहारी जानवरों ने अपनी प्यास बुझाई। लाठी क्षेत्र में सोढ़ाकोर गांव के पास स्थित बडिया नाडी पर वनरक्षक हमीरसिंह भाटी,तगसिह, बाघसिंह, चाचा गांव के पास सीलोतरा नाडी कमलेश जाणी, खेतोलाई गांव के पास स्थित सितोलाई नाडी पर वनरक्षक कमलेश, हीराराम का टांका गंगाराम की ढाणी के पास वनपाल कानसिंह मेडतिया, पुरखाराम, नाथूसिंह, डेलासर के पास कोजेरी पर वनपाल सवाईसिंह, कानसिंह, हसन खां ने वन्यजीवों की गणना की।

पत्रिका 17 May 2022 9:32 pm

फ्र ास के राजदूत ने सिक्किम के मुख्य सचिव के साथ की बैठक

संसू.गंगटोक (आईपीआर) फ्र ास के राजदूत इमैनुएल लेनिन ने मंगलवार को सिक्किम सरकार के मु

जागरण 17 May 2022 9:31 pm

Khargone News : बुजुर्ग दंपत्ति की एक साथ निकाली शव यात्रा, पत्‍नी की मौत के 12 घंटे बाद पति ने त्‍याग दिए प्राण

मध्य प्रदेश के खरगोन में छह दशक पहले परिणय सूत्र में बंधे बुजुर्गों ने शादी के समय लिए सात वचन का मौत तक किया पालन। जिले के देवलगांव में 80 साल की बुजुर्ग महिला की मौत के 12 घंटे बाद उनके पति ने भी प्राण त्‍याग (Elderly couple last rites performed together in Khargone) दिए। दोनों की शव यात्रा एक साथ निकाली गई।

नव भारत टाइम्स 17 May 2022 9:31 pm

डंपिग ग्राउंड घग्गर पार सेक्टरों के लिए बना जहर

जागरण संवाददाता पंचकूला डंपिग ग्राउंड सेक्टर-23 और झूरीवाला के खिलाफ लोगों ने रोष जत

जागरण 17 May 2022 9:31 pm

IAS Pooja Singal: हेमंत के विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा से भी हो सकती पूछताछ... ईडी ने मंगवाया पांच बक्सा जब्त दस्तावेज

Jharkhand IAS Pooja Singal पहले सीए सुमन कुमार फिर पूजा सिंघल फिर अभिषेक झा फिर खनन पदाधिकारियों से पूछताछ के बाद अब हेमंत सोरेन के विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा की बारी है। इनसे भी ईडी पूछताछ कर सकती है।

जागरण 17 May 2022 9:30 pm

एक क्लिक पर मिलेगी पूरी जानकारी, लाइसेंस QR कोड खोल देगा आपकी कुंडली

Driving License Updates: रायपुर। देशभर में ड्राइविंग लाइसेंस के अलग अलग फॉण्ट व प्रारूप इस्तेमाल किए जाते है, इसके चलते दूसरे राज्यों की पुलिस को जाँच करने में दिक्कत आती है। अलग अलग तरह की ड्राइविंग लाइसेंस के चलते फ़र्ज़ी ड्राइविंग लाइसेंस का खतरा भी बना रहता है इसलिए कार्ड के मटेरियल से लेकर शब्दों तक में बदलाव किया जा रहा है। अक्षरों को लेज़र से लिखा जाएगा। आकड़ों के अनुसार प्रदेश में लगभग 60 लाख ड्राइविंग लाइसेंस है और लगभग 55 लाख आरसी बुक है तथा हर साल लगभग तीन लाख ड्राइविंग लाइसेंस बनाए जाते हैं। मंगलवार से क्यूआर कोड वाले ड्राइविंग लाइसेंस बनने शुरू होंगे। इससे वाहन चालक की सारी जानकारी एक क्लिक में मिल जाएगी। इसके लिए कर्नाटक की एमसीटी कार्ड्स एंड टेक्नोलॉजी कंपनी को 10 वर्ष का जिम्मा सौपा गया है। पहले कार्ड प्लास्टिक के बनते थे पर अब वे पॉलि कार्बोनेट के बनाए जाएंगे। परिवहन विभाग का कहना है की मंगलवार से जारी होने वाले कार्ड्स पूरी तरह बदल जाएंगे। ये सभी जानकारियां मिलेंगी कार्ड में क्यूआर कोड युक्त ड्राइविंग लाइसेंस में वाहन का नाम, व्यक्ति का पता, माता- पिता का नाम, वाहन का प्रकार, कार्ड जारी होने की तिथि, कार्ड की वैधता समाप्ति की तिथि, पता, जन्म तिथि, शैक्षणिक योग्यता, पहचान चिह्न, मोबाइल नंबर, वाहन का प्रकार, निर्माणकर्ता अधिकारी का नाम अंगदान के विकल्प सहित 50 से अधिक जानकारियां होगी। परिवहन विभाग की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार लाइसेंस शुल्क (Driving License Updates fees) में किसी भी प्रकार का बदलाव नहीं किया जाएगा, टू व्हीलर व फोर व्हीलर के लिए निर्धारित 1050 रूपए शुल्क ही लिए जाएंगे।

पत्रिका 17 May 2022 9:29 pm

नाबालिग से दुष्कर्म के दो मामलों में आरोपियों को बीस-बीस साल की कैद

पूरे मामले में अदालत ने आरोपी को धारा 376(3) के तहत दुष्कर्म करने का दोषी मानते 20 साल की सजा और 10 हजार रुपए का जुर्माना लगाया है। साथ ही पीड़िता को 50 हजार रुपए पीड़ित प्रतिकर देने को भी कहा गया है। फैसला आया तबवह बालिग हो चुका था।

जागरण 17 May 2022 9:29 pm

चौकी के सामने रखा महिला का शव, जाने क्या है माजरा

लखनवास। बीते गुरूवार लनवास के करीब सडक़ किनारे खड़ी होकर बातचीत में मश्गूल तीन महिलाओं को वहां से गुजर रही तेज रफ्तार कार ने जोरदार टक्कर मारते हुए गंभीर रूप से घायल कर दिया था। हादसे में एक महिला की मौत हो गई जबकि दो अन्य गंभीर रूप से घायल हो गई थी। दुर्घटना के बाद महिलाओं को रोंदने वाला वाहन मौके से फरार हो गया। जिस पर अब तक कोई कार्रवाई नहीं हो पाई है। इधर घटना में घायल दोनों महिलाओं को गंभीर अवस्था में भोपाल उपचार चल रहा था। मंगलवार को उनसे एक कृष्णा बाई ने भी दम तोड़ दिया। जिसके बाद शोकग्रस्त परिजनों को सब्र टूट गया और मंगलवार शाम दोषी वाहन चालक पर कार्रवाई की मांग करते हुए मृतक महिला का शव रखकर पुलिस चौके के सामने जाम लगा दिया। ग्रामीणों का कहना था दुर्घटना करने वाला वाहन पास के गांव सुन्दरपुरा का है जिसकी जानकारी पुलिस को भी दी गई है। इसके बावजूद अब तक कोई कार्रवाई नहीं की गई। खबर लिखे जाने तक जाम चल रहा था। घटना को लेकर मलावर थाना प्रभारी का कहना है कि हादसे के बाद परिजनों ने उन्हें कोई सूचना नहीं नहीं दी, जबकि परिजन इस संबंध में लिखित आवेदन देने की बात कर रहे हैं। क्या थी घटना घटना बीते गुरूवार रात करीब आठ बजे लखनवास से नरसिंहगढ़ जाने वाली सडक़ पर शिवहरे वेयर हाऊस के नजदीक की है। जब लोदीपुरा निवासी सुरेश राव अपनी पत्न कृष्णा बाई और भतीजी सपना को लेकर नरसिंहगढ़ से गांव की ओर आ रहे थे। इसी बीच वे उनके रिश्तेदार अपनी पुत्री शिवानी के साथ रास्तें में मिल गए। ऐसे में दोनो अपनी बाइक सडक किनारे रोकी ओर आपस में बातचीत करने लगे। इसी बीच नरसिंहगढ़ की ओर से तेज रफ्तार में आ रहे बुलेरो वाहन ने बातचीत में लगी तीन महिलाअेां को जोरदार टक्कर मार दी और मौके से फरार हो गया। दुर्धटना में सपना बाई, और कृष्णा बाई गंभीर रूप से घायल हो गई। जबकि शिवानी ने दम तोड़ दिया था। कृष्णा बाई और सपना का उपचार भोपाल में चल रहा था, जहां मंगलवार दोपहर कृष्णा बाई की भ्भी मौत हो गई। वहीं अन्य महिला सपना भाई का भी फिलहाल गंभीर अवस्था में उपचार जारी है। वर्जन हमने परिजनों को २४ घंटे का आश्वसन दिया है, पूर्व में नरसिंहगढ़ थाने में डायरी के आधार पर बयान दर्ज किए थे। जल्द ही आरोपी और वाहन पकड़ लिया जाएगा। - जितेन्द्र चौहान थाना प्रभारी मलावर

पत्रिका 17 May 2022 9:28 pm

मरीजों को कूलर नसीब नहीं, इधर कैदी फरमा रहा नए सिंफनी कूलर में आराम

आय से अधिक संपत्ति मामले में जिला सहकारी केंद्रीय बैंक के पूर्व नोडल अधिकारी श्रवण सिंह को पांच साल की सजा हुई है। २० अप्रैल को विशेष न्यायाधीश कुमार जून ने उन्हें कठोर सजा सुनाई है। दूसरे दिन ही तबियत खराब का बहाना बनाते हुए जिला अस्पताल पहुंच गए। इसके बाद अब तक जिला अस्पताल में ही नया सिंफनी कूलर में आराम फरमा रहे हैं। कैदी के जिला अस्पताल पहुुंचते ही उसके आवभाव करने में स्वास्थ्य विभाग के जिम्मेदार अधिकारी लग गए है। यहां नियम कानून को दरकिनार कर पूरा कैदी के ऐशो आराम पर ही ध्यान दिया जा रहा है। नियम है कि कैदी के उपचार के लिए तीन डॉक्टरों की टीम बननी चाहिए, जो हर रोज कैदी का उपचार करेंगे। अगर सप्ताह भर तक कैदी का स्वास्थ्य ठीक नहीं हो जाता है तो उसे तत्काल रेफर करना चाहिए या पुन: जेल में वापस भेजने का नियम है। लेकिन यहां जिला अस्पताल में नियम कानून की खुलेआम धज्जियां उड़ाई जा रही है। यहां डॉक्टरों की टीम अब तक नहीं बन पाई है। कैदी श्रवण सिंह का केवल शुगर लेवल कम और ज्यादा हो रहा है। अगर कोई शुगर व्यक्ति एक से दो दिन तक दवा नहीं खाए तो शुगर लेवल अप-टाउन होना लाजमी है। जिला अस्पताल में भर्ती हुए अब माह भर होने जा रहा हैं, अगर जिला अस्पताल के डॉक्टर तबियत में सुधार नहीं कर पा रहे है तो हायर अस्पताल में रेफर क्यो नहीं कर दे रहे है। सूत्रों के अनुसार स्वास्थ्य विभाग के जिम्मेदार से सांठगांठ कर कैदी आराम फरमा रहा है। सबसे बड़ी बात यह है कि जिला अस्पताल के वार्ड में एकमात्र पुराना कबाड़ी वाला कूलर को लगाया गया है। उसका भी टंकी जर्जर हालात में है। पानी डालते ही पूरा पानी गिर जाता है। मरीजों ने बताया कि भीषण गर्मी में पसीना से तरबतर हो रहे है। डॉक्टर को बताने के बाद भी इस ओर ध्यान नहीं दिया जा रहा है। वार्ड में मरीज गर्मी से परेशान हैं, यहां कूलर लगाने की चिंता जिला अस्पताल प्रबंधन को नहीं है। लेकिन एकमात्र कैदी वार्ड में तत्काल नया कूलर लगा दिया गया।

पत्रिका 17 May 2022 9:27 pm

नौरादेही अभयारण्य में बढ़ रहा तेंदुआ का कुनबा

तेंदूखेड़ा. नौरादेही अभयारण्य में बाघों के अलावा तेंदुआ, भेडिय़ा, चिंकारा व चीतल की संख्या में इजाफा हो रहा है। यहां घने जंगल, नदियां, पोखर वन्य प्राणियों को स्वच्छंद विचरण के लिए पसंदीदा प्राकृतिक आवास बनता जा रहा है। 1975 से स्थापित नौरादेही अभयारण्य में दो बाघ के बाद वर्तमान में 10 बाघों की संख्या ने नई उम्मीद जगा दी है। यहां पर हजारों वन्य जीवों की संख्या बढऩे के साथ ही चीता प्रोजेक्ट पर तैयारी चल रही है। इसके अलावा नौरादेही अभयारण्य में तेंदुआ की संख्या में भी इजाफा हुआ है। बाघों के पहले से जंगल में रहने वाले इस जंगली जीवों की संख्या वृद्धि हो गई है। 30 से अधिक तेंदुआ यहां की गुफाओं व पेड़ों की डालियों पर दिख रहे हैं। अभयारण्य के अंतर्गत आने वाली रेंजों में भारी भरकम पेड़ लगे हुए हैं। नौरादेही के विस्थापित गांव में बड़ी-बड़ी गुफा बनी है। यही गुफा और पेड़ तेंदुओं का मुख्य निवास स्थल है। तेंदुआ एक ऐसा वन्य प्राणी है, जो पेड़ों पर भी रह लेता है। इसलिए नौरादेही अभयारण्य में तेंदुआ का अभी तक कोई स्पष्ट ठिकाना नहीं है कि वह कब कहा रहता है अधिकारियों की मानें तो तेंदुआ अधिकांश समय गुफा में रहता है। साथ ही पेड़ों की डालियों पर भी अपना बसेरा बना लेता है, वर्तमान में नौरादेही अभयारण्य में 10 बाघों की मौजूदगी के साथ यहां पर 30 से अधिक तेंदुआ अपना बसेरा बनाए हुए हैं। अभयारण्य में तेंदुओं की संख्या बढ़ रही है। पिछले एक दशक में इसकी संख्या लगभग दोगुनी हो गई है जहां वर्ष 2010-2011में 10 से 12 तेंदुआ ही नौरादेही अभयारण्य में दिखाई देते थे। नौरादेही अभयारण्य में बाघ बाघिन और उनके शावकों की निगरानी के लिए ट्रैकर कैमरे लगाए गए हैं। हर 15 दिन में इनके फुटेज देखे जाते हैं। अभयारण्य में तेंदुआ अलग-अलग जगह कई बार देखे गए हैं। इनके पगमार्क भी मिले हैं, वहीं नौरादेही अभयारण्य के एसडीओ सेवाराम मलिक ने बताया कि अभयारण्य क्षेत्र में वन्यजीवों की, लगातार संख्या बढ़ती हुई देखी गई है। जिसमें भेडिय़ा नीलगाय चिंकारा चीतल सांंभर हिरण सहित अन्य जानवरों की भी संख्या में बढ़ोत्तरी हुई है तो इसी तरह भेडिय़ों की संख्या में सबसे ज्यादा बताई जाती है, ऐसा माना जाता है कि प्राकृतिक और भौगोलिक कारणों से भेडिय़ों का प्राकृतिक आवास है। एक समय था, जब इस इलाके में भेडिय़ों की सबसे बड़ी संख्या मौजूद थी। इसी कारण अभयारण्य को भेडिय़ों का आवास का दर्जा दिया गया है बाघों से डरता है तेंदुआ अभयारण्य में तेंदुओं की संख्या दो दर्जन से भी ज्यादा है, साथ ही अन्य प्रकार के सैंकड़ों प्रजाति के वन्य प्राणी हैं, वहीं 4 शावकों को मिला 10 बाघों का बसेरा है। नौरादेही अभयारण्य जो इस समय अभयारण्य में घूम रहे हैं। वहीं दो दर्जन से अधिक तेंदुआ है फिर भी वह बाघों का सामना कर करते अधिकारियों का कहना है कि तेंदुआ बाघों से बहुत डरता है। इसलिए जिस जगह पर बाघ होता है। तेंदुआ उससे काफी दूरी पर रहते हैं, यह कभी आमने सामने नहीं आते यदि बाघ तेंदुए को दिख जाता है तो वह उस स्थान से दूर चला जाता है। छोटे वन्य प्राणी करते हैं शिकार नौरादेही मे तेंदुआ अपने परिवार के साथ बसे हुए हैं। अधिकारियों ने बताया कि यहां उनके बच्चे भी कई बार अपने माता-पिता के साथ देखे गए हैं। तेंदुआ सबसे ज्यादा शिकार चीतल का करता है। इसके अलावा मवेशियों के छोटे बच्चों का शिकार भी उसे पसंद है। अधिकारियों का कहना है कि तेंदुआ बड़े जानवर या मवेशियों का शिकार नहीं कर पाता इसलिए वह हमेशा अपने शिकार के लिए छोटे जानवरों को खोजता है। शिकार करने के बाद भोजन को लेकर वह पेड़ पर चढ़ जाता है या फिर गुफा में घुस जाता है। जहां बाघ कम वहां तेंदुओं को अनुकूल माहौल वाइल्ड लाइफ एक्सपर्ट डॉ. बसंत मिश्रा बताते हैं कि नौरादेही अभयारण्य में वन्य जीवों खासकर बाघ चीते व तेंदुए के लिए अनुकूल माहौल और पर्याप्त आहार पानी है। इस अभयारण्य में तेंदुओं की बसाहट बाघ के पहले की है। इसकी वजह ये है कि जहां बाघ नहीं होते या फिर कम है। वह स्थान तेंदुओं के लिए सुरक्षित है। अभयारण्य में अच्छी खासी संख्या में तेंदुआ है।

पत्रिका 17 May 2022 9:27 pm

माडा अधिकारियों की सद्बुद्धि के लिए किया हवन, जानिए 85 दिन से क्यों धरना दे रहे लोग

Jobs on Compassionate Grounds: अब धरने पर बैठे आश्रितों ने हवन किया है. आश्रितों ने कहा कि अनुकंपा के आधार पर नियोजन की मांग को लेकर 85 दिन से धरना दे रहे हैं, धरना देने वाले बीमार पड़ रहे हैं, लू लग जा रही है. अब भगवान की शरण में हमलोग आ गए हैं. अधिकारियों को सद्बुद्धि आए इसलिए हवन किया गया है.

न्यूज़18 17 May 2022 9:26 pm