J-K: स्वतंत्रता दिवस से पहले आतंकियों का ग्रेनेड से हमला, कुलगाम में पुलिसकर्मी शहीद

75वें स्वतंत्रता दिवस से पहले पूरे देश में अलर्ट जारी है। जम्मू कश्मीर में भी सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए है। आतंकियों ने श्रीनगर के ईदगाह इलाके में सुरक्षा बलों पर ग्रेनेड फेंका है। इस हादस में सीआरपीएफ का एक जवान घायल हो गया। उसे इलाज के लिए अस्पतला में भर्ती करवाया गया है। लेकिन डॉक्टर उसे बचा नहीं सके। शहीद पुलिसकर्मी का नाम ताहिर खान बताया जा रहा है। जम्मू कश्मीर पुलिस ने बताया कि आतंकवादियों ने अली जान रोड ईदगाह पर सुरक्षा बलों की ओर एक ग्रेनेड फेंका। आतंकियों को पकड़ने के लिए घेराबंदी और तलाशी अभियान शुरू कर दिया गया है। पुंछ जिले के मेंढर का रहने वाला शहिद पुलिसकर्मी आतंकियों ने एक बार फिर घाटी में पुलिसकर्मियों को निशाना बनाया है। जम्मू कश्मीर के कुलगाम के कामोह में आतंकियों ने शनिवार देर रात एक पुलिस टीम पर ग्रेनेड फेंके हैं। इसमें पुंछ जिले के मेंढर का रहने वाला ताहिर खान नाम का पुलिसकर्मी घायल हो गया था। अनंतनाग के जीएमसी अस्पताल में भर्ती कराया जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई है। दो दिन पहले राजौरी हमला आपको बता दें कि श्रीनगर के ईदगाह में हुए ग्रेनेड हमले से दो दिन पहले जम्मू.कश्मीर के राजौरी जिले में एक सैन्य शिविर को भी निशाना बनाया था। दो आतंकवादियों ने तड़के सैन्य शिविर कैंप पर हमला किया था। इस हमले में सेना के चार जवान शहीद हो गए थे। बीते दिनों सुरक्षाबलों ने बडगाम के वाटरहेल इलाके में तीन आतंकियों को एक एनकाउंटर में ढेर कर किया था। इनमें टीवी एक्टर अमरीन भट और क्लर्क राहुल भट की हत्या की घटनाओं में शामिल लश्कर ए तैयबा के कमांडर लतीफ राथर को भी शामिल था।

पत्रिका 14 Aug 2022 8:05 am

क्या आपकी मेमोरी भी फोटोग्राफिक है? यदि हां तो इस तस्वीर को सॉल्व करके दिखाएं, 99 फीसदी हुए फेल

ऑप्टिकल इल्यूजन से जुड़ी कई तस्वीरें इन दिनों सोशल मीडिया पर खूब देखने को मिल रही है। कुछ तस्वीरें काफी दिलचस्प होती हैं जिनका जवाब ढूंढने में यूजर्स को काफी मजा आता है। कुछ ऐसी होती हैं जो घंटों बीता देने के बावजूद भी दिमाग चकरा देती हैं। कुछ तस्वीरें आपकी तेज नजर तो कुछ आपका दिमाग कितना क्रिएटिव है ये बताता है। आज एक ऐसी ही तस्वीर हम आपके लिए लेकर आए हैं जो आपकी फोटोग्राफिक मेमोरी के बारे में बताएगा। ब्लू और रेड डॉटस वाली इस तस्वीर को ध्यान से देखिए और बताइए कि क्या आपको इसमें रेड डॉट को जोड़ने पर बन रहा लेटर दिखाई दे रहा है? यदि आपको नहीं दिखाई दे रहा तो परेशान न हो क्योंकि अब तक 1 फीसदी लोग ही इसे सॉल्व कर पाए हैं। ये दावा इस इल्यूजन को बनाने वाले भी कर कर चुके हैं। बचपन के दिनों में तो आपने ऐसी कई पहेलियाँ सुलझाई होंगी और आपको पता है केवल 10 फीसदी बच्चे ही फोटोग्राफिक मेमोरी के जरिए चीजों को याद रख पाते हैं वो भी कुछ ही समय के लिए। ये तस्वीर बताती है कि आपकी फोटोग्राफिक मेमोरी कितनी तेज हैं और क्या इसे देख कर सही जवाब देने की आपके दिमाग में कितनी क्षमता है। एक बार फिर से तस्वीर को ध्यान से देखिए और अपने दिमाग में दोनों इमेज को मर्ज करिए और बताइए कि आपको कौनसा लेटर बनता हुआ दिखाई दे रहा है? यदि आप अब भी इसे सुलझा नहीं पाए हैं तो घबराइए नहीं। इसे देखकर अपनी आँखें बंद करिए और फिर देखिए .. आपको इस तस्वीर में दिखा लेटर 'G' दिखाई देगा। यदि आपने इसे सुलझा लिया था तो मुबारक हो आपकी मेमोरी फोटोग्राफिक है और आप 1 फीसदी लोगों में शामिल हैं।

पत्रिका 14 Aug 2022 7:13 am

एम्स में 'डिप्रेशन' से पैरामेडिकल छात्र की मौत, शव ले जाने को नहीं मिली एंबुलेंस, छात्रों ने कहा- ये मर्डर है

एम्स में पैरामेडिकल के छात्र अभिषेक मालवीय की मौत को लेकर साथी आक्रोशित है। उन्होंने इस मामले को लेकर प्रदर्शन भी किया। छात्रों का आरोप है कि मौत के बाद शव ले जाने के लिए एम्स प्रशासन ने एंबुलेंस तक नहीं दी।

नव भारत टाइम्स 14 Aug 2022 5:33 am

Electricity Rates : हर महीने बदलेंगी बिजली दरें, अगले साल से प्रभावी हो सकता है नया प्रावधान

अब बिजली की दरें भी डीजल-पेट्रोल की तर्ज पर बदलेंगी।

अमर उजाला 14 Aug 2022 5:32 am

Renuka Thakur: रेणुका ठाकुर बोलीं- खुश हूं कि देश को पदक दिलाने वाली टीम का हिस्सा रही

राष्ट्रमंडल खेलों में क्रिकेट में देश को सिल्वर मेडल दिलाने वाली भारतीय महिला क्रिकेट टीम की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तारीफ की।

अमर उजाला 14 Aug 2022 5:00 am

Himachal: आकाशवाणी हमीरपुर में 66 फीसदी पद खाली, रेडियो कार्यक्रमों का प्रसारण हो रहा मुश्किल

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मन की बात कार्यक्रम का प्रसारण करने वाला आकाशवाणी हमीरपुर केंद्र वर्तमान में बंद होने की कगार पर है।

अमर उजाला 14 Aug 2022 5:00 am

Attack on Terrorism: खंगाली जा रही 50 कर्मियों की कुंडली, जमात के स्कूलों पर भी कसा शिकंजा

जम्मू-कश्मीर में गहरी पैठ बना चुकी आतंकवाद व अलगाववाद की जड़ों में सरकार ने अनुच्छेद 370 हटने के बाद पिछले दो साल में एक और कील ठोकी है।

अमर उजाला 14 Aug 2022 4:23 am