कोटा बंद रहा, प्रदर्शनकारी बोले, हत्यारों को 15 दिन में फांसी दो

कोटा. राज्य के उदयपुर शहर में हुई निर्मम हत्या के विरोध में शनिवार को कोटा बंद सफल रहा। इस दौरान हिंदू समाज के संगठनों ने संभागीय आयुक्त कार्यालय पर प्रदर्शन करके सरकार को चेताया। हत्यारों को 15 दिन में फांसी देने की मांग की गई। बंद के दौरान दोपहर में शहर की हर दिशा से लोगों कदम सीएडी सर्किल की तरफ बढ़ रहे थे। सबकी आंखों में गुस्सा था। उदयपुर के कन्हैयालाल की निर्मम हत्या पर सबका मन व्यथित था। सब लोगों की पुरजोर मांग थी कि हत्यारों को जल्द फांसी दी जाए। सीएडी सर्किल से संभागीय आयुक्त कार्यालय तक सडक़ लोगों से अटी हुई थी। बड़ी संख्या में पुलिस बल ने मोर्चा संभाल रखा था। उदयपुर में कन्हैयालाल साहू की नृशंस हत्या और उसके बाद वीडियो वायरल कर घटना की जिम्मेदारी लेने वाले हत्यारों के खिलाफ कोटा के लोगों में शनिवार को आक्रोश साफ झलक रहा था। प्रदर्शन साधु-संत से लेकर जनप्रतिनिधि भी थे। संभागीय आयुक्त कार्यालय के बाहर सडक़ के दोनों तरफ भी सैकड़ों लोग एकत्र थे। वे हाथों में तख्तियां थामे आतंकवाद के खिलाफ विरोध जता रहे थे। संभागीय आयुक्त कार्यालय के बाहर लोगों ने कन्हैयालाल की मौत को लेकर सरकार, पुलिस व प्रशासन को निशाने पर लिया। साथ ही आरोपियों को फांसी की सजा देने के नारे भी लगाए। आतंक के खिलाफ कार्रवाई, हत्यारों की फांसी दो, कन्हैयालाल को न्याय दो आदि नारे तख्तियों पर लिखे थे। प्रदर्शन के बाद संत समाज और जनप्रतिनियों ने राष्ट्रपति के नाम संभागीय आयुक्त दीपक नंदी को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में राज्य सरकार को बर्खास्त कर राष्ट्रपति शासन लागू करने, मामले की जांच करवाकर हत्यारों को मृत्युदंड देने, आतंकी संगठनों पर प्रतिबंध लगाने, राजस्थान में रहने वाले असामाजिक तत्वों की पहचान कर कानूनी कार्रवाई करने की मांग की गई। चिकित्सा, यातायात, पेट्रोल पम्प को बंद मुक्त रखा गया। सभी व्यापारिक व सामाजिक संगठनों, राजनीतिक संगठनों व निजी स्कूल एसोसिएशन से बंद को सफल बनाने में सहयोग किया। प्रदर्शन में भाजपा विधायक मदन दिलावर, संदीप शर्मा, कल्पना देवी, भाजपा नेता भवानी सिंह राजावत, भाजपा शहर अध्यक्ष कृष्ण कुमार सोनी, देहात जिलाध्यक्ष मुकुट नागर, हेमंत विजयवर्गीय, महेश विजय के अलावा कांग्रेस नेत्री राखी गौतम भी शामिल हुई। यहां भवानी सिंह राजावत ने कहा, हत्यारों को 15 दिन में फांसी नहीं हुई तो गुस्साई जनता भी उनका सिर कलम कर सकती है। अब जनता राजस्थान को कांग्रेस मुक्त करके छोड़ेगी। कांग्रेस नेत्री राखी गौतम ने भी इस घटना की निंदा करते हुए जल्द कड़ी सजा दिलाने की मांग की। इस दौरान एडीएम सिटी बी.एम. बैरवा, नगर निगम आयुक्त राजपाल सिंह, डीआईजी स्टाम्प बी.के. तिवारी, एएसपी प्रवीण जैन, डीएसपी अंकित जैन सहित कई अधिकारी भी तैनात रहे। चप्पे-चप्पे पर पुलिस प्रदर्शन से पहले ही चप्पे-चप्पे पर पुलिस तैनात थी। सीएडी सर्किल से संभागीय आयुक्त कर्यालय के बाहर से लेकर सडक़ के दोनों तरफ बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी तैनात थी। संभागीय आयुक्त कार्यालय के गेट को भी बंद कर रखा था। मुख्य गेट से प्रतिनिधिमंडल को ही ज्ञापन देने अंदर जाने दिया गया।

पत्रिका 2 Jul 2022 3:19 pm

Amravati Murder Case: महाराष्ट्र के अमरावती में केमिस्ट उमेश कोल्हे की हत्या केस में 6 आरोपी गिरफ्तार, गृहमंत्री शाह ने दिए NIA जांच के निर्देश

मुंबई: महाराष्ट्र के अमरावती शहर में एक केमिस्ट उमेश कोल्हे की हत्या को लेकर देश का सियासी पारा गरमा गया है। कहा जा रहा है कि केमिस्ट ने पैगंबर मोहम्मद पर टिप्पणी करने वाली नूपुर शर्मा के समर्थन में सोशल मीडिया पर पोस्ट साझा की थी। पुलिस ने अब तक इस केस में छह आरोपियों को अरेस्ट किया है। इसी बीच गृहमंत्री अमित शाह ने इस मामले की एनआईए जांच के निर्देश दिए हैं। ज्ञात हो कि अमरावती में 54 साल के केमिस्ट उमेश कोल्हे की 21 जून को हत्या की गई थी। पुलिस ने इस मामले में अबतक 6 लोगों को गिरफ्तार किया है। यह पूरी घटना राजस्थान के उदयपुर में एक टेलर कन्हैयालाल के मर्डर से एक सप्ताह पहले हुई थी। इस मामले को लेकर अब देश का सियासी पारा गरमा गया है। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने एनआईए को केस की जांच करने का निर्देश दिया है। इस मामले की जांच इससे पहले महाराष्ट्र एटीएस कर रही थी। इस मामले में शिवसेना से बागी हुए दीपक केसरकर ने एक बयान में कहा है कि मामले में कानूनी एक्शन लिया जाएगा। जबकि अमरावती में स्थानीय भाजपा नेताओं ने पुलिस थाने में एक पत्र सौंपा है। जिसमें कहा गया है कि उमेश ने सोशल मीडिया पर नूपुर शर्मा के सपोर्ट में पोस्ट किया था। जिसके कारण बदला लेने और एक मिसाल कायम करने के लिए उसकी हत्या की गई है। पुलिस ने अनुसार मुख्य आरोपी इरफान खान ने उमेश कोल्हे की हत्या की साजिश रची थी। जिसमें पांच अन्य लोगों भी शामिल थे। इरफान ने अन्य पांचों आरोपियों को 10-10 हजार रुपये देने और भागने के लिए एक कार देने की बात कही थी।

पत्रिका 2 Jul 2022 3:18 pm

मिशन प्रेरणा अराइज की शुरुआत,  शिक्षा से वंचित बालक-बालिकाओं को स्कूल से जोड़ा जाएगा

टोंक . जिला कलक्टर चिन्मयी गोपाल के नवाचार मिशन प्रेरणा अराईज के तहत शिक्षा विभाग की ओर से शिक्षा से वंचित बालक-बालिकाओं को स्कूल से जोड़ा जाएगा। जिला कलक्टर के निर्देश पर जिले में अनामांकित बालक-बालिकाएं जो अभी तक स्कूल में नामांकित नहीं हुए हैं तथा ड्रॉप आउट उन्हें स्कूलों से जोड़ा जाएगा। इसमें संस्था प्रधान, शिक्षक, अभिभावक, स्थानीय जनप्रतिनिधि एवं क्षेत्र के नागरिकों की महत्वपूर्ण भूमिका होगी। राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय बहीर में आयोजित प्रवेशोत्सव कार्यक्रम में मुख्य अतिथि सीईओ देशलदान ने कहा कि मिशन प्रेरणा अराईज का मुख्य उद्देश्य यह है कि जिले में एक भी बालक-बालिका शिक्षा से वंचित नहीं रहे। ताकि शिक्षा पर हर बच्चें का अधिकार की संकल्पना को साकार किया जा सके। उन्होंने कहा कि हर माता-पिता की इच्छा होती है कि उनकी संतान उनसे बेहतर स्थिति में जीवन जिए। यह शिक्षा से ही संभव है। सीईओ ने शिक्षकों, अभिभावकों, जनप्रतिनिधियों को शिक्षा से वंचित बच्चों को स्कूल से जोडऩे एवं उनकी नियमितता पर विशेष ध्यान देने पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि जिले में सभी बच्चे शिक्षा प्राप्त करें यह सभी के सामूहिक प्रयासों से ही संभव है। कार्यवाहक मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी रामनिवास शर्मा ने कहा कि बच्चों को शिक्षा से जोडऩे के लिए मिशन प्रेरणा अराईज में हाउस होल्ड सर्वे किया जाएगा। इसमें सर्वेयर, सुपरवाइजर एवं संस्था प्रधान की जिम्मेदारी महत्वपूर्ण रहेगी। इसके लिए जिला स्तर पर एक सर्वे प्रपत्र तैयार किया गया है। समसा के एडीपीसी रमेश ङ्क्षसह ने कहा कि इस सर्वे के माध्यम से अनामांकित एवं ड्रॉप आउट बच्चों का नामांकन तथा विद्यालय में बालक-बालिकाओं का ठहराव भी किया जाएगा। साथ ही जिला प्रशासन द्वारा निरंतर इसकी मॉनिटङ्क्षरग की जाएगी। प्रवेशोत्सव कार्यक्रम में सीबीईओ टोंक सीताराम गुप्ता, एसीपी श्योराम मीना, संस्था प्रधान जमील अहमद, विद्यालय स्टॉफ सहित स्थानीय जनप्रतिनिधि एवं वार्ड वासी मौजूद रहे। मंच संचालन प्रदीप पंवार ने किया। इससे पहले सीईओ देशलदान ने प्रवेशोत्सव कार्यक्रम में आलिया एवं मुबीना को माला पहनाकर एवं प्रवेश फॉर्म तथा शिक्षिका राहत परवीन एवं रेणू कुमारी को सर्वे प्रपत्र देकर मिशन प्रेरणा अराईज की शुरुआत की। इस दौरान वार्डवासी नूर एवं अशरफ ने वर्तमान समय में शिक्षा की महत्ता पर विचार व्यक्त किए।

पत्रिका 2 Jul 2022 3:16 pm

दिग्गज आमने सामने: शिवराज और नाथ गरजे, तो सिंधिया और पटवारी ने उठाए सवाल

छिंदवाड़ा/सतना/उज्जैन। मध्यप्रदेश में चल रहे चुनावों के बीच दोनों प्रमुख दलों में जुबानी टकरार लगातार तेज होती जा रही है। इसके चलते जहां आरोप प्रत्यारोप का दौर चल रहा है,वहीं भाजपा और कांग्रेस दोनों दलों के बड़े नेता लगतार एक दूसरे पर हमला कर रहे हैं। ऐसे में शुक्रवार को जहां कमलनाथ के गढ़ यानि छिंदवाड़ा में सीएम शिवराज जम कर गरजे तो वहीं इस दिन कमलनाथ ने बारिश के बीच रोड शो किया। इससे इतर उज्जैन में भाजपा की ओर से सिंधिया तो कांग्रेस की ओर से जीतू पटवारी ने अपनी अपनी पार्टी का समर्थन व दूसरी पार्टी के उपर अनेक प्रहार किए। कहां क्या हुआ? ऐसे समझें - उज्जैन: निकाय चुनाव प्रचार में उतरे सिंधिया.... केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने शुक्रवार से प्रदेश में निकाय चुनाव के लिए प्रचार का आगाज किया। इसकी शुरुआत उन्होंने उज्जैन में रोड शो करके की। यहां कांग्रेस पर निशाना साधा। कहा, भाजपा में परिवारवाद नहीं है। कांग्रेस जेब कट्टुओं (जेब कतरों) पर भरोसा करती है, ऐसा भाजपा मेें नहीं है। भाजपा में चाहे पार्षद हो, महापौर हो, विधायक हो, मुख्यमंत्री हो या प्रधानमंत्री हो, जमीन से जुड़े कार्यकर्ता को मौका दिया जाता है। इंदौर में सिंधिया ने जबरन कॉलोनी में सभा को संबोधित किया। कहा, उस (कांग्रेस) पार्टी की सरकार में सड़क कहां और गड्ढे कहां हैं, यह पता ही नहीं चलता था। सीएम शिवराज: नाथ को चुनाव में रुचिनहीं तो क्यों कर रहे दौरे... रोड शो करने इसी दिन छिंदवाड़ा आए सीएम शिवराज सिंह ने कहा कि कमलनाथ निगम चुनाव में रुचि न होने की बात कह रहे हैं। फिर वे दौरे क्यों कर रहे हैं। उन्होंने इसका जवाब मांगा। मीडिया से चर्चा में कहा कि जबलपुर में पूर्व सीएम की टिप्पणी से यह स्पष्ट हो गया है, तो जनता को भी कांग्रेस में कोई रुचि नहीं है। उधर, सतना में सीएम ने कहा, मां-बहनों पर बुरी नजर डालने वालों को बर्बाद कर दूंगा। नेस्तनाबूद कर दूंगा। सतना में विलंब होने के कारण सीएम ने सिंगरौली का दौरा रद्द कर दिया। वे रात 11 बजे खजुराहो रवाना हुए। ये चुनाव मेरा नहीं आपका है, तय आपको करना है: नाथ... प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने छिंदवाड़ा में इसी शाम को रोड शो किया। इस दौरान भारी बारिश होती रही। शुरू में नाथ ओपन जीप में सवार होकर समर्थन मांगते रहे। बारिश शुरू होने पर वे कार में बैठ गए। राजपाल चौक पर जनता को संबोधित किया। कमलनाथ ने कहा कि यह चुनाव मेरा नहीं है। आप का चुनाव है। आप गवाह हैं मेरे 40 साल के। आज सवाल छिंदवाड़ा को सुरक्षित रखने का है। हमारा भविष्य एवं हमारे जिले का भविष्य सुरक्षित रहे। यह फैसला आप लोगों को करना है। सच्चाई का साथ देना है। कमलनाथ शहीद भारत यदुवंशी के निवास पर भी पहुंचे और श्रद्धांजलि अर्पित की। जीतू पटवारी: भाजपा का मेयर नहीं बनने पर धमकी दे रहे मुख्यमंत्री... कांग्रेस विधायक जीतू पटवारी ने इसी दिन उज्जैन में प्रदेश सरकार की खिंचाई की। बोले, कई शहरों में पहुंचकर सीएम शिवराज सिंह सभाओं में जनता को धमका रहे हैं। कह रहे हैं, भाजपा का महापौर नहीं बनने पर शहर का विकास रुक जाएगा। मैं पूछता हूं, आप नगर निगम चला रहे हैं या प्रदेश सरकार। आप पर प्रदेश की जनता का भार है। आपको उनकी सुविधाओं का ध्यान रखना है। संकल्प पत्र जारी करने के दौरान पटवारी ने कहा कि सीएम और भाजपा के पास अब केवल एक ही साल है। बाद में हम बताएंगे कि विकास कैसे रुकता है।

पत्रिका 2 Jul 2022 3:16 pm

पौधा तुंहर दुआर योजना का शुभारंभ इस अभियान के तहत मिलेगा घर बैठे नि:शुल्क पौधे

सुकमा . वन विभाग के माध्यम से लोगों को घर तक नि:शुल्क फलदार पौधा पहुंचाया जाएगा। पर्यावरण के प्रति जागरूकता लाने एवं लोगों को इस मौसम में सहज अपने घर में पौधे मिल जाए, इस उद्देश्य से इस योजना की शुरुआत की गई है। इस दौरान शेख सज्जार, पार्षद पदमा जायसवाल, राजेश नारा, रमेश राठी, मनोज चौरसिया, रोहित पांडे, लक्ष्मण मंडावी वन परिक्षेत्र अधिकारी गुलशन साहू, डिप्टी रेंजर कमलेश चंद कश्यप, सहित वन विभाग के अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे। शुक्रवार को सुकमा वन मंडल के सभी वन परिक्षेत्र में तुंहर दुआर योजना के तहत निशुल्क वितरण कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। जिले के सभी वन परिक्षेत्र के अधिकारियों का मोबाइल नंबर जारी किया गया है, जिससे आम जन संपर्क कर पौधों के लिए पंजीयन करवा सकें। जिसके बाद निर्धारित पते पर वन विभाग के द्वारा नि:शुल्क फलदार पौधा पहुंचाया जाएगा। यह अभियान 1 जुलाई से 7 जुलाई तक जारी रहेगा। नपा अध्यक्ष जगन्नाथ राजू साहू ने संबोधित करते हुए कहा कि वन नहीं तो हम नहीं, हमें यह याद रहना चाहिए कि वन ही जीवन हैं, अवैध कटाई को सब को मिलकर रोकना हैं, इसके लिए जागरूकता लाना जरूरी हैं। इस योजना के तहत सभी लोग अपने-अपने घरों में पौधा रोहित कर पर्यावरण के संरक्षण के लिए अहम योगदान दें।जिला पंचायत अध्यक्ष हरीश कवासी ने कहा हमारा बस्तर प्राकर्तिक संपदाओं से भरा हुआ हैं और इसे इसी तरह संरक्षित रखने की जरूरत हैं, पर्यावरण शुद्ध रहें इस दिशा में हम सबको मिलकर प्रयास करना हैं। उन्होंने जिले वासियों से अपील करते हुए कहा कि सभी एक-एक फलदार पौधे लगाए और उसका अच्छी तरह से संधारण करें, ताकि पौधा आगे जाकर पेड़ के रूप में विकसित हो और इससे आमदनी देगा और यह पर्यावरण संरक्षण के लिए भी महत्वपूर्ण कदम है। डीएफओ जाधव सागर रामचंद्र नेबताया कि छत्तीसगढ शासन की महत्वाकांक्षी योजना पौधा तुंहर दुआर अभियान के तहत आज से सुकमा वनमण्डल के अंतर्गत फलदार पौधा का वितरण किया जाएगा। जिन लोगों ने मोबाइल के माध्यम से पंजीयन करवाया है उन्हें जल्द ही घर पहुंचा कर पौधा प्रदान किया। इसके अलावा साप्ताहिक हाट बाजारों में भी वन विभाग के द्वारा पौधा वितरण किया जाएगा ताकि अधिक से अधिक लोगों को फलदार पौधा उपलब्ध हो सके।

पत्रिका 2 Jul 2022 3:15 pm

बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे पर PM मोदी: रात के अंधेरे से लेकर दिन के उजाले तक स्नाइपर की नज़र, 2 दर्जन..

पीएम मोदी के बुंदेलखंड दौरे को लेकर उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव गृह सचिव आईएएस अवनीश अस्वथी ने देर रात इटावा से लेकर चित्रकूट तक पूरे रूट का दौरा किया। पिछले एक हफ्ते में अवनीश अवस्थी का ये दूसरा सबसे बड़ा दौरा है। जब रूट पर विजिट के साथ साथ क्षेत्रीय स्तर पर सभी अधिकारियों के साथ बैठक भी की। इसी रात के अंधेरे मे बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे की हर बारीकी को गहनता से देखा परखा गया। जिसकी शुरुआत में खुद पीएम मोदी आ रहे हैं। सूत्रों की मानें तो इन सभी रूटों को 7 जुलाई से ही केंद्रीय सुरक्षा एजेंसियां अपने अधिकार क्षेत्र में ले लेंगी। जिसके लिए 7 जुलाई से ही कई टीम इस रूट के विजिट में लग जाएगी। वहीं सीएम योगी आदित्यनाथ खुद भी पीएम मोदी के दौरे से पहले यहाँ आकर कार्यक्रम, प्रोजेक्ट और उससे जुड़ी हर एक बारीकी पर नज़र रखेंगे। रात ढाई बजे पहुँचकर अधिकारियों के साथ मीटिंग उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव एवं यूपीडा के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अवनीश अवस्थी रात करीब ढाई बजे बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे का निरीक्षण करने कुदरैल के पास पहुंच गए। अवस्थी के दौरे को लेकर जिले के सभी आला अफसर भी मौजूद रहे । उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिया कि हर हाल में काम एक सप्ताह के अंदर समय पूरा कर लिया जाए। किलोमीटर 291 पर बनने वाले निर्माणाधीन पुल पर काम धीमा होने को लेकर नाराजगी जतायी और दो दिन में इसका लैंटर डालने के निर्देश दिए। उन्हें प्रोजेक्ट हैड उत्तम कुमार ने बताया कि दो दिन में लैंटर डालकर सात दिन में खोल दिया जाएगा। उन्होंने कार्यदाई संस्था के कार्यालय में अधिकारियों के साथ बैठक की और हाईवे के निर्माण में मानक के अनुसार गुणवत्तापूर्ण कार्य समय से पूरा करने के निर्देश दिए। उनका स्वागत जिलाधिकारी अवनीश कुमार राय व एसएसपी जय प्रकाश सिंह ने किया। निर्माणाधीन बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे की प्रगति को लेकर अवनीश अवस्थी का यह तीसरा दौरा है। अवस्थी के दौरे को लेकर ऐसा कहा जा रहा है कि बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 12 जुलाई को लोकार्पण कर सकते है इन्ही तैयारियो के बीच अवस्थी ने आज तड़के दौरा करके अधिकारियो को अधूरे निर्माण को पूरा करने के निर्देश दिये है। निर्माणाधीन बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे की प्रगति के लेकर अवनीश अवस्थी का यह तीसरा दौरा है। यह भी पढे: मुलायम सिंह के समधी का ऐलान: 2027 तक समाजवादी पार्टी खत्म हो जाएगी, सारे यादव BJP में.. मुस्लिम

पत्रिका 2 Jul 2022 3:14 pm

CHHINDWARA BREAKING: शिवराज जहां नदी नहीं होती वहां भी पुल बनाने की कर देते हैं घोषणा-कमलनाथ

छिंदवाड़ा. नगरीय निकाय चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशियों के समर्थन में प्रचार करने अपने गढ़ छिंदवाड़ा में पहुंचे प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने शनिवार सुबह अपने निज निवास शिकारपुर में प्रेस कान्फ्रेंस किया। उन्होंने कहा कि शिवराज सरकार ने बीस हजार घोषणाएं कर दी। शिवराज तो जहां नदी भी नहीं होती है वहां पुल बनाने की घोषणा कर देते हैं। घोषणाओं की राजनीति करते हैं। शिवराज रोज सुबह यही सोचते हैं कि आज जनता के सामने कौन सी एक्टिंग करनी है और एक्टिंग की तैयारी कर घर से निकलते हैं। उन्होंने कहा कि हमारे महापौर के प्रत्याशी विक्रम अहाके ठेकेदार, सूत, लैंड माफिया नहीं है और न ही नगर निगम के कर्मचारी है। साधारण सरल, स्वभाव के व्यक्ति हैं। छिंदवाड़ा के मतदाताओं से अपील करता हूं कि वे पिछले 40 साल की तस्वीर अपने साथ रख ले और सच्चाई का साथ दें। उन्होंने कहा कि इस चुनाव में प्रदेश एवं देश का फैसला नहीं होना है। छिंदवाड़ा के भविष्य का फैसला होना है। झूठ और सच्चाई का फैसला होना है। अभी हाल में ही रणजी ट्राफी हमारा मध्यप्रदेश जीता है, लेकिन शिवराज सिंह चौहान ने तो झूठ बोलने में वल्र्ड कप जीत लिया है। जहां जाते हैं झूठ पर झूठ बोलते हैं। एक मीडियाकर्मी ने कमलनाथ से पूछा कि शिवराज ने बीते दिनों कहा था कि कमलनाथ को जब नगर निगम चुनाव में दिलचस्पी नहीं है तो वे छिंदवाड़ा क्यों जा रहे हैं और प्रचार क्यों कर रहे हैं। इस पर कमलनाथ ने कहा कि शिवराज की पेट में क्यों दर्द होता है कि मेरी दिलचस्पी कहा है। मेरी दिलचस्पी शिवराज का खुलासा करने में है और जब भी उनका खुलासा होना चाहिए मैं करता हूं। प्रदेश की जनता को अब खुलासा की भी आवश्यकता नहीं है, वो अब अच्छी तरह उनके झूठ से परिचित हो चुकी है। कमलनाथ ने कहा कि मतदाता समझदार हो गए हैं। वे जानते हैं कि केन्द्र में और प्रदेश में भाजपा है तो छिंदवाड़ा में भाजपा नहीं होना चाहिए, वो भी परिवर्तन चाहती है। जब कमलनाथ से पूछा गया कि पार्टी से कई लोग असंतुष्ट हो गए हैं और अलग होकर चुनाव लड़ रहे हैं। इस पर उन्होंने कहा कि सब भरोसे के लोग हैं। भाजपा विरोधी कितने जीतते हैं, ये हमें याद रखना है। कमलनाथ ने कहा कि शिवराज जगह-जगह जनता से कह रहे है कि अगले पांच साल में वे क्या करेंगे। मैं तो कहता हूं कि शिवराज जी आप अपने 18 साल का हिसाब किताब दीजिए। भ्रष्टाचार का हिसाब किताब दीजिए। आपने प्रदेश को बेरोजगारी, महंगाई, किसानों को परेशानी, आत्महत्या दी। आपने घर-घर में दारू दी। शिवराज सोचते हैं कि इनके नाटक-नौटंकी और झूठ से हमारे मध्यप्रदेश एवं छिंदवाड़ा की जनता को वह प्रभावित कर पाएंगे लेकिन मुझे विश्वास है कि झूठ से सबका पेट भर गया है। मुख्यमंत्री केवल बजट काटने की जिम्मेदारी लेते हैं।

पत्रिका 2 Jul 2022 3:12 pm

Maharashtra Politics: एकनाथ शिंदे को शिवसेना से निकालने पर आग-बबूला हुए बागी विधायक, कही यह बड़ी बात

महाराष्ट्र के सीएम के रूप में कमान संभालने वाले एकनाथ शिंदे के सामने कई चुनौतियां है। शुक्रवार को शिवसेना प्रमुख व पूर्व सीएम उद्धव ठाकरे ने पार्टी संगठन के नेता पद से एकनाथ शिंदे को हटा दिया दिया है। इस बीच शिवसेना से एकनाथ शिंदे को निकालने पर गोवा में बैठे बागी विधायक आग बबूला हो गए है। शिंदे खेमे के प्रवक्ता दीपक केसरकर ने कहा है कि वे उद्धव ठाकरे के खिलाफ नहीं बोलेंगे, लेकिन हमारी भी एक सीमा है। दीपक केसरकर ने कहा है कि हम अभी भी उद्धव ठाकरे को हमारा नेता मानते हैं। हमारे पास सभी सवालों के जवाब हैं लेकिन इसकी एक सीमा है। उन्होंने आगे कहा कि कार्यकर्ता 100 रुपये के हलफनामे पर हस्ताक्षर कर रहे हैं कि वे शिवसेना नहीं छोड़ेंगे। शिव बंधन प्यार का बंधन है और यह अभी भी हमारे साथ है। यह सिर्फ कार्यकर्ताओं को भटकाने लिए किया जा रहा है। यह भी पढ़ें: Maharashtra Politics: एकनाथ शिंदे भले ही बन गए हैं सीएम लेकिन सामने हैं फ्लोर टेस्ट सहित ये चुनौतियां, आज बागियों के साथ पहुंचेंगे मुंबई दीपक केसरकर ने कहा कि कहा जा रहा है कि एकनाथ शिंदे को पार्टी से निकाल दिया गया है। इसे चुनौती दी जाएगी। यह लोकतंत्र को प्रभावित करेगा। दीपक केसरकर ने कहा कि कहा जा रहा है कि एकनाथ शिंदे को पार्टी से निकाल दिया गया है। इसे चुनौती दी जाएगी। यह लोकतंत्र को प्रभावित करेगा। बता दें कि शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे की तरफ से जारी पत्र में कहा गया शिवसेना पक्ष प्रमुख के रूप में मुझमें निहित शक्तियों का प्रयोग करते हुए, मैं आपको पार्टी संगठन में शिवसेना नेता के पद से हटाता हूं। शिवसेना भवन में एक प्रेस कांफ्रेंस में शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने बीजेपी से मुंबई को धोखा नहीं देने को कहा। उन्होंने कहा बीजेपी ने जैसा मेरे साथ किया वैसा महाराष्ट्र के साथ न हो। दूसरी तरफ महाराष्ट्र के नए मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने दावा किया कि वो अभी भी शिवसेना के नेता हैं। जबकि एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में उद्धव ठाकरे ने कहा कि मेरा गुस्सा मुंबई के लोगों पर मत निकालो।

पत्रिका 2 Jul 2022 3:07 pm

BJP को काउन्टर करने के लिए हैदराबाद में KCR करेंगे शक्ति प्रदर्शन, बनाई खास रणनीति

तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद में आज बीजेपी शक्ति प्रदर्शन करने वाली है। बीजेपी यहाँ राष्ट्रीय कार्यकारिणी की दो दिवसीय बैठक कर 2024 का अजेंडा तैयार करेगी। इसमें पीएम मोदी, गृह मंत्री अमित शाह समेत कई बड़े नेता शामिल हुए हैं। इससे पहले पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने रोड शो किया। करीब 18 साल बाद हो रही बीजेपी की इस बैठक को काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है। वहीं, बीजेपी को काउन्टर करने के लिए राज्य के CM के चंद्रशेखर राव भी आज शक्ति प्रदर्शन करेंगे। सत्तारूढ़ TRS ने राष्ट्रपति चुनाव के लिए विपक्ष के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा के समर्थन में एक रैली का आयोजन किया है। यशवंत सिन्हा का स्वागत न केवल गाजे-बाजे के साथ किया गया, बल्कि उनके लिए एक बाइक रैली भी आयोजित की गई है। खुद KCR इस रैली का नेतृत्व करेंगे और पार्टी की मजबूती और विपक्ष की एकजुटता का प्रदर्शन करेंगे। बाइक रैली की तैयारी दरअसल, आज राष्ट्रपति चुनाव के लिए विपक्ष के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा तेलंगाना पहुंचे हैं। हैदराबाद के बेगमपेट एयरपोर्ट पर उनके स्वागत के लिए सीएम के चंद्रशेखर राव और TRS के कई बड़े नेता पहुंचे। इसके बाद केसीआर, यशवंत सिन्हा समेत TRS के बड़े नेता एक बड़ी बाइक रैली करेंगे। ये रैली बेगमपेट, राजभवन और खारीताबाद से हुसैन सागर झील तक की होगी। इस रैली में सैंकड़ों TRS कार्यकर्ता भी शामिल होंगे। जलविहार में एक सभा को भी केसीआर और यशवंत सिन्हा संबोधित करेंगे। स्पष्ट है कि केसीआर राज्य में न केवल पार्टी की मजबूती का प्रदर्शन करेंगे, बल्कि राष्ट्रीय स्तर पर विपक्षी दलों की एकजुटता को भी दिखाएंगे। यशवंत सिन्हा इसके बाद AIMIM के नेताओं से भी मुलाकात कर सकते हैं और राष्ट्रपति चुनाव के लिए उनसे समर्थन मांग सकते हैं। यह भी पढ़े- 6 महीने में तीसरी बार तेलंगाना के CM केसीआर ने एयरपोर्ट पर PM मोदी को नहीं किया रिसीव दोनों पार्टियों में दिखा पोस्टर वॉर राष्ट्रीय स्तर पर अपनी छवि को मजबूत करने में जुटे तेलंगाना सीएम न केवल राज्य स्तर पर, बल्कि राष्ट्रीय स्तर पर पार्टी के लिए काम करते हुए दिखा दे रहे हैं। आम आदमी पार्टी के साथ पंजाब में रैली, फिर विपक्षी उम्मीदवार को समर्थन देना, और पीएम मोदी की अगुवाई न कर केसीआर ने अपने पत्ते खेलना शुरू कर दिया है। इससे पहले शहर की सड़कों पर बीजेपी और TRS के बीच पोस्टर वॉर भी देखने को मिला। पोस्टर के जरिए बीजेपी जहां केंद्र की उपलब्धियों को हाईलाइट कर रही है, तो दूसरी तरफ TRS केसीआर और यशवंत सिन्हा को हाईलाइट कर रही है। दोनों ही जनता को लुभाने में लगे हुए हैं।

पत्रिका 2 Jul 2022 3:07 pm

ऋषभ पंत की बल्लेबाजी से प्रभावित हुए दुनिया भर के दिग्गज क्रिकेटर्स, जानें किसने क्या कहा

India vs England Edgbaston test: भारत और इंग्लैंड के बीच पांच मैचों की टेस्ट सीरीज का आखिरी मुक़ाबला बर्मिंघम के एजबेस्टन में खेले जा रहा है। इस मैच में भारतीय विकेट कीपर ऋषभ पंत ने तूफानी शतकीय पारी खेली और भारतीय टीम को एक मजबूत स्थिति तक पहुंचाया। पंत की इस पारी से दुनिया भर के कई दिग्गज क्रिकेटर गदगद उठे और उनकी जमकर तारीफ कर रहे हैं। ऋषभ पंत के बल्ले से निकले 146 रनों ने क्रिकेट जगत को प्रभावित कर दिया, जिसमें माइकल वॉन, वेस्टइंडीज के दिग्गज इयान बिशप और सचिन तेंदुलकर भी शामिल थे। भारतीय टीम की कठिन परिस्थितियों के बावजूद पंत ने शानदार शतक लगाते हुए मुश्किल समय से टीम को बाहर निकाला। पंत ने एजबेस्टन में पहले दिन 111 गेंदों पर 146 रनों की शानदार पारी खेली। पंत की इस पारी पर भारतीय दिग्गज वीरेंद्र सहवाग ने लिखा, 'पंत अपनी ही एक लीग में हैं। दुनिया के सबसे मनोरंजक क्रिकेटर, ये काफी खास है।' अमित मिश्रा ने लिखा, 'मुसीबत में स्पाइडरमैन को बुलाओ! रॉकस्टार ऋषभ पंत ने ऐसी परिस्थितियों में बेहतरीन अंग्रेजी अटैक के खिलाफ क्या जोरदार पारी खेली। आग से लड़ने का सबसे अच्छा तरीका यह है कि आग से ही लड़ो।‘ बता दें इस मैच में इंग्लैंड के कप्तान बेन स्टोक्स ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी चुनी थी। भारत की शुरुआत अच्छी नहीं रही और मात्र 98 रन पर आधी टीम पवेलियन लौट गई। लेकिन उसके बाद विकेट कीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत और रवीद्र जडेजा ने बेहतरीन बल्लेबाजी करते हुए टीम को इस मुश्किल घड़ी से बाहर निकाला। दोनों ने छठे विकेट के लिए 222 रनों की साझेदारी की। पंत ने 51 गेंद पर अर्धशतक और 89 गेंदों पर अपना शतक पूरा किया। उन्होंने 111 गेंदों में 146 रन की पारी खेली। दिन का खेल खत्म होने तक भारत ने 73 ओवर में 7 विकेट के नुकसान पर 338 रन बना लिए हैं। क्रीज़ पर रविंद्र जडेजा और मोहम्मद शामी बल्लेबाजी कर रहे हैं। पंत के बाद जडेजा भी शतक के करीब पहुंच गए हैं। वे 163 गेंद पर 83 रन बनाकर खेल रहे हैं।

पत्रिका 2 Jul 2022 3:04 pm

BIG BREAKING: कमलनाथ की फिसली जुबान, अपने ही महापौर प्रत्याशी का भूल गए नाम

छिंदवाड़ा. नगरीय निकाय चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशियों के समर्थन में प्रचार करने अपने गढ़ छिंदवाड़ा में पहुंचे प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने शनिवार सुबह अपने निज निवास शिकारपुर में प्रेस कान्फ्रेंस किया। प्रेस कान्फ्रेंस के दौरान कमलनाथ अपने कांग्रेस के महापौर प्रत्याशी का नाम गलत ले बैठे। हालांकि उन्होंने तत्काल ही इस त्रुटि को सुधार लिया। कहा कि हमारे महापौर के प्रत्याशी विक्रम अहाके ठेकेदार, सूत, लैंड माफिया नहीं है और न ही नगर निगम के कर्मचारी है। साधारण सरल, स्वभाव के व्यक्ति हैं। छिंदवाड़ा के मतदाताओं से अपील करता हूं कि वे पिछले 40 साल की तस्वीर अपने साथ रख ले और सच्चाई का साथ दें। उन्होंने कहा कि इस चुनाव में प्रदेश एवं देश का फैसला नहीं होना है। छिंदवाड़ा के भविष्य का फैसला होना है। झूठ और सच्चाई का फैसला होना है। अभी हाल में ही रणजी ट्राफी हमारा मध्यप्रदेश जीता है, लेकिन शिवराज सिंह चौहान ने तो झूठ बोलने में वल्र्ड कप जीत लिया है। जहां जाते हैं झूठ पर झूठ बोलते हैं। एक मीडियाकर्मी ने कमलनाथ से पूछा कि शिवराज ने बीते दिनों कहा था कि कमलनाथ को जब नगर निगम चुनाव में दिलचस्पी नहीं है तो वे छिंदवाड़ा क्यों जा रहे हैं और प्रचार क्यों कर रहे हैं। इस पर कमलनाथ ने कहा कि शिवराज की पेट में क्यों दर्द होता है कि मेरी दिलचस्पी कहा है। मेरी दिलचस्पी शिवराज का खुलासा करने में है और जब भी उनका खुलासा होना चाहिए मैं करता हूं। प्रदेश की जनता को अब खुलासा की भी आवश्यकता नहीं है, वो अब अच्छी तरह उनके झूठ से परिचित हो चुकी है। शिवराज सरकार ने बीस हजार घोषणाएं कर दी। शिवराज तो जहां नदी भी नहीं होती है वहां पूल बनाने की घोषणा कर देते हैं। घोषणाओं की राजनीति करते हैं। आज सब परेशान है। शिवराज रोज सुबह सोचते हैं कि आज कौन सी एक्टिंग करनी है और एक्टिंग की तैयारी कर घर से निकलते हैं। कमलनाथ ने कहा कि मतदाता समझदार हो गए हैं। वे जानते हैं कि केन्द्र में और प्रदेश में भाजपा है तो छिंदवाड़ा में भाजपा नहीं होना चाहिए, वो भी परिवर्तन चाहती है। जब कमलनाथ से पूछा गया कि पार्टी से कई लोग असंतुष्ट हो गए हैं और अलग होकर चुनाव लड़ रहे हैं। इस पर उन्होंने कहा कि सब भरोसे के लोग हैं। भाजपा विरोधी कितने जीतते हैं, ये हमें याद रखना है। कमलनाथ ने कहा कि शिवराज जगह-जगह जनता से कह रहे है कि अगले पांच साल में वे क्या करेंगे। मैं तो कहता हूं कि शिवराज जी आप अपने 18 साल का हिसाब किताब दीजिए। भ्रष्टाचार का हिसाब किताब दीजिए। आपने प्रदेश को बेरोजगारी, महंगाई, किसानों को परेशानी, आत्महत्या दी। आपने घर-घर में दारू दी। शिवराज सोचते हैं कि इनके नाटक-नौटंकी और झूठ से हमारे मध्यप्रदेश एवं छिंदवाड़ा की जनता को वह प्रभावित कर पाएंगे लेकिन मुझे विश्वास है कि झूठ से सबका पेट भर गया है। मुख्यमंत्री केवल बजट काटने की जिम्मेदारी लेते हैं।

पत्रिका 2 Jul 2022 3:03 pm

कांस्टेबल पर हमला मामलाः पुलिस ने कोबरा गैंग के सरगना की कराई पब्लिक परेड

देवगढ़. (राजसमंद). उदयपुर में कन्हैयालाल हत्याकांड के बाद भीम में पुलिस कांस्टेबल पर तलवार से हमले को लेकर मगरे की मुख्य आपराधिक कोबरा गैंग के सरगना सुरेंद्रसिंह एवं बलवंत सिंह की पुलिस ने देवगढ़ में पब्लिक परेड कराते हुए सड़कों पर घुमाया। इस दौरान एसपी व एएसपी भी सड़कों पर पैदल चल रहे थे। नगर में भारी पुलिस सुरक्षा के बीच दोनों ही बदमाशों को देवगढ़ थाने से लेकर नगर पालिका, तीन बत्ती चौराहा एवं कामलीघाट रोड पर स्थित विद्या निकेतन स्कूल तक सड़कों पर घुमाया गया। ज्ञात रहे कि परेड में शामिल दोनों ही बदमाश हार्डकोर अपराधी हैं। इस दौरान पुलिस अधीक्षक सुधीर चौधरी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शिवलाल बैरवा, देवगढ़ थानाधिकारी शैतानसिंह नाथावत सहित भारी पुलिस जाब्ता मौजूद रहा। कोबरा गैंग के सरगना सुरेंद्र सिंह उर्फ सूर्या, बलवंत सिंह उर्फ बल्लू को देवगढ़ पुलिस टीम के कांस्टेबल शिव दर्शनसिंह, बाबूसिंह, खिवराज, आसूचना अधिकारी वीरेंद्रसिंह भाटी, मुकेश कुमार, गुलजार सिंह, राजकुमार ने अलसुबह मगरे के जंगलों में घेराबंदी कर गिरफ्तार किया। उन्हें देवगढ़ थाने से परेड के बाद भीम थाने ले जाया गया। पहली बार देवगढ़ में खुलेआम बदमाशों की परेड से लोग एकाएक सकते में आ गए और देखने वालों की काफी भीड़ एकत्रित हो गई। इस दौरान लोग पुलिस की इस कार्रवाई को लेकर चर्चा करते हुए खुशी भी जता रहे थे। भीम में तीन को कराई मौका तस्दीक भीम. कस्बे में कांस्टेबल संदीप चौधरी पर हमले के आरोपी आपराधिक गैंग से जुड़े तीन बदमाशों को घटनास्थल की तस्दीक करवाई गई। एएसपी शिवलाल बैरवा के नेतृत्व में पुलिस ने सुरेन्द्र सिंह उर्फ सूर्या, देवेन्द्र सिंह उर्फ भईड़ा और बलवीर सिंह को कस्बे में अस्पताल मार्ग से लेकर सदर बाजार, पड़ाव, राष्ट्रीय राजमार्ग-8 होकर पुलिस थाना तक ले जाते हुए घटनास्थल की तस्दीक करवाई। -व्यापारियों ने बंद रखी दुकानें, बोले- निर्दोष न फंसे कस्बे के सभी व्यापारियों ने शुक्रवार को बाजार बंद रखे। पूरे कस्बे में करीब 500 दुकानें बंद रही। उन्होंने उपखण्ड अधिकारी उम्मेद सिंह को ज्ञापन दिया। पुलिस व प्रशासन से कहा कि निर्दोष व्यक्तियों के साथ मारपीट न हो, दोषी व्यक्ति को ही सजा मिले। अधिकारियों ने जब उचित कार्रवाई करने का भरोसा दिलाया, तब व्यापारी शनिवार को बाजार खोलने पर राजी हुए।

पत्रिका 2 Jul 2022 3:01 pm

नवनिर्मित हॉल के लगे हैं छह माह से ताले, नही मिल रहा लोगों को फायदा

दूनी. कस्बे के अस्पताल परिसर में विधायक हरिशचंद मीणा के विधायक कोष से स्वीकृत लाखों की राशि से नवनिर्मित हॉल के करीब छह माह से ताले लटके होने से अस्पताल प्रशासन एवं मरीजों इसका फायदा नहीं मिल पा रहा हैं। अस्पताल प्रशासन की मांग पर विधायक मीणा ने 2021 में अपने कोष से दस लाख रुपए स्वीकृत किए थे । इसके बाद सानिवि ने 24 दिसंबर 2022 को कार्य पूर्ण कर हॉल का निर्माण कर दिया। इसके बाद संवेदक नवनिर्मित हॉल के ताला लगाकर चला गया। इस दौरान अस्पताल प्रशासन छह माह से उक्त नवनिर्मित हॉल को सानिवि की ओर से सौंपने का इंतजार कर रहा हैं। वहीं उद्घाटन नहीं होने से नवनिर्मित हॉल अस्पताल प्रशासन व मरीजों के कार्य में नहीं आ रहा हैं। विधायक कोष से बना नवनिर्मित हॉल सानिवि की ओर से अस्पताल को नहीं सौंपा गया है। संवेदक ने छह माह से ताले लगा रखे हैं। सानिवि को पत्र लिखकर हॉल सौंपने की मांग करेंगे। सुनील शर्मा, ब्लॉक चिकित्सा एवम स्वास्थ्य अधिकारी, देवली नवनिर्मित हॉल का कार्य पूर्ण हो चुका हैं। जल्दी ही अस्पताल प्रशासन को सौंप देंगे। गेगा राम मीणा, सहायक अभियंता, सार्वजनिक निर्मा ंण विभाग, दूनी सीएचसी पर स्टोर रूम का अभाव पीपलू. अस्पताल में मुख्यमंत्री दवा योजना के लिए मेडिसन स्टोर रूम नहीं होने से दवाओं के स्टोर करने में काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा हैं। पीपलू सामुदायिक अस्पताल में वर्तमान में दवाओं का स्टोर करने के लिए अलग से पर्याप्त व्यवस्था नहीं होने से अलग-अलग जगहों पर उनको स्टोर करना पड़ रहा हैं। पीपलू सीएचसी पर चिकित्सकों के बैठने के 3 रूम में ही वर्तमान में स्टोर प्रभारी कक्ष एवं दवाओं का भंडारण कक्ष बनाया हुआ हैं। वहीं मरीजों के परिजनों के रूकने को लेकर बनाई गई धर्मशाला के तीन कमरों में दवाओं का स्टोर किया गया हैं। पीपलू सामुदायिक अस्पताल प्रभारी डॉ. रामअवतार माली ने बताया कि क्षेत्रीय विधायक सहित विभाग को सीएचसी पीपलू पर 40 गुणा 25 फीट में 15 लाख रुपए की अनुमानित लागत से अलग से मुख्यमंत्री दवा योजना के लिए मेडिसन स्टोर रूम बनवाने की डिमांड की गई हैं।

पत्रिका 2 Jul 2022 2:58 pm

आजमगढ़ में आकाशीय बिजली गिरने के 11 महिलाओं सहित 13 झुलसे

पत्रिका न्यूज नेटवर्क आजमगढ़. जिले के मार्टीनगंज तहसील क्षेत्र के ग्राम पंचायत आमगांव में शनिवार को आकाशीय बिजली गिरने से 11 महिला मजदूरों समेत 13 लोग झुलस गये। घटना के समय सभी मजदूर खेत में धान की रोपाई कर रहे थे। बारिश होने पर सभी एक पेड़ के नीचे खड़े हो गए। इसी समय हादसा हुआ और मजदूर झुलस गये। सभी घायल मजदूरों का प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मार्टीनगंज में भर्ती कराया गया है। मार्टिनगंज तहसील क्षेत्र के ग्राम पंचायत आमगांव निवासी जितेंद्र कश्यप के खेत में धान की रोपाई चल रही थी। उन्होंने बगल के गांव इमादपुर के दर्जनभर से अधिक मजदूरों को धान की रोपाई के लिए लगाया था। रोपाई के दौरान दिन में करीब 11 बजे बरसात शुरू हो गयी। बरसात तेज थी इसलिए मजदूर भीगने से बचने के लिए बरगद के पेड़ के नीचे चले गए। इसी दौरान एकाएक आकाशीय बिजली गिरी और 13 मजदूर चपेट में आकर बुरी तरह झुलस गए। झुलसे मजदूरों में सुशील, इन्द्रजीत, शारदा, शर्मिला, चंदा, सरित, चन्द्रकला, मूला देवी सुशीला, करिश्मा, रेशम, कलावती और प्यारी शामिल है। एक साथ इतने मजदूरों के झुलसने से अफरातफरी मच गयी। स्थानीय लोगों की मदद से सभी को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मार्टीनगंज पहुंचाया गया जहां उनका उपचार चल रहा है। मुख्य चिकित्साधिकारी डा. आईएन तिवारी ने बताया कि आकाशिय बिजली की चपेट में में आने से 13 मजदूर झुलसे है। जिन्हें उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सभी को उपचार चल रहा है। सभी खतरे से बाहर हैं। उन्हें जल्द ही डिस्चार्ज किया जाएगा। वहीं दूसरी तरफ दुर्घटना की जानकारी होने के बाद मजदूरों के परिवार के लोग भी मौके पर पहुंच गए है। अस्पताल में भी अफरा तफरी का माहौल दिखा।

पत्रिका 2 Jul 2022 2:53 pm

बड़ा ऐलानः नगर निगम में कांग्रेस की सरकार बनी तो सभी संविदाकर्मी परमानेंट होंगे

छिंदवाड़ा। नगरीय निकाय चुनाव में प्रचार करने आए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं पूर्व सीएम कमलनाथ ने शनिवार को बड़ा ऐलान किया है। उन्होंने कहा है कि नगर पालिका निगम में कांग्रेस की सरकार बनी तो संविदाकर्मियों को नियमित किया जाएगा। पूर्व सीएम कमलनाथ शनिवार को मीडिया से चर्चा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि नगर निगम में कांग्रेस की सरकार बनती है और कांग्रेस का महापौर बनता है तो हम दैनिक वेतनभोगी और संविदाकर्मियों को परमानेंट कर देंगे। यह बात मैंने इंदौर में कही थी और यहां भी कह रहा हूं। कमलनाथ के साथ प्रेस कांफ्रेंस में उनके सांसद पुत्र नकुलनाथ भी मौजूद थे। यह भी पढ़ेंः परीक्षा पे चर्चा के बाद कमलनाथ बोले- महंगाई-रोजगार पर नहीं होती चर्चा विजन से चलती है सरकार कमलनाथ ने कहा कि शिवराज सिंह चौहान टेलीविजन के कलाकार हैं। उनके पास विजन नहीं है। सरकार विजन से चलती है न कि टेलीविजन से। जनता सच्चाई को जान चुकी है और पहचान चुकी है। मेरे इंट्रेस्ट से क्या लेना-देना कमलनाथ ने शिवराज सिंह के उस बयान पर भी पलटवार किया, जिसमें उन्होंने कहा था कि कमलनाथ को नगर निगम चुनाव में इंट्रेस्ट नहीं है। कमलनाथ ने कहा कि शिवराज को मेरे इंट्रेस्ट से क्या लेना-देना। वे जगह-जगह की सभाओं में धमकी भरे अंदाज में कहते हैं कि बीजेपी को नहीं जिताया तो विकास के लिए पैसा नहीं देंगे। शिवराज कौन होते हैं विकास कार्यों की राशि रोकने वाले। यह तो एक सिस्टम है जिसके तहत राशि मिलती है। छिंदवाड़ा में सबसे ज्यादा रोजगार कमलनाथ ने कहा कि सबसे अधिक रोजगार के अवसर छिंदवाड़ा में, यहां तमाम स्किल सेंटर उस समय से है जब स्किल इण्डिया नहीं आया था। मजदूरी करने वाला भी ड्राइविंग सीखकर 15 से 20 हजार रुपए प्रतिमाह कमा रहा है। ड्राइविंग ही नहीं उन्हें निःशुल्क लाइसेंस भी दिया जाता है। क्या यह सोच शिवराज सिंह चौहान की हो सकती है। कदापि नहीं, होती तो 18 साल में प्रदेश की तरक्की इस बात की गवाह होती। यह भी पढ़ेंः उड़ान भरने से पहले मुख्यमंत्री के चार्टर्ड विमान में आई खराबी, सीएम का कार्यक्रम गड़बड़ाया महाराष्ट्र में भाजपा का षड्यंत्र पूर्व सीएम कमलनाथ ने महाराष्ट्र में सरकार गिरने के सवाल के जवाब में कहा कि भाजपा ऐसे षड्यंत्र करते रहती है। उन्होंने राजस्थान और छत्तीसगढ़ में भी इसी तरह के प्रयास किए, लेकिन सफल नहीं हो सके। नियमित करने के लिए कमेटी बनेगी कमलनाथ ने कहा कि नगर निगम में कांग्रेस की सरकार बनते ही संविदाकर्मियों को नियमित किया जाएगा। इसके लिए एक कमेटी बनाई जाएगी, जिसमें पत्रकार और अधिवक्ता शामिल होंगे। कमेटी की समय-समय बैठकें ली जाएंगी।

पत्रिका 2 Jul 2022 2:50 pm

होटल में सर्विस चार्ज लगने पर कंज्यूमर पैनल में कर सकेंगे शिकायत, सरकार जल्द जारी करेगी दिशानिर्देश

रेस्टोरेंट या होटल आपकी मर्जी के बिना सर्विस चार्ज नहीं मांग सकते हैं। अगर देशभर में कोई भी होटल या रेस्टोरेंट आपसे सर्विस चार्ज मांग करते हैं तो आप सर्विस चार्ज देने से मना कर सकते हैं। यह आपकी मर्जी पर हैं अगर आप खुद से सर्विस चार्ज देना चाहते हैं तो दे सकते हैं,लेकिन होटल या रेस्टोरेंट आपको सर्विस चार्ज देने के लिए मजबूर नहीं कर सकते हैं। होटल्स या रेस्टोरेंट्स अगर सर्विस चार्ज की मांग करते हैं तो आप जल्द ही इसकी शिकायत कंज्यूमर पैनल पर कर पाएंगे। सरकार के निर्देशों के बाद भी कई होटल्स व रेस्टोरेंट्स ग्राहकों से सर्विस चार्ज लेते हैं। इसी को देखते हुए उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय जल्द ही नए दिशानिर्देश जारी करने जा रहा है। इसके बाद यदि कोई भी होटल या रेस्टोरेंट ग्राहकों से जबरन सर्विस चार्ज की मांग करते हैं तो ग्राहक उनके खिलाफ कंज्यूमर पैनल में शिकायत दर्ज करा सकेंगे। अगले कुछ दिनों में आएगा नया दिशानिर्देश मीडिया रिपोर्ट के अनुसार उपभोक्ता मामलों का मंत्रालय अगले कुछ दिनों में नए दिशानिर्देश लेकर आ रहा है, जिसमें इस दिक्कत से निपटने के लिए कानूनी सहायता मिलेगी। नए दिशानिर्देशों में बिल में किसी भी सेवा शुल्क को शामिल करने के लिए कोई जगह नहीं होगी। अभी तक इस आरोप के निवारण के लिए कोई भी नियम या प्रावधान नहीं है। नए दिशानिर्देश के आने के बाद ग्राहक कंज्यूमर पैनल के पास अपनी शिकायत दर्ज करा पाएंगे। सर्विस चार्ज लगाना होगा 'अवैध' होटल या रेस्टोरेंट को लेकर इससे पहले 2017 में दिशानिर्देश जारी हुए थे, जिसमें बिल में सर्विस चार्ज प्रिंट करने का वैकल्पिक प्रावधान है। इस दिशानिर्देश में सर्विस चार्ज को लेकर स्पष्ट रूप से उल्लेख भी नहीं किया गया है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार नए दिशानिर्देश में सर्विस चार्ज लगाना अवैध बताया जाएगा।

पत्रिका 2 Jul 2022 2:47 pm

PTET Exam: पहली बार कलेक्टर ने ली पीटीईटी परीक्षा की जिम्मेदारी, ये है वजह

PTET Exam: जोधपुर. प्रदेश के करीब 1400 बीएड कॉलेजों में दो वर्षीय बीएड पाठ्यक्रम और चार वर्षीय इंटीग्रेटेड बीएससी बीएड व बीए बीएड पाठ्यक्रम में प्रवेश के लिए प्री टीचर एजुकेशन टेस्ट (पीटीईटी-2022) का आयोजन रविवार सुबह 11.30 बजे से दोपहर 2.30 बजे तक किया जाएगा। परीक्षार्थी अपने जिले में ही परीक्षा दे सकेंगे। सुबह 11.20 बजे बाद परीक्षार्थियों को परीक्षा केंद्र पर प्रवेश नहीं दिया जाएगा। नकल की रोकथाम के लिए विवि ने सुबह 8 बजे से अपराह्न 3 बजे तक नेटबंदी की सिफारिश की है, जिस पर सरकार शनिवार को निर्णय करेगी। वैसे इस साल अब तक किसी भी परीक्षा में नेटबंदी नहीं हुई है। परीक्षा आयोजक जोधपुर के जयनारायण व्यास विश्वविद्यालय ने नकल की रोकथाम व पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था के लिए इस बार यूपीएससी की तर्ज पर सरकार से सहयोग लिया है। सभी 33 जिला कलक्टर् की अध्यक्षता में गठित जिला परीक्षा समिति परीक्षा करवाएगी। कॉलेज प्रिंसिपल के स्थान पर समस्त 33 जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारियों को जिला पर्यवेक्षक बनाया गया है। रिटायर्ड व्यक्ति ड्यूटी से दूर प्रश्न पत्र जिला कोषागार में रखे गए हैं, जहां कलक्टर की ओर से गठित समिति ही परीक्षा केंद्र पर प्रश्न पत्र पहुंचाने और वापस लाने का जिम्मा संभालेगी। रिटायर्ड व्यक्ति ड्यूटी से दूर रहेंगे। परीक्षा केंद्र पर केवल केंद्राधीक्षक और केंद्र पर्यवेक्षक को ही मोबाइल की अनुमति होगी। सभी 33 जिलों में विवि ने एक-एक शिक्षकों को अपने प्रतिनिधि के तौर पर भेजा है। एक सीट के लिए चार में मुकाबला - 1558 परीक्षा केंद्र - 5,44337 अभ्यर्थी बैठेंगे - 379521 अभ्यर्थी 2 वर्षीय बीएड पाठ्यक्रम के - 164816 अभ्यर्थी 4 वर्षीय बीएड पाठ्यक्रम के - 1400 बीएड कॉलेज है प्रदेश में - 1.40 लाख सीटें हैं बीएड की मास्क जरूरी नहीं परीक्षार्थियों को परीक्षा से एक घंटे पहले सुबह 10.30 बजे से रिपोर्ट करना होगा। सुबह 11.20 बजे के बाद प्रवेश नहीं दिया जाएगा। परीक्षा केंद्र पर मास्क जरुरी नहीं है। इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस व घड़ी पर पाबंदी, हाफ आस्तीन के शर्ट, जूतों पर पाबंदी जैसी शर्तें अन्य परीक्षाओं के समान ही है। प्रवेश पत्र के साथ परीक्षार्थियों के लिए दिशा-निर्देश दिए गए हैं। सर्वाधिक परीक्षा केंद्र जयपुर में सह समन्वयक प्रो. प्रवीण गहलोत ने बताया कि परीक्षा के लिए अजमेर में 54, भीलवाड़ा में 32, नागौर में 37, टोंक में 47, भरतपुर में 75, सवाई माधोपुर में 46, धौलपुर में 24, करौली में 46, बीकानेर में 51, चूरू में 46, श्रीगंगानगर में 26, हनुमानगढ़ में 45, अलवर में 80, जयपुर में 166, झुंझुनूं में 41, सीकर में 82, दौसा में 66, बाड़मेर में 69, जैसलमेर में 11, जालोर में 39, जोधपुर में 88, पाली में 21,सिरोही में 20, बूंदी मेें 28, झालावाड़ा में 30, कोटा में 57, बारां में 34, बांसवाड़ा में 46, चितौड़गढ़ में 17, डूंगरपुर में 44,उदयपुर में 51, राजसमंद में 15 तथा प्रतापगढ़ में 24 परीक्षा केन्द्र बनाए गए हैं । परीक्षा की पूरी तैयारी कर ली गई है। पहली बार परीक्षा करवाने का जिम्मा जिला प्रशासन को सौंपा गया है, ताकि कहीं चूक नहीं हो। - प्रो. एसपीएस भादू, परीक्षा समन्वयक, पीटीईटी

पत्रिका 2 Jul 2022 2:45 pm

एक साथ सामने आए 107 कोरोना पॉजिटिव, एक मरीज की मौत

भोपाल. एक तरफ जहां मध्य प्रदेश में पंचायत और नगरीय निकाय चुनाव को लेकर सभी राजनीत दल और प्रत्याशी जोर शोर से जनसभाएं और रैलियां कर रहे हैं। इसी बीच राज्या में कोरोना का खतरा एक बार फिर बढ़ने लगा है। शुक्रवार को प्रदेशभर में हुई कोरोना की 7065 जांचों में 107 संदिग्धों में संक्रमण की पुष्टि हुई है। वहीं, सूबे के जबलपुर में एक और मरीज की मौत हो गई है। बताया जा रहा है कि, प्रदेश में अभी 636 मरीज एक्टिव हैं। प्रदेश के अलग-अलग अस्पताल में संक्रमित/संदिग्ध 30 मरीज भर्ती है। इनमें से 6 ऑक्सीजन सपोर्ट हैं। शुक्रवार को 62 मरीज ठीक हुए हैं। प्रदेश में अभी 636 एक्टिव केस हैं।प्रदेश में अब तक 10 लाख 44 हजार 604 लोग संक्रमित हो चुके हैं। इनमें से 10 लाख 33 हजार 224 लोग ठीक होकर घर लौट चुके है। वहीं, कोरोना की पिछली तीनों लहरों के दौरान प्रदेशभर में अब तक 10 हजार 743 की मौतें हो चुकी हैं। यह भी पढ़ें- भाजपा के दिग्गज नेता को आया हार्ट अटैक, अस्पताल में भर्ती 16 जिलों में अबतक सामने आए हैं नए केस आपको बता दें कि, तीसरी लहर का प्रभाव खत्म होने के बाद एक बार सामने आ रहे मामले अबतक प्रदेश के 16 जिलों से सामने आ चुके हैं। वहीं, बीते 24 घंटों के दौरान प्रदेश में सबसे अदिक संक्रमितों की पुष्टि इंदौर में हुई है। यहां 44 पॉजिटिव मिले है। वहीं, भोपाल में 20, बुरहानपुर में 3, धार में 1, गुना में 2, ग्वालियर में 3, हरदा में 1, होशंगाबाद 3, जबलपुर में 10, कटनी में 4, खंडवा में 3, खरगोन में 2, मंडला में 1, नरसिंहपुर में 4, सागर में 1, उज्जैन में 4 संक्रमितों की पिष्टि हुई है। यह भी पढ़ें- 5 हजार फीट की ऊंचाई पर विमान से निकलने लगा धुआं, 100 से ज्यादा यात्रियों में मची चीख पुकार यहां मतदाताओं को रिझाने के लिए बांटी जा रही साड़ियां, देखें वीडियो

पत्रिका 2 Jul 2022 2:16 pm

खून के बेशर्म कारोबारी ! राजस्थान से दान करवा यूपी में मिलावट, वसूल रहे ऊंचे दाम

जयपुर. रक्तदान को महादान मानकर लोग बढ़ चढ़कर इस पुण्य कार्य में शामिल होते हैं, लेकिन उत्तरप्रदेश की राजधानी लखनऊ में लोगों के इस विश्वास को तोड़ने और शर्मसार करने वाला खून का काला कारोबार सामने आया है। यहां दान में मिले रक्त में सेनाइल वाटर मिलाकर उसकी मात्रा बढ़ाने और फिर दोगुने दाम में बेचने का खुलासा एसटीएफ और ड्रग विभाग ने किया है। चौंकाने वाली बात यह है कि एक बार फिर ब्लड के इस काले कारोबार के तार राजस्थान के ब्लड बैंकों से भी जुड़े मिले हैं। कारोबारी जयपुर, सीकर और चौंमू के 8 विभिन्न ब्लड बैंकों से रक्त ले जाकर यह कारोबार कर रहे हैं। लखनऊ एसटीएफ और ड्रग विभाग की टीम ने मिडलाइफ चैरिटेबल ब्लड बैंक और कृष्णानगर की नारायणी ब्लड बैंक में छापेमारी की। छापेमारी में राजस्थान से तस्करी कर लाया गया 302 यूनिट घटिया मानव रक्त (ब्लड) बरामद किया गया है। ब्लड बैंक के संचालक और मुख्य तस्कर समेत सात को गिरफ्तार किया गया। यह खराब खून लखनऊ के अलावा हरदोई, उन्नाव, बहराइच, कानपुर और फतेहपुर जनपद के अस्पतालों और ब्लड बैंकों में भी आपूर्ति किया जाता था। सूत्रों के अनुसार, गिरोह का नेटवर्क सात राज्यों में फैला है। राजस्थान के इन ब्लड बैंकों से खरीद रहे एसटीएफ एसपी प्रमेश शुक्ला ने बताया कि, पूछताछ में आरोपियों ने राजस्थान के जयपुर स्थित तुलसी ब्लड बैंक, पिंक सिटी ब्लड बैंक, रेड ड्रॉप ब्लड सेंटर, गुरुकुल ब्लड सेंटर, ममता ब्लड बैंक चौमू, दुषात ब्लड बैंक चौमू, मानवता ब्लड बैंक सीकर, शेखावटी ब्लड बैंक चुरू से खून की खरीद फरोख्त की बात कबूली है। इन ब्लड बैंकों के टेक्नीशियनों के जरिए 700-800 रुपए में ब्लड बैग खरीदकर खून की तस्करी कर इन्हें ऊंचे दाम पर बेचते थे। बरामद ब्लड बैग पर मित्रा कंपनी का स्टिकर लगा था। पर न तो डोनर का नाम था और न ही कलेक्शन करने वाले का नाम। एसटीएफ ने इस गिरोह के खिलाफ ठाकुरगंज थाने में जालसाजी, कूटरचित दस्तावेज तैयार करना और औषधि एवं सौंदर्य प्रसाधन अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज कराया है। पूछताछ में खुलासा एसटीएफ की पूछताछ में गिरफ्तार तस्कर नौशाद ने बताया कि, डीएमएलटी की डिग्री उसने रामचंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ पैरामेडिकल साइंस प्रयागराज हासिल की थी। इसके बाद अंबिका ब्लड बैंक जोधपुर में बतौर लैब टेक्नीशियन काम किया। काम के दौरान राजस्थान के कई ब्लड बैंकों के चिकित्सकों व टेक्नीशियनों से संपर्क हुआ। फिर चैरेटेबिल ट्रस्टों के माध्यम से संचालित ब्लड बैंक ब्लड डोनेशन कैंप से खून जुटाते थे। अधिकतर बैगों की इंट्री, ब्लड बैंक के दस्तावेजों में नहीं होती थी। इन्हें फर्जी दस्तावेज तैयार कर दूसरे राज्य में अधिक कीमत पर बेचा जाता था। पहले भी सामने आया कारोबार गत वर्ष सितंबर माह में भी एसटीएफ टीम ने लखनऊ में ब्लड में सेलाइन वॉटर मिलाकर बेचने का खुलासा किया था। इसमें एक डॉक्टर शामिल था, जिससे 100 यूनिट ब्लड पैकेट बरामद किया गया। वह 21 से ज्यादा ब्लड बैंक को मिलावटी खून की सप्लाई यूपी, बिहार और राजस्थान के ब्लड बैंकों को करता था। सभी आदेश कागजी, कुछ नहीं कर पाया राजस्थान का संगठन यूपी का कारोबार सामने आने के बाद राजस्थान के औषधि नियंत्रण संगठन ने प्रदेश में ब्लड बैंकों पर सख्ती के कई आदेश जारी किए, लेकिन उक्त खुलासे के बाद ये सभी कागजी ही साबित हुए हैं। राज्य के औषधि नियंत्रक अजय फाटक ने कहा कि मामले की जानकारी मिली है, इसकी जांच राजस्थान के स्तर पर भी करवा रहे हैं। ...

पत्रिका 2 Jul 2022 2:15 pm

Udaipur Killing: आरोपियों के मोबाइल व सोशल मीडिया का डाटा एटीएस के लिए महत्वपूर्ण, कई संदिग्धों पर यूपी एटीएस का पहरा

उदयपुर में दर्जी कन्हैयालाल तेली की तालीबानी हत्या के बाद गिरफ्तार आरोपियों व घटना के पीछे यूपी कनेक्शन तलाशने के लिए यूपीएटीएस के चार सदस्यों की टीम उदयपुर भेजी गई है। एटीएस गिरफ्तार किए गए सभी आरोपियों से पूछताछ करेगी। वहीं, आरोपियों के पास से बरामद किए गए मोबाइल के डाटा को भी कलेक्ट किया जाएगा। एएसपी स्तर के अधिकारी के नेतृत्व में दो इंस्पेक्टर व एक सिपाही की संयुक्त टीम आरोपियों के यूपी कनेक्शन पर पूछताछ करेगी। टीम इस ओर भी जांच करेगी कि कहीं घटना से पहले आरोपियों ने यूपी के नंबरों पर बात तो नहीं की गई है। ‌घटना के लिए जिम्मेदारी लेने वाले संगठन दावते इस्लाम के तार यूपी से जुड़े हुए भी माने जा रहे हैं। ऐसे में यह संभावनाएं हैं कि आरोपियों ने घटना से पहले यूपी के उन लोगों से संपर्क किया हो जो इस संगठन से जुड़े हुए हैं। एटीएस की टीम उदयपुर में एनआईए के अधिकारियों से इस्लामिक संगठन के बारे में भी इनपुट जुटाएगी। यूपी में भी दावते इस्लामी संगठन के सदस्य होने की आशंका यूपीएटीएस से जुड़े एक अधिकारी का कहना है कि अभी तक घटना व आरोपियों के संबंध में यूपी का कोई कनेक्शन नहीं मिला है। हालांकि, जिस तरह दावते इस्लामी संगठन का हाथ सामने आया है ऐसे में यह संभावनाएं हैं कि यूपी में भी दावते इस्लामी संगठन के सदस्य हो सकते हैं। ऐसे में यूपी एटीएस उन तमाम तथ्यों पर काम कर रही है जिससे या स्पष्ट हो सके कि उदयपुर में हुई घटना का कोई यूपी कनेक्शन तो नहीं है। ‌ कई संदिग्धों पर एटीएस की विभिन्न टीम में नजर बनाए हुए हैं। घटना के बाद गिरफ्तार किए गए आरोपियों के मोबाइल फोन व सोशल मीडिया अकाउंट से विस्तृत जानकारी मिलने की संभावना है। ‌ यह भी पढ़ें - झमाझम बारिश ने गर्मी से दी राहत, अब सक्रिय होगा मानसून, मौसम पर आया ये अलर्ट मोहम्मद रियाज और गौस मोहम्मद के कानपुर से जुड़े होने की बात आई थी सामने बता दें कि इससे पहले NIA की जांच में आतंकी मोहम्मद रियाज और गौस मोहम्मद के कानपुर से जुड़े होने की बात सामने आई। यूपी एटीएसने इसकी जानकारी होते ही अपनी सतर्कता यूपी से लेकर राजस्थान तक बढ़ा दी।

पत्रिका 2 Jul 2022 2:15 pm

Maharashtra: बीमा कंपनी ने मुआवजा देने से किया इंकार, कोर्ट ने सुनाया ऐसा फैसला कि सुनकर रह गए दंग

देश में अगर बीमा कंपनी किसी को आसानी से उसके बीमा की रकम चुका दें तो बड़ी बात है। इसके लिए लोगों को बीमा कंपनियों के दफ्तरों के चक्कर लगाते-लगाते चप्पल घिस जाती है, लेकिन बीमा की रकम आसानी से नहीं मिलती है। ऐसा ही कुछ महाराष्ट्र के ठाणे में हुआ। एक दुर्घटना के बाद कार सवार और बीमा कंपनी ने मृतक के परिवार को पैसे देने से मना कर दिया। ये मामले साल 2019 का है। ठाणे में एक सड़क हादसे में राजकुमार नामक एक व्यक्ति की जान चली गई। जिसके बाद मृतक परिवार ने दुर्घटना करने वाले कार चालक और बीमा कंपनी से मुआवजे की मांग की, जिसे उन्होंने देने से मना कर दिया। इसके बाद परिवार वालों ने कोर्ट का दरवाजा खटखटाया और वहां जाकर मामले को दर्ज कराया। जहां मोटर दुर्घटना दावा न्यायाधिकरण ने 2019 में जिले में एक सड़क दुर्घटना में मारे गए 48 वर्षीय व्यक्ति के परिजन को 79.60 लाख रुपए मुआवजा दिए जाने का निर्देश दिया है। यह भी पढ़ें: Maharashtra Assembly Speaker Election: MVA ने शिवसेना के राजन साल्वी को उतारा, बीजेपी विधायक राहुल नार्वेकर से होगा मुकाबला 17 जून को पारित अपने आदेश में न्यायाधिकरण के अध्यक्ष अभय जे मंत्री ने दुर्घटना में शामिल कार के मालिक नरेश गांधी और एक निजी बीमा कंपनी को मृतक के परिजनों द्वारा दायर दावे की तारीख से प्रति वर्ष 7.5 फीसदी इंटरेस्ट के साथ याचिकाकर्ताओं को सामूहिक रूप से भुगतान करने का आदेश दिया है। बता दे कि राजकुमार की पत्नी दीप्ति पट्टनशेट्टी, उसकी 21 वर्षीय बेटी और उसकी मां ने यह याचिका दायर की थी। याचिकाकर्ता के वकील सचिन माने ने कहा कि 25 फरवरी 2019 को राजकुमार पट्टनशेट्टी अपनी मोटरसाइकिल पर सवार होकर अंजुर फाटा से मनकोली जा रहे थे। जब राजकुमार की बाइक दापोड़ा रोड पर दमानी गोदाम के पास पहुंची, तो सामने से आ रही कार ने उसे जोर से टक्कर मार दी, जिससे राजकुमार की जगह पर ही मौत हो गई। मृतक राजकुमार के परिजनों ने याचिका में कहा कि घटना के समय राजकुमार एक निजी कंपनी में मैनेजर थे और पूरा परिवार उन्हीं पर निर्भर था। जिसके बाद उन्होंने मुआवजे की मांग की। न्यायाधिकरण ने कहा कि दुर्घटना कार चालक की लापरवाही के कारण हुई और उसने कार चालक एवं बीमा कंपनी को मुआवजे का सामूहिक रूप से पूरा भुगतान करने का निर्देश दिया है।

पत्रिका 2 Jul 2022 2:14 pm

प्रसपा अध्यक्ष शिवपाल यादव ने सपरिवार किया बाबा विश्वनाथ का दर्शन-पूजन

वाराणसी. प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (प्रसपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल यादव ने शनिवार को सपरिवार श्री काशी विश्वनाथ धाम जा कर सपरिवार बाबा विश्वनाथ का षोडशोपचार पूजन और अभिषेक किया। दर्शन-पूजन के पश्चात शिवपाल ने सपरिवार काशी विश्वनाथ धाम की दिव्यता को निहारा। बोले भव्य हो गया है ये विश्वनाथ धाम। बता दें कि श्री काशी विश्वनाथ धाम के लोकार्पण के बाद शिवपाल पहली बार धाम पहुंचे थे। शिवपाल निजी दौरे पर आए हैं काशी इस मौके पर मंदिर प्रशासन की ओर से शिवपाल यादव को अंगवस्त्रम, रुद्राक्ष की माला और प्रसाद भेंट किया गया। शिवपाल ने पत्नी, बेटी व नाती के साथ गर्भगृह में बैठकर सविधि पूजन किया। गंगाघाट तक टहलकर धाम की भव्यता भी निहारी। प्रसपा अध्यक्ष के काशी विश्वनाथ धाम आगमन की भनक लगते ही कई समर्थक भी धाम पहुंच गए थे। धाम के गेट नंबर चार पर शिवपाल यादव ने समर्थकों से मुलाकात की। जानकारी के मुताबिक शिवपाल यादव निजी दौरे पर वाराणसी पहुंचे हैं। ट्वीट कर दी जानकारी शिवपाल यादव ने श्री काशी विश्वनाथ धाम भ्रमण और दर्शन-पूजन की जानकारी सोशल मीडिया पर साझा की है। उन्होंने ट्वीट किया, 'भजेऽहं भवानीपतिं भावगम्यं, आज सपरिवार श्री काशी विश्वनाथ मंदिर में विश्वेश्वर ज्योतिर्लिंग का पंचामृत से अभिषेक कर पूजन का सौभाग्य प्राप्त हुआ। पावन नगरी काशी में बाबा विश्वनाथजी के दर्शन-पूजन कर चराचर जगत के कल्याण हेतु कामना की।' साधु-संतों से भी मिले शिवपाल शिवपाल विश्वनाथ मंदिर से निकलकर अखिल भारतीय संत समिति और गंगा महासभा के महासचिव जितेंद्रानंद सरस्वती से मिलने गए। करीब यहां आधे घंटे की मुलाकात के बाद मणिकर्णिका घाट स्थित सतुआ बाबा आश्रम पहुंचे। यहां से वह सीधे लखनऊ को लौट गए। हालांकि उनके साथ कोई भी सपा का पदाधिकारी या कार्यकर्ता नजर नहीं आया।

पत्रिका 2 Jul 2022 2:05 pm

नैनीताल में सड़ी-गली अवस्था में बाइक समेत मिले दो युवकों के शव, जांच में जुटी पुलिस

रुद्रपुर ट्रांजिट कैंप निवासी दो भाई राजकुमार और राम लखन पुत्र उन्नति प्रसाद की तलाश को लेकर उनके स्वजन क्षेत्र पहुंचे हुए थे। उन्होंने बताया कि गेठिया में पायलट बाबा आश्रम के समीप खाई की ओर से दुर्गंध आने के कारण लोगों को सड़ी गली अवस्था में शव बरामद हुए।

जागरण 2 Jul 2022 1:53 pm

चंडीगढ़ में बेहतर स्पोर्ट्स इंफ्रास्ट्रक्चर लेकिन कई खेलों के कोच नहीं, प्राइवेट अकादमियां की हो रही मौज

चंडीगढ़ में बेहतर स्पोर्ट्स इंफ्रास्ट्रक्चर है। इस वजह से पंजाब हरियाणा हिमाचल उत्तराखंड उत्तर प्रदेश और बिहार के खिलाड़ी भी बेहतर कोचिंग के लिए चंडीगढ़ आते हैं लेकिन कोच नहीं होने की वजह से इन खिलाड़ियों को मजबूरन प्राइवेट अकादमियों में जाकर कोचिंग लेनी पड़ती है।

जागरण 2 Jul 2022 1:53 pm

बिजली विभाग का गरीबों के साथ मजाक, कांशीराम आवास में रहने वालों को थमा दिया छह लाख तक बिजली बिल

पत्रिका न्यूज नेटवर्क आजमगढ़. बिजली विभाग के कारनामे जगजाहिर है। अब तक विभाग बिना कनेक्शन के ही बिजली बिल भेजकर चर्चा में रहता है लेकिन अब तो हद ही दो गयी है। कांशीराम आवास में रहने वाले गरीबों को विभाग ने एक लाख से लेकर छह लाख रुपये तक बिजली बिल पकड़ा दिया है। बिल जमा न होने पर विभाग बिजली कनेक्शन काटने की चेतावनी दे रहा है। इससे हड़कंप मचा हुआ है। लोग विभाग पर उत्पीड़न का आरोप लगा रहे हैं। बता दें कि मायावती सरकार में गरीबों के लिए डीएवी कालेज के बगल में कांशीराम आवास बनया गया था। इसमें करीब 700 परिवार रहते है। कांशीराम आवास में पानी बिजली की भी व्यवस्था की गयी है। आवास में रहने वाले गरीब किसी तरह मेंहनत मजदूरी कर परिवार को भरण पोषण करते है। यूूं भी कहा जा सकता है कि कांशीराम आवास में वहीं लोग रहते हैं जिनके पास जीवन यापन का कोई माध्यम नहीं है और ना ही इनके पास अपना घर है। आवास में रहने वाले सगीर अहमद, बबलू, बल्लू, रियाज आदि का आरोप है कि वे यहां सालों से रहते हैं लेकिन कभी बिजली की बिल नहीं आयी। अब विभाग द्वारा सभी आवंटियों के नाम बिजली बिल भेजी गयी है। किसी का भी बिल एक लाख से कम नहीं है जबकि बड़ी संख्या में ऐसे लोग हैं जिन्हें छह लाख रुपये बिजली बिल भेजा गया। यहां रहने वाले के सामने दो वक्त की रोटी का लाला पड़ा है। ऐसे में हम बिजली का बिल कहां से जमा करेंगे। इतनी बड़ी रकम उन्होंने कभी देखी ही नहीं है। इसे लेकर आवास में रहने वाले लोगों ने शनिवार को प्रदर्शन किया। जिला प्रशासन और सरकार से मांग किया कि उनका बिजली कनेक्शन न काटा जाय। साथ ही मामले की जांच करायी जाय। वहीं अधिशासी अभियंता विद्युत वितरण खंड प्रथम का कहना है कि कांशी राम आवास में लोग सालों ने रहते हैं लेकिन आज तक किसी ने बिल जमा नहीं किया है जिसके कारण वह बढ़कर लाखों में पहंच गयी हैं। अगर बिल जमा नहीं होती है तो इनका कनेक्शन काट दिया जाएगा।

पत्रिका 2 Jul 2022 1:52 pm

'डर और बाजिगर जैसी बेकार स्क्रिप्ट ने बनाया स्टार', Shah Rukh Khan को टीवी एक्टर बताते हुए एक्टर ने कही ये बात; लोग बोले - 'तबही तुम भी फ्लॉप हो'

बॉलीवुड से लेकर अपने फैंस के दिलों पर राज करने वाले किंग यानी शाहरुख खान (Shah Rukh Khan) अपनी लास्ट फिल्म 'जीरो' के 5 साल बाद अब कई सारे बड़े प्रोजेक्ट्स को लेकर बड़े पर वापसी कर रहे हैं. इन दिनों वो 'पठान', 'जवान', 'डंकी' और 'डॉन 3' जैसी बड़ी बजट की फिल्मों को लेकर काफी व्यस्त चल रहे हैं. इसके अलावा कुछ फिल्मों में शाहरुख का कैमियो भी है, जिसको लेकर वो चर्चाओं में हैं. इसी बीच उनको लेकर एक बॉलीवुड एक्टर ने ऐसी बात कह दी, जिसको सुनने के बाद किंग खान के फैंस काफी खफा नजर आ रहे हैं. बॉलीवुड एक्टर और खुद को नंबर 1. फिल्म क्रिटिक्स बताने वाले केआरके (KRK) हमेशा देश-दुनिया के साथ-साथ सिनेमा से लेकर स्टार्स पर अपनी राय रखते रहते हैं. इतना ही नहीं अपने विवादित बयानों और ट्वीट्स को लेकर वो अक्सर ही ट्रोलर्स के निशाने पर भी रहते हैं. हाल में उन्होंने शाहरुख को लेकर एक ऐसा ही ट्वीट कर दिया है, जो उनके फैंस को भा नहीं रहा है. केआरके ने ट्वीट करते हुए शाहरुख को एक टीवी स्टार बताया और बताया कि कैसे वो बकवास फिल्मों की स्क्रिप्ट्स से स्टार बने हैं, जिसके बाद यूजर्स उनको ही फ्लॉप एक्टर बता रहे हैं. यह भी पढ़ें: 'नफरत आग है और भारत इसमें जल रहा है', Swara Bhaskar की इस बात पर लोग बोले - 'तुम भी तो यही करती हो' वहीं एक ओर यूजर ने लिखा कि 'कई फ्लॉप बॉलीवुड फिल्में ब्लॉकबस्टर हॉलीवुड फिल्मों की अनौपचारिक रीमेक हैं. इसका मतलब है कि स्क्रिप्ट बहुत अच्छी थीं, लेकिन वे फ्लॉप हो गईं'. वहीं तीसरे यूजर ने लिखा कि 'मुझे लगता है कि आजकल एक अच्छा स्क्रीनप्ले कहानी से भी ज्यादा जरूरी है. COVID के बाद लोगों का ध्यान कुछ हद तक कम हो गया है. लोग एक फिल्म नहीं देखेंगे अगर ये उन्हें पूरी तरह से हुक नहीं कर रहा है'. वहीं एक और यूजर लिखता है कि 'पहले खुद को देखो इसलिए तो तुम भी फ्लॉप हो गए'. यह भी पढ़ें: 'वे सम्मानीय नहीं, निंदनीय हैं, शर्मनाक', Paresh Rawal ने किया ट्वीट; तो लोगों ने पूछा - 'ये कोर्ट के लिए है या नूपुर शर्मा के लिए?'

पत्रिका 2 Jul 2022 1:52 pm

हाईस्कूल के बाद कैसे चुनें विषय और क्या हैं विकल्प?

रायपुर. हाईस्कूल के बाद भी स्टूडेंट्स के पास कॅरियर चुनने के कई विकल्प रहते हैं। यह पड़ाव इसलिए अहम है क्योंकि 11वीं के लिए चुने जाने वाले विषय या स्ट्रीम ही आपके भविष्य के लिए अहम होते हैं। हाई स्कूल तक साइंस की पढ़ाई करने वाले कई स्टूडेंट्स 11वीं से कॉमर्स या आर्ट्स स्ट्रीम को चुनते हैं। ज्यादातर स्टूडेंट्स इसकी एक कॉमन वजह बताते हैं कि उन्हें साइंस ज्यादा कठिन लगता है, इसलिए वे आर्ट्स या कॉमर्स स्ट्रीम की राह चुनते हैं। विशेषज्ञ कहते हैं, सिर्फ यही एक क्राइटेरिया विषय चुनने के लिए ठीक नहीं है। इस बात पर गौर किया जाना चाहिए कि हाईस्कूल के बाद सिर्फ पढ़ाई को आसान बनाने और पूरा करने के लिए के लिए कदम उठाया गया है या फिर भविष्य में जो बनना चाहते हैं, उसे ध्यान में रखकर यह फैसला किया गया है। इसको समझना जरूरी है। जानिए, हाई स्कूल के बाद स्ट्रीम को चुनते वक्त किस बात का ध्यान रखना चाहिए और 10वीं के बाद स्टूडेंट्स के पास क्या विकल्प होते हैं. अपने इंट्रेस्ट को समझें विषय या स्ट्रीम को चुनते समय यह ध्यान रखें कि आपको किस तरह का विषय पसंद है या जो विषय ले रहे हैं , उसको कितना जानते या समझते हैं। विषय या स्ट्रीम का चुनाव केवल इस आधार पर बिल्कुल न करें कि आपके दोस्त या सम्बंधी के बच्चे ने ऐसा किया है। 3 बातें ध्यान रखें विषय चुनने से पहले अपनी क्षमता और इंट्रेस्ट पर गौर करें अपने पेरेंट्स, सीनियर्स से भी मदद ले सकते हैं अगर फिर भी कंफ्यूजन है, तो कॅरियर काउंसलर से सम्पर्क करें। इन बातों पर भी गौर करें विषय या स्ट्रीम को चुनने में पेरेंट्स और सीनियर्स की मदद ले सकते हैं। वे काफी हद तक आपके इंट्रेस्ट को समझकर सही राह दिखा सकते हैं। इसके अलावा आपके स्कूल में वह विषय या स्ट्रीम उपलब्ध है या नहीं। इन बातों का ध्यान रखते हुए विषय या स्ट्रीम को चुनें। इन बातों का ध्यान रखते हैं तो काफी हद तक आप गलत विषय या स्ट्रीम चुनने से बच सकते हैं। अगर इसके बावजूद भी आप कुछ तय नहीं कर पा रहे हैं तो काउंसलर की मदद लें। एक्सपर्ट की सलाह लें अगर आपको लगता है कि समझ नहीं आ रहा है कि कौन सा स्ट्रीम या विषय सही है, तो ऐसे में कॅरियर काउंसलर की मदद ले सकते हैं। एक कॅरियर काउंसलर आपके इंट्रेस्ट और भविष्य के लिए आपके लक्ष्य को समझते हुए विकल्प को चुनने में मदद करते हैं। इसके अलावा कॅरियर काउंसर आपकी खूबियों और खामियों को समझने के बाद ही कोई विषय या स्ट्रीम सजेस्ट करते हैं। ऐसे भी समाधान मिल सकता है।

पत्रिका 2 Jul 2022 1:51 pm

एनटीटीएफ गोलमुरी के 15 छात्रों का हिंडाल्को इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आदित्य बिरला ग्रुप)कंपनी मे चयन

जमशेदपुर।मेहनत की चाबी से ही सफलता का ताला खुलता है। इसे सिद्ध कर दिखाया एनटीटीएफ के आर डी टाटा टेक्निकल सेंटर गोलमुरी के छात्रों...

लाइव हिन्दुस्तान 2 Jul 2022 1:50 pm

भागवत आरएसएस की सप्ताह भर चलने वाली बैठक से पहले राजस्थान पहुंचे

जयपुर, दो जुलाई (भाषा) राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के सरसंघचालक डॉ. मोहनराव भागवतअखिल भारतीय प्रांत प्रचारक की सप्ताह भर चलने वाली बैठक से पहले शनिवार को राजस्थान पहुंचे। संघ के सूत्रों ने बताया कि भागवत शनिवार सुबह शताब्दी एक्सप्रेस ट्रेन से जयपुर पहुंचे, जहां राज्य के संघ के नेताओं ने उनकी अगवानी की। इसके बाद वे कुछ देर के लिए भारती भवन गये। भागवत शनिवार शाम चूरू जायेंगे और वहां रात्रि विश्राम करेंगे। भागवत शनिवार को चूरू में तेरापंथ संघ के आचार्य महाश्रमण से मिलेंगे। संघ प्रमुख चार जुलाई से 10 जुलाई तक झुंझुनूं में रहेंगे और और अखिल भारतीय प्रांत

नव भारत टाइम्स 2 Jul 2022 1:50 pm

Mathura: दोस्त ही निकला 'दोस्त' का हत्यारा...मथुरा में सिपाही की संदिग्ध हत्या के मामले में हुआ बड़ा खुलासा

Mathura Constable Murder News: मथुरा में हुई सिपाही की मौत के मामले में बड़ा खुलासा हुआ है। संदिग्ध परिस्थितियों में हुई सिपाही की मौत मामले में दोस्त के ही दोस्त की हत्या के मामले में संदिग्ध होने की बात कही जा रही है।

नव भारत टाइम्स 2 Jul 2022 1:50 pm

SI Seema Jakhar : बर्खास्त थानाधिकारी सीमा जाखड़ जेल में

जोधपुर। डोडा पोस्त से भरी लग्जरी कार छोड़कर भागे तस्कर को पकड़ने के बाद लाखों रुपए की डील के बदले छोड़ने की आरोपी बर्खास्त महिला थानाधिकारी सीमा जाखड़ (SI seema jakhar) को न्यायिक अभिरक्षा में भेज दिया (SI seema jakhar send to JC) गया। उसे जोधपुर सेन्ट्रल जेल (central jail) की महिला जेल में (seema jakhar in jail) रखा गया है। सिरोही के पुलिस अधीक्षक धर्मेन्द्रसिंह यादव ने बताया कि प्रकरण में बरलूट की तत्कालीन थानाधिकारी व सेवा से बर्खास्त उप निरीक्षक सीमा जाखड़ को गिरफ्तार किया गया था। पूछताछ के बाद उससे मौका तस्दीक कराई गई। उसे दूसरे दिन कोर्ट में पेश किया गया। मजिस्ट्रेट ने उसे न्यायिक अभिरक्षा में भेजने के आदेश दिए गए।ऐसे में उसे जोधपुर सेन्ट्रल जेल की महिला जेल भिजवा दिया गया। गौरतलब है कि गत वर्ष 14 नवम्बर की रात बरलूट थाना पुलिस ने नाकाबंदी में डोडा पोस्त से लग्जरी कार पकड़ी थी। दिनेश कुमार खींचड़ कार छोड़कर फरार हो गया था।जिसे पुलिस ने पीछा कर होटल के पास पकड़ा था, लेकिन अल-सुबह उसे बस में बिठाकर छोड़ दिया गया था। इसका पता लगने पर पुलिस ने जांच कराई थी। जिसमें तत्कालीन थानाधिकारी सीमा जाखड़ और कांस्टेबल ओमप्रकाश, हनुमानराम व सुरेश कुमार की भूमिका सामने आई थी। निलम्बन के बाद चारों को सेवा से बर्खास्त कर दिया गया था। बर्खास्त तीन कांस्टेबल की गिरफ्तारी के प्रयास इस प्रकरण में बरलूट थाने के तत्कालीन ओमप्रकाश, सुरेश कुमार व हनुमानाराम भी शामिल थे। इन तीनों को भी सेवा से बर्खास्त किया जा चुका है। अब पुलिस इस मामले में इन तीनों की गिरफ्तारी के प्रयास में है।

पत्रिका 2 Jul 2022 1:49 pm

सीआइएसएफ के जवान ने कहा-लगातार ड्यूटी से अवसाद ग्रस्त हो रहा है मन

याचिकाकर्ता जवान ने कहा—साप्ताहिक अवकाश भी नहीं मिल रहा।

जागरण 2 Jul 2022 1:49 pm

भाजपा के दिग्गज नेता को आया हार्ट अटैक, अस्पताल में भर्ती

जबलपुर. मध्य प्रदेश के जबलपुर में नगर निगम चुनाव के प्रचार के बीच कैंट विधानसभा से भाजपा विधायक अशोक रोहाणी की अचानक तबीयत अचानक से खराब हो गई है। बताया जा रहा है कि, वो बीते कई दिनों से खुद को अस्वस्थ महसूस कर रहे थे, लेकिन चुनाव प्रचार में शामिल होने के चलते इसे गंभीरता से नहीं ले रहे थे। शुक्रवार को अचानक तबीयत ज्यादा बिगड़ने पर उन्हें इलाज के लिए जबलपुर के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। डॉक्टरों को उन्होंने सीने में दर्द की शिकायत बताई। डॉक्टरों ने उनका परीक्षण किया और भर्ती करने के बाद उनका इलाज जारी है। डॉक्टरों की मानें तो इसे माइनर अटैक कहा जा सकता है। अगर अब भी वो इसे गंभीरता से लेते तो स्थिति अधिक बिगड़ सकती थी। प्राप्त जानकारी के अनुसार, कैंट विधानसभा के विधायक अशोक रोहाणी को कुछ दिनों से सीने में दर्द की शिकायत मेहसूस हो रही थी। इसी बीच तबीयत अधिक खराब होने पर उन्हें जबलपुर के एक निजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया। जरूरी जांचों के बाद चिकित्सकों को उनके हृदय की स्थिति ठीक न लगने पर उनकी एंजियोप्लास्टी की गई है। फिलहाल, विधायक रोहाणी अस्पताल में भर्ती हैं, जहां उनका इलाज चल रहा है। फिलहाल, डॉक्टरों का कहना है कि, उनकी मौजूदा स्थिति खतरे से बाहर है। यह भी पढ़ें- हारे हुए प्रत्याशी और समर्थकों ने मतदान दल पर बरसाए पत्थर, पुलिस वेन पर फायरिंग, गाड़ियां भी तोड़ी, कई घायल प्रचार की व्यस्तता के चलते बिगड़ी तबियत आपको बता दें कि, शहर में नगर निगम चुनाव पर घमासान मचा हुआ है। इसी को लेकर भाजपा विधायक अशोक रोहाणी भी लगातार दौरा कर रहे थे। प्रत्याशियों के प्रचार के लिए वो लगातार रैलियों, रोड शो और जनसभाओं में शामिल हो रे थे। इस दौरान आराम न मिलने के कारण उनकी तबियत बिगड़ गई। फिलहाल, अस्पताल में डॉक्टरों ने सीने में दर्द की शिकायत के बाद उनकी एंजियोप्लास्टी की है। साथ ही, उन्हें आराम करने की सलाह दी गई है। यहां मतदाताओं को रिझाने के लिए बांटी जा रही साड़ियां, देखें वीडियो

पत्रिका 2 Jul 2022 1:48 pm

Bhopal Panchayat Chunav: सरपंच चुनाव में संभावित हार से बौखलाकर छीन लिए थे मतपत्र, प्रकरण दर्ज

बांदीखेड़ी गांव के मतदान केंद्र पर सरपंच प्रत्‍याशी व उसके भाई ने मिलकर किया था उपद्रव। पुलिस ने दोनों को भेजा जेल।

जागरण 2 Jul 2022 1:48 pm

शराब के नशे में बाइक पर सवार होकर जा रहे थे दो कॉलेज छात्र, एक की मौत

चेन्नई. मोगाप्पेयर के रेड्डीपालयम के निकट हुए भीषण सडक़ हादसे में बाइक सवार कॉलेज छात्र की दर्दनाक मौत हो गई है, तो वही एक अन्य कॉलेज छात्र (College Students) हादसे में घायल हो गया। घटना शुक्रवार रात की बताई जा रही है। हादसे के दौरान खंभा सिर में धंसने से उसकी मौके पर ही मौत हो गई। हादसे के वक्त दोनों युवकों ने हेलमेट (Helmet) नहीं पहना था। पुलिस सूत्रों ने बताया कि मृतक की पहचान नोलंबूर रोड निवासी मनीष (22) के रूप में हुई है। वह नुंगमबाक्कम (Nungambakkam) के एक प्राइवेट कॉलेज (Private College) में पढ़ता था। शुक्रवार रात को मनीष (manish) अपने दोस्त दिनेश (20) के साथ किसी काम से वेस्ट मोगाप्पेयर गए और वहां से दोनों बाइक से नोलंबूर के लिए रवाना हो गए थे। पुलिस ने बताया कि दिनेश (Dinesh) बाइक चला रहा था और मनीष पीछे बैठा था। तेज रफ्तार बाइक अनियंत्रित होकर सडक़ किनारे बिजली के खंभे से टकरा गई। दिनेश को हल्की चोट लगी लेकिन मनीष के सिर पर गंभीर चोट लगी जिसके बाद वह तुरंत अचेत होकर गिर पड़ा। राहगीरों से सूचना पाकर मौके पर पहुंची अंबत्तूर यातायात पुलिस ने शव को कब्जे में लिया और पोस्टमार्टम के लिए केएमसी भेज दिया। वहीं दिनेश को इलाज के लिए प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया गया है। शराब के नशे में थे दोनों पुुलिस के मुताबिक दोनों शराब के नशे में तेज रफ्तार गति से कही जा रहे थे। इसी दौरान हादसा हुआ। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और जांच शुरू कर दी है।

पत्रिका 2 Jul 2022 1:46 pm

प्रदेश कांग्रेस की कार्यसमिति की बैठक में संगठन पर भड़के मुख्यमंत्री बघेल, बोले : ऐसा रहा तो बैठक में ही नहीं आऊंगा

समन्वय समिति की बैठक में पहले जो फैसले लिए गए थे उसे अनुमोदन के लिए एआइसीसी को नहीं भेजे जाने पर भी बघेल नाराज दिखें

जागरण 2 Jul 2022 1:45 pm

महिला मित्र से वीडियो कॉल पर बात कर रहा था सिपाही, दोस्त ने छीना फोन और कर दी हत्या

मथुरा: थाना नौहझील क्षेत्र में किराए के मकान में मिले सिपाही के शव को लेकर जहां इलाके में सनसनी फैल गई थी। वहीं अब मृतक सिपाही की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत को लेकर नया मोड़ सामने आ गया है। सिपाही की हत्या उसी के दोस्त रोहित ने रस्सी से गला घोंटकर की थी। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। गौरतलब है कि 29 जून की देर रात थाना नौहझील क्षेत्र स्थित एक किराए के मकान में नौहझील थाने में तैनात सिपाही का शव मिलने से सनसनी फैल गई थी। वहीं आशीष के परिजनों ने उसकी हत्या किया जाने की आशंका जताई थी। पुलिस ने जब मामले की गहनता से जांच की तो एक नया खुलासा पुलिस के सामने आकर खड़ा हो गया। दरअसल आशीष के दोस्त रोहित ने ही अपने दोस्त की रस्सी से गला घोंटकर हत्या कर दी थी। वहीं हत्या को आत्महत्या दिखाने के लिए शव को कमरे में लगे पंखे से लटका दिया था। यह भी पढ़े - दिनदहाड़े पंखे से लटका मिला सिपाही का शव, पिता ने जताई हत्या की आशंका, जानें पूरा मामला कहासुनी के बाद आशीष की हत्या पुलिस इन्वेस्टिगेशन में खुलासा हुआ है कि जिस दिन आशीष की हत्या हुई उस दौरान वह किसी महिला मित्र से वीडियो कॉल पर बात कर रहा था। तभी रोहित शराब के नशे में आशीष का फोन लेकर भाग गया। आशीष ने जब अपना फोन वापस करने को कहा तो दोनों के बीच कहासुनी हुई और कहासुनी के बाद रोहित ने आशीष के साथ मारपीट की। इसके बाद रोहित ने गुस्से में आकर आशीष का गला दबाकर उसकी हत्या कर दी। यह भी पढ़े - उदयपुर की घटना से जुड़ा था नोएडा के इस युवक का कनेक्शन, पुलिस ने किया गिरफ्तार पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार किया मामले की जानकारी फोन पर देते हुए एसपी देहात श्रीशचंद ने बताया कि थाना नौहझील में तैनात सिपाही आशीष कुमार (25) पुत्र रविंद्र सिंह निवासी ग्राम बरावली थाना बहसूमा, मेरठ का शव 29 मई की देर रात कस्बे के रेतिया गली में विपिन पाठक के मकान में किराए के कमरे में पंखे से लटका मिला था। मृतक सिपाही के दोस्त नहीं उसकी हत्या की है। मृतक आशीष के पिता के द्वारा दी गई तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। आरोपी रोहित को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। हत्या और एससी एसटी का मुकदमा दर्ज कर मामले में कार्रवाई की जा रही है।

पत्रिका 2 Jul 2022 1:45 pm

सौर ऊर्जा से रोशन हो रहे 854 घर, रोज पैदा कर रहे 15 हजार यूनिट बिजली

मध्यप्रदेश में लगातार महंगी हो रही बिजली के खर्च को स्थायी रूप से बचाने के लिए शहर के 654 घर अब सौर ऊर्जा से रोशनहोरहेथे।

जागरण 2 Jul 2022 1:45 pm

प्रयागराज में किशोरी की कुएं में मिली लाश, दुष्कर्म के बाद हत्या की आशंका, प्रतापगढ़ में युवक को मार डाला

प्रयागराज के गंगापार इलाके के होलागढ़ की किशोरी शुक्रवार की रात खेत की ओर गई थी। इसके बाद उसका पता नहीं चला। शनिवार सुबह घर से कुछ दूरी पर स्थित कुएं में उसकी लाश मिली। दुष्‍कर्म के बाद हत्‍या की आशंका ग्रामीण जता रहे हैं।

जागरण 2 Jul 2022 1:42 pm

विधानसभा की सदाचार कमेटी के पास शिकायतें जाती, तो लगती विधायकों पर लगाम

जयपुर. विधानसभा में सात साल पहले बनी सदाचार समिति के पास यदि किसी विधायक की शिकायत जाती और उस पर कोई कार्रवाई होती, तो प्रदेश में विधायकों के बिगड़े बोल से हुए बवाल पर लगाम लग सकती थी। कांग्रेस सरकार के गठन के बाद 2018 से लेकर अब तक बीस से ज्यादा भाजपा, कांग्रेस और अन्य दलों के विधायकों ने सदन के अंदर और बाहर ऐसी भाषा का इस्तेमाल किया, जिस पर काफी विवाद खड़ा हुआ। विधायकों को माफी भी मांगनी पड़ गई, लेकिन सदाचार समिति की उपयोगिता नहीं होने के चलते माफी मांगने वाले किसी भी विधायक पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। इनके बिगड़े बोल शांति धारीवाल: संसदीय कार्यमंत्री शांति धारीवाल ने पिछले दिनों विधानसभा सत्र के दौरान रेप के आंकड़े बताते हुए कहा था कि यह सच है कि राजस्थान रेप के मामलों में नंबर वन है। कुछ देर चुप रहकर बोले कि अब ये रेप के मामले क्यों हैं? फिर हंसते हुए कहा कि वैसे भी राजस्थान तो मर्दों का प्रदेश रहा है। इस बयान पर काफी हंगामा हुआ। अगले दिन उन्होंने खेद भी प्रकट किया था। गुलाब चंद कटारिया: प्रदेश में पिछले वर्ष तीन सीटों पर उपचुनाव के समय राजसमंद में गुलाब चंद कटारिया ने महाराणा प्रताप का नाम लेकर कह दिया कि ‘हमारे पूर्वजों ने एक हजार साल तक लड़ाई लड़ी है। यह महाराणा प्रताप अभी-अभी गया है। क्या उसे पागल कुत्ते ने काट लिया था कि वह अपनी राजधानी और अपना घर छोड़ कर, अलग-अलग पहाड़ों में घूमता हुआ रो रहा था? किसके लिए वह गया।’ इस बयान को लेकर प्रदेश में काफी बवाल भी हुआ। कटारिया को बार-बार माफी भी मांगनी पड़ी थी। सतीश पूनिया: प्रदेश का जब इस वर्ष बजट पेश हुआ तो उस पर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने कहा कि बजट में सिर्फ लीतापोती की गई है, ऐसा लगता है कि किसी काली दुल्हन को ब्यूटी पार्लर पर ले जाकर उसका अच्छे से शृंगार कर पेश कर दिया हो। इससे ज्यादा इस बजट में मुझे कुछ नहीं लगता।’ मामले में महिला आयोग तक ने नाराजगी जताई थी। पूनिया को इस मामले में माफी भी मांगनी पड़ी। राजेन्द्र विधूड़ी: कांग्रेस के विधायक राजेन्द्र विधूड़ी हमेशा किसी न किसी विवाद में फंसे ही दिखते हैं। एक थानेदार को उन्होंने कुछ समय पहले करीब सवा सात मिनट की बातचीत में 100 से ज्यादा बार गालियां निकाली। प्रशासनिक हलकों में इसे लेकर नाराजगी भी दिखाई दी। गणेश घोघरा: जयपुर में एक प्रदर्शन के दौरान कांग्रेस विधायक गणेश घोघरा ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और राज्यपाल कलराज मिश्र पर अमर्यादित टिप्पणी कर दी थी। इस पर कुछ लोगों ने पुलिस में मामला भी दर्ज करवाया गया था।

पत्रिका 2 Jul 2022 1:42 pm

मुजफ्फरपुर आई हास्पिटल में आपरेशन कराने वाले दो और ने गंवाईं आंखें, एक की रोशनी कम

Muzaffarpur News डीएम को तीन पीडि़तों ने मुआवजे के लिए दिया था आवेदन। एसीएमओ के नेतृत्व में हुई जांच। पिछले साल 65 मरीजों के मोतियाबिंद के आपरेशन के बाद 31 की आंख में हुआ संक्रमण 19 लोगों की एक आंख निकालनी पड़ी।

जागरण 2 Jul 2022 1:41 pm

बारिश का मौसम शुरू होते ही सांप और बिच्छू काटने की घटनाएं बढ़ी, 48 घंटे में बिच्छू काटने से दो की मौत

बेमेतरा. शुक्रवार को जिले के विभिन्न अस्पतालों में इस तरह के चार मरीजों को उपचार के लिए भर्ती किया है। वहीं नवागढ़ क्षेत्र से एक घायल को जिला अस्पताल से गंभीर हालत को देखते हुए रायपुर रेफर किया गया है। बताया गया कि आज ग्राम गोेढीकला निवासी शिव कुमार उम्र 60 साल को बिच्छु ने काट लिया जिसे नवागढ़ से उपचार के लिए जिला अस्पताल लाया गया था। स्वास्य विभाग ने एन्टी स्नेक व रैबीज का वितरण बारिश के दिनो में जमीन के अंदर रहने वाले जीव जन्तुओ से बाहर निकलने पर आम लोगों को खतरा अधिक हेाता है जिसे देखते हुए जिले मे स्वास्थ विभाग द्वारा 1 अप्रैल से अब तक एन्टी रैबीज वैक्सीन के 2322 डोज मंगाया गया है। जिसे बेरला ब्लाक में 351 डोज, साजा ब्लाक में 349 डोज, नवागढ़ ब्लाक में 264 डोज व खंडसरा सेंन्टर में 482 डोज समेत 1446 डोज का वितरण किेया गया था। जिसमे से अब तक 876 डोज का उपयेाग किया जा चुका है। एन्टी स्नेक वैक्सीन की आपूर्ति जिले को सीजी एम सी सेे प्राप्त हुआ था जिसमे से बीते वर्ष के दैारान 756 व जारी सत्र के दैारान 299 वैक्सीन प्राप्त हुआ था जिसमे से 623 डोज का वितरण जिले शासकीय अस्पतालों को किया गया है। जिसमे से 478 डोज का उपयोग किया गया। शेष खुराक सुरक्षित रखा गया है। जिले में लगातार बढ़ते जावर्षीय छात्रा की स्कूल में बिच्छु काटने के बाद उपचार के दौरान रायपुर ले जाते समय मौत हुई थी। वहीं थानखम्हरिया रहे हैं ऐसे मामले जिले के ग्राम बंधी में 8 में एक युवक की मौत सर्प काटने से हुआ है। सर्प व बिच्छु काटने को लेकर जानकार संर्कशण मिश्रा ने बताया कि सर्प देखकर डरे न सावधानी बरते। बारिश के दिनो में बिल व अन्य स्थानों पर जहां पर सांपो का बसेरा होता है वहां पर पानी भरने या उमस होने पर बाहर निकलते है। इस दौरान संपर्क में आने पर हमला करने का खतरा बना रहता है। कहीं पर सर्प दिखे तो उसे परेशान न करे। पकड़ने वालो को सूचना दे या फिर जाने दे । छेड़छाड़ की स्थिति में काटने का खतरा रहता है। डॉ. योगेश दुबे कहते है कि सर्प काटने के बाद झाड़ ***** के बजाये मरीज को सीधे समीप के अस्पताल लाये जहां पर उचित उपचार कराये । जिले में सात दिनो के दौरान नवागढ, बेरला, थानखम्हरिया, बेमेतरा, खंडसरा क्षेत्र में सर्पदंश के मामले सामने आये हैं। जिले में बीते साल 23 मौते हुई थी प्राप्त आंकडो के अनुसार जिले में गत वर्ष विभिन्न थाना क्षेत्र में अकाल मौत होने के 513 प्रकरण थे। जिसमे से 23 मौत सर्प व बिच्छु काटने से हुआ था। इस वर्ष के दैारान अब तक 280 मौत हुई है। जिसमे तीन मौत सर्पदंश व बिच्छू काटने से हुई है ,जिसमे दो मौते लगातार दो दिन के दौरान हुई है। जिले में दोनों वैक्सीन के पर्याप्त स्टाक है। अगर कहीं पर कमी होने की बात सामने आए तो सूचित करें। उपलब्ध कराया जाएगा। डॉ. खेमराज सोनवानी, जिला स्वास्य एवं चिकित्सा अधिकारी

पत्रिका 2 Jul 2022 1:41 pm

Single Use Plastic Ban : अभियान के खिलाफ व्यापारियों ने हरकी पैड़ी पर दिया धरना, कहा- एकतरफा कार्रवाई कर रहा प्रशासन

Single Use Plastic Ban एक जुलाई से देशभर में सिंगल यूज प्लास्टिक पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। वहीं इसी बीच शनिवार को हरिद्वार के व्यापारियों ने समस्याओं की सुनवाई नहीं किए जाने को लेकर प्रदर्शन किया।

जागरण 2 Jul 2022 1:41 pm

नवम वर्ग में नामांकन को लेकर प्रवेशोत्सव अभियान के तहत निकली प्रभात फेरी

अररिया 02 जुलाई (हि.स.)। बिहार शिक्षा परियोजना (समग्र शिक्षा) अररिया के निर्देश पर वर्ग नवम में नामांकन के लिए शुक्रवार को स्थानीय 2 ली अकादमी हाई स्कूल से आठवीं उतीर्ण शत प्रतिशत छात्र छात्राओं का नामांकन वर्ग नवम में होने के उद्देश्य से प्रवेशोत्सव अभियान के तहत प्रभात फेरी निकाली गयी। जिसमें एनसीसी कैडेट्स के …

न्यूज़ इंडिया लाइव 2 Jul 2022 1:40 pm

Manipur Landslide: मणिपुर भूस्खलन में बचाव कार्य युद्धस्‍तर पर, 13 जवानों और पांच नागरिकों को बचाया गया

मणिपुर के नोनी जिले में एक रेलवे निर्माण स्थल पर हुई भूस्खलन की घटना में बंगाल के दार्जिलिंग पहाड़ी क्षेत्र के 11 गोरखा जवानों की मौत हो गई। सभी जवान प्रादेशिक सेना की 107वीं बटालियन के थे। अब तक प्रादेशिक सेना के 13 जवानों और पांच नागरिकों को बचाया गया।

जागरण 2 Jul 2022 1:40 pm

नरकोपी थाना क्षेत्र के दो अलग-अलग सड़क दुर्घटना में दो की मौत, तीन घायल, दो रिम्स रेफर

नरकोपी थाना क्षेत्र के बेड़ो लोहरदगा मार्ग पर राज विद्या केंद्र मोड़ के समीप शुक्रवार की रात लगभग आठ बजे दो अलग-अलग सड़क दुर्घटनाओं में दो लोगों की दर्दनाक मौत हो गई। जबकि 3 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए

जागरण 2 Jul 2022 1:39 pm

Communicable Disease Control Campaign: बारिश के साथ ही मच्छरों का बढ़ा आतंक, डेंगू- मलेरिया से बचने को पढ़ें एक्सपर्ट की राय

Communicable Disease Control Campaign स्वास्थ्य विभाग द्वारा चलाया जा रहा संचारी रोग नियंत्रण अभियान। मच्छर न पनपे इसके लिए किया जा रहा जागरूक। सिर में तेज दर्द बुखार उतरने के समय पसीना अधिक आना जैसे लक्षणाें काे न करें नजरअंदाज।

जागरण 2 Jul 2022 1:39 pm

सिविल सेवा परीक्षा को ले कोचिंग के लिए आवेदन की अंतिम तिथि 07 जुलाई, सिर्फ अनुसूचित जाति (एससी) के छात्रों के लिए मुफ्त कोचिंग में होंगी 100 सीटें

दक्षिण बिहार केन्द्रीय विश्वविद्यालय (सीयूएसबी) ने विशेष रूप से अनुसूचित जाति (एससी) के छात्रों के लिए मुफ्त सिविल सेवा परीक्षा (संघ लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित) कोचिंग के लिए आवेदन की अंतिम तिथि को 30 जून से बढाकर 07 जुलाई 2022 कर दिया है।

जागरण 2 Jul 2022 1:38 pm

Balrampur News: बलरामपुर में एसएसबी ने 20 क्विंटल नेपाली सुपारी से लदी डीसीएम को पकड़ा, हिरासत में दो लोग

सशस्त्र सीमा बल व पुलिस की मुस्तैदी के बाद भी भारत-नेपाल सीमा पर तस्करी थमने का नाम नहीं ले रही है। एसएसबी गुरुंग नाका के जवानों ने इटवा चौराहा पर डीसीएम में लदी 44 बोरी नेपाली सुपारी पकड़ी है। 20 क्विंटल नेपाली सुपारी की कीमत करीब 22 लाख रुपये है।

जागरण 2 Jul 2022 1:38 pm

PEC चंडीगढ़ की पूर्व छात्रा ने चमकाया शहर का नाम, शिखा ने मैरीलैंड यूनिवर्सिटी से एयरोस्पेस में हासिल की पीएचडी डिग्री

पंजाब इंजीनियरिंग कालेज (पेक) चंडीगढ़ की पूर्व छात्रा शिखा चौधरी रेढाल ने अपनी उपलब्धि से पेक और चंडीगढ़ दोनों का नाम रोशन किया है। शिखा ने मैरीलैंड यूनिवर्सिटी से एयरोस्पेस इंजीनियरिंग में पीएचडी की डिग्री हासिल की है।

जागरण 2 Jul 2022 1:38 pm

‘Koffee With Karan’ के एक एपिसोड के लिए इतनी मोटी रकम वसूलते हैं Karan johar कि सुनकर चकरा जाएगा आपका सिर

शो 7 जुलाई से स्ट्रीम होने वाला है। सभी बेहद एक्साइटेड हैं। शो के अब तक 6 सीजन आ चुके हैं और सबी ने तहलका मचाया है। इस शो की सफलता के पीछे सबसे बड़ा हाथ फिल्ममेकर और इस शो के होस्ट करण जौहर का है। उन्होंने सारे सीजन्स को बखूबी होस्ट किया है, ऐसे में जाहिर तौर पर उन्हें तगड़ी फीस मिलना तो लाजमी है। तो आइए जानते हैं कि आखिर ये इस शो से कितना कमा लेते हैं। इस शो से करण जौहर की कमाई जानकर आप माथा पकड़ लेंगे। अगर आप बात करें 7वें सीजन की तो इसके लिए करण ने इस सीजन के एक एपिसोड के लिए 1 से 2 करोड़ रुपये चार्ज कर रहे हैं। कॉफी विद करण’ के हर सीजन में करण करीब 20 एपिसोड होस्ट करते हैं। ऐसे में जाहिर है कि इस बार भी वो करीब-करीब इतने ही एपिसोड की शूटिंग करेंगे और इससे वो करीब पूरे सीजन 40 करोड़ रुपये तक चार्ज करेंगे। भले ही करण का ये शो शुरू नहीं हुआ हो, लेकिन इसकी चर्चा अभी से होने लगी है। लोग इसका बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। आपको बता दें कि करण के शो के सीजन 7 की शुरुआत 7 जुलाई से होने जा रही हैं। किस प्लेटफॉर्म पर होगा टेलीकास्ट- इस खबर के बाद फैंस और उत्सुक हो गए हैं और अब 7 जुलाई का इंतजार कर रहे हैं, लेकिन क्या आपको पता है कि ये कहां टेलीकास्ट किया जाएगा नहीं तो यहां जानें। शो टीवी पर नहीं बल्कि इसे ओटीटी चैनल डिज्नी प्लस हॉटस्टार पर दिखाया जाएगा। इसे आप कहीं भी और कभी भी देख सकेंगे। कौन- कौन गेस्ट होंगे शामिल- शो में आने वालों की लिस्ट काफी बार सामने आ चुकी है। इनमें कई नाम शामिल थे। खबर थी कि शो में पहले गेस्ट आलिया भट्ट और रणबीर कपूर होंगे, लेकिन करण जौहर ने खुलासा किया था कि रणबीर उनके चैट शो में नहीं आएंगे। उन्होंने इसकी वजह भी बताई थी। करण जौहर ने अपने इंटरव्यू में इस बात का भी खुलासा किया था कि एक्टर इस शो में क्यो नहीं आएंगे। उन्होंने बताया कि रणबीर कपूर ने उनसे कह दिया है कि वह कभी भी उनके शो में नहीं आएंगे। आजकल लोग काफी डरे हुए हैं क्योंकि आजकल की तेजी से भागती जेनरेशन के बीच कुछ भी हेडलाइन बन सकता है और कुछ भी सनसनी पैदा कर सकता है। रणबीर कपूर ने मुझसे कह दिया है कि वह मेरे शो में नहीं आएंगे क्योंकि उन्हें फिर आगे लंबे समय तक इसकी कीमत चुकानी पड़ेगी। रणबीर ने कहा कि प्लीज मुझे अपने शो पर मत लाओ। मैं तुमसे बहुत प्यार करता हूं। शो पर आने के बजाय मैं तुम्हारे घर चैट करने आ जाऊंगा और कॉफी पी लूंगा। खबर ये भी थी कि इस बार शो में बॉलीवुड के तीन खान यानी शाहरुख, सलमान और आमिर एक साथ नजर आएंगे। अब इसमें कितनी सच्चाई है ये तो शुरू होने के बाद ही पता चलेगा। रिपोर्ट्स की मानें तो अल्लू अर्जुन और रश्मिका मंदाना से लेकर केजीएफ 2 स्टार यश भी इस शो का हिस्सा हो सकते हैं। आपको बता दें कि इस शो के 6 सक्सेसफुल सीजन हो चुके हैं और यह सातवें सीजन के साथ वापस आ रहा है। इसका आखिरी सीजन 2019 में आया था। साल 2020 में सुशांत सिंह राजपूत के निधन के बाद करण जौहर फैंस के निशाने पर थे। सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद शो को काफी आलोचनाओं का सामना करना पड़ा था। जनता ने शो की जमकर आलोचना की। साथ ही रैपिड फायर राउंड की आलोचना की और शो पर ऐक्टर को डराने-धमकाने का आरोप लगाया।

पत्रिका 2 Jul 2022 1:36 pm

Gang Rape : चाय लेने थड़ी पर पहुंची महिला से सामूहिक बलात्कार

जोधपुर. पुत्र की जमानत कराने के लिए जोधपुर आई जयपुर की एक महिला से जोधपुर सेंट्रल जेल (Jodhpur Central jail) (Gang rape out side central jail) के बाहर शुक्रवार सुबह चाय की होटल पर सामूहिक बलात्कार (Gang rape with a lady outside jail) किया गया। एक भाई पर बलात्कार व दूसरे पर सहयोग करने का आरोप है। पुलिस ने चाय की होटल संचालक दोनों भाइयों को (Gang rape accused two brothers caught by police) हिरासत में लिया है। (Gang rape with Jaipur's lady) थानाधिकारी ने बताया कि जयपुर के एक युवक को पुलिस ने गत दिनों मारपीट के मामले में गिरफ्तार कर न्यायिक अभिरक्षा में भेजा था, जो जोधपुर जेल में बंद है। उसकी जमानत करवाने के लिए मां व दो अन्य महिला को लेकर गुरुवार को जोधपुर आई थी। वो दिनभर कोर्ट परिसर में जमानत के लिए व्यस्त रही। फिर मां अपने पुत्र से मिलने के लिए जेल पहुंची, लेकिन मिल नहीं पाई थी। तीनों महिलाएं जेल के बाहर प्रतीक्षालय में ही सो गईं। साथ आई महिला को बताई आपबीती इस बीच, शुक्रवार सुबह पांच बजे महिला उठी और चाय लेने निकली। जेल से कुछ दूरी पर पेड़ के पास बनी एक टी-स्टॉल पहुंची, जहां दो युवक मिले। उन्होंने चाय बनाने तक दुकान के पीछे बैठने की सलाह दी। महिला वहां बैठ गई और एक युवक चाय बनाने लगा। इतने में एक युवक वहां आया और महिला के हाथ व मुंह पकड़ लिया। दूसरे युवक ने उसके साथ बलात्कार किया। फिर दोनों युवक वहां से चले गए। डरी-सहमी महिला भी बगैर चाय लिए जेल के बाहर पहुंची और जयपुर से साथ आई महिलाओं को पूरी बात बताई। तीनों ने युवकों की तलाश की, लेकिन वे नहीं मिले। फिर महिलाएं थाने पहुंची, जहां पीडि़ता ने पूरी बात कताई। साथ ही दो अज्ञात युवकों के खिलाफ सामूहिक बलात्कार का मामला दर्ज कराया। भाई निकले दोनों आरोपी वारदात का पता लगने पर पुलिस घटनास्थल पहुंची, जहां होटलकर्मी व अन्य लोगों से हुलिए के आधार पर युवकों के बारे में पता लगाने का प्रयास किया। तब सामने आया कि दोनाें युवक टी-स्टॉल संचालक के पुत्र हैं। जांच कर रहे एसआइ ने दोनों को हिरासत में ले लिया, जिनसे पूछताछ की जा रही है। महिला का मेडिकल कराया गया है।

पत्रिका 2 Jul 2022 1:35 pm

भारी सुरक्षा के बीच कन्हैयालाल हत्याकांड के 4 आरोपी जयपुर की कोर्ट में पेश

जयपुर गौस मोहम्मद, रियाज, मोहसीन और आसिफ ये चारों वे नाम है जो अभी केंद्र सरकार के अधीन आने वाली जांच एजेंसी एनआईए के साथ हैं और एनआईए ने इनको कुछ देर पहले ही जयपुर की कलेक्ट्री सर्किल के नजदीक स्थित एनआईए कोर्ट में पेश किया है। उदयपुर हत्याकांड के बाद मचे बवाल के बाद इन चारों को गिरफ्तार किया गया है। आसिफ और मोहसीन को उदयपुर से जयपुर लाया गया और गौस एवं रियाज को अजमेर से जयपुर लाया गया हैं। इस केस की अब आगे जांच एनआईए ने शुरु कर दी है। दो सप्ताह की रिमांड पर हैं गौस एवं रियाज कन्हैया लाल की हत्या करने के बाद इसकी जिम्मेदारी लेते हुए वीडियो जारी करने वाले गौस मोहम्मद और रियाज को दो सप्ताह की रिमांड पर लिया गया है। दो दिन दोनो को अजमेर की हाई सिक्योरिटी जेल में रखा गया और उसके बाद आज एनआईए ने जयपुर में कोर्ट में पेश किया। यहां पर पेश करने के बाद एनआईए कोर्ट की प्रकिया जारी है। बताया जा रहा है कि कोई की प्रक्रिया के बाद सात से दस दिन की रिमांड पर एनआइए उनको पूछताछ के लिए ले सकती है। उधर आसिफ और मोहसीन को भी एक दिन की ट्रांजिट रिमांड पर लिया गया था। उसके बाद इन दोनो को भी गौस एवं रियाज के साथ आज एनआइए ने कोर्ट में पेश किया है। चारों की रिमांड के लिए प्रक्रिया शुरु कर दी गई है। छावनी बना दी गई है कोर्ट इससे पहले आज सवेरे से ही जयपुर कलेक्ट्री पर स्थित कोर्ट में एनआइए के आने से पहले ही भारी पुलिस बंदोबस्त कर दिया गया है। सवेरे नौ बजे से ही भारी संख्या में वहां पुलिस बल तैनात किया गया है, जिनमें हथियारबंद जवान भी शामिल हैं। आरपीएस स्तर के अफसर सिक्योरिटी को लीड कर रहे हैं और आईपीएस इसकी मॉनिटरिंग कर रहे हैं।

पत्रिका 2 Jul 2022 1:33 pm

जुगसलाई दुर्गा बाड़ी में बिपत्तारिणी पूजा में उमड़े श्रद्धालु

जमशेदपुर। पूरे पूर्वी सिंहभूम जिले में धूमधाम के साथ मां बिपत्तारिणी की पूजा संपन्न...

लाइव हिन्दुस्तान 2 Jul 2022 1:30 pm

Jammu : जलशक्ति विभाग के अस्थायी कर्मियों अपनी मांगों पर अड़े, सोमवार से आंदोलन तेज करने की चेतावनी

Jal Shakti Department Jammu बीसी रोड स्थित जलशक्ति विभाग के परिसर में प्रदर्शन कर रहे इन कर्मियों ने कहा कि अभी कहीं-कहीं पानी की जलापूर्ति प्रभावित हुई है। यदि इसी तरह उनकी मांगों को हल्के में लिया गया तो यह समस्या विकराल हो सकती है।

जागरण 2 Jul 2022 1:29 pm

Indian Railways: गोवा समेत 50 से अधिक ट्रेनों की बढ़ेगी रफ्तार, अब लेट होने की शिकायत नहीं करेंगे यात्री

Speed of trains will increase झांसी रेल मंडल से गुजरने वाली 50 से अधिक ट्रेनों को जुलाई में समय पर बदला जा सकता है। ट्रेनों की अधिकतम गति 110 से 130 किमी प्रति घंटे होने वाली है। इससे ट्रेनें 3 से 35 मिनट पहले पहुंचनी शुरू हो जाएंगी।

जागरण 2 Jul 2022 1:28 pm

छत्तीसगढ़ के युवक को मिली जान से मारने की धमकी, किया था नुपुर शर्मा का समर्थन

भिलाई. कुम्हारी के रहने वाले एक युवक को अज्ञात लोगों ने जान से मारने की धमकी दी है। युवक को ये धमकी नुपुर शर्मा के सपोर्ट में पोस्ट करने के बाद मिली है। बताया जा रहा है कि युवक ने कुछ दिन पहले नुपुर शर्मा के सपोर्ट में सोशल मीडिया पर एक पोस्ट किया था। वहीं युवक की शिकायत कुम्हारी पुलिस मामला दर्ज कर जांच में जुटी हुई है। दुर्ग जिले के कुम्हारी के रहने वाले एक युवक को अज्ञात लोगों ने जान से मारने की धमकी दी है। युवक को ये धमकी नुपुर शर्मा के सपोर्ट में पोस्ट करने के बाद मिली है। बताया जा रहा है कि युवक ने कुछ दिन पहले नुपुर शर्मा के सपोर्ट में सोशल मीडिया पर एक पोस्ट किया था। वहीं युवक की शिकायत कुम्हारी पुलिस मामला दर्ज कर जांच में जुटी हुई है। मिली जानकारी के अनुसार कुम्हारी के कैलाश नगर वार्ड 11 कुम्हारी निवासी राजा जगत (22) ने 12 जून को अपने इंस्टाग्राम की आइडी से नुपुर शर्मा के पक्ष में एक मैसेज पोस्ट किया था। जिसके बाद उसे दो नंबरों से रिप्लाई आया और दोनों मैसेज में उसे जान से मारने की धमकी दी गई है। इसी तरह के मामले में राजस्थान के उदयपुर में टेलर कन्हैया लाल की हत्या से भयभीत युवक ने तुरंत कुम्हारी थाना में इसकी शिकायत की है। बता दें कि राजस्थान के उदयपुर में नूपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट करने पर एक दर्जी की सरेआम हत्या कर दी गई थी। बदमाशों ने वारदात का वीडियो भी बनाया था। इसके बाद से देशभर में बवाल हुआ था। वहीं उदयपुर में हालात को देखते कर्फ्यू लागू किया गया था।

पत्रिका 2 Jul 2022 1:27 pm

50 प्रतिशत से अधिक अंक वाली छात्राओं का तकनीकी कोर्सेस में होगा सीधा नामांकन, जानिये कहां मिलेंगी ये सुविधाएं

रांची वीमेंस कालेज प्रबंधन ने बीएससी आईटी बीए इन फैशन डिजाइनिंग बीएससी इन क्लीनिकल न्यूट्रिशन एंड डायटेटिक्स बीएससी बायोटेक्नोलाजी में नामांकन के लिए जारी किया है सर्कुलर। कालेज के संबंधित विभाग के विभागाध्यक्ष के पास मिलेगी सारी जानकारी

जागरण 2 Jul 2022 1:27 pm

सावन में शिवभक्तों को घर बैठे मिलेगा गंगाजल और विश्वनाथ बाबा का प्रसाद, जानें कैसे

जुलाई महीने की 14 तारीख से सावन लगने वाले हैं। वहीं इस बार आपको घर बैठे ही गंगाजल और काशी विश्वनाथ बाबा का प्रसाद मिल सकता है। क्योंकि डाक विभाग शिवभक्तों के लिए सावन में विशेष सुविधा उपलब्ध कराने जा रहा है। जिसके तहत डाकिया भोले बाबा का प्रसाद पहुंचाएगा। साथ ही सभी डाकघरों में गंगोत्री का गंगा जल भी उपलब्ध कराया जाएगा। बस इसके लिए आपको 30 रुपए देने होंगे। वहीं काशी विश्वनाथ मंदिर का प्रसाद मंगाने के लिए 251 रुपये जमा करना होगा। दरअसल सावन में गंगा जल कम नहीं पड़े, इसके लिए मुख्यालय से गंगाजल की मांग की गई है। यह भी पढ़े - Job Fair: रैपिड रेल प्रोजेक्ट ने शुरू किया रोजगार मेला, ITI और B.tech छात्रों के लिए सुनहरा अवसर लोगों को घर बैठे मिलेगी सुविधा हालांकि ऐसा पहली बार नहीं है। इससे पहले भी डाकिया रक्षाबंधन पर राखी भेजने के लिए वाटर प्रूफ लिफाफा जारी करता है। वहीं कोरोना काल के समय में घर तक दवाई पहुंचाने जैसी व्यवस्था भी डाक विभाग द्वारा की जा चुकी हैं। अब सावन महीने के लिए डाक विभाग ने ये विशेष सेवा शुरू करने का फैसला लिया है। इससे न सिर्फ लोगों को घर बैठे सुविधा होगी बल्कि डाक विभाग की आय बढ़ेगी। जिसके देखते हुए ही डाक विभाग शिव भक्तों के लिए काशी विश्वनाथ मंदिर का प्रसाद व गंगोत्री का गंगाजल उपलब्ध कराने जा रहा है। यह भी पढ़े - नोएडा के 59 स्कूलों पर कड़ी कार्रवाई की तैयारी में शिक्षा विभाग, ये है वजह स्पीड पोस्ट से भेजा जाएगा प्रसाद प्रवर डाक अधीक्षक वीर सिंह ने बताया कि कोई भी व्यक्ति किसी भी डाक घर में 251 रुपये जमा कर काशी विश्वनाथ मंदिर का प्रसाद मांग सकता है। वहीं गंगोत्री का गंगा जल मंगाने के लिए 30 रुपए देने होंगे। जिसके बाद डाकघर के कर्मचारी उक्त राशि ई मनीआर्डर द्वारा प्रवर डाक अधीक्षक वाराणसी (पूर्वी) को भेज देंगे। डाकघर और काशी विश्वनाथ प्रशासन से करार है, रुपये मिलते ही डिब्बा बंद प्रसाद रुपये भेजने वाले व्यक्ति के पता पर स्पीड पोस्ट से भेज दिया जाएगा। इतना ही नहीं डिब्बे के ऊपर वाराणसी घाट जारी डाक टिकट फोटो भी लगा होगा। वहीं प्रसाद भेजने की सूचना एसएमएस द्वारा संबंधित व्यक्ति को दी जाएगी।

पत्रिका 2 Jul 2022 1:26 pm

Cholesterol: अगर आप भी बढ़ते कोलेस्ट्रॉल लेवल को कम करना चाहते हैं, तो आज से ही अपनी डाइट में करें 4 इन चीजों को शामिल

Cholesterol: आजकल की बदलती लाइफस्टाइल और गलत खानपान की वजह से ज्यादातर लोग कोलेस्ट्रॉल बीमारी की समस्या से जूझ रहे हैं। कोलेस्ट्रॉल बढ़ने पर व्यक्ति को कई दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। साथ ही कई शरीर में बीमारियां होने लगती हैं। कोलेस्ट्रॉल बढ़ने पर हार्ट अटैक, स्ट्रोक, टाइप 2 डायबिटीज और अन्य बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है। कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ने पर जान का खतरा भी बन सकता है। ऐसे में अपनी सेहत पर विशेष ध्यान देने की जरूरत होती है। आप अपनी डाइट में उन हेल्दी चीजों का सेवन करें जो बढ़ते कोलेस्ट्रॉल लेवल को कम करने में मदद करते हैं। कुछ ऐसी चीजें भी हैं जो बढ़ते कोलेस्ट्रॉल लेवल को कम करने में मदद करते हैं। तो आइए जानते हैं इनके बारे में बढ़ते कोलेस्ट्रॉल लेवल को कम वाले फूड्स आंवला बढ़ते हुए कोलेस्ट्रॉल लेवल को कम करने के लिए आंवला का सेवन करना बहुत ही फायदेमंद होता है। क्योंकि आंवला में अमीनो एसिड और एंटी ऑक्सीडेंट के गुण पाए जाते हैं जो शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल को खत्म करने में मदद करते हैं और कोलेस्ट्रॉल का लेवल कम करते है। यह भी पढ़े: करी का पत्ता आंखों की बढ़ाने और वजन को कम करने में होता है फायदेमंद साबुत अनाज बढ़ते हुए कोलेस्ट्रॉल लेवल को कम करने के लिए साबुत अनाज का सेवन करना बहुत ही फायदेमंद होता है। क्योंकि साबुत अनाज में फाइबर की भरपूर मात्रा पाया जाता है जो शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल को खत्म करता हैं और कोलेस्ट्रॉल का लेवल कम करता है। लहसुन बढ़ते हुए कोलेस्ट्रॉल लेवल को कम करने के लिए लहसुन का सेवन करना बहुत ही फायदेमंद होता है। क्योंकि लहसुन में एंटी-हाइपरलिपिडेमिया प्रॉपर्टी मौजूद होता है जो शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल को खत्म करता हैं और कोलेस्ट्रॉल का लेवल कम करता है। यह भी पढ़े: सेब के सिरके से मिलते हैं ये अद्भुत फायदे, महिलाओं के लिए होता है फायदेमंद अलसी के बीज बढ़ते हुए कोलेस्ट्रॉल लेवल को कम करने के लिए अलसी के बीज का सेवन करना बहुत ही फायदेमंद होता है। क्योंकि अलसी के बीज में ओमेगा 3 फैटी एसिड और लिनोलेनिक एसिड मौजूद होते हैं जो शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल को खत्म करने में मदद करते हैं और कोलेस्ट्रॉल का लेवल कम करते है। डिस्क्लेमर- आर्टिकल में सुझाए गए टिप्स और सलाह केवल सामान्य जानकारी प्रदान करते हैं। इन्हें आजमाने से पहले किसी विशेषज्ञ अथवा चिकित्सक से सलाह जरूर लें। 'पत्रिका' इसके लिए उत्तरदायी नहीं है।

पत्रिका 2 Jul 2022 1:26 pm

कानपुर : बिधनू के रामगंगा नहर में युवक ने लगाई छलांग, पुलिस ग्रामीणों की मदद से कर रही तलाश

कानपुर के बिधनू के रामगंगा नहर शटर पुल से मजदूर ने गंगा में छलांग लगा दी। मजदूर अपनी ससुराल आया था। जहां वह शनिवार सुबह साले के साथ टहलने के लिए निकला था। पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से नहर में मजदूर की तलाश शुरू कर दी है।

जागरण 2 Jul 2022 1:25 pm

Nainital News: नैनीताल में सौ के पार बिक रहा टमाटर, बिगड़ा सब्जियों का जायका

सब्जियों के दाम में उछाल ने लोगों के घर का बजट बिगड़ गया है। पहले प्याज के महंगे दाम ने आंसू निकाले तो अब टमाटर के महंगे दाम ने सब्जियों का जायका बिगाड़ दिया है। टमाटर अब रिटेल में शतक लगा चुका है।

जागरण 2 Jul 2022 1:25 pm

E Sanjeevani Hub: घर बैठे ई संजीवनी हब से ले सकते हैं एसएन के डाक्टरों से परामर्श, ये है आसान तरीका

E Sanjeevani Hub मोबाइल पर ई संजीवनी ओपीडी एप डाउनलोड कर ले सकते हैं निश्शुल्क परामर्श। सुबह आठ से दोपहर दो बजे तक दिया जाता है परामर्श 15 हजार ने लिया लाभ। अभी 70 से 80 मरीज ही परामर्श ले रहे हैं।

जागरण 2 Jul 2022 1:25 pm

शनि साढ़े साती की चपेट में हैं मकर, कुंभ और मीन राशि के जातक, जानिए कब मिलेगी मुक्ति

Shani Sade Sati: 29 अप्रैल को शनि के राशि बदलते ही मीन वालों पर शनि साढ़े साती शुरू हो गई थी। जबकि मकर और कुंभ वाले पहले से ही शनि साढ़े साती की चपेट में हैं। बस इनके चरणों में बदलाव हो गया है। बता दें शनि साढ़े साती के तीन चरण होते हैं। जिसमें हर चरण की अवधि ढाई साल की होती है। मकर वालों पर इसका आखिरी चरण चल रहा है। कुंभ वालों पर इसका दूसरा चरण चल रहा है वहीं मीन वालों पर पहला चरण है। जानिए इन तीनों ही राशियों के जातकों को कब मिलेगी शनि की इस दशा से मुक्ति। मकर, कुंभ और मीन वालों को कब मिलेगी शनि साढ़े साती से मुक्ति? -मकर वालों को 29 मार्च 2025 में शनि साढ़े साती से मुक्ति मिल जाएगी। -कुंभ वालों को 3 जून 2027 को मुक्ति मिलेगी। -मीन वाले 17 अप्रैल 2030 में शनि की दशा से मुक्त होंगे। -कर्क और वृश्चिक वालों को 29 मार्च 2025 में शनि ढैय्या से मुक्ति मिलेगी। क्या होती है शनि की साढ़े साती? शनि साढ़े साती का लोगों के मन में काफी खौफ रहता है। शनि साढ़े साती का मतलब शनि की साढ़े सात साल की कालावधि है। जिस व्यक्ति की कुंडली में शनि की स्थिति कमजोर होती है उसके लिए ये साढ़े सात साल बेहद तकलीफ और मुसीबतों वाले व्यतीत होते हैं। लेकिन जिन लोगों की कुंडली में शनि मजबूत स्थिति में होते हैं वो लोग इस दौरान खूब तरक्की करते हैं। शनि साढ़े साती के बुरे प्रभाव से बचने का उपाय: जिस व्यक्ति पर शनि साढ़े साती चल रही हो उसे शनि महामंत्र के 23000 मंत्रों का जाप साढ़े सात साल के बीच करना अनिवार्य होता है। लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि जब भी ये मंत्र शुरू करें तो इसका जाप 23 दिनों के अंदर पूर्ण कर लेना चाहिए। ॐ निलान्जन समाभासं रविपुत्रं यमाग्रजम। छायामार्तंड संभूतं तं नमामि शनैश्चरम॥ यह भी पढ़ें: 2 जुलाई से लेकर अगले 15 दिन इन 3 राशियों के लिए बेहद शानदार, बनेगा हर काम ( डिस्क्लेमर: इस लेख में दी गई सूचनाएं सिर्फ मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है। patrika.com इनकी पुष्टि नहीं करता है। किसी भी जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ की सलाह लें।)

पत्रिका 2 Jul 2022 1:25 pm

नगर निगम चुनाव: महिला प्रत्याशियों का है दबदबा, 398 में से 199 महिलाएं

भोपाल। नगर निगम चुनाव में इस बार महिला प्रत्याशियों का अच्छा खासा दबदबा है। कुल 398 पार्षद पद के प्रत्याशियों में करीब 199 महिला प्रत्याशी हैं। महापौर पद के लिए मैदान में उतरी आठों प्रत्याशी महिलाएं हैं। पार्षद के लिए भाजपा-कांग्रेस की ओर से 42-42 प्रत्याशी, आप, बसपा व अन्य रजिस्टर्ड पार्टियों से 36, तो 122 निर्दलीय में से 76 महिला प्रत्याशी हैं। वहीं नगर निगम के 85 वार्डों के लिए तैयार हुई मतदाता सूची में भी महिला मतदाताओं की संख्या पिछले चुनाव से कहीं ज्यादा है। इस बार उत्तर विधानसभा के दो वार्ड ऐसे हैं, जिनमें महिलाओं की संख्या पुरुषों से ज्यादा है। वहीं 37 वार्ड में ये थोड़ा ही पीछे हैं। ऐसे वार्डों में पुरुष के साथ महिला मतदाताओं के हाथों में पार्षद के जीत की डोर रहेगी। इस बार नगर निगम चुनावों में 85 वार्डों में 17 लाख 6 हजार 637 मतदाता पार्षद तय करेंगे। इसमें से 886126 पुरुष मतदाता हैं, तो 820343 महिला मतदाता हैं। महिला पुरुष मतदाता में कुल 65 हजार 783 का अंतर रह गया है, इतने पुरुष ज्यादा हैं। पिछले चुनाव में ये अंतर करीब एक लाख का था। इस अंतर को देखते हुए इस बार नगर निगम चुनाव में 3500 महिला मतदाताओं की अच्छी संख्या में ड्यूटी लगाई गई है। इसमें से काफी महिलाएं ट्रेनिंग पूरी कर चुकी हैं। अब 6 जुलाई को होने वाले मतदान में बूथ पर ड्यूटी देंगी। नगर सरकार में बढ़ते महिलाओं के दखल के बाद अब ये तस्वीर साफ होने लगी है कि स्थानीय राजनीति में महिलाओं का दखल बढ़ता जा रहा है। वे भी अब गली मोहल्लों की राजनीति में बढ़चढ़ कर हिस्सा ले रही हैं। इन वार्डों में सभी प्रत्याशी महिलाएं : वार्ड 37 में चार प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं, इनमें सभी महिलाएं हैं। : वार्ड 38 में भी चारों महिला प्रत्याशी हैं, सभी जोरदार प्रचार कर रही हैं। : गोविंदपुरा विधानसभा क्षेत्र के वार्ड 52 में पांचों महिला प्रत्याशी हैं। इसमें एक शिवसेना की भी हैं। : वार्ड 55 में भी पांचों प्रत्याशी महिलाएं हैं। दो निर्दलीय मैदान में हैं। : वार्ड 61 में भी पार्षद पद की पांचों प्रत्याशी महिलाएं हैं। इनमें दो निर्दलीय हैं। : वार्ड 65 में तीन प्रत्याशी हैं, तीनों महिलाएं हैं। : वार्ड 67 में पांचों प्रत्याशी महिलाएं हैं, ये सभी वार्ड गोविंदपुरा क्षेत्र के हैं। : वार्ड 68 में भी तीनों प्रत्याशी महिलाएं हैं। यहां इतने ही प्रत्याशी हैं । : वार्ड 74 में भी तीन प्रत्याशी हैं। तीनों महिलाएं हैं।

पत्रिका 2 Jul 2022 1:24 pm

President Election 2022 : चुनाव प्रचार के 5 जुलाई को पटना आएंगी द्रौपदी मुर्मू, सियासी दलों के विधायकों-सांसदों से मिलकर मांगेंगी सपोर्ट

Bihar News : राज्य में द्रौपदी मुर्मू के लिए ज्यादा से ज्यादा वोट हासिल करने की रणनीति बनाने के लिए एनडीए नेता संयुक्त बैठक कर सकते हैं। संसद और राज्य विधानसभाओं के सदस्य राष्ट्रपति चुनाव के लिए निर्वाचक मंडल हैं। बिहार के राज्यसभा और लोकसभा सदस्यों और विधायकों का कुल वोट वैल्यू 81239 है।

नव भारत टाइम्स 2 Jul 2022 1:23 pm

मोहाली में जानलेवा हुआ कोरोना, एक हफ्ते में 4 लोगों की मौत, 300 से ज्यादा नए मरीज मिले

पंजाब के जिला मोहाली में कोरोना जानलेवा साबित हो रहा है। मोहाली में कोरोना से एक हफ्ते में 4 लोगों की मौत हुई है। वहीं 300 से ज्यादा नए मरीज भी मिले हैं। इस समय सक्रिया मरीजों का आंकड़ा 339 पहुंच गया है।

जागरण 2 Jul 2022 1:23 pm

Kanwar Yatra 2022 : गाजियाबाद में कांवड़ यात्रा मार्ग पर 15 दिन बंद रहेंगी मीट की दुकानें, आदेश जारी

Kanwar Yatra 2022 : गाजियाबाद नगर निगम ने कांवड़ यात्रा को लेकर तैयारियां शुरू कर दी हैं। भगवान भोलेनाथ का सबसे प्रिय सावन का महीना 14 जुलाई से शुरू हो जाएगा। जिसके बाद कांवड़ यात्रा का दौर भी शुरू हो जाएगा। बता दें कि पिछले दो वर्ष से कोरोना महामारी के कारण कांवड़ यात्रा पर रोक लग रही थी, ताकि कोरोना के प्रसार को रोका जा सके। हालांकि इस बार कोरोना का प्रकोप काफी कम है। इसलिए कांवड़ यात्रा शुरू होने जा रही है। कांवड़ यात्रा को लेकर कांवड़ियों में गजब का उत्साह देखने को मिल रहा है। गाजियाबाद नगर निगम ने भी कांवड़ यात्रा को लेकर बड़े स्तर पर तैयारियों शुरू कर दी हैं। नगर आयुक्त ने इस बार कांवड़ यात्रा मार्ग पर चलने वाली सभी मीट दुकानों को बंद करने का फैसला लिया है। बता दें कि गाजियाबाद शहर कांवड़ यात्रा की दृष्टि से बेहद महत्वपूर्ण है, क्योंकि इसी शहर से होकर करीब 15 दिन दिल्ली, हरियाणा और राजस्थान के कांवड़ियों होकर गुजरते हैं। इसलिए कांवड़ यात्रा को लेकर गाजियाबाद के नगर आयुक्त महेंद्र सिंह तंवर ने सभी व्यवस्थाओं के साथ कमान संभाल ली है। तंवर ने कांवड़ यात्रा के दौरान कांवड़ मार्ग की सभी मीट दुकानों को बंद रखने के निर्देश दिए हैं। इसके साथ ही सड़कों की साफ सफाई को लेकर भी अभियान शुरू कर दिया गया है। वहीं, कांवड़ियों के लिए यात्रा मार्ग पर प्रकाश व्यवस्था के भी विशेष इंतजाम किए जा रहे हैं। यह भी पढ़ें - कन्हैयालाल की तरह हिंदू युवा वाहिनी के वरिष्ठ नेता को मिल रही काटने की धमकी प्रमुख मंदिर मार्गों को भी किया जा रहा चकाचक नगर आयुक्त के आदेश पर सड़कों की साफ सफाई के साथ सड़कों के गड्‌ढों को भी भरा जा रहा है। वहीं जिले के प्रमुख मंदिरों के बाहर साफ सफाई का कार्य किया जाना है। इसके लिए मंदिरों के मार्ग पर सफाई का कार्य किया जा रहा है। यह भी पढ़ें - फैशन ब्लॉगर का आखिरी खत, लिखा... उस औरत ने बहुत परेशान किया, पति ने पार की हदें कांवड़ियों को नहीं होगी किसी प्रकार की परेशानी नगर आयुक्त ने बताया कि नगर निगम कांवड़ियों को किसी प्रकार की परेशानी न हो इस दिशा में कार्य कर रही है। इसके लिए नगर निगम की टीम लगातार कार्य में जुटी हैं। सफाई, प्रकाश व्यवस्था और सड़क के गड्‌ढों को भरने का कार्य युद्ध स्तर पर किया जा रहा है।

पत्रिका 2 Jul 2022 1:22 pm

भरना पड़ा 34 लाख 80 हजार का जुर्माना

चूरू . जिले में शुद्ध के लिए युद्ध अभियान के तहत खाद्य पदार्थों में मिलावट करने वाले मिलावटखोरों के खिलाफ जिला कलक्टर सिद्धार्थ सिहाग के निर्देशानुसार चलाये गए विशेष अभियान के तहत न्यायालय अतिरिक्त जिला कलक्टर द्वारा 11 प्रकरण में 34 लाख 80 हजार रुपये का जुर्माना लगाया गया है। न्यायालय ने एक प्रकरण में 5 लाख और दो प्रकरण में 4.4 लाख रुपये का जुर्माना लगाया है। सीएमएचओ डॉ. मनोज शर्मा ने बताया कि खाद्य सुरक्षा टीम द्वारा जिले में 1 जनवरी 2022 से शुद्ध के लिये युद्ध अभियान चलाया जा रहा है। अभियान के तहत लिये गये नमूनों की जांच में सही नहीं पाये गये नमूनों पर यह जुर्माना लगाया गया है। 49 नमूने प्रयोगशाला जांच में नहीं पाये गये सही खाद्य सुरक्षा अधिकारी फूलसिंह बाजिया ने बताया कि शुद्ध के लिये युद्ध अभियान जनवरी से चलाया जा रहा है। जिले में जनवरी 2022 से 30 जून 2022 तक अभियान के तहत 228 खाद्य पदार्थों के नमूने लिये गये। नमूनों की जांच जयपुर प्रयोगशाला से करवाई गयी। प्रयोगशाला जांच में 38 नमूने अमानक पाये गये। इसके अलावा 7 नमूने मिस ब्रांड व 4 अनसेफ पाये गये हैं। इसी तरह 16 नमूनों की जांच रिपोर्ट प्राप्त नहीं हुई है। 24 प्रकरण में अनुसंधान पूर्ण कर न्यायालय में पेश खाद्य सुरक्षा अधिकारी बाजिया ने बताया कि खाद्य पदार्थों की नमूना जांच नतीजे के बाद 24 प्रकरण अतिरिक्त जिला कलक्टर में प्रस्तुत किये है। इसके अलावा 25 प्रकरण में अनुसंधान किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि खाद्य पदार्थ नमूने प्रयोगशाला जांच में अमानक अथवा मिस ब्रांड पाये जाने पर न्यायालय अतिरिक्त जिला कलक्टर में प्रकरण आगामी कार्रवाई हेतु प्रस्तुत किया जाता है। उन्होंने बताया कि न्यायालय अतिरिक्त जिला कलक्टर द्वारा खाद्य सुरक्षा एवं मानक अधिनियम 2006 व विनिमय 2011 के तहत 5 लाख रूपये तक जुर्माना किये जाने का प्रावधान है।

पत्रिका 2 Jul 2022 1:22 pm

पश्चिम चंपारण में दो थानेदार व एक दारोगा को दस सालों तक नहीं मिलेगी थानेदारी

West Champaran Crime दो वर्ष तक तीनों पुलिस अधिकारियों के वेतन वृद्धि पर रोक। 2021 में 32 व 2022 में 10 लोगों की जहरीली शराब पीने से हो गई थी मौत। जुलाई व नवंबर 2021 में लौरिया और नौतन में हुई जहरीली शराबकांड को लेकर एसपी की कार्रवाई।

जागरण 2 Jul 2022 1:21 pm

एजबेस्टन में शतक जड़ने वाले 3 भारतीय दिग्गज बल्लेबाज, ऋषभ पंत का अनोखा कारनामा

टीम इंडिया और इंग्लैंड के बीच एजबेस्टन में एकमात्र टेस्ट मैच खेला जा रहा है। टीम इंडिया की तरफ से पहले दिन ऋषभ पंत ने शानदार शतक लगाया और एक अच्छे स्कोर की नींव रखी। खैर पंत ने शतक लगाने के बाद कई रिकॉर्ड भी अपने नाम कर लिए है। एजबेस्टन में आजतक सिर्फ दो ही भारतीय बल्लेबाज शतक लगा पाए थे और अब इस लिस्ट में पंत भी शामिल हो गए है। आइए आपको बताते हैं कि एजबेस्टन में किन तीन भारतीय खिलाड़ियों ने सेंचुरी जमाई। 1) सचिन तेंदुलकर तेंदुलकर के क्रिकेट करियर के बारे में सभी को पता है। उन्हें क्रिकेट का भगवान कहा जाता है। टेस्ट आंकड़ें उनके जबरदस्त हैं। सचिन ने 200 टेस्ट मैचों में 51 सेंचुरी लगाई है। सबसे ज्यादा शतक लाने वाले खिलाड़ियों की लिस्ट में वो टॉप पर है। उनके आस-पास भी कोई नहीं है। एजबेस्टन में सबसे पहले सचिन ने सेंचुरी लगाई थी। सचिन ने 6 जून 1996 को इस मैदान पर शतक जड़ा था। ये खास लम्हा सचिन के करियर का रहा था। ये भी पढ़ें- वाह ऋषभ पंत वाह, इंग्लैंड के गेंदबाजों की उड़ाई धज्जियां, 89 गेंदों में सेंचुरी ठोक बचाई इंडिया की 'इज्जत' 2) विराट कोहली मौजूदा दौर के सबसे बेहतरीन बल्लेबाजों की लिस्ट में विराट कोहली का नाम आता है। 102 टेस्ट मैचों में वो अभी तक 27 सेंचुरी लगा चुके हैं। एजबेस्टन में भारत की तरफ से दूसरी सेंचुरी विराट कोहली ने जड़ी थी। कोहली ने 1 अगस्त 2018 को इंग्लैंड के खिलाफ एजबेस्टन में शतक जड़ा था। विराट कोहली ने उस मैच में 149 रनों की पारी खेली थी। 3) ऋषभ पंत पंत का टेस्ट करियर अभी बहुत छोटा रहा है लेकिन उनके कारनामे बहुत बड़े रहे हैं। इंग्लैंड के खिलाफ 1 जुलाई 2022 से शुरू हुए पांचवें टेस्ट मैच में टीम इंडिया की पहली पारी में हालत खराब हो गई थी। सौ रन के भीतर ही पांच बल्लेबाज आउट हो गए थे। इसके बाद पंत ने मोर्चा संभाला और ताबड़तोड़ अंदाज में शतक लगाया। पंत की ये सेंचुरी हमेशा फैंस को याद रहेगी। पंत ने 111 गेंदों में 146 रन की पारी एजबेस्टन के मैदान पर खेली।

पत्रिका 2 Jul 2022 1:21 pm

Maharashtra Politics: बीएमसी चुनाव में होगी शिंदे की असली परीक्षा, क्या उद्धव ठाकरे को दे पाएंगे शिकस्त?

महाराष्ट्र में जिस तरह उद्धव सरकार सत्ता से बाहर हुई उसके बाद शिवसेना के सामने अगली सबसे बड़ी चुनौती बीएमसी चुनाव में जीत दर्ज करने की है। शिवसेना के बागी विधायकों की चुनौती से जूझ रही शिवसेना के लिए बीएमसी चुनाव काफी अहम होगा। बीजेपी ने एकनाथ शिंदे को महाराष्ट्र का सीएम बनाकर सुविचारित कदम उठाया है, क्योंकि शिवसेना की पकड़ बीएमसी मजबूत है और पार्टी ने इसे दशकों तक नियंत्रित भी किया है। साल 1971 के बाद से लेकर अब तक शिवसेना ने मुंबई को 21 मेयर दिए हैं। हालांकि, साल 1985 में शिवसेना बीएमसी में सत्ता में आई थी, इसके बाद शिवसेना ने 1996 तक नागरिक निकाय को अपना गढ़ बना लिया। विशेषज्ञों की माने तो मुंबई में शिवसेना की अधिकांश राजनीतिक लड़ाई आमतौर पर देश के सबसे अमीर नागरिक निकाय पर उसके कब्जे से मजबूत होती है। यह भी पढ़ें: Maharashtra Politics: संजय राउत का बड़ा दावा, कहा-मुझे भी गुवाहाटी जाने का प्रस्ताव मिला था; बताया क्यों नहीं गए एकनाथ शिंदे के बाद मुंबई नगर निकाय पर अपना कब्जा बनाए रखना शिवसेना के लिए मुश्किल नजर आ रहा है। इसका सबसे बड़ा कारण विधायकों की बगावत है। आंकड़ों की बात करें तो 1996 से अब तक शिवसेना का बीएमसी पूरा नियंत्रण रहा है। शिवसेना ने साल 1997 (103 सीटें), 2002 (97 सीटें), 2007 (84 सीटें), 2012 (75 सीटें) और फिर 2017 (84 सीटें) में लगातार बीएमसी चुनाव में शानदार जीत दर्ज की हैं। हाल के परिसीमन और आरक्षण की कवायद में, शिवसेना के चुनावी वार्ड 237 से 236 हो गए। मुंबई के एक वरिष्ठ राजनीतिक विश्लेषक प्रोफेसर अविनाश कोल्हे के मुताबिक बीएमसी के बिना उद्धव ठाकरे की शिवसेना पानी से बाहर मछली की तरह है और बीजेपी इसको अच्छी तरह समझती है। एकनाथ शिंदे शिवसेना के पुराने सिपाही रहे हैं। वह पार्टी तंत्र के नट और बोल्ट को अच्छी तरह जानते हैं। मुझे ऐसा लगता है कि सीएम की गद्दी पर शिवसेना के एक आदमी के साथ…मुझे यकीन है कि उन्हें बताया गया होगा कि उन्हें यह पद इस उम्मीद में दिया जा रहा है, कि वह बीजेपी-शिवसेना गठबंधन के लिए बीएमसी चुनावों में बेहतर करेंगे। बीएमसी पर बीजेपी की नजर महाराष्ट्र में सत्ता बदलने के बाद बीजेपी ने सोशल मीडिया पर साफ कर दिया था कि उसका अगला लक्ष्य बीएमसी चुनाव हैं। बीजेपी ने सोशल मीडिया पर लिखा कि ये तो झांकी है, मुंबई महानगर पालिका अभी बाकी है। बीजेपी राज्य में सत्ता परिवर्तन के साथ ही शिवसेना में बड़ी फूट डालने में सफल हुई और अब उसका अगला लक्ष्य बीएमसी पर कब्जा करना है। ठाणे और डोंबिवली में शिवसेना की काफी मजबूत पकड़ है। पिछले चुनाव में एनसीपी ने नवी मुंबई में जीत दर्ज की थी। ऐसे में शिवसेना के विकल्प के तौर पर बीजेपी लोगों तक पहुंचेगी। पिछले बीएमसी चुनाव के आंकड़े साल 2017 में बीएमसी की लड़ाई में शिवसेना ने 84 और बीजेपी 82 सीटों पर जीत दर्ज की थी। दोनों ने एक-दूसरे को कांटे की टक्कर दी थी। शिवसेना के एक वरिष्ठ स्थानीय नेता ने कहा कि शिंदे की बाजीगरी का मुकाबला करने के लिए ठाकरे को जमीनी स्तर पर अधिक समय देना होगा। उद्धव ठाकरे को उन लोगों का विश्वास दोबारा हासिल करना होगा, जिन्होंने अब तक उनके पिता और उनके नेतृत्व में शिवसेना को वोट दिया था। उद्धव ठाकरे को मुंबई के शिवसैनिकों के दिल में उतरना होगा। बता दें कि बीएमसी देश की सबसे ज्यादा बजट वाली नगर पालिका है। बीएमसी का कुल बजट 46 हजार करोड़ रुपए का है। शिक्षा का बजट बीएमसी अलग से पेश करती है। इस साल बीएमसी के बजट में 17 फीसदी से अधिक की वृद्धि हुई है। जिस तरह से एकनाथ शिंदे को बीजेपी ने महाराष्ट्र का नया मुख्यमंत्री बनाया है उसके पीछे बीएमसी और 2024 लोकसभा चुनाव को काफी अहम बताया जा रहा है।

पत्रिका 2 Jul 2022 1:19 pm

Udaipur Massacre- जिले में कई जगह गूंजे विरोध के स्वर, प्रतिष्ठान रहे बंद, निकाली रैली

उदयपुर हत्याकांड के विरोध में स्वेच्छा से बन्द रहे बाजार, जगह-जगह पुलिस जाब्ता रहा तैनात चूरू (सरदारशहर). BHP और बजरंग दल के आह्वान पर उदयपुर हत्याकांड के विरोध में शुक्रवार को कस्बे के बाजार बंद रहे। शुक्रवार सुबह 8 बजे पूर्व विधायक अशोक पींचा के नेतृत्व में गांधी चौक में सैकड़ों लोग एकत्रित हुए और कन्हैयालाल के हत्यारों को फांसी देने के नारे लगाते हुए प्रदर्शन किया। बाद में सैकड़ों की संख्या में लोग गांधी चौक से रवाना होकर राजवाला कुआं, अर्जुन क्लब, रोडवेज बस स्टैंण्ड, कच्चा बस स्टैंड, गांधी चौक से मुख्य बाजार घंटाघर लेडीज मार्केट, शिव मार्केट होते हुए रेलवे स्टेशन रैली के रूप में पहुंचे। वैसे व्यापारियों ने स्वेच्छा से बाजार बन्द रखकर घटना की निन्दा की। बंद के आह्वान के बाद पुलिस प्रशासन भी शहर में शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए चौकन्ना नजर आया। शहर के अलग-अलग जगह पुलिस जाब्ता तैनात रहा। डीएसपी नरेंद्र कुमार शर्मा और थाना अधिकारी सतपाल विश्नोई भी स्वयं पैदल गस्त करते हुए नजर आए। बंद के आह्वान पर भानीपुरा और चूरू से भी पुलिस जाब्ता बुलाया गया। मामले की गंभीरता को देखते हुए भारी संख्या में महिला पुलिस भी जगह-जगह बाजार में तैनात दिखी। भाजपा के युवा नेता मदन ओझा ने बताया कि विश्व ङ्क्षहदू परिषद और बजरंग दल के बाजार बंद के आह्वान पर व्यापारियों ने अपना पूर्ण समर्थन दिया है। उन्होंने कहा कि जिस प्रकार बर्बर हत्या उदयपुर में कन्हैया लाल दर्जी की हुई है पुलिस को इस बात की भनक थी और कन्हैया लाल दर्जी द्वारा पुलिस थाने में परिवाद भी दिया गया था लेकिन पुलिस प्रशासन ने कार्रवाई करने की बजाय समझौता करवाया और कुछ इस समझौते का परिणाम है कि कन्हैयालाल को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा। उन्होंने कहा कि राजस्थान सरकार की उदासीनता और पुलिस प्रशासन की नाकारा नीतियों का परिणाम है कि कन्हैयालाल की ङ्क्षजदगी चली गई। इस अवसर पर विश्व हिन्दू परिषद के अध्यक्ष शिवदयाल पारीक, नारायण माली, राकेश टाक, राजेन्द्र सोनी, जिप सदस्य गिरधारीलाल पारीक, मुरलीधर सैनी, पार्षद शोभाकान्त स्वामी, श्याम जोशी, सुरेश वर्मा, बाबूलाल प्रजापत, पवन कुमार, विकास कुमार, परतनाथ सिद्ध, मुकेश भामा सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित थे। अन्त में गांधी चौक में कन्हैयालाल दर्जी को 2 मिनट का मौन रख श्रद्धांजलि अर्पित की गई। वहीं सादुलपुर में विश्व ङ्क्षहदू परिषद तथा बजरंग दल के आह्वान पर शुक्रवार को शहर बंद सफल रहा। बंद को संयुक्त व्यापार मंडल तथा खाद्य पदार्थ व्यापार समिति का भी समर्थन रहा हालांकि सिनेमा हॉल के पास एक दुकान को लेकर एकबारगी तकरार की नौबत बन गई, मगर लोगों ने बीच बचाव किया। सूचना पर थानाधिकारी कृष्ण कुमार बालोदा मौके पर पहुंच गए। बन्द का असर बाजारों में ही नहीं रेलवे स्टेशन एरिया तथा गली मौहल्लों में भी देखने को मिला। कभी बन्द नहीं रहने वाली गली मोहल्लों की छोटी छोटी दुकानें तक बन्द रही, सब्जी के ठेले तक नहीं लगे। कच्ची उपज मंडी में समस्त दुकानें बंद रही मुख्य बाजारों तथा अन्य स्थानों पर पुलिस गश्त दिन भर जारी रही। मामले को लेकर विश्व ङ्क्षहदू परिषद बजरंग दल कार्यकर्ताओं खाद्य व्यापार मंडल एवं सँयुक्त व्यापार मंडल कार्यकर्ताओं ने राष्ट्रपति तथा राज्यपाल के नाम उपखंड अधिकारी को ज्ञापन सौंपा। बीदासर., उदयपुर में कन्हैयालाल टेलर की निर्मम हत्या को लेकर व्यापार मण्डल बीदासर के आह्वान पर कस्बा शुक्रवार को पूर्णतया बंद रहा। इस दौरान पुलिस चाक-चैबंद रही, बंद के दौरान जगह-जगह पुलिस की गश्त जारी रही। वहीं बंद के दौरान उदयपुर में हुई घटना को लेकर कस्बे के हिन्दू संगठनों द्वारा जमकर आक्रोश प्रकट किया। आक्रोश में कस्बे के मुख्य मार्गो से नारेबाजी करते हुए रैली निकाली। रैली भूतनाथ महादेव मंदिर से पुराना बस स्टेण्ड, मण्डी बाजार, गांधी चौक, मुख्य बाजार, चोरडिय़ा चौक, पालिका मार्ग होते हुए उपखण्ड कार्यालय पहुंची। उपखण्ड कार्यालय के बाहर युवकों ने जमकर आक्रोश किया तथा कन्हैयालाल टेलर के हत्यारों को अविलम्ब फांसी की सजा देने की मांग की। रतनगढ़, उदयपुर में कन्हैयालाल टेलर की निर्मम हत्या के विरोध में हिन्दू संगठनों, व्यापारिक संगठनों के आह्वान पर रतनगढ़ के सभी बाजार पूर्णतया बन्द रहे। यहां तक कि हाथ ठेले वालों ने भी बन्द का समर्थन करते हुए कामकाज ठप रखा। चाय पान की दुकानें भी बन्द रही। सब्जी मण्डी की हालांकि हर माह की पहली तारीख को छुट्टी रहती है लेकिन एक भी दुकान नहीं खुली। सुजानगढ़. उदयपुर के कन्हैयालाल की आंतकवादियो की ओर से की गई हत्या के आरोपियो को फांसी देने की मांग को लेकर शुक्रवार को बाजार सब्जी मंडी सहित पूरी तरह बंद रहा। बंद को लेकर हिन्दू समाज के अध्यक्ष विजय चौहान, किराना मर्चेन्ट एसोसिएशन अध्यक्ष पवन माहेश्वरी, प्रतिपक्ष उपनेता रिछपाल बिजारणियां, बजरंग दल सहित अन्य संगठनो के कार्यकर्ताओ ने जुलूस भी निकाला जो घंटाघर, गांधी चौक, डीसीएम रोड़, अगूणा बाजार से निकला। जुलूस में पार्षद पंकज घासोलिया, एडवोकेट मनीष दाधीच, जगदीश स्वामी, पार्षद गौरव इन्दोरिया, बबलू बजरंगी, गोपाल पारीक, नीरज बोचीवाल, लक्ष्मीनारायण राजपुरोहित, संतोष बेडिय़ा, संदीप सोनी, विकास सोनी, राजेश सैन सहित सैकड़ो जने शामिल थे। बंद को देखते पुलिस का जाप्ता हर जगह दिखाई दिया। डीएसपी रामप्रताप विश्नोई के अनुसार सुजानगढ़ कोतवाली, सदर थाना, छापर व सालासर थाने के चार थानाधिकारियो के अलवा एएसपी जगदीश बोहरा सहित करीब 50-55 पुलिसकर्मी मौजूद थे। एडीएम भागीरथ साख, एसडीएम मूलचन्द लूणियां आदि ने निगरान रखी।

पत्रिका 2 Jul 2022 1:17 pm

किसान 15 जुलाई तक कराएं फसल बीमा, जागरुकता रथ किया गया रवाना

कोरबा. किसानों को फसल बीमा के प्रति जागरूकता लाने तथा फसलों को बीमा सुरक्षा कवच प्रदान करने के लिए फसल बीमा रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। फसल बीमा रथ गांव-गांव जाकर किसानों को खरीफ मौसम में लगी चार फसलों का बीमा कराने के लिए प्रोत्साहित करेगा। फसल बीमा का लाभ प्राप्त करने के लिए किसानों को खरीफ के लिए 15 जुलाई तक फसल बीमा का पंजीयन कराना होगा। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना किसानों को बाढ़, सूखा, जलभराव, कीट व्याधि एवं ओलावृष्टि जैसी प्राकृतिक आपदाओं के कारण फसलों को हुए नुकसान की भरपाई के लिए संचालित की जा रही है। रथों की रवानगी के दौरान सभापति कृषि स्थायी समिति जिला पंचायत कोरबा गणराज सिंह कंवर सहित अन्य अधिकारीगण मौजूद थे। उपसंचालक कृषि अनिल शुक्ला ने बताया कि किसानों की फसलों का बीमा एग्रीकल्चर इंश्योरेंस कंपनी ऑफ इंडिया लिमिटेड द्वारा किया जा रहा है। खरीफ मौसम में धान की सिंचित फसल के लिए किसानों को 1080 रुपए प्रति हेक्टेयर के प्रीमियम पर 54 हजार रूपए की बीमा राशि तय की गई है। धान के असिंचित फसल के लिए 780 रूपए प्रति हेक्टेयर के प्रीमियम पर 39 हजार रुपए की बीमा राशि निर्धारित की गई है। मूंग और उड़द फसलों के लिए 19 हजार 200 रुपए प्रति हेक्टेयर के बीमा के लिए 384 रुपए का प्रीमियम चुकाना होगा। रबी मौसम में सरसों फसल का 20 हजार रुपए प्रति हेक्टेयर का बीमा 300 रुपए में होगा। अलसी फसल के लिए किसानों द्वारा 255 रुपए की प्रीमियम राशि चुकाने पर 17 हजार रुपए प्रति हेक्टेयर का बीमा होगा। किसानों को खरीफ के लिए 15 जुलाई तक तथा रबी के लिए 15 दिसंबर तक आवेदन करना होगा। किसानों को फसल का बीमा कराने के लिए सरकार की ओर से प्रेरित किया जा रहा है ताकि मौसम का रूख बदलने और किसानों को आर्थिक क्षति होने पर उन्हें मुआवजा प्रदान किया जा सके। इस कार्य के लिए प्रशासन ने कृषि विभाग के अधिकारियों को भी जागरूकता अभियान में लगाया है। बिना आधार प्रमाणीकरण के बीमा मान्य नहीं किसानों को अपना आधार नंबर और मोबाइल नंबर भी बैंक में अपडेट कराना होगा। फसल बीमा पोर्टल पर बिना आधार प्रमाणीकरण के बीमा मान्य नहीं होगा। बीमा का लाभ लेने के लिए किसानों को प्रस्ताव पत्र के नवीनतम बैंक पासबुक कॉपी एवं आधार कार्ड की छायाप्रति दस्तावेज के रूप में अनिवार्य रूप से जमा करना होगा। किसान अपने नजदीकी राष्ट्रीयकृत बैंक शाखा, क्षेत्रिय ग्रामीण बैंक, जिला सहकारी बैंक, प्राथमिक सहकारी. समिति, लोक सेवा केन्द्र या भारत सरकार की बीमा पोर्टल के माध्यम से फसल बीमा करा सकते हैं।

पत्रिका 2 Jul 2022 1:17 pm

5 साल कांग्रेस 20 साल रहा भाजपा का राज, फिर भी नहीं मिली महिलाओं को ये छोटी सी सुविधा

रतलाम. शहर में चल रहे निकाय चुनाव में 13 जुलाई को मतदाता नगर निगम के छठे महापौर और पार्षदों लिए के लिए मतदान करेंगे। पहली परिषद से लेकर पांचवी परिषद तक हर महापौर ने बाजार में महिलाओं के लिए सुविधाघर बनाने के लिए दावे, वादे और प्रयास किए, लेकिन इसमे सफलता अब तक किसी को नहीं मिल पाई। नगर निगम की जब पहली परिषद के रुप में महापौर के रुप में जयंतिलाल जैन ने 5 जनवरी 1995 को कार्यभार संभाला था, तब शहर के सबसे बड़े सार्वजनिक सुविधाघर बन चुके चांदनीचौक के गोल चक्कर के लिए योजना बनाई। आजादी के लिए आंदोलन इसी में हुआ था, इसलिए योजना में रुकावट आई। तब से अब तक योजना गति नहीं पकड़ पाई। महिलाओं ने जब अपनी समस्या बताई तो दावा किया गया कि उनकी समस्या का हल होग, लेकिन इसमे सफलता किसी महापौर को नहीं मिल पाई। घोषणा सभी ने की इसके लिए जैन के बाद 5 जनवरी 2000 को पारस सकलेचा निर्दलीय रुप से जीतकर आए। इनके बाद 5 जनवरी 2005 को आशा मोर्य, 9 जनवरी 2010 को शैलेंद्र डागा, 1 जनवरी 2015 को डॉ. सुनीता यार्दे ने कार्यभार संभाला। बाजार क्षेत्र में महिलाओं के लिए सुविधाघर बनाने पर वैचारिक रुप से सहमति तो हर महापौर ने दी, लेकिन इसके लिए अब तक कामकाज शुरू नहीं हो पाया। इन्होंने की कोशिश, सफलता नहीं मिली तत्कालीन महापौर डॉ. यार्दे ने इसके लिए प्रयास किए। शहर के डालूमोदी बाजार स्थित डॉ. देवीसिंह की गली में स्थल चयन हुआ और तत्कालीन एमआईसी सदस्य अरूण राव निर्माण के लिए भी पहुंचे, लेकिन स्थानीय नागरिकों के विरोध के बाद नगर निगम ने इस योजना को ठंडे बस्ते में डाल दिया। इसलिए जरूरी है असल में शहर के चांदनीचौक, चौमुखीपुल, घांसबाजार, नोलाईपुरा, बजाजखाना, धानमंडी, दो बत्ती, राममंदिर, अलकापुरी आदि वो क्षेत्र हैं, जहां पर जिले के ग्रामीण अंचल में बड़ी संख्या में खरीदी के लिए लोग आते है। पुरुषों को तो सुविधाघर के अभाव में अधिक परेशानी नहीं होती है, लेकिन महिलाओं को इसके लिए परेशान होना पड़ता है। शहर में नगर निगम ने स्वच्छता अभियान 2023 की शुरुआत भी कर दी है, लेकिन बाजार में महिलाओं के लिए सुविधाघर के बारे में अब तक ध्यान नहीं दिया गया है। कब कौन रहा महापौर महापौर - शपथ ली - कार्यकाल का अंतिम दिन -जयंतिलाल जैन - 5 जनवरी 1995 - 4 जनवरी 2000(कांग्रेस) -पारस सकलेचा - 5 जनवरी 2000 - 4 जनवरी 2005(भाजपा) आशा मौर्य - 5 जनवरी 2005 - 4 जनवरी 2010 (भाजपा) शैलेंद्र डागा - 9 जनवरी 2010 - 31 दिसंबर 2014 (भाजपा) डॉ. सुनीता यार्दे - 1 जनवरी 2015 - 31 दिसंबर 2019 (भाजपा) प्रशासक रहे पद पर रूचिका चौहान - 2 जनवरी 2020 - 23 अगस्त 2020 गोपालचंद्र डाड - 24 अगस्त 2020 - 9 मई 2021 कुमार पुरुषोत्तम - 10 मई 2021 - 16 मई 2022 नरेंद्र कुमार सूर्यवंशी - 17 मई 2022 से निरंतर

पत्रिका 2 Jul 2022 1:16 pm

नैनीताल के युवक की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत, स्वजनों ने हत्या करार देकर उठाई जांच की मांग

मृत युवक के परिवारीजनों का कहना है कि तीन घंटे तक दोस्तों ने घटना की जानकारी क्यों नहीं दी यदि बाइक हादसे की शिकार हुई तो बाइक क्षतिग्रस्त क्यों नहीं हुई। बाइक में तो एक खरोंच तक नहीं लगी है।

जागरण 2 Jul 2022 1:16 pm

फरीदकाेट के युवक ने नाबालिग काे अगवा कर बनाया हवस का शिकार, लुधियाना बस स्टैंड पर छोड़ कर फरार

शहर में महिलाओं और नाबालिग लड़कियाें से दुष्कर्म की वारदातें लगातार बढ़ रही हैं। फरीदकोट निवासी युवक नाबालिग काे अगवा कर विभिन्न जगहों पर ले जाकर दुष्कर्म करता रहा। अब पुलिस आराेपित की तलाश में लगातार छापेमारी कर रही है।

जागरण 2 Jul 2022 1:15 pm

राजस्थान में 5 व 6 जुलाई को बारिश का नया दौर, भारी बारिश का अलर्ट

Monsoon Update : राजस्थान में मानसून की दस्तक भले ही आठ दिन की देरी से हुई, लेकिन समूचे राजस्थान में यह औसत से छह दिन पहले छा चुका है और इसी का असर है कि सभी संभागों में भारी बारिश हुई है। बारिश का दौर अगले 48 घंटे तक जारी रहेगा। बड़ी बात तो यह भी है कि 5 व 6 जुलाई को बारिश का नया दौर शुरू होगा और उस दौरान भी भारी बारिश की संभावना जताई जा रही है। पश्चिमी राजस्थान में भारी बारिश का अलर्ट मौसम केन्द्र जयपुर के निदेशक आर.एस. शर्मा की माने तो समूचे प्रदेश में मानसन पहुंच चुका है और शनिवार को पूरे प्रदेश में मानसून ने औसत से करीब 6 दिन पहले दस्तक दे दी है। वहीं, एक और नया परिसंचरण तंत्र बंगाल की खाड़ी व आसपास के पश्चिमी बंगाल क्षेत्र के ऊपर बना हुआ है। इस तंत्र के प्रभाव से 5 व 6 जुलाई से राज्य में एक और नया बारिश का दौर शुरू होगा। इस दौरान पूर्वी राजस्थान के अधिकतर स्थानों पर बारिश होगी, जबकि पश्चिमी राजस्थान के जोधपुर, बीकानेर संभाग में भी कुछ स्थानों पर बारिश की गतिविधियों में पुनः बढोतरी होगी। कहीं-कहीं भारी बारिश भी होने की संभावना भी है। राजस्थान में पिछले 24 घंटों के दौरान अजमेर, उदयपुर, सिरोही, भीलवाड़ा, चित्तौड़गढ़, कोटा, राजसमंद जयपुर, नागौर, बाड़मेर व पाली जिलों में कहीं-कहीं भारी बारिश व एक-दो स्थानों पर अति भारी बारिश दर्ज हुई है। बना हुआ है परिसंचरण तंत्र पूर्वी राजस्थान के ऊपर शनिवार को भी परिसंचरण तंत्र वायुमंडल के निचले व मध्य स्तरों में बना हुआ है और मानसून ट्रफ लाइन भी सक्रिय है। इस सिस्टम के असर से अगले 24 से 48 घंटों तक राज्य के अधिकतर स्थानों पर बारिश का दौर जारी रहेगा। उधर, शनिवार को अजमेर संभाग व आसपास के जिलों में कहीं-कहीं भारी बारिश दर्ज होने की संभावना है।

पत्रिका 2 Jul 2022 1:14 pm

कानपुर में ई-रिक्शा चालकों को अधिकारी का नहीं है डर, बिना पंजीकरण 62 हजार से ज्यादा सड़कों पर भर रहे फर्राटा

कानपुर में 62 हजार ई-रिक्शा चालक शहर में फर्राटा भर रहे हैं लेकिन इनके संचालन के लिए कोई नीति नहीं बन पाई है। न ई-रिक्शा स्टैंड निर्धारित किए गए और न ही महानगर में इनके लिए कोई रूट तय है।

जागरण 2 Jul 2022 1:13 pm

इंसाफ के लिए मां की गुहार, 22 दिन पहले बेटे की कर दी गई थी हत्‍या

कुरुक्षेत्र में 22 दिन पहले एक नाबालिग की हत्‍या कर दी गई थी। पुलिस की कार्रवाई से असंतुष्ट मां ने लगाई एसपी से गुहार। 22 दिन बाद आठ युवकों पर हत्या का केस दर्ज। स्वजनों को बताया था कि होटल की छत से गिरने से हुई हर्ष की मौत।

जागरण 2 Jul 2022 1:12 pm

उदयपुर हत्याकांडः कांग्रेस ने हत्यारे रियाज को बताया बीजेपी कार्यकर्ता, गुलाब चंद कटारिया के साथ फोटो वायरल

जयपुर। उदयपुर में टेलर कन्हैया लाल की हत्याकांड मामले में जहां बीजेपी लगातार गहलोत सरकार पर तुष्टिकरण के आरोप लगा रही है तो वहीं अब कांग्रेस पार्टी ने भी बीजेपी पर पलटवार करते हुए कन्हैयालाल के एक हत्यारे को बीजेपी का वर्कर बताया है। नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया और बीजेपी अल्पसंख्यक मोर्चा से जुड़े कार्यकर्ताओं के साथ हत्यारे की फोटो वायरल होने के बाद इस मामले में सियासत अब तेज होने लगी है। प्रदेश भाजपा ने कांग्रेस के आरोपों को नकारते हुए हत्यारे रियाज का किसी भी तरह से बीजेपी से संबंध होने से इनकार किया है। इससे पहले आज दिल्ली में कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता पवन खेड़ा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बीजेपी पर गंभीर आरोप लगाए। पवन खेड़ा ने कहा कि उदयपुर में कन्हैया लाल के हत्यारे रियाज अत्तारी के संबंध बीजेपी नेताओं के साथ सामने आए हैं। रियाज बीजेपी के वरिष्ठ नेता गुलाब सिंह कटारिया के अनेक कार्यक्रमों में शामिल होता था।इरशाद चयनवाला और ताहिर ने सोशल मीडिया पर रियाज अटारी को बीजेपी कार्यकर्ता बताया है। इस पर बीजेपी को बताना चाहिए कि आखिर माजरा क्या है। नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया के साथ फोटो वायरल इधर कन्हैया लाल के हत्यारे रियाज अत्तारी की नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया के साथ फोटो वायरल हो रही है जिसके चलते कांग्रेस अब इस मामले में बीजेपी पर हमलावर है। इस मामले में बीजेपी अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष सादिक खान ने कांग्रेस के आरोपों से इनकार करते हुए कहा कि रियाज कभी भी बीजेपी का सदस्य नहीं रहा है, वो पार्टी का प्राथमिक सदस्य भी नहीं रहा है। कांग्रेस इस मुद्दे को डायवर्ट करने के लिए इस तरह के आरोप लगा रही है, जिनमें जरा सी भी सच्चाई नहीं है। गौरतलब है कि उदयपुर में दो युवकों ने टेलर कन्हैया लाल की निर्मम हत्या कर दी थी। हत्यारों ने हत्या के बाद वीडियो वायरल कर दिया था, जिसके बाद देश भर में हड़कंप मच गया था। दिल दहलाने वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने दोनों हत्यारों को गिरफ्तार कर लिया था। वहीं सरकार ने उदयपुर के 8 थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू लगा दिया था और पूरे प्रदेश में नेटबंदी कर दी थी।

पत्रिका 2 Jul 2022 1:11 pm

Jhansi: 30 हजार में सुपारी देकर करा दिया भाई का मर्डर, चार आरोपी गिरफ्तार, सामने आई ये वजह

Murder In Jhansi: उल्दन थाना पुलिस ने 35 वर्षीय व्यक्ति की हत्या के मामले में चार लोगों को गिरफ्तार किया है। घटना का मुख्य साजिशकर्ता मृतक का भाई है, जिसने तीस हजार रुपये का लालच देकर तीन लोगों से हत्या कार्रवाई थी।

नव भारत टाइम्स 2 Jul 2022 1:10 pm