I don’t think Devendra Fadnavis has accepted the number 2 position of Deputy CM happily. It can be seen on his face. But he had lived in Nagpur, it is his ethos as an (RSS) swayamsevak, so he accepted the position: NCP chief Sharad Pawar

I don’t think Devendra Fadnavis has accepted the number 2 position of Deputy CM happily. It can be seen on his face. But he had lived in Nagpur, it is his ethos as an (RSS) swayamsevak, so he accepted the position: NCP chief Sharad Pawar https://twitter.com/ANI/status/1542546538479890433 The post I don’t think Devendra Fadnavis has accepted the number 2 position of Deputy CM happily. It can be seen on his face. But he had lived in Nagpur, it is his ethos as an (RSS) swayamsevak, so he accepted the position: NCP chief Sharad Pawar appeared first on 20 Years-IdeaTV News | For Breaking News, Hindi News, live News at ideatvnews.com .

आइडिया टीवी न्यूज़ 1 Jul 2022 8:28 am

Maharashtra Weather Update: जून में मानसून की बेरुखी से किसान परेशान, जानें कैसा है विदर्भ का हाल

Maharashtra Rainfall Deficit: महाराष्ट्र के अधिकांश हिस्सों में मानसून की बेरुखी बढ़ती जा रही है। मानसून आने के बावजूद जून महीने में राज्य के कई जिलों में अच्छी बारिश नहीं हो रही है। इस वजह से किसान परेशान हैं, खासकर राज्य के विदर्भ (Vidarbha) क्षेत्र में तो इसका सीधा असर बुवाई पर पड़ा है। विदर्भ में दक्षिण-पश्चिम मानसून की प्रगति जून के महीने में अपेक्षा से धीमी रही है। इस वजह से विदर्भ के सभी 11 जिलों में कम बारिश हुई है। नागपुर (Nagpur) में तो अब तक 111.6 मिमी बारिश हुई है, जो कि पिछले साल 30 जून 2021 की तूलना में काफी कम (166.3 मिमी) है। यह भी पढ़ें- उदयपुर हत्याकांड के बाद महाराष्ट्र के उमेश कोल्हे की हत्या पर उठे सवाल, इसी तरह हत्यारों ने काटा था गला सामान्य से कम बारिश ने आम जनता के साथ ही किसानों के बीच भी चिंता पैदा कर दी है। पूरे विदर्भ में बुवाई के काम में देरी हुई है। मौसम विभाग ने आने वाले दिनों में शुष्क मौसम की भविष्यवाणी की है। जबकि 16 जुलाई के बाद मानसून के रफ्तार पकड़ने की बात कही है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के अनुसार वर्षा जो सामान्य से माइनस 20 से माइनस 59 प्रतिशत विचलन दर्शाती है, उसे कम बारिश होना कहा जाता है। इसी तरह, सामान्य वर्षा एलपीए (Long Period Average) के माइनस 19 प्रतिशत और प्लस 19 प्रतिशत के बीच होती है। जून महीने में विदर्भ में केवल पांच जिलों में दोहरे अंकों में बारिश दर्ज हुई। अब तक यवतमाल में केवल 82.3 मिमी बारिश हुई, जबकि एलपीए के औसत के अनुसार 165.3 मिमी होनी चाहिए थी। ऐसे ही वर्धा में 162.2 मिमी के मुकाबले 86.6 मिमी, अमरावती में 142.7 मिमी के मुकाबले 89.2 मिमी, चंद्रपुर में 178.8 मिमी के मुकाबले 97.4 मिमी, गढ़चिरौली में 210.3 मिमी के मुकाबले 98.7 मिमी बारिश हुई। वहीँ, अकोला में 138.0 मिमी के मुकाबले 105.1 मिमी बारिश हुई, भंडारा में 180.3 मिमी के मुकाबले 104.8 मिमी बारिश हुई, बुलढाणा में 130.8 मिमी के मुकाबले 102.8 मिमी, गोंदिया में 185.9 मिमी के मुकाबले 128.4 मिमी, वाशिम में अब तक 167.3 मिमी के मुकाबले 106.1 मिमी बारिश दर्ज हुई। एक दिन पहले ही चंद्रपुर में अधिकतम तापमान 38.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जबकि वर्धा में 36.5 डिग्री सेल्सियस रहा। ब्रम्हापुरी और यवतमाल में भी अधिकतम तापमान 35 डिग्री सेल्सियस से ऊपर दर्ज किया गया। नागपुर, अकोला, अमरावती, बुलढाणा, गढ़चिरौली, गोंदिया और वाशिम जैसे अन्य स्थानों में बुधवार को अधिकतम तापमान 35 डिग्री से नीचे दर्ज किया गया। जबकि गढ़चिरौली एकमात्र ऐसा स्थान रहा जहां 29 मिमी बारिश हुई। पूरे विदर्भ में न्यूनतम तापमान 24 डिग्री सेल्सियस से ऊपर रिकॉर्ड किया गया।

पत्रिका 30 Jun 2022 5:59 pm

IIM नागपुर में इस पद पर निकाली गई भर्ती

IIM Nagpur ने जूनियर प्रोगाम कार्यकारी के रिक्त पदो पर अनुभवी उम्मीदवारों के लिए आवेदन का एलान कर दिया गया है। जिन युवाओं के पास स्नातक डिग्री है और अनुभव है, उनके पास सरकारी नौकरी पाने का सुनहरा मौका है। अनुभवी उम्मीदवारों को चयन प्रक्रिया में वरीयता दी जाने वाली है। महत्वपूर्ण तिथि व सूचनाएं – पद का नाम- जूनियर प्रोगाम कार्यकारी कुल पद – 1 अंतिम तिथि- 2-7-2022 स्थान- नागपुर आयु सीमा- उम्मीदवारों की न्यूनतम आयु 25 वर्ष और अधिकतम आयु 32 वर्ष मान्य होगी । वेतन- उम्मीदवारों विभाग के नियमानुसार वेतन दिया जाएगा। योग्यता- उम्मीदवारों को किसी भी मान्यता प्राप्त संस्थान से स्नातक डिग्री प्राप्त हो और अनुभव हो। चयन प्रक्रिया- इंटरव्यू के आधार पर होगा आवेदनकर्ताओं का चयन। ऐसे करें आवेदन- योग्य और इच्छुक उम्मीदवार आवेदन पत्र के निर्धारित प्रारूप पर फॉर्म भर सकते है, साथ ही शिक्षा और अन्य योग्यता, डेट ऑफ़ बर्थ और अन्य आवश्यक जानकारी और दस्तावेजों के साथ स्वयं प्रतिबंधात्मक प्रतियां और नियत तारीख से पहले भेजना अनिवार्य है। अधिकारिक विज्ञप्ति को डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें बैंक ऑफ बड़ौदा में निकली नौकरियां, फटाफट कर ले आवेदन NIRT में परियोजना तकनीकी अधिकारी समेत कई पदों पर निकली बंपर भर्तियां जुलाई माह के इस दिन से पहले ISI कोलकाता के इस पद पर करें आवेदन

न्यूज़ ट्रॅक लाइव 25 Jun 2022 2:04 am

माँ डाँटेगी सोचकर बॉयफ्रेंड के साथ भाग गई लड़की और फिर हुआ चौकाने वाला कारनामा

नागपुर: महाराष्ट्र के नागपुर से एक चौकाने वाला मामला सामने आया है। जी दरअसल यहाँ एक 15 साल की बच्ची कुछ दिन पहले घर से लापता हो गई थी (Nagpur Minor Girl Missing) और उसके बाद पुलिस ने उसे पांच दिनों बाद शुक्रवार शाम को जरीपटका से बरामद किया। इस मामले में पूछताछ में पता चला कि बच्ची ने अपनी मां की डांट से बचने के लिए अपने प्रेमी से शादी करने का फैसला किया था। जी हाँ और 13 जून को हुडकेश्वर (Hudkeshwar police) थाने में उसकी गुमशुदगी दर्ज की गई थी, और उसके बाद अपहरण का मामला दर्ज किया गया था। जी दरअसल उसके पहले 12 जून को लड़की अपने ब्वॉयफ्रेंड से मिलने गई थी, हालाँकि देर से घर आने पर अपनी मां और भाई की डांट के डर से वह घर नहीं आई और अपने 20 वर्षीय प्रेमी के साथ भागने का फैसला किया। इस मामले में पुलिस (Nagpur Police) ने आरोपी लड़के को गिरफ्तार कर लिया है। बताया जा रहा है युवक लड़की को अपने रिश्तेदार के घर ले गया था और उसने अपने दोस्तों से मदद मांगी। हालाँकि कोशिश बेकार साबित हुई। वहीं इसके बाद मजदूरी का काम करने वाले युवक ने लड़की को आश्रय देने के लिए एक कमरा किराए पर लिया। कुछ ही दिनों के बाद, दोनों ने जरीपटका के एक मंदिर में शादी के बंधन में बंधने का फैसला किया। इन सभी के बीच हुडकेश्वर थाने की वरिष्ठ निरीक्षक कविता इसारकर ने विभिन्न मोहल्लों के सीसीटीवी फुटेज खंगालना शुरू कर दिया और उसने लड़की की मां के मोबाइल फोन के कॉल रिकॉर्ड की भी जांच की। इस मामले में सीबीआई में प्रतिनियुक्ति पर काम करने वाले इसारकर ने कहा कि लड़की की मां अकेली है जो विवाह स्थलों पर काम करके दो बेटियों की परवरिश कर रही थीं। हमने उसकी मां के फोन से तीन नंबरों का पता लगाया, जिससे कुछ सुराग लग रहा था। सीसीटीवी फुटेज भी उपलब्ध थे लेकिन मामले को सुलझाने के लिए पर्याप्त नहीं थे। वहीं इस मामले में जोनल डीसीपी नूरुल हसन और अतिरिक्त सीपी नवीनचंद्र रेड्डी की देखरेख में काम करने वाले इसारकर ने कहा कि तीन प्रमुख लोगों से पूछताछ की गई, जिनके साथ लड़के ने पहले संवाद किया था, जिसमें भंडारा के लखंदूर का एक व्यक्ति भी शामिल था। “हमने तीन संदिग्धों की तस्वीरें भी हासिल की थीं। हमने एक दोपहिया वाहन के रजिस्ट्रेशन नंबर की मदद से एक संदिग्ध का पता लगाया, जो एक तस्वीर में कैद था। आगे इसारकर ने बताया, 'लड़के ने अपना सिम कार्ड नष्ट कर दिया था, लेकिन भागते समय अपनी मां से बात करने के लिए अपने एक रिश्तेदार के फोन का इस्तेमाल किया था। हमने तुरंत बच्चे की मां का पता लगाया और उससे उसके बेटे का पता लगाने में हमारी मदद करने के लिए कहा। अपनी मां और एक अन्य रिश्तेदार की मदद से आखिरकार लड़का और लड़की मिल ही गई। मामले में हुडकेश्वर पुलिस ने नाबालिग के साथ भगा ले जाने और उससे शादी करने के आरोप में नाबालिग के खिलाफ बलात्कार और अपहरण का मामला दर्ज किया है।' बार-बार पत्नी को इस काम के लिए मना करता था पति, एक रात दी खौफनाक सजा 24 साल की महिला को देखकर बहका 15 साल का लड़का, शौचालय में।।। पत्नी को मारकर पति ने रातभर किया ऐसा काम कि पढ़कर उड़ जाएंगे आपके होश

न्यूज़ ट्रॅक लाइव 20 Jun 2022 9:39 am

Nagpur News: मध्य रेलवे में नौकरी दिलाने का झांसा देकर बंटी-बबली ने ठगे 68 लाख रुपये, गिरफ्तारी के डर से हुए फरार

केंद्र और राज्य सरकार में नौकरी करने की हर किसी की चाहत होती है, लेकिन इसी के चक्कर में कई लोग धोखाधड़ी के शिकार हो जाते है। दरअसल ठग ऐसे लोगों को सरकारी नौकरी दिलाने की आड़ में मन चाही रकम ऐंठकर रफूचक्कर हो जाते है। हालांकि इसको लेकर पुलिस भी जागरूकता फैला रही है। फिर भी लोग धोखेबाजों के झांसे में आकर अपना नुकसान कर बैठते है। ऐसा ही एक मामला महाराष्ट्र के नागपुर से सामने आया है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, मध्य रेलवे में चतुर्थ श्रेणी सुपरवाइजर के पद पर नौकरी दिलाने का वादा करके एक ठग ने 11 लोगों से 68 लाख 30 हजार रुपये वसूल लिए। वठोडा पुलिस स्टेशन में पीड़ितों ने इसकी शिकायत की है। जिसके बाद आरोपी के खिलाफ पुलिस ने आईपीसी की धारा 420, 406, 465, 467, 468 और 471 के तहत मामला दर्ज किया गया है। उधर, एफआईआर दर्ज होते ही गिरफ्तारी के डर से आरोपी फरार हो गया। फिलहाल पुलिस की कई टीमें आरोपी को पकड़ने के लिए दबिश दे रही है। प्राप्त जानकारी के अनुसार नागपुर जिले के कन्हान निवासी शेखर दशरथ बोरकर नौकरी की तलाश में था। इसी बीच वह नागपुर के वठोडा इलाके में रहने वाले आरोपी आशीष प्रदीप गोस्वामी और कविता आशीष गोस्वामी के संपर्क में आया। 27 साल के बोरकर की तरह ही उसके दोस्त भी सरकारी नौकरी के चाहत में गोस्वामी दंपति द्वारा बिछाये गए जाल में फंस गए। आरोपियों ने सभी को दक्षिण मध्य रेलवे में चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारी के पद पर अपॉइंटमेंट दिलाने का दावा किया था। इसके बाद उसने बोरकर की मेल आईडी पर फर्जी अपॉइंटमेंट लेटर भेजा और फोन-पे और गूगल-पे के जरिए समय-समय पर उससे 10 लाख रुपये मांगे। इसके अलावा ठग दंपति ने बोरकर के दोस्तों से भी 58 लाख 30 हजार रुपये लिए। जब सभी को ठगे जाने का एहसास हुआ तो उन्होंने इस संबंध में रविवार को वठोडा पुलिस स्टेशन में केस दर्ज करवाया।

पत्रिका 19 Jun 2022 7:50 pm

Nagpur University: 8 जून से होगी ऑफलाइन मोड में परीक्षा, जल्द जारी होगा टाइम टेबल

नागपुर विश्वविद्यालय (NU) 8 जून, 2022 से अपनी ग्रीष्मकालीन परीक्षा आयोजित करने के लिए पूरी तरह तैयार है। विश्वविद्यालय जल्द ही अपनी आधिकारिक वेबसाइट nagpuruniversity.ac.in पर विस्तृत टाइम टेबल जारी क

लाइव हिन्दुस्तान 19 May 2022 3:03 pm