Maharashtra News: सांगली में परिवार के 9 सदस्यों की मौत आत्महत्या नहीं बल्कि हत्या थी, पुलिस ने किया चौका देने वाला खुलासा

पुणे: महाराष्ट्र (Maharashtra) के सांगली (Sangli) जिले में दो भाइयों के परिवार के नौ सदस्यों की मौत के मामले में पुलिस ने बड़ा खुलासा किया है. अब तक की जांच से पता चला है कि मृतकों को कथित तौर पर एक तांत्रिक और उसके ड्राइवर ने जहर देकर मार डाला। पुलिस ने सोमवार को कहा कि दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस महानिरीक्षक (कोल्हापुर रेंज) मनोज कुमार लोहिया ने कहा, हमने एक तांत्रिक और उसके ड्राइवर को हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया है। जांच से पता चला है कि इन दो लोगों ने कथित तौर पर परिवार के नौ सदस्यों को जहर देकर मार डाला था। एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 302 (हत्या की सजा) के तहत केस दर्ज कर लिया गया है। यह भी पढ़ें- Thane News: '56 लाख खर्च करो, 50 करोड़ रुपये के नोट बरसेंगे' डोंबिवली में ढोंगी बाबा के गैंग ने बिल्डर को लगाई बड़ी चपत सांगली के पुलिस अधीक्षक दीक्षित गेदाम ने संवाददाताओं से कहा, हमने दो लोगों को गिरफ्तार किया है। वे रिश्तेदार नहीं हैं। हम उनके बैकग्राउंड की जांच कर रहे हैं। वे छिपे हुए खजाने का मार्गदर्शन करने के लिए परिवार से मिलने आया करते थे। 19 जून को भी वह घर गए थे। उन्होंने भोजन या तरल पदार्थ के माध्यम से जहर दिया। उन्हें मंगलवार को अदालत में पेश किया जाएगा। पुलिस के अनुसार, सांगली जिले के म्हैसाल गांव में 20 जून को दो भाइयों सहित परिवार के कुल नौ लोग दो मकानों में मृत पाए गए थे। दोनों भाइयों में एक शिक्षक था जबकि दूसरा भाई पशु चिकित्सक था। राजधानी मुंबई से करीब 350 किलोमीटर दूर स्थित गांव में दोनों भाइयों के मकानों में ‘सुसाइड नोट’ भी मिलने की बात पुलिस ने कही थी। पुलिस के अनुसार प्रारंभिक जांच से पता चला कि दोनों भाइयों ने कई लोगों से काफी पैसा उधार लिया था। पुलिस को आशंका थी कि उन्होंने किसी कारोबार के लिए धन उधार लिया था। पुलिस ने 25 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया था जिनसे परिवार ने उधार लिया था। पुलिस ने इस मामले में आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोप में 19 लोगों को गिरफ्तार किया था।

पत्रिका 27 Jun 2022 11:30 pm