SENSEX
NIFTY
GOLD
USD/INR

Weather

15    C

धर्म / वेब दुनिया

Gita Jayanti :श्रीमद्भागवत गीता में आखिर क्या है, जानिए

महाभारत के 18 अध्यायों में से 1 भीष्म पर्व का हिस्सा है भगवत गीता। गीता में भी कुल 18 अध्याय हैं। 18 अध्यायों की कुल श्लोक संख्या 700 है। वेदों का सार अर्थात संक्षिप्त रूप है उपनिषद्ध और उपनिषदों का सार है गीता। गीता सभी हिन्दू ग्रंथों का निचोड़ और ...

5 Dec 2019 1:41 pm
क्या इस मंदिर के दरवाजे खुद-ब-खुद खुलते और बंद होते हैं? जानिए 5 रहस्य

भारत में कई चमत्कारिक और ररहस्यमी मंदिर है। उन्हीं में से एक ऐसा मंदिर है जिसके दरवाजे रात अपने आप ही बंद हो जाते हैं और सुबह होते ही खुल जाते हैं। इस मंदिर के संबंध में इसके अलावा और भी चमत्कार जुड़े हुए हैं। हालांकि यह कितना सच है यह कहना मुश्‍किल ...

5 Dec 2019 1:41 pm
गीता जयंती : श्रीकृष्ण को गीता का ज्ञान किसने दिया था?

हिन्दू धर्म के एकमात्र धर्मग्रंथ है वेद। वेदों के चार भाग हैं- ऋग, यजु, साम और अथर्व। वेदों के सार को उपनिषद कहते हैं और उपनिषदों का सार या निचोड़ गीता में हैं। उपनिषदों की संख्या 1000 से अधिक है उसमें भी 108 प्रमुख हैं। किसी के पास इतना समय नहीं है ...

4 Dec 2019 7:43 pm
ऋग्वेद में क्या है, जानिए विस्तार से

ऋग्वेद से ही अन्य तीन वेदों की रचना हुई है। ऋग, यजु, साम और अथर्व ये चार वेद हैं। ऋग्वेद पद्यात्मक है, यजुर्वेद गद्यमय है और सामवेद गीतात्मक है। ऋग्वेद दुनिया का प्रथम ग्रंथ और धर्मग्रंथ है। यूनेस्को ने ऋग्वेद की 1800 से 1500 ई.पू. की लगभग 30 ...

3 Dec 2019 7:41 pm
महाभारत : क्या आज भी जिंदा है अर्जुन के वंशज?

महाभारत में कौरव और पांडवों के बीच लड़ाई हुई थी, लेकिन कौरव और पांडव दोनों ही कुरुवंश से नहीं थे। वैसे देखा जाए तो कुरुवंश का अंतिम व्यक्ति भीष्म पितामह ही थे। लेकिन पुराणों के अनुसार उस काल का अंतिम शासक निचक्षु था। पुराणों के अनुसार हस्तिनापुर ...

3 Dec 2019 4:41 pm
गुरुनानक जयंती 2019 : गुरु नानक जी की 5 तीर्थ यात्रा

सिख धर्म के प्रथम गुरु गुरुनानक देवी जी अपने चार साथी मरदाना, लहना, बाला और रामदास के साथ तीर्थयात्रा पर निकल पड़े। ये चारों ओर घूमकर उपदेश देने लगे। कहते हैं कि 1500 से 1524 तक इन्होंने पांच यात्रा चक्र पूरे किए, जिनमें भारत, अफगानिस्तान, फारस और ...

9 Nov 2019 7:58 pm
रावण ने कैलाश पर्वत को उठा लिया फिर धनुष क्यों नहीं उठा पाया और राम ने कैसे धनुष तोड़ दिया?

अक्सर लोगों के मन में यह सवाल आता है कि जब रावण कैलाश पर्वत उठा सकता है तो शिव का धनुष कैसे नहीं उठा पाया और भगवान राम ने कैसे उस धनुष को उठाकर तोड़ दिया? आओ इस सवाल का जवाब जानते हैं।

9 Nov 2019 4:58 pm
गुरुनानक जयंती 2019 : सिख धर्म के 5 प्रमुख तख्त, जानिए

सिख धर्म के 10 गुरु हुए हैं प्रथम गुरु गुरुनानक देवजी और अंतिम गुरु गुरु गोविंद सिंह जी थे। सिख धर्म ने देश और धर्म की रक्षार्थ अपने प्राणों की आहुति देकर इस देख की आक्रांताओं से रक्षा की है। इसी क्रम ने उन्होंने पांच तख्तों को स्थापित किया था। आओ ...

8 Nov 2019 7:59 pm
अयोध्या में जैन मंदिर

अयोध्या हिन्दू, जैन और बौद्ध धर्म का संयुक्त तीर्थ स्थल है। अयोध्या जितनी हिन्दुओं के लिए पवित्र नगरी है उतनी ही जैन धर्म के अनुयायियों के लिए भी पवित्र नगरी है।

7 Nov 2019 4:59 pm
देवउठनी एकादशी पर करें पितृदोष का निवारण

कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की एकादशी को देवउठनी एकादशी कहा जाता है। इसे हरि प्रबोधिनी एकादशी और देवोत्थान एकादशी भी कहा जाता है। इस एकादशी का विधि विधान से व्रत रखने पर पितृदोष का निवारण हो जाता है।

7 Nov 2019 4:59 pm
गुरुनानक जयंती 2019 : गुरु नानक देवजी के 8 प्रमुख पवित्र स्थल

गुरुनानक देवजी का जन्म पंजाब के राएभोए के तलवंडी नामक स्थान पर हुआ। यह स्थान अब पाकिस्तान में है। उन्होंने उनके जीवन के ज्यादातर समय सुल्तानपुर लोधी और करतारपुर में बिताया। यहां कई गुरुद्वारे हैं। इसके अलावा उन्होंने भारत और पाकिस्तान में उन्होंने ...

7 Nov 2019 10:51 am
Prakash Parv Guru Nanak Dev Ji : गुरु नानक देव जी का प्रकाश पर्व

12 नवंबर को श्री गुरु नानक देव का प्रकाश पर्व धूमधाम से मनाया जाएगा। सिख संप्रदाय में इस पर्व को मनाने की तैयारियां जोर-शोर से चल रही है।

6 Nov 2019 3:24 pm
देवउठनी एकादशी 2019 : जानिए 5 खास बातें, जरूरी है पालन करना

भगवान विष्णु आषाढ़ शुक्ल एकादशी को चार माह के लिए सो जाते हैं और कार्तिक शुक्ल एकादशी को जागते हैं। इस एकादशी के दिन से चतुर्मास का अंत भी हो जाता है। इसीलिए कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की एकादशी को देवउठनी एकादशी कहा जाता है। इसे हरि प्रबोधिनी एकादशी ...

6 Nov 2019 12:04 pm
आप भी जानिए गुरु नानक देव जी के 10 सिद्धांत

सिख धर्म के संस्थापक, महान दार्शनिक गुरु, गुरु नानक देव जी से आप सभी परिचित है। आइए जानते हैं उनके 10 खास सिद्धांत...

6 Nov 2019 11:46 am
भगवान बुद्ध और महावीर स्वामी की नगरी वैशाली

बिहार में एक जिला है जिसका नाम वैशाली है। विश्‍व को सर्वप्रथम गणतंत्र का पाठ पढ़ने वाला स्‍थान वैशाली ही है। आज वैश्विक स्‍तर पर जिस लोकतंत्र को अपनाया जा रहा है वह यहां के लिच्छवी शासकों की ही देन है। लगभग छठी शताब्दी ईसा पूर्व नेपाल की तराई से ...

2 Nov 2019 6:13 pm
गाय के संबंध में क्या कहते हैं प्रसिद्ध और महान लोग, जानिए

भारत में गाय को पूज्जनीय माना जाता है। गाय के संबंध में दुनिया के प्रसिद्ध और महान लोग क्या कहते हैं आओ एक नजर इस पर डालते हैं।

2 Nov 2019 2:33 pm
क्या अयोध्या दुनिया की पहली स्‍मार्ट सिटी थी? क्या कहते हैं प्राचीन दस्तावेज, जानिए

क्या अयोध्या दुनिया की पहली स्मार्ट सिटी थी? अयोध्या के बारे में जितना लिखा जाए उतना कम है। रामायण काल से महाभारत काल तक यह नगर दुनिया का सबसे शानदार नगर हुआ करता था। आओ जानते हैं कि कैसे यह उस दौर की स्मार्ट सिटी थी।

2 Nov 2019 12:25 pm
अयोध्या पर 10 सवाल, जानिए

अयोध्या हिन्दुओं के प्राचीन और 7 पवित्र तीर्थस्थलों में से एक है। यह प्राचीन नगर रामायण काल से भी पुराना है। अयोध्या ने बहुत कुछ देखा और भोगा है। आओ जानते हैं अयोध्या के बारे में 10 महत्वपूर्ण प्रश्नों के उत्तर।

1 Nov 2019 6:01 pm
महर्षि अगस्त्य मुनि

परिचय : हिन्दू धर्म में अगस्त्य मुनि एक प्रसिद्ध संत हैं। उनकी पत्नी का नाम लोपामुद्रा था। रामायण और महाभारत में संत अगस्त्य मुनि का उल्लेख मिलता है। वह प्रसिद्ध सप्त ऋषियों में से एक और प्रसिद्ध 18 सिद्धों में से भी एक हैं। ऐसा माना जाता है कि वह ...

1 Nov 2019 3:12 pm
सहस्रबाहु अर्जुन ने लिया था दो लोगों से पंगा, एक से जीते और दूसरे से मोक्ष गए

प्रतिवर्ष कार्तिक मास की शुक्ल पक्ष की सप्तमी तिथि को सहस्रबाहु जयंती मनाई जाती है। कार्तवीर्य अर्जुन के हैहयाधिपति, सहस्रार्जुन, दषग्रीविजयी, सुदशेन, चक्रावतार, सप्तद्रवीपाधि, कृतवीर्यनंदन, राजेश्वर आदि कई नाम होने का वर्णन मिलता है। सहस्रबाहु ...

1 Nov 2019 11:44 am
Chhath Puja : छठ पर्व रह न जाए अधूरा, इन 5 चीजों के बिना नहीं होता है व्रत पूरा

यहां प्रस्तुत है 5 ऐसी महत्वपूर्ण सामग्री जिनके बिना छठ पर्व की परंपरा अधूरी मानी जाती है। छठ पूजा का फल भी पूरा नहीं मिलता....

31 Oct 2019 3:46 pm
छठ पूजा 2019 : सूर्य ग्रह पुराण और ज्योतिष के अनुसार क्या है?

सूर्य ग्रह एक विशालकाय तारा है, जिसके चारों ओर आठों ग्रह और अनेकों उल्काएं चक्कर लगाते रहते हैं। वैज्ञानिक कहते हैं कि यह जलता हुआ विशाल पिंड है। इसकी गुरुत्वाकर्षण शक्ति के बल पर ही समस्त ग्रह इसकी तरफ खींचे रहते हैं अन्यथा सभी अंधकार में न जाने ...

31 Oct 2019 3:17 pm
छठ पर्व : क्या आप जानते हैं व्रत से जुड़ी 5 पौराणिक मान्यताएं

व्रत रखने वाली महिला को परवैतिन भी कहा जाता है। चार दिनों के इस व्रत में व्रती को लगातार उपवास करना होता है। भोजन के साथ ही सुखद शैया का भी त्याग किया जाता है।

31 Oct 2019 2:39 pm
पांडव पंचमी 2019 : पांडवों के जन्म की रोचक कथा और कलियुग में कहां जन्में थे पांडव

कलियुग कार्तिक मास की शुक्ल पंचमी तिथि को पांडव पंचमी पर्व के रूप में मनाया जाता है। पांडु के पुत्र होने के कारण महाभारत के पांचों योद्धाओं को पांडव कहा जाता था। आज इनके जन्म के संबंध में जानते हैं रोचक कथा।

31 Oct 2019 1:29 pm
छठ पर्व पर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा था ये, पढ़कर आपको भी होगा अचरज

2014 में जब प्रधानमंत्री मोदी बिहार दौरे पर गए थे तब उन्होंने छठ पर्व के बारे में अपने विचारों को अभिव्यक्त किया था। प्रस्तुत है मोदी के विचारों के प्रमुख बिंदू....

30 Oct 2019 3:14 pm
क्षेत्रपाल कौन होता है, क्यों इसकी पूजा करना जरूरी है? जानिए

बहुत कम लोग जानते हैं कि क्षेत्रपाल कौन होते हैं। जब वास्तु पूजा की जाती है तो उसके अंतर्गत क्षेत्रपाल की पूजा भी होती है। भारत के ग्रामीण क्षेत्रों में आज भी आपको क्षेत्रपाल के मंदिर मिल जाएंगे। खासकर राजस्थान और उत्तराखंड में क्षेत्रपाल के कई ...

30 Oct 2019 12:14 pm
विश्‍वामित्र जयंती : विश्‍वामित्र का मेनका से संबंध, जानिए 6 किस्से

विश्वामित्र वैदिक काल के विख्यात ऋषि थे। सभी ने उनका नाम सुना ही होगा। आओ जानते हैं उनके 6 खास किस्से।

29 Oct 2019 4:16 pm
Bhai Dooj 2019 : भाई दूज मनाने के 3 कारण, आप नहीं जानते होंगे

कार्तिक मास की शुक्ल द्वितीया को भाई दूज का पर्व मनाया जाता है। यह दीपोत्सव के पांच दिन पर्व का समापन दिवस होता है। यह पर्व 3 कारणों से मनाया जाता है।

29 Oct 2019 7:02 am
भाई दूज 2019 : भाई को पान भेंट करने से मिलता है ये लाभ

यम द्वितीया को भाई दूज कहते हैं। इसे भाई दूज कहने के पीछे एक कहानी है। भाई दूज दीपावली के 5 दिवसीय महोत्सव का समापन दिवस होता है। रक्षा बंधन में भाई अपनी बहन को अपने घर बुलाता है जबकि भाई दूज पर बहन अपने भाई को अपने घर बुलाती है।

29 Oct 2019 6:18 am
भाई दूज 2019 : इस दिन चित्रगुप्त पूजा करने के 4 फायदे

भाई दूज पर्व भाईयों के प्रति बहनों की श्रद्धा और विश्वास का पर्व है। कार्तिक शुक्ल पक्ष की द्वितीया को भाई दूज का त्योहार मनाया जाता है। यह दीपावली के पांच दिनी महोत्सव का अंतिम दिन होता है। भाई दूज को असल में यम द्वितीया कहते हैं। इस दिन यमराज और ...

29 Oct 2019 6:03 am
bhai dooj 2019 : भाई दूज को अन्य प्रांतों में क्या कहते हैं?

दीपावली के पांच दिनी महोत्सव का अंतिम दिन होता है भाई दूजा। कार्तिक मास की शुक्ल पक्ष की द्वितीया को इस त्योहार को मनाया जाता है। इसीलिए इसे यम द्वितीया भी कहते हैं।

28 Oct 2019 10:56 am
Bhai Duj 2019 : यम द्वितीया का महत्व

भाई दूज को असल में यम द्वितीया कहते हैं। इसे यम द्वितीया कहने के पीछे एक कहानी है। पौराणिक कथा के अनुसार इस दिन यमुना अपने भाई भगवान यमराज को अपने घर आमंत्रित करके उन्हें तिलक लगाकर अपने हाथ से स्वादिष्ट भोजन कराती है। जिससे यमराज बहुत प्रसन्न हुए ...

28 Oct 2019 10:43 am
भाई दूज 2019 : 6 कार्यों से जानें कि कैसे मनाएं भाई दूज का त्योहार?

भाई दूज पर्व भाईयों के प्रति बहनों की श्रद्धा और विश्वास का पर्व है। कार्तिक शुक्ल पक्ष की द्वितीया को भाई दूज का त्योहार मनाया जाता है। यह दीपावली के पांच दिवसीय महोत्सव का अंतिम दिन होता है। इस दिन यमराज और चित्रगुप्त की पूजा होती है। इसी दिन बहन ...

28 Oct 2019 9:56 am
govardhan puja 2019 : अन्नकूट महोत्सव पर खुश रहना क्यों है जरूरी? 7 पॉइंट में समझें

दीपावली के अगले दिन कार्तिक शुक्ल प्रतिपदा को गोवर्धन पूजा और अन्नकूट उत्सव मनाया जाता है। गोवर्धन पूजा क्यों की जाती है और अन्नकूट महोत्सव क्यों मनाया जाता है, जानिए।

27 Oct 2019 11:32 pm
गोवर्धन पूजा 2019 : इस दिन बलि और मार्गपाली पूजा क्यों करते हैं?

दीपावली के अगले दिन कार्तिक शुक्ल प्रतिपदा को गोवर्धन पूजा और अन्नकूट उत्सव मनाया जाता है। इसे पड़वा भी कहते हैं। उत्तर भारत में इसका प्रचलन है लेकिन दक्षिण भारत में बलि और मार्गपाली पूजा का प्रचलन है। आओ जानते हैं कि यह पूजा क्यों और किस तरह की ...

27 Oct 2019 10:26 pm
Diwali 2019 : महावीर स्वामी को दिवाली के दिन मिला था निर्वाण, जानिए कुछ खास

दीपावली की कार्तिक कृष्ण अमावस्या-30 के दिन 527 ईसापूर्व जैन धर्म के 24वें तीर्थंकर भगवान महावीर को 72 वर्ष की आयु में पावापुरी उद्यान (बिहार) में निर्वाण प्राप्त हुआ था। कहते हैं कि उस दिन मंगलवार था। इसी दिन भगवान महावीर के प्रमुख गणधर गौतम स्वामी ...

27 Oct 2019 7:07 am
Diwali 2019 : दिवाली पर करें श्रीराम स्तुति, होगी चारों दिशाओं से विजय की प्राप्ति

दीपावली पर श्रीराम लंका विजय प्राप्त करके आए थे। दीपावली पर आप श्रीरामजी की स्तुति करते हैं, तो आप भी कष्टों पर विजय प्राप्त कर जीवन के अंधेरे में दीप के प्रकाश जैसा उन्नति व सुखरूपी प्रकाश प्राप्त कर सकते हैं।

27 Oct 2019 6:50 am
diwali 2019: खरीदकर लाएंगे ये 5 वस्तुएं, तो धन की होगी वर्षा

दीपावली के दिन बाजार से मंगलकारी 5 वस्तुएं खरीदकर लाते हैं यदि आप अपने घर में पहले ही ले आए हैं तो उनकी अच्छे से पूजा करने उन्हें फिर से स्थापित करें। आइये जानते हैं कि वे कौनसी पांच वस्तुएं हैं।

27 Oct 2019 12:05 am
दिवाली 2019 : दीपावली की अंधेरी रात को ऐसे करें काली पूजा, होगा चमत्कार

दीपावली के 5 दिनी उत्सव में माता कालिका की पूजा दो बार होती है। एक नरक चतुर्दशी पर जिसे काली चौदस कहते हैं और दूसरी दिवाली की अंधेरी रात को। काली पूजा खास उद्देश्य से की जाती है।

26 Oct 2019 1:48 pm
दिवाली 2019 : छोटी दिवाली, बड़ी दिवाली और देव दिवाली, मात्र 3 उपाय से होगी धन की वर्षा

कार्तिक मास में तीन दिवाली आती है। कार्तिक मास की कृष्ण चतुर्दशी को छोटी दिवाली जिसे नरक चतुर्दशी भी कहते हैं। इसके बाद अमावस्या को बड़ी दिवाली मनाते हैं एवं पूर्णिमा को देव दिवाली मनाते हैं। उक्त तीनों ही दिवाली का बहुत ही खासा महत्व है। इस दिन यदि ...

26 Oct 2019 12:02 pm
नरक चतुर्दशी 2019 : इस दिन करते हैं ये 6 कार्य तो मिट जाएगा संताप

कार्तिक कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी को नरक चतुर्दशी कहते हैं। इस दिन को छोटी दिवाली, रूप चौदस और काली चौदस भी कहा जाता है। आओ जानते हैं कि इस दिन क्या करना चाहिए।

26 Oct 2019 7:02 am
रूप चौदस 2019 : इसलिए इस दिन करते हैं भगवान वामन की पूजा

कार्तिक कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी को नरक चतुर्दशी कहते हैं। इस दिन को छोटी दिवाली, रूप चौदस और काली चौदस भी कहा जाता है। इस यम पूजा, कृष्ण पूजा और काली पूजा होती है, लेकिन बहुत कम लोग जानते हैं कि इस दिन वामन पूजा का भी प्रचलन है।

26 Oct 2019 7:00 am
नरक चतुर्दशी 2019 : इस दिन होती है इन 6 की पूजा

दिपावली के पांच दिनी उत्सव में नरक चतुर्दशी धन तेरस के बाद मनाई जाती है। इसे रूप चौदस भी कहते हैं। मान्यता के अनुसार इस दिन सूर्योदय से पहले उठकर उबटन, तेल आदि लगाकर स्नान करना चाहिए एवं शाम के समय यम का दीपक लगाना चाहिए। नरक चौदस के दिन 6 देवों की ...

25 Oct 2019 2:31 pm
धनतेरस 2019 : कुबेर के 5 मंत्र करेंगे धन की हर समस्या का अंत, यहां पढ़ें तुरंत

कुबेर धन के अधिपति यानि धन के राजा हैं। पृथ्वीलोक की समस्त धन संपदा का एकमात्र उन्हें ही स्वामी बनाया गया है। कुबेर भगवान शिव के परमप्रिय सेवक भी हैं। धन के अधिपति होने के कारण इन्हैं मंत्र साधना द्वारा प्रसन्न करने का विधान बताया गया है।

25 Oct 2019 12:46 pm
नरक चतुर्दशी : इस दिन 16100 कन्याओं को नरकासुर से बचाया था श्रीकृष्ण ने, यह कथा आपको हैरान कर देगी

सामाजिक मान्यताओं के चलते भौमासुर द्वारा बंधक बनकर रखी गई इन नारियों को कोई भी अपनाने को तैयार नहीं था, तब अंत में श्रीकृष्ण ने सभी को आश्रय दिया।

25 Oct 2019 12:36 pm
Dipawali : अच्छा है एक दीप जला लें...

शरद ऋतु में पड़ने वाला रोशनी का पर्व दीपावली का त्योहार एक बार फिर नई उमंग व उत्साह को लेकर आया है। यूं तो देश का यह सबसे

25 Oct 2019 12:09 pm
दिवाली 2019 : यह है यक्षों का त्योहार, तब नहीं होती थी लक्ष्मी की पूजा

भारतवर्ष में प्राचीनकाल में देव, दैत्य, दानव, राक्षस, यक्ष, गंधर्व, किन्नर, नाग, विद्याधर आदि अनेक प्रकार की जाति हुआ करती थी। उन्हीं में से एक यक्ष नाम की जाति के लोगों का ही यह उत्सव था। उनके साथ गंधर्व भी यह उत्सव मनाते थे।

25 Oct 2019 11:50 am
Diwali 2019 : जैन धर्म के 24वें तीर्थंकर भगवान महावीर स्वामी का निर्वाण दिवस

भगवान महावीर जैन धर्म के 24वें तीर्थंकर होकर अंतिम तीर्थंकर हैं। महावीर स्वामी ने कार्तिक कृष्ण अमावस्या के दिन ही स्वाति नक्षत्र में कैवल्य ज्ञान प्राप्त करके निर्वाण प्राप्त किया था।

25 Oct 2019 10:44 am
25 अक्टूबर 2019 शुक्रवार, इन 3 राशियों की यात्रा लाभप्रद रहेगी

यात्रा लाभदायक रहेगी। डूबी हुई रकम प्राप्त हो सकती है। धन प्राप्ति सुगम होगी। नौकरी में प्रभाव बढ़ेगा। व्यापार-व्यवसाय लाभदायक रहेंगे।

24 Oct 2019 7:54 pm
25 अक्टूबर 2019 : आपका जन्मदिन

दिनांक 25 को जन्मे व्यक्ति का मूलांक 7 होगा। इस अंक से प्रभावित व्यक्ति अपने आप में कई विशेषता लिए होते हैं। यह अंक वरूण ग्रह से संचालित होता है।

24 Oct 2019 7:38 pm