SENSEX
NIFTY
GOLD
USD/INR

Weather

35    C

मुख्य समाचार / प्रवक्ता

प्रणब मुखर्जी का संघ मुख्यालय जाना  

प्रवीण गुनगानी इन दिनों संघ के प्रति उत्सुकता जिज्ञासा को शत प्रतिशत बढ़ा दिया है पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने ! हुआ कुछ यूं कि संघ के व्यवस्थापकों ने नागपुर में प्रति वर्ष अपने नागपुर मुख्यालय में होने वाले संघ के तृतीय वर्ष के समापन आयोजन में, जिसे दीक्षांत समारोह भी कहा जा सकता है;... Read more » The post प्रणब मुखर्जी का संघ मुख्य

5 Jun 2018 11:43 am
बहुत कठिन है डगर पनघट की..

विजय कुमार पिछले दिनों हुए उपचुनाव में भाजपा को अपेक्षित परिणाम नहीं मिले। इस कारण लोकसभा में उसकी सीटों की संख्या लगातार घट रही है। आंकड़े बता रहे हैं कि यदि दो सीट और घट गयीं, तो भाजपा का अपना बहुमत नहीं रहेगा और उसे सरकार चलाने के लिए सहयोगी दलों पर निर्भर होना पड़ेगा।... Read more » The post बहुत कठिन है डगर पनघट की.. appeared first on Pravakta | प्रवक्‍

5 Jun 2018 11:25 am
शिवराज की ‘किसान पुत्र’ की छवि को चोट पहुँचाने की रणनीति

  लोकेन्द्र सिंह मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की ‘यूएसपी’ है- किसान पुत्र की छवि। यह छवि सिर्फ राजनैतिक ही नहीं, अपितु वास्तविक है। शिवराज सिंह चौहान किसान परिवार से आते हैं। उन्होंने खेतों में अपना जीवन बिताया है। इसलिए उनके संबंध में कहा जाता है कि वह खेती-किसानी के दर्द-मर्म और कठिनाइयों को भली प्रकार सम

5 Jun 2018 11:04 am
यूपी में तुष्टिकरण की सियासत ने फिर पकड़ी रफ्तार

संजय सक्सेना उत्तर प्रदेश की कैराना लोकसभा और नूरपुर विधान सभा सीट पर गठबंधन प्रत्याशी की जीत ने बीजेपी विरोधियों के हौसलों को पंख लगा दिए हैं. बीजेपी को पानी पी-पीकर कोसा जा रहा है. राष्ट्रीय लोकदल के चौधरी अजीत सिंह  कहते हैं भाजपा ने किसानों को छला. भाईचारा खत्म किया.लोगों को आपस में लड़वाया.जनता अब... Read more » The post यूपी में तुष्ट

2 Jun 2018 6:02 pm
एक नयी दुनिया के सपनो का नाम प्रोस्तोर: वंदना गुप्ता 

वंदना गुप्ता  ‘प्रोस्तोर’ एक लघु उपन्यास एम. एम. चन्द्रा जी द्वारा लिखा डायमंड बुक्स से प्रकाशित है. आज बड़े बड़े उपन्यास लिखे जाने के दौर में लघु उपन्यास लिखा जाना भी साहस का काम है और यही कार्य लेखक ने किया है. शायद चुनौतियों से आँख मिला सके वो ही सच्चे साहित्यकार की पहचान होती... Read more » The post एक नयी दुनिया के सपनो का नाम प्रोस्तोर: व

2 Jun 2018 5:40 pm
आरक्षणजीवी नवसामन्त औऱ बाबा साहब के वास्तविक जरूरतमंद

डॉ अजय खेमरिया देश की सियासत में एक बार फिर जाति का जिन्न खड़ा होने के आसार है इसे आप मण्डल पार्ट 2 भी कह सकते है ,केंद्र की मौजूदा मोदी सरकार ने देश की 50 फीसदी पिछड़ी जातियों को अपने पक्ष में लामबंद करने की पहल गम्भीरता से शुरू कर दी है,जी रोहिणी की... Read more » The post आरक्षणजीवी नवसामन्त औऱ बाबा साहब के वास्तविक जरूरतमंद appeared first on Pravakta | प्रवक्

2 Jun 2018 5:05 pm
मैं भी अब मास्टर बन सकती हूँ

  शराब के खिलाफ महिलाओं के प्रयास ने सजाया बच्चों की आंखों में सपना अनीसुर्रहमान खान बच्चों के अधिकारों पर संयुक्त राष्ट्र सम्मेलन में “सभी प्रकार की हिंसा से बच्चों की सुरक्षा” उनका मौलिक अधिकार घोषित किया गया है, बच्चों के खिलाफ हिंसा के सभी रूपों को समाप्त करने के लिए सतत विकास केलक्ष्य 2030 के एजेंडा म

2 Jun 2018 4:55 pm
नेतृत्व के प्रश्न पर गहराता धुंधलका

ललित गर्ग- आज जबकि देश और दुनिया में सर्वत्र नेतृत्व के प्रश्न पर एक घना अंधेरा छाया हुआ है, निराशा और दायित्वहीनता की चरम पराकाष्ठा ने वैश्विक, राजनीति, सामाजिक, धार्मिक, आर्थिक नेतृत्व को जटिल दौर में लाकर खड़ा कर दिया है। समाज और राष्ट्र के समुचे परिदृश्य पर जब हम दृष्टि डालते हैं तो हमें... Read more » The post नेतृत्व के प्रश्न पर गहरात

2 Jun 2018 4:34 pm
कैराना में भाजपा की हार का अर्थ विपक्ष की जीत से न जोड़ें

रमेश पाण्डेय हाल ही में देश की 14 सीटों पर हुए उपचुनाव का परिणाम आने के बाद पूरे देश में प्रधानमंत्री मोदी के विरोधी खुशी से लबरेज हैं। उन्हें लगता है कि 2019 की सत्ता अब उनके हाथ में आने वाली है, पर ऐसा नहीं है। सबसे अधिक शोर उत्तर प्रदेश की कैराना लोकसभा सीट... Read more » The post कैराना में भाजपा की हार का अर्थ विपक्ष की जीत से न जोड़ें appeared first on Pr

2 Jun 2018 4:25 pm
बिहार में राजनीति दलों के मुलाकात के बहाने बिछ रहे है तीसरे मौर्च के गठन के बिसात

रविरंजन आनन्द कहते हैं न कि देश में कोई बहुत बड़ा राजनीतिक  परिवर्तन होता है तो उसमें बिहार की महत्वपूर्ण भूमिका होती है. उस राजनीतिक परिर्वतन की शुरूआत बिहार से हो गई है. अभी हाल के दिनों में नीतीश से लोजपा प्रमुख रामविलास पासवान व रालोसपा  प्रमुख उपेन्द्र कुशवाहा का मिलना कहीं न कहीं 2019... Read more » The post बिहार में राजनीति दलों के म

2 Jun 2018 4:04 pm
‘जो दूसरों को सुख बांटता है उसे भी सुख मिलता है: स्वामी चित्तेश्वरानन्द’

मनमोहन कुमार आर्य, श्रीमद्दयानन्द आर्ष ज्योतिर्मठ गुरुकुल, पौन्धा-देहरादून का 18वां वार्षिकोत्सव दिनांक 1-6-2018 को सोल्लास आरम्भ हुआ। प्रातःकाल ऋग्वेद पारायण यज्ञ डा. सोमदेव शास्त्री, मुम्बई के ब्रह्मत्व में हुआ। यज्ञ में वेदमंत्रोच्चार गुरुकुल के ब्रह्मचारियों ने किया। यज्ञ के मध्य में ऋषि भक्त स्वामी चित्तेश्वरानन्द सर

2 Jun 2018 3:23 pm
चीन की बदनीयती का शिकार होता गिलगित-बाल्टिस्तान

प्रमोद भार्गव चीन की सह और सहायता से पाकिस्तान ने गिलगित-बाल्टिस्तान को हथियाने का वैधानिक दांव चल दिया हैं। पाकिस्तान की कैबिनेट ने 21 मई 2018 को गिलगित-बाल्टिस्तान के संबंध में चैथा प्रांत बनाए जाने के प्रस्ताव को मंजूरी दी है। क्षेत्रीय विधानसभा ने भी इसका समर्थन किया है। कहा जा रहा है कि पाकिस्तान... Read more » The post चीन की बदनीयती

2 Jun 2018 3:09 pm
अति पिछड़ों को साधने की कवायद

प्रमोद भार्गव इसी साल के अंत में चार राज्यों के विधनसभा और 2019 में होने वाले आम चुनाव के मद्देनजर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नए चुनावी दांव की पृष्ठभूमि रचना शुरू कर दी है। कैराना लोकसभा उपचुनाव के दौरान बागपत की आमसभा में मोदी ने कहा है कि ‘ अन्य पिछड़ा वर्ग के अंदर अति... Read more » The post अति पिछड़ों को साधने की कवायद appeared first on Pravakta | प्रवक

2 Jun 2018 2:23 pm
उपचुनाव में एक बार फिर मतदाता मुखर हुआ 

 ललित गर्ग  भारत के लोकतन्त्र की सबसे बड़ी विशेषता यह रही है कि चुनाव के समय मतदाता ही बादशाह होता है। इस समय राजनेताओं के भाग्य का फैसला करने का अधिकार उसी को होता है। हमने यह बात सत्तर वर्षीय लोकतंत्र के जीवन में एक बार नहीं, बल्कि अनेक बार देखी है। जब-जब इन मतदाताओं... Read more » The post उपचुनाव में एक बार फिर मतदाता मुखर हुआ  appeared first on Pravakta |

1 Jun 2018 3:53 pm
मुस्लिम देश में हिंदू नेता

डॉ. वेदप्रताप वैदिक दुनिया के सबसे बड़े मुस्लिम देश में दुनिया के सबसे बड़े हिंदू देश का प्रधानमंत्री जाए तो यह अपने आप में बड़ी खबर है। इससे भी बड़ी खबर यह है कि हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और इंडोनेशिया के राष्ट्रपति जोको विदोदो ने मिलकर ऐसी पतंग उड़ाई, जिन पर रामायण और महाभारत के... Read more » The post मुस्लिम देश में हिंदू नेता appeared first on

1 Jun 2018 2:21 pm
‘आर्यसमाज की पुरानी पीढ़ी के यशस्वी शीर्ष भजनोपदेशक

मनमोहन कुमार आर्य, आजकल श्रीमद्दयानन्द आर्ष ज्योतिर्मठ गुरुकुल, पौन्धा-देहरादून का वार्षिकोत्सव चल रहा है। यह उत्सव 3 जून, 2018 को समाप्त होगा। इस गुरुकुल पौन्धा की स्थापना आर्यजगत के विख्यात संन्यासी स्वामी प्रणवानन्द सरस्वती जी ने 18 वर्ष पूर्व सन् 2000 में की थी। श्री ओम् प्रकाश वम्र्मा, युमनानगर स्वामी जी के साथी व सहयोगी... Read

1 Jun 2018 2:00 pm
प्रणब दा का संघ-शिविर में जाना

डॉ. वेदप्रताप वैदिक पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी 7 जून को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के एक कार्यक्रम में मुख्य अतिथि होंगे। इस खबर ने कांग्रेस के खेमे में खलबली मचा दी है। कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी संघ पर हमला करने का कोई अवसर नहीं चूकते और कांग्रेस के सबसे वरिष्ठ नेता अब नागपुर के संघ... Read more » The post प्रणब दा का संघ-शिविर मे

31 May 2018 6:01 pm
 भारत में स्वास्थ्य सेवाओं का गिरता स्तर

देवेंद्रराज सुथार किसी भी देश में स्वास्थ्य का अधिकार जनता का सबसे पहला बुनियादी अधिकार होता हैं। लेकिन भारत में बेहतर स्वास्थ्य सेवाओं के अभाव में रोज़ाना हजारों लोग अपनी जान गंवा देते हैं। भारत स्वास्थ्य सेवा के क्षेत्र में बांग्लादेश, चीन, भूटान और श्रीलंका समेत अपने कई पड़ोसी देशों से पीछे हैं। इसका खुलासा... Read more » The post  भ

31 May 2018 4:10 pm
बाड़मेर जिले के गांवों में पानी का संकट, पानी व्यापार तेजी पर

दिलीप बीदावत इन दिनों पैट्रोल डीजल की कीमतों में पिछले चार सालों से लगातार हो रही वृद्धि से मध्यम वर्ग की जेबों पर पड़ने वाले भार को लेकर हर स्तर पर हायतौबा मची हुई है, वहीं बाड़मेर जिले में पीने के पानी को लेकर हर साल आने वाले संकट की कानो-कान खबर व चर्चा नहीं... Read more » The post बाड़मेर जिले के गांवों में पानी का संकट, पानी व्यापार तेजी पर a

31 May 2018 3:26 pm
     प्रणव मुखर्जी का नागपुर प्रवास

विजय कुमार जब से कांग्रेस वालों ने ये सुना है कि पूर्व राष्ट्रपति श्री प्रणव मुखर्जी राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यक्रम में जा रहे हैं, तब से उनकी नींद हराम है। कई तो मन ही मन उन्हें गाली दे रहे हैं। हो सकता है दो-चार दिन में गालियों का स्वर ऊंचा हो जाए। शायद अभी... Read more » The post      प्रणव मुखर्जी का नागपुर प्रवास appeared first on Pravakta | प्रवक्

31 May 2018 2:41 pm
पत्थलगड़ी बिगाड़ सकती है भाजपा का सियासी समीकरण

हरिराम चौरसिया छत्तीसगढ़ में आसन्न विधानसभा चुनाव के ठीक पहले झारखंड प्रदेश की सीमा से लगे जशपुर जिले में औचक रूप में सामने आई आदिवासियों की पत्थलगड़ी आंदोलन ने सरकार के माथे पर चिंता की लकीरें खींच दी है. जशपुर से शुरू हुई इस मुहिम की आंच सरगुजा व कोरबा के रास्ते से होते हुए... Read more » The post पत्थलगड़ी बिगाड़ सकती है भाजपा का सियासी सम

31 May 2018 2:26 pm
आयरलैंडःचर्च के अंधविष्वास से जुड़ा बदलेगा गर्भपात का कानून

प्रमोद भार्गव आयरलैंड के भारतीय मूल के प्रधानमंत्री लियो वरडकर ने गर्भपात पर लगे प्रतिबंध को हटाने के लिए जो जनमत संग्रह कराया था, उसका जनादेश कानून को रद्द करने के पक्ष में आ गया हैं। इस ऐतिहासिक बदलाव के पक्ष में 66.36 फीसदी लोग सहमत हैं। इसके पहले एग्जिट पोल में भी यही परिणाम... Read more » The post आयरलैंडःचर्च के अंधविष्वास से जुड़ा बदल

31 May 2018 1:49 pm
जनता का सिरदर्द बनते अनियोजित कार्य

निर्मल रानी गत् दो दशकों से देश में विकास कार्यों की मानो बाढ़ सी आई हुई है। देश में प्रतिदिन नई सडक़ों का निर्माण हो रहा है, नई रेल लाईनें बिछाई जा रही हैं, सेतु तथा ऊपरगामी पुल बनाए जा रहे हैं। उपमार्गों व भूमिगत मार्गों के  निर्माण भी हो रहे हैं ।अनेकानेक नए सरकारी... Read more » The post जनता का सिरदर्द बनते अनियोजित कार्य appeared first on Pravakta | प्र

31 May 2018 12:37 pm
स्टरलाइट प्लांट पर तालेबंदी से जुड़े प्रश्न

-ललित गर्ग – चैदह लोगों की मौत के बाद तमिलनाडु की पलानीसामी सरकार ने वेदांता के थुथुकुड़ी स्थित स्टरलाइट प्लांट को बन्द करने के आदेश जारी कर दिये हैं। सरकार ने इसके विस्तार के लिए अधिगृहीत 342.22 एकड़ जमीन का आवंटन भी रद्द कर दिया और जमीन की कीमत वापस की जा रही है। इतने... Read more » The post स्टरलाइट प्लांट पर तालेबंदी से जुड़े प्रश्न appeared first on Pravakta

31 May 2018 12:12 pm
“ऋषि दयानन्द ने सभी सामाजिक बुराईयों के विरुद्ध लड़ाई लड़ी : डा. सोमदेव शास्त्री”

  मनमोहन कुमार आर्य,  श्री मद्दयानन्द आर्ष ज्योतिर्मठ गुरुकुल, पौंधा-देहरादून के 18 वें वार्षिकोत्सव के अवसर पर 29 मई से 31 मई, 2018 तक तीन दिवसीय सत्यार्थप्रकाश स्वाध्याय शिविर का आयोजन किया गया है जिसमें आर्यजगत  के प्रसिद्ध विद्वान डा. सोमदेव शास्त्री सत्यार्थप्रकाश के ग्यारहवें समुल्लास का स्वाध्याय करा रहे हैं। स्वाध्याय श

30 May 2018 4:13 pm
तम्बाकू मुक्ति से ही स्वस्थ राष्ट्र का निर्माण संभव 

ललित गर्ग  विश्व की गम्भीर समस्याओं में प्रमुख है तम्बाकू और उससे जुड़े नशीले पदार्थों का उत्पादन, तस्करी और सेवन में निरन्तर वृद्धि होना। नई पीढ़ी इस जाल में बुरी तरह कैद हो चुकी है। आज हर तीसरा व्यक्ति किसी-न-किसी रूप में तम्बाकू का आदी हो चुका है। बीड़ी-सिगरेट के अलावा तम्बाकू के छोटे-छोटे पाउचों... Read more » The post तम्बाकू मुक्ति से ह

30 May 2018 3:50 pm
पाकिस्तान की नई मुसीबत

डॉ. वेदप्रताप वैदिक पाकिस्तान की सरकार ने कब्जाए हुए कश्मीर के एक उत्तरी हिस्से को, जिसे गिलगिट-बल्तिस्तान के नाम से जाना जाता है, अपना पांचवां प्रांत घोषित कर दिया है। 20 लाख की आबादी वाले इस शिया-सुन्नी क्षेत्र को पांचवां प्रांत घोषित करके पाकिस्तान ने बर्र के छत्ते में हाथ डाल दिया है। वह दोनों... Read more » The post पाकिस्तान की नई मुस

30 May 2018 3:30 pm
चार सालों में नरेंद्र मोदी भारत के सबसे लोकप्रिय प्रधानमंत्री बन कर उभरे हैं?

डॉ मनीष कुमार मोदी सरकार के चार साल पूरे हो गए. पांचवां साल को चुनावी साल माना जाता है इसलिए ये वक्त सरकार के आंकलन का है. प्रधानमंत्री सरकार के मुखिया होते हैं. इसलिए, सबसे पहले नरेंद्र मोदी का आंकलन जरूरी है. इसके दो बिंदु हो सकते हैं. पहला, नरेंद्र मोदी के कामकाज का. दूसरा... Read more » The post चार सालों में नरेंद्र मोदी भारत के सबसे लोकप्

30 May 2018 3:12 pm
देश बदलना है तो देना होगा युवओ को सम्मान

डॉ नीलम महेंद्र भारत एक युवा देश है। इतना ही नहीं , बल्कि युवाओं के मामले में हम विश्व में सबसे समृद्ध देश हैं। यानि दुनिया के किसी भी देश से ज्यादा युवा हमारे देश में हैं। भारत सरकार की यूथ इन इंडिया,2017 की रिपोर्ट के अनुसार देश में 1971 से 2011 के बीच युवाओं... Read more » The post देश बदलना है तो देना होगा युवओ को सम्मान appeared first on Pravakta | प्रवक्‍ता.कॉम : On

30 May 2018 11:30 am
परम्परागत खेलों को मिले प्रोत्साहन

देवेंद्रराज सुथार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ”मन की बात” के 44वें संस्करण में परम्परागत खेलों को प्रोत्साहन देने की बात कही है। हमारे देश में बरसों से खेलें जाने वाले पारंपरिक खेलों की कम होती लोकप्रियता और आधुनिक युग के बच्चों का मोबाइल व कंप्यूटर के खेलों के प्रति बढ़ते रूझान को देखते हुए प्रधानमंत्री... Read more » The post परम्प

29 May 2018 5:47 pm
डॉ॰ भीमराव आंबेडकर और उनकी धर्म विषयक अवधारणा

विवेकानंद तिवारी डॉ॰ भीमराव आंबेडकर  को हम संविधान निर्माता के रूप में जानते हैं,हालांकि विधि विशेषज्ञ होने के साथ-साथ डॉ॰ भीमराव आंबेडकर  एक प्रख्यात अर्थशास्त्री ,शिक्षा शास्त्री और सबसे बढ़कर मानवतावाद की पोषक थे. भारतीय समाज व्यवस्था में सामाजिक न्याय के योद्धा के रूप में भीमराव अंबेडकर का योगदान बहुत ही महत्वपूर्ण

29 May 2018 5:34 pm
वैदिक धर्म को यदि बचाना है तो अपने मन से सभी प्रकार के भेदभाव को दूर करना होगा

  मनमोहन कुमार आर्य, महाभारत काल के बाद से वेद और वैदिक धर्म का निरन्तर पतन देखने को मिल रहा है। ऋषि दयानन्द के जीवन में ऐसा भी समय आया जब वेद लुप्त-प्रायः हो गये थे। महाभारत काल के बाद वेदों के सत्य अर्थों का देश व समाज में प्रचार रहा हो, इसका प्रमाणित विवरण... Read more » The post वैदिक धर्म को यदि बचाना है तो अपने मन से सभी प्रकार के भेदभाव

29 May 2018 5:04 pm
प्यार के पत्ते जब झड़ जाते है,पतझड़ आ जाता है जीवन में

प्यार के पत्ते जब झड़ जाते है,पतझड़ आ जाता है जीवन में शरीर के अंग जब थक जाते है,बुढ़ापा आ जाता है जीवन में ह्रदय तोड़ दे जब कोई तुम्हारा,नीरसता आ जाती है जीवन में पास न हो जब प्रियतम तुम्हारा,विरहता आ जाती है जीवन में मिलन हो जाये जब दो दिलो का,खुशियां आ जाती... Read more » The post प्यार के पत्ते जब झड़ जाते है,पतझड़ आ जाता है जीवन में appeared first on Pravakta | प्र

29 May 2018 4:43 pm
उत्तराखंड के जलते जंगल

प्रमोद भार्गव मनुष्य का जन्म प्रकृति में हुआ और उसका विकास भी प्रकृति के सानिध्य में हुआ। इसीलिए प्रकृति और मनुष्य के बीच हजारों साल से सह-अस्तित्व की भूमिका बनी चली आई। गोया,मनुष्य ने सभ्यता के विकासक्रम में मनुष्येतर प्राणियों और पेड़-पौधों के महत्व को समझा तो कई जीवों और पेड़ों को देव-तुल्य मानकर उनके... Read more » The post उत्तराखंड

29 May 2018 4:31 pm
कर्नाटक के विधान सभा और पश्चिमी बंगाल के चुनाव परिणामों का निहितार्थ-

प्रो.कुलदीप चन्द अग्निहोत्री कर्नाटक के घटनाक्रम को तीन हिस्सों में बाँटा जा सकता है । पहला हिस्सा विधान सभा के चुनाव परिणामों का । विधान सभा के 223 स्थानों के लिए हुए चुनावों में भाजपा को 104 स्थान प्राप्त हुए। पिछली विधान सभा में उसके कुल मिंलाकर 40 सदस्य थे। कर्नाटक ऐसा अंतिम बडा प्रदेश... Read more » The post कर्नाटक के विधान सभा और पश्चि

29 May 2018 4:01 pm
ज्वलंत सवाल : आठ राज्यों में हिन्दू अल्पसंख्यक

सुरेश हिनुस्थानी देश में कश्मीर से विस्थापित हुए हिन्दुओं के बारे में अगर उसी समय समाधान निकलता तो संभवत: अन्य राज्यों में इसकी पुनरावृति रुक सकती थी, लेकिन समाधान निकालने के किसी भी तरीके पर सरकार की ओर से कोई चिंतन नहीं किया गया। इस कारण यह समस्या आज पूरे देश में तेजी से पैर... Read more » The post ज्वलंत सवाल : आठ राज्यों में हिन्दू अल्प

29 May 2018 3:38 pm
यूपीः 2019 की प्रयोगशाला बनेगा कैराना  ? 

प्रभुनाथ शुक्ल उत्तर प्रदेश राजनीतिक लिहाज से देश का सबसे अहम राज्य है। दिल्ली की सत्ता का रास्ता यूपी से हो कर गुजरता है। यह राज्य राजनीति और उसके नव प्रयोगवाद का केंद्र भी है। देश के सामने चुनावों और सत्ता से इधर  और भी समस्याएं हैं, लेकिन वह बहस का मसला नहीं हैं। सिर्फ... Read more » The post यूपीः 2019 की प्रयोगशाला बनेगा कैराना  ?  appeared first on

29 May 2018 3:12 pm
इक बंगला लगे न्यारा

विजय कुमार गीत-संगीत की दुनिया चाहे जितनी प्रगति कर ले; पर जो बात पुराने गीतों में है, वो आज कहां ? हमारे शर्मा जी हर समय पुराने सदाबहार गीत ही सुनते रहते हैं। इससे उनके दिल-दिमाग में ठंडक और इस कारण घर में भी शांति रहती है। हमारे नगर के हृदय रोग विशेषज्ञ डाक्टर सिन्हा... Read more » The post इक बंगला लगे न्यारा appeared first on Pravakta | प्रवक्‍ता.कॉम : Online Hindi

29 May 2018 2:54 pm
‘हिन्दू राष्ट्र’ के उत्तराधिकारी बनें …

विनोद कुमार सर्वोदय “इस जगत में यदि हम हिन्दू राष्ट्र के नाते स्वाभिमान का जीवन जीना चाहते हैं तो उसका हमें पूरा अधिकार है और वह राष्ट्र हिन्दुराष्ट्र के ध्वज के नीचे ही स्थापित होना चाहिए। इस पीढ़ी में नही तो अगली पीढ़ी में मेरी यह महत्वाकाँक्षा अवश्य सही सिद्ध होगी। मेरी महत्वाकाँक्षा गलत सिद्ध... Read more » The post ‘हिन्दू राष्ट्र’

29 May 2018 2:44 pm
सामाजिक समरसता एवम् डॉ .भीमराव अांबेडकर

डॉ .प्रेरणा चतुर्वेदी भारतीय संस्कृति की आत्मा समरसता परिपूर्ण है .धर्म सापेक्षीकरण ,धर्म निरपेक्ष करण ,सर्वधर्म समभाव, मानवतावाद ,बहुजन हिताय, बहुजन सुखाय, आदि अवधारणा सामाजिक समरसता की पोषक रही हैं. विविधता में एकता का भाव समरसता का प्रतिनिधित्व करता है. ‘सर्वे भवंतु सुखिनः’ यह भारतीय संस्कृति का अमर वाक्य व्यष्टि  नहीं

29 May 2018 11:57 am
सुनो सुजाता : एक

सुनो सुजाता : एक सुनो सुजाता मैं नहीं जानता तुम्हारा समाज-सत्य। शब्दार्थ की रपटीली पगडंडियाँ यदि हैं,आपका सचेत चुनाव तो आओ, बैठो बातें करो। सुनो सुजाता : दो शब्द सोते हैं शब्द जागते हैं रोना, खिलखिलाना, गुदगुदाना या फिर बाएँ कान में खुसफुसाना : सब कुछ करते हैं शब्द ठीक हमारी तरह। फर्ज करो हमें... Read more » The post सुनो सुजाता : एक appeared first on Pravak

29 May 2018 11:41 am
लालू यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप के शादी से लेकर , आडवाणी युग से जवानी युग में लौट रहे कुमार विश्वास

तेजप्रताप के शादी के बाद तेजस्वी के शादी में क्या मिलेगा बारातियों को ? केजरीवाल के बेवफाई के बाद कुमार को मिला भाजपा का विश्वास। लालू यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप के शादी से लेकर , आडवाणी युग से जवानी युग में लौट रहे कुमार विश्वास की पूरी कहानी जानने के लिए क्लिक करें दिए... Read more » The post लालू यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप के शादी से लेक

28 May 2018 7:21 pm
मेडिकल की पढ़ाई अब हिंदी में

डॉ. वेदप्रताप वैदिक आजकल मैं इंदौर में हूं। यहां के अखबारों में छपी एक खबर ऐसी है कि जिस पर पूरे देश का ध्यान जाना चाहिए। केंद्र सरकार का भी और प्रांतीय सरकारों का भी। चिकित्सा के क्षेत्र में यह क्रांतिकारी कदम है। पिछले 50 साल से देश के नेताओं और डाॅक्टरों से मैं आग्रह... Read more » The post मेडिकल की पढ़ाई अब हिंदी में appeared first on Pravakta | प्रवक्‍त

28 May 2018 4:05 pm
समर्पण बढ़ रहा है प्रभु चरण में!

समर्पण बढ़ रहा है प्रभु चरण में, प्रकट गुरु लख रहे हैं तरंगों में; सृष्टि समरस हुई है समागम में, निगम आगम के इस सरोवर में ! शान्त हो स्वत: सत्व बढ़ जाता, निमंत्रण प्रकृति से है मिल जाता; सुकृति हो जाती विकृति कम होती, हृदय की वीणा विपुल स्वर बजती ! ठगा रह जाता नृत्य लख लेता, स्वयम्बर अम्बरों का तक लेता; प्राण वायु

28 May 2018 2:03 pm
स्तरहीन कवि सम्मेलनों से हो रहा हिन्दी की गरिमा पर आघात

डॉ. अर्पण जैन ‘अविचल’ कवि सम्मेलनों का समृद्धशाली इतिहास लगभग सन १९२० माना जाता हैं । वो भी जन सामान्य को काव्य गरिमा के आलोक से जोड़ कर देशप्रेम प्रस्तावित करना| चूँकि उस दौर में भारत में जन समूह के एकत्रीकरण के लिए बहाने काम ही हुआ करते थे, जिसमें लोग सहजता से आएं और... Read more » The post स्तरहीन कवि सम्मेलनों से हो रहा हिन्दी की गरिमा पर

28 May 2018 1:52 pm
जन्म व पुनर्जन्म का आधार हमारे पूर्व जन्मों व वर्तमान जन्म के शुभाशुभ कर्म

–मनमोहन कुमार आर्य हम प्रतिदिन संसार में नये बच्चों के जन्म के समाचार सुनते रहते हैं। इसी प्रकार पशु व पक्षियों आदि के बच्चे भी जन्म लेते हैं। मनुष्य व पशु आदि प्राणियों के जन्म का आधार क्या है? इसका उत्तर न विज्ञान के पास है और न अधिकांश मत-मतान्तरों के पास है। इसका तर्क... Read more » The post जन्म व पुनर्जन्म का आधार हमारे पूर्व जन्मों व

28 May 2018 12:46 pm
ज़िन्दगी का रंग

पंखुरी सिन्हा   बिना उसका नाम लिए बिना कहे वह शब्द क्योंकि इतना बड़ा है जीवन किसी भी भाषा की अभिव्यक्ति से जगमगा जाता है अक्सर किसी रंग की आहट टिमटिमाहट में जबकि रंग उजास में हैं और उसके बाहर के अँधेरे में भी जीवन लेकिन, एक रंग तो होता ही है ज़िन्दगी का मौत... Read more » The post ज़िन्दगी का रंग appeared first on Pravakta | प्रवक्‍ता.कॉम : Online Hindi News & Views Portal of India.

28 May 2018 12:14 pm
‘उदन्त मार्तण्ड’  की परम्परा निभाता हिन्दी पत्रकारिता

30 मई हिन्दी पत्रकारिता दिवस पर विशेष आलेख मनोज कुमार कथाकार अशोक गुजराती की लिखी चार पंक्तियां सहज ही स्मरण हो आती हैं कि राजा ने कहा रात है मंत्री ने कहा रात है सबने कहा रात है यह सुबह सुबह की बात है कथाकार की बातों पर यकीन करें तो मीडिया का जो चाल,... Read more » The post ‘उदन्त मार्तण्ड’  की परम्परा निभाता हिन्दी पत्रकारिता appeared first on Pravakta | प्

28 May 2018 12:09 pm
मन का मेला

  मेरे अतीत के आँगन में है,अनगिन सुधियों का मेला । कहाँ कहाँ ये जीवन बीता , कहाँ कहाँ ये  है खेला ।। * रंग-बिरंगी लगीं दुकानें , तरह  तरह के  हैं  झूले । उन सब में भटका सा ये मन,अपना सब कुछ भूले ।। * झूले  के  घोड़े पर  बैठा , ये  मन  सरपट... Read more » The post मन का मेला appeared first on Pravakta | प्रवक्‍ता.कॉम : Online Hindi News & Views Portal of India.

28 May 2018 11:56 am
 भारत में बढ़ता निपाह का खतरा

प्रभुनाथ शुक्ल दक्षिणी राज्य केरल में एक और दिमागी बुखार यानी निपाह ने दस्तक दी है। निपाह के बढ़ने संक्रमण से लोगों की चिंताएं बढ़ गई हैं। विश्वस्वास्थ संगठन की तरफ से चेताया गया है कि भारत और आस्टेलिया में इस वायरस के फैलने की अधिक संभावनाएं हैं। केरल का कोझिकोड जिला पूरी तरह से... Read more » The post  भारत में बढ़ता निपाह का खतरा appeared first on Prava

28 May 2018 11:51 am